शरीर में बढ़े सोडियम को कुछ इस तरह करें कम – Home remedies to lower sodium level in hindi

शरीर में बढ़े सोडियम को कुछ इस तरह करें कम - Home remedies to lower sodium level in hindi
Written by Deepanshu

Lower sodium level in hindi नमक (सोडियम) भोजन का जायका बढ़ाने के साथ ही ये स्वास्थ्यवर्धक भी है। सोडियम (Sodium) के बिना खाने में कोई स्वाद नहीं आता और भोजन बेस्वाद लगने लगता है। इसलिए खाने में हम अकसर स्वादानुसार नमक का प्रयोग करते है। लेकिन अगर भोजन में नमक (सोडियम) की मात्रा बढ़ जाए तो यह हमारे लिए काफी नुकसानदायक साबित हो सकता है। इसलिए खाने में सही मात्रा में नमक का प्रयोग (right amount of salt) करना चाहिेए जिससे नमक की अधिकता को कम किया जा सकें। आज हम आपको बताने जा रहे है कि एक दिन में इंसान को कितने नमक की जरूरत होती है। नमक कितना खाए, अगर खून में नमक की मात्रा बढ़ जाए तो सोडियम को कम करने उपाय क्या है और  उसे कैसे नियंत्रित किया जा सकता है। (home remedies to lower sodium in hindi)

जन्म से ही होता है नमक से नाता – sodium in hindi

आपको जान कर जरूर हैरानी होगी कि जन्म से पहले से ही हमारा नाता नमक से जुड़ जाता है। जब एक बच्चा अपनी मां के गर्भ में होता है तब से उसे नमक मिलता रहता है। नौ महीने तक बच्चे जिस पानी में रहता है वह नमक का पानी यानी एमनियोटिक फ्लयूड होता है। इसके साथ ही हड्डियों , हमारे पसीने और आंखों से निकलने वाले आंसू में भी नमक का मात्रा होता है। यानी नकम के साथ हमारा रिश्ता जन्म के पहले से ही होता है। लेकिन ये नमक जब शरीर में आवश्यकता से अधिक हो जाती है (high sodium in body in hindi) तो हमारे लिए की सारी परेशनी लेकर आती है। कई बार नमक की अधिकता हमारे जान पर बन आती है।

अधिक नमक से ये होता है प्रभाव – causes high sodium levels in hindi

अधिक नमक का सेवन कई तरह की बीमारी आपको दे सकता है। इसलिए नमक का उतना ही सेवन करना जितना एक शरीर के लिए जरूरी है। अधिक नमक के इस्तेमाल से आपको हाइपर टेंशन (Hyper tension) और हाई ब्लड प्रेशर (High blood pressure) की शिकायत हो सकती है। अगर ये हाइपर टेंशन लंबे समय तक बना रहे तो आपको दिल की बीमारी, हार्ट अटैक (Heart attack) और गुर्दे की बीमारी (Kidney disease) होने की चांस बढ़ जाता है। सोडियम का ज्यादा उपयोग करने से शरीर में आयरन की कमी (iron deficiency) हो जाती है और इससे पेट में एसिडिटी (Acidity) बढ़ जाती है।

इसके अलावा नमक के ज्यादा इस्तेमाल से  शरीर सूज जाता है, खासकर हाथ और पैर, जिसे इडेमा कहते हैं। इडेमा तब होता है जब शरीर अत्यधिक सोडियम को संतुलित करने के लिए अतिरिक्त तरल पदार्थों को शरीर में रोक लेता है। नमक में मौजूद सोडियम अधिक मात्रा में शरीर में जाने से पेट का कैंसर (Cancer) होने की आशंका काफी बढ़ जाती है।

क्या कहते हैं आंकड़े – What do statistics say in hindi

हमारे शरीर में कुल नमक का 27 प्रतिशत हड्डियों में होता है।

नमक में 39.3 प्रतिशत सोडियम और 60.7 प्रतिशत क्लोरीन होता है।

आयोडीन की कमी से होने वाले गॉइटर रोग को दूर करने के लिए 1924 में आयोडीनयुक्त नमक का प्रचलन शुरू हुआ।

