मांसपेशियों में खिंचाव (दर्द) के कारण और उपचार – Muscles Strains (Pulled Muscle) Symptoms, treatment in Hindi

मांसपेशियों में खिंचाव (दर्द) के कारण और उपचार - Muscles Strains (Pulled Muscle) Symptoms, treatment in Hindi
Written by Ramkumar

मांसपेशियों में खिंचाव (Muscles Strains) आज के समय में एक आम समस्या है जो किसी भी उम्र में स्त्री और पुरुष दोनों को समान रूप से प्रभावित कर सकती है। मांसपेशी में खिंचाव या तनाव प्रभावित क्षेत्र में जलन, सूजन और दर्द जैसी समस्याओं का कारण बनता है। यह समस्या व्यक्ति की दैनिक गतिविधियों में रूकावट डाल सकती है। मांसपेशियों में खिंचाव (Muscles Strains) का कोई निश्चित चिकित्सकीय उपचार उपलब्ध नहीं है। इस समस्या से इलाज केवल घरेलू तरीके अपनाकर और जीवन शैली में सुधार कर किया जा सकता है। अतः इस लेख के माध्यम से आप जानेंगे कि मांसपेशियों में खिंचाव के कारण क्या हैं, तथा इसके घरेलू उपचार और रोकथाम के बारे में।

1. मांसपेशियों में खिंचाव क्या है – What Are Muscles Strains In Hindi
2. मांसपेशियों में खिंचाव के लक्षण – Symptoms of Muscles Strains In Hindi
3. मांसपेशियों में खिंचाव (दर्द) के कारण – Causes of Muscles Strains In Hindi
4. मांसपेशियों में खिंचाव का निदान – Diagnose of Muscles Strains In Hindi
5. मांसपेशियों में दर्द का इलाज – Muscles Pain Treatment In Hindi
6. मांसपेशियों में खिंचाव की रोकथाम – How To Prevent Muscles Strains In Hindi
7. मांसपेशियों में खिंचाव का घरेलू उपचार – Home Remedies for Muscles Strains in Hindi

मांसपेशियों में खिंचाव क्या है – What Are Muscles Strains In Hindi

मांसपेशियों में खिंचाव क्या है - What Are Muscles Strains In Hindi

मांसपेशियों में खिंचाव (Muscles Strains) तब होता है, जब मांसपेशियों पर बहुत ज्यादा खिंचाव (overstretched) या तनाव डाला जाता है। यह आमतौर पर अधिक परिश्रम, मांसपेशियों का अधिक प्रयोग या मांसपेशियों के अनुचित उपयोग के परिणामस्वरूप होता है। खिंचाव किसी भी मांसपेशियों में हो सकता है, लेकिन आमतौर पर यह निचली पीठ, गर्दन, कंधे और हैमस्ट्रिंग (hamstring) में सबसे सामान्य है, हैमस्ट्रिंग जांघ के पीछे की मांसपेशी (घुटने के पीछे की पाँच नसों में एक नस) होती है।

मसल्स में खिंचाव (Muscles Strains) दर्द का कारण बन सकता है और प्रभावित मांसपेशियों की गतिविधि को सीमित कर सकता हैं। मांसपेशियों में सामान्य और माध्यम खिंचाव को बर्फ की सिकाई, गर्मी की सिकाई और एंटी इंफ्लेमेटरी (anti-inflammatory) दवाओं के साथ घरेलू उपचार कर दूर किया जा सकता है। गंभीर मांसपेशियों में खिंचाव की स्थिति में चिकित्सा उपचार की आवश्यकता पड़ सकती है।

(और पढ़े – जोड़ों में दर्द का घरेलू उपचार…)

मांसपेशियों में खिंचाव के लक्षण – Symptoms of Muscles Strains In Hindi

मांसपेशियों में खिंचाव के लक्षण - Symptoms of Muscles Strains In Hindi

सामान्य तौर पर मांसपेशियों में तनाव (Muscles Strains) के लक्षणों में शामिल हैं:

  • मांसपेशियों में अचानक दर्द की शुरुआत होना
  • मांसपेशियों में सूजन या लालिमा आना
  • आराम करने पर दर्द महसूस होना
  • पीड़ा या कष्ट होना
  • गतिविधियों में कमी या कम करने में असक्षम
  • मांसपेशियों में ऐंठन
  • दुर्बलता आना

(और पढ़े – कमजोरी और थकान के कारण, लक्षण और इलाज…)

मांसपेशियों में खिंचाव (दर्द) के कारण – Causes of Muscles Strains In Hindi

मांसपेशियों में खिंचाव (दर्द) के कारण - Causes of Muscles Strains In Hindi

मांसपेशियों में खिंचाव (Muscles Strains) किसी भी व्यक्ति को परेशान कर सकता है। यह मानव की सामान्य गतिविधियों के दौरान, मांसपेशियों के अचानक उपयोग के परिणामस्वरूप होता हैं। ऐसी गतिविधियां जो मांसपेशियों में खिंचाव का कारण बनती हैं और इसके जोखिम को बढ़ा सकती हैं, वे निम्न हैं:

  • कूदने के दौरान
  • दौड़ते समय
  • किसी वस्तु को फेंकने के दौरान
  • भारी वस्तु उठाते समय
  • एक ही स्थिति में बहुत समय तक स्थिर रहने के कारण
  • अचानक कोई भी गतिविधि करने के दौरान
  • ठंड के मौसम में मांसपेशियों में खिंचाव (Muscles Strains) एक सामान्य बात है।

