मानसिक तनाव के कारण, लक्षण एवं बचने के उपाय – stress, symptoms Causes and Measures to Avoid in hindi 

मानसिक तनाव के कारण, लक्षण एवं बचने के उपाय - stress, symptoms Causes and Measures to Avoid in hindi 
Written by Deepak

आजकल की भाग दोड़ भरी जिन्दंगी में मानसिक तनाव एक ऐसे बीमारी है जो किसी को बक्श नहीं रही है| तनाव एक ऐसा शब्द बन गया है जो सुबह से उठते ही हर कोई महसूस करता है| आज हम जानेंगे तनाव के कारण, लक्षण एवं तनाव से बचने के उपाय| तनाव मुख्या रूप से दो प्रकार के होते है| अच्छा तनाव और बुरा तनाव, दोनों मे अंतर इतना है की एक तनाव तरक्की की तरफ ले जाता है और दूसरा समय और जिन्दंगी नष्ट करता है| अच्चा तनाव के कारण हम अपने काम को सही तरीके से और समय पर कर पाते है| वही दूसरी ओर बुरे तनाव के कारण हम अपनी सेहत को नुकसान पंहुचाते है और मानसिक बीमारियों को बुलाते है|

मानसिक तनाव आजकल लोगो पर इतना हावी हो चुका है की लोगो को मनोचिकित्सक का सहारा लेना पड़ रहा है| यह एक भयंकर बीमारी का रूप ले रही है जिसका इलाज काफी कठिन है|

आखिर क्या है मानसिक तनाव? What is mental stress in Hindi?

मानसिक तनाव उत्पन होता है मन के विचारो से| यह कुछ ऐसे विचार होते है जो आपके मन मे चलते रहते है और वह आप किसी के साथ बाट नहीं सकते| कुछ चिंताए परिवार को लेकर, पैसो को लेकर या शारीरिक परेशानिया जो आप पर इतनी बुरी तरीके से हावी हो चुकी है कि इससे निकले के लिए आपको अन्य लोगो की मदद लेनी पड़ती है|

कैसे जाने की आप मानसिक तनाव से ग्रसित है – How to diagnose mental stress in Hindi

  • अगर आप कुछ दैनिक गतिविधियों को कर पाने मे असक्षम महसूस कर रहे है
  • अधिक सवेंदनशील होना, जिसके कारण छोटी छोटी बात पर रो देना
  • स्वाभाव मे बदलाव जैसे अधिक गुस्सा आना, आवाज तेज मे बात करना या कभी-कभी कोई प्रतिक्रिया ना देना, अचानक हताश हो जाना
  • सोचने की ताकत कम हो जाना, काम मे मन नहीं लगना, जल्दी ही चीजों को भूल जाना
  • खान पान मे बदलाव जैसे या तो बहुत ही कम खाना या बहुत ज्यादा, जल्दी जल्दी खाना, खाते खाते सोच मे पड़ जाना
  • अपने आप को सबसे दूर रखना, अपने प्रति हीन भावना का होना जो कभी कभी आत्महत्या के विचार उत्पन्न करती है, अपने विचारो को बताने मे हिचकना
  • अपने बारे मे या अपनी ज़िन्दगी के बारे में नकारात्मक विचार रखना, अपने जीवन की दुसरे के जीवन से तुलना करना
  • शारीरिक समस्या भी जन्म लेती है मानसिक तनाव में जैसे मधुमेह, गठिया, बढता रक्तचाप, अत्यधिक बालो का झड़ना, सिरदर्द, सांस लेने में कठिनाई, चर्म रोग और याददास चली जाना

मानसिक तनाव के कारण – Causes of mental stress in Hindi

1. गलत खान पान की आदत बन सकती है तनाव के कारण

  • अत्यधिक मीठा भोजन आपका शरीर आपके मानसिक के स्वास्थ्य को प्रभावित कर सकता है। कॉफी और चाय का ज्यादा सेवन करने से भी मानसिक तनाव हो सकता है|
  • शराब पीने से भी तनाव हो सकता है क्योकि शराब व्यक्ति को आदि बना देती है जिसके कारण वो लाचार हो जाता है| शराब की लत मे व्यक्ति गलत काम में भी पड़ सकता है|
  • अत्यधिक नमक का खाने मे उपयोग से रक्तचाप( blood pressure) में वृद्धि हो सकती है जो आपके मानसिक तनाव का एक कारण बन सकता है|

