गर्भ ठहरने के घरेलू उपाय और नुस्खे – Garbh Dharan Karne Ke Upay Hindi Me

गर्भ ठहरने के घरेलू उपाय और नुस्खे - Garbh Dharan Karne Ke Upay Hindi Me
Written by Deepti

Garbh thaharne ke upay: क्या आप जल्दी गर्भ धारण करने और गर्भ ठहरने के घरेलू उपाय और नुस्खे जानना चाहती हैं? तो हम आपको ऐसे घरेलू उपाय बताने वाले हैं जो गर्भ ठहरने में मदद करते हैं। बच्चे को जन्म देना एक महिला के लिए सबसे बड़ा सुख है। जहां कुछ महिलाएं आसानी से गर्भवती हो जाती हैं, वहीं कुछ को गर्भ ठहरने के लिए इंतजार करना पड़ता है। इसके लिए महिलाएं न जाने कितने महंगे इलाज कराती है, बावजूद इसके कोई नतीजा नहीं निकलता या अगर गर्भ ठहर भी जाए, तो बहुत परेशानी आती है। ऐसे में गर्भ ठहरने के घरेलू नुस्खों को अपनाना बहुत अच्छा विकल्प है।

कई महिलाओं को गर्भवती या प्रेग्नेंट होने में बहुत परेशानी आती है। कई इलाज और दवा खाने के बाद भी उन्हें मां बनने का सुख प्राप्त नहीं हो पाता। ऐसा शरीर में अंडे न बन पाने, ज्यादा उम्र होने, महावारी बंद होने या अंडों की मात्रा कम होने के कारण होता है। विशेषज्ञ कहते हैं, कि ऐसी स्थिति में महिलाओं को दवा का सेवन कम करना चाहिए और घरेलू उपचारों को अपनाना चाहिए। इसलिए अगर दंपत्ति ने पैरेंट्स बनने की योजना बना ली है और चाहते हैं कि गर्भधारण करने में देरी न हो, तो हमारा ये आर्टिकल आपकी बहुत मदद कर सकता है। इसमें हम आपको ऐसे घरेलू उपचारों के बारे में बताएंगे, जो तेजी से गर्भ धारण करने में महिलाओं की मदद कर सकते हैं।

  1. गर्भ न ठहरने के कारण – Garbh na thaharne ke karan in hindi
  2. गर्भवती होने के लिए सही समय क्या है – Right Time To Get Pregnant In Hindi
  3. गर्भ ठहरने के घरेलू उपाय – Garbh thaharne ke gharelu upay in hindi
  4. गर्भ ठहरने के लिए करें ये योग – Garbh Thaharne Ke Liye Kare Yoga in Hindi
  5. गर्भ ठहरने के लिए जरूरी टिप्स – Garbh dharan karne ke tips in hindi
  6. गर्भ ठहरने में मदद करती हैं ये सेक्स पोजीशन – Garbh Thaharne Ki Position Hindi Mai

गर्भ न ठहरने के कारण – Garbh na thaharne ke karan in hindi

गर्भ न ठहरने के कारण - Garbh na thaharne ke karan in hindi

कई कोशिशों के बाद भी गर्भ न ठहरना शादी-शुदा जोड़ों को परेशान कर देता है। लेकिन कोई भी कदम उठाने से पहले ये जानना बेहद जरूरी है कि गर्भ न ठहरने का कारण क्या है। जिन महिलाओं का पीरियड्स इरैगुलर होता है उनका ओव्यूलेशन भी रैगुलर नहीं होता और बिना अंडे के निषेचन के गर्भ ठहरना असंभव है। इसका दूसरा कारण है “एंडोमेट्रियोसिस”। यह एक समस्या है, जिसमें गर्भाशय की अंदरूनी परत गर्भाशय के बाहर विकसित होने लगती है। इसके कारण फैलोपियन ट्यूब में रूकावट आ सकती है, जिससे गर्भधारण करने में देरी होती है।

