स्वस्थ आहार के प्रकार और फायदे – Healthy food Benefits in Hindi

स्वस्थ आहार के प्रकार और फायदे – Healthy food Benefits in Hindi
Written by Pratistha

Healthy food Benefits in Hindi: स्वस्थ आहार का पालन कर आप लंबा और स्वस्थ जीवन बिता सकते हैं। स्वस्थ आहार के फायदे आपके स्‍वस्‍थ्‍य जीवन का आधार होते हैं। आपके द्वारा लिये जाने वाले आहार ही आपके स्‍वास्‍थ्‍य का निर्धारण करते हैं। आप जिस तरह का खान-पान रखेगें आपका शारीरिक स्‍वास्‍थ्‍य उसी प्रकार का होगा। स्‍वस्‍थ आहार से तात्‍पर्य ऐसे खाद्य पदार्थ जो आपके संपूर्ण स्‍वास्‍थ्‍य को बढ़ावा देने के लिए पर्याप्‍त पोषक तत्‍व उपलब्ध कराते हैं। स्वस्थ आहार के फायदे इस उदाहरण से समझा जा सकता है कि कुछ खाद्य पदार्थ आपके वजन को कम करने में सहायक होते हैं तो वहीं कुछ ऐसे भी खाद्य पदार्थ हैं जो कम वजन वाले लोगों में वजन को बढ़ाने (Weight gain) में मदद करते हैं। बस यही फर्क है स्‍वस्‍थ्‍य आहार में और अन्‍य सामान्‍य आहार में।

1. स्वस्थ आहार के लिए खाएं ताजे फल – Fruits For Healthy Diet in Hindi
2. पौष्टिक आहार के लिए उपयोग करें अंडे और मीट – Eggs And Meats For Healthy Food in Hindi
3. हेल्‍दी फूड के लिए नट, बीज और मूंगफली – Nuts, Seeds and Peanuts For Healthy Food in Hindi
4. संतुलित आहार में मछली और समुद्री भोजन – Santulit Aahar Me Fish And Seafood in Hindi
5. स्‍वस्‍थ आहार में शामिल करें अनाजों को – Cereals for healthy Food in Hindi
6. स्‍वस्‍थ आहार में उपयोग करें फलियां – Swasth Aahar Me Upyog Kare Legumes In Hindi
7. पौष्टिक आहार में इस्‍तेमाल करें डेयरी उत्‍पाद – Dairy Products For Healthy Food in Hindi
8. स्वस्थ आहार के प्रकार वसा और तेल – Swasth Aahar Ke Prakar Fat And Oil in Hindi
9. स्‍वस्‍थ आहार में शामिल करने वाले कंद – Swasth Aahar Shamil Karne Bale Kand in Hindi
10. स्वस्थ आहार है सेब का सिरका – Healthy food for Apple Cider Vinegar in Hindi
11. पौष्टिक आहार है डार्क चॉकलेट – Postik Aahar Hai Dark Chocolate in Hindi

स्वस्थ आहार के लिए खाएं ताजे फल – Fruits For Healthy Diet in Hindi

स्वस्थ आहार के लिए खाएं ताजे फल - Fruits For Healthy Diet in Hindi

हमे अच्‍छे स्‍वास्‍थ्‍य (Good health) के लिए स्वस्थ आहार की आवश्‍यकता होती है। लेकिन स्वस्थ आहार की पूर्ति के लिए केवल अनाजों पर निर्भर नहीं रहा जा सकता है। पौष्टिक आहार के रूप में आप ताजे फलों (Fresh fruits) का उपयोग कर सकते हैं क्‍योंकि वे पोषक तत्‍वों के साथ-साथ स्‍वादिष्‍ट भी होते हैं। आप इन्‍हें अपने आहार में आसानी से शामिल कर सकते हैं, क्‍योंकि ये आसानी से उपलब्‍ध हो जाते हैं और इन्‍हें खाने के लिए ज्‍यादा तैयारी करने की आवश्‍यकता नहीं होती है। आइऐ जाने स्वस्थ आहार के रूप में उपयोग किये जाने वाले फलों के बारे में।