2. जीवन शैली मे बदलाव से भी होता है तनाव

कोई निश्चित दिनचर्या ना होना जिसके कारण आप समय पर ना खाते है और ना ही सोते है| उदाहरण के लिए अगर आप देर से जागते हैं, तो नाश्ते को छोड़ देते हैं, भूख के कारण काम पर ध्यान केंद्रित करने में परेशानी होती है और आप अपने बॉस से डांट सुनते हैं| यह भी तनाव का कारण हो सकता है|

(और पढ़े: बाइपोलर डिसऑर्डर क्या है कारण, लक्षण और बचाव)

3. कम नींद आना या नींद की कमी है तनाव के कारण

पर्याप्त नींद न मिलने से शरीर को उचित आराम नहीं मिलता हैं और आप थका हुआ महसूस करते हैं। इससे आप अपनी रोज की दैनिक गतिविधियों में सक्रिय रूप से भाग नहीं ले पाते हैं जिसके कारण तनाव हो सकता हैं| नकारात्मक भावनाओं को अपने ऊपर हावी होने देना जो की नींद ना आने का कारण बन जाती हैं|

(और पढ़े: नकारात्‍मक विचारों से मुक्ति पाने के उपाय)

4. आर्थिक तंगी भी होती है तनाव के कारण में सामिल 

बदलती जीवन शेली के चलते रोजमर्रा की जरूरत से ज्यादा की मांग इंसान को तनाव का शिकार बनती हैं| ज्यादा इच्छाए और महंगाई के कारण पैसो को लेकर विवाद बना रहता हैं, जिससे मानसिक तनाव भी बड़ता हैं|

5. प्रियजनों से दूरी भी बनती है तनाव के कारण

कभी कभी अप्रिय घटनाओं के कारण भी तनाव बढ़ जाता है। जैसे प्रियजन का गुज़र जाना, दुःख से उभर ना पाना भी मानसिक तनाव का कारण होता हैं| अच्छे दोस्तों की कमी, शिकायत करने वाले पति और पत्नी, या डिमांडिंग पेरेंट्स के भी कारण तनाव हो सकता है। खराब संबंध तनाव का एक प्रमुख कारण हो सकते हैं।

(और पढ़े: पार्टनर गर्लफ्रेंड या पत्नी के साथ आपका स्वभाव बताएगा आपका रिलेशनशिप स्टेटस्)

मानसिक तनाव से बचने के तरीके – prevention of stress in hindi

1. तनाव से बचने के लिए करे व्यायाम

नियमित रूप से 20 से 30 मिनट शारीरिक व्यायाम (चलना, दौड़ना या उठना बैठना) करें| इससे आपके दिमाग को सोचने का वक्त मिलेगा| मूड को सुधारता है| व्यायाम करने से खाना भी पचता है| व्यायाम शरीर के अंगों में हो रहे दर्द का भी समाधान हो सकता है जिसका कारण तनाव हो|

(और पढ़े: मोटापा कम करने के लिए करे एरोबिक्स)

मेडिटेशन कीजिए (ध्यान लगाइए) राहत भरा संगीत सुनिए। 10-20 मिनट तक आंखें बंद करके शांति का अनुभव कीजिए| गहरी सांस लीजिए। दिमाग को शांत करें, और तनाव भरी बातें दिमाग से निकाल दें|

2. लम्बी लम्बी साँसे लेना भी है तनाव से बचने का उपाय

तनाव में रहने की स्थिति में लोग काफी तेज़ी से एवं काफी छोटी सांसें लेते हैं और तनावमुक्त रहने पर आराम से धीरे धीरे सांस लेते हैं। अतः तनाव में होने पर धीरे- धीरे साँस लेने पर आपको आराम मिलेगा लम्बी साँस ले और उसे धीरे- धीरे वापिस छोड़े ऐसा 10 बार करने से आपको काफी आराम मिलेगा।

3. तनाव से बचने के लिए शरीर की मसाज या मालिश करवाए

शरीर की मालिश करवाना वास्तव में बहुत अच्छा माना जाता है। इससे आपका शरीर और मन शांत और ख़ुश होता है। शरीर की मालिश आपके तनावग्रस्त दिमाग को शांती प्रदान करने में मदद करती है।