वहीं पीसीओएस (PCOS) भी गर्भ न ठहरने का अन्य कारण है। जिन महिलाओं को पीसीओएस की समस्या है, उनके अंडाशय में छोटी गांठें बनने लगती हैं, जिसकी वजह से अंडा परिपक्व होकर बाहर नहीं आ पाता। इसके अलावा फैलोपियन ट्यूब के बंद या क्षतिग्रस्त होने पर शुक्राणु और अंडों का मिलना असंभव हो जाता है, जिस कारण गर्भ ठहरता नहीं है। विशेषज्ञों की मानें तो उम्र भी गर्भ न ठहरने का मुख्य कारण होता है। 30 की उम्र के बाद अंडों की गुणवत्ता और अंडाशय में अंडों की संख्या घटने लगती है, जिस कारण महिला गर्भधारण नहीं कर पाती। इसके अलावा थायरॉइड, प्रोजेस्टेरोन की कम मात्रा भी प्रेग्नेंट न होने के अन्य और जरूरी कारण हैं।

(और पढ़े – गर्भवती होने के लिए पूरा गाइड…)

गर्भवती होने के लिए सही समय क्या है – Right Time To Get Pregnant In Hindi

गर्भवती होने के लिए सही समय क्या है – Right Time To Get Pregnant In Hindi

आमतौर पर हम सभी जानते हैं कि सेक्स करने के बाद कोई भी महिला आसानी से प्रेगनेंट हो सकती है लेकिन ज्यादातर महिलाओं को यह नहीं मालूम होता है कि किसी भी समय सेक्स करने से गर्भधारण नहीं किया जा सकता है। वास्तव में प्रेगनेंट होने के लिए भी तैयारी करनी पड़ती है। तो आइये जानते हैं कि गर्भवती होने के लिए सही समय क्या है।

  • गर्भधारण करने के लिए महिला को सबसे पहले अपने मासिक धर्म की सही तारीख याद रखनी चाहिए। इसका कारण यह है कि मासिक धर्म शुरू होने के करीब बारह से चौदह दिन पहले का समय अंडोत्सर्ग का समय होता है और इस अवधि में सेक्स करने से महिला गर्भवती हो सकती है।
  • अंडोत्सर्ग की अवधि के दौरान महिलाओं के शरीर में कुछ अलग लक्षण दिखायी देते हैं और इस दौरान उन्हें सेक्स करने का खूब मन करता है। अंडोत्सर्ग का समय मासिक धर्म शुरू होने के सात दिन पहले तक रहता है। इसलिए यह बेहद जरूरी है कि प्रेगनेंट होने के लिए आप सबसे पहले प्लानिंग बनाइये और अपने अंडोत्सर्ग की अवधि में खूब सेक्स कीजिए। इसका कारण यह है कि अंडोत्सर्ग के समय में महिला के अंडे से पुरुष के शुक्राणु का मिलन होता है। इस दौरान अंडा अंडाशय से निकलने के बाद चौबीस से छत्तीस घंटे तक जीवित रहता है और इस समय सेक्स करने से शुक्राणु से उसका मिलन हो जाता है।
  • यदि संभव हो तो अंडोत्सर्ग की अवधि में प्रतिदिन सेक्स कीजिए इससे स्पर्म और अंडे के मिलन की संभावना बढ़ जाती है और महिला प्रेगनेंट हो जाती है।

(और पढ़ें – अनियमित माहवारी में कैसे करें गर्भधारण…)

गर्भ ठहरने के घरेलू उपाय – Garbh thaharne ke gharelu upay in hindi

गर्भ ठहरने के घरेलू उपाय - Garbh thaharne ke gharelu upay in hindi

एक स्टडी में पाया गया है कि असुरक्षित यौन संबंध बनाने के बाद लगभग 38 प्रतिशत महिलाएं एक महीने के अंदर गर्भवती हो जाती हैं जबकि 68 प्रतिशत महिलाएं तीन महीनों बाद, 81 प्रतिशत महिलाएं छह महीने के अंदर जबकि 92 प्रतिशत महिलाओं को गर्भधारण करने में एक वर्ष तक का समय लगता है। जैसे-जैसे उम्र बढ़ती है, महिला के गर्भवती होने की क्षमता भी घटती जाती है। आइये जानतें हैं गर्भ ठहरने के घरेलू उपाय क्या हैं।

