अमरूद खाने के फायदे, उपयोग और नुकसान – Guava (Amrood) Benefits, Uses and Side Effects in Hindi

अमरूद खाने के फायदे, उपयोग और नुकसान – Guava (Amrood) Benefits, Uses and Side Effects in Hindi
Written by Sneha

अमरूद ऐसा फल है जो भारत के लगभग सभी क्षेत्रों में पाया जाता है। यह एक सामान्य फल की तरह ही होता है और आपके नजदीकी बाजार में आसानी से मिल जाता है। आप अमरूद को सीधे ही काटकर खा सकते हैं और इसके अनोखे स्वाद का आनंद ले सकते हैं। अमरूद का स्वाद खट्टा और मीठा दोनो ही तरह का होता है। यह गुणकारी फल स्वादिष्ट होने के साथ साथ औषधीय गुण और पौष्टिकता से भरपूर होता है। लोग अलग-अलग तरह की बीमारियों को दूर करने के लिए अमरूद का इस्तेमाल घरेलू उपाय के रुप में भी करते हैं। आज हेल्थअनबॉक्स के इस लेख में आप अमरूद के फायदे, औषधीय गुण, उपयोग और नुकसान के बारे में जानेगें।

यदि आप अमरूद को सिर्फ इसलिए खाते हैं, क्योंकि यह काफी स्वादिष्ट होता है, लेकिन आपको इसके फायदे नहीं पता। तो आप बिल्कुल सही जगह आये हैं इस लेख में हम आपको अमरूद खाने के फायदे, औषधीय गुण तो बताएंगे ही, साथ ही यह भी बताएगें कि अमरूद के पत्ते के फायदे क्या हैं और उन्हें कैसे इस्तेमाल किया जा सकता है तो चलिए अमरूद के बारे में जानना शुरू करते हैं।

विषय सूची

  1. अमरूद के अन्य भाषाओं में नाम – Name of Guava in Different Languages in Hindi
  2. अमरूद के बारे में जानकारी – Information about guava in Hindi
  3. अमरूद के पोषक तत्व – Guava Nutritional Value in Hindi
  4. अमरूद के फायदे और उपयोग – Guava Benefits and uses in Hindi
  5. अमरूद के फायदे स्किन के लिए – Guava Benefits for Skin in Hindi
  6. अमरूद के पत्ते के फायदे बालों के लिए – Guava leaves benefits for hair in Hindi
  7. अमरूद के नुकसान – Side Effects of Guava in Hindi

अमरूद के अन्य भाषाओं में नाम – Name of Guava in Different Languages in Hindi

भारत में अमरूद को अलग-अलग भाषाओं में अलग-अलग नाम से जाना जाता है, जैसे – अमरूद को अंग्रेजी में गुआवा (guava), बंगाली में पेयारा (Peyara) व मराठी में पेरू, गुजराती में जाम फल, पंजाबी में अमरूद, तेलुगु में जयमपांडु, तमिल में कोया पझम, मलयालम में नट्टू पेराक आदि।

अमरूद का वैज्ञानिक नाम सिडियम गुआजावा (Psidium guajava) है।

इस फल में एंटीऑक्सिडेंट और विटामिन सी और लाइकोपीन जैसे पोषक तत्वों की अच्छी मात्रा पायी जाती है। यह फाइबर का भी अच्छा स्त्रोत है। एक दिन में एक अमरूद का सेवन आपके स्वास्थ्य के लिए कितना लाभदायक हो सकता है यह आप कभी सोच भी नहीं सकते हैं। अब आप सोच रहें होंगे आखिर साधारण सा दिखने वाला अमरुद कैसे इतना फायदेमंद हो सकता है? तो हमारा लेख पढ़ते रहिए, इससे आपको इसके फायदों के बारे में पता चल जाएगा। अब वक्त है अमरूद के फायदे जानने का।

(और पढ़ें – अमरूद के पत्ते के फायदे और नुकसान)

अमरूद के बारे में जानकारी – Information about guava in Hindi

अमरूद के बारे में जानकारी - Information about guava in Hindi

अमरूद, जिसे अंग्रेजी में गुआवा (Guava) के नाम से जाना जाता है, इसके केंद्र में छोटे कड़े बीज होते है। ऐसा माना जाता है कि इसकी उत्पत्ति मध्य अमेरिका में हुई थी, जहाँ इसे “सैंड प्लम” (sand plum) के रूप में जाना जाता है। कुछ लोगों का ऐसा कहना है कि इसे अमेरिका से यहाँ पुर्तगीज लोगों द्वारा लाया गया है यह हल्के हरे या हल्के पीले रंग के छिलके के साथ गोल या अंडाकार आकार का होता है, और इसके गूदे का रंग सफेद या गुलाबी से गहरे लाल रंग तक अलह-अलग होता है। इसमें जो बीज होते हैं उन्हें खाया जा सकता है।

अपने अनूठे स्वाद और खुशबू के अलावा, अमरूद को कई स्वास्थ्य लाभों के कारण सुपर फलों में से एक माना जाता है। यह वास्तव में पोषक तत्वों का खजाना है। “यह फल विटामिन सी, लाइकोपीन और एंटीऑक्सिडेंट में समृद्ध है जो त्वचा के लिए फायदेमंद होते हैं।

अमरूद मैंगनीज से भी भरपूर होते हैं जो शरीर को हमारे द्वारा खाए जाने वाले भोजन से अन्य महत्वपूर्ण पोषक तत्वों को अवशोषित करने में मदद करता है।

