गाजर के जूस के फायदे और नुकसान – Carrot Juice Benefits And Side Effects in Hindi

गाजर के जूस के फायदे और नुकसान - Gajar Juice Ke Fayde Aur Nuksan In Hindi
Written by Jaideep

Gajar Juice Ke Fayde Aur Nuksan In Hindi ताजा गाजर का जूस हमारे स्‍वास्‍थ्‍य के लिए बहुत ही लाभकारी होता है। क्‍योंकि गाजर के जूस को सभी जूस का राजा माना जाता है। यह केवल गाजर के रंग और स्‍वाद के कारण नहीं है। बल्कि गाजर में बहुत से पोषक तत्‍व और खनिज पदार्थ भी अच्‍छी मात्रा होते हैं जो हमें बहुत सी स्‍वास्‍थ्‍य समस्‍याओं से बचाते हैं। गाजर जूस के फायदे मस्तिष्‍क स्‍वास्‍थ्‍य को बढ़ावा देने, प्रतिरक्षा शक्ति को बढ़ाने, कोलेस्‍ट्रॉल को कम करने, कैंसर से बचाने, आंखों को स्‍वस्‍थ्‍य रखने और त्‍वचा संबंधी समस्‍याओं से छुटकारा दिलाने के लिए जाने जाते हैं। इस लेख में आप गाजर के जूस के फायदे और नुकसान की जानकारी प्राप्‍त करेगें।

1. गाजर का जूस क्‍या है – what is carrot juice in Hindi
2. गाजर के जूस के पोषक तत्‍व – carrot juice Nutrients in Hindi
3. गाजर जूस के फायदे हिंदी में – Gajar Ka Juice Ke Fayde In Hindi

4. गाजर का जूस पीने का सही समय – Gajar ka juice peene ka sahi samay in Hindi
5. गाजर का जूस बनाने की विधि – Gajar ka juice banane ki vidhi in Hindi
6. गाजर जूस पीने के नुकसान – Gajar ka juice pine ke nuksan in Hindi

गाजर का जूस क्‍या है – what is carrot juice in Hindi

गाजर का जूस क्‍या है - what is carrot juice in Hindi

हम सभी गाजर को पौष्टिक आहार के रूप में उपभोग करते हैं। गाजर का वैज्ञानिक नाम Daucus carota subsp या सैटाईवस है। गाजर केवल एक स्‍वादिष्‍ट खाद्य पदार्थ नहीं है। यह कंद सब्‍जी की श्रेणी में आता है। औषधीय गुणों से भरपूर होने के कारण आज इस कंद का व्‍यापक रूप में उत्‍पादन किया जा रहा है। गाजर की पत्तियां लगभग धनिया या अजवाइन के पत्‍तों से मिलती जुलती होती हैं। गाजर जमीन के अंदर होने वाला कंद है जिसका रंग लाल या नारंगी की तरह होता है।

(और पढ़े – गाजर खाने के फायदे और स्वास्थ्य लाभ और नुकसान…)

गाजर के जूस के पोषक तत्‍व – carrot juice Nutrients in Hindi

हम सभी स्‍वास्‍थ्‍य लाभ प्राप्‍त करने के लिए गाजर जूस का सेवन करते हैं। ऐसा इसलिए है कि गाजर के जूस में ऐसे पोषक तत्‍वों की अच्‍छी मात्रा होती है जो हमारे स्‍वास्‍थ्‍य को बढ़ावा देने में मदद करते हैं। 100 ग्राम ताजा गाजर के जूस में पाए जाने वाले पोषक तत्‍व इस प्रकार हैं।

  • बीटा कैरोटीन – 2.1 मिली ग्राम
  • विटामिन ए – 350 माइक्रोग्राम
  • विटामिन सी – 3 मिली ग्राम
  • विटामिन पीपी – 0.2 मिली ग्राम
  • विटामिन बी1 – 0.01 मिली ग्राम
  • विटामिन बी2 – 0.02 मिली ग्राम
  • विटामिन ई – 0.3 मिली ग्राम

