पपीते के बीज के फायदे गुण लाभ – Papaya seed benefits in Hindi

पपीते के बीज के फायदे गुण लाभ – Papaya seed benefits in Hindi
Written by Anamika

Papaya Seeds in Hindi पपीते के बीज के फायदे हम सभी जानते है कि पपीता हमारे स्वास्थ्य के लिए बहुत फायदेमंद होता है। यह एक पीला फल है इसलिए आंखों को स्वस्थ रखने के लिए भी बहुतायत मात्रा में लोग इसका सेवन करते हैं। लेकिन क्या आपको मालूम है कि पपीते का बीज भी हमारे स्वास्थ्य के लिए उतना ही फायदेमंद होता है। वास्तव में पपीते के बीज का सेवन करने से शरीर के कई विकार दूर हो जाते हैं और शरीर स्वस्थ रहता है। यह शरीर में जमा विषाक्त पदार्थों को बाहर निकालने में मदद करता है और इसमें पाये जाने वाले पोषक तत्व (nutrients) ब्लड को प्यूरीफाई करने का कार्य करते हैं।

1. ऐसे करें पपीते के बीज का सेवन – How to Eat Papaya Seeds in Hindi
2. पपीते के बीज के फायदे – Benefits of Papaya Seeds in Hindi

3. पपीते के बीज के नुकसान – Side effects of Papaya Seeds in Hindi

ऐसे करें पपीते के बीज का सेवन – How to Eat Papaya Seeds in Hindi

  • पपीते के बीज का स्वाद कड़वा होता है इसलिए सर्वप्रथम पपीते के 1 या 2 बीज को मुंह में रखकर सीधे चबाएं। कुछ दिनों तक बीजों को चबाने की क्रिया दोहराते रहें, इससे स्वाद कलिकाएं (taste buds) इस स्वाद का आदी हो जाएंगी, फिर आपको बीज का स्वाद ज्यादा कड़वा नहीं लगेगा।
  • पपीते के बीज को दही में मिलाकर ब्रेकफास्ट में भी खाया जा सकता है।
  • पपीता के बीज को पीसकर इसमें शहद मिलाकर इसे चबाते रहने की भी आदत फायदेमंद होती है।
  • पपीते के बीजों को अच्छी तरह से कूटकर इन्हें सलाद में मिलाकर भी खाया जा सकता है। यह स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद होता है।
  • पपीता के बीजों को इकट्ठा करके इनका जूस निकालकर भी सेवन किया जा सकता है।

पपीते के बीज के फायदे – Benefits of Papaya Seeds in Hindi

पपीते के बीज के फायदे - Benefits of Papaya Seeds in Hindi

पपीते के बीज के फायदे हड्डियों के लिए – Papaya Seeds for Stronger Bones in Hindi

अन्य फलों के बीज की ही तरह पपीते के बीज में भी प्रोटीन और कैल्शियम अधिक मात्रा में पाया जाता है। पपीते के बीज का नियमित सेवन स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद तो होता ही है साथ में हड्डियों एवं मांसपेशियों (bone and muscles)को मजबूती प्रदान करने में भी पपीते का बीज सहायक होता है।

पपीते के बीज के लाभ आंखों के लिए – Papaya Seeds Cure Eye-Disorder in Hindi

आंखों को स्वस्थ एवं बीमारियों से दूर रखने के लिए पीला फल बहुत फायदेमंद माना जाता है। लेकिन आंखों की बीमारियों से बचान के लिए पपीते के बीज के साथ पपीते की पत्तियों का सेवन भी लाभदायक होता है। इसमें कई तरह के पोषक तत्व पाये जाते हैं जो मोतियाबिंद जैसी आंखों की अन्य बीमारियों से सुरक्षा प्रदान करते हैं।

पपीते के बीज के गुण जोड़ों के दर्द के लिए – Papaya Seeds for Joints pain in Hindi

अर्थराइटिस, जोड़ों के सूजन, दर्द और लालिमा को दूर करने में पपीते का बीज बहुत ही फायदेमंद होता है। पपीते के बीज में एंटी-इंफ्लैमेटरी गुण पाया जाता है जो इन बीमारियों से निजात दिलाने में बहुत ही लाभकारी होता है। अगर आप इन रोगों से पीड़ित हों तो पपीते के बीज का सेवन जरूर करें।

