एंटीऑक्सीडेंट युक्त खाद्य पदार्थ, फायदे और नुकसान – Antioxidants rich foods and its Benefits in Hindi

एंटीऑक्सीडेंट युक्त खाद्य पदार्थ और उनके फायदे - Antioxidants rich foods and its Benefits in Hindi
Written by Anamika

एंटीऑक्सीडेंट युक्त आहार, फायदे और नुकसान एंटीऑक्सिडेंट सब्‍जीयों और फलो में अधिक पाये जाते है। एंटीऑक्सिडेंट के उदाहरण में विटामिन सी, विटामिन ई, सेलेनियम, कैरोटीनॉड्स, बीटा-कैरोटीन, लाइकोपीन, ल्‍यूटिन ओर लेक्‍सैथीन शामिल है। एंटीऑक्सिडेंट अक्‍सर अच्‍छे स्‍वास्‍थ्‍य और बीमारियों को रोकने का काम करते है। एंटीआक्सिडेंट अच्‍छे स्‍वास्‍थ्‍य के लिए बहुत महात्‍वपूर्ण होते हैं। एंटीऑक्स्डिेट हमारे शरीर के हानिकारक तत्‍वों को रोकने का काम करते है। यदि हानिकारक तत्‍वों की रोक थाम न की जाए तो वे हमारे लिए घातक बीमारीयों का रूप ले सकते है। इस लेख में आप जानेंगे एंटीऑक्सीडेंट युक्त आहार क्या हैं और उनके फायदे और नुकसान के बारे में।

1. एंटीऑक्सीडेंट क्या है – What is Antioxidants in Hindi
2. एंटीऑक्सीडेंट की कमी के लक्षण – Antioxidant deficiency Symptoms in Hindi
3. एंटीऑक्सीडेंट युक्त खाद्य पदार्थ – Antioxidants Rich Foods in Hindi
4. एंटीऑक्सीडेंट शरीर में कैसे काम करता है – How Do Antioxidants Work In Your Body in Hindi
5. एंटीऑक्सीडेंट के फायदे – Benefits Of Antioxidants in Hindi

6. एंटीऑक्सीडेंट के नुकसान – Antioxidants Side Effects in Hindi
7. एंटीऑक्सीडेंट की जरूरी मात्रा कितनी होती है – Antioxidants Recommended dietary allowance (RDA) in Hindi

एंटीऑक्सीडेंट क्या है – What is Antioxidants in Hindi

एंटीऑक्सीडेंट ऐसे पदार्थ होते हैं जो शरीर में कोशिकाओं को मुक्त कणों द्वारा क्षतिग्रस्त होने से बचाते हैं। मुक्त कण आमतौर पर रसायनों, धूम्रपान, प्रदूषण एवं रेडिएशन के कारण उत्पन्न होते हैं। एंटीऑक्सीडेंट फल एवं सब्जियों सहित कई तरह के भोज्य पदार्थों (foods) में पाये जाते हैं। इसके अलावा यह पूरक आहार के रूप में भी पाये जाते है। आमतौर पर बीटा-कैरोटिन, ल्यूटिन, लाइकोपिन, सेलेनियम, विटामिन ए, विटामिन सी और विटामिन ई में एंटीऑक्सीडेंट पाया जाता है। कुछ ऐसे भी एंटीऑक्सीडेंट होते हैं जो इंसान के शरीर के अंदर ही बनते हैं लेकिन ज्यादातर एंटीऑक्सीडेंट संतुलित आहार (balanced diet) के माध्यम से प्राप्त किया जाता है। पर्याप्त मात्रा में फल और सब्जियों के सेवन से शरीर को प्रचुर मात्रा में एंटीऑक्सीडेंट मिलता है और इनके कारण बीमारियों का ख़तरा नहीं होता है।

(और पढ़े – संतुलित आहार के लिए जरूरी तत्व , जिसे अपनाकर आप रोंगों से बच पाएंगे)

