HDPE Grow Bagscontent/uploads/2023/01/HDPE-Grow-Bag-For-Home-Gardeing-1024x1024.jpg" alt="" width="810" height="810" class="alignnone size-large wp-image-105811" />
बीमारी

आंखों में जलन का कारण और इलाज – Eye irritation, causes and treatment in Hindi

आंखों में जलन का कारण और इलाज - Eye irritation causes, treatment in Hindi

अधिकाँश व्यक्ति आंखों में जलन होने की समस्या को महसूस करते हैं। यह समस्या कुछ सामान्य कारणों जैसे- आँखों में धूल, मिट्टी या साबुन जाने, मोबाइल का लम्बे समय तक उपयोग करने, पर्याप्त नींद न लेने, इत्यादि के कारण उत्पन्न हो सकती है। लेकिन आंख में जलन होना किसी गंभीर स्वास्थ्य समस्या का संकेत भी हो सकता है जो आपकी आंखो को नुकसान पहुंचाती है। अतः आंख में जलन होने के सामान्य लक्षणों को समझना तथा इसके कारणों का निदान करना आवश्यक होता है। आँखों में जलन के कई संभावित कारण हैं। आंखों में जलन के कुछ सामान्य कारणों, उनके लक्षणों और संभावित उपचार के बारे में जानने के लिए इस लेख को पूरा पढ़ें।

आंख में जलन – Eye irritation in Hindi

आंखों की जलन होना एक सामान्य समस्या है, जो आंखों में सूखापन, खुजली, दर्द या किरकिरापन जैसी भावना को व्यक्त करती है। अनेक कारक आंखों में जलन पैदा कर सकते हैं, कुछ तो बहुत सामान्य होते हैं जबकि कुछ स्वास्थ्य समस्याओं से सम्बंधित होते हैं

आंख में जलन होने पर उत्पन्न होने वाले लक्षण इस समस्या के कारणों पर निर्भर करते हैं। कभी-कभी ऐसा महसूस हो सकता है कि आंख में कुछ है। आंख लाल या सूजी हुई हो सकती है।

(और पढ़ें: क्या आँखों की इन बीमारियों को जानते हैं आप..)

आंखों में जलन के सामान्य लक्षण – Common symptoms of eye irritation in Hindi

आँखों में जलन की स्थिति में अनुभव किए जाने वाले विशिष्ट लक्षण इसके कारणों पर निर्भर करते हैं। हालांकि, आंखों में जलन के सबसे आम लक्षणों में शामिल हैं:

  • आँख लाल होना
  • आंख में दर्द होना
  • दिन के समय या रात में आंख में खुजली होना
  • पानी या आंसू से भरी आंखें
  • धुंधला दिखाई देना
  • आंख के अन्दर किरकिरापन महसूस होना
  • प्रकाश के प्रति संवेदनशीलता या रोशनी में आँखे ठीक से न खोल पाना।

(और पढ़ें: आंखों में खुजली के कारण, लक्षण और उपाय..)

आंखों में जलन के कारण – Eye irritation Causes in Hindi

आंखों में जलन के कारण - Eye irritation Causes in Hindi

आँख में जलन होने के कुछ संभावित कारण निम्न हैं:

एलर्जी के कारण आंखों में जलन – Allergies is the causes of eye irritation in Hindi

आंख की एलर्जी मुख्य रूप से आँखों में जलन का कारण बनती है। जब आप एलर्जी का कारण बनने वाले पदार्थ (एलर्जेन) के संपर्क में आते हैं, तो यह आपकी आंख की झिल्लियों को परेशान कर सकते हैं। अनेक पदार्थ आंखों की एलर्जी का कारण बन सकते हैं, जिनमें पराग कण, धूल कण, धुँआ, मोल्ड और पालतू जानवरों की रूसी शामिल हैं। एलर्जेन के संपर्क में आने के तुरंत बाद आमतौर पर लक्षण दोनों आंखों में दिखाई देते हैं। आंखों की एलर्जी से सम्बंधित लक्षणों को दूर करने के लिए उपचार के दौरान ओवर-द-काउंटर गोलियां या आई ड्रॉप की मदद ली जा सकती है।

