तनाव दूर करने के लिए योग – Yoga for mental stress in Hindi

तनाव दूर करने के लिए योग - Yoga for mental stress in Hindi
Written by Shivam

तनाव को कम करने के लिए योग आसन बहुत ही लाभदायक होते हैं। प्रत्येक व्यक्ति अपनी जीवन में कभी ना कभी तनाव का सामना करता है। आज अनुमानित 80 से 90 प्रतिशत लोग तनाव संबंधित समस्या से परेशान है। योग को कई लोगों द्वारा आत्म-विकास का सबसे पुराना परिभाषित अभ्यास माना जाता है। कई अध्ययनों में पाया गया है कि सुबह के समय में थोड़ा योग, रात में या लंच ब्रेक पर भी तनाव को कम कर सकता हैं। ऐसा माना जाता है कि तनाव से राहत दिलाने के लिए योग बहुत प्रभावी है क्योंकि योग से होने वाले शारीरिक लाभों के साथ ही यह अच्छे मूड को भी बढ़ावा देता है। योग, ध्यान और मस्तिष्क को तनाव से निपटने और समग्र स्वास्थ्य में सुधार करने में सक्षम होने के लिए प्रशिक्षित करते हैं।

एक राष्ट्रीय सर्वेक्षण में, योग करने वाले 85% से अधिक लोगों ने बताया कि इससे उन्हें तनाव दूर करने में मदद मिली है। व्यायाम तनाव को दूर करने के लिए एक बहुत ही उपयोगी तरीका है, यह आत्म-करुणा और जागरूकता के अंतर्निहित दर्शन के साथ शारीरिक रूप से दोनों को जोड़ती है।

तनाव को दूर करने के लिए योग – Yoga for stress relief in Hindi

  1. तनाव को कम करने के लिए योग सुखासन – Tanav ko kam karne ke liye yoga Sukhasana in Hindi
  2. तनाव दूर करने का योग बालासन – Balasan yoga for stress relief in Hindi
  3. तनाव दूर करने के लिए योग पश्चिमोत्तानासन – Tanav dur karne ke liye yoga Paschimottanasana in Hindi
  4. मानसिक तनाव से मुक्ति के लिए योगासन जानुशीर्षासन – Tanav Ko Kam Kare Janu Sirsasana Yoga Se in Hindi
  5. टेंशन दूर करने के लिए योग शवासन – Tension dur karne ke liye yoga Savasana in Hindi
  6. तनाव को दूर करन का योग मार्जरासन – Tanav Ko Dur Karne Ka Yoga Marjariasana in Hindi
  7. तनाव से बचने का योग उत्तानासन – Tanav Se Bachne Yoga Uttanasana in Hindi

योग तनाव को कम करने में मदद कर सकता है क्योंकि यह विश्राम को बढ़ावा देता है, जो तनाव के स्वाभाविक विपरीत है। आपको योग करने के लिए तनाव महसूस करने की प्रतीक्षा नहीं करनी चाहिए। जो लोग हर दिन थोड़ा सा योग करते हैं, वे अक्सर यह पाते हैं कि जब जीवन में कुछ अधिक परेशानियाँ आ जाती है या जीवन तनाव युक्त हो जाता है तब भी वे लोग चीजों को बेहतर तरीके से संभाल लेते हैं। आइये तनाव को कम करने के लिए योग आसन को विस्तार से जानते हैं।

(और पढ़ें – मानसिक तनाव दूर करने के घरेलू उपाय)

तनाव को कम करने के लिए योग सुखासन – Tanav ko kam karne ke liye yoga Sukhasana in Hindi

तनाव को कम करने के लिए योग सुखासन – Tanav ko kam karne ke liye yoga Sukhasana in Hindi

तनाव को कम करने के लिए योग ‘सुखासन’ बहुत ही लाभदायक आसन है। ग्राउंडनेस (Groundedness) और आंतरिक शांति को बढ़ावा देने के अलावा सुखासन के कुछ अन्य बेहतरीन फायदे हैं जैसे – यह आपकी रीढ़ के हड्डी को लम्बा करता है और कूल्हों को फैलता हैं इसके अलावा यह आपको शांति प्रदान करता है, चिंता को दूर करता है, शारीरिक और मानसिक थकावट और थकान से छुटकारा दिलाता है। इस आसन को करने के लिए आप एक योगा मैट को जमीन पर बिछा के बैठ जाएं, अपने पैरों को घुटने के यहाँ से मोड़ लें, इसमें एक पैर बाहर की ओर तथा दूसरा पैर अन्दर के ओर रहता हैं। अपने रीढ़ के हड्डी को सीधा रखें और दोनों हाथों को सीधा करके अपने घुटनों पर रखें, अब आँखों को बंद करके ध्यान करें। इस आसन में आप अपनी इच्छा के अनुसार रह सकते हैं।