गर्भ ठहरने का घरेलू उपाय सौंफ

गर्भ ठहरने के लिए सौंफ अच्छा घरेलू उपाय माना जाता है। दरअसल, सौंफ गर्भाशय और इसके सभी फंक्शन को ठीक करके महिलाओं के प्रजनन तंत्र को स्वस्थ बनाता है। इसके कारण प्रेग्नेंट होने की क्षमता कई गुना बढ़ जाती है। वहीं सौंफ के साथ घी मिलाने से गर्भाशय में गर्भधारण करने की अच्छी ताकत आती  है। इसका उपयोग करने के लिए एक कटोरी सौंफ को पीसकर पाउडर बना लें और इसे घी के साथ मिला लें। इस मिश्रण को रोज एक से तीन महीने तक सुबह खाली पेट खाने से महिलाओं के गर्भ ठहरने की संभावना बढ़ जाती है।

(और पढ़े – सौंफ खाने के फायदे और नुकसान…)

जल्दी गर्भ ठहरने का घरेलू नुस्खा खजूर

खजूर विटामिन ए, बी, ई और अन्य जरूरी मिनरल्स का स्त्रोत होने के साथ कई पोषक तत्वों से भरपूर है। जल्दी गर्भ ठहरने के लिए 10 से 12 खजूर को दो चम्मच धनिया की जड़ के साथ पीस लें। अब इस पेस्ट को एक कप गाय के दूध में डालकर उबाल लें। प्रजनन क्षमता में सुधार करने के लिए पीरियड्स के बाद एक सप्ताह तक इस मिश्रण का सेवन करने से गर्भ ठहरने की संभावना बढ़ जाएगी।

(और पढ़े – खजूर खाना सेहत के लिए होता है फायदेमंद…)

जल्दी गर्भ ठहरने के लिए खाएं अनार

जल्द गर्भधारण करने के लिए अनार सबसे अच्छा घरेलू नुस्खा है। अनार, पेल्विक क्षेत्र में ब्लड फ्लो में सुधार करने में बहुत प्रभावी है। इसे महिला की प्रजनन क्षमता को बढ़ाने के लिए माना जाता है। इससे गर्भाशय की परत को मोटा करने में भी मदद मिलती है। इसके लिए अनार के पेड़ और बीजों की छाल को बराबर मात्रा में लेकर इसका पाउडर बना लें। कुछ हफ्ते तक इस मिश्रण या चूर्ण का रोजाना आधा चम्मच सेवन करने से जल्द ही मां बनने का सुख प्राप्त होगा।

(और पढ़े – अनार के फायदे और नुकसान…)

गर्भ ठहरने का घरेलू उपचार विटामिन डी

महिलाओं के शरीर में विटामिन डी की कमी हो, तो गर्भपात हो सकता है। इसलिए गर्भ ठहरने के लिए शरीर में विटामिन डी की कमी पूरी होना बहुत जरूरी है। विटामिन डी प्राप्त करने का सबसे अच्छा तरीका है सुबह मात्र 10 मिनट के लिए धूप सेकें। इसके अलावा आप चाहें तो विटामिन डी से भरपूर खाद्य पदार्थों जैसे अंडे की जर्दी या पनीर का सेवन भी कर सकते हैं।

(और पढ़े – विटामिन डी वाले आहार की जानकरी…)

गर्भ ठहरने का तरीका दालचीनी

यह चमत्कारिक मसाला दालचीनी महिला के अंडाशय में बेहतर काम करने के लिए जाना जाता है। इससे बांझपन को दूर करने में मदद मिलती है। इतना ही नहीं इसका उपयोग पीसीओएस (पॉलिसिस्टिक ओवेरियन सिंड्रोम) के उपचार में किया जाता है, जो महिलाओं में बांझपन के प्रमुख कारणों में से एक है। एक कप गर्म पानी में एक चम्मच दालचीनी पाउडर मिलाएं। जब तक गर्भधारण न हो, तब तक दालचीनी की इस चाय को पी सकते हैं।