4. तनाव से बचने के लिए नियमित दिनचर्या का प्रयोग करे

नित्य एक ही काम करने या एक ही जगह ठहरने से मानव स्वभाव बदलाव चाहता है तो रुचि के अनुसार दिनचर्या का बदलाव करें। इससे अपने बारे में अच्छा महसूस करेंगे और जीवन की एकरसता टूटेगी।

तनाव से बचने के लिए अच्छी नींद लेना भी बहुत ज़रूरी है क्योंकि यह आपके शरीर और मन को आराम देगी। सुबह जल्दी उठें और सूर्य उदय और प्रकृति का आनंद लें, इससे आपको खुशी महसूस होगी। अपना नाश्ता कभी न छोड़ें। दिन की अच्छी शुरुआत आपके पूरे दिन को बेहतर बनाती है और आपके तनाव को दूर करने में मदद करती है|

5. अपने प्रेम को प्रकट करना है तनाव से बचने का तरीका

अपने घरवालों से प्यार से पेश आएं, अपने चाहने वाले के साथ अच्छा समय बिताएं| अपने आस पास के लोगों के वहां होने की बात को मानें और उनसे वार्तालाप करें। ऐसा करने पर आप अपने तनाव (stress) के स्तर में काफी अंतर पाएंगे।

लोगों से मिलने जुलने और प्यार से पेश आने का सीधा असर दिमाग पर पड़ता है। जिन चीज़ों के बारे में आप सोच भी नहीं सकते थे, वे जब होने लगती हैं तो दिमाग की स्थिति में काफी सुधार आता है। शोध के अनुसार अपने पालतू जानवर जैसे कुत्ते या बिल्ली के साथ वक़्त बिताने से रक्तचाप कम होता है, तनाव में गिरावट आती है|

6. पुरानी सफलताओं और अच्छी यादो को याद करना है तनाव से बचने का तरीका

अपने व्यस्त जीवन से कुछ समय निकालकर यह सोचें कि किस प्रकार आपने काम में सफलता प्राप्त की थी। जब भी कभी आपको यह लगे कि आप अपनी समस्या से निपटने में असमर्थ हैं, तुरंत अपने पुराने और खुशहाल जीवन की कल्पना करें, जब ऐसी समस्याओं का आपने डटकर सामना किया था तथा उनपर विजय भी पायी थी।

7. तनाव से बचने के लिए अपने खानपान का ध्यान रखे

यह बात काफी आवश्यक है। सही खानपान का तनाव को  दूर रखता है। आमतौर पर तनाव में सही खानपान छोड़कर ऐसी चीज़ें खाने लगते हैं जो कि आपकी सेहत के लिए सही नहीं होती। ऐसे में आपका वज़न बढ़ जाता है जो कि आपके शरीर के लिए हानिकारक होता है। ताज़े फल और सब्ज़ियों का सेवन करें। इससे आपका तनाव कम होगा और आप काफी तरोताज़ा महसूस करेंगे। जंक फूड के सेवन से बचें और हमेशा स्वस्थ आहार के सेवन की कोशिश करें।

8. तनाव से बचने के लिए अच्छी आदतों को अपनाये

भाग दोड़ की जिंदगी में अपने लिए वक्त निकाले। व्यवस्थित दिनचर्या की आदत डालें। अपनी चिंता के मूल कारण को ढूंढ कर उसे दूर करें और जीवन की छोटी- छोटी सफलताओ से उत्साह प्राप्त करें एवं आत्मविश्वास के साथ काम करें।

प्रतिदिन 20 से 30 मिनट तक कोई अच्छा संगीत अवश्य सुने। अपनी पसंद की किताबें पढ़ें जिससे काफी हद तक आपका तनाव कम होगा।

9. तनाव दूर करने के लिए प्रकृति का आनंद लें

बाहर जाएं और फूलों के रंग और चिड़ियों के चहचहाने का अनुभव करें। किसी मॉल में जाएं और विभिन्न प्रकार की वस्तुओ को देखें, आभूषणों का जायज़ा लें और हर चीज़ के बनावट सम्बन्धी विचारों पर चिंतन करें। मन को अच्छी जगह पर लगाए जिससे मानसिक तनाव कम हो सके |

यदि तनाव आपके दैनिक जीवन को बहुत ज्यादा प्रभावित कर रहा है, तो आपको डॉक्टर की मदद लेनी चाहिए। एक चिकित्सक या मनोरोग विशेषज्ञ आपकी सहायता कर सकते हैं|

Leave a Comment

1 Comment

Subscribe for daily wellness inspiration