फोलिक एसिड क्या है, उपयोग (लाभ), साइड इफेक्ट्स, खाद्य पदार्थ और दैनिक मात्रा – Folic Acid, Uses, Side Effects, Foods In Hindi

फोलिक एसिड क्या है, उपयोग (लाभ), साइड इफेक्ट्स, खाद्य पदार्थ और दैनिक मात्रा - What Is Folic Acid, Uses, Side Effects, Foods And Daily Recommended In Hindi
Written by Sourabh

फोलिक एसिड (Folic Acid) एक कृत्रिम रूप से निर्मित रसायन है, जिसका प्रयोग फोलेट की कमी को पूरा करने के लिए किया जाता है। यह एक पानी में घुलनशील विटामिन है, जिसे विटामिन बी9 भी कहा जाता है। फोलेट (Folate) और फोलिक एसिड (folic acid) दोनों ही पानी घुलनशील विटामिन-बी के रूप हैं। फोलेट प्राकृतिक रूप से भोजन में पाया जाता है। यह शरीर को स्वस्थ्य रखने में तथा नई कोशिकाओं के निर्माण में मदद करता है। प्र

त्येक व्यक्ति को फोलिक एसिड की जरूरत होती है। गर्भवती होने वाली महिलाओं के लिए यह बहुत ही महत्वपूर्ण रसायन है। गर्भावस्था से पहले और गर्भावस्था के दौरान पर्याप्त फोलिक एसिड का सेवन, जन्म लेने वाले बच्चे के मस्तिष्क या रीढ़ की हड्डी से संबन्धित जन्म दोषों को रोक सकता है। फोलेट की कमी को पूरा करने और अनेक प्रकार की बीमारियों का इलाज करने के लिए फोलिक एसिड की एक निश्चित मात्रा का प्रयोग किया जाता है। आज के इस लेख मे आप जानेंगे की फोलिक एसिड (Folic Acid) क्या है, इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां क्या हैं तथा दैनिक जीवन में इसकी कितनी मात्रा आवश्यक है

  1. फोलिक एसिड क्या है – What Is Folic Acid in hindi
  2. फोलिक एसिड का उपयोग – Folic Acid uses in hindi
  3. फोलेट की कमी के लक्षण – Folate Deficiency Symptoms in hindi
  4. फोलिक एसिड युक्त खाद्य पदार्थ – Foods That Contain Folic Acid in Hindi
  5. फोलिक एसिड युक्त फल – Folic Acid Fruits in hindi
  6. फोलिक एसिड साइड इफेक्ट्स – Folic Acid Side Effects in hindi
  7. फोलिक एसिड की खुराक – Folic acid dosage in hindi
  8. फोलिक एसिड के उपयोग में सावधानियां – Precautions in the use of folic acid in Hindi

फोलिक एसिड क्या है – What Is Folic Acid in Hindi

फोलिक एसिड (Folic Acid), विटामिन बी9 का एक स्थाई, कृत्रिम रूप है। यह स्वाभाविक रूप से भोजन में नहीं पाया जाता है, लेकिन संसाधित खाद्य पदार्थों में इसे शामिल किया जा सकता है। इस एसिड का प्रयोग मल्टीविटामिन-खनिज सप्लीमेंट (multivitamin-mineral supplements) में किया जाता है। हालांकि, शरीर द्वारा इसका उपयोग करने से पहले फोलिक एसिड को सक्रिय विटामिन बी9 में परिवर्तित किया जाता है, इस पदार्थ को 5-एमटीएचएफ (5-MTHF) कहा जाता है। फोलिक एसिड को सक्रिय विटामिन बी9 में बदलने की प्रक्रिया चार-चरण में होती है, जिसके लिए कई प्रकार के एंजाइमों की आवश्यकता होती है। इन एंजाइमों में से MTHFR (Methylenetetrahydrofolate reductase) एक प्रमुख एंजाइम है।

कुछ व्यक्तियों में अनुवांशिक उत्परिवर्तन (genetic mutations) होते हैं, जिसके कारण उनके एमटीएचएफआर (MTHFR) एंजाइम, फोलिक एसिड को 5-MTHF (5-methyltetrahydrofolate) में परिवर्तित करने के लिए कम प्रभावी होते हैं। जिसके परिणामस्वरुप रक्त में फोलिक एसिड की मात्रा बढ़ने लगती है, इस स्थिति में कुछ लोगों में खराब प्रतिरक्षा प्रणाली, मस्तिष्क कार्य में कमी और पहले से उपस्थित कैंसर में वृद्धि हो सकती है। फोलिक एसिड का उपयोग आमतौर पर फोलेट की कमी (folate deficiency) से सम्बंधित समस्याओं का इलाज करने के लिए प्रयोग मे लाया जा सकता है।