(और पढ़ें – सुखासन करने का तरीका और फायदे)

तनाव दूर करने का योग बालासन – Balasan yoga for stress relief in Hindi

तनाव दूर करने का योग बालासन - Balasan yoga for stress relief in Hindi

बालासन योग तनाव को कम करके मानसिक शांति प्रदान करने में बहुत ही लाभकारी है। यह एक आरामदायक मुद्रा है जिसे अधिक कठिन आसनों के बीच में आराम पाने के लिए भी किया जा सकता है। इस आसन को करने के लिए आप एक योगा मैट को बिछा के उस पर वज्रासन में या घुटने टेक के बैठ जाएं। अब धीरे-धीरे अपने सिर को झुकाते जाएं और जमीन पर सिर को रखें। अपने दोनों हाथों को सामने की ओर सीधे करके फर्श पर रखें। इस आसन में आप कम से कम 2 से 3 मिनिट रहने का प्रयास करें। यह आसन कमर दर्द को ठीक करता हैं और साथ ही आपकी मासिक थकान को कम करने में मदद करता हैं।

(और पढ़ें – बालासन करने का तरीका, फायदे और सावधानियां )

तनाव दूर करने के लिए योग पश्चिमोत्तानासन – Tanav dur karne ke liye yoga Paschimottanasana in Hindi

तनाव दूर करने के लिए योग पश्चिमोत्तानासन – Tanav dur karne ke liye yoga Paschimottanasana in Hindi

पश्चिमोत्तानासन योग विचलित मन को शांत करने में मदद कर सकता है। यह आसन तनाव और चिंता से राहत देने के अलावा अन्य लाभ जैसे हैमस्ट्रिंग, रीढ़ और पीठ के निचले हिस्से में खिंचाव, पाचन में सुधार और रजोनिवृत्ति के लक्षणों से राहत देता है। यह थकान को कम करता है, जिगर, गुर्दे, अंडाशय और गर्भाशय को उत्तेजित करता है। पश्चिमोत्तानासन करने के लिए आप किसी साफ स्थान पर योगा मैट को बिछा के दोनों पैरों को सामने की ओर सीधा करके दण्डासन में बैठ जाएं। अपने दोनों हाथों को ऊपर उठा के सीधे कर लें। अब धीरे-धीरे आगे की ओर झुके और अपने दोनों हाथों से पैर के पंजे पकड़ लें। अपनी सिर को घुटनों पर रख दें। इस आसन को 20 से 60 सेकंड के लिए करें।

(और पढ़ें – पश्चिमोत्तानासन करने का तरीका, फायदे और सावधानियां)

मानसिक तनाव से मुक्ति के लिए योगासन जानुशीर्षासन – Tanav Ko Kam Kare Janu Sirsasana Yoga Se in Hindi

मानसिक तनाव से मुक्ति के लिए योगासन जानुशीर्षासन - Tanav Ko Kam Kare Janu Sirsasana Yoga Se in Hindi

जानुशीर्षासन योग मुद्रा मस्तिष्क को शांत करती है और हल्के अवसाद की चिंता, थकान, सिरदर्द, मासिक धर्म की परेशानी और अनिद्रा से राहत दिलाने में मदद करती है। यह आसन एक प्रकार से रीढ़ की हड्डी का मोड़ है। जानुशीर्षासन योग करने के लिए आप किसी साफ स्थान पर योगा मैट को बिछाएं और दोनों पैरों को सामने की ओर सीधा करके बैठ जाएं। अब अपने दाएं पैर को मोड़ के बाएं पैर की जांघ पर रखें। अपने दोनों हाथों को ऊपर की ओर करें सीधा खड़ा करें। अब अपने ऊपर के शरीर को बाएं पैर की ओर नीचे झुकाएं और बाएं पैर के पंजें को पकड़ लें। अपने सिर को बाएं पैर के घुटने पर रख लें। इस मुद्रा में रहते हुयें 5 से 10 बार साँस लें।