(और पढ़े – दालचीनी के फायदे, गुण, लाभ और नुकसान…)

जल्दी गर्भधारण करने का प्राकृतिक उपचार लहसुन

लहसुन गर्भवती होने या गर्भ ठहरने के प्राकृतिक उपचारों में से एक है। लहसुन महिलाओं में प्रजनन क्षमता में सुधार करने के लिए जाना जाता है। जल्दी गर्भधारण करना है, तो आप लहसुन की चार से पांच कली चबाने के बाद गर्म दूध पी लें। प्रजनन क्षमता में सुधार करने के लिए सर्दियों में नियमित रूप से इस उपचार को फॉलो करें।

(और पढ़े – लहसुन की एक कली खाने से महिलाओं को मिलेगा कई बीमारियों से निजात…)

गर्भवती होने का घरेलू इलाज फिटकरी

तेजी से गर्भ ठहरने के लिए फिटकरी बड़े घरेलू उपचारों में से एक है। अगर आपके पीरियड्य नियमित हैं, लेकिन गर्भधारण करने में देरी हो रही है, तो फिटकरी की मदद से आप जल्द गर्भवती हो सकती हैं। इसके लिए फिटकरी का एक छोटा टुकड़ा लें और इसे रूई से लपेट लें। इसे अब रात में सोने से पहले योनि में डाल लें। इस प्रक्रिया को रोजाना तब तक करें, जब तक की कॉटन साफ न निकलकर आए। साफ कॉटन की उपस्थिति इस बात का संकेत है कि आप प्रेग्नेंट होने के लिए तैयार हैं।

(और पढ़े – फिटकरी के फायदे और नुकसान…)

जल्द गर्भ ठहरने में मदद करेगा जायफल

जायफल महिला की प्रजनन क्षमता को बढ़ाने में बहुत फायदेमंद है। गर्भवती होने की संभावना बढ़ाने के लिए अपने आहार में नियमित रूप से जायफल शामिल करें। पीरियड्स के दौरान समान मात्रा में तीन ग्राम जायफल पाउडर और चीनी पाउडर को एक कटोरी में मिलाकर एक कप दूध के साथ ले सकते हैं।

(और पढ़े – जायफल के फायदे और नुकसान…)

गर्भ ठहरने की संभावना बढ़ाए सेंधा नमक

गर्भवती होने की संभावना को बढ़ाने के लिए सेंधा नमक का उपयोग किया जा सकता है। सेंधा नमक महिलाओं में बांझपन से लडऩे में प्रभावी है। इसके लिए एक चम्मच सेंधा नमक को 750 लीटर पानी में भिगो दें। इस पानी से सुबह सूर्योदय से पहले तीन से छह महीने तक लगातार पीने से गर्भ जल्दी ठहर जाएगा।

(और पढ़े – सेंधा नमक के फायदे गुण लाभ और नुकसान…)

प्रेग्नेंट होने का सरल उपाय सरसों का पेस्ट

गर्भवती होने की संभावना को बढ़ाने के लिए आप सरसों के पेस्ट का इस्तेमाल कर सकते हैं। इसके लिए अपने मासिक धर्म चक्र के चौथे दिन के बाद अपने आहार में सरसों का पेस्ट शामिल करें। बता दें कि, महिलाओं में प्रजनन क्षमता बढ़ाने के लिए सरसों बहुत कारगार साबित होती है।

(और पढ़े – सरसों के बीज के फायदे और स्वास्थ्य लाभ…)

गर्भ ठहरने के लिए करें तुलसी का सेवन

तुलसी का उपयोग सदियों से विभिन्न बीमारियों को ठीक करने के लिए किया जाता है। पवित्र तुलसी का सेवन करने से कई महिलाओं में बांझपन दूर हुआ है। इसलिए अगर गर्भ ठहरने में देरी हो रही है, तो आप भी तुलसी का सेवन कर सकते हैं। इसके लिए तुलसी की कुछ पत्तियों को रोजाना चबाएं और इसके बाद एक गिलास दूध पी लें। ऐसा करने से गर्भधारण करने की संभावना बढ़ जाएगी। इसके अलावा प्रजनन क्षमता को बढ़ाने के लिए तुलसी के बीज खाना भी अच्छा माना जाता है।