(और पढ़ें: आंखों की एलर्जी दूर करने के घरेलू उपाय…)

आंखों की जलन का कारण ड्राई आई – Causes of Eye irritation Dry eye disease in Hindi

आंसू, आंखों को नम और चिकनाई युक्त रखने में मदद करते हैं। लेकिन अपर्याप्त आंसुओं की मात्रा या गुणवत्ता व्यक्ति की आँखों को नम नहीं रख पाती है, जिससे ड्राई आई (आँखों के सूखेपन) की समस्या विकसित होती है। डॉक्टर इस स्थिति को डिसफंक्शनल टियर सिंड्रोम (dysfunctional tear syndrome) कहते हैं। ड्राई आई डिजीज से सम्बंधित लक्षणों में शामिल हैं:

  • आंखों में जलन
  • आंख के अन्दर किरकिरापन महसूस होना
  • जलन के साथ दर्द होना
  • अधिक प्रकाश में आंख खुली रखने में परेशानी होना
  • धुंधला दिखाई देना

हल्की सूखी आंख का इलाज कृत्रिम आँसू के घोल (artificial tear solutions) से किया जा सकता है। यह उत्पाद किसी भी मेडिकल दुकानों पर उपलब्ध हैं। इसके अलावा व्यक्ति एक गर्म सेक का उपयोग कर और स्वयं पलकों की मालिश कर इस समस्या से छुटकारा पा सकता है।

आंख में जलन का कारण है संक्रमण – Eye irritation cause of Infection in Hindi

आंख में जलन का कारण है संक्रमण - Eye irritation cause of Infection in Hindi

विभिन्न प्रकार के बैक्टीरियल, वायरल या फंगल इन्फेक्शन आंखों में जलन होने का कारण बन सकते हैं। इसके अलावा आंख में संक्रमण की स्थिति में पीड़ित व्यक्ति कुछ अन्य लक्षण अनुभव कर सकता है, जिनमें शामिल हैं:

  • आंख के चारों ओर झिल्लियों की सूजन
  • आंखों में खुजली
  • आंख से तरल पदार्थ का स्राव
  • पलकों पर क्रस्टिंग (eyelid crusting)।

संक्रमण के प्रकार के आधार पर आँखों में जलन की समस्या का इलाज किया जाता है। वायरल संक्रमण की स्थिति में लक्षण आमतौर पर हल्के होते हैं और एक से दो सप्ताह में ठीक हो जाते हैं। यदि आपको बैक्टीरियल संक्रमण है, तो डॉक्टर इसका इलाज करने के लिए आई ड्रॉप के रूप में एंटीबायोटिक्स लिख सकता है। फंगल आई इन्फेक्शन (Fungal eye infections) का इलाज एंटिफंगल आई ड्रॉप या गोली के माध्यम से किया जा सकता है।

(और पढ़ें: कंजंक्टिवाइटिस (आँख आना) के कारण, लक्षण और घरेलू उपाय..)

आंखों में जलन होने के कारण आंख की चोट – Eye injuries causes irritation of the eye in Hindi

आँख में चोट लगना, आंखों में जलन होने का एक आम कारण है। आंख की चोट का कारण बनने वाली स्थितियों में निम्न शामिल हो सकती हैं, जैसे: किसी व्यक्ति या वस्तु द्वारा आंख पर प्रहार, आंख में किसी रसायन के छींटे चले जाना या आंख में धूल या रेत के कण प्रवेश कर जाना, इत्यादि।

आंखों की चोट निम्न लक्षणों के उत्पन्न होने का कारण बन सकती है:

  • आंख में दर्द
  • नज़र की समस्या
  • आंख में सूजन आना
  • पलकों पर कट लगना
  • आंख में जलन
  • आँख झपकने में समस्या
  • आंख के सफ़ेद भाग में खून दिखाई देना

आंख में चोट लगने की स्थिति में व्यक्ति को निम्न उपाय अपनाने की सलाह दी जाती है:

  • अगर किसी की आंख में बालू, कंकड़ या रसायन की छींटे लग जाए, तो उस व्यक्ति को नल के साफ़ पानी से आंख धोना चाहिए। आपातकालीन स्थिति में डॉक्टर की सहायता लेना आवश्यक है।
  • यदि आपकी आंख में चोट लग जाती है, तो दर्द और सूजन को कम करने के लिए ठंडा सेक (cold compress) का उपयोग करना चाहिए।

(और पढ़ें: लेजर आई सर्जरी कराने की प्रक्रिया, फायदे, नुकसान और कीमत..)