इसके अलावा गाजर में खनिज पदार्थ में रूप में पोटेशियम, कैल्शियम, मैग्‍नीशियम, सोडियम, आयरन और फास्‍फोरस की अच्‍छी मात्रा होती है। गाजर के जूस में फ्लेवोनोइड्स, फाइटोनसाइड्स (phytoncides) और एंजाइम के साथ ही ऑर्गेनिक एसिड, मोनोसैकेराइड्स और डिसैकराइड्स (monosaccharides and disaccharides), स्‍टार्च भी होते हैं।

गाजर जूस के फायदे हिंदी में – Gajar Ka Juice Ke Fayde In Hindi

  1. गाजर के जूस के फायदे आंखों के लिए – Carrot juice benefits for eyes in Hindi
  2. गाजर का जूस पीने के लाभ मेटाबॉलिज्म बढ़ाये – Gajar Ka Juice Peene Ke Fayde For Metabolism In Hindi
  3. गाजर का रस पीने के फायदे मधुमेह के लिए – Gajar ka juice peene ke fayde For Diabetes in Hindi
  4. गाजर के जूस का उपयोग कैंसर के लिए – Carrot Juice Benefits For Treat Cancer in Hindi
  5. गाजर के जूस के गुण दिल को स्वस्थ रखें – Carrot juice benefits for healthy heart in Hindi
  6. गाजर जूस बेनिफिट्स फॉर स्किन – Carrot juice benefits for skin in Hindi
  7. गाजर जूस के औषधीय गुण प्रतिरक्षा शक्ति बढ़ाए – Gajar ka juice peene ke fayde For Boost Immune System in Hindi
  8. गाजर का जूस पीने का फायदा कोलेस्‍ट्रॉल कम करे – Carrot juice benefits for reduce cholesterol in Hindi
  9. गाजर जूस का इस्‍तेमाल गर्भावस्‍था के लिए – Carrot juice benefits during pregnancy in Hindi
  10. गाजर के जूस के गुण मस्तिष्‍क स्‍वास्‍थ्‍य के लिए – Carrot juice benefits for brain function in Hindi

आप अपने शरीर को स्‍वस्‍थ्‍य रखने के लिए गाजर के जूस का नियमित सेवन कर सकते हैं। यह आपकी स्‍वस्‍थ्‍य जीवनशै‍ली का अच्‍छा विकल्‍प हो सकता है। ऐसा इसलिए है क्‍योंकि गाजर के रस से आपको कई प्रकार के विटामिन प्राप्‍त होते हैं जो कि अन्‍य खाद्य पदार्थों में एक साथ नहीं मिलते हैं। नियमित और पर्याप्‍त मात्रा में गाजर जूस का सेवन आपकी कई स्‍वास्‍थ्‍य समस्‍याओं को प्रभावी रूप से दूर कर सकता है। आइए विस्‍तार से जाने गाजर जूस से प्राप्‍त होने वाले स्‍वास्‍थ्‍य लाभ क्‍या हैं।

गाजर के जूस के फायदे आंखों के लिए – Carrot juice benefits for eyes in Hindi

गाजर के जूस के फायदे आंखों के लिए - Carrot juice benefits for eyes in Hindi

बहुत से डॉक्‍टर आंखों की क्षमता बढ़ाने के लिए गाजर के जूस को पीने की सलाह देते हैं। इसके अलावा आप अपने शरीर को स्‍वस्‍थ्‍य रखने के लिए अपने आहार में गाजर को शामिल कर सकते हैं। गाजर के जूस में बीटा कैरोटीन, विटामिन ए आदि की अच्‍छी मात्रा होती है। ये घटक एक शक्तिशाली एंटीऑक्‍सीडेंट की तरह काम करता है। विटामिन ए आंखों की रक्षा करने में मदद करता है और देखने की क्षमता को बढ़ाता है। गाजर के जूस का सेवन करने से आंखों संबंधी विभिन्‍न स्‍वास्‍थ्‍य समस्‍याओं से छुटकारा पाया जा सकता है। गाजर जूस का उपयोग ध्‍ब्‍बेदार अध: पतन, मोतियाबिंद और रात का अंधापन जैसी समस्‍याओं का उपचार कर सकता है। इस तरह से आपकी स्‍वस्‍थ्‍य आंखों के लिए गाजर का जूस फायदेमंद होता है।

(और पढ़े – आँखों को स्वस्थ रखने के लिए 10 सबसे अच्छे खाद्य पदार्थ…)