एंटीऑक्सीडेंट की कमी के लक्षण – Antioxidant deficiency Symptoms in Hindi

  • थकान
  • स्मृति में कमी
  • त्वचा और बालों का रंग बदलना
  • अवांछित जख्म उपचार

उच्च जोखिम वाले समूहों में शामिल कुछ कारक:

  • बूढ़े लोग, साथ ही साथ जो अपने स्वयं के एंटीऑक्सिडेंट्स नहीं बना पाते है
  • जो लोग बहुत ज्यादा शराब पीते हैं
  • जिन लोगों को पाचन समस्याएं हैं
  • या वे जो एंटीऑक्सिडेंट को ठीक से अवशोषित नहीं कर सकते हैं

एंटीऑक्सीडेंट युक्त खाद्य पदार्थ – Antioxidants Rich Foods in Hindi

एंटीऑक्सीडेंट कई तरह के खाद्य पदार्थों, जड़ी-बूटियों (herbs) और मसालों में मौजूद होता है। इन्हें आसानी से भोजन में शामिल कर पर्याप्त मात्रा में एंटीऑक्सीडेंट लिया जा सकता है। आइये जानते हैं किन-किन चीजों में एंटीऑक्सीडेंट पाया जाता है।

एंटीऑक्सीडेंट शरीर में कैसे काम करता है – How Do Antioxidants Work In Your Body in Hindi

यह हमारे शरीर में किस तरह से काम करते हैं, यह जानना बहुत महत्वपूर्ण होता है। हम सभी जानते हैं कि हमारा शरीर परमाणुओं (atoms) से मिलकर बना है। दो या दो से अधिक परमाणु एक अणु का निर्माण करते हैं। ये अणु सिर्फ तभी तक मजबूत बने रहते हैं जब तक इनके पास पर्याप्त इलेक्ट्रॉन होते हैं। जब इन अणुओं के पास इलेक्ट्रानों खत्म हो जाते हैं तो यह मुक्त कणों में बदल जाता है। यह अस्थिर होकर अन्य अणुओं (molecules) के साथ प्रतिक्रिया करता है और उन्हें क्षतिग्रस्त कर देता है। इस तरह ये अणु एक श्रृंखला बना लेते हैं और पूरी तरह से मुक्त कणों में बदल जाते हैं और शरीर में गड़बड़ी उत्पन्न करने लगते हैं।

इसके बाद व्यक्ति को एंटीऑक्सीडेंट लेने की जरूरत पड़ती है। एंटीक्सीडेंट मुक्त कणों को इलेक्ट्रॉन डोनेट करते हैं  जिससे वे प्रभावी ढंग से निष्क्रिय हो जाते हैं। हालांकि हमें मुक्त कणों और एंटीऑक्सीडेंट के बीच संतुलन बनाये रखने की आवश्यकता होती है क्योंकि जब मुक्त कण एंटीऑक्सीडेंट से अधिक हो जाते हैं तो ऑक्सीडेटिव तनाव उत्पन्न हो जाता है।

एंटीऑक्सीडेंट के फायदे – Benefits Of Antioxidants in Hindi

एंटीऑक्सीडेंट के फायदे - Benefits Of Antioxidants in Hindi

एंटीऑक्सीडेंट का सेवन करने से व्यक्ति का स्वास्थ्य ठीक रहता है और कई तरह के विकारों (diseases) को दूर करने में भी यह फायदेमंद होता है। शरीर को मुक्त कणों और सूजन के प्रभाव से बचाने में एंटीऑक्सीडेंट फायदेमंद होता है। यह हृदय को स्वस्थ रखता है और यादाश्त में भी सुधार करता है। इसलिए एंटीऑक्सीडेंट युक्त खाद्य पदार्थों का सेवन करके अपनी सेहत में फर्क देखा जा सकता है। आइये जानते हैं कि एंटीऑक्सीडेंट के फायदे क्या हैं।

एंटीऑक्सीडेंट के फायदे अर्थराइटिस के इलाज में – Benefits of Antioxidants for Arthritis in Hindi

