एलोवेरा जूस बनाने की घरेलू विधि और फायदे - Aloe Vera Juice Recipe In Hindi
आयुर्वेदिक उपचार

एलोवेरा जूस बनाने की घरेलू विधि और फायदे – Aloe Vera Juice Recipe In Hindi

एलोवेरा जूस बनाने की घरेलू विधि और फायदे - Aloe Vera Juice Recipe In Hindi

Aloe Vera Juice Recipe In Hindi एलोवेरा का जूस एलोवेरा के पौधे की पत्तियों से बनाया जाता है, और इस पौधे के अर्क को पत्ती से कुचलकर या पूरे पत्ते को पीसकर बनाया जाता है। कई फ़िल्टरिंग चरणों के बाद, एलोवेरा जूस को इसके केंद्रित पोषण मूल्यों के लिए सेवन किया जा सकता है। इस पौधे की गंध गुणकारी होती है, इसका रस काफी हल्का और पीने में आसान होता है, यही कारण है कि इसे स्वास्थ्य पूरक या आहार पेय के रूप में देर से लोकप्रियता मिली है [1] । तो, आइए जानतें हैं एलोवेरा जूस बनाने की घरेलू विधि!

एलोवेरा के कई नाम हैं, जैसे संजीवनी बूटी, साइलेंट हीलर, चमत्कारी औषधि, ग्वारपाठा, घृतकुमारी, घी-ग्वार आदि। जोड़ों के दर्द में एलोवेरा जूस का सेवन सुबह-शाम करें और प्रभावित जोड़ों पर लगाने से विशेष फायदा होता है। ह्रदय रोग होने का मुख्य कारण मोटापा कोलेस्ट्रोल का बढ़ना और रक्तवाहिनियों में वसा का जमाव होना है। ऐसी स्थिति में इसका जूस बेहद फायदेमंद है।बालों के लिए भी इसके जूस को सिर में लगाने से बाल मुलायम, घने, काले व बालो का झड़ना बंद होता है। एलोवेरा जेल चेहरे पर लगाने से मुहांसे और झाइयां दूर होती है।

आजकल एलोवेरा के उपयोग कर कई प्रकार के सौन्दर्य प्रसाधन व आयुर्वेदिक औषिधयाँ बनाई जाती है। स्त्री अपने आप को स्वस्थ व अपने सौन्दर्य को बनाए रखने के लिए घृतकुमारी के जूस का नित्य सेवन करें। जिससे शरीर में दुर्बलता अपचन, चक्कर आना, पेट के विकार, हाथ-पैर में जलन या झनुझनुाहट होना मानिसक रूप से अस्वस्थ आदि कई लक्षणों का पुर्ण निदान हो सकता है। अतः यह औषिध बहुमुल्य है, इसमें गुणों का भण्डार है।

घर पर एलोवेरा जूस कैसे बनाएं – How to Make Aloe Vera Juice at Home in Hindi

सबसे पहले आप आवशयक्ता अनुसार एलोवेरा की पत्तियां ले और उसे अच्छी तरह पानी से धो लें।
उसके बाद चाकू से उसके किनारे के कांटे वाले भाग काट कर निकाल दें अब पत्तियों को सुविधानुसार छोटे-छोटे पीस में बांट लें।
फिर पत्तियों के टुकडे लेकर उसके ऊपर का हरा वाला छिलका निकाल कर अलग कर दें ध्यान रहे ऐसा करते समय पत्तियों के गूदे के ऊपर की पीले रंग की परत भी साथ में निकाल दें नहीं तो जूस में कड़वाहट रह जाएगा और आप उसका सेवन नहीं कर सकेंगे।

एलोवेरा के सफेद भाग को अलग करने के बाद उसे मिक्सी में डालें और दो मिनट के लिए मिक्सी को चला दें इससे एलोवेरा की पत्तियों का जेल जूस में बदल जाएगा।
अब इसे गिलास में निकालें और इसमें उचित मात्रा में पानी और नमक मिला लें यदि आप चाहें, तो इसमें फलों का जूस भी मिला सकते हैं।
ओरेज (संतरा) जूस इसके स्वाद को टेस्टी बना देता है इससे एलोवेरा जूस स्वादिष्ट हो जाएगा और आपको पीने में दिक्कत नहीं होगी।

ये तो थी एलोवेरा जूस बनाने की घरेलू विधि आप अतिरिक्त स्वाद के लिए शहद, या सफेद सिरके के साथ एलोवेरा जूस  भी तैयार कर सकते हैं। आप इसे आइस क्यूब डालकर भी पी सकते है अगर आप डायट पर हैं तो इस एलो वेरा जूस को रोज पियें –

एलोवेरा जूस के फायदे –  Aloe Vera Juice Benefits In Hindi

  • एलोवेरा में 18 धातु, 15 एमिनो एसिड और 12 विटामिन मौजूद होते हैं जो खून की कमी को दूर कर रोग-प्रतिरोधक क्षमता बढाते हैं।
  • Aloevera के कांटेदार पत्तियों को छीलकर रस निकाला जाता है। 3 से 4 चम्मदच रस सुबह खाली पेट लेने से दिन-भर शरीर में चुस्ती व स्फूर्ति बनी रहती है।
  • Aloevera का जूस पीने से कब्ज की बीमारी से फायदा मिलता है।
  • एलोवेरा का जूस मेहंदी में मिलाकर बालों में लगाने से बाल चमकदार व स्वस्थ्पय होते हैं।
  • एलोवेरा का जूस पीने से शरीर में शुगर का स्तर उचित रूप से बना रहता है।
  • इसका  का जूस बवासीर, डायबिटीज, गर्भाशय के रोग व पेट के विकारों को दूर करता है।
  • एलोवेरा का जूस पीने से त्वचा की खराबी, मुहांसे, रूखी त्वचा, धूप से झुलसी त्वगचा, झुर्रियां, चेहरे के दाग धब्बों, आखों के काले घेरों को दूर किया जा सकता है।
  • इस जूस को  पीने से मच्छर काटने पर फैलने वाले इन्फेक्शन को कम किया जा सकता है।
  • एलोवेरा का जूस ब्लड को प्यूरीफाई करता है साथ ही हीमोग्लोबिन की कमी को पूरा करता है।
  • शरीर में white ब्लड सेल्स की संख्या को बढाता है। जो रोगों से लड़ने में हमारी सहायता करती है
  • एलोवेरा का जूस त्वचा की नमी को बनाए रखता है जिससे त्वचा स्वस्थ दिखती है। यह स्किन के कोलाजन और लचीलेपन को बढाकर स्किन को जवान और खूबसूरत बनाता है।
  • एलोवेरा के जूस का नियमित रूप से सेवन करने से त्वचा भीतर से खूबसूरत बनती है और बढती उम्र से त्वचा पर होने वाले कुप्रभाव भी कम होते हैं।
  • एलो वेरा के जूस का हर रोज सेवन करने से शरीर के जोडों के दर्द को कम किया जा सकता है।

Leave a Comment

Subscribe for daily wellness inspiration