संतुलित आहार (बैलेंस डाइट) किसे कहते हैं और क्या खाएं - Balanced Diet in Hindi
हेल्थ टिप्स

संतुलित आहार किसे कहते हैं – Balanced Diet in Hindi

संतुलित आहार (बैलेंस डाइट) किसे कहते हैं और क्या खाएं - Balanced Diet in Hindi

Balanced Diet in Hindi एक संतुलित आहार वह है जो आपके शरीर को सही तरीके से काम करने के लिए आवश्यक पोषक तत्व प्रदान करता है। दुनिया का प्रत्येक व्यक्ति स्वस्थ जीवन जीना चाहता हैं और रोग मुक्त रहना चाहता हैं। स्वस्थ जीवन के लिए संतुलित आहार बहुत ही महत्वपूर्ण होता हैं बैलेंस डाइट से हमारे शरीर को पर्याप्त ऊर्जा मिलती हैं। यह आहार रोगों से लड़ने के लिए प्रतिरोधक क्षमता को बढाता हैं। संतुलित आहार हमारे शरीर के विकास में बहुत योगदान करता हैं और हमारे दिमाग को तेज करता हैं। आइये संतुलित आहार (बैलेंस डाइट) के बारे में विस्तार से जानते हैं।

विषय सूची

1. संतुलित आहार क्या है – What is balanced diet in Hindi
2. आइये जानते है कैलोरी के बारे में – About calories in Hindi
3. संतुलित आहार क्यों महत्वपूर्ण है – Why a balanced diet is important in Hindi
4. संतुलित आहार कैसे प्राप्त करें – How to achieve a balanced diet in Hindi

5. संतुलित आहार में तेल का प्रयोग कम करें – Oils should be used sparingly in Hindi

संतुलित आहार क्या है – What is balanced diet in Hindi

संतुलित आहार क्या है - What is balanced diet in Hindi

संतुलित आहार वह आहार होता हैं जो आपके शरीर को सही ढंग से कार्य करने के लिए पोषक तत्व प्रदान करता हैं, अपने आहार में उचित पोषण प्राप्त करने के लिए आपको दैनिक आहार में अधिकांश कैलोरी का उपभोग करना चाहिये, एक संतुलित आहार में पर्याप्त मात्रा में प्रोटीन, कार्बोहाइड्रेट और वसा, विटामिन और खनिज जैसे तत्व मौजूद होते हैं। संतुलित आहार के लिए आपको नियमित रूप से ताजे फल, ताजी सब्जियाँ, साबुत अनाज, सूखे मेवे, फलियां, लीन प्रोटीन (lean proteins) आदि का सेवन करना चाहियें।

(और पढ़े – संतुलित आहार के लिए जरूरी तत्व, जिसे अपनाकर आप रोंगों से बच पाएंगे…)

आइये जानते है कैलोरी के बारे में – About calories in Hindi

आइये जानते है कैलोरी के बारे में - About calories in Hindi

भोजन में कैलोरी की संख्या उस भोजन में संग्रहीत ऊर्जा की मात्रा का एक माप होता हैं, आपके शरीर को कोई भी छोटे से छोटे कार्य को करने के लिए जैसे चलने, सोचने, साँस लेने आदि के लिए कैलोरी की आवश्यकता होती हैं, किसी भी व्यक्ति को अपना औसत वजन को बनायें रखने के लिए हर दिन लगभग 2000 कैलोरी खाने के आवश्यकता होती हैं। यह कैलोरी मान प्रत्येक व्यक्ति को आयु, लिंग,और शारीरक कार्य पर निर्भर करता हैं। पुरषों में सामान्यतः महिलों की अपेक्षा अधिक कैलोरी के आवश्यकता होती हैं।

दैनिक कैलोरी के सेवन का उदाहरण संयुक्त राज्य अमेरिका कृषि विभाग (यूएसडीए) दिशानिर्देशों पर आधारित हैं:

  • 2 से 8 साल के बच्चे के लिए: 1000 से 1,400 कैलोरी
  • 9 से 13 साल की लड़कियां: 1,400 से 1,600 कैलोरी
  • 9 से 13 साल के लड़के के लिए: 1,600 से 2,000 कैलोरी
  • 14 से 30 साल की सक्रिय महिलाएं: 2,400 कैलोरी
  • 14 से 30 साल की गतिहीन महिलाएं: 1,800 से 2,000 कैलोरी
  • 14 से 30 साल के सक्रिय पुरुष: 2,800 से 3,200 कैलोरी
  • 14 से 30 साल की आयु के गतिहीन पुरुषों: 2,000 से 2,600 कैलोरी
  • 30 साल से अधिक सक्रिय पुरुषों और महिलाओं: 2,000 से 3,000 कैलोरी
  • 30 साल से अधिक उम्र के पुरुषों और महिलाओं: 1,600 से 2,400 कैलोरी

(और पढ़े – कैलोरी क्या है, मात्रा, चार्ट, कम कैलोरी वाले आहार और कैलोरी बर्न कैसे करें…)