(और पढ़ें – जानुशीर्षासन करने का तरीका और फायदे)

टेंशन दूर करने के लिए योग शवासन – Tension dur karne ke liye yoga Savasana in Hindi

टेंशन दूर करने के लिए योग शवासन - Tension dur karne ke liye yoga Savasana in Hindi

टेंशन को दूर करने के लिए शवासन योग आसन एक बहुत ही अच्छा माध्यम है। शवासन पूर्णतः विश्राम की मुद्रा है, जो इसे सबसे चुनौती पूर्ण आसनों में से एक बनाती है। शवासन तंत्रिका तंत्र को एकीकृत करने का मौका देता है जो दैनिक जीवन के सभी सामान्य तनावों से निपटने में हमारी मदद करता है। इस आसन को करने के लिए आप एक योगा मैट को फर्श पर बिछा के उस पर पीठ के बल लेट जाएं। अपने दोनों पैरों और हाथों को सीधा रखें। अब अपने दोनों पैरों के बीच में 1.5 से 2 फिट की दूरी रखें। अपने दोनों हाथों को शरीर से 40 डिग्री पर रखें और हथेलियों को ऊपर की ओर रखें। शवासन में आप अपनी क्षमता के अनुसार रह सकते है। शवासन मुद्रा का अर्थ सोना नहीं हैं बस आपको ऑंखें बंद रखना हैं।

(और पढ़ें – शवासन योग करने के फायदे और तरीका )

तनाव को दूर करने का योग मार्जरासन – Tanav Ko Dur Karne Ka Yoga Marjariasana in Hindi

तनाव को दूर करन का योग मार्जरासन - Tanav Ko Dur Karne Ka Yoga Marjariasana in Hindi

मार्जरासन मुद्रा एक शक्तिशाली तनाव बस्टर के रूप में कार्य करते हुए रीढ़ और पेट के अंगों को कोमल मालिश प्रदान करती है। इस पोज़ को अक्सर काउ पोज़ के सामान साँस लेना लेने वाला जाना जाता है। यह आसन पाचन तंत्र और रीढ़ की हड्डी के तरल पदार्थ को उत्तेजित करके मार्जरासन समग्र स्वास्थ्य को भी लाभ पहुंचाता है। इस आसन को करने के लिए आप योगा मैट पर अपने सिर को सीधा रखें हुयें घुटने टेक के अपने दोनों हाथों को जमीन पर रख लें। अब साँस को अन्दर लेते हुए अपने सिर को पीछे की ओर तथा अपनी ठोड़ी को ऊपर करें। अब साँस छोड़ते हुए अपने सिर को नीचे करें और अपनी ठुड्डी को अपनी छाती से लगाने का प्रयास करें। इस आसन को कम से कम 5 से 6 बार करें।

(और पढ़ें – मार्जरासन करने के तरीके और उससे होने वाले फायदे)

तनाव से बचने का योग उत्तानासन – Tanav Se Bachne Yoga Uttanasana in Hindi

तनाव से बचने का योग उत्तानासन – Tanav Se Bachne Yoga Uttanasana in Hindi

उत्तानासन योग आपको तनाव मुक्त रखने में मदद करता है। इस आसन को आगे की तरफ झुक कर किया जाता है इसके अलावा यह योग पाचन में सुधार और पेट में अंगों को उत्तेजित करते हुए बांझपन को ठीक करने में भी मदद करता है। उत्तानासन योग करने के लिए आप सबसे पहले एक योगा मैट पर सीधे खड़े हो जाएं। अपने दोनों पैरों को पास-पास रखें और अपने दोनों हाथों को ऊपर सीधा कर लें। अब धीरे-धीरे सामने को ओर कमर से नीचे झुकते जाएं और अपने दोनों हाथों से पैर के पंजों को छूने की कोशिश करें। इस आसन में आप 60 से 90 सेकंड के लिए रहें फिर आसन से बाहर आयें।

(और पढ़ें – उत्तानासन (हस्तपादासन) करने का तरीका और फायदे)

Leave a Comment

Subscribe for daily wellness inspiration