मुख्य रूप से अमरूद के फायदों का श्रेय फोलेट की उपस्थिति को दिया जाता है, यह एक खनिज है जो प्रजनन क्षमता को बढ़ाने में मदद करता है। इसके साथ ही अमरूद में पाया जाने वाला पोटेशियम मनुष्य के शरीर में रक्तचाप के स्तर को सामान्य करने में मदद करता है।

वास्तव में, एक केला और एक अमरूद में लगभग समान मात्रा में पोटेशियम होता है। चूंकि इसमें लगभग 80% पानी होता है जो आपकी त्वचा को हाइड्रेट रखने में मदद करता है और आपको स्वस्थ्य रखने के साथ ही रोगों से भी बचाता है। इसके अलावा भी अमरूद में कई औषधीय गुण पाए जाते हैं आइए जानते हैं कुछ ऐसे ही अमरूद के गुणों के बारे में….

अमरूद के पोषक तत्व – Guava Nutritional Value in Hindi

अमरुद के फायदे अनेक हैं इन फायदों का श्रेय इसमें मौजूद पौष्टिक तत्वों को जाता है। अब हम अमरूद के पोषक तत्वों के बारे में बात करने जा रहे हैं।

यूनाइटेड स्टेट्स डिपार्टमेंट ऑफ एग्रीकल्चर (यूएसडी) के आंकड़ों के अनुसार, एक अमरुद फल की 100 ग्राम की मात्रा में सिर्फ 68 कैलोरी और 8.92 ग्राम चीनी होती है। (1)

अमरूद कैल्शियम से भरपूर होते हैं क्योंकि इनमें फल के प्रति 100 ग्राम मात्रा में 18 मिली ग्राम कैल्शियम खनिज होता हैं।

इस फल के प्रति 100 ग्राम में 22 मिली ग्राम मैग्नीशियम, साथ ही साथ फॉस्फोरस 40 मिली ग्राम और पोटेशियम की मात्रा 417 मिली ग्राम प्रति 100 ग्राम है।

सिर्फ एक अमरूद में 228.3 मिलीग्राम विटामिन सी होता है।

अमरूद फल में विटामिन ए के 624 आईयू और फोलेट के 49 एमसीजी भी शामिल हैं।

कैलोरी 68
कार्बोहाइड्रेट 14.32 ग्राम
फाइबर 5.4 ग्राम
वसा 0.95 ग्राम
पानी 80.8 ग्राम
चीनी 8.92 ग्राम
सोडियम 2 मिली ग्राम
पोटेशियम 417 मिली ग्राम
प्रोटीन 2.55 मिली ग्राम
आयरन 0.26 मिली ग्राम
विटामिन बी6 0.11 मिली ग्राम
मैग्नीशियम 22 मिली ग्राम

अमरूद के फायदे और उपयोग – Guava Benefits and uses in Hindi

अमरूद के फायदे और उपयोग - Guava Benefits and uses in Hindi

अमरूद में ऐसे कई औषधीय गुण मौजूद हैं जो आपको कई तरह की बीमारियों से बचा सकते हैं, जैसे – पेट को ठीक रखता है, मौसम में परिवर्तन के कारण सर्दी-जुकाम से बचाना, माताओं में दूध बढ़ाने वाला, सिरदर्द, दांत दर्द और मस्तिष्क को स्वस्थ्य रखने जैसे कई अन्य गुण इसमें मौजूद हैं। इसमें 80 % पानी होता है जो प्यास को शांत करता है हृदय को शक्ति देता है, पेट के कीड़ों को नष्ट करता है, उल्टी रोकता है, पेट को साफ करता है और कफ को निकालता है। इसमें विटामिन, प्रोटीन, आयरन, फोलेट, कैल्शियम व मैग्नीशियम जैसे कई पोषक तत्व मौजूद हैं। यह मुँह में छाले होने पर उन्हें ठीक करने, बुखार, मस्तिष्क एवं मानसिक रोगों में लाभ प्रदान करता है। अमरूद के फायदे के बारे में हम आपको आगे विस्तार से जानकारी देंगे।

अमरूद के फायदे इम्यूनिटी बढ़ाए

क्या आप जानते हैं: अमरूद विटामिन सी के सबसे अच्छे स्रोतों में से एक है। अमरूद के फल में संतरे में मौजूद विटामिन सी की मात्रा से 4 गुना अधिक विटामिन सी होता है। सैकड़ों अध्ययन हमें बताते हैं कि विटामिन सी कैसे हमारी प्रतिरक्षा प्रणाली को बेहतर बनाने और रोग पैदा करने वाले रोगजनकों से लड़ने में मदद कर सकता है (2)। विटामिन सी हमारे शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता को बेहतर बनाने में मदद करता है और आपको सामान्य संक्रमण, मौसम में परिवर्तन के कारण होने वाले सर्दी-जुकाम और अन्य रोगजनकों से भी बचाता है। इसके अलावा, यह आपकी आंखों को भी स्वस्थ रखता है। तो, अगर आप लगातार होने वाली सर्दी या खांसी से परेशान हैं, तो बस एक अमरूद को खाएं। बस इस बात का ध्यान रखें कि फल पका हुआ हो, क्योंकि पके हुए अमरूद में सबसे ज्यादा विटामिन-सी होता है।

(और पढ़ें – रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के उपाय)

