लीवर की कमजोरी कारण लक्षण और दूर करने के उपाय – Liver disease cause symptoms and treatment in hindi

लीवर की कमजोरी कारण लक्षण और दूर करने के उपाय - Liver disease cause symptoms and treatment in hindi
Written by Ganesh

यकृत को अंग्रेजी में लीवर (Liver) कहते हैं और हिंदी में जिगर कहा जाता है। यह हमारे शरीर का बहुत ही महत्वपूर्ण हिस्सा है।  यह पेट के दाहिनी ओर नीचे की तरफ होता है। लिवर शरीर की बहुत सी क्रियाओं को नियंत्रित करता है। जिनमें खाना पचाना, शरीर से टॉक्सिक पदार्थ बाहर निकालना, शरीर को एनर्जी देना, बीमारियों से लड़ने की क्षमता प्रदान करना आदि शामिल हैं। लीवर खराब होने पर शरीर की कार्य करने की क्षमता न के बराबर हो जाती है और लीवर डैमेज का सही समय पर इलाज कराना भी जरूरी होता है नहीं तो यह गंभीर समस्या बन सकती है।यहाँ हम आपको लीवर की कमजोरी कारण लक्षण और दूर करने के उपाय – Liver disease cause symptoms and treatment in hindi बताने जा रहे है

सबसे पहले लिवर खराब होने के लक्षणों को जानना जरूरी है। जिससे समय रहते आपको पता रहे और इलाज सही समय पर हो सके। भारत में दस खतरनाक रोगों में से एक है लिवर की बीमारी। हर साल तकरीब दो लाख लोग लीवर की समस्या से मरते हैं।आइए जानेते है लीवर की कमजोरी के कारण और दूर करने के घरेलू उपाय-

लीवर क्या कार्य करता है : Function of liver in Hindi

भोजन के पाचन में लीवर का कार्य अहम् है। कार्बोहाइड्रेट्स को लिवर ग्लाइकोजन के रूप में शरीर में जमा करके रखता है और आवश्यकता पड़ने पर इसे ग्लूकोज के रूप में छोड़ता है। लिवर शरीर में नुकसान करने वाले पदार्थों को निष्क्रिय करता है और प्रोटीन बनाता है जिस से हम रक्तस्त्राव और इंफेक्शन से बचे रहते है। शारीरिक विकास के लिए लिवर कई प्रकार के पदार्थ बनाने में मदद करता है जैसे ग्लूकोज, खून, प्रोटीन. पित्त।

लीवर के रोग क्या हैं – What are liver disease in hindi

  1. लीवर में कैंसर
  2. पीलिया जॉन्डिस
  3. वायरल हैपेटाइटिस
  4. फैटी लीवर
  5. लीवर में सूजन

लीवर की बीमारी के कारण क्या हैं causes of liver disease in hindi

खाने पीने में लापरवाही बरतने पर लीवर से जुड़ी कई बीमारियां हो सकती हैं। गलत आदतों की वजह से लीवर खराब होने की आशंका सबसे ज्यादा होती है। जैसे शराब का अधिक सेवन करना, धूम्रपान अधिक करना, और अधिक नमक सेवन आदि।

  1. सिगरेट और शराब ज्यादा पीना
  2. दूषित मांस खाना, गंदा पानी पीना, मिर्च मसालेदार और चटपटे खाने का अधिक सेवन करना
  3. खाने में तेल मसाले ज्यादा प्रयोग करना
  4. जंक फूड का सेवन करना
  5. लगातार कई दिनों तक कब्ज रहना
  6. नकली दवाओं और एंटीबायोटिक दवाईयों का अधिक मात्रा में सेवन करना।

लीवर खराब होने पर शरीर में दिखाई देने वाले लक्षण – Symptoms in body when the liver is damaged in hindi