(और पढ़े – खाली पेट तुलसी के पत्ते खाने के फायदे…)

गर्भ ठहरने के लिए सही समय पर सेक्स करें

सेक्स आपके शुक्राणुओं को स्वस्थ रखता है। अगर आप सप्ताह में एक के बजाए दो बार सेक्स करते हैं, तो आपके गर्भवती होने की संभावना बढ़ जाएगी। यदि आप तीन से ज्यादा दिन तक सेक्स नहीं करते, तो शुक्राणु की गुणवत्ता भी गिर जाएगी।

(और पढ़े – गर्भवती होने (गर्भधारण करने) के लिए सही सही समय…)

गर्भधारण के लिए बेहतर उपाय सौंफ और गुलाब की पंखुड़ियां

अगर गर्भ ठहरने में देरी हो रही है, तो सौंफ और गुलाब की पंखुडिय़ों की मदद से आप इसका इलाज कर सकते हैं। अपनी प्रजनन क्षमता को बेहतर बनाने के लिए 10 ग्राम सौंफ और 50 ग्राम गुलाब की पंखुड़ियों को एक कटोरी में मिलाएं। इस मिश्रण को हर रोज सोने से पहले गर्म दूध के साथ लेने से गर्भ आसानी से ठहर जाएगा।

(और पढ़े – गुलाब के फूल (पंखुड़ियों) के फायदे और नुकसान…)

गर्भ ठहरने के लिए करें ये योग – Garbh Thaharne Ke Liye Kare Yoga in Hindi

गर्भ ठहरने के लिए करें ये योग - Garbh Thaharne Ke Liye Kare Yoga in Hindi

जल्दी गर्भ ठहरने के लिए घरेलू उपायों के अलावा योगासन भी बहुत अच्छा विकल्प है। नीचे हम आपको कुछ ऐसे आसन के बारे में बता रहे हैं, जिन्हें करने से आप जल्द गर्भधारण कर लेंगे।

पश्चिमोत्तानासन पश्चिमोत्तानासन अंडाशय और गर्भाशय को उत्तेजित करता है। आगे झुकना पीठ के निचले हिस्से, कूल्हों और हैमस्ट्रिंग में मांसपेशियों को फैलाता है। प्रजनन क्षमता के लिए यह विशेष योग मुद्रा तनाव और अवसाद को दूर करती है और धीरे-धीरे आपकी प्रजनन क्षमता के स्तर में सुधार करती है।

हस्तपादासनहस्तपादासन में आपको हाथों को पैरों को छूते हुए आगे झुकना होता है। यह पीठ की सभी महत्वपूर्ण मांसपेशियों को फैलाता है, जिससे श्रोणि क्षेत्र और तंत्रिका तंत्र में रक्त की आपूर्ति में सुधार होता है।

विपरीत करणी- विपरीत करणी आसन पीठ दर्द से राहत देता है और श्रोणि क्षेत्र में रक्त के प्रवाह में सुधार करता है। जैसे-जैसे यह मुद्रा गर्दन के पिछले भाग, सामने के धड़ और पैरों के पीछे की ओर खिंचती है, यह आपके पैरों को आराम देने में मदद करता है। यहां तक ​​कि आप सेक्स के बाद इस मुद्रा में आराम करके गर्भधारण की संभावना बढ़ा सकते हैं।

कपालभाती प्राणायाम  इस प्राणायाम से रक्त कोशिकाओं की शुद्धि होती है और प्रजनन कोशिकाओं की गुणवत्ता और मात्रा में वृद्धि होती है।

ब्रिज पोज यह एक कठिन योग मुद्रा है। इसके लिए आपको अपने नितंब की मांसपेशियों को मजबूत रखते हुए अपने श्रोणि क्षेत्र को ऊपर उठाने की आवश्यकता होती है। जब श्रोणि क्षेत्र ऊपर की ओर जाता है, तो ऊर्जा और रक्त प्रवाह दोनों गर्भाशय और अंडाशय में फैल जाते हैं। पीठ को आराम देने से पहले कम से कम 30 सेकंड के लिए मुद्रा में रहने का प्रयास करें।