अमरूद के गुण कैंसर का खतरा कम करे

अमरूद स्तन और प्रोस्टेट कैंसर के खतरे को कम करने में मदद कर सकता है। “लाइकोपीन, क्वेरसेटिन (quercetin), विटामिन सी और अन्य पॉलीफेनोल शक्तिशाली एंटीऑक्सिडेंट के रूप में कार्य करते हैं जो शरीर में उत्पन्न होने वाले मुक्त कणों को बेअसर करते हैं, जिससे कैंसर कोशिकाओं की वृद्धि को रोका जाता है (3)। प्रोस्टेट कैंसर के खतरे को कम करने के लिए अमरूद का फल व्यापक रूप से सफल माना जाता है यह स्तन कैंसर की कोशिकाओं के विकास को भी रोकता है। अमरूद में फाइबर भी अच्छी मात्रा में होता है, जो बवासीर को रोकने का काम करता है। सिर्फ अमरूद ही नहीं, बल्कि अमरूद की पत्तियां भी कैंसर जैसी घातक बीमारी से बचने में लाभदायक हो सकती हैं। कुछ अध्ययनों से पता चला है कि अमरूद के पत्तों से निकाला अर्क कैंसर जैसी घातक बीमारी से हमारी रक्षा कर सकता है (4)।

(और पढ़ें – कैंसर क्या है कारण लक्षण और बचाव के उपाय)

अमरूद खाने के फायदे मधुमेह में

आज के समय में शुगर यानी डायबिटीज की बीमारी बहुत ही कॉमन हो गयी है। भारत को डायबिटीज की राजधानी के नाम से जाना जाता है। छिलके वाला अमरूद ब्लड शुगर को कम करने में मदद करता है (5)। समृद्ध फाइबर सामग्री और कम ग्लाइसेमिक इंडेक्स के कारण, अमरूद मधुमेह को रोकता है। जबकि कम ग्लाइसेमिक इंडेक्स चीनी के स्तरों में अचानक वृद्धि को रोकता है, अमरूद में मौजूद फाइबर रक्त शर्करा के स्तर को कम कर सकता है। यह कब्ज को भी रोक सकता है, जो कि मधुमेह से पीड़ित व्यक्तियों को होने वाली एक आम समस्या है। अमरूद के फलों में फाइबर की मात्रा आंत बैक्टीरिया की संख्या को बढ़ाती है, जिससे एक स्वस्थ पाचन तंत्र बनता है।

एक भारतीय अध्ययन बताता है कि अमरूद (बिना छिलके के) रक्त शर्करा और रक्त कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कम करने में मदद कर सकता है – जिससे मधुमेह (6) का खतरा कम होता है।

अमरूद का उपयोग न केवल भोजन के रूप में किया जाता है, बल्कि इसके औषधीय गुणों के कारण दुनिया भर में इसे चिकित्सा के रूप में भी इस्तेमाल किया जाता है। विशेष रूप से, अमरूद की पत्ती का अर्क पारंपरिक रूप से पूर्वी एशिया और अन्य देशों में मधुमेह के उपचार के लिए उपयोग किया जाता रहा है। अमरूद की पत्तियों में मौजूद एंटी-हाइपरग्लिसमिक (Anti-hyperglycemic) और एंटी-हायपरलिपिडेमिक (anti-hyperlipidemic) प्रभाव से भी मधुमेह की बीमारी में सुधार हो सकता है। भोजन के साथ अमरूद की पत्ती की चाय के सेवन से समय पूर्व-मधुमेह और टाइप 2 मधुमेह को रोका जा सकता है (7)।

यदि आपको मधुमेह है या आप शुगर की बीमारी से बचना चाहते हैं, तो अपनी डाइट में अमरूद को शामिल करें।

(और पढ़ें – मधुमेह रोगियों के खाने के लिए फल की सूची)

अमरूद के औषधीय गुण स्वस्थ दिल के लिए

अमरूद फल शरीर के सोडियम और पोटेशियम के संतुलन को बेहतर बनाने में मदद करता है, जिससे उच्च रक्तचाप के रोगियों में रक्तचाप को नियंत्रित किया जाता है। अमरूद ट्राइग्लिसराइड्स और खराब कोलेस्ट्रॉल (एलडीएल) के स्तर को कम करने में मदद करता हैं, जो हृदय रोग के विकास में योगदान करते हैं। आपको जानकर आश्चर्य होगा यह जादुई फल अच्छे कोलेस्ट्रॉल (एचडीएल) के स्तर में भी सुधार करता है।

अन्य फलों की तरह ही अमरूद डाइटरी फाइबर का एक समृद्ध स्रोत है, यह आपके दिल और आंत को स्वस्थ्य रखने के लिए आवश्यक है।

अमरूद के पत्तों में पॉलीसेकेराइड (एक प्रकार का कार्बोहाइड्रेट) होता है जो एंटीऑक्सिडेंट के रूप में कार्य करता हैं और ऑक्सीडेटिव तनाव को कम करता है (8)। ऑक्सिडेटिव स्ट्रेस, आपके शरीर की कार्य प्रणाली में क्षति उत्पनन कर सकता है – और हृदय को कमजोर कर सकता है।

इसके आलावा चाय के रूप में इस्तेमाल होने पर अमरूद की पत्तियां, एथेरोस्क्लेरोसिस (atherosclerosis) जिसे धमनियों में रुकावट के रूप में जाना जाता है को भी रोकती हैं (9)।

(और पढ़ें – दिल को स्‍वस्‍थ रखने के लिए सर्वश्रेष्‍ठ आहार)