अगर आपको लीवर से जुड़ी बीमारियों के लक्षण मालूम हों तो उसका इलाज करना और रोकथाम करना बहुत आसान हो जाता है। अगर इनमें से कोई भी लक्षण रोगी में दिखे तो जरा सी भी लापरवाही न करें और तुरंत डॉक्टरी जांच कराएं।

  1. पाचन तंत्र में खराबी
  2. पेशाब का रंग पीला होना
  3. पेट में सूजन आना छाती में जलन और भारीपन का होना।
  4. भूख न लगने की समस्या, बदहजमी होना, पेट में गैस बनना।
  5. लिवर वाली जगह पर दबाने से दर्द होना
  6. आंखों और चेहरे पर पीलापन आना
  7. आंखों के नीचे डार्क सर्कल बनना
  8. मुंह का स्वाद खराब होना और मुँह से बदबू आना
  9. शरीर में आलस और कमजोरी होना

लीवर की कमजोरी दूर करने के घरेलू उपाय – Home remedies to treat liver weakness in hindi

आजकल जिगर से जुड़ी बीमारियां बढ़ रही हैं। खाना पचाने के लिए यह बहुत महत्वपूर्ण अंग है। वह लीवर ही है जो कार्बोहाइड्रेट को ग्लूकोज में बदलता है और टॉक्सिक पदार्थों को नष्ट करके प्रोटीन में तब्दील कर देता है। जिससे हमारा शरीर इन्फेक्शन से बचा रहता है। आइए जाने किन घरेलू नुस्खों को अपनाकर आप लीवर की कमजोरी दूर कर सकते हैं।

1. पालक और गाजर का सेवन लीवर की कमजोरी दूर करने के लिए

लीवर की गर्मी और सूजन कम करनी हो तो पालक और गाजर का जूस मिलाकर सुबह-शाम पीना चाहिए इस उपाय से लीवर की अनेक बीमारियां जल्दी ठीक हो जाती हैं।

लीवर सिरोसिस के लिए पालक व गाजर के रस का मिश्रण उत्‍तम इलाज है। दोनों की मात्रा समान होनी चाहिए। दिन में कम से कम एक बार इसका सेवन जरूर करना चाहिए।

2. फैटी लिवर ट्रीटमेंट के लिए हल्दी का सेवन

हल्दी एंटी सेप्टिक गुणों से भरपूर होती है जो लीवर पर रामबाण की तरह असर करती है। रात को सोने से पहले दूध में थोड़ी सी हल्‍दी मिलाकर पी जाएं तो लीवर की कमजोरी खत्म हो जाती है और उसे ताकत मिलती है।

3. सेब का सिरका सेवन लीवर की कमजोरी दूर करे

सेब का सिरका यानी एप्पल साइडर विनेगर शरीर के हानिकारक पदार्थों को बाहर निकाल सकता है। 1 दिन में कम से कम 2 बार एक एक चम्मच सेब का सिरका और शहद पानी में मिलाकर पीने से जिगर को ताकत मिलती है। खाना खाने से पहले सेब का सिरका पानी में मिलाकर पीने से एक ही अतिरिक्त चर्बी कम हो जाती है।

4. पपीता से करें लीवर की कमजोरी दूर

लीवर सिरोसिस के लिए पपीता रामबाण इलाज है। लीवर पर सूजन आ जाने पर रोज दो चम्मच पपीते का रस में ½ चम्मच नींबू का रस मिलाकर दिन में तीन बार लें। इस उपाय को एक महीने तक करें इससे लीवर की सूजन चली जाएगी।

(और पढ़े – पपीते के बीज के फायदे)

5. प्याज से करें लीवर की गर्मी दूर

रोजाना दिन में 2 बार 700 ग्राम प्याज खाने से लीवर सिरोसिस की बीमारी खत्म हो जाती है।