संतुलित आहार क्यों महत्वपूर्ण है – Why a balanced diet is important in Hindi

संतुलित आहार क्यों महत्वपूर्ण है - Why a balanced diet is important in Hindi

संतुलित आहार आपके अंगों और ऊतकों को प्रभावी ढंग से कम करने के लिए महत्वपूर्ण होता हैं, संतुलित आहार में सभी प्रकार के आवश्यक तत्व जैसे विटामिन A, विटामिन B1, विटामिन C, एस्कॉर्बिक एसिड और लौह तत्व आदि होते हैं जो कि आपकी रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाते हैं और आपको बीमारी, संक्रमण, थकान से आदि से बचाते हैं। संतुलित आहार बच्चों के विकास में मदद करता हैं। भारत में मोटापे और मधुमेह का बढ़ता स्तर एक खराब आहार और व्यायाम की कमी के प्रमुख उदाहरण हैं। एक उदाहरण के अनुसार अमेरिका में मोटापे और मधुमेह के बढ़ते स्तर का प्रमुख कारण संतुलित आहार की कमी हैं इसकी वजह से दिल की बीमारी, कैंसर, आघात, मधुमेह जैसी बीमारियाँ होती हैं।

(और पढ़े – मधुमेह को कम करने वाले आहार…)

संतुलित आहार कैसे प्राप्त करें – How to achieve a balanced diet in Hindi

अपने भोजन से ही संतुलित आहार प्राप्त किया का सकता हैं, ऐसे खाद्य पदार्थ जिसमे अनावश्यक वसा की मात्रा और शर्करा की मात्रा कम हो और साथ ही उसमे विटामिन, खनिज पदार्थ, पोषक तत्व की मात्रा अधिक हो। नीचे संतुलित आहार को प्राप्त करने के लिए कुछ खाद्य पदार्थो को दिया जा रहा हैं जो कि आपको संतुलित आहार में मदद करेगा।

संतुलित आहार में फल खाएं – fruit for balanced diet in Hindi

संतुलित आहार में फल खाएं - fruit for balanced diet in Hindi

सामान्यतः हम सभी को यह जानकारी हैं कि फल स्वास्थ्य के लिए लाभदायक होते हैं, फल पोषण का एक बड़ा स्त्रोत हैं, इसके साथ यह हमारे भोजन को स्वादिष्ट बनाते हैं, हमें मौसम के अनुसार फलों का सेवन करना चाहिये जिससे की आपको हमेशा ताजे फल मिलते रहें, क्योंकि ताजे फल सबसे अधिक पोषक तत्व प्रदान करते हैं। फलों में चीनी की मात्रा अधिक होती हैं, यह प्राकृतिक चीनी होती हैं, अगर आप मीठा खाना पसंद करते हैं तो फल उसके स्थान पर एक अच्छा विकल्प हो सकता हैं, अगर आप मधुमेह जैसे समस्या से परेशान हैं तो आप कम चीनी वाले फलों का सेवन कर सकते हैं, जो लोग कार्बोहाइड्रेट के सेवन के लिए फल खाना चाहते हैं तो वो लोग खरबूजे और एवोकैडो जैसे फलों को अपने आहार में लें सकते हैं।

(और पढ़े – जानें फल खाने का सही समय क्या है…)

संतुलित आहार के लिए सब्जियां खाएं – Vegetables for balanced diet in Hindi

संतुलित आहार के लिए सब्जियां खाएं - Vegetables for balanced diet in Hindi

भोजन को स्वादिष्ट बनाने के लिए हम सब विभिन्न प्रकार की सब्जियों का प्रयोग प्रतिदिन करते हैं, सब्जियों में आवश्यक विटामिन और खनिज पदार्थ पाए जाते हैं, हरे पत्तेदार सब्जिओं में आमतौर में सबसे अधिक पोषक तत्व होते हैं और इनको किसी भोजन में खाया जा सकता हैं, अलग अलग प्रकार की सब्जियों को खाने से हमें सभी प्रकार के सभी प्रकार के आवश्यक खनिज पदार्थ प्राप्त होते हैं। सब्जियां हमारी रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाती हैं जो कि बीमारी से लड़ने में मदद करती हैं। भिन्न-भिन्न प्रकार की सब्जियां मौसम के हिसाब से शरीर में ठंडाई और गर्मी पैदा करती हैं।

(और पढ़े – अच्छी सेहत के लिए विटामिन डी युक्त भोजन…)