अमरूद का सेवन कब्ज का इलाज करे

यह अन्य फलों की तुलना में आहार फाइबर का सबसे अमीर स्रोतों में से एक है और सिर्फ 1 अमरूद आपके दैनिक अनुशंसित फाइबर के लगभग 12% को पूरा करता है (10), जो आपके पाचन स्वास्थ्य के लिए बेहद फायदेमंद है। अमरूद के बीज, अगर साबुत खाए या चबाए जाते हैं, तो यह अच्छे जुलाब के रूप में भी काम करते हैं, और स्वस्थ पाचन तंत्र में मदद करते हैं। यह कब्ज को दूर करके पेट में हो रहे ऐंठन को भी ठीक करता है (11)।

(और पढ़ें – कब्ज के कारण और इलाज)

अमरूद खाने के फायदे दस्त का इलाज करे

कुछ चिकित्सा साहित्य यह भी बताते है कि अमरूद दस्त का इलाज कर सकता है, ऐसा इसके रोगाणुरोधी और एंटीस्पास्मोडिक (antispasmodic) गुणों के कारण होता है। दस्त का इलाज करने के लिए विशेष रूप से अमरूद के फल और पत्तियों के अर्क का सेवन करना लाभदायक हो सकता है (12)।

अमरूद के रोगाणुरोधी गुण हानिकारक आंत के रोगाणुओं से भी लड़ सकते हैं और पाचन संबंधी संक्रमणों को रोक सकते हैं, दस्त उनमें से सबसे आम है (13)।

(और पढ़ें – दस्त (लूस मोशन) रोकने के उपाय)

अमरूद के पत्तों का लाभ मतली और उल्टी के इलाज में

कुछ स्रोतों का सुझाव है कि अमरूद की पत्तियां मतली और उल्टी के इलाज में अच्छी हैं। तो, यदि अभी तक आपने अमरूद को अपने आहार में शामिल नहीं किया है, तो बिना देर किये इस गुणकारी फल को अपनी डाइट में शामिल करें।

अमरूद का उपयोग आंखों की रोशनी बढ़ाता है

विटामिन ए की उपस्थिति के कारण, अमरूद आंखों की रोशनी को बढ़ाने के लिए एक बूस्टर के रूप में जाना जाता है। यह न केवल देखने की क्षमता में गिरावट को रोक सकता है, बल्कि दृष्टि में सुधार भी कर सकता है (14)। अमरूद का उपयोग मोतियाबिंद को धीमा करने में मदद कर सकता है। भले ही अमरूद गाजर की तरह विटामिन ए से भरपूर न हों, लेकिन वे पोषक तत्वों के बहुत अच्छे स्रोत हैं।

गर्भावस्था के दौरान अमरूद के फायदे

अमरूद का लाभ गर्भवती महिलाओं को भी मिलता है, क्योंकि इसमें फोलिक एसिड या विटामिन बी9 होता है, जो गर्भवती महिलाओं के लिए जरूरी होता है क्योंकि यह बच्चे के तंत्रिका तंत्र को विकसित करने और नवजात शिशु को न्यूरोलॉजिकल विकारों से बचाने में मदद कर सकता है (15)। ऐसे में अगर गर्भवती महिला फलों के रूप में अमरूद का सेवन करेगी, तो यह उनके और उनके होने वाले बच्चे दोनों के लिए बहुत लाभदायक होगा।

नोट: अगर आपको अमरूद से एलर्जी है, तो गर्भावस्था के दौरान इसका सेवन करने से पहले एक बार अपने डॉक्टर से इसके बारे में जरूर बात कर लें।

अमरूद की पत्तियां खाने के फायदे दांत का दर्द दूर करे

अमरूद की पत्तियों में एक शक्तिशाली सूजन-रोधी क्रिया और एक शक्तिशाली जीवाणुरोधी क्षमता होती है जो संक्रमण से लड़ती है और कीटाणुओं को मारती है। इस प्रकार, अमरूद के पत्तों का सेवन दांत दर्द के लिए एक शानदार घरेलू उपचार के रूप में काम करता है। अमरूद की पत्तियों के रस को दांतों में सूजन, मसूड़ों और मुंह के छालों को ठीक करने के लिए भी जाना जाता है।

तनाव को कम करने के लिए अमरूद के फायदे

अमरूद का फल चिंता निवारक की तरह कार्य करता है। इसके फलों में मौजूद मैग्नीशियम अमरूद के कई लाभों के लिए जिम्मेदार है, जो शरीर की मांसपेशियों और तंत्रिकाओं को आराम देने में मदद करता है। अध्ययन यह भी सुझाव देते हैं कि मैग्नीशियम व्यक्तियों में चिंता और तनाव को दूर करने में मदद कर सकता है (16)। इसलिए जिम में कड़ी कसरत या ऑफिस में एक लंबे दिन के बाद, एक अमरूद निश्चित रूप से खाना चाहिए क्योंकि यह आपको अपनी मांसपेशियों को आराम देने, तनाव से निपटने और अपने पूरे शरीर को एक अच्छी ऊर्जा देने के लिए आवश्यक है। इसलिए, अमरूद के इस मौसम में अपने आहार में कम से कम एक अमरूद को जरूर शामिल करें।

आपके मस्तिष्क के लिए अच्छा है अमरूद का सेवन

अमरूद में विटामिन बी 3 और विटामिन बी 6 होते हैं, जिन्हें नियासिन और पाइरिडोक्सिन भी कहा जाता है, जो मस्तिष्क के रक्त परिसंचरण में सुधार करने, संज्ञानात्मक कार्य को उत्तेजित करने और तंत्रिकाओं को आराम देने में मदद करते हैं”।