कोबरा पोज यह एक महत्वपूर्ण आसन है, जो गर्भाशय में हार्मोन उत्पादन को उत्तेजित करते हुए आपकी पीठ की मांसपेशियों को मजबूत करता है। इसे करने के लिए पहले अपने पेट के बल लेट जाएं। फिर, अपने हाथों को दबाकर अपने ऊपरी शरीर को उठाएं। अपनी रीढ़ को पीछे की ओर रखें और ऊपर देखें। सांस लेते हुए कुछ सेकंड के लिए इसी मुद्रा में रहें। इस प्रक्रिया को कई बार दोहराएं।

(और पढ़े – प्रेगनेंसी में करें प्री नेटल योग जो है मां और बच्चों के लिए फ़ायदेमंद…)

गर्भ ठहरने के लिए जरूरी टिप्स – Garbh dharan karne ke tips in hindi

गर्भ ठहरने के लिए जरूरी टिप्स - Garbh dharan karne ke tips in hindi

ऊपर हमारे द्वारा बताए गए घरेलू उपायों के अलावा नीचे दिए जा रहे सुझाव आपको जल्दी गर्भवती या प्रेग्नेंट होने में मदद कर सकते हैं।

गर्भधारण करने के लिए कैफीन का सेवन कम करें

यदि आप लंबे समय से गर्भवती नहीं हो पा रही हैं, तो कैफीन का सेवन कम कर दें। अधिक मात्रा में कैफीन का सेवन करने से रक्त में आयरन के अवशोषण में बाधा पैदा होती है और इससे डिहाइड्रेशन भी हो सकता है। कुल मिलाकर कैफीन युक्त पेय पदार्थ लेने से गर्भधारण करने में समस्या हो सकती है और गर्भपात या पूर्व प्रसव का खतरा हो सकता है।

(और पढ़े – कैफीन के फायदे, नुकसान और उपयोग…)

गर्भधारण करने के लिए ब्रेकफास्ट समय पर करें

जल्दी प्रेग्नेंट होने के लिए जरूरी है कि, महिलाएं पर्याप्त नाश्ता करें। ब्रेकफास्ट करने से महिलाओं को प्रजनन से संबंधित समस्याओं से राहत मिलती है। एक अध्ययन में पाया गया है कि अच्छा ब्रेकफास्ट करने से पॉलिसिस्टिक अंडाशय सिंड्रोम के हार्मोनल प्रभाव में सुधार हो सकता है, जो बांझपन का प्रमुख कारण है।

(और पढ़े – सुबह के नाश्ते में ये खाएंगे तो रहेंगे फिट…)

गर्भ ठहरने के लिए शुगर का सेवन कम कर दें

यदि आप जल्दी गर्भ ठहराना चाहते हैं, तो शुगर का सेवन कम कर दें। चीनी की अधिक मात्रा शरीर में इंसुलिन लेवल को असंतुलित कर सकती है। ऐसे में आप यदि गर्भधारण करने की योजना बना रहे हैं, तो समस्या हो सकती है। चीनी की जगह आप नेचुरल स्वीटनर्स या मीठे फलों की ओर रूख कर सकते हैं।

(और पढ़े – गर्भावस्था के दौरान खाये जाने वाले आहार और उनके फायदे…)

बच्चा ठहरने के लिए पर्याप्त मात्रा में पानी पीयें

अगर आप जल्द ही बच्चा पैदा करने या गर्भधारण करने की योजना बना रहे हैं, तो आपको पर्याप्त मात्रा में पानी पीना चाहिए। पानी न केवल गर्भाशय को स्वस्थ रखता है, बल्कि यह गर्भाशय ग्रीवा बलगम को बढ़ाने में भी मदद करता है।

(और पढ़े – पानी पीने का सही समय जानें और पानी पीने के लिए खुद को प्रेरित कैसे करें…)