(और पढ़े – विटामिन बी कॉम्प्लेक्स के फायदे, स्रोत और नुकसान…)

फोलिक एसिड का उपयोग – Folic Acid uses in Hindi

फोलिक एसिड (Folic Acid) मानव शरीर के लिए अत्यंत ही उपयोगी विटामिन बी 9 का एक रूप है। यह शरीर के अत्यंत ही लाभकारी है।

फोलिक एसिड के लाभ निम्न हैं:

(और पढ़े – खाएं ये चीजें, नहीं होगा ब्रेस्ट कैंसर…)

फोलेट की कमी के लक्षण – Folate Deficiency Symptoms in Hindi

हालांकि, सूजन आंत्र रोग से संबन्धित व्यक्तियों, धूम्रपान करने वाले व्यक्तियों या अत्यधिक शराब पीने वाले लोगों के लिए फोलेट की कमी होने की संभावना अधिक होती हैं। फोलेट की कमी के संकेत और लक्षणों में निम्न शामिल हैं:

  • रक्त में होमोसिस्टीन (homocysteine) के उच्च स्तर,
  • मेगाब्लोबैस्टिक एनीमिया (Megaloblastic anemia) बीमारी,
  • थकान बनी रहना,
  • दुर्बलता आना,
  • चिड़चिड़ापन,
  • सांस फूलना (Shortness of breath)
  • फोलेट की कमी का परीक्षण आपके लाल रक्त कोशिकाओं के भीतर संग्रहीत फोलेट की मात्रा को मापकर किया जा सकता है।

(और पढ़े – क्या है एनीमिया? कारण, लक्षण और आहार…)

फोलिक एसिड युक्त खाद्य पदार्थ – Foods That Contain Folic Acid in Hindi

चूंकि फोलिक एसिड (Folic Acid) विटामिन बी9 एक कृत्रिम रूप है, यह प्राकृतिक रूप से खाद्य पदार्थों में नहीं पाया जाता है। आमतौर पर इसे परिष्कृत अनाज उत्पादों में शामिल किया जाता है और सप्लीमेंट के रूप में उपयोग किया जाता है। खाद्य पदार्थ जिन्हें अक्सर फोलिक एसिड के साथ समृद्ध किया जाता है, उनमें शामिल हैं:

  • अनाज (cereals)
  • केक
  • कुकीज़ (Cookies)
  • मक्की का आटा (Cornmeal)
  • क्रैकर्स (Crackers)
  • ऊर्जा प्रदान करने वाले पेय (Energy drinks)
  • प्रोटीन बार (Protein bars)
  • सफेद पास्ता (White pasta)
  • सफ़ेद चावल (White rice)

(और पढ़े – चावल खाने के फायदे और नुकसान…)

फोलिक एसिड युक्त फल – Folic Acid Fruits in Hindi

फोलिक एसिड (Folic acid) एक कृत्रिम रूप है। यह फोलेट (folate)के रूप में प्राकृतिक अवस्था में पाया जाता है। फोलिक एसिड का उपयोग फोलेट की कमी को पूरा करने के लिए किया जाता हैं। इसके अतिरिक्त फोलेट (folate)से संतृप्त फल और सब्जियां भी फोलिक एसिड की कमी (Folate Deficiency) को पूरा कर सकती हैं। अतः फोलेट (फोलिक एसिड) युक्त फल और सब्जियों निम्न हैं:

(और पढ़े – संतुलित आहार के लिए जरूरी तत्व, जिसे अपनाकर आप रोंगों से बच पाएंगे…)

फोलिक एसिड साइड इफेक्ट्स – Folic Acid Side Effects in Hindi

मुंह के माध्यम से दवा के रूप में या इंजेक्शन के रूप में ली जाने वाली फोलिक एसिड (Folic Acid) की उचित मात्रा ज्यादातर लोगों के लिए सुरक्षित होती है। 1000 मिलीग्राम से कम दैनिक खुराक के रूप में उपयोग किए जाने पर अधिकांश वयस्कों को किसी भी प्रकार के दुष्प्रभाव का अनुभव नहीं होता है।

