हेल्दी रेसपी

दही खाने से सेहत को होते हैं ये बड़े फायदे – Health Benefits of Eating Curd (Yogurt) in Hindi

दही खाने के फायदे और नुकसान - Curd (Yogurt) Benefits and Side Effects in Hindi

दही को कैल्शियम का पावर हाउस माना जाता है। ताजा, मलाईदार और घर का बना एक कटोरी दही सबसे सरल भोजन में से एक है। यह उच्च गुणवत्ता वाली प्रोटीन का सबसे बढ़िया स्रोत है। आज आप जानेगे दही खाने के फायदे, उपयोग और दही के नुकसान के बारे में। दही पोषक तत्वों से भरपूर होता है क्योंकि यह विटामिन और खनिजों का उत्कृष्ट स्रोत है। दही का स्वास्थ्य के साथ-साथ सौंदर्य निखारने में भी महत्वपूर्ण स्थान है। दही में खनिज और कैलोरी की मात्रा उतनी ही पायी जाती है जितनी कि दूध में पायी जाती है, जिससे दही बनता है।

इसलिए दही कैल्शियम, प्रोटीन, विटामिन ए, राइबोफ्लेविन, फॉस्फोरस, विटामिन बी -2, विटामिन बी -12, पोटेशियम और मैग्नीशियम का महत्वपूर्ण स्रोत है। दही में उतना ही पोटैशियम पाया जाता है जितना कि केले में पाया जाता है।

पुराने समय से दही का उपयोग भोजन के रूप में किया जाता है। नियमित दही का सेवन करने से स्वास्थय को कई बड़े फायदे होते हैं। यह पाचन क्रिया को मजबूत करता है और प्रतिरक्षा तंत्र की क्रिया को बेहतर रखता है। आज हम आपको बताने जा रहे हैं कि दही कैसे बनाया जाता है, इसके अलावा दही खाने के फायदे और दही के नुकसान के बारे में भी।

विषय सूची

दही कैसे बनाया जाता है – How Is Curd (Yogurt) Made in Hindi

सेहत और स्‍वाद के लिए दही एक लोकप्रिय डेयरी उत्पाद है। दूध में बैक्टीरिया के किण्वन द्वारा दही बनाया जाता है। दही में मौजूद बैक्टीरिया लैक्टोज का किण्वन करते हैं। इस दौरान लैक्टिक एसिड बनता है। यह एक ऐसा पदार्थ है जो दूध को जमाकर दही बनाने में मदद करता है और दही में स्वाद उत्पन्न करता है। वैसे तो सभी प्रकार के दूध से दही बनाया जाता है लेकिन दूध से मलाई हटाकर बनाया गया दही वसा रहित होता है जो वजन को संतुलित रखने में मदद करता है। सादा दही ज्यादा सफेद, गाढ़ा और स्वाद में बढ़िया होता है। बाजार में बिकने वाले डिब्बा बंद दही में शुगर की अधिक मात्रा होती है जो स्वास्थ्य की दृष्टि से ज्यादा अच्छा नहीं माना जाता है। जबकि सादे दही में प्राकृतिक मिठास होती है जो स्वास्थ्य के लिए काफी फायदेमंद होता है।

दही खाने के फायदे – Benefits of Curd (Yogurt) in Hindi

स्‍वास्‍थ्‍य के लिए दही के फायदे कई हैं। लेकिन हम उनमें से आपको सबसे महत्वपूर्ण फायदों के बारे में बताने जा रहे हैं। दही के साथ एक फायदा यह है कि यह पेट के लिए हल्का होता है और दूध की तुलना में पचाने में आसान होता है। यदि आप इसके फायदे नहीं जानते हैं, तो यहां दही के प्रभावशाली स्वास्थ्य लाभ बताये जा रहें हैं।

दही खाने के फायदे हड्डियों को मजबूत बनाने में – Curd (Yogurt) Benefits for strong bones in Hindi

अनुमानतः एक कटोरी दही में लगभग 275 ग्राम कैल्शियम पाया जाता है। इसलिए अगर आपकी हड्डियां कमजोर हैं या जोड़ों में तकलीफ है तो नियमित भोजन में दही को शामिल करना आपके लिए फायदेमंद हो सकता है। इससे सिर्फ हड्डियां ही नहीं मजबूत रहती हैं बल्कि हड्डियों से संबंधित रोगों से भी हमें निजात मिलता है। दही ऑस्टियोपोरोसिस की समस्या को भी कम करता है। दोपहर के भोजन के बाद नियमित एक कप दही का सेवन हड्डियों को मजबूत रखने के लिए सबसे सर्वोत्तम तरीका है।