सेब (Apples) : फाइबर और विटामिन सी के साथ ही विभिन्‍न प्रकार के एंटीऑक्‍सीडेंट की अच्‍छी मात्रा सेब में मौजूद रहती है। यदि आप भोजन करने के बाद भी भूख का अनुभव करते हैं तो सेब (Apple) आपके लिए एक अच्‍छा विकल्‍प हो सकता है।

एवोकैडो (Avocado) : यह अन्‍य फलों से अलग होते हैं, क्‍योंकि इनमें कार्बोस के बजाय स्‍वस्‍थ वसा अच्‍छी मात्रा में होती हैं। इनके अलावा एवोकैडो में पोटेशियम, फाइबर और विटामिन C की अच्‍छी मात्रा होती है। अपने अच्‍छे स्‍वाद (Good taste) के कारण आप इसे अपने स्‍वस्‍थ आहार में शामिल कर सकते हैं।

(और पढ़े – एवोकाडो खाने के फायदे और स्वास्थ्य लाभ…)

संतरा (Oranges) : ओरेंज विटामिन सी के लिए जाना जाता है। इसके अलावा अपने पौष्टिक गुणों के रूप में फाइबर, एंटीऑक्‍सीडेंट का अच्‍छा स्रोत होता है।

स्‍ट्रॉबेरी (Strawberries) : कार्बोस और कैलोरी की बहुत ही कम मात्रा के कारण स्‍ट्रॉबेरी उन लोगों के लिए स्‍वस्‍थ आहार होता है जो अपना वजन कम करना चाहते हैं। स्‍ट्रॉबेरी में विट‍ामिन सी, फाइबर और मैंगनीज (Fiber and Manganese) की अच्‍छी मात्रा होती है जो कि इसे स्‍वस्‍थ आहार बनाते हैं।

केला (Blueberries) : पोटेशियम की अच्‍छी मात्रा के लिए केला सबसे अच्‍छा स्रोत माना जाता है। इनमें विटामिन बी6 और फाइबर भी अधिक मात्रा में होते हैं।

(और पढ़े – जानें फल खाने का सही समय क्या है…)

पौष्टिक आहार के लिए उपयोग करें अंडे और मीट – Eggs And Meats For Healthy Food in Hindi

पौष्टिक आहार के लिए उपयोग करें अंडे और मीट - Eggs And Meats For Healthy Food in Hindi

अपने शरीर को स्‍वस्‍थ्‍य रखने के लिए सभी प्रकार के आहारों की आवश्‍यकता होती है। जिनमें शाकाहार और मांसाहार दोनो प्रकार के आहार होते हैं। आप अपने शरीर को अतिरिक्‍त पोषण दिलाने के लिए मांसाहार श्रेणी में आने वाले खाद्य पदार्थों का सेवन कर सकते हैं। आइए जाने इनमें किस प्रकार के पोषक तत्‍व होते हैं जो हमारे अच्‍छे स्‍वास्‍थ्‍य को बढ़ावा देते हैं।

अंडे (Eggs) : आपको यह जानकर थोड़ी हैरानी जरूर होगी कि अंडे दुनिया में सबसे पौष्टिक खाद्य पदार्थों में से एक है। पहले अंडों को लेकर एक मानसिकता बनी थी कि कोलेस्‍ट्रॉल (Cholesterol) की अधिक मात्रा के कारण अंडे स्‍वास्‍थ्‍य पर नकारात्‍मक प्रभाव डालते हैं। लेकिन नए अध्‍ययनों से यह स्‍पष्‍ट होता है कि अंडे का सेवन पूरी तरह से सुरक्षित है।

मांस (Meats) : समाज में यह एक मिथक है कि सभी मांस हानिकारक होते हैं। अच्‍छी तरह से पका हुआ या धीरे-धीरे पकाये गए मांस सबसे स्‍वस्‍थ और पोष्टिक होते हैं।

(और पढ़े – चिकन के फायदे और नुकसान…)

चिकन ब्रेस्‍ट (Chicken Breasts) : वसा और कैलोरी की मात्रा चिकन ब्रेस्‍ट में बहुत ही कम होती है, लेकिन यह प्रोटीन से भरपूर होता है। इसमें बहुत से पोषक तत्‍व अधिक मात्रा में होते हैं।