संतुलित आहार में जरूर लें प्रोटीन – Proteins for balanced diet in Hindi

संतुलित आहार में जरूर लें प्रोटीन - Proteins for balanced diet in Hindi

बैलेंस डाइट का सबसे प्रमुख अंग प्रोटीन होता हैं, मांस और फलियां संतुलित आहार में प्रोटीन का मुख्य स्त्रोत हैं, प्रोटीन हमारे शरीर की मांसपेशियों और मष्तिस्क के विकास के लिए बहुत आवश्यक होता हैं, कम वसा वाले मांस जैसे चिकिन, मछली और मांस आदि प्रोटीन के अच्छे विकल्प हो सकते हैं। इसके अलावा सूखे मेवा और फलियां प्रोटीन के अच्छे स्त्रोत होते हैं इसमें फाइबर और अन्य पोषक तत्व भी होते हैं, इसको खाने से कई प्रकार के अन्य स्वास्थ लाभ भी होते हैं, प्रोटीन आवश्यक कैलोरी ऊर्जा को प्रदान करते हैं जिसकी हमारे शरीर को आवश्यकता होती हैं। इसके अलावा मसूर की दाल, फलियां, मटर, बादाम, अखरोट और अन्य सोया आधारित उत्पाद शाकाहारी लोगों के लिए प्रोटीन के अच्छे स्त्रोत होते हैं।

(और पढ़े – शाकाहारियों के लिए प्रोटीन युक्त खाद्य पदार्थ…)

संतुलित आहार में कार्बोहाइड्रेट को करें शामिल – Grains for balanced diet in Hindi

संतुलित आहार में कार्बोहाइड्रेट को करें शामिल - Grains for balanced diet in Hindi

हमारे शरीर को ऊर्जा प्रदान करने का प्रमुख स्त्रोत कार्बोहाइड्रेट हैं, कार्बोहाइड्रेट प्राप्त करने का सबसे अच्छा स्त्रोत अनाज को माना जाता हैं, अधिकांस लोग किसी भी अन्य अनाज की तुलना में रिफाइंड सफ़ेद आटे प्रयोग करते हैं, रिफाइंड सफ़ेद आटे में पोषक तत्व का स्तर कम होता हैं क्योंकि अनाज के बाहरी खोल या परत को रिफाइंड प्रक्रिया के दौरान हटा दिया जाता हैं, अनाज में पोषक तत्व की सबसे अधिक मात्रा अनाज के बाहरी खोल में होता हैं। कार्बोहाइड्रेट के कुछ अन्य स्त्रोत जैसे दालें, चावल, पास्ता, जड़ वाली सब्जियां आदि आते है।

(और पढ़े – स्वस्थ आहार के प्रकार और फायदे…)

संतुलित आहार में लें डेयरी उत्पाद – Dairy products for balanced diet in Hindi

संतुलित आहार में लें डेयरी उत्पाद - Dairy products for balanced diet in Hindi

हम सब घर में रोज किसी न किसी प्रकार से डेयरी उत्पाद का प्रयोग करते ही हैं और यह भी जानते हैं की यह हमारे शरीर के लिए लाभकारी होते हैं, इन उत्पादों में कैल्शियम, विटामिन डी, और अन्य आवश्यक पोषक तत्व होते हैं जो कि हमारे स्वास्थ के लिए फायदेमंद होते हैं, यह वसा के प्रमुख स्त्रोत होते हैं कैल्शियम हमारी हड्डियों को मजबूत बनाता हैं, यह हमारी शरीर के विकास में बहुत मदद करता हैं, इसके लाभों को देख के आप दूध, दही, पनीर, और दूध से बने पदार्थो का सेवन नियमित रूप से करें।

(और पढ़े – टोफू (सोया पनीर) के फायदे और नुकसान…)

संतुलित आहार में तेल का प्रयोग कम करें – Oils should be used sparingly in Hindi

संतुलित आहार में तेल का प्रयोग कम करें - Oils should be used sparingly in Hindi

तेलों को संयम से इस्तेमाल किया जाना चाहिए। अधिक तेल का प्रयोग हमारे शरीर के हानिकारक होता हैं, इसलिए अपने भोजन में कम वसा वाले और कम चीनी वाले पदार्थो का प्रयोग करना चाहियें, आप चटनी और मेयोनेज़ का प्रयोग अपने आहार में कर सकते हैं, जैतून के तेल का प्रयोग आप अन्य फैटी वनस्पति तेल के स्थान पर कर सकते हैं, अधिक मसाले वाले भोजन करने से बचें।

अपने भोजन में संतुलित आहार को लेने के अलावा आपको कुछ येसे पदार्थो का कम सेवन करना चाहिए जो कि आपके स्वास्थ के लिए हानिकारक होते हैं जैसे

(और पढ़े – सरसों के तेल के फायदे स्वास्थ्यवर्धक लाभ और नुकसान…)

यदि आपके पास संतुलित आहार के बारे में प्रश्न हैं या आपको लगता है कि आपको अपना वजन कम करने या अपने खाने की आदतों को बदलने की आवश्यकता है, तो अपने डॉक्टर या आहार विशेषज्ञ से मिलने का समय निर्धारित करें। वे आहार परिवर्तन का सुझाव दे सकते हैं जो आपके समग्र स्वास्थ्य को बढ़ावा देते हुए आपको आवश्यक पोषण प्राप्त करने में मदद करेंगे।

इसी तरह की अन्य जानकरी हिन्दी में पढ़ने के लिए हमारे एंड्रॉएड ऐप को डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं। और आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।

Leave a Comment

2 Comments

Subscribe for daily wellness inspiration