खाना खाने के बाद पानी पीना चाहिए कि नहीं – Drinking Water After Meals: Good or Bad in Hindi

खाना खाने के बाद पानी पीना चाहिए कि नहीं - Drinking Water After Meals: Good or Bad in Hindi
Written by Ramkumar

खाना खाने के बाद पानी पीना चाहिए कि नहीं ये सवाल सबके मन में होता है, जब भोजन के दौरान (During meals) पानी पीने की बात आती है, तो लोगों के मन में पाचन प्रक्रिया से सम्बंधित विभिन्न प्रकार के सवाल आते है। कुछ लोगों का मानना है कि खाना खाते समय पानी पीना पाचन के लिए अच्छा है, जबकि कुछ लोगों का मानना है कि खाना खाते समय पानी नहीं पीना चाहिए। चूंकि पाचन एक जटिल प्रक्रिया है, जिसका मानव स्वास्थ्य पर बहुत गहरा प्रभाव पड़ता है। अतः खाने के पहले (before eating), खाने के बाद (after Meals) और खाने के दौरान (During Meals) पानी पीना अच्छा है या बुरा? इस तरह के प्रश्न लोगों को अपने स्वास्थ्य को लेकर असमंजस की स्थिति में डाल देते हैं। आप इस लेख की मदद से जानेंगे कि भोजन के दौरान पानी पीना अच्छा है या बुरा।

  1. भोजन का पाचन कैसे होता है – Basics Of Digestion Process In Hindi
  2. खाने के पहले पानी क्यों नहीं पीना चाहिए – Why should not drink water before eating in Hindi
  3. खाना खाने के तुरंत बाद पानी क्यों नहीं पीना चाहिए – Why should not drink water after eating in Hindi
  4. खाना खाते समय पानी पीना चाहिए या नहीं – Should drink water while eating food in Hindi
  5. पानी पीने का सबसे अच्छा समय कब होता है – When is the best time to drink water in Hindi

भोजन का पाचन कैसे होता है – Basics Of Digestion Process In Hindi

भोजन का पाचन कैसे होता है - Basics Of Digestion Process In Hindi

लोगों को अच्छे पाचन के लिए, भोजन करने के साथ पानी उपयोगी है या नहीं, इस बात की जानकारी के लिए पाचन प्रक्रिया को समझना अति आवश्यक है।

जैसे ही मुंह द्वारा खाना चबाना शुरु किया जाता है, पाचन प्रक्रिया (digestion process) प्रारम्भ हो जाती है। इस दौरान लार ग्रंथियां लार का उत्पादन करती है, जिसमें विभिन्न प्रकार के एंजाइम होते हैं, जो भोजन को तोड़ने में मदद करते हैं। लार भोजन को नरम करने और चिकना बनाने में मदद करती है जिससे कि भोजन आसानी से भोजन की नाली जिसे ग्रासनली (esophagus) कहते है के द्वारा निगल लिया जाये। भोजन को निगलने के बाद यह अम्लीय गैस्ट्रिक रस (acidic gastric juice) या पेट में मौजूद एसिड के साथ मिलता है, यह रस भोजन को गाढे तरल में बदल देता है जिसे chyme (लुगदी) के नाम से जाना जाता है। chyme अंततः छोटी आंत में प्रवेश करता है। यहाँ यह तरल पाचन एंजाइमों और यकृत के पित्त अम्ल (bile acid) के साथ मिश्रित हो जाता है। यहाँ भोजन को आवश्यक पोषक तत्वों (Nutrients) में तोड़ा जाता है, जिन्हें रक्त प्रवाह के माध्यम से अवशोषित कर लिया जाता है। रक्त के द्वारा इन पोषक तत्वों को शरीर के विभिन्न क्षेत्रों में भेज दिया जाता है। जब पाचन प्रक्रिया समाप्त होती है तब बचे हुए पदार्थ को गुदा द्वारा बाहर निकल दिया जाता है।

व्यक्ति के खाने के आधार पर, यह पूरी पाचन प्रक्रिया 24 से 72 घंटों तक का समय ले सकती है।

(और पढ़े – मानव पाचन तंत्र कैसा होता है, और कैसे इसे मजबूत बनायें…)

खाने के पहले पानी क्यों नहीं पीना चाहिए – Why should not drink water before eating in Hindi