मेमने का मांस (Lamb) : भेड़ को आमतौर पर घास खिलाई जाती है। भेड़ विभिन्‍न प्रकार की पत्तियों और जड़ी-बूटीयों का सेवन करती है साथ ही इसके मांस में ओमेगा-3 फैटी एसिड (Omega-3 Fatty Acid) की अच्‍छी मात्रा होती है। इसलिए यह आपके लिए एक अच्‍छा और पौष्टिक आहार हो सकता है।

(और पढ़े – शाकाहारियों के लिए प्रोटीन युक्त खाद्य पदार्थ…)

हेल्‍दी फूड के लिए नट, बीज और मूंगफली – Nuts, Seeds and Peanuts For Healthy Food in Hindi

हेल्‍दी फूड के लिए नट, बीज और मूंगफली - Nuts, Seeds and Peanuts For Healthy Food in Hindi

आपके लिए सूखे मेवे (dry fruits), और बीजों का सेवन वसा और कैलोरी की अधिक मात्रा होने के बाद भी फादेमंद होता है। अध्‍ययनों से पता चलता है कि इस प्रकार के खाद्य पदार्थों का उपयोग कर वजन को कम किया जा सकता है। इन खाद्य पदार्थों में पोषक तत्‍व (Nutrients) अच्‍छी मात्रा में होते हैं जिनमें मैग्‍नीशियम और विटामिन ई आदि शामिल हैं। आइए जाने स्‍वस्‍थ आहार (Healthy Diet) में किन्‍हें शामिल करना चाहिए।

चिया बीज (Chia Seeds) : एसा माना जाता है कि चिया बीज धरती पर सबसे ज्यादा पोषक तत्वों वाले खाद्य पदार्थों में से एक है। चिया बीज के 1 औंस (लगभग 28 ग्राम) मात्रा में 11 ग्राम फाइबर होता है,और मैग्‍नीशियम मैंगनीज, कैल्शियम और कई खनिज पदार्थ शामिल होते हैं। इस प्रकार आप इनका नियमित सेवन करके इसे अपने स्‍वस्‍थ आहार में शामिल कर सकते हैं।

अखरोट (Walnuts) : अखरोट अत्‍यधिक पौष्टिक होता है। क्‍योंकि इसमें फाइबर की अच्‍छी मात्रा होती है साथ इसमें सभी प्रकार के विटामिन भी भरपूर मात्रा में होते हैं।

(और पढ़े – अखरोट के फायदे और नुकसान…)

नारियल (Coconuts) : फाइबर और शक्तिशाली फैटी एसिड की अच्‍छी मात्रा नारियल में मौजूद रहती है, जिन्‍हें मध्‍यम श्रृंखला ट्राइग्लिसराइड्स (Medium chain triglycerides) कहा जाता है। इस कारण से यह हमारे शरीर के लिए बहुत ही फायदेमंद होता है।     

मुंगफली (Peanuts) : तकनीकी रूप से मूंगफली कोई फल नहीं है बल्कि ये फलियों से संबंधित होते हैं। मूंगफली में एंटीऑक्‍सीडेंट और पोषक तत्‍वों की अच्‍छी मात्रा होती है साथ ही यह बहुत ही स्‍वादिष्‍ट होते हैं। अध्‍ययनों से पता चलता है कि मूंगफली (peanut) अतिरिक्‍त वजन को कम करने में सहायक होते हैं।

बादाम (Almonds) : सूखे फलों में सबसे लोकप्रिय फल के रूप में बादाम (Almonds) को जाना जाता है। बादाम विटामिन ई, एंटीऑक्‍सीडेंट, मैग्‍नीशियम और फाइबर से भरे होते हैं। अध्‍ययनों से पता चलता है कि बादाम आपके वजन को कम करने (Lose weight) और आपकी स्‍मृति को बढ़ाने में मदद करते हैं।

(और पढ़े – वसा के स्रोत, फायदे और नुकसान…)

संतुलित आहार में मछली और समुद्री भोजन – Santulit Aahar Me Fish And Seafood in Hindi

संतुलित आहार में मछली और समुद्री भोजन - Santulit Aahar Me Fish And Seafood in Hindi