गाजर का जूस पीने के लाभ मेटाबॉलिज्म बढ़ाये – Gajar Ka Juice Peene Ke Fayde For Metabolism In Hindi

गाजर का जूस पीने के लाभ मेटाबॉलिज्म बढ़ाये - Gajar Ka Juice Peene Ke Fayde For Metabolism In Hindi

आपके शरीर को ऊर्जा दिलाने के चयापचय प्रणाली का स्‍वस्‍थ्‍य रहना आवश्‍यक है। गाजर का जूस पीने से आपको पर्याप्‍त ऊर्जा मिलती है साथ ही यह कैलोरी में बहुत कम होता है। इसलिए आप अन्‍य पेय पदार्थों के स्थान पर गाजर जूस का उपभोग कर सकते हैं। गाजर का रस पित्‍त स्राव को बढ़ाता है जो कि चयापचय दर में वृद्धि कर सकता है। चयापचय क्रिया शरीर में भोजन को ऊर्जा में परिवर्तित करती है। 2006 में हुए एक अध्‍ययन से पता चलता है कि पित्‍त प्रवाह चयापचय प्रणाली को उत्‍तेजित करने में सहायक होता है। इस तरह से आप भी गाजर के जूस के फायदे प्राप्‍त कर सकते हैं।

(और पढ़े – चयापचय (मेटाबॉलिज्म) को बढ़ाने के तरीके…)

गाजर का रस पीने के फायदे मधुमेह के लिए – Gajar ka juice peene ke fayde For Diabetes in Hindi

गाजर का रस पीने के फायदे मधुमेह के लिए - Gajar ka juice peene ke fayde For Diabetes in Hindi

शरीर में उच्‍च रक्‍त शर्करा का स्‍तर हानिकारक हो सकता है। क्‍योंकि मधुमेह 1 बीमारी न होकर कई बीमारियों का कारण हो सकता है। आप अपने रक्‍त शर्करा के स्‍तर को नियंत्रित करने के लिए गाजर के रस का उपयोग कर सकते हैं। गाजर के जूस में पोटेशियम की अच्‍छी मात्रा होती है। जिसके कारण यह शरीर में कैलोरी और चीनी की मात्रा को कम करने में सहायक होता है। गाजर जूस का सेवन करने से पित्‍त स्राव को भी बढ़ावा मिलता है जो वसा को कम करने में सहायक होते हैं। यह मधुमेह को नियंत्रित करने के साथ ही वजन को भी घटाने में सहायक होता है।

(और पढ़े – टाइप 2 मधुमेह क्या है, कारण, लक्षण, उपचार, रोकथाम और आहार…)

गाजर के जूस का उपयोग कैंसर के लिए – Carrot Juice Benefits For Treat Cancer in Hindi

गाजर के जूस का उपयोग कैंसर के लिए - Carrot Juice Benefits For Treat Cancer in Hindi

पाचन की प्रक्रिया के बाद, कुछ हानिकारक कणों का उत्‍पादन होता है। इन कणों को मुक्‍त कण या फ्री रेडिकल्‍स के रूप में जाना जाता है। ये कण कोशिकाओं को नुकसान पहुंचाते हैं। लेकिन इन कणों की प्रभाविता को कम करने वाले एंटीऑक्‍सीडेंट की अच्छी मात्रा गाजर के जूस में मौजूद रहती है। ये एंटीऑक्‍सीडेंट कैंसर कोशिकाओं को नष्‍ट करने और इनके विकास को कम करने में सहायक होते हैं। अध्‍ययनों से पता चलता है कि प्रति 100 ग्राम गाजर में लगभग 9 प्रतिशत विटामिन सी, 33 प्रतिशत विटामिन ए और 5 प्रतिशत विटामिन बी6 होता है। ये सभी घटक आपस में मिलकर कैंसर के प्रभाव को रोकने में मदद करते हैं। यदि आप कैंसर की संभावनाओं को कम करना चाहते हैं तो गाजर के जूस का सेवन प्रारंभ कर सकते हैं।

(और पढ़े – क्या खाने से कैंसर का खतरा कम किया जा सकता है…)

गाजर के जूस के गुण दिल को स्वस्थ रखें – Carrot juice benefits for healthy heart in Hindi