शरीर के भार का 1 ग्राम प्रति किलो के हिसाब से नमक खाने से तुरंत मौत हो सकती है।

सोडियम कम करने के उपाय – Sodium kam karne ke upay in hindi

  • भोजन में स्वादानुसार नमक का प्रयोग करें
  • नमकीन स्नैक्स कम से कम खाएं।
  • दही में नमक न डालें
  • तला हुआ भोजन कम खाएं।
  • सलाद बिना नमक के खाएं या फिर हल्का मात्रा में सेंधा नमक का प्रयोग कर सकते है।
  • पापड़, चटनी व प्रोसेस्ड फूड का इस्तेमाल कम करें
  • हृदय, किडनी या फेफड़ों की बीमारी से पीड़ित लो सोडियम साल्ट खाएं।

कितना नमक है जरूरी – How much salt is needed in hindi

सोडियम को कम सेवन करना या फिर अधिक सेवन करना दोनों ही हमारे शरीर को नुकसान पहुचाता है। कम या अधिक मात्र में नमक का सेवन करने से मांसपेशियों में ऐंठन हो जाती है। इसलिए जरूरी है कि उचित मात्र में नमक का सेवन किया जाए। वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गेनाईजेशन (World Health Organization) द्वारा जारी एक रिपोर्ट में बताया गया है कि उम्र के अनुसार एक इंसान को कितना नमक की जरूरत होती है। आइए आप भी इस रिर्पोट पर एक नजर डाल कर देखिए।

  • 0-12 महीने: एक ग्राम से कम
  • 1 से 3 साल: 2 ग्राम
  • 4 से 6 साल: 3 ग्राम
  • 7 से 10 साल: 4 ग्राम
  • 11 साल और उससे ऊपर: 5 ग्राम

फूड जिससे कम हो सकता है सोडियम – These foods can be lower sodium in hindi

शरीर में अगर सोडियम की मात्रा अधिक हो गई है तो चिंता की ज्यादा बात नहीं है । शरीर से सोडियम को कम करने के लिए पोटेशियम से भरपूर आहारों का सेवन करना चाहिए। जिससे शरीर में मौजूद एक्स्ट्रा सोडियम को कम करने में फायदेमंद साबित होता है।

ड्राई फ्रूट्स से कम होता है सोडियम – Dry fruits for lower sodium in hindi

ड्राइफ्रूट्स सेहत के लिए फायदेमंद होने के साथ ही ये शरीर में मौजूद हाई सोडियम लेवल को कम करने में मदद करता है। आपको बता दें कि ड्राई फ्रूट्स को न्‍यूट्रिशयस और हेल्‍दी स्‍नैक्‍स के रूप में जाना जाता है। मुट्ठी भर ड्राई फ्रूट्स (Dry fruits) खाने से शरीर से अतिरिक्त नमक को आसानी से कम किया जा सकता है।

बीन्‍स से करें सोडियम को कम – beans for lower sodium in hindi

बीन्स में पोट्रेशियम प्रचुर मात्रा में पाया जाता है जो शरीर से अधिक नमक को कम करने में मदद करता है। साथ ही यह सोडियम-पोटेशियम (sodium potassium) के संतुलन को बनाएं रखने के लिए हमें खूब सारा पोटेशियम प्रदान करता है।

केला खाएं सोडियम को कम करने के लिए – Banana for lower sodium in hindi

सेहत बनाने की लिए हम केला का इस्तेमाल करते है। आपको बता दें कि केला में  पोटेशियम (Potassium) अधिक, लेकिन सोडियम कम मात्रा में होता है और इससे तरल पदार्थ और इलेक्‍ट्रोलाइट संतुलन को रिस्‍टोर करने में मदद मिलती है।

संतरे का जूस सोडियम को कम करने के लिए – Orange for lower sodium in hindi

पेट की परेशानी से बचने के लिए अपने भोजन में सोडियम को कम करना होगा। अधिक नमक से बचने के लिए पोटेशियम युक्‍त संतरे के जूस का एक गिलास बेहतरीन विकल्प है।

Leave a Comment

Subscribe for daily wellness inspiration