मुँहासों को दूर करने के घरेलू उपाय – Muhase Door Karne Ke Gharelu Upay

मुँहासों को दूर करने के घरेलू उपाय – Home Remedies for Acne in Hindi

मुँहासों को दूर करने के घरेलू उपाय – Home Remedies for Acne in Hindi
Written by Jaideep

Muhase Door Karne Ke Gharelu Upay in Hindi चेहरे में मुँहासों का आना, आपकी सुंदरता में ग्रहण लगने के समान होता है। स्‍वाभाविक है कि आप भी मुँहासों को दूर करने के घरेलू उपाय खोज रहें होगें। यह भी हो सकता है कि आपने अब तक मुँहासों को दूर करने के घरेलू उपाय अजमाए ही न हों। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि मुँहासों को दूर करने के घरेलू उपायों में कोमल हर्बल क्रीम, जैल, आवश्‍यक तेल (Essential Oil), जरूरी खाद्य पदार्थ और कुछ सरल जीवनशैली में परिवर्तन शामिल हैं।

आपकी त्‍वचा में मुंहासे तब आते हैं, जब आपकी त्‍वचा छिद्रों (Skin pores) को बैक्‍टीरिया द्वारा संक्रमित किया जाता है। मुंहासे एक बैक्‍टीरिया संक्रमण का उदाहरण होता है। आज इस लेख में आप जान पाऐगें कि मुँहासों को दूर करने के घरेलू उपाय क्‍या हैं जिनके द्वारा आप अपनी त्‍वचा के तेल (Skin oil) को संतुलित करने, बैक्‍टीरिया को मारने और भविष्‍य में मुँहासों को वापस आने की संभावना को रोक सकते हैं। आइए जाने मुंहासे दूर करने के घरेलू उपाय।

1. मुँहासों के लिए घरेलू उपाय – Muhase Ke Liye Gharelu Upay in Hindi

2. मुँहासों के उपचार के लिए जीवन शैली में परिवर्तन – Muhase Upchar Ke Liye Jeevan Shaili Me Parivartan in Hindi

मुँहासों के लिए घरेलू उपाय – Muhase Ke Liye Gharelu Upay in Hindi

  1. मुंहासे दूर करने का घरेलू उपाय नारियल तेल – Muhase Door Karne Ke Gharelu Upay Nariyal Ka Tel in Hindi
  2. मुंहासे हटाने के उपाय ग्रीन टी – Muhase Hatane Ke Upay Green Tea in Hindi
  3. पिंपल्स के लिए घरेलू उपाय है एलोवेरा – Pimples Ke Liye Gharelu Upay Hai Aloe Vera in Hindi
  4. मुँहासे हटाने का उपाय है टी ट्री ऑयल  – Muhase Hatane ka Upay hai Tea Tree Oil in Hindi
  5. मुंहासों का उपचार करें लहसुन से – Muhase Ka Upchar Kare Lahsun Se in Hindi
  6. मुँहासों को दूर करे जोजोबा तेल से – Muhase Ko Door Kare Jojoba Oil Se in Hindi
  7. पिंपल्स का उपचार करें शहद से – Pimples Ka Upchar Kare Shahad se in Hindi

आप अपने चेहरे को सुंदर बनाने और मुँहासों (Acne) का उपचार करने के लिए यहां बताए जा रहें मुँहासों को दूर करने के घरेलू उपायों का इस्‍तेमाल कर सकते हैं। साथ ही आपको अपनी जीवन शैली में कुछ परिवर्तन करने की आवश्‍यकता होगी जो कि आपके लिए बहुत ही सरल और प्रभावकारी हो सकती हैं। आइए इन्‍हें जानें।

मुंहासे दूर करने का घरेलू उपाय नारियल तेल – Muhase Door Karne Ke Gharelu Upay Nariyal Ka Tel in Hindi

मुंहासे दूर करने का घरेलू उपाय नारियल तेल - Muhase Door Karne Ke Gharelu Upay Nariyal Ka Tel in Hindi

अन्‍य प्राकृतिक उपचारों की तरह ही नारियल के तेल (Coconut oil) में एंटी-इन्‍फ्लामेट्री और जीवाणुरोधी गुण मौजूद रहते हैं। इन गुणों की मौजूदगी के कारण नारियल तेल मुंहासे पैदा करने वाले बैक्‍टीरिया को नष्‍ट कर सकता है साथ ही त्‍वचा की लाली और सूजन को भी कम करने में मदद करता है। खुले हुए मुँहासों के घावों का उपचार भी नारियल तेल से किया जा सकता है।