अमरूद में मौजूद विटामिन-सी मस्तिष्क के लिए बहुत अच्छा माना जाता है। विटामिन-सी युक्त खाद्य पदार्थों को खाने से उम्र के साथ होने वाली मानसिक स्वास्थ्य सस्याओं जैसे अल्जाइमर की बीमारी आदि से बचा जा सकता है (17)। विटामिन-सी एक शक्तिशाली एंटीऑक्सीडेंट भी होता है, जो उम्र बढ़ने के साथ मस्तिष्क की कोशिकाओं को क्षति पहुंचाने वाले मुक्त कणों से लड़ने में मदद करता है। यह उम्र के साथ-साथ आपके मानसिक स्वास्थ्य की रक्षा करता है (18)।

(और पढ़ें – याददाश्त बढ़ाने के घरेलू उपाय, दवा और तरीके)

अमरूद के फायदे वजन घटाने में

क्या आप कुछ किलो वजन कम करना चाहते हैं? तो अमरूद का सेवन शुरू कर दें। प्रोटीन, विटामिन और फाइबर के अपने सेवन को कम किए बिना, अमरूद आपके चयापचय (metabolism) को नियंत्रित करके वजन कम करने में आपकी मदद करता है। अमरूद एक बहुत ही बढ़िया स्नैकिंग है जिसे आप नाश्ते के रूप में खा सकते हैं यह भूख को बहुत आसानी से संतुष्ट करता है। अमरूद, विशेष रूप से कच्चे अमरूद में भी सेब, संतरे, अंगूर और अन्य फलों की तुलना में कम चीनी होती है।

हालांकि अनुसंधान अभी भी जारी है, अमरूद के वजन घटाने के गुणों को इसके फाइबर सामग्री के लिए जिम्मेदार माना जा सकता है। साथ ही, यह कैलोरी में भी कम है। आप इसे आपके वजन कम करने वाले आहार का हिस्सा बना सकते हैं।

(और पढ़ें – जल्दी वजन कम करने वाले आहार, फल और सब्जियां)

सर्दी-जुकाम और खांसी में अमरूद के फायदे

अमरूद में विटामिन-सी और आयरन की अच्छी मात्रा होती है (19) और दोनों ही सर्दी और वायरल संक्रमण के खिलाफ सुरक्षा देने का काम करते हैं। कच्चे अमरुद का रस या अमरूद के पत्तों का काढ़ा खांसी और जुकाम से राहत दिलाने में बहुत मददगार होता है क्योंकि यह बलगम से छुटकारा दिलाने में मदद करता है और श्वसन पथ, गले और फेफड़ों को कीटाणुरहित बनाता है। अगर आप खुद को सर्दी-जुकाम से बचाना चाहते हैं, तो कच्चे अमरूद को काले नमक के साथ खा सकते हैं।

(और पढ़ें – मौसम में परिवर्तन के कारण सर्दी और खांसी से बचने के उपाय और उपचार)

अमरूद के फायदे मासिक धर्म के दर्द के लिए

पीरियड्स या मासिक धर्म महिला हो या लड़की दोनों के लिए कई परेशानियों को लेकर आता है जिसमे सबसे सामान्य समस्याएं जो महिलाओं को होती है वह है मूड स्विंग्स, पेट में दर्द, ऐंठन, कमर में दर्द और सिरदर्द होना। इस सभी समस्याओं से बचने के लिए पीरियड्स के दौरान अमरूद का सेवन काफी फायदेमंद साबित हो सकता है। एक अध्ययन में पाया गया है कि, दर्दनाक कष्टार्तव (दर्दनाक माहवारी) जिसे डिसमेनोरिया (dysmenorrhea) कहा जाता है वाली 197 महिलाओं को अमरूद के अर्क वाली दवा के 6 मिलीग्राम प्रति दिन लेने के बाद राहत मिली (20)।

इसके आलावा एक अन्य दक्षिण अफ्रीकी अध्ययन में अमरूद की पत्ती के अर्क के स्पैस्मोलाईटिक प्रभावों (ऐंठन को दूर करने) का पता चलता है। जिसमे अर्क को गर्भाशय की ऐंठन से राहत देने के लिए पाया गया था (24)।

अमरूद के फायदे स्किन के लिए – Guava Benefits for Skin in Hindi

अमरूद के फायदे स्किन के लिए - Guava Benefits for Skin in Hindi

अमरूद आपकी त्वचा के स्वास्थ्य में सुधार कर सकते हैं और त्वचा की समस्याओं से बचने में आपकी मदद कर सकते हैं। अमरूद में पाए जानें वाले एंटीऑक्सिडेंट आपकी त्वचा को होने वाले नुकसान और उम्र बढ़ने के संकेत (21) से बचा सकते हैं। विटामिन ए और सी की प्रचुर मात्रा स्किन को स्वस्थ्य रखने में योगदान करती है – विशेष रूप से विटामिन सी, जो त्वचा कोलेजन और इलास्टिन को बढ़ाता है।

अमरूद से निकलने वाले अर्क के रोगाणुरोधी गुण भी मुँहासे के इलाज में मदद करते हैं क्योंकि वे उन बैक्टीरिया को खत्म करने में प्रभावी होते हैं जो मुँहासे पैदा करते हैं (22)।

(और पढ़ें – मानव त्वचा की संरचना)