6. नींबू से करें लीवर की कमजोरी का इलाज

एक गिलास पानी में एक नींबू निचोड़कर और सेंधा नमक डालकर दिन में तीन बार तक पीने से जिगर की कमजोरी और गर्मी खत्म हो जाती है।

7. आंवला से करें फैटी लीवर का इलाज

विटामिन सी से भरपूर आंवला लीवर को सही तरीके से काम करने के लिए ताकत देता है। आंवले का चूर्ण या आंवले का रस 20 ग्राम नियमित दिन में तीन बार खाने से कुछ ही दिनों में यकृत की सारी बीमारियां समाप्त हो जाती हैं।

(और पढ़े – आंवला के फायदे, गुण, लाभ और नुकसान)

भूमि आंवला लीवर की तमाम समस्‍याओं को दूर करता है। इसे उखाड़कर जड़ सहित पीस लें और पी जाएं। लीवर का सूजन, लीवर का बढ़ना व पीलिया आदि रोगों में यह अत्‍यंत लाभकारी है।

8. लस्सी से करें लीवर की गर्मी दूर

यकृत में गर्मी बढ़ जाए तो एक गिलास लस्सी में जीरा इसीलिए काली मिर्च और हींग डालकर पिएँ। इससे यकृत की गर्मी निकल जाएगी।

9. वीट ग्रास है लीवर का आयुर्वेदिक इलाज

गेहूं के ज्वारे में बहुत से पोषक तत्व होते हैं जो लीवर को मजबूत बना सकते हैं। इसलिए लीवर की कमजोरी दूर करने के लिए गेहूं के ज्वारे को चबाकर या उसका जूस बनाकर सेवन करें।

(और पढ़े – व्हीटग्रास जूस (गेंहू के जवारे ) के फायदे)

10. मुलेठी की जड़से ठीक करे ख़राब लीवर को

लीकोरिस यानी मुलेठी एक ऐसी उपयोगी जड़ी बूटी है जिसके अपने बहुत स्वास्थ्य लाभ हैं। मुलेठी जिगर से जुड़े एंजाइम की उच्च गतिविधियों को कम करने में मदद करती है।

पानी को उबाल लें और उसमें मुलेठी की जड़ का पाउडर डाल दें। जब पानी ठंडा हो जाए तो उसे छानकर कर रख लें और दिन में दो बार सेवन करें। इसे चाय के बराबर लेना चाहिए। इससे ख़राब लीवर को ठीक किया जा सकता है।

11. अलसी के बीज से करे लीवर की कमजोरी दूर

अलसी के बीज को पीसकर टोस्‍ट या सलाद के साथ खाने से लीवर की बीमारियां नहीं होतीं। अलसी में फीटकोंस्टीटूएंट्स होता है जो हार्मोंन को रक्‍त में घूमने से रोकता है और लीवर का तनाव कम करता है।

(और पढ़े – अलसी के फायदे और नुकसान)

लीवर की सूजन दूर करने के उपाय – Remedies for swelling of liver in hindi

लीवर की सूजन दूर करने के लिए नीचे बताए गए तरीकों को कम से कम 1 महीने तक नियमित करने से आपको लाभ प्राप्त होगा।

  1. पानी का सेवन अधिक से अधिक करें। (और पढ़े –  क्या RO वाटर प्यूरीफायर का पानी पीना स्वास्थ्य के लिए हानिकारक है, जाने पूरा सच)
  2. मीठी चीजों के सेवन से बचें।
  3. रोटी की जगह हरी सब्जियां जैसे लौकी, पालक, करेला, गाजर, टमाटर और फल जैसे पपीता, आंवला, जामुन और लीची का खूब सेवन करें।
  4. सब्जियों में मिर्च मसाला कम से कम खाएं।
  5. लस्सी और छाछ का सेवन बहुत फायदेमंद रहेगा।
  6. घी और तेल में तली हुई चीजों का उपयोग कम से कम करें।

Leave a Comment

2 Comments

Subscribe for daily wellness inspiration