मुँहासों का उपचार करने के लिए नारियल तेल (Coconut Oil) को सीधे ही मुँहासों के ऊपर उपयोग किया जा सकता है। आप रुई में थोड़ा सा नारियल का तेल लेकर इस रुई को मुंहासे के घाव (Acne lesions) पर रखें। यह आपके मुँहासों के उपचार को गति दिलाने में मदद करता है।

(और पढ़े – नारियल के तेल के फायदे और उपयोग…)

मुंहासे हटाने के उपाय ग्रीन टी – Muhase Hatane Ke Upay Green Tea in Hindi

मुंहासे हटाने के उपाय ग्रीन टी - Muhase Hatane Ke Upay Green Tea in Hindi

हम सभी लोग हरी चाय का उपयोग अपने शरीर मे ताजगी (Freshness) लाने के लिए करते हैं। लेकिन क्‍या आपको पता है कि मुँहासों को दूर करने के घरेलू उपाय के रूप में भी इसका उपयोग किया जाता है। ग्रीन टी में एंटीऑक्‍सीडेंट (Antioxidant) अच्‍छी मात्रा में उपस्थित रहते हैं जो त्‍वचा की सूजन को कम करने में मदद करते हैं। हरी चाय में कैटेचिन नामक पॉलीफेनॅल एंटीऑक्‍सीडेंट (Polyphenol Antioxidants) मौजूद रहता है।

जिन लोगों को मुंहासे होते हैं उनकी त्‍वचा में सीबम या प्राकृतिक तेल (Sebum or Natural Body Oils) की अधिक मात्रा होती है साथ ही उनकी त्‍वचा छिद्रों में एंटीऑक्‍सीडेंट की कमी भी होती है। शरीर मे यदि पर्याप्‍त मात्रा में एंटीऑक्‍सीडेंट (Antioxidant) मौजूद रहते हैं तो ये शरीर की विषाक्‍तता को हटाने में मदद करते हैं जो शरीर की स्‍वस्‍थ्‍य कोशिकाओं को नुकसान पहुंचाती हैं। हरी चाय का उपयोग कर आप खुले हुए मुंहासे के घावों (Acne wounds) का उपचार कर सकते हैं। एंटीऑक्‍सीडेंट त्‍वचा में मौजूद बैक्‍टीरिया (Bacteria) को नष्‍ट करने और उन्‍हें दूर करने में सहायक होते हैं। अध्‍ययन बताते हैं कि यदि नियमित रूप से 8 सप्‍ताह तक हरी चाय का सेवन किया जाता है तो व्‍हाइटहेड्स और ब्‍लैकहेड (Whiteheads And Blackheads) में 79 से 89 प्रतिशत तक कमी आ सकती है।

(और पढ़े – ग्रीन टी या लेमन टी कौन है बेहतर…)

पिंपल्स के लिए घरेलू उपाय है एलोवेरा – Pimples Ke Liye Gharelu Upay Hai Aloe Vera in Hindi

पिंपल्स के लिए घरेलू उपाय है एलोवेरा - Pimples Ke Liye Gharelu Upay Hai Aloe Vera in Hindi

प्राकृतिक जीवाणुरोधी और एंटी-इन्‍फ्लामेट्री गुण एलोवेरा (Aloe Vera) की पहचान है, इसका सीधा अर्थ यह निकाला जा सकता है कि यह मुँहासों को दूर कर सकता है। यदि एलोवेरा का उपयो‍ग नियमित रूप से किया जाए तो यह भविष्‍य में मुँहासों (Acne) के आने की संभावना को कम करता है। ऐलोवेरा में पानी पर्याप्‍त मात्रा में होता है जो त्‍वचा को मॉइस्‍चराइज (Moisturize) रखने में मदद करता है। यह उन लोगों के लिए भी बेहद फायदेमंद होता है जिनकी त्‍वचा अन्‍य मुंहासे रोकने बाले उत्‍पादों का उपयोग करने के बाद शुष्‍क हो चुकी है।

मुँहासों का उपचार करने के लिए आप सबसे पहले मुँहासों की सफाई करें और फिर इन मुँहासों पर ऐलोवेरा जेल लगाएं। ऐलोवेरा के एंटी-इन्‍फ्लामेट्री (Anti-Inflammatory) गुण आपके मुँहासों की जलन को शांत करने के साथ-साथ उनके उपचार की गति को भी बढ़ाता है।

(और पढ़े – एलोवेरा जूस बनाने की घरेलू विधि और फायदे…)