पपीता के बीज के फायदे जवान दिखने के लिए – Papaya Seeds Prevent Aging in Hindi

अमीनो एसिड, ल्यूसिन और ग्लाइसिन (glycine) पपीते के बीज में अधिक मात्रा में पाया जाता है, जो त्वचा के लिए काफी अच्छा होता है। यह बढ़ती उम्र के लक्षणों को कम करता है और त्वचा को बुढ़ापे से रोकने अर्थात् सिकुड़ने से बचाता है। इसलिए पपीते के बीज के रस या बीज को पीसकर चेहरे पर लगाना फायदेमंद होता है।

डेंगू के इलाज में पपीते का बीज है फायदेमंद – Papaya Seeds Cure Dengue in Hindi

शरीर में खून के स्तर को बढ़ाने और डेंगू जैसी खतरनाक बीमारी को दूर करने में पपीते का बीज बहुत लाभदायक होता है। पपीता के बीज में कुछ ऐसे एजेंट मौजूद होते हैं जो डेंगू बुखार के हमले से शरीर की सुरक्षा करते हैं। इसलिए यदि डेंगू बुखार की आशंका हो तो पपीते के बीज का सेवन करना शुरू कर देना चाहिए।

(और पढ़े – डेंगू बुखार लक्षण और उपचार)

वायरल इंफेक्शन से बचाने में पपीते का बीज लाभकारी – Papaya Seeds Heals Viral Infections in Hindi

वायरल इंफेक्शन से बचाने में पपीते का बीज लाभकारी - Papaya Seeds Heals Viral Infections in Hindi

ई-कोलाई, स्टैफिलोकोकस और सालमोनेला जैसे हानिकारक बैक्टीरिया को मारकर वायरल इंफेक्शन को दूर करने में पपीते के बीज बहतु ही लाभकारी होता है। इसके अलावा यह टॉयफाइड, डेंगू और कई अन्य बीमारियों को भी दूर करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। पपीते के बीज को मसल कर दूध में मिलाकर पीने से टॉयफाइड बुखार ठीक हो जाता है।

पपीते के बीज का उपयोग मुंहासे दूर करने के लिए – Papaya Seeds For Acne in Hindi

करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। पपीते के बीज को मसल कर दूध में मिलाकर पीने से टॉयफाइड बुखार ठीक हो जाता है। पपीते के बीज का उपयोग मुंहासे दूर करने के लिए - Papaya Seeds For Acne in Hindi

हार्मोन के असंतुलन के कारण ज्यादातर लोगों को मुंहासे की समस्या का सामना करना पड़ता है। लेकिन पपीते के बीज का सेवन करने से मुंहासे पूरी तरह से ठीक हो जाते हैं। पपीता के बीज को पीस लें और इसे मुंहासे पर लोशन के रूप में लगाएं और सूखने के बाद पानी से धो लें, जल्दी ही मुंहासे की समस्या दूर हो जाएगी।

(और पढ़े – मुंहासे दूर करने का आयुर्वेदिक उपाय)

(और पढ़े – मुँहासे में आहार प्रमुख भूमिका निभाता है जाने कैसे)

पपीता के बीज के गुण माहवारी के दर्द को कम करने में – Papaya Seeds reduce Menstrual Pain in Hindi

पपीते के बीज के गुण माहवारी के दर्द को कम करने में - Papaya Seeds reduce Menstrual Pain in Hindi

महिलाओं में मासिक धर्म के दौरान होने वाले दर्द को दूर करने में पपीते के बीज बहुत ही फायदेमंद होता है। पपीते के बीज को पीसकर इसमें शहद मिलाकर इसका सेवन करने से माहवारी के दौरान महिलाओं को दर्द कम होता है।

(और पढ़े – पीरियड्स में दर्द का इलाज)

पपीते के बीज के फायदे अच्छे पाचन के लिए – Papaya Seeds for Digestion in Hindi

कच्चे और पके दोनों तरह के पपीते के बीज में पैपेन (papain) नामक एंजाइम पाया जाता है। पैपेन प्रोटीन के पाचन में सहायक होता है। इसलिए पाचन क्रिया को मजबूत बनाने के लिए पपीते के बीज का सेवन फायदेमंद होता है। गर्भवती महिलाओं को पपीते का सेवन नहीं करना चाहिए।