गाजर के जूस के गुण दिल को स्वस्थ रखें - Carrot juice benefits for healthy heart in Hindi

हृदय स्‍वास्‍थ्‍य के लिए आपको संतुलित और पौष्टिक आहार की आवश्‍यकता होती है। आपको अपने शरीर को सक्रिय और स्‍वस्‍थ्‍य रखने के लिए पर्याप्‍त नींद लेना भी आवश्‍यक है। हालांकि हृदय स्‍वास्‍थ्‍य को प्रभावित करने के लिए तनाव भी एक प्रमुख कारण है। लेकिन आप इन सभी स्‍वास्‍थ्‍य समस्‍याओं और परेश‍ानियों को दूर करने के लिए गाजर के जूस का उपयोग कर सकते हैं। क्‍योंकि गाजर के जूस में मौजूद एंटीऑक्‍सीडेंट और फाइबर की उच्‍च मात्रा होती है। ये धमनियों से अवरोध को हटारकर स्‍वस्‍थ्‍य रक्‍त परिसंचरण को बढ़ावा देते हैं। इस तरह से गाजर का जूस अन्‍य समस्‍याओं को दूर करने के साथ ही हृदय को स्‍वस्‍थ्‍य रखने में मदद करता है।

(और पढ़े – दिल मजबूत करने के उपाय…)

गाजर जूस बेनिफिट्स फॉर स्किन – Carrot juice benefits for skin in Hindi

गाजर जूस बेनिफिट्स फॉर स्किन - Carrot juice benefits for skin in Hindi

स्‍वास्‍थ्‍य लाभ प्राप्‍त करने के साथ ही आप गाजर के जूस का उपयोग त्‍वचा को स्वस्थ्य रखने के लिए कर सकते हैं। गाजर के जूस में पोटेशियम की अच्‍छी मात्रा होती है जो कि एक एंटीऑक्‍सीडेंट है। इसके अलावा पर्याप्‍त मात्रा में खनिज पदार्थों की मौजूदगी त्‍वचा कोशिकाओं को स्‍वस्थ्‍य रखने में मदद करते हैं। गाजर में मौजूद पोषक तत्‍व त्‍वचा को युवा बनाने और त्‍वचा की शुष्‍कता को कम करने में मदद करते हैं। यदि आप किसी त्‍वचा समस्‍या से परेशान हैं तो गाजर जूस का इस्‍तेमाल करें। यह त्‍वचा के चकते, सोरायसिस आदि का प्रभावी रूप से इलाज कर सकता है। विटामिन सी के कारण गाजर का जूस बाहरी घावों और अन्‍य त्‍वचा संक्रमण को तेजी से ठीक करने में मदद करता है। इस तरह से गाजर जूस के लाभ त्‍वचा स्‍वास्‍थ्‍य को बढ़ावा देने में मदद करते हैं।

(और पढ़े – नेचुरल आयुर्वेदिक चीजें जो बनाएंगी त्वचा को गोरा और चमकदार..).

गाजर जूस के औषधीय गुण प्रतिरक्षा शक्ति बढ़ाए – Gajar ka juice peene ke fayde For Boost Immune System in Hindi

गाजर जूस के औषधीय गुण प्रतिरक्षा शक्ति बढ़ाए - Gajar ka juice peene ke fayde For Boost Immune System in Hindi

सामान्‍य स्‍वास्‍थ्‍य समस्‍याएं जैसे सर्दी, खांसी और जुकाम आदि कमजोर प्रतिरक्षा शक्ति के कारण होती हैं। लेकिन आप गाजर जूस का उपभोग कर प्रतिरक्षा शक्ति को बढ़ा सकते हैं। गाजर में मौजूद औषधीय गुण और एंटीऑक्‍सीडेंट बाहरी संक्रमण और जीवाणुओं से शरीर की रक्षा करते हैं। आप अपने दैनिक आहार में गाजर और गाजर के जूस को शामिल कर लाभ प्राप्‍त कर सकते हैं। गाजर के एंटीऑक्‍सीडेंट शरीर को फ्री रेडिकल्‍स के प्रभाव से बचाने और सूजन से लड़ने में मदद करते हैं। विटामिन सी की मौजूदगी आपकी रोग प्रतिरोधक क्षमता को वढ़ावा देती है जिससे आप सर्दी खांसी और जुकाम आदि समस्‍याओं से बच सकते हैं।