मुँहासे हटाने का उपाय है टी ट्री ऑयल  – Muhase Hatane ka Upay hai Tea Tree Oil in Hindi

मुँहासे हटाने का उपाय है टी ट्री ऑयल  - Muhase Hatane ka Upay hai Tea Tree Oil in Hindi

चाय पेड़ के तेल के फायदे शायद आपको पता न हों पर इतना जान लें कि यह आपके मुँहासों का उपचार कर सकता है। आप अपनी त्‍वचा में टी ट्री ऑयल का उपयोग कर त्‍वचा की सूजन और मुँहासों की लाली (Redness of Pimples) को दूर कर सकते हैं। टी ट्री ऑयल में प्राकृतिक जीवाणुरोधी और एंटी-इन्‍फ्लामेट्री गुण मौजूद रहते हैं जो कि मुंहासे पैदा करने वाले पी. एकनेस (P. acnes) बैक्‍टीरिया को नष्‍ट कर सकते हैं। साथ ही यह मुँहासों की सूजन को कम करते हैं। एक अध्‍ययन से पता चलता है कि टी ट्री आयल का उपयोग करने से मध्‍यम और हल्‍के मुँहासों (Moderate Acne) की संख्‍या में कमी आती है।

चाय पेड़ के तेल (Tea Tree Oil) का उपयोग करने के लिए आप इसे क्रीम, जेल या अन्‍य प्रकार के तेलों के साथ मिलाकर इसका उपयोग कर सकते हैं। लेकिन ध्‍यान रखें कि आवश्‍यक तेल का उपयोग करने से पहले उन्‍हें एक वाहक तेल मिलाकर पतला करें। सीधे तौर पर आवश्‍यक तेलों (Essential Oils) का उपयोग आपकी त्‍वचा को नुकसान पहुंचा सकता है।

(और पढ़े – टी ट्री ऑयल के फायदे और नुकसान…)

मुंहासों का उपचार करें लहसुन से – Muhase Ka Upchar Kare Lahsun Se in Hindi

मुंहासों का उपचार करें लहसुन से - Muhase Ka Upchar Kare Lahsun Se in Hindi

कई प्रकार के संक्रमणों (Infections) के इलाज के लिए लहसुन का उपयोग किया जाता है। लहसुन शरीर के रोगाणुओं और संक्रमण से लड़ने की क्षमता को बढ़ावा देता है। लहसुन में ओरगानोसल्‍फर (Organosulfur) यौगिक होते हैं, जिनमें प्राकृतिक जीवाणुरोधी और एंटी-इन्‍फ्लामेट्री प्रभाव होते हैं। ओरगानोसुल्‍फुर यौगिक प्रतिरक्षा प्रणाली को बढ़ावा देने में मदद करते हैं जो संक्रमण से लड़ने में शरीर की मदद करता है।

मुँहासों के कारण चेहरे में आने वाली सूजन और संक्रमण के उपचार के लिए अपने भोजन में लहसुन का पर्याप्‍त मात्रा में उपयोग करें। कुछ लोग लहसुन की कलियों को ऐसे ही चबाते हैं या कुछ विशेष प्रकार के गर्म पेय पदार्थों में इसका उपयोग करते हैं। कुछ लोग लहसुन (Garlic) को सीधे ही मुँहासों के ऊपर लगाते हैं, लेकिन उन्‍हें सलाह दी जाती है कि ऐसा करना उनकी मुश्किल को और बढ़ा सकता है। लहसुन का उपयोग सीधे रूप से मुँहासों के ऊपर नहीं करना चाहिए, यह त्‍वचा को जला सकता है, इसलिए हमेशा इसका उपयोग सावधानी से करें।

(और पढ़े – जानिए लहसुन के चमत्कारी स्वास्थ्यवर्धक गुणों के बारे में…)

मुँहासों को दूर करे जोजोबा तेल से – Muhase Ko Door Kare Jojoba Oil Se in Hindi

मुँहासों को दूर करे जोजोबा तेल से – Muhase Ko Door Kare Jojoba Oil Se in Hindi

जोजोबा झाड़ीयों के बीज से निकाला गया तेल एक प्राकृतिक मोमबत्‍ती पदार्थ (Waxy Substance) है। जोजोबा तेल में उपस्थित मोम पदार्थ क्षतिग्रस्‍त त्‍वचा का उपचार करने में मदद करता है, जिसका मतलब यह है कि इसका उपयोग करने से मुंहासे सहित त्‍वचा के अन्‍य घावों का उपचार किया जा सकता है। जोजोबा तेल के कुछ यौगिक त्‍वचा की सूजन को कम कर सकते हैं। अध्‍ययन बताते हैं कि यदि नियमित रूप से मुँहासों पर जोजोबा तेल का उपयोग 6 सप्‍ताह तक किया जाता है तो यह मुँहासों से त्‍वचा को छुटकारा दिला सकता है।

