किडनी को खराब करने वाली आदतें – These Five Habits Damage Kidney In Hindi

किडनी को खराब करने वाली आदतें - These Five Habits Damage Kidney In Hindi
Written by Ganesh

किडनी को बहुत नुकसान पहुंचाती है आपकी ये 5 गलत आदते जाने उनके बारे में। किडनी शरीर का एक बहुत ही महत्तवपूर्ण अंग होता है और इसके बिना मानव शरीर की कल्पना भी नही की जा सकती है। आधुनिक समय में लोगों में किडनी खराब होने की समस्या बहुत ज्यादा होने लगी है, वो तो ऊपर वाले का शुक्र है कि शरीर में दो किडनी को लगा कर भेजा है। इस लेख में हम आपको बता रहे हैं वो पाँच आदतें जो किडनी खराब करने में बहुत बड़ा कारण बनती हैं। आपका स्वास्थ्य अनमोल है इसलिये किडनी को खराब करने वाली आदतों का जरूर ख्याल रखियेगा। आइये जानतें है किडनी को खराब करने वाली आदतें कौन सी हैं।

किडनी खराब करता है ज्यादा नमक खाना

साधारण समुन्द्री नमक जो बाजार में आयोडीन नमक के नाम से मिलता है एक सफेद जहर है और किडनी की सेहत के लिये तो सबसे ज्यादा नुकसानदायक होता है। इस नमक का कैमिकल नाम सोडियम क्लोराइड होता है और इसमें बहुत अधिक मात्रा में सोडियम होता है। सोडियम की जरूरत हमारे शरीर को बहुत कम मात्रा में होती है और अधिक सोडियम हमारे गुर्दों और दिल को बहुत परेशान करता है। सोडियम की मात्रा ज्यादा हो जाने पर ब्लड प्रेशर बढ़ जाता है जिस कारण से किडनी का कार्य भार बहुत ज्यादा बढ़ जाता है। इसलिये जरूरी हो जाता है कि आप किडनी को ख़राब करने वाली इस आदत को छोड़ने के लिए नमक का सेवन कम मात्रा में करें। इस साधारण नमक की जगह आप सेंधा नमक का सेवन कर सकते हैं।

(और पढ़े – शरीर में बढ़े सोडियम को कुछ इस तरह करें कम…)

किडनी खराब करने वाली आदत है पानी कम पीना

पता नही क्यों बहुत से लोगों की आदत होती है कि वो पानी बहुत कम मात्रा में पीते हैं यह एक बहुत गलत आदत है जो किडनी को बुरी तरह से प्रभावित करती है । किडनी का प्रमुख कार्य फिल्टर करने का होता है और इसके लिये उसको पर्याप्त मात्रा में पानी मिलना बहुत जरूरी होता है। कम मात्रा में पानी मिलने के कारण विषैले तत्व किडनी में ही रुके रह जाते हैं और किडनी खराब करते हैं । एक दिन में कम से कम 2 लीटर पानी जरूर पीना चाहिये।

(और पढ़े – क्या आप जानतें है आपको रोज कितना पानी पीना चाहिए)

किडनी खराब करता है जरुरत से ज्यादा पानी पीना

जिस तरह से पानी कम मात्रा में पीने से किडनी पर गलत प्रभाव पड़ता है उसी तरह ज्यादा पानी पीने से भी किडनी में खराबी आ सकती है। ज्यादा मात्रा में पानी पीने से किडनी को फिल्टर का काम ज्यादा करना पड़ता है जिस कारण किडनी के नेफ्रोन खराब होने लगते हैं। कई बार ज्यादा पानी पीने से किडनी में “हाइड्रो नेफ्रोसिस” नामक रोग हो जाने की सम्भावनायें भी बन जाती हैं । एक दिन में अधिक से अधिक 3 से 4 लीटर तक ही पानी पीना चाहिये और वो भी ज्यादा दिनों तक नही।

(और पढ़े – बहुत अधिक पानी पीना भी हो सकता है खतरनाक)

(और पढ़े – खाना खाने के बाद पानी पीना चाहिए कि नहीं)

किडनी खराब करने वाली आदत है पेशाब को रोकना

कई बार ऐसा होता है कि पेशाब का प्रेशर बनता है और हम करने नही जाते हैं। इसका शिकार महिलाएं ज्यादा होती हैं जो कि परिस्थितियों के अनुसार संकोचवश पेशाब को बहुत बहुत देर तक रोक कर रखती हैं। ऐसा करना किडनी खराब करने के लिये बहुत खराब आदत है। पेशाब का वेग आयुर्वेद के अधारणीय वेगों में गिना गया है अर्थात जब भी पेशाब जाने की जरूरत महसूस हो तब कर लेना चाहिये। सुनने में बहुत छोटी बात लगती है लेकिन किडनी के स्वास्थय को बनाने के लिये कभी भी पेशाब के वेग को नही रोकना चाहिये।

(और पढ़े – ज्यादा देर तक पेशाब रोकने से हो सकते है ये नुकसान)

(और पढ़े – मूत्राशय में संक्रमण के कारण, लक्षण और बचाव)

किडनी खराब करते है नशे के सामान

नशे की चीजें जैसे शराब, तम्बाकू और गुटखा आदि किडनी के लिये बहुत ही नुक्सानदायक सिद्ध होते हैं। इनके सेवन से हृदय की गति बढ़ती है जिस कारण से शरीर में रक्त का प्रावाह बढ़ जाता है और ये चीजें शरीर में पानी के स्तर को भी कम करती हैं जिस कारण से अप्रत्यक्ष रूप से किडनी का कार्यभार बढ़ जाता है। इसलिये जरूरी है कि इन चीजों के सेवन से पूरी तरह से बचा जाये जिससे कि किडनी स्वस्थ बनी रह सकें।

(और पढ़े – किडनी को साफ करने के उपाय)

स्वास्थ्य और सेहत से जुड़े अन्य लेख पढ़ने के लिए नीचे दिए गए टॉपिक पर क्लिक करें

हेल्थ टिप्स | घरेलू उपाय | फैशन और ब्यूटी टिप्स | रिलेशनशिप टिप्स | जड़ीबूटी | बीमारी | महिला स्वास्थ्य | सवस्थ आहार |

Leave a Comment

Subscribe for daily wellness inspiration