जानिये क्‍या अंतर है कर्ड (दही) और योगर्ट में – What is Difference Between Yogurt and Curd in Hindi

जानिये क्‍या अंतर है कर्ड (दही) और योगर्ट में - What is Difference Between Yogurt and Curd in Hindi
Written by Akansha

Curd vs Yogurt in Hindi क्या आप जानते है की दही (कर्ड) और योगर्ट में क्या अंतर है। बहुत से लोगों को यही लगता है की भारत में दही को कर्ड और विदेशों में इसी दही को योगर्ट कहा जाता है। लेकिन ऐसा बिलकुल नहीं है भले ही दोनों दूध से बने उत्पाद है परन्तु दोनों में बहुत से अंतर होते है। दही और योगर्ट दोनों ही अलग अलग तरह के बैक्टीरिया से बनाएं जाते है और दही और योगर्ट में पोषक तत्त्वों की मात्रा भी अलग होती है। तो चलिए आज इस लेख में जानते है की दही (कर्ड) और योगर्ट में क्या अंतर होता है और इनमें कौन कौन से पोषक तत्त्व पाएं जाते है।

  1. कर्ड (दही) और योगर्ट में क्या अंतर होता है – What is the difference between Curd and Yogurt in hindi
  2. दही (कर्ड) और योगर्ट कौन कौन से फ्लेवर में पाए जाते है – Different flavors of dahi (curd) and yogurt in hindi
  3. दही और योगर्ट में पाए जाने वाले पोषक तत्व – Nutritional elements present in curd and yogurt in hindi
  4. दही और योगर्ट की न्यूट्रीशनल वैल्यू – Nutritional value of curd and yogurt in hindi

कर्ड (दही) और योगर्ट में क्या अंतर होता है – What is the difference between Curd and Yogurt in hindi

कर्ड (दही) और योगर्ट में क्या अंतर होता है – What is the difference between Curd (dahi) and Yogurt in hindi

दही एक डेरी उत्पाद है और इसे बनाने के लिए पहले दूध को अच्छी तरह लगभग 30-40 डिग्री सेल्सियस पर उबाला जाता है। उसके बाद उसमें थोड़ी सा पहले का दही डाला जाता है जिसमें एक तरह का एसिडिक कर्डलिंग एजेंट यानि एक तरह का बैक्टीरिया पाया जाता है, जिसे कहा जाता है लैक्टोबैसिलस बैक्टीरिया (Lactobacillus bacteria)। यह बैक्टीरिया दूध में मिलने के बाद तेजी से बढ़ने लगते है और कुछ ही घंटो में यह दूध को दही में परिवर्तित कर देते है। और इस तरह दही का निर्माण किया जाता है। परन्तु दही को एक स्टैण्डर्ड उत्पाद नहीं माना जाता है क्योकि शोधों में पता चला है की इसमें मौजूद अच्छे बैक्टीरिया जिंदा आंत तक नहीं पहुँच पाते है जिसकी वजह से इनका लाभ पूरी तरह से प्राप्त नहीं हो पाता है।

वहीं योगर्ट भी वैसे तो दुग्ध उत्पाद ही होता है और दही और योगर्ट का स्वाद भी एक जैसा की होता है, परन्तु जिस तरह दही जमाने के लिए बैक्टीरिया का उपयोग किया जाता है। ठीक उसी तरह योगर्ट बनाने के लिए भी दो अलग तरह के बैक्टीरिया का उपयोग किया जाता है, जिनके नाम है लैक्टोबैसिलस बुल्गारिस (Lactobacillus bulgaricus) और स्ट्रेप्टोकॉकस थर्मोफिलस (Streptococcus thermophiles)। योगर्ट को एक स्टैण्डर्ड प्रोडक्ट माना जाता है क्योकि शोधों के अनुसार इसमें मौजूद अच्छे बैक्टीरिया आसानी से पेट तक जिंदा पहुँच पाते है जिससे इनका पूरा लाभ लिया जा सकता है।

(और पढ़े – दही खाने से सेहत को होते हैं ये बड़े फायदे…)

दही (कर्ड) और योगर्ट कौन कौन से फ्लेवर में पाए जाते है – Different flavors of dahi (curd) and yogurt in hindi

दही (कर्ड) और योगर्ट कौन कौन से फ्लेवर में पाए जाते है – Different flavors of dahi (curd) and yogurt in hindi

दही तो हमेशा से एक ही फ्लेवर में आता है परन्तु योगर्ट कई तरह के विभिन्न फ्लेवरों में उपलब्ध होता है जैसे मेंगो, स्ट्रॉबेरी, ब्लूबेरी, पीच, कीवी, रास्पबेरी, वनिला और पेपरमिंट आदि।

(और पढ़े – स्वस्थ आहार के प्रकार और फायदे…)