खाने के पहले पानी क्यों नहीं पीना चाहिए - Why should not drink water before eating in Hindi

चूंकि पानी एक शीतलक है, अतः जब आप खाने से पहले पानी पीते हैं, तो यह गैस्ट्रिक रस (gastric juices) को पतला करता है। पाचन शक्ति (digestibility) को कम करता है तथा आंतों की दीवार में ऐंठन का कारण बनता है। जिससे पेट में भोजन के रुकने या भोजन का छोटी आंत में जाने के लिए अत्यधिक समय लगता है। यह भी कहा जाता है कि भोजन से पहले पानी पीना, कमजोरी और दुर्बलता का कारण बनता है। इसलिए भोजन करने के कुछ घंटे (30-60 मिनिट) पहले पानी नहीं पीना चाहिए।

खाने के पहले (before Meals) पानी का सेवन निम्न समस्याओं का कारण बनता है:

  • पाचन रस को कम करता है
  • अम्लता स्तर बढ़ाता है
  • लार को कम या पतला करता है, जिससे मुंह में खाना का पाचन सही तरह से शुरू नहीं हो पाता है।

(और पढ़े – क्या आप जानते है पेट में खाना पच रहा है या सड़ रहा है…)

खाना खाने के तुरंत बाद पानी क्यों नहीं पीना चाहिए – Why should not drink water after eating in Hindi

खाना खाने के तुरंत बाद पानी क्यों नहीं पीना चाहिए - Why should not drink water after eating in Hindi

जो व्यक्ति खाना खाने के तुरंत बाद पानी पीते हैं, तो यह भोजन की गुणवत्ता और शरीर की पाचन शक्ति को कमजोर बना सकता है। पानी शीतलक प्रवृत्ति का होता है, इसलिए खाने के तुरंत बाद पानी का सेवन इंसुलिन के स्तर को बढ़ा सकता है। भोजन के तुरंत बाद पिया जाने वाला पानी, पेट में भोजन को ग्लूकोज (glucose) में बदल देता है, और इसे स्टोर करता है। फलस्वरूप यह ब्लड शुगर स्पाइक (Blood sugar spikes) का कारण बनता है। इंसुलिन के स्तर में वृद्धि पाचन तंत्र को कमजोर करती है, तथा मोटापा को बढ़ावा देती है। इसका एक और कारण यह है कि भोजन के तुरंत बाद पानी की अत्यधिक मात्रा एंजाइम और एसिड की भोजन से होने वाली क्रिया में रूकावट डाल सकती है। अतः भोजन के तुरंत बाद (after Meals) अत्यधिक पानी पीने की सलाह नहीं दी जाती है। शरीर को पोषक तत्वों को अच्छी तरह से अवशोषित करने के लिए भोजन के एक घंटे बाद पानी पीना जरूरी है।

भोजन खाने के करीब आधे घंटे के बाद ही पानी पीना उचित माना जाता है। यह तरीका प्यास बुझाएगा और आपको पूर्णता की भावना (भरे हुए पेट की भावना) दिलाएगा। खाने के एक या दो घंटे के बाद, जितना संभव हो उतना पानी पीया जा सकता है, क्योंकि तब तक भोजन की एसिड से क्रिया खत्म हो जाएगी।

(और पढ़े – धीरे-धीरे खाना खाने से होते हैं ये बड़े फायदे…)

खाना खाते समय पानी पीना चाहिए या नहीं – Should drink water while eating food in Hindi

खाना खाते समय पानी पीना चाहिए या नहीं - Should drink water while eating food in Hindi

आयुर्वेद के अनुसार भोजन के दौरान (During meals) पानी पीना काफी फायदेमंद है। ऐसा करने से खाए जाने वाले भोजन को नमी मिलती है और भोजन को अच्छी तरह से छोटे कणों में तोड़ने में मदद मिलती है। और यदि कुछ तेल या मसालेदार भोजन खाया जाता है, तो यह प्यास बुझाने में मदद करता है। इस प्रकार, भोजन के बीच में पानी पीना एक आदर्श और स्वस्थ आदत है। लेकिन इसका मतलब यह नहीं है कि भोजन के दौरान (During meals) प्यास बुझाने के लिए पानी से भरे गिलास का सेवन किया जाये। भोजन के दौरान पानी की एक न्यूनतम मात्रा का सेवन किया जाना चाहिए।