(और पढ़े – रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के उपाय…)

गाजर का जूस पीने का फायदा कोलेस्‍ट्रॉल कम करे – Carrot juice benefits for reduce cholesterol in Hindi

गाजर का जूस पीने का फायदा कोलेस्‍ट्रॉल कम करे - Carrot juice benefits for reduce cholesterol in Hindi

यदि आपको अपने शरीर के कोलेस्‍ट्रॉल को कम करने में परेशानी है तो गाजर का जूस आपकी मदद कर सकता है। वैसे तो कोलेस्‍ट्रॉल को नियंत्रित करने की बहुत सी दवाएं मौजूद हैं। लेकिन गाजर का जूस एक प्राकृतिक दवा है जो प्रभावी रूप से कोलेस्‍ट्रॉल को नियंत्रित कर सकती है। गाजर में पोटेशियम की उच्‍च मात्रा होती है जो कोलेस्‍ट्रॉल के स्‍तर को नियंत्रित करने में मदद करते हैं। शरीर में उचित कोलेस्‍ट्रॉल का स्‍तर हृदय स्‍वास्‍थ्‍य के लिए अच्‍छा होता है। कोलेसट्रॉल की अधिक मात्रा हृदय रोग, स्‍ट्रोक आदि की संभावना को बढ़ा सकते हैं। इस तरह से आप अपने दिल को स्‍वस्थ्‍य रखने और कोलेस्‍ट्रॉल को कम करने के लिए गाजर जूस का इस्‍तेमाल कर सकते हैं।

(और पढ़े – कोलेस्ट्रॉल कम करने के लिए भारतीय घरेलू उपाय और तरीके…)

गाजर जूस का इस्‍तेमाल गर्भावस्‍था के लिए – Carrot juice benefits during pregnancy in Hindi

गाजर जूस का इस्‍तेमाल गर्भावस्‍था के लिए - Carrot juice benefits during pregnancy in Hindi

महिलाओं के लिए गर्भावस्‍था एक संवेदनशील स्थिति होती है। इस दौरान गाजर का रस पीना फायदेमंद होता है। ऐसा इसलिए है क्‍योंकि गाजर के जूस से कैल्शियम, फोलेट, पोटेशियम, मैग्‍नीशियम आदि की अच्‍छी मात्रा प्राप्‍त होती है। कैल्शियम भ्रूण की हड्डियों को मजबूत करने और उन्‍हें विकसित करने में सहायक होता है। फोलेट जन्‍म दोष को कम करने में मदद करता है। इसके अलावा विटामिन सी और विटामिन ए महिलाओं को कई प्रकार के संक्रमण आदि से बचाता है। इस तरह से गाजर का जूस गर्भवती महिलाओं और उनके भ्रूण के लिए लाभकारी होता है।

(और पढ़े – गर्भावस्था के दौरान खाये जाने वाले आहार और उनके फायदे…)

गाजर के जूस के गुण मस्तिष्‍क स्‍वास्‍थ्‍य के लिए – Carrot juice benefits for brain function in Hindi

गाजर के जूस के गुण मस्तिष्‍क स्‍वास्‍थ्‍य के लिए - Carrot juice benefits for brain function in Hindi

बीटा कैरोटीन की मौजूदगी के कारण गाजर का जूस संज्ञानात्‍मक कार्य में सुधार कर सकता है। इसके अलावा यह बढ़ती उम्र के कारण याददाश्‍त की कमी को भी रोकने में मदद करता है। नियमित रूप से गाजर के जूस का उपभोग ऑक्‍सीडेटिव तनाव को कम करने में मदद करता है। जिससे आपके मानसिक स्‍वास्‍थ्‍य मे वृद्धि होती है। एक अध्‍ययन में पाया गया कि जो लोग नियमित रूप से गाजर और गाजर के जूस का सेवन करते हैं उनमें ऑक्‍सीडेटिव तनाव का स्‍तर कम रहता है। इस तरह से आप भी अपने मस्तिष्‍क स्‍वास्‍थ्‍य को बढ़ावा देने के लिए गाजर के जूस का उपयोग कर सकते हैं।

