सरसों के बीज के फायदे और स्वास्थ्य लाभ – Mustard Seeds Benefits in Hindi

सरसों के बीज के फायदे और स्वास्थ्य लाभ – Mustard seeds benefits in hindi
Written by Deepanshu

Mustard seeds benefits in hindi भारत के साथ साथ विश्व की लगभग सभी  किचन में सरसों के बीज (मस्टर्ड सीड) का उपयोग किसी ने किसी तरह से किया जाता है। काले, भूरे, सफदे, पीले रंगों में पाए जाने वाले ये मस्टर्ड सीड खाने को स्वादिष्ट बनाने के साथ ही अपने अंदर कई औषधीय गुण (Mustard Medicinal properties) भी लिए हुए है। कैंसर, अस्थमा, कमर के दर्द जैसे आसाध्य बीमारियों में सरसों के बीज काफी राहत पहुंचाती है। आज हम आपको सरसों के बीज के फायदे और गुण बताने जा रहे है जो न सिर्फ आपके सेहत के लिए अच्छा है बल्कि कई रोगों से लड़ने के लिए भी कारगार है।

सरसों के बीज के फायदे – Sarso Ke Beej Ke Fayde in Hindi

सरसों के बीजों में औषधीय गुण होते हैं, जिसके कारण इनका उपयोग कई आयुर्वेदिक दवाओं में किया जाता है। आइए जाने सरसों के बीज के फायदे और स्‍वास्‍थ्‍य लाभ क्‍या होते हैं।

सरसों के बीज के फायदे कम करे आपका वजन – Mustard Seeds For Weight Loss in Hindi

सरसों के बीज के फायदे कम करे आपका वजन - Mustard seeds for weight loss in hindi

छोटे और भूरे सरसों के बीज में कई तरह के मिनरल्स और विटामिन (Minerals & Vitamins) पाए जाते है। इनमें से फोलेट, थियामिन, राइबोफ्लेविन, नियासिन जैसे विटामिन मौजूद होते है। इसके उपयोग से आपका वेट मैंटेन रहता है साथ ही आपका मटैबलिजम भी अच्छा बना रहता है।

(और पढ़े – पानी पीकर वजन कम करने के उपाय)

सरसों के बीज के फायदे जवां बने रहने के लिए – Mustard Seeds For Stay Healthy in Hindi

उम्र बढ़ने के साथ ही इसका असर चेहरों पर भी देखने को मिलता है। लेकिन सरसों के बीच का नियमित इस्तेमाल करने से आप खुद को जवां महसूस कर सकती है। सरसों में पाए जाने वाले कैरोटीन, जीक्सानथिंस, विटामिन ए, सी व के इसे एंटीऑक्सीडेंट्स बनाता है जो बढ़ती उम्र में आपको खूबसूरत और जवां बनाए रखने में मदद करता है।

(और पढ़ें – सालों तक सुंदर और जवां दिखने के टिप्स)

सरसों के बीज के फायदे गठिया का दर्द दूर – Mustard seeds for Arthritis Pain in Hindi

यू तो सरसों के तेल के अनगिनत फायदे है । लेकिन सबसे ज्यादा फायदा गठिया के मरीजों (Arthritis Patients) को मिलता है। सरसों में पाए जाने वाले सेलेनियम व मैग्नीशियम के कारण इसका उपयोग एंटी इंफ्लेमेटरी के लिए किया जाता है। यह शरीर में गर्माहत पहुंचाता है। सरसों के तेल से शरीर में मालिश करने से मांसपेशियों को गर्माहट मिलती है जिससे दर्द में काफी हद तक राहत मिलता है।

(और पढ़े – गठिया (आर्थराइटिस) कारण लक्षण और वचाव)

बालों को बनाए लंबा और घना बनाने के लिए सरसों के फायदे – Mustard Oil Benefits For Hair in Hindi

आज मार्केट में कई तरह के हेयर आयल मौजूद है। लेकिन दादी नानी के जमाने से चल आ रही सरसों के तेल से सर में मालिश (Massage in head) करना आज भी जारी है। सरसो के तेल से सर में मालिश करने से बालों के ग्रोथ जल्दी होती है साथ ही ये बालों को घना भी बनाता है।

(और पढ़े – सरसों के तेल के फायदे स्वास्थ्यवर्धक लाभ और नुकसान)

सरसों के बीज के फायदे इंफेक्शन से बचने में Mustard Seeds To Avoid Infections in Hindi

सल्फर की पर्याप्‍त मात्रा सरसों में पाई जाती है जो किए एंटीफंगल (Anti fungal) व एंटी बैक्टीरियल (Anti bacterial) की तरह काम करती है। त्वचा पर इंफैक्शन न हो इसके लिए सरसों के तेल का नियमित इस्तेमाल करते रहना चाहिए।

(और पढ़ें – मानसून में फंगल इंफेक्शन के घरेलू उपाय)

दमा में सरसों के बीज के फायदे Benefits of Mustard Seeds in Asthma in Hindi

अस्‍थमा या दमा के मरीजों (Asthmatic patients) के लिए सरसों का बीज का सेवन किसी रामबाण से कम नहीं होगा। इसमें पाए जाने वाले मैग्नीशियम और तांबे के रूप में मिनिरल शामिल है जो दमा के मरीजों के लिए काफी फायदेमंद है।

(और पढ़ें – अस्थमा (दमा) के कारण, लक्षण, उपचार एवं बचाव)

सरसों के बीज के फायदे गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल कैंसर Mustard Seeds For Cancer in Hindi

कैंसर के नाम सुनते ही मरीज का सांसे थम सी जाती है। लेकिन सरसों के बीज (Mustard seeds) के इस्तेमाल से कैंसर जैसे भयावक रोग से भी लड़ा जा सकता है। सरसों में पाए जाने वाले फीटोन्यूट्रिएंट्स  गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल कैंसर (Gastrointestinal cancer) को रोकने में मदद करता है। अध्ययनों में पाया गया है कि सरसों में कुछ ऐसे गुण हैं जो पहले से मौजूद कैंसर को ठीक करता है ।

(और पढ़ें – क्या खाने से कैंसर का खतरा कम किया जा सकता है)

Leave a Comment

Subscribe for daily wellness inspiration