जोजोबा तेल का उपयोग आप जेल, क्रीम या मिट्टी के चेहरे मास्‍क (clay face mask) के साथ कर सकते हैं। आप आवश्‍यक तेल के साथ भी जोजोबा तेल को मिलाकर मुँहासों पर उपयोग कर सकते हैं। कपास में जोजोबा तेल (Jojoba Oil) की कुछ बूंदें लें और मुँहासों के ऊपर रखें। यह आपको मुँहासों से छुटकारा दिलाने का प्रभावी तरीका होता है।

(और पढ़े – जोजोबा ऑयल के फायदे और नुकसान…)

पिंपल्स का उपचार करें शहद से – Pimples Ka Upchar Kare Shahad se in Hindi

पिंपल्स का उपचार करें शहद से - Pimples Ka Upchar Kare Shahad se in Hindi

हनी का उपयोग हजारों सालों से त्‍वचा संक्रमण के इलाज के लिए किया जा रहा है जिनमे मुँहासों का इलाज भी शामिल है। शहद में कई एंटीऑक्‍सीडेंट शामिल होते हैं जो त्‍वचा छिद्रों से अपशिष्‍ट पदार्थों और मलबे (waste and debris) को बाहर करने मे मदद करते हैं।

मुँहासों का उपचार करने के लिए साफ हाथों से या साफ कपड़ें मे थोड़ा सा शहद (Honey) लें और इसे मुँहासों के ऊपर रगड़ें। या फिर चेहरे के लिए बनाए गए फेस मास्‍क में भी इसका उपयोग किया जा सकता है।

(और पढ़े – नींबू और शहद के साथ गर्म पानी के फायदे…)

मुँहासों के उपचार के लिए जीवन शैली में परिवर्तन – Muhase Upchar Ke Liye Jeevan Shaili Me Parivartan in Hindi

मुँहासों के उपचार के लिए जीवन शैली में परिवर्तन - Muhase Upchar Ke Liye Jeevan Shaili Me Parivartan in Hindi

  1. मुँहासों को हाथ से न छुएं – Muhase Ko Hath Se Na Chuyen in Hindi
  2. पिंपल्स की उचित सफाई करें – Pimples Ki Uchita Safai Karen in Hindi
  3. मँहासों से बचने के लिए तनाव कम करें – Muhase Se Bachne Ke Liye Tanav Kam Karen in Hindi
  4. मुँहासों से बचने के लिए त्‍वचा को तेल मुक्‍त रखें – Using Oil-free skincare for Acne in Hindi
  5. पिंपल्स से बचने के लिए हाइड्रेटेड रहें – Pimples Se Bachne Ke Liye Hydrated Rahen in Hindi

घरेलू उपचार के साथ-साथ विशिष्‍ट जीवन शैली (Lifestyle) में परिवर्तन शरीर को स्‍वस्‍थ्‍य रखने, त्‍वचा को कम तेल बनाने और मुँहासों को दूर करने में मदद करती है। मुँहासों में सुधार लाने के लिए जीवन शैली में निम्‍न परिवर्तन किये जा सकते हैं।

(और पढ़े – मुंहासे दूर करने का आयुर्वेदिक उपाय…)

मुँहासों को हाथ से न छुएं – Muhase Ko Hath Se Na Chuyen in Hindi

मुँहासों को हाथ से न छुएं - Muhase Ko Hath Se Na Chuyen in Hindi

लोगों को मुंहासे के घावों को छूने से बचना चाहिए। क्‍योंकि ऐसा करने से मुँहासों का संक्रमण आपकी त्‍वचा में और अधिक फैल सकता है। बार-बार मुँहासों को छूने से आपकी त्‍वचा में दर्द और सूजन (Pain and swelling) बढ़ सकती है। ऐसा करने पर मुँहासों के बैक्‍टीरिया एक स्‍थान से दूसरे स्‍थान में पहुंच कर संक्रमण को फैला सकते हैं। यदि मुंहासे के घाव ज्‍यादा बड़े हों तो डॉक्‍टर से संपर्क करें।

(और पढ़े – मुहांसों के प्रकार और उनका इलाज…)