एक स्टडी में पाया गया है कि एंटीऑक्सीडेंट रूमेटाइड अर्थराइटिस (rheumatoid arthritis) के लक्षणों को कम करता है और दर्द से राहत प्रदान करता है। यह एंटीऑक्सीडेंट के एंटी इंफ्लैमेटरी गुण के कारण होता है। बेरी और खट्टे फलों में पर्याप्त एंटीऑक्सीडेंट मौजूद होता है जो अर्थराइटिस के दर्द से निजात दिलाने में मदद करता है।

(और पढ़े – गठिया (आर्थराइटिस) कारण लक्षण और वचाब)

कैंसर से बचाने में एंटीऑक्सीडेंट के फायदे – Antioxidants Benefits Prevent Cancer in Hindi

कैंसर से बचाने में एंटीऑक्सीडेंट के फायदे - Antioxidants Prevent Cancer in Hindi

आमतौर पर एंटीऑक्सीडेंट मुक्त कणों को क्षतिग्रस्त होने से बचाते हैं  जो कैंसर होने का कारण बनता है। एंटीऑक्सीडेंट युक्त आहार कैंसर के लक्षणों को दूर करने में मदद करते हैं और सूजन को भी कम करने में सहायक होते हैं।

(और पढ़े – कैंसर क्या है कारण लक्षण और बचाव के उपाय)

एंटीऑक्सीडेंट के गुण आंखों की रोशनी के लिए – Antioxidants benefits for healthy eyes in Hindi

एंटीऑक्सीडेंट के गुण आंखों की रोशनी के लिए - Antioxidants for healthy eyes in Hindi

एक अध्ययन में पाया गया है कि विटामिन सी, बीटा कैरोटिन, और विटामिन ई जैसे एंटीऑक्सीडेंट उम्र संबंधी आंखों के रोगों से रक्षा करते हैं। स्वीट पोटैटो, गाजर,और  पालक  एंटीऑक्सीडेंट के अच्छे स्रोत हैं जो आंखों की रोशनी को ठीक रखने में मदद करते हैं।

एंटीऑक्सीडेंट सब्जियों के लाभ लीवर के लिए – Antioxidants vegetables for Liver in Hindi

एंटीऑक्सीडेंट सब्जियों के लाभ लीवर के लिए - Antioxidants for Liver in Hindi

जब शरीर के अंगों में ऑक्सीडेसिव तनाव उत्पन्न होता है तो लीवर संबंधी समस्याएं उत्पन्न होने लगती हैं। एंटीऑक्सीडेंट लीवर के कार्य को सामान्य रखने में मदद करता है। इसलिए लीवर को मजबूत बनाने एवं इसकी क्रियाओं को बेहतर बनाने के लिए एंटीऑक्सीडेंट युक्त खाद्य पदार्थों का सेवन करना चाहिए।

(और पढ़े – लीवर की कमजोरी कारण लक्षण और दूर करने के उपाय)

पेशाब में संक्रमण दूर करने के लिए एंटीऑक्सीडेंट का उपयोग – Antioxidants ke fayde for UTI in Hindi

पेशाब में संक्रमण दूर करने के लिए एंटीऑक्सीडेंट का उपयोग - Antioxidants for UTI in Hindi

माना जाता है कि ऑक्सिडेटिव स्टेस एवं एंटीऑक्सीडेंट एंजाइम की कमी के कारण पेशाब में संक्रमण की समस्या(Urinary Tract Infection) हो जाती है। लेकिन एंटीऑक्सीडेंट इस समस्या को दूर करने में मदद करता है। पॉलीफिनोल (Polyphenols) एक तरह का एंटीऑक्सीडेंट है जो यूटीआई को दूर करने में मदद करती है। यह यौगिक पेशाब में आयरन को बांधे रखने में मदद करते हैं और बैक्टीरिया को बढ़ने से रोकते हैं। इसके अलावा एंटीऑक्सीडेंट स्पर्म की गुणवत्ता बढ़ाने और बांझपन को दूर करने में भी सहायक होता है।

(और पढ़े – महिला बांझपन के कारण, लक्षण, निदान और इलाज)

एंटीऑक्सीडेंट के फायदे किडनी के लिए -Benefits of Antioxidants for Kidney in Hindi