(और पढ़े – सर्दियों में उठने वाले पुराने दर्द का कारण और उपाय…)

मांसपेशियों में खिंचाव का निदान – Diagnose of Muscles Strains In Hindi

डॉक्टर मांसपेशियों में खिंचाव (Muscles Strains) की स्थिति में चिकित्सा इतिहास की जानकारी लेता है और शारीरिक परीक्षण करता है। परीक्षण के दौरान, यह निर्धारित करना अतिमहत्वपूर्ण होता है कि मांसपेशियों में खिंचाव आंशिक रूप से हुआ है या पूर्ण रूप से, जिससे कि उपचार प्रक्रिया सुनिश्चित की जा सके।

एक्स-रे (X-rays test) या प्रयोगशाला परीक्षण (laboratory tests), मांसपेशियों में खिंचाव के प्रत्येक मामले में तब तक आवश्यक नहीं होते हैं, जब तक कि आघात (चोट) या संक्रमण के इतिहास का कोई सबूत न हो। अकसर एक डॉक्टर, चोट या मांसपेशियों में खिंचाव (Muscles Strains) का बेहतर तरीके से निदान करने के लिए सीटी स्कैन (CT scan) या MRI का आदेश दे सकता है।

(और पढ़े – एमआरआई (MRI) स्कैन क्या है कीमत, प्रक्रिया, फायदे और नुकसान…)

मांसपेशियों में दर्द का इलाज – Muscles Pain Treatment In Hindi

मांसपेशियों में दर्द का इलाज - Muscles Pain Treatment In Hindi

चिकित्सा उपचार अक्सर घरेलू इलाज के समान ही है। इसलिए डॉक्टर मांसपेशियों में खिंचाव से ग्रस्त व्यक्ति को घर पर ही उपचार प्रक्रिया अपनाने की सलाह देते हैं। चिकित्सक द्वारा शारीरिक गतिविधि पर रोक लगाने की सिफारिश की जा सकती है। एक डॉक्टर दर्द को कम करने और मांसपेशियों की गतिविधियों में सुधार करने के लिए एंटी-इंफ्लेमेटरी ड्रग्स (anti-inflammatory drugs) जैसे नेप्रोक्सेन या इबुप्रोफेन की सिफारिश कर सकता है।

(और पढ़े – स्लिप डिस्क क्या है इसके लक्षण, कारण, जांच, उपचार, और बचाव…)

मांसपेशियों में खिंचाव की रोकथाम – How To Prevent Muscles Strains In Hindi

मांसपेशियों में खिंचाव की रोकथाम - How To Prevent Muscles Strains In Hindi

मांसपेशियों में खिंचाव (Muscles Strains) की स्थिति को रोका नहीं जा सकता है, लेकिन उनके विकास और जोखिम को कम जरूर किया जा सकता है। मांसपेशियों में खिंचाव से बचने के लिए निम्न बातों का ध्यान रखना चाहिए:

  • दैनिक कार्यों के दौरान खिंचाव और चोट से बचें।
  • एक स्थिति में बहुत लंबे समय तक बैठने की कोशिश न करें।
  • पीठ की मांसपेशियों पर तनाव को कम करने के लिए खड़े होते और बैठते समय अच्छी मुद्रा बनायें।
  • वस्तुओं को उठाते समय पीठ को सीधा रखें और घुटनों को झुकाएं।
  • फर्श, फिसलन वाली सतहों पर और सीढ़ियों पर सावधानी चलें।
  • अधिक वजन को कम करने पर ध्यान दें।
  • सख्त अभ्यास में शामिल होने से बचें।
  • यदि व्यायाम करना शुरू करते हैं, तो धीरे-धीरे शुरू करें।

(और पढ़े – फिट रहने के लिए प्लैंक एक्सरसाइज जानें फायदे और सावधानियाँ…)

मांसपेशियों में खिंचाव का घरेलू उपचार – Home Remedies for Muscles Strains in Hindi

मांसपेशियों में खिंचाव का घरेलू उपचार - Home Remedies for Muscles Strains in Hindi

मांसपेशियों में खिंचाव को कम करने या दूर करने के लिए विभिन्न प्रकार के घरेलू उपचार अपनाये जा सकते हैं जिनमें से प्रमुख उपचार निम्न हैं:

आराम मांसपेशियों में खिंचाव को करे कम – Take Proper Rest For Reduce Muscles Stretch In Hindi

आराम मांसपेशियों में खिंचाव को करे कम - Take Proper Rest For Reduce Muscles Stretch In Hindi

मसल्स में खिंचाव (Muscles Strains) का उपचार करने के लिए आराम बहुत जरूरी होता है। यदि आप खिंचाव की स्थिति से पीड़ित हैं और कोई भी गतिविधि दर्द में वृद्धि का कारण बनती है, तो कुछ दिनों के लिए मांसपेशियों को आराम देना चाहिए और इनका अधिक उपयोग करने से बचना चाहिए। आराम के दौरान धीरे-धीरे प्रभावित मांसपेशियों के समूह का उपयोग करते रहना चाहिए, क्योंकि बहुत अधिक आराम मांसपेशियों को कमजोर बना सकता है।

(और पढ़े – स्‍ट्रेचिंग एक्‍सरसाइज, आखिर क्यों जरूरी है स्ट्रेचिंग…)

मांसपेशियों में दर्द का इलाज बर्फ से – Ice Treatment For Muscle Strain In Hindi

मांसपेशियों में दर्द का इलाज बर्फ से - Ice