पिंपल्स की उचित सफाई करें – Pimples Ki Uchita Safai Karen in Hindi

पिंपल्स की उचित सफाई करें - Pimples Ki Uchita Safai Karen in Hindi

यदि आप मुंहासे होने के दौरान अपने नियमित साबुन (Regular soap) का उपयोग करते हैं तो यह आपके मुंहासे और त्‍वचा को परेशान कर सकता है। क्‍योंकि इन साबुनों में अम्‍लता होती है जो मुँहासों को खराब (Acne Worse) कर सकते हैं।

आप अपने चेहरे को साफ करने बाले फेस वॉस का चुनाव करते समय इस बात का ध्‍यान रखें कि उनका पीएच 5.5 के आस-पास हो जो आपकी त्‍वचा के अनुकूल होता है। इनका उपयोग करने से यह आपके मुँहासों का उपचार भी कर सकते हैं।

(और पढ़े – मुहांसे दूर करने के लिए चेहरे पर भाप लेने के फायदे…)

मँहासों से बचने के लिए तनाव कम करें – Muhase Se Bachne Ke Liye Tanav Kam Karen in Hindi

मँहासों से बचने के लिए तनाव कम करें – Muhase Se Bachne Ke Liye Tanav Kam Karen in Hindi

अमेरिकन एकेडमी ऑफ डार्मेटोलॉजी के अनुसार मुंहासे आने के संभावित कारणों में तनाव भी शामिल है। एंड्रोजन हार्मोन तनाव के स्‍तर को बढ़ाने का कारण होता है। एंड्रोजन मुंहासे के खतरों को बढ़ाने और त्‍वचा में तेल ग्रंथियों (Oil Glands) को उत्‍तेजित करने का काम करता है। इसलिए आप अपने तनाव को कम करें जो आपके मानसिक स्‍वास्‍थ्‍य और मुँहासों दोनों के लिए फायदेमंद होता है। इसके लिए आप कुछ ऐसे प्रयास कर सकते हैं :

(और पढ़े – मानसिक तनाव के कारण, लक्षण एवं बचने के उपाय…)

मुँहासों से बचने के लिए त्‍वचा को तेल मुक्‍त रखें – Using Oil-free skincare for Acne in Hindi

मुँहासों से बचने के लिए त्‍वचा को तेल मुक्‍त रखें – Using Oil-free skincare for Acne in Hindi

त्‍वचा में आने वाले तेल या चिकनाई उत्‍पाद त्‍वचा के छिद्रों को अवरुद्ध कर सकते हैं जिससे त्‍वचा छिद्रों में विषाक्‍तता जमा होने और मुँहासों के आने का खतरा बढ़ जाता है। आप अपने चेहरे पर उपयोग किये जाने वाले ऐसे सौंदर्य उत्‍पादों का उपयोग करें जो कि आपकी त्‍वचा को तेल मुक्‍त (Oil Free Skin) रखने में मदद करते हैं, और आपकी त्‍वचा के छिद्रों (Skin pores) को बंद होने से बचाते हैं। यही एक प्रारंभिक उपचार है मुँहासों से बचने में मदद करता है।

(और पढ़े – ऑयली स्किन होने के कारण और छुटकारा पाने के घरेलू उपाय…)

पिंपल्स से बचने के लिए हाइड्रेटेड रहें – Pimples Se Bachne Ke Liye Hydrated Rahen in Hindi

 

पिंपल्स से बचने के लिए हाइड्रेटेड रहें - Pimples Se Bachne Ke Liye Hydrated Rahen in Hindi

पर्याप्‍त मात्रा में पानी पीना अत्‍यंत महत्‍वपूर्ण है क्‍योंकि यह मुँहासों के घावों को ठीक करने और इसके फैलने के खतरों को कम करता है। जब आपकी त्‍वचा शुष्‍क हो जाती है, तो यह आसानी से क्षतिग्रस्‍त हो सकती है, जिसके परिणामस्‍वरूप मुंहासे होते हैं। उचित मात्रा में पानी पीने से नई त्‍वचा कोशिकाओं के विकास में मदद मिलती है जो कि मुंहासे के घावों के उपचार में मदद करते हैं। इसके लिए पानी पीने की कोई निश्‍चित मात्रा तय नहीं की गई है, क्‍योंकि उम्र के आधार पर सभी लोगों के पानी की जरूरत अलग-अलग होती है। आप अपनी क्षमता के अनुसार पानी का सेवन कर सकते हैं।

(और पढ़े – पानी पीने का सही समय जानें और पानी पीने के लिए खुद को प्रेरित कैसे करें…

Subscribe for daily wellness inspiration