गर्भ ठहरने के लिए खुद को फिट रखें

जल्दी गर्भधारण करने के लिए खुद को फिट रखना बेहद जरूरी है। इसलिए रोज व्यायाम करें। अगर आपका वजन ज्यादा है, तो सबसे पहले अपना वजन कम करें। यह आपके गर्भवती होने की संभावना को बढ़ाएगा और अगर आपको वजन कम है, तो आपको ओव्यूलेशन की समस्या हो सकती है। द नर्सिस हेल्थ स्टडी के अनुसार नियमित रूप से व्यायाम करने से महिलाओं में बांझपन का जोखिम 5 प्रतिशत तक कम हो जाता है।

(और पढ़े – 30 के बाद गर्भावस्था के लिए तैयारी करने के लिए टिप्स…)

बच्चा ठहरने के लिए अच्छी नींद लेना बहुत जरूरी है

जल्दी माँ बनने के लिए अच्छी नींद लेना बहुत जरूरी है। अनियमित या टूटी-फूटी नींद आपके हार्मोन्स को असंतुलित कर सकती है। बाधित हार्मोनल संतुलन से गर्भधारण करने में समस्या हो सकती है।

(और पढ़े – गहरी और अच्छी नींद लेने के लिए घरेलू उपाय…)

गर्भ ठहरने के लिए अपने तनाव को कम करें और मैडिटेशन करें

तनाव कई जटिल समस्याओं को जन्म दे सकता है, इनमें से एक है गर्भधारण करने में समस्या आना। तनाव का बढ़ा हुआ स्तर हार्मोन को प्रभावित कर सकता है, जो अंडाशय से अंडा जारी करने के लिए जिम्मेदार होते हैं। इसलिए तनाव के कारण ओव्यूलेयशन में देरी हो सकती है या कई बार ओव्यूलेशन नहीं भी हो सकता।

(और पढ़े – मेडिटेशन क्या होता है , प्रकार और करने के फायदे…)

गर्भ ठहरने के लिए धूम्रपान करना छोड़ें

कई कोशिशों के बाद भी अगर गर्भ नहीं ठहर रहा, तो धुम्रपान करना छोड़ें। धुम्रपान न करने वाली महिलाओं की तुलना में धुम्रपान करने वाली महिलाओं को गर्भ धारण करने या प्रेग्नेंट होने में ज्यादा समस्या आती है।

(और पढ़े – स्मोकिंग की आदत कैसे लगती है, इसके नुकसान और छोड़ने के तरीके…)

बच्चा ठहरने के लिए पैन किलर दवाओं का सेवन न करें

अगर आप ओव्यूलेशन के समय दर्द निवारक दवाएं खासतौर से कॉम्बीफ्लेम और पेरासिटामोल खा रहे हैं, तो गर्भ ठहरने की संभावना न के बराबर हो जाती है। ये दवाएं हार्मोन को कम कर सकती हैं, जो फैलोपियन ट्यू में अंडे को छोड़ने में मदद करते हैं। इसलिए इन दवाओं के सेवन से बचें।

(और पढ़े – सेक्स पावर बढ़ाने वाली दवाओं के साइड इफ़ेक्ट…)

गर्भ ठहरने के लिए संतुलित और स्वस्थ आहार लें

तेजी से गर्भ ठहरने के लिए जरूरी है कि आप संतुलित और स्वस्थ आहार लें। एक अच्छा संतुलित पोषक आहार उन सभी महिलाओं के लिए अच्छा है, जो बांझपन की शिकार हैं। ऐसी महिलाओं को गर्भधारण करने में अगर देरी हो रही है, तो उन्हें आयरन, कैल्शियम, फॉलिक एसिड, जिंक और सेलेनियम युक्त पदार्थों का सेवन करना चाहिए। ये सभी तत्व फर्टिलिटी बूस्टर के रूप में जाने जाते हैं। सेलेनियम खासतौर से पुरूष शुक्राणु की गुणवत्ता और दीर्घायु बढ़ाने में बहुत मदद करते हैं, वहीं जिंक शुक्राणुओं की संख्या में वृद्धि करता है।