स्‍वस्‍थ्‍य और संतुलित आहार में मछली और समुद्री भोजन (fish and seafood) का अपना एक विशेष स्‍थान है। ये बहुत ही पौष्टिक और स्‍वस्‍थ होते हैं। इनमें विशेष रूप से ओमेगा-3 फैटी एसिड और आयोडीन (Iodine) की अच्‍छी मात्रा होती है। ये दो ऐसे पोषक तत्‍व हैं जो कि अधिकांश  लोगों को पर्याप्‍त मात्रा में नहीं मिलते हैं। अध्‍ययनों से पता चलता है कि जो लोग समुद्री भोजन करते हैं वे लोग लंबे समय तक जीवित रहते हैं। साथ ही उन्‍हें हृदय रोग, डिमेंशिया और अवसाद (Dementia and depression) सहित कई बीमारियों का खतरा भी कम होता है। आइए जाने समुद्री भोजन (Seafood) के बारे में जाने ।

झींगा (Shrimp) : समुद्र में पाए जाने जीवों में झींगा भी शामिल है। झींगा में वसा और कैलोरी की मात्रा बहुत ही कम होती है लेकिन इनमें प्रोटीन बहुत अधिक मात्रा में होता है। झींगा में सेलेनियम और विटामिन बी12 (selenium and vitamin B12) सहित अन्‍य बहुत से पोषक तत्‍व भी अच्‍छी मात्रा में होते हैं।

(और पढ़े – झींगा खाने के फायदे और नुकसान…)

सैल्मन (Salmon) : समुद्र में पाई जाने वाली एक प्रकार की मछली जिसे सेल्‍मन के नाम से जाना जाता है। यह अपने विशिष्‍ट स्‍वाद और इसमें फायदेमंद तेल मौजूद रहता है। सैल्‍मन मछली में प्रोटीन और ओमेगा-3 फैटी एसिड (Omega-3 Fatty Acid) के साथ-साथ अन्‍य पोषक तत्‍व भी अच्‍छी मात्रा में मौजूद रहते हैं। इसके अलावा इस मछली से विटामिन डी की आंशिक मात्रा भी प्राप्‍त की जा सकती है।

शैल्फिश (Shellfish) : अक्‍सर देखा जाता है कि अधिकतर लोगों द्वारा शैल्फिश का उपयोग खाने के रूप में नहीं किया जाता है। जबकि यह अन्‍य खाद्य पदार्थों की तुलना में बहुत ही फायदेमंद और पोष्टिक होती है। यदि पौष्टिक आहारों के साथ इसकी तुलना की जाए तो यह किसी आर्गन मीट (organ meats) के समान होता है। खाने योग्‍य शैल्फिश में क्‍लैम्‍स, मोलस्‍क और ऑयस्‍टर शामिल हैं।

ट्यूना फिश (Tuna) : पश्चिमी देशों में ट्यूना मछली को बहुत अधिक पसंद किया जाता है। क्‍योंकि इसमें वसा और कैलोरी की मात्रा कम होती है साथ ही इसमें प्रोटीन की भरपूर मात्रा होती है। इस कारण इसे स्‍वस्‍थ आहार में शामिल किया जा सकता है।

(और पढ़े – टूना मछली के फायदे और नुकसान…)

स्‍वस्‍थ आहार में शामिल करें अनाजों को – Cereals for healthy Food in Hindi

स्‍वस्‍थ आहार में शामिल करें अनाजों को – Cereals for healthy Food in Hindi

भारत जैसे देशों में मानव जीवन का प्रमुख आधार अनाज ही हैं। हम और आप सभी अनाजों का भरपूर सेवन करते हैं। लेकिन सभी अनाजों का एक साथ उपयोग करना उचित नहीं है। क्‍योंकि कुछ अनाज (Grain) हमारे स्‍वास्‍थ्‍य के लिए अच्‍छे होते हैं तो कुछ स्‍वास्‍थ्‍य के लिए बहुत अच्‍छे होते हैं। कुछ खाद्य अनाजों में कार्बोहाइड्रेट की अच्‍छी मात्रा होती है। इ‍सलिए कम कार्बोहाइड्रेट (Low carbohydrate) वाले खाद्य पदार्थों का सेवन करने की सलाह दी जाती है। आइए जाने स्‍वस्‍थ आहार में शामिल आनाजों के बारे में।

ओट्स (Oats) : आपके स्‍वास्‍थ्‍य के लिए ओट्स पर भरोसा किया जा सकता है। ये पोषक तत्‍वों से भरपूर होते हैं साथ इनमें बीटा-ग्‍लुकन नामक शक्तिशाली फाइबर भी होते हैं जो हमारे स्‍वास्‍थ्‍य के लिए लाभकारी होती है।

