क्या होता है मानव लिंग और उसकी कार्यप्रणाली – What Is Male Sex Organ And Its Functions In Hindi




क्या होता है मानव लिंग और उसकी कार्यप्रणाली - What Is Male Sex Organ And Its Functions In Hindi
Written by Daivansh

पुरुष लिंग (पेनिस) से जुड़ी बातें और जानकारियां। लिंग मानव शरीर का अहम हिस्सा है मनुष्य में लिंग (organ) उनकी प्रवृति को निर्धारित करता है। लिंग के आधार पर महिला और पुरुष विभाजित होते हैं। महिलाओं के शरीर का आकार (size), प्रकार (Type) आदि पुरुषों के शरीर से अलग होता है। पुरुषों का लिंग और महिलाओं की योनि का आकर और संरचना भी अलग-अलग होती है। दोनों की संरचना अलग-अलग होने के साथ-साथ बेहद जटिल भी होती है। शरीर में लिंग का कार्य रिप्रोडक्शन (reproduction) करने, सेक्स (sex) करने और मूत्र का त्याग करने का होता है। लिंग एक बेहद महत्वपूर्ण अंग होता है जिसको स्वास्थ्य और रिप्रोडक्शन को बेहतर बनाने के लिए स्वस्थ रहना बहुत जरुरी होता है।

मानव लिंग में महिलाओं की योनि यानी की वेजाइना (vegina) और पुरुषों का लिंग यानी की पेनिस (penis) दोनों ही आते हैं। लिंग क्या होता है? इसके कौनसे-कौनसे भाग होते हैं? उनका क्या काम होता है? क्या लिंग का काम सिर्फ सेक्स (sex) करना होता है? इस आर्टिकल में हम आपको इन महत्वपूर्ण सवालों और लिंग के अंगों की कार्यप्रणाली (functions) के बारे में पूरे विस्तार से बताने जा रहे हैं। आइए जानते हैं मानव लिंग और उसकी कार्यप्रणाली के बारे में।

  1. क्या होता है मानव लिंग – What is human sex organ in hindi
  2. पुरुषों का लिंग और उसके कार्य – male sex organ and its functions in hindi
  3. पुरुषों के लिंग का अंग है पेनिस – Male sex organ is Penis and its work in hindi
  4. पुरुषों के लिंग का अंग है स्क्रोटम – Male sex organ Scrotum and its work in hindi
  5. पुरुषों के लिंग का अंग है टेस्टिकल्स – Male sex organ is Testicles and its work in hindi
  6. पुरुषों के लिंग का अंग है एपिडिडिमिस – Male sex organ is Epididymis and its work in Hindi
  7. पुरुषों का रिप्रोडेक्टिव सिस्टम कैसे काम करते हैं – How does the male reproductive system work in Hindi

क्या होता है मानव लिंग – What is human sex organ in hindi

क्या होता है मानव लिंग - What is human sex organ in hindi

मानव लिंग को रिप्रोडक्टिव ऑर्गन या सेक्स ऑर्गन (sex organ) भी कहा जाता है। यह अंग मानव शरीर में फ्लूइड (fluid), हार्मोन आदि के स्राव के लिए जरुरी होता है। शरीर से मूत्र को बाहर निकालने, सेक्स और इंटरकोर्स करने के काम आता है। महिलाओं में योनि मूत्र (urine) को शरीर से बाहर निकालने, हार्मोन का स्राव करने, पीरियड्स का ब्लड (period blood) शरीर से बाहर निकालने, सेक्स करने और शिशु को जन्म (child birth) देने के काम आती है।

(और पढ़े – जाने पेनिस का एवरेज साइज कितना होता है…)

पुरुषों का लिंग और उसके कार्य – male sex organ and its functions in hindi

पुरुषों का लिंग और उसके कार्य - What is male sex organ and its functions in hindi

सबसे पहले हम यहां पुरुषों के जननांगों (reproductive organ) की बात कर लेते हैं। पुरुषों के जननांगों का मुख्य कार्य स्पर्म (sperm) को पैदा करना, उसकी मात्रा को नियंत्रित करना और उसे पुरुषों की रिप्रोडक्शन कोशिकाओं में संचरित करना होता है। इसके अलावा सीमन (semen) को पैदा करना भी होता है। सेक्स के दौरान इंटरकोर्स करने और स्पर्म को महिला की वेजाइना में ट्रांसफर करने का काम भी इसी का होता है। इसके अलावा यह पुरुषों का सेक्स हार्मोन (sex hormones ) भी पैदा करता है जो कि उनके शरीर में रिप्रोडक्शन (reproduction) क्षमता को सुनिश्चित करता है। पुरुषों के जननांग के महत्वपूर्ण अंग और उनका काम कुछ इस प्रकार होता है।

(और पढ़े – शुक्राणु क्या है, कैसे बनते है, कार्य और संचरना…)

पुरुषों के लिंग का अंग है पेनिस – Male sex organ is Penis and its work in hindi

पुरुषों के लिंग का अंग है पेनिस - Male sex organ is Penis and its work in hindi

पेनिस पुरुषों का सेक्स ऑर्गन होता है। यह सेक्सुअल इंटरकोर्स के काम आता है। इसके तीन हिस्से होते हैं। पहला हिस्सा इसकी रूट यानि की जड़ होती है जो कि इसे पेल्विक फ्लोर से जोड़ता है। यानि की पहला हिस्सा वह होता है जो पेनिस को पुरुषों के शरीर से जोड़ता है। दूसरा हिस्सा पेनिस का लंबा भाग और तीसरा इसकी शॉफ्ट होती है जिससे मूत्र शरीर से बाहर निकलता है। यह वहीं शंकु आकार का हिस्सा होता है। पुरुषों के पेनिस (Penis) के आखिर में जो अतिरिक्त त्वचा की ढ़ीली परत होती है उसे फोरस्किन (Foreskin) भी कहा जाता है। यह हिस्सा यूरेथ्रा की शुरुआत में एक ट्यूब की तरह होता है जिससे सीमन और मूत्र निकलता है।