(और पढ़े – प्रेग्नेंट होने के लिए क्या खाना चाहिए और क्या नहीं खाना चाहिए…)

गर्भ ठहरने के लिए शराब का सेवन न करें

जल्दी बच्चा पैदा करना चाहते हैं, तो महिलाएं शराब का सेवन न करें। इससे इरैगुलर पीरियड्स, ओव्यूलेशन की समस्या के साथ हार्मोनल लेवल गड़बड़ा सकता है। यदि आप गर्भवती होने की योजना बना रहे हैं, तो शराब का सेवन आपकी जटिलता को और बढ़ा सकता है।

(और पढ़े – शराब पीने के फायदे और नुकसान और शरीर पर इसका प्रभाव…)

गर्भ ठहरने में मदद करती हैं ये सेक्स पोजीशन – Garbh Thaharne Ki Position Hindi Mai

गर्भ ठहरने में मदद करती हैं ये सेक्स पोजीशन – Garbh Thaharne Ki Position Hindi Mai

प्रेगनेंट होने के लिए सेक्स पोजीशन पर ध्यान देना बेहद जरूरी होता है। क्योंकि सेक्स पोजीशन से ही यह निर्धारित होता है कि स्पर्म योनि के अंदर अच्छी तरह से गया है या नहीं।

गर्भ ठहरने में मदद करती है डॉगी स्टाइल पोजीशन

पुरुषों को इस स्टाइल में सेक्स करना बहुत पसंद होता है। जल्दी गर्भधारण करने के लिए डॉगी स्टाइल में सेक्स करना चाहिए। इसका यह फायदा होता है कि इस स्टाइल में लिंग योनि के काफी अंदर तक पहुंचता है और प्रेगनेंसी के लिए फायदेमंद होता है।

(और पढ़ें – डॉगी स्टाइल सेक्स पॉजिशन में कैसे करें सेक्स फायदे और नुकसान…)

गर्भवती होने के लिए मैजिक माउंटेन पोजीशन में सेक्स करें

इस स्टाइल में सेक्स करने के लिए आपको अपनी हिप्स ऊपर उठानी पड़ती है और सिर को जमीन की ओर लटका कर रखना पड़ता है। आप चाहें तो सिर के नीचे तकिया भी लगा सकते हैं। इस स्टाइल में सेक्स करने से स्पर्म योनि के अंदर तक चला जाता है और महिला को ऑर्गेज्म भी प्राप्त हो जाता है।

(और पढ़ें – गर्भधारण करने की पोजीशन…)

बच्चा ठहरने के लिए बटरफ्लाई सेक्स पोजीशन

यह एक बहुत ही रोमांटिक सेक्स पोजीशन है। इस पोजीशन में सेक्स करने के लिए आपको टेबल पर लेटने की जरूरत पड़ेगी। अपने दोनों हाथों को दोनों तरफ फैलाएं, हिप्स के नीचे तकिया लगाकर इसे थोड़ा ऊंचा कर लें और अपने पार्टनर को अपनी जांघों के बीच आने दें।

(और पढ़ें – अगर आप भी चाहती है जल्दी प्रेगनेंट होना तो अपनाये इन सेक्स पोजीसन…)

गर्भ ठहरने के लिए साइड बाइ साइड पोजीशन में सेक्स करें

इस तरीके में अगल-बगल लेटकर सेक्स किया जाता है और आपके पार्टनर का चेहरा आपके चेहरे के सामने रहता है। साइड बाइ साइड सेक्स में अपने पैरों और शरीर को एकदम सीधा रखें और योनि को लिंग में प्रवेश कराएं। इस तरीके में स्पर्म पूरी तरह से योनि के अंदर पहुंच जाता है और गर्भधारण करने में आसानी होती है।

(और पढ़े – सेक्स पोजीशन (यौन आसन) की जानकारी…)

इसी तरह की अन्य जानकरी हिन्दी में पढ़ने के लिए हमारे एंड्रॉएड ऐप को डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं। और आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।

Leave a Comment

Subscribe for daily wellness inspiration