एंटी एजिंग गुण के लिए अमरूद के फायदे

अमरूद विटामिन ए, विटामिन सी और एंटीऑक्सिडेंट जैसे कैरोटीन और लाइकोपीन से भरपूर होते हैं जो त्वचा को झुर्रियों से बचाने में मदद करते हैं। एक दिन में एक अमरूद का सेवन, झुर्रियों को दूर रखता है।

एंटी एजिंग के लिए अमरूद का उपयोग कैसे करें

आप उम्र बढ़ने के लक्षणों को कम करने के लिए अमरूद की पत्तियों से बहुत आसानी से DIY फेस पैक तैयार कर सकते हैं। फेस पैक बनाने के लिए बस कुछ ताजा सादे दही के साथ एक ब्लेंडर में कुछ अमरूद की पत्तियां डालें। इसे एक साथ ब्लेंड करें और इसे चेहरे पर लगाएं और 15-20 मिनट तक लगा रहने दें। उसके बाद सादे पानी से धो लें। इसे नियमित रूप से दोहराएं।

(और पढ़ें – पुरुषों के लिए जवां दिखने के एंटी एजिंग उपाय)

अमरूद के फायदे त्वचा पर ग्लो के लिए

अमरूद त्वचा की चमक और ताजगी को फिर से पाने में मदद करता है। घर पर अमरूद का DIY स्क्रब तैयार करके इसका लाभ उठाएं। अमरूद भी विटामिन के (K) का एक अच्छा स्रोत है, जो त्वचा के मलिनकिरण, आँखों के नीचे काले घेरे, लालिमा और मुँहासों से छुटकारा पाने में मदद करता है।

त्वचा पर ग्लो लाने के लिए अमरूद का उपयोग कैसे करें

आपको बस इतना करना है कि एक अंडे की जर्दी के साथ कुछ अमरुद का गूदा मैश करें और इसे अपने चेहरे पर लगाएं। 20 मिनट के बाद गर्म पानी के साथ इसे धो लें। सप्ताह में एक या दो बार इसका उपयोग किया जा सकता है, यह स्क्रब आपकी त्वचा से मृत कोशिकाओं को हटाने का काम करता है और आपके स्किन के रंग को गोरा कर देगा है।

(और पढ़ें – त्वचा को खूबसूरत बनाए रखने के लिए लगाएं फ्रूट फेस मास्क)

स्किन को टाइट करने में अमरूद के फायदे

अमरूद कसैले गुणों में उच्च होता है, अमरूद के पत्ते और हरा या कच्चा अमरूद और भी अधिक फायदेमंद होता है। यह चेहरे की मांसपेशियों को टोन करने और उनमे कसाव लाने में मदद करता है, इसलिए अपनी त्वचा पर पत्तियों और फलों का काढ़ा लगाएं! और फर्क देखें। यह उस क्षेत्र की ढीली त्वचा को टाइट कर देगा जहां इसे लगाया जाता है। अमरूद अपने एंटीऑक्सिडेंट और डिटॉक्सिफाइंग गुणों के कारण यह त्वचा की चमक बनाए रखने और उसे समय से पहले बूढ़ा होने, झुर्रियों और अन्य स्किन विकारों के संकेतों से मुक्त रखने में मदद करने के लिए भी जाना जाता है।

त्वचा के गठन में सुधार के लिए अमरूद का उपयोग कैसे करें

हमारे चेहरे को धोने के लिए अपरिपक्व अमरूद फलों और पत्तियों के काढ़े का नियमित उपयोग त्वचा के गठन में उल्लेखनीय रूप से सुधार करने में मदद करता है।

(और पढ़ें – लूज स्किन को टाइट करने के घरेलू उपाय)

अमरुद के फायदे मुँहासे दूर करने के लिए

यह अमरूद के सबसे महत्वपूर्ण सौंदर्य लाभों में से एक है। मुँहासे हम सभी को परेशान करते हैं। हालांकि, हम में से बहुत से लोग अमरूद के मुँहासे विरोधी लाभों से अवगत नहीं हैं। यह एंटी ऑक्सीडेंट, जैसे कि विटामिन ए और सी के साथ-साथ लाइकोपीन से भरपूर होता है, ये सभी हमारी त्वचा को मुक्त कणों के नुकसान के कारण होने वाले मुंहासों से बचाते हैं। साथ ही इसमें जिंक होता है, जो मुंहासों से लड़ने की क्षमता के लिए जाना जाता है। इसके अलावा, अमरूद के पत्तों में एंटी बैक्टीरियल और एंटी इंफ्लेमेटरी गुण होते हैं, जो मुंहासों से छुटकारा पाने के साथ-साथ इनके कारण होने वाले दर्द और लाली को प्रभावी रूप से कम करते हैं। इसके अतिरिक्त, अमरूद में विटामिन के (K) की उपस्थिति मुँहासे की जलन से छुटकारा पाने में मदद करती है।

मुहांसों से छुटकारा पाने के लिए अमरूद का उपयोग कैसे करें

कुछ अमरूद के पत्तों को मैश करें और एक चिकनी पेस्ट बनाएं। इसे चेहरे परलगाएं, विशेष रूप से जहां आपको मुँहासे हैं। 15-20 मिनट के बाद धो लें और मुंहासे को ठीक करने के लिए इसे रोजाना दोहराएं। यह प्राकृतिक उपचार मुँहासे के कारण होने वाले काले धब्बों के इलाज के लिए भी उपयोगी है।

अमरूद के फायदे स्किन की एलर्जी और खुजली के लिए

अमरूद, विशेष रूप से अमरूद के पत्ते, एलर्जी और खुजली से राहत देने में बहुत फायदेमंद है। ऐसा अमरूद के एंटी-एलर्जी लाभों के कारण होता है।