आंख में जलन होने का कारण गुहेरी – Eye irritation due to stye in Hindi

गुहेरी के कारण आंख में जलन होना - Eye irritation due to stye in Hindi

आंख की गुहेरी की स्थिति में व्यक्ति की आंखों में जलन उत्पन्न हो सकती है। इसके साथ ही गुहेरी के कारण पलक के आसपास दर्द और सूजन जैसे लक्षण दिखाई दे सकते हैं।

गुहेरी आमतौर पर अपने आप गायब हो जाती है और इसके घरेलू उपचार के लिए गर्म सेक (warm compresses) की मदद ली जा सकती है। इसके अलावा अन्य मामलों में गुहेरी का इलाज एंटीबायोटिक दवाओं या सर्जरी से किया जा सकता है।

(और पढ़ें: स्वस्थ आंखों के लिए खाद्य पदार्थ..)

आंखों में जलन के अन्य चिकित्सकीय कारण – Other medical conditions cause eye irritation in Hindi

अन्य बीमारियाँ या कुछ चिकित्सकीय स्थितियां, जो आंखों में जलन पैदा कर सकती हैं, उनमें शामिल हैं:

  • ब्लेफेराइटिस (Blepharitis) – पलकों में सूजन आने की स्थिति को ब्लेफेराइटिस के नाम से जाना जाता है।
  • ऑक्युलर रोसैसिया (Ocular rosacea) – ओकुलर रोसैसिया एक प्रकार का सूजन संबंधी रोग है, जो आंख में जलन, सूखापन, लालिमा और खुजली का कारण बनता है।
  • ग्लूकोमा (Glaucoma) – ग्लूकोमा नेत्र की ऑप्टिक तंत्रिका को नुकसान पहुंचता है। ग्लूकोमा वाले लोग सूखी आंख, आंखों में जलन, आंखों में दर्द इत्यादि लक्षण महसूस कर सकते हैं।
  • रूमेटाइड अर्थराइटिस (Rheumatoid arthritis) – यह पुरानी (क्रोनिक) सूजन संबंधी बीमारी है जो शरीर के अनेक हिस्सों को प्रभावित कर सकती है। यह कभी कभी आंख के सफेद भाग (श्वेतपटल) की सूजन का कारण बन सकता है, जिससे आंख में जलन, दर्द और आंख लाल होना आदि लक्षण प्रगट हो सकते है।
  • क्लस्टर का सिर दर्द (Cluster headaches) – क्लस्टर सिरदर्द एक दुर्लभ प्रकार का सिरदर्द है, जिसमें पीड़ित व्यक्ति को अक्सर आंख के पास लगातार गंभीर दर्द का अनुभव होता है। इससे आँखें लाल होना, आंखें आंसू से भरी होना और पलकों में सूजन और जलन जैसे लक्षण उत्पन्न हो सकते हैं।
  • मल्टीपल स्केलेरोसिस (Multiple sclerosis) – मल्टीपल स्केलेरोसिस के प्रारंभिक संकेत के रूप में दृष्टि संबंधी समस्याएं उत्पन्न होती है। यह लक्षण ऑप्टिक नर्व के सुरक्षात्मक आवरण में सूजन आने या क्षतिग्रस्त होने के कारण दिखाई देते हैं। मल्टीपल स्केलेरोसिस के आंखों से सम्बंधित लक्षणों में धुंधली दृष्टि, आंख में जलन और कम दिखाई देना शामिल हो सकता है।

(और पढ़ें: आंखों की जांच के लिए डॉक्‍टर के पास कब जाएं?..)