पपीते के बीज के औषधीय गुण कैंसर से बचाने में – Papaya Seeds Arrests Cancer in Hindi

पपीते के बीज के औषधीय गुण कैंसर से बचाने में - Papaya Seeds Arrests Cancer in Hindi

कैंसर की कोशिकाओं और ट्यूमर को विकसित होने से रोकने के लिए पपीते का बीज लाभदायक होता है, क्योंकि पपीता के बीज में कुछ ऐसे तत्व पाये जाते हैं जो इन बीमारियों से बचाव करते हैं। पपीता के बीज में आइसोथायोसाइनेट पाया जाता है जो कोलन, स्तन (breast), फेफड़े और प्रोस्टेट कैंसर सहित ल्यूकेमिया जैसी बीमारियों से बचाता है।

(और पढ़े – कैंसर क्या है कारण लक्षण और बचाव के उपाय)

लिवर सिरोसिस के लिए पपीते का बीज है फायदेमंद – Papaya Seeds for Liver Cirrhosis in Hindi

लिवर सिरोसिस के लिए पपीते का बीज है फायदेमंद - Papaya Seeds for Liver Cirrhosis in Hindi

इसमें महत्वपूर्ण पोषक तत्व पाये जाते हैं जो लिवर के सिरोसिस(Liver Cirrhosis) को ठीक करने में मदद करते हैं। पपीता के बीज के 5 या 6 बीज को लेकर मसल लें और उन्हें जूस या भोजन के साथ या विशेषरूप से लाइम जूस के साथ सेवन करें। इस क्रिया को 30 दिन तक नियमित करने से लीवर सिरोसिस ठीक हो जाता है। इसके अलावा लिवर में जमा विषाक्त पदार्थ भी शरीर से बाहर निकल आते हैं।

(और पढ़े – लीवर की कमजोरी कारण लक्षण और दूर करने के उपाय)

पपीता के बीज के फायदे किडनी के लिए – Papaya Seeds for Healthy Kidneys in Hindi

पपीते के बीज के फायदे किडनी के लिए - Papaya Seeds for Healthy Kidneys in Hindi

एक रिसर्च में पाया गया है कि किडनी को स्वस्थ रखने और किडनी को फेल होने से बचाने के लिए पपीते के बीज का सेवन बहुत फायदेमंद होता है। इसके अलावा किडनी से संबंधित बीमारियों को दूर करने में भी पपीते का बीज लाभदायक होता है।

(और पढ़े – किडनी खराब कर देती हैं ये पाँच आदते जरूर ख्याल रखें)

पपीते के बीज के नुकसान – Side effects of Papaya Seeds in Hindi

पपीते के बीज के नुकसान - Side effects of Papaya Seeds in Hindi

  • पपीते के बीज का सेवन करने से इसके फायदे तो होते ही हैं, साथ में इसके सेवन से कुछ नुकसान भी होता है। इसलिए आपको पपीते के बीज का सेवन करने से पहले सावधानी बरतनी चाहिए।
  • गर्भवती महिलाओं को पपीते का बीज (papaya seeds) या एंजाइम युक्त हरे पपीते का सेवन नहीं करना चाहिए। इसके अलावा बच्चे को स्तनपान कराने वाली महिलाओं को भी पपीते से परहेज करना चाहिए।
  • पपीते के बीज में शक्तिशाली परजीवीरोधी (anti-parasitic) गुण पाये जाते हैं, जो बच्चों के जठरांत्र (gastrointestinal tracts) के लिए नुकसानदायक हो सकता है इसलिए डॉक्टर से सलाह लेकर इसका सेवन करना चाहिए।
  • माना जाता है कि पपीते का बीज पुरुषों में यौन शक्ति को कम करता है और शुक्राणुओं को कमजोर बनाता है, इसलिए पुरुषों को पपीते के बीज का सेवन करने से सावधानी बरतनी चाहिए।

Leave a Comment

Subscribe for daily wellness inspiration