खुजली को शांत करने के लिए अमरूद का उपयोग कैसे करें

अमरूद के पत्तों का पेस्ट त्वचा के प्रभावित हिस्से पर लगाने से खुजली काफी हद तक कम हो जाती है।

(और पढ़ें – गोरी और चमकदार त्वचा पाने के लिए सौंदर्य टिप्स)

अमरूद के पत्ते के फायदे बालों के लिए – Guava leaves benefits for hair in Hindi

अमरूद के पत्ते के फायदे बालों के लिए - Guava leaves benefits for hair in Hindi

त्‍वचा, बाल और स्‍वास्‍थ्‍य की देखभाल के लिए अमरूद की पत्‍तियों का अर्क पीना या फिर छोटी-छोटी मुलायम पत्त‍ियों को चबाना फायदेमंद होता है। अमरूद की पत्तियों में बालों को झड़ने से रोकने के गुण होते। यह बालों को मोटा करने वाले घटक के रूप में भी लोकप्रियता प्राप्त कर रही है जो तेजी से बालों के बढ़ाने में मदद करतीं है। लेकिन क्या आप जानतें हैं। इन सब के अलावा भी अमरूद की पत्तियां आपके बालों के लिए कितनी फायदेमंद हैं?

बालों का झड़ना मुख्य रूप से स्कैल्प की खराब स्थिति का प्रत्यक्ष परिणाम होता है। अमरूद के पत्तों में एनाल्जेसिक, एंटी-इंफ्लेमेटरी, एंटीमाइक्रोबियल और एंटीऑक्सीडेंट गुण होते हैं जिन्होंने इसे स्कैल्प को स्वस्थ्य बनाए रखने के लिए एक लोकप्रिय घटक बनाया है (23)।

डैंड्रफ का इलाज करने के लिए इसका उपयोग अक्सर बाल धोने में किया जाता है। यह विटामिन बी और विटामिन सी से भी समृद्ध है, जो बालों के रोम को पोषण देती हैं और बालों के विकास में सहायता करती हैं।

नीचे, हमने स्वस्थ बालों के लिए अमरूद की पत्तियों का उपयोग कैसे करना है उसके बारे में स्टेप बाय स्टेप बताया है।

(और पढ़ें – बालों का गिरना क्या है, प्रकार, कारण, लक्षण, इलाज और बचाव)

बालों की ग्रोथ के लिए अमरुद की पत्तियों का उपयोग कैसे करें – How To Use Guava Leaves For Hair Growth in Hindi

आप अपने बालों पर अमरूद की पत्तियों का उपयोग करके इन्हें नरम और चमकदार बना सकते हैं, और इन्हें मोटा भी कर सकते हैं। अमरूद पत्ती बालों के लिए लोशन बनाने के लिए सबसे सरल चीज है। अपने बालों की देखभाल के लिए नीचे दिए गए स्टेप का पालन करें जो बालों के झड़ने से रोकेगें और बालों को बढ़ाने में मदद करेंगे।

सामग्री

  • एक मुट्ठी अमरूद के पत्ते।
  • 1 लीटर पानी
  • उबालने के लिए एक बर्तन।
  • छन्नी

तैयारी

  • बर्तन में पानी डालें और स्टोव पर रखें। फिर इस पानी को उबाल आने तक उबालें।
  • उबलते पानी में, अमरूद के पत्ते डालें।
  • 20 मिनट के लिए पानी को उबलने दें।
  • तरल पदार्थ को छन्नी की मदद से छान लें और ठंडा करलें।

कैसे इस्तेमाल करें

अपने बालों को शैम्पू से धोएँ और साफ़ करें लेकिन कंडीशनिंग न करें।

एक बार जब आपके बाल लगभग सूख जाते हैं, तो इनमे अमरूद की पत्ती का घोल लगाना शुरू करें।

कम से कम 10 मिनट के लिए अपने सिर की मालिश करें और यह सुनिश्चित करें कि आपके सभी बाल अमरूद के पत्ते के पानी से संतृप्त हो गए हैं।

घोल को पाने बालों में लगते समय बालों की जड़ों और अंतिम छोरों (टिप्स) पर अतिरिक्त ध्यान दें।

आप इस घोल को 2 घंटे तक के लिए बालों में लगाकर छोड़ सकते हैं। वैकल्पिक रूप से, आप अपने बालों को एक तौलिया में लपेट सकते हैं और सो भी सकते हैं।

अपने बालों को धोने के लिए गुनगुने पानी का इस्तेमाल करें।

कितनी बार आपको इसका इस्तेमाल करने की आवश्यकता है

यदि आप बालों के झड़ने की समस्या का सामना कर रहे हैं, तो हफ्ते में तीन बार इस अमरूद के पत्ते के घोल का उपयोग करें। यदि आप इसका उपयोग बालों के विकास को तेज करने और अपने बालों को चमकदार बनाए रखने के लिए कर रहे हैं, तो इसे सप्ताह में दो बार उपयोग करें।

सावधानियां

सुनिश्चित करें कि घोल आपके बालों में लगाने से पहले कमरे के तापमान तक ठंडा हो गया है।

अपने बालों को अधिक गर्म पानी से न धोएं क्योंकि इससे आपकी खोपड़ी और बाल सूख जाएंगे।

(और पढ़ें – बालों को बढ़ाने के लिए 20 बेस्ट फूड)