(और पढ़े – मानसिक रोग के लक्षण, कारण, उपचार, इलाज, और बचाव…)

गाजर का जूस पीने का सही समय – Gajar ka juice peene ka sahi samay in Hindi

गाजर का जूस कब पिए इस सवाल का जवाब बहुत से लोग जानना चाहते हैं, आप अपने अच्‍छे स्‍वास्‍थ्‍य के लिए गाजर के जूस का उपभोग किसी भी समय कर सकते हैं। क्‍योंकि यह आपको तुरंत ऊर्जा दिलाने में मदद करता है। लेकिन यदि सुबह के समय आप गाजर के जूस को पीते हैं तो यह और अधिक फायदेमंद होता है। क्‍योंकि इस दौरान आपको अधिक ऊर्जा की आवश्‍यकता होती है। इस तरह से गाजर के जूस पीने का सही समय सुबह का होता है। लेकिन आप इसे नाश्‍ते के बाद, दोपहर के भोजन के पहले या शाम को नाश्‍ते के वक्त पी सकते हैं।

(और पढ़े – सुबह के नाश्ते में ये खाएंगे तो रहेंगे फिट…)

गाजर का जूस बनाने की विधि – Gajar ka juice banane ki vidhi in Hindi

गाजर का जूस बनाने की विधि - Gajar ka juice banane ki vidhi in Hindi

विभिन्‍न प्रकार की स्‍वास्‍थ्‍य समस्‍याओं से बचने के लिए गाजर का जूस सबसे अच्‍छा विकल्‍प है। गाजर का जूस बनाना बहुत ही आसान है। इस जूस को बनाने के लिए आपको चाहिए :

4 मध्‍ययम आकार के गाजर, 1 कप पानी, 1 बड़ा चम्‍मच कटा हुआ अदरक और 1 छोटा चम्‍मच नींबू का रस

गाजर को इस्तेमाल करने से पहले पानी से अच्‍छी तरह से धो लें। इसके बाद इन्‍हें छोटे-छोटे टुकड़ों में काट लें। अब अदरक, पानी और गाजर को मिलाकर किसी ब्‍लैंडर की मदद से पीस कर घोल बना लें। इस रस को एक गिलास में छान लें और फिर ऊपर से इसमें नींबू के रस को मिलाएं। इस तरह से आप स्‍वादिष्‍ट गाजर का जूस तैयार कर सकते हैं।

(और पढ़े – संतुलित आहार किसे कहते हैं…)

गाजर जूस पीने के नुकसान – Gajar ka juice pine ke nuksan in Hindi

गाजर जूस पीने के नुकसान - Gajar ka juice pine ke nuksan in Hindi

एक स्‍वस्‍थ्‍य और अच्‍छे आहार के रूप में गाजर के जूस का उपयोग किया जात है। लेकिन कुछ लोगों की शारीरिक क्षमता और स्थिति के अनुसार गाजर का रस उन्‍हें नुकसान पहुंचा सकता है। इसलिए गाजर के जूस का सेवन करते समय सावधानी रखना चाहिए।

  • मधुमेह रोगी को गाजर का जूस अधिक मात्रा में सेवन से बचना चाहिए।
  • क्‍योंकि गाजर के रस में केंद्रित शर्करा होती है जो रक्‍त शर्करा के स्‍तर को बढ़ा सकती है।
  • कुछ लोगों को गाजर और इससे संबंधित अन्‍य खाद्य पदार्थों से एलर्जी हो सकती है। इसलिए जिन लोगों को गाजर या मूली आदि से एलर्जी होती है उन्‍हें इनका सेवन नहीं करना चाहिए।
  • स्‍तन पान कराने वाली महिलाओं को गाजर के रस को अधिक मात्रा में सेवन नहीं करना चाहिए। क्‍योंकि यह दूध उत्‍पादन को प्रभावित कर सकता है।
  • कुछ लोगों में गाजर के जूस का अधिक सेवन करने से दस्‍त और पेट संबंधी अन्‍य परेश‍ानियां हो सकती है।

(और पढ़े – ब्रेस्ट मिल्क (मां का दूध) बढ़ाने के लिए क्या खाएं…)

Leave a Comment

Subscribe for daily wellness inspiration