क्विनोआ (Quinoa) : हाल ही बीते कुछ से क्विनोआ लोगों के बीच बहुत ही लोकप्रिय होता जा रहा है। यह एक स्‍वादिष्‍ट आहार है जो फाइबर और मैग्‍नीशियम जैसे पोषक तत्‍वों में समृद्ध होता है। यह पौधे आधारित प्रोटीन का भी अच्‍छा स्रोत (Good source) माना जाता है।

(और पढ़े – किनोआ के फायदे और स्वास्थ्य लाभ…)

ब्राउन चावल (Brown Rice) : चावल सबसे पुराने अनाजों में से एक है जो लगभग दुनिया की आधी आवादी द्वारा मुख्‍य भोजन के रूप में उपयोग किया जाता है। ब्राउन चावल बहुत ही पौष्टिक है जिसमें विटामिन बी1 और मैग्‍नीशियम (magnesium) की अच्‍छी मात्रा होती है।

अंकुरित गेहूं (Wheat germ) :  गेंहूं का अंकुरित भाग गेहूं का वह हिस्‍सा है जो बीज के भ्रूण है जो पौधे के रूप में बढ़ने के लिए अंकुरित होता है। इसमें कई पोषक तत्‍व जैसे विटामिन ई, फोलिक एसिड (folic acid), थियामिन, जिंक, मैग्‍नीशियम, फॉस्‍फोरस, फैटी एसिड और फैटी अल्‍कोहल (fatty alcohols) की अच्‍छी मात्रा होती है। गेहूं के अंकुरित हिस्‍से में फाइबर भी अच्‍छी मात्रा में होते हैं। इसलिए अंकुरित गेहूं (Sprouted wheat) को हमारे स्‍वस्‍थ आहार में शामिल किया जाना चाहिए।

(और पढ़े – संतुलित आहार के लिए जरूरी तत्व , जिसे अपनाकर आप रोंगों से बच पाएंगे…)

स्‍वस्‍थ आहार में उपयोग करें फलियां – Swasth Aahar Me Upyog Kare Legumes In Hindi

स्‍वस्‍थ आहार में उपयोग करें फलियां - Swasth Aahar Me Upyog Kare Legumes In Hindi

आपके स्‍वस्‍थ्‍य आहार में शामिल करने के लिए एक फलियां (legumes) भी मौजूद हैं। फलियां स्‍वास्‍थय के लिए बहुत ही उपयोगी होती हैं। लेकिन इन्‍हें गलत तरीके से पेश किया जाता है। यह सच है कि फलियों में एंटी-पोषक तत्‍व (anti-nutrients) होते हैं जो पाचन और पोषक तत्‍वों के अवशोषण में हस्‍तक्षेप कर सकते हैं।

लेकिन इन फलियों का सेवन करने से पहले इन्‍हें अच्‍छी तरह से तैयार कर इन गुणों को दूर किया जा सकता है। फलियों में प्रोटीन की बहुत अधिक मात्रा होती है। जो इसे हमारे लिए बहुत अधिक स्‍वास्‍थ्‍यकर (hygienic) बनाते हैं।

हरी सेम (Green Beans) : बहुत से लोग हरी सेम को स्ट्रिंग बीन्‍स के नाम से भी जानते हैं। कच्‍ची सब्‍जी के रूप में उपयोग की जाने वाली हरी सेम की बहुत सी प्रज‍ातियां हैं। इस प्रकार की बीन्‍स को पश्चिमी देशों में बहुत अधिक पसंद किया जाता है। इनमें पोषक तत्‍वों की अच्‍छी मात्रा होती है।

मसूर (Lentils) : एक विशेष प्रकार की दाल और फलियों के रूप में मसूर को जाना जाता है। मसूर में फाइबर की अधिक मात्रा होती है साथ ही यह पौधे आधारित प्रोटीन (plant-based protein) के भी अच्‍छे स्रोत माने जाते हैं। इसे भारत में दैनिक आहार के रूप उपयोग किया जाता है।