आंखों की जलन दूर करने के घरेलू इलाज – Eye irritation home remedies in Hindi

आंखों की जलन दूर करने के घरेलू इलाज - Eye irritation home remedies in Hindi

आंख में जलन होने पर आप कुछ घरेलू उपाय अपनाकर इस समस्या से छुटकारा पा सकते हैं। आंख की जलन को दूर करने के उपाय निम्न हैं:

  • आंखों को आराम देने और जलन को दूर करने के लिए आप खीरे को स्लाइस में काटें और अपने आँखों पर रखें। खीरे के स्लाइस को आप आँखों पर कुछ देर तक रखा रहने दें। इससे जलन और आंखों की थकान दोनों दूर हो जाती है।
  • आँखों की थकान और जलन को दूर करने के लिए व्यक्ति कच्चे आलू का इस्तेमाल कर सकते है। इस घरेलू उपचार को अपनाने के लिए आप एक कच्चे आलू को स्लाइस में काटकर फ्रीज में रखें। अब इसे अगली सुबह अपनी आँखों पर रखकर कुछ समय के लिए आराम करें।
  • आंखों में जलन होने की स्थिति में ठन्डे पानी से आँखों को धोना चाहिए, इसके अलावा आप सूती कपड़े को ठन्डे पानी में भिगो कर आँखों पर रख सकते हैं।
  • आँखों की जलन को कम करने के लिए आप मोबाइल, कंप्यूटर पर लगातार काम न करें। काम करने के दौरान एक नियमित अंतराल पर ब्रेक लें और आँखों को ठंडे पानी से धोएं।
  • ठंडा दूध आँखों की जलन को दूर करने का एक अच्छा घरेलू उपाय है। इस उपाय को अपनाने के लिए आप ठन्डे दूध में रूई को डुबाएं और फिर इसे आँख पर कुछ समय के लिए रखें। यह उपाय आप सुबह और शाम दोनों समय 10 से 15 मिनिट के लिए इस्तेमाल कर सकते हैं।
  • धूल, कंकड़ या अन्य सामग्री को आंख से बाहर निकालने और आँखों को साफ करने के लिए आप गुलाब जल का इस्तेमाल कर सकते है। आँखों में जलन और खुजली होने की स्थिति में आप गुलाब जल की एक या दो बूँद अपनी आँखों में डाल सकते हैं।
  • धूप और रेडिएशन से आँखों को सुरक्षित रखने के लिए धूप के चश्मे पहना चाहिए। चश्मे पहनने से धूप और रेडिएशन के कारण होने वाली आँखों की जलन को कम किया जा सकता है।

(और पढ़ें: आंखों की थकान दूर करने के घरेलू उपाय..)

आंखों में जलन होने से बचने के उपाय – Eye irritation prevention in Hindi

यदि आप आंख में जलन होने की समस्या से बचना चाहते हैं, तो आप निम्न उपाय अपना सकते हैं:

  • जीवनशैली में बदलाव कर आंख की अनेक समस्याओं से छुटकारा पाया जा सकता है। इसके लिए आपको धूम्रपान छोड़ने, स्क्रीन पर लम्बे समय तक काम न करने, धूप के चश्मे पहनने और आंख को शुष्क होने से रोकने की सलाह दी जाती है।
  • अगर आप कंप्यूटर पर वर्क करते हैं, तो काम के दौरान थोड़ी थोड़ी देर में ब्रेक लें। कंप्यूटर को आंखो से 20 से 25 इंच दूरी पर रखें, जिससे आंखे प्रभावित न हों।
  • आंखो की समस्याओं से बचने के लिए आँखों की सफाई बेहद जरुरी है। ड्राई आई की समस्या दूर करने के लिए आँखों के ड्राप का उपयोग कर सकते है।
  • प्रदूषण और तेज प्रकाश से आंखों को सुरक्षित रखने के लिए चश्मा पहनें।

(और पढ़ें: आंखों की रोशनी बढ़ाने के लिए क्या खाना चाहिए..)

आंखों में जलन का कारण, लक्षण और इलाज (Eye irritation causes, treatment in Hindi) का यह लेख आपको कैसा लगा हमें कमेंट्स कर जरूर बताएं।

इसी तरह की अन्य जानकारी हिन्दी में पढ़ने के लिए हमारे एंड्रॉएड ऐप को डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक करें। आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं।

Leave a Comment

Subscribe for daily wellness inspiration