भोजन के दौरान (During meals) पानी पीते समय यह सुनिश्चित करें कि पानी कमरे के तापमान पर है या नहीं। हमेशा कमरे के तापमान के समान ही पानी का सेवन करना चाहिए। बहुत ठंडा पानी पीना पाचन क्षमता को कम कर सकता है, जो पाचक एंजाइम (digestive enzymes) को निष्क्रिय करता है और शरीर में जहरीले (toxic) अपशिष्ट के संचय का कारण बन सकता है। यह एसिड रिफ्लक्स (acid reflux) या हाइटस हर्निया (hiatus hernia) का भी कारण बन सकता है। इसके अलावा, भोजन के दौरान वाष्पित पेय (aerated drinks) या कॉफी लेने से बचना चाहिए।

(और पढ़े – एसिड रिफ्लक्स के कारण, लक्षण, जांच, इलाज, और परहेज…)

पानी पीने का सबसे अच्छा समय कब होता है – When is the best time to drink water in Hindi

पानी पीने का सबसे अच्छा समय कब होता है - When is the best time to drink water in Hindi

पानी पीने का सही समय कब है? इस बात से काफी लोग परेशान रहते हैं। पानी पीने का सही समय क्या है इसके बारे में अब आप जानेंगे।

पानी पीने का अच्छा समय जागने के बाद  – Best Time To Drink Water After Getting Up In Hindi

जागने के बाद सही मात्रा में पानी पीने से आंतरिक अंग सही तरह से काम करते है। तथा विषाक्त पदार्थों को भी बाहर निकालने में मदद मिलती है। आंतरिक अंगों को सक्रिय करने के लिए जागने के बाद एक से दो गिलास पानी जरूर पीएं।

(और पढ़े – क्या आप जानतें है आपको रोज कितना पानी पीना चाहिए…)

भोजन से पहले पानी पीने का सही समय – Good Time Drinking Water Before Before Meals In Hindi

पाचन में सहायता के लिए या पाचन क्रिया को स्वास्थ्य बनाये रखने के लिए भोजन करने के 30 मिनट पहले पानी पीना चाहिए। भोजन करने के 30 मिनिट पहले पानी पीने से पाचन क्रिया को अच्छे से काम करने में सहायता मिलती है। अतः भोजन से 30 मिनट या 1 घंटे पहले एक ग्लास पानी जरूर पीना चाहिए।

(और पढ़े – पानी पीने का सही समय जानें और पानी पीने के लिए खुद को प्रेरित कैसे करें…)

खाना खाने के कितनी देर बाद पानी पीना चाहिए – When To Drink Water After Meal In Hindi

भोजन खाने के 1 घंटे बाद पानी पीने से शरीर को पोषक तत्वों को अवशोषित करने में मदद मिलती है। याद रखें कि भोजन के ठीक बाद बहुत अधिक मात्रा में और जल्दी-जल्दी पानी का सेवन नहीं करना चाहिए। तथा भोजन के तुरंत बाद पानी का सेवन नहीं करना चाहिए, क्योंकि पानी पाचन रस को पतला कर देगा।

(और पढ़े – खाने के बाद ये काम किया तो हो जाएगी मुसीबत बिगड़ेगी सेहत, पड़ेंगे लेने के देने !)

पानी पीने का सही समय स्नान करने से पहले – Good Time To Drink Water Before Bathing In Hindi

स्नान से पहले पीने से रक्तचाप को कम करने में मदद मिलती है अतः स्नान करने से पहले एक गिलास पानी पीना चाहिए।

(और पढ़े – जानिए उच्च रक्तचाप के बारे में सब कुछ…)

पानी पीने का अच्छा टाइम सोने से पहले – Before Sleeping Is The Best Time To Drink Water In Hindi

बिस्तर से पहले या सोने से पहले एक गिलास पानी का सेवन रात के दौरान तरल पदार्थ की कमी को पूरा करने में मदद करता है।

जब भोजन के साथ तरल पदार्थ पीने की बात आती है, तो सबसे अच्छा क्या है इस पर अपना निर्णय खुद लें।

(और पढ़े – अच्छी नींद के लिए सोने से पहले खाए जाने वाले खाद्य पदार्थ…)

Leave a Comment

Subscribe for daily wellness inspiration