किडनी बीन्‍स (Kidney Beans) : गुर्दे सेम विभिन्‍न विटामिन और खनिजों (Vitamins and minerals) से भरे होते हैं। इनमें फाइबर की उपलब्‍धता भी अच्‍छी होती है। लेकिन इनका सेवन करते समय ध्‍यान दें कि इन्‍हें अच्‍छे पकाया जाना चाहिए। क्‍योंकि कच्‍चे (Raw) होने पर ये जहरीले हो सकते हैं।

(और पढ़े – राजमा के फायदे और नुकसान…)

पौष्टिक आहार में इस्‍तेमाल करें डेयरी उत्‍पाद – Dairy Products For Healthy Food in Hindi

पौष्टिक आहार में इस्‍तेमाल करें डेयरी उत्‍पाद - Dairy Products For Healthy Food in Hindi

कुछ लोगों द्वारा डेयरी उत्‍पाद का सेवन करना रूचि पूर्ण नहीं होता है। लेकिन जो लोग डेयरी उत्‍पादों का उपयोग कर सकते हैं उनके लिए यह बहुत से पोषक तत्‍वों का संग्रह होता है। पूर्ण वसा वाले डेयरी उत्‍पाद सबसे अच्‍छे माने जाते हैं। अध्‍ययन बताते हैं कि जो लोग पूर्ण वसा वाले डेयरी उत्‍पाद खाते हैं उनमें मोटापे और मधुमेह टाइप 2 का जोखिम कम होता है। यदि आप घास खाने वाली गायों से प्राप्‍त डेयरी उत्‍पादों का उपयोग करते हैं तो यह आपके लिए और भी अधिक फायदेमंद होता है।

दूध (Whole milk) : विटामिन और खनिजों की अच्‍छी मात्रा दूध में मौजूद रहती है। साथ ही दूध में पशू प्रोटीन और वसा की उच्‍च मात्रा भी होती है। दूध को कैल्शियम का अच्‍छा स्रोत माना जाता है।

पनीर (Cheese) : डेयरी उत्‍पादों के रूप में उपयोग किया जाने वाला पनीर बहुत ही पौष्टिक होता है। ऐसा माना जाता है कि पनीर का एक टुकड़ा 1 कप दूध के बराबर होता है। यह सबसे स्‍वादिष्‍ट खाद्य पदार्थों में से एक है जिसे आप अपने आहार में शामिल कर सकते हैं।

दही (Yogurt) : दूध से ही दही बनाया जाता है। जिसमें जीवित बैक्‍टीरिया होते हैं। हमारे शरीर के लिए अच्‍छे माने जाने वाले प्रोबायोटिक बैक्‍टीरिया के अतिरिक्‍त लाभ के साथ ही दही दूध के समान स्‍वास्‍थ्‍य लाभ दिलाने में मदद करता है।

(और पढ़े – दही खाने से सेहत को होते हैं ये बड़े फायदे…)

स्वस्थ आहार के प्रकार वसा और तेल – Swasth Aahar Ke Prakar Fat And Oil in Hindi

स्‍वस्‍थ्‍य आहार के प्रकार वसा और तेल - Swasth Aahar Ke Prakar Fat And Oil in Hindi

स्‍वास्‍थ्‍य के लिए वसा और तेल बहुत ही उपयोगी और फायदेमंद होते हैं। वसा की नियंत्रित मात्रा आपके संपूर्ण स्‍वास्‍थ्‍य को बेहतर बनाए रखने में सहायक होते हैं।

गाय का मक्‍खन (Butter) : घास खाने वाली गायों से प्राप्‍त दूध से निर्मित मक्‍खन में बहुत ही फायदेमंद पोषक तत्‍व होते हैं। गाय के मक्‍खन में विशेष रूप से विटामिन K2 होता है जो कि स्‍वास्‍थ्‍य के लिए बहुत ही लाभकारी होता है।

(और पढ़े – छाछ के फायदे और नुकसान…)

जैतून तेल (Extra Virgin Olive Oil) : अब तक के सभी ज्ञात वसा स्रोत में जैतून के तेल को सबसे स्‍वस्‍थ वसा माना जाता है। इसमें हृदय-स्‍वस्‍थ रखने वाले एकल असंतृप्त (Monounsaturated) वसा मौजूद रहता है। साथ ही इस तेल में एंटीऑक्‍सीडेंट भी भरपूर मात्रा में होते हैं जो कि स्‍वास्‍थ्‍य लाभ दिलाने में हमारी मदद करते हैं।

नारियल तेल (Coconut Oil) : नारियल तेल में शक्तिशाली फैटी एसिड होता है जिसे मध्यम श्रृंखला ट्राइग्लिसराइड्स (medium chain triglycerides) कहा जाता है। नारियल के तेल का उपभोग करने पर अल्‍जाइमर रोग को दूर करने में मदद मिल सकती है साथ ही पेट में मौजूद वसा को कम करने में भी नारियल तेल सहायक होता है।

(और पढ़े – नारियल तेल के फायदे, उपयोग और नुकसान…)

स्‍वस्‍थ आहार में शामिल करने वाले कंद – Swasth Aahar Shamil Karne Bale Kand in Hindi

स्‍वस्‍थ आहार में शामिल करने वाले कंद - Swasth Aahar Shamil Karne Bale Kand in Hindi

ट्यूबर कुछ पौधों के भंडारण अंग होते हैं। इनमें बहुत से पोषक तत्‍वों को संग्रहीत करके रखा जाता है। आइए जाने स्‍वस्‍थ आहार में शामिल किये जाने वाले कंद आहारों के बारे में।

आलू (Potatoes) : दुनिया भर में आलू का उपयोग एक लोकप्रिय खाद्य के रूप में किया जाता है। आलू पोटेशियम से भरे होते हैं और विटामिन सी के अलावा भी अन्‍य सभी पोषक तत्‍व अच्‍छी मात्रा में होते हैं। एक अध्‍ययन में बताया गया है कि उबले आलू अन्‍य खाद्य पदार्थों की अपेक्षा ज्‍यादा पौष्टिक होते हैं।

स्वीट पोटेटोस (Sweet Potatoes) : स्‍वादिष्‍ट और स्‍टार्चयुक्‍त खाद्य पदार्थ के रूप में मीठे आलू का सेवन किया जा सकता है। इनमें स्‍टार्च की अच्‍छी मात्रा होने के साथ-साथ एंटीऑक्‍सीडेंट और स्‍वस्‍थ पोषक तत्‍व भी अच्‍छी मात्रा में होते हैं।

(और पढ़े – शकरकंद के फायदे और नुकसान…)

स्वस्थ आहार है सेब का सिरका – Healthy food for Apple Cider Vinegar in Hindi

स्‍वस्‍थ्‍य आहार है सेब का सिरका – Healthy food for Apple Cider Vinegar in Hindi

एप्‍पल साइडर विनेगर स्‍वास्‍थ्‍य के लिए बहुत ही फायदेमंद माना जाता है। अध्‍ययनों से पता चलता है कि यह रकत शर्करा के स्‍तर को कम करने में मदद करता है। साथ यह कम मात्रा में वजन को भी कम कर सकता है। आप सेब के सिरका का उपयोग सलाद के साथ भी कर सकते हैं।

(और पढ़े – सेब के सिरके के फायदे, लाभ, गुण और नुकसान…)

पौष्टिक आहार है डार्क चॉकलेट – Postik Aahar Hai Dark Chocolate in Hindi

पौष्टिक आहार है डार्क चॉकलेट - Postik Aahar Hai Dark Chocolate in Hindi

न केवल स्‍वादिष्‍ट आहार के रूप में डार्क चॉकलेट को जाना जाता है बल्कि यह स्‍वास्‍थ्‍य के लिए भी बहुत अच्‍छा होता है। डार्क चॉकलेट में फाइबर और मैग्‍नीशियम की अच्‍छी मात्रा होती है। चॉकलेट में एंटीऑक्‍सीडेंट भी अच्‍छी मात्रा में होते हैं जो हमारी प्रतिरक्षा को बढ़ाने में सहायक होते हैं।

(और पढ़े – क्या आप जानते हैं चॉकलेट खाने के फायदे और नुकसान के बारे में…)

स्वास्थ्य और सेहत से जुड़े अन्य लेख पढ़ने के लिए नीचे दिए गए टॉपिक पर क्लिक करें

घरेलू उपाय | फैशन और ब्यूटी टिप्स | रिलेशनशिप टिप्स | जड़ीबूटी | बीमारी | महिला स्वास्थ्य | सवस्थ आहार |

Leave a Comment

1 Comment

Subscribe for daily wellness inspiration