लंबे समय तक अधिक मात्रा में सेवन किए जाने पर फोलिक एसिड के नुकसान देखने को मिल सकते है। फोलिक एसिड (Folic Acid) की उच्च खुराक निम्न दुष्प्रभाव का कारण बन सकती है,जैसे:

अतः फोलिक एसिड (Folic Acid) का सेवन करने से पहले इसके साइड इफेक्ट्स और सावधानियों के बारे में जागरूक होना बहुत जरुरी है।

(और पढ़े – खाने के बाद पेट में दर्द होने के कारण और वचाव के तरीके…)

फोलिक एसिड के सेवन से निम्न स्वास्थ्य संबंधी जोखिमों का खतरा होता हैं:

कैंसर में वृद्धि का जोखिम (Risk of cancer promotion)

कुछ शोधों में फोलिक एसिड खपत और कैंसर के विकास के बीच में एक निकटता का सम्बन्ध होता है। उच्च मात्र में फोलिक एसिड (Folic Acid), पहले से मौजूद ट्यूमर के विकास में वृद्धि कर सकता है। प्रारंभिक शोध से पता चलता है कि रोजाना 800-1000 मिलीग्राम तक फोलिक एसिड का सेवन कैंसर के खतरे को बढ़ा सकता है। अतः कैंसर वाले व्यक्तियों को फोलिक एसिड की उच्च मात्रा के सेवन से बचना चाहिए।

(और पढ़े – कैंसर क्या है कारण लक्षण और बचाव के उपाय…)

मुक्त फोलिक एसिड फैलाना (Circulating free folic acid)

चूंकि फोलिक एसिड (Folic Acid) से सक्रिय विटामिन बी9 रूप में रूपांतरण एक धीमी प्रक्रिया है, इसलिए फोलिक एसिड के अत्यधिक सेवन से रक्त प्रवाह में इसके स्तर में वृद्धि हो सकती है। इसके अतिरिक्त, चूंकि कुछ लोगों में एमटीएचएफआर अनुवांशिक उत्परिवर्तन (MTHFR genetic mutations) होते हैं, जो फोलिक एसिड को सक्रिय रूप में परिवर्तित करने की क्षमता को कम करते हैं।

हृदय रोग (Heart disease)

प्रारंभिक शोध से पता चलता है, कि फोलिक एसिड और विटामिन बी 6 का सेवन करने से दिल की बीमारी से संबन्धित व्यक्तियों में हार्ट अटैक (heart attack) का खतरा बढ़ सकता है।

दौरे (Seizure)

दौरे से संबन्धित व्यक्तियों द्वारा फोलिक एसिड की उच्च मात्रा का सेवन किए जाने पर दौरे की समस्या ओर गंभीर हो सकती है।

विटामिन बी 12 की कमी के कारण एनीमिया (Anemia caused by vitamin B12 deficiency)

फोलिक एसिड (Folic Acid) की अधिक मात्रा में सेवन से विटामिन बी12 की कमी के कारण एनीमिया के उचित उपचार में देरी हो सकती है।

(और पढ़े – विटामिन बी12 के फायदे स्रोत और स्वास्थ्य लाभ…)

गर्भावस्था और स्तनपान (Pregnancy and breast-feeding) गर्भावस्था और स्तनपान के दौरान उचित रूप से मुंह से लिया जाने पर फोलिक एसिड सुरक्षित होता है। गर्भावस्था के दौरान जन्म दोषों को रोकने के लिए रोजाना 300-400 मिलीग्राम फोलिक एसिड ही प्रयोग किया जाना चाहिए।

(और पढ़े – बच्चे को दूध पिलाने (स्तनपान कराने) के तरीके और टिप्स…)

फोलिक एसिड की खुराक – Folic acid dosage in Hindi

फोलिक एसिड (Folic Acid) प्रत्येक व्यक्ति को शारीरिक कार्यों को करने के लिए और शरीर को अनेक प्रकार के रोगों से सुरक्षित रखने के लिए आवश्यक होता है। उम्र के साथ इसकी एक निचित मात्रा की आवश्यकता शरीर को होती है। उम्र के साथ प्रत्येक व्यक्ति के लिए उपयोगी दैनिक मात्रा इस प्रकार है:

  • 0-6 माह तक के शिशुओं के लिए 65 माइक्रोग्राम (mcg) प्रति दिन
  • 7-12 महीने की उम्र के शिशुओं के लिए 80 माइक्रोग्राम (mcg) प्रति दिन
  • 1-3 साल के बच्चे के लिए 150 माइक्रोग्राम (mcg) प्रति दिन
  • 4-8 साल के बच्चों के लिए, 200 माइक्रोग्राम (mcg) प्रति दिन
  • 9 -13 साल के बच्चों के लिए, 300 माइक्रोग्राम (mcg) प्रति दिन
  • 13 साल से अधिक उम्र के वयस्क, 400 माइक्रोग्राम (mcg) प्रति दिन
  • गर्भवती महिलाओं के लिए 600 माइक्रोग्राम (mcg) प्रति दिन
  • स्तनपान कराने वाली महिलाओं के लिए, 500 माइक्रोग्राम (mcg) प्रति दिन

फोलिक एसिड की कमी के लिए (Folic Acid Deficiency): सामान्य खुराक 250 माइक्रोग्राम (mcg) से 1 मिलीग्राम (mg) प्रति दिन है।

फोलिक एसिड (Folic Acid) की सहनशील अंतिम सीमा इस प्रकार है:

  • 1-3 साल के बच्चों के लिए अधिकतम सीमा 300 माइक्रोग्राम (mcg) प्रति दिन
  • 4-8 साल के बच्चों के लिए अधिकतम सीमा 400 माइक्रोग्राम (mcg) प्रति दिन
  • 9-13 साल के बच्चों के लिए अधिकतम सीमा 600 माइक्रोग्राम (mcg) प्रति दिन
  • 14-18 साल के किशोरावस्था के लिए अधिकतम सीमा 800 माइक्रोग्राम (mcg) प्रति दिन
  • 18 साल से अधिक उम्र के सभी वयस्कों के लिए अंतिम सीमा 1 मिलीग्राम (mg) प्रति दिन है।

फोलिक एसिड के उपयोग में सावधानियां – Precautions in the use of folic acid in Hindi

व्यक्तियों को कुछ दवाओं के सेवन के साथ फोलिक एसिड (Folic Acid) की मात्रा का सेवन करने में सावधानी बरतनी चाहिए है। क्योंकि कुछ दवाओं के साथ फोलिक एसिड (Folic Acid) आपस में क्रिया कर उनके प्रभाव को नष्ट कर सकता है है। अतः फोलिक एसिड के सेवन के साथ निम्न सावधानियां रखनी चाहिए:   

  • फोस्फीनाइटोइन (Fosphenytoin) (Cerebyx) दवा दौरे (seizures) के लिए प्रयोग मे लाई जाती है। फोस्फीनाइटोइन के साथ फोलिक एसिड (Folic Acid) की मात्रा का सेवन, दौरे को रोकने के लिए फोस्फीनाइटोइन की प्रभावशीलता को कम कर सकता है।
  • मेथोट्रेक्सेट (Methotrexate) शरीर की कोशिकाओं में फोलिक एसिड के प्रभाव को कम करने के लिए प्रयोग की जाने वाली दवा है। मेथोट्रेक्सेट के साथ फोलिक एसिड का सेवन, मेथोट्रेक्सेट (Methotrexate) की प्रभावशीलता को कम कर सकता है।
  • दौरे की समस्या को कम करने के लिए प्रयोग की जाने वाली दवा फीनोबार्बिटल (ल्यूमिनल) (Phenobarbital (Luminal)) के साथ फोलिक एसिड का सेवन करने से इसकी प्रभावशीलता कम हो सकती है।
  • पाइरिमेथामाइन (दाराप्रिम) Pyrimethamine (Daraprim) परजीवी संक्रमण का इलाज करने के लिए उपयोग की जाने वाली दवा है। अतः फोलिक एसिड परजीवी संक्रमण के इलाज में पाइरिमेथेमाइन (Pyrimethamine) की प्रभावशीलता को कम कर सकता है।
  • इसके अतिरिक्त फोलिक एसिड निम्न दवाओं की प्रभावशीलता को भी कम कर सकता है
  • फ़िनाइटोइन (डीलानटिन) (Phenytoin) (Dilantin) प्रिमिडोने (मैसोलिन) (Primidone) (Mysoline) दौरे के लिए प्रयोग मे लाई जाने वाली दवा। 

Leave a Comment

Subscribe for daily wellness inspiration