दही और योगर्ट में पाए जाने वाले पोषक तत्व – Nutritional elements present in curd and yogurt in hindi

दही और योगर्ट में पाए जाने वाले पोषक तत्व – Nutritional elements present in curd and yogurt in hindi

वैसे तो दही और योगर्ट दोनों में ही कई तरह के पोषक तत्त्व पाए जाते है और यह दोनों ही पूरे पोषण से भरपूर होते है परन्तु योगर्ट में दही से दोगुना प्रोटीन पाया जाता है। इसलिए आज जानते है कर्ड और योगर्ट में कौन से पोषक तत्त्व पाए जाते है-

दही में भरपूर मात्रा में कैल्शियम, आयरन, पोटैशियम और विटामिन बी6 की मात्रा होती है जो शरीर को  ताकत और मजबूती देने का काम करते है। साथ ही इसमें प्रचुर मात्रा में प्रोटीन भी पाया जाता है जो शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाता है।

योगर्ट कैल्शियम, फास्फोरस, पोटेशियम और जिंक जैसे खनिजों में समृद्ध होता हैं और प्रोटीन में भी समृद्ध हैं। यह खराब कोलेस्ट्रॉल को नियंत्रित करने में मदद करता है। यह राइबोफ्लेविन, विटामिन बी 12, पैंटोथेनिक एसिड और विटामिन ए जैसे विटामिन का अच्छा स्रोत माना जाता है। यह प्रोबायोटिक्स का भी एक बहुत अच्छा स्रोत है, यह अच्छे बैक्टीरिया होते है जिसमें LAB (लैक्टिक एसिड बैक्टीरिया) शामिल होते है और यह प्रतिरक्षा को बढ़ाने में भी मदद करता है। यह पाचन में भी सहायक होता है। यह कोलेस्ट्रॉल को कम करने और मेटाबोलिज्म में सुधार करने में मदद करता है। इसमें प्रोटीन भी भरपूर मात्रा में होता है।

(और पढ़े – विटामिन और उनकी कमी से होने वाले रोग…)

दही और योगर्ट की न्यूट्रीशनल वैल्यू – Nutritional value of curd and yogurt in hindi

जैसा की हमने बताया दही और योगर्ट में कई प्रकार के पोषक तत्त्व भरपूर मात्रा में पाए जाते है उसी तरह दही और योगर्ट की हर सर्विंग में एक तय पोषण वैल्यू होती है जिससे हमे पता चलता है की कितनी मात्रा में कौन सा पोषक तत्त्व लेना चाहिए जिससे हमारे शरीर को ताकत मिल सके। तो चलिए जानते है दही और योगर्ट के पोषण मूल्य के बारे में-

दही और योगर्ट में प्रोटीन की मात्रा – Protein value in curd and yogurt in hindi

दही और योगर्ट में प्रोटीन की मात्रा – Protein value in curd and yogurt in hindi

एक कटोरी कर्ड में प्रोटीन की मात्रा 3-4 ग्राम होती है वहीं एक कटोरी योगर्ट में प्रोटीन की मात्रा 8-10 ग्राम होती है। इसका मतलब यह है की कर्ड से दोगुना प्रोटीन योगर्ट में पाया जाता है।

(और पढ़े – शाकाहारियों के लिए प्रोटीन युक्त खाद्य पदार्थ…)

कर्ड और योगर्ट में कार्बोहायड्रेट की मात्रा – Carbohydrate value in curd and yogurt in hindi

एक कटोरी योगर्ट में 11.5 ग्राम कार्बोहायड्रेट होता है साथ ही इसमें शक्कर भी होती है वहीं एक कटोरी दही में 65 ग्राम कार्बोहायड्रेट, 18 ग्राम शक्कर और 3 ग्राम डाइटरी फाइबर होता है।

(और पढ़े – कार्बोहाइड्रेट क्या है, कार्य, कमी के कारण, लक्षण और आहार…)

दही और योगर्ट में फैट की मात्रा – Fat value in curd and yogurt in Hindi

दही और योगर्ट में फैट की मात्रा – Fat value in curd and yogurt in hindi

योगर्ट की एक सर्विंग में कुल 8 ग्राम फैट होता है जिसे 5 ग्राम संतृप्त वसा (saturated fat) aur 3 ग्राम असंतृप्त वसा (unsaturated fat) में बांटा गया है। इसी प्रकार दही की एक सर्विंग में कुल 50 ग्राम फैट होता है जिसमें से संतृप्त वसा की मात्रा होती है 35 ग्राम और 15 ग्राम असंतृप्त वसा होता है।

(और पढ़े – वसा के स्रोत, फायदे और नुकसान…)

इसी तरह की अन्य जानकरी हिन्दी में पढ़ने के लिए हमारे एंड्रॉएड ऐप को डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं। और आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।

Leave a Comment

Subscribe for daily wellness inspiration