बालों के लिए अमरुद के पत्तों के उपयोग के अन्य लाभ – Other Benefits Of Using Guava Leaves For Hair in Hindi

अमरूद की पत्तियों में विटामिन सी होता है, जो कोलेजन गतिविधि को बढ़ावा देने में मदद करता है। यह बालों को तेजी से बढ़ाने और स्वस्थ बनाने में मदद करता है।

इसके एंटीऑक्सीडेंट गुण मुक्त कणों से लड़ने में मदद करते हैं, इस प्रकार यह बालों की क्षति को रोकते हैं।

इसमें लाइकोपीन भी होता है, जो सूर्य की हानिकारक पराबैंगनी किरणों से सुरक्षा प्रदान करता है।

घोल से अपने स्कैल्प की मालिश करने से रक्तचाप में सुधार होता है, जो बालों के रोम को अधिक पोषण प्राप्त करने में मदद करता है। इससे बालों की अच्छी वृद्धि होती है।

यह आपके बालों से गंदगी और जमी हुई मैल को हटाने में मदद करता है। यह बालों से तेलीयता, चिपचिपापन और रूसी को रोकने में मदद करता है।

बालों से गंदगी को हटाने से बाल झड़ने से रोकने में आसानी होती है, और वे मुलायम और चमकदार भी हो जाते हैं।

बालों के झड़ने को रोकने और नए बालों को उगाने के अलावा, अमरूद की पत्तियों में कई औषधीय गुण भी होते हैं जो विभिन्न बीमारियों को ठीक करने और नियंत्रित करने में हमारी मदद करते हैं। जिनके बारे में आप ऊपर के लेख में जान चुके हैं

क्या आपने कभी अपने बालों के लिए अमरूद की पत्तियों का इस्तेमाल किया है? हमें नीचे दिए गए कमेंट्स बॉक्स में अपने अनुभव के बारे में बताएं।

अमरूद का उपयोग कैसे करें – How to Use Guava in Hindi

अमरूद का उपयोग कैसे करें – How to Use Guava in Hindi

अब जब आपने अमरूद खाने के इतने सारे फायदे जान लिए हैं, तो आपके मन में यह सवाल उठना लाजमी है कि अमरूद का सेवन कब और कैसे किया जाए। तो चलिए जानते हैं अमरूद का उपयोग करने का तरीका –

अमरूद खाने का सही समय

आपको बता दें कि अमरुद खाने के सबसे अच्छा समय सुबह का होता है फिर भी आप इसे दोपहर में खाना खाने के पहले या बाद में भी खा सकते हैं। आप चाहें तो इसे सुबह खाली पेट नाश्ते में भी खा सकते हैं। लेकिन ध्यान रहे कि आप अमरूद खाने के बाद तुरंत पानी न पिएं।

अमरूद खाने का तरीका

फल का सेवन करने के बहुत सारे तरीके हैं, इसे कच्चा खाया जा सकता है, फल का जूस के रूप में भी सेवन किया जा सकता है और इसे काट कर काले नमक के साथ भी खाया जा सकता है। अमरूद को छोट-छोटे टुकड़ो में काटकर अपने सलाद में शामिल करने से आप स्वस्थ नाश्ता कर सकते हैं।

(और पढ़ें – सलाद खाने के फायदे, नुकसान, समय और तरीका)

अमरूद के नुकसान – Side Effects of Guava in Hindi

पौष्टिक अमरूद उन खाद्य पदार्थों में से एक है जिनका लगभग कोई दुष्प्रभाव नहीं है। केवल यह कि आपको गर्भावस्था और स्तनपान के दौरान थोड़ी अतिरिक्त देखभाल करने की आवश्यकता है इस समय बहुत अधिक अमरुद न खाएं! इस दौरान बस 1 से 2 अमरूद ही खाने चाहिए।

  • ज्यादा अमरूद का सेवन करने से सूजन, पेट फूलना और गैस जैसी समस्याएं हो भी हो सकती हैं।
  • जिन लोगो की प्रकृति शीत होती है या जिनका पाचन कमजोर होता है वे लोग अमरुद कम खाएं। ऐसे लोगों को यह सही तरीके से नहीं पचता है और नुकसान करता है।
  • ज्यादा अमरूद खाने से पेट खराब हो सकता है, क्योंकि इसमें फाइबर की मात्रा अधिक होती है।
  • सिर्फ अमरूद ही नहीं उसके पत्ते से भी साइड इफेक्ट हो सकते हैं। गर्भवती महिला को विशेष रूप से इनका सेवन करने से बचना चाहिए।
  • अमरूद के पत्ते का अधिक सेवन करने से खून की कमी (Anemia), सिरदर्द यहां तक कि किडनी की समस्या भी हो सकती है।

आपको बता दें कि अमरूद के ये नुकसान तभी होते हैं जब अधिक मात्रा में या गलत तरीके से इसका सेवन किया जाता है यदि आप अमरूद को ध्यान पूर्वक और सावधानी के साथ खाते हैं तो अमरूद के नुकसान से बचा जा सकता है। अमरूद सबसे सरल फलों में से एक है, जो गुणकारी, सस्ता और आसानी से मिलने वाला फल है। और यह आपके लिए सबसे पौष्टिक भी है। तो आज से ही अमरूद खाना शुरू करें।

और हमें बताएं कि इस लेख में बताये गए अमरूद के फायदों ने कैसे आपकी मदद की है। इसके लिये नीचे दिए गए कमेंट्स बॉक्स में कमेंट्स करें।

Leave a Comment

Subscribe for daily wellness inspiration