पेनिस के इस हिस्से पर बहुत सारी संवेदनशील तंत्रिकाओं का अंत होता है। यह हिस्सा काफी ज्यादा संवेदनशील माना जाता है और यहीं कारण है कि ओरल सेक्स के दौरान इस हिस्से को चूसने पर पुरुषों को ज्यादा आनंद और उत्तेजकता का अनुभव होता है।

पेनिस (Penis) का आकार बेलनाकार (cylindrical) होता है। इसमें स्पंज की तरह लचीले टिशू होते हैं जिनमें रक्त संचार (blood circulation) होता है। इसी से यह कड़ा और एक सीधी रेखा में खड़ा होता है और पुरुष सेक्स (sex) कर पाते हैं। पुरुषों के पेनिस की त्वचा सामान्य तौर पर ढ़ीली (loose) होती है और त्वचा के इस लचीलेपन के कारण ही इसका आकार बदलता रहता है। इस अंग का मुख्य काम इंटरकोर्स (intercourse) करने का होता है साथ ही इससे सीमन (semen) भी निकलता है। सीमन में स्पर्म (sperm) होता है जो कि रिप्रोडक्शन के लिए जरूरी होता है।

(और पढ़े – लिंग (पेनिस) का साइज कैसे बढ़ाये, मोटा और लंबा करने की एक्सरसाइज…)

पुरुषों के लिंग का अंग है स्क्रोटम – Male sex organ Scrotum and its work in hindi

पुरुषों के लिंग का अंग है स्क्रोटम - Male sex organ Scrotum and its work in hindi

इस अंग को हिंदी में वृषण भी कहा जाता है। यह एक छोटे बैग के आकार का ढ़ीली त्वचा से बना हुआ एक हिस्सा होता है। इसमें टेस्टिकल्स (testicles), नसें और ब्लड वैसल्स (blood vessel) होती है। स्क्रोटम (Scrotum) स्पर्म की रक्षा के लिए एक चेंबर की तरह काम करता है। साधारणतौर पर स्पर्म को जिंदा रहने के लिए शरीर से थोड़े कम तापमान जैसे वातावरण की जरूरत होती है। स्क्रोटम की दीवारों में बनी विशेष मसल्स इस तरह का वातावरण तैयार करती है जिससे स्पर्म जिंदा रह सके।

(और पढ़े – जानें हाइड्रोसील के लक्षण, कारण, जांच इलाज और बचाव…)

पुरुषों के लिंग का अंग है टेस्टिकल्स – Male sex organ is Testicles and its work in hindi

पुरुषों के लिंग का अंग है टेस्टिकल्स - Male sex organ is Testicles and its work in hindi

ये अंडाकार होते हैं। पुरुषों में दो टेस्टिकल्स पाए जाते हैं। ये टेस्टोस्टेरोन (testosterone) हार्मोन को पैदा करने का काम करते हैं। पुरुषों का सेक्स हार्मोन ही सामान्यतौर पर स्पर्म पैदा करता है।

(और पढ़े – अंडकोष (वृषण) में दर्द के कारण, लक्षण, जांच, उपचार और रोकथाम…)

पुरुषों के लिंग का अंग है एपिडिडिमिस – Male sex organ is Epididymis and its work in Hindi

पुरुषों के लिंग का अंग है एपिडिडिमिस - Male sex organ is Epididymis and its work in Hindi

एपिडिडिमिस एक लंबी ट्यूब जैसा अंग होता है जो कि हर टेस्टिकल के पीछे की तरफ होता है। इसका मुख्य काम टेस्टिक्ल्स में मौजूद स्पर्म को स्टोरेज से बाहर ले जाने का होता है। एपिडिडिमिस (Epididymis) का कार्य स्पर्म के परिपक्व (mature) होने तक उन्हें स्टोर (store) करके उनकी रक्षा करने का भी होता है।

(और पढ़े – पेनिस (लिंग) के रोग के लक्षण, कारण, प्रकार, उपचार और बचाव…)

पुरुषों का रिप्रोडेक्टिव सिस्टम कैसे काम करते हैं – How does the male reproductive system work in Hindi

पुरुषों का रिप्रोडेक्टिव सिस्टम कैसे काम करते हैं - How does the male reproductive system work in Hindi

पुरुषों का रिप्रोडेक्टिव सिस्टम (reproductive system) उनके हार्मोन्स पर निर्भर करता है। ये हार्मोन्स एक प्रकार का केमिकल होते हैं जो कि कोशिकाओं और अंगों की कार्यप्रणाली को नियंत्रित और साथ ही उत्तेजित भी करते हैं। पीयूष ग्रंथि (pituitary gland) जो कि दिमाग में होती है उससे हार्मोन्स का उत्पादन होता है। पुरुषों का मुख्य हार्मोन टेस्टोस्टेरोन होता है जो कि उनके शरीर की मसल्स के घनत्व और ताकत को बढ़ाने और साथ ही अस्थियों के घनत्व और सेक्स ड्राइव (sex drive) को बढ़ाने के लिए जरूरी होता है।

(और पढ़े – दर्दनाक स्खलन क्या है, लक्षण, कारण, इलाज और बचाव…)

इसी तरह की अन्य जानकरी हिन्दी में पढ़ने के लिए हमारे एंड्रॉएड ऐप को डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं। और आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।

Leave a Comment

Subscribe for daily wellness inspiration