एंटीऑक्सीडेंट के फायदे किडनी के लिए - Antioxidants for Kidney in Hindi

जो भोज्य पदार्थ एंटीऑक्सीडेंट युक्त होते हैं उनका पर्याप्त मात्रा में सेवन करने से किडनी की बीमारी दूर हो जाती है। इसके अलावा एंटीऑक्सीडेंट डायलिसिस (dialysis) में भी बहुत फायदेमंद साबित होता है।

(और पढ़े – किडनी फैल, कारण, लक्षण, निदान और उपचार)

त्वचा के लिए एंटीऑक्सीडेंट कैप्सूल लाभ – Antioxidants capsule for healthy skin in Hindi

ग्रीन टी और डार्क चॉकलेट में फ्लैनॉयड पाया जाता है जो त्वचा में सूजन (inflammation) होने से बचाता है। एक स्टडी में पाया गया है कि ग्रीन टी सूर्य के हानिकारक किरणों से बचाने में मदद करती है। इसलिए ज्यादातर लोग त्वचा को स्वस्थ रखने के लिए एंटीऑक्सीडेंट का उपयोग करते हैं।

(और पढ़े – ग्रीन टी या लेमन टी कौन है बेहतर)

(और पढ़े – ग्रीन टी पीने के फायदे और नुकसान)

एंटीऑक्सीडेंट फल के लाभ मुंहासे के इलाज में – Antioxidants fruits Treat Acne in Hindi

मुंहासे के इलाज में एंटीऑक्सीडेंट फल के लाभ - Antioxidants Treat Acne in Hindi

मुक्त कण पूरे शरीर में विचरण करते हैं और स्वस्थ कोशिकाओं से इलेक्ट्रॉन चुरा लेते हैं। इसके कारण त्वचा क्षतिग्रस्त हो जाती है और चेहरे पर मुंहासे होने लगते हैं। एंटीऑक्सीडेंट इन मुक्त कणों को दूर करता है और मुंहासों को ठीक करने में मदद करता है। इसके अलावा यह हानिकारक पदार्थों (toxins) से त्वचा की रक्षा करता है।

(और पढ़े – मुँहासे में आहार प्रमुख भूमिका निभाता है जाने कैसे)

एंटीऑक्सीडेंट के नुकसान – Antioxidants Side Effects in Hindi

अगर अधिक मात्रा में एंटीऑक्सीडेंट लिया जाता है तो एंटीऑक्सीडेंट के कुछ स्रोत विषाक्त हो सकते हैं। बहुत अधिक खुराक लेना और साथ ही एंटीऑक्सीडेंट में समृद्ध भोजन खाने से एंटीऑक्सीडेंट विषाक्तता का कारण बनता है। उदाहरण के लिए, बहुत अधिक विटामिन ए लेना, विटामिन ए विषाक्तता का कारण बन सकता है, जिसके परिणामस्वरूप जन्म दोष, यकृत असामान्यताएं, ऑस्टियोपोरोसिस या केंद्रीय तंत्रिका तंत्र (central nervous system) विकार उत्पन्न हो सकते हैं। विटामिन सी की बड़ी खुराक से भी नुकसान हो सकते हैं जैसे दस्त, मतली, और पेट की ऐंठन आदि।

एंटीऑक्सीडेंट की जरूरी मात्रा कितनी होती है – Antioxidants Recommended dietary allowance (RDA) in Hindi

आपके लिए एंटीऑक्सीडेंट की जरूरी मात्रा आपकी उम्र और लिंग पर निर्भर करती है। प्रत्येक एंटीऑक्सिडेंट के लिए अनुशंसित दैनिक मात्रा लेना महत्वपूर्ण है जब तक कि आपका डॉक्टर इसे बढ़ाने की अनुशंसा नहीं करता। अन्य कारक, जैसे कि गर्भावस्था और बीमारियां, आपकी आवश्यक एंटीऑक्सीडेंट लेने की मात्रा को भी प्रभावित करती हैं।

Leave a Comment

Subscribe for daily wellness inspiration