संयुक्त राज्य अमेरिका के कृषि विभाग के अनुसार एक कप दही (250 ग्राम) में लगभग 275mg कैल्शियम होता है। कैल्शियम की दैनिक खुराक न केवल हड्डियों के घनत्व को बनाए रखने में मदद करती है, बल्कि उन्हें मजबूत भी करती है।

(और पढ़ें – हड्डियों को मजबूत बनाने के घरेलू उपाय)

दही के फायदे वजन घटाने में – Curd (Yogurt) Benefits Aids weight loss in Hindi

हाल ही में हुए एक शोध में पाया गया है कि जो लोग नियमित स्नैक्स की जगह दही का सेवन करते हैं उनके शरीर से कैलोरी की मात्रा तेजी से घटती है। इसके अलावा पेट की चर्बी भी कम होती है। ऐसे लोग स्वस्थ एवं तंदुरूस्त रहते हैं और मोटापे से पैदा होने वाली बीमारियों से भी उनके शरीर की रक्षा होती है। यह वसा और कैलोरी में कम है और इस प्रकार, यह आपके वजन को नियंत्रित रखने में भी मदद कर सकता है।

(और पढ़ें – वजन कम करने के उपाय)

सुंदर और स्वस्थ त्वचा के लिए दही खाने के फायदे – Benefits of Eating Curd for Beautiful and healthy skin in Hindi

दही का आपकी त्वचा पर एक मॉइस्चराइजिंग प्रभाव होता है और यह आपकी ड्राई स्किन को प्राकृतिक रूप से ठीक करता है। पेट संबंधी समस्याओं के कारण बहुत से लोग मुँहासे से पीड़ित रहते हैं। दही आंत को स्वस्थ करने में मदद करता है जिससे स्वस्थ और सुंदर त्वचा प्राप्त होती है। दही फेस पैक के लिए एक उत्कृष्ट सौंदर्य सामग्री है भी क्योंकि इसमें लैक्टिक एसिड होता है जो एक स्किन एक्सफ़ोलीएटर के रूप में काम करता है और त्वचा से सभी मृत कोशिकाओं और दाग-धब्बों को साफ करता है।

दही के फायदे एक्सरसाइज के बाद खाने से – Curd (Yogurt) Benefits for Faster workout recovery in Hindi

स्‍वादिष्‍ट दही के सभी किस्मों में ग्रीक दही को स्वास्थ्य के लिए सबसे ज्यादा लाभवर्धक माना जाता है। ग्रीक दही में प्रोटीन और कार्बोहाइड्रेट उचित अनुपात में पाया जाता है। एक्सरसाइज या जिम करने के बाद ग्रीक दही खाने से यह सेहत के लिए काफी फायदेमंद साबित होता है। अगर आप जिम या एक्सरसाइज करने के एक घंटे के भीतर ग्रीक दही का सेवन करते हैं। तो यह आपके शरीर में अमीनो एसिड उत्पन्न करता है और मांसपेशियों की मरम्मत करने में सहायता करता है। ग्रीक दही में एक गिलास पानी मिलाकर इसे अच्छी तरह फेंट लें और फिर पी जाएं। यह आंतों द्वारा पानी के अवशोषण की क्रिया को बेहतर बनाता है और शरीर में पानी की भरपायी करता है।

(और पढ़ें –जानिये क्‍या अंतर है कर्ड (दही) और योगर्ट में)

दही खाने के फायदे रक्तचाप को नियंत्रित करने में – Yogurt Benefits for Controls blood pressure in Hindi

शरीर में नमक अधिक होने पर उच्च रक्तचाप का मुख्य कारण होता है। यदि इस मात्रा को कम नहीं किया गया तो रक्तचाप बढ़ जाता है जिसकी वजह से हाइपरटेंशन और किडनी में दिक्कत आने होने लगती है। जिसकी वजह से व्यक्ति कई तरह की बीमारियों की चपेट में आ जाता है। दही में पोटैशियम पाया जाता है जो शरीर में नमक की अधिक मात्रा को घटा देता है। हाल ही में हुए एक शोध में पाया गया है कि कम वसा वाले डेयरी उत्पाद उच्च रक्तचाप की समस्या को कम करने में बहुत सहायक होते हैं।

(और पढ़ें – उच्च रक्तचाप के लिए घरेलू उपचार)

प्रतिरक्षा क्रिया बेहतर करने में दही के फायदे – Curd Benefits for Builds immunity in Hindi

प्रतिरक्षा तंत्र को मजबूत करने के लिए दही में प्रोबायोटिक होता है। जिससे हमारा शरीर बीमारियों से लड़ने के लिए तैयार हो जाता है। प्रोबायोटिक काफी लंबे समय तक प्रतिरक्षा तंत्र के कार्य को बेहतर बनाए रखता है और स्वास्थ्य को भी ठीक रखता है। इसके अलावा दही में जिंक भी पाया जाता है जो हमारे अच्छे स्वास्थ्य के लिए महत्वपूर्ण होता है।

दही में पाए जाने वाले जीवित सक्रिय संस्कृतियां रोग पैदा करने वाले कीटाणुओं से लड़ती हैं और आपकी आंत को सुरक्षित रखती हैं। ऑस्ट्रिया के वियना विश्वविद्यालय के शोधकर्ताओं के दल द्वारा किए गए एक वैज्ञानिक अध्ययन में पाया गया कि दही की 7-औंस की खुराक (लगभग 200 ग्राम) खाने से प्रतिरक्षा शक्ति को बढ़ाने के लिए दी जाने वाली गोलियों के समान प्रभावी था ।

(और पढ़ें – रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के उपाय)

दही खाने के फायदे यीस्ट इंफेक्शन से बचाने में – Curd (Yogurt) Benefits for Prevents yeast infections in Hindi

रोज दही खाने से यीस्ट इंफेक्शन का खतरा नहीं रहता है। इसलिए अगर आप यीस्ट इंफेक्शन से पीड़ित हैं तो आपको दही का सेवन करना चाहिए। इसके अलावा दही यीस्ट इंफेक्शन की समस्या को भी कम करता है। नियमित भोजन में दही का सेवन करना बहुत फायदेमंद है।

दही खाना महिलाओं के लिए विशेष रूप से अच्छा माना जाता है क्योंकि यह खमीर संक्रमण के विकास को कम करने में मदद करता है। दही में पाया जाने वाला लैक्टोबैसिलस एसिडोफिलस बैक्टीरिया शरीर में संक्रमण के विकास को नियंत्रित करने और हाइड्रोजन पेरोक्साइड का उत्पादन करके खमीर को मारने के लिए जाना जाता है। जिससे यह महिलाओं में होने वाले योनि संक्रमण को रोकता है।

(और पढ़ें – योनि यीस्ट संक्रमण क्या है)

खाने में दही का इस्तेमाल उच्च रक्तचाप को कम करता है – Curd (Yogurt) Reduces high blood pressure in Hindi

अमेरिकन हार्ट एसोसिएशन (एएचए) के उच्च रक्तचाप के लिए किये गए अनुसंधान के वैज्ञानिक सत्र में प्रस्तुत एक शोध से पता चला है कि जो लोग अधिक वसा वाले दही खाते हैं, उनमें दूसरों की तुलना में उच्च रक्तचाप विकसित होने की संभावना 31 प्रतिशत कम थी। पोटेशियम और मैग्नीशियम जैसे पोषक तत्वों के साथ दही में मौजूद विशेष प्रोटीन उच्च रक्तचाप को कम करने और हृदय को स्वस्थ बनाये रखने में मदद करता है।

दही खाने के नुकसान – Side effects of Curd (Yogurt) in Hindi

अधिक मात्रा में दही का सेवन करने से नुकसान भी हो सकता है। दही में प्रोटीन, विटामिन, खनिज और वसा पायी जाती है। वसायुक्त दही खाने से 140 कैलोरी, 8 ग्राम प्रोटीन और 7.5 ग्राम फैट और 11 ग्राम कार्बोहाइड्रेट प्राप्त होता है, जो स्वास्थ्य के लिए नुकसानदायक होता है। तो आइये जानें कि दही के नुकसान  क्या है और ही खाने से सेहत पर क्या प्रभाव पड़ता है।

अधिक दही खाने के नुकसान से किडनी का स्टोन हो सकता है – Eating excess Curd May cause kidney stones in Hindi

स्‍वास्‍थ्‍य के लिए दही सबसे अच्‍छा आहार माना जाता है लेकिन दही खाने के नुकसान भी होते हैं। ज्यादा दही खाने से पथरी या प्रोस्टेट कैंसर हो सकता है। अधिक दही खाने से इसमें मौजूद आयरन और जिंक का सही तरीके से अवशोषण शरीर में नहीं हो पाता है। जिसकी वजह से रक्त वाहिकाओं में कैल्शियम जमा होने लगता है। यह समस्या लंबे समय तक और दही के अत्यधिक मात्रा में सेवन करने के कारण होती है।

(और पढ़ें – पथरी होना क्या है? (किडनी स्टोन) पथरी के लक्षण, कारण और रोकथाम)

दही खाने के नुकसान से कैंसर का खतरा – Curd (Yogurt) May cause cancer in Hindi

कैंसर एक गंभीर बीमारी है जो दही खाने के नुकसान में शामिल है। दही में गैलेक्टोज नामक शुगर पाया जाता है जो लैक्टोज से उत्पन्न होता है, इसकी वजह से अंडाशय में कैंसर हो सकता है। डेयरी उत्पादों में प्रोटीन ज्यादा पाया जाता है और इनके अधिक मात्रा में सेवन करने से कैंसर होने की संभावना होती है। गाय का दूध सेहत के लिए अधिक फायदेमंद होता है। इसलिए अधिक दूध निकालने के लिए गायों को एंटीबायोटिक दवाइयां और हार्मोन के इंजेक्शन दिए जाते हैं। ये हार्मोन गाय के शरीर में दूध की मात्रा बढ़ा देते हैं। जब इस दूध को मनुष्य पीता है तो उसमें स्तन कैंसर और प्रोस्टेट कैंसर होने की संभावना बढ़ जाती है।

(और पढ़ें – कैंसर क्या है कारण लक्षण और बचाव के उपाय)

अधिक दही खाने के नुकसान से बढ़ सकता है वजन – Curd (Yogurt) May lead to weight gain in Hindi

वजन बढ़ना अधिक दही खाने के नुकसान में से एक है। दही का अधिक मात्रा में सेवन करने से वजन भी तेजी से बढ़ता है। दही में एसपार्टेम और हाई फ्रक्टोज कॉर्न सिरप (एचएफसीएस) पाया जाता है। इस एचएफसीएस में ग्लाइसेमिक उच्च लेवल में पाया जाता है जो खून में शर्करा की मात्रा को बढ़ा देता है। एसपार्टेम में मेथेनॉल होता है जिसका अगर कम मात्रा में सेवन किया जाए तब भी काफी खतरनाक होता है। बाजारों में बिकने वाले डिब्बाबंद दही में इसका इस्तेमाल किया जाता है। इसलिए इसका सेवन करने से वजन भी तेजी से बढ़ता है।

ये सभी दही खाने के नुकसान तभी  होते हैं जब आप दही का गलत तरीके से और अधिक मात्रा में सेवन करते हैं यदि आप कम मात्रा में दही का रोज सेवन करगें तो आपको इससे नुकसान कि जगह ढेरों फायदे मिलेगें।

दही में कैल्शियम, विटामिन डी, प्रोटीन और स्वस्थ बैक्टीरिया पाए जाते है। इसमें कोई संदेह नहीं है कि दही पोषण से भरा हुआ है और अगर आप इसे अपने दैनिक आहार में शामिल करते हैं तो आपको इससे फायदा होगा। आप ताज़े फलों या बीजों जैसे फ्लैक्ससीड्स और सूरजमुखी के बीजों के साथ एक कटोरी दही को फ़ाइबर की एक अतिरिक्त खुराक के लिए मिलाकर खा सकते हैं। इसके साथ ही इसे अन्य सभी पोषक तत्वों के साथ मिलाकर भी खाया जा सकता है। तो आज से ही अपने खाने में दही को शामिल करने और इसके ढेरों लाभ प्राप्त करें। खुश रहें स्वस्थ्य रहें!

(और पढ़ें – वजन कम करने के लिए टॉप 10 स्मूदी रेसिपी)

Leave a Comment

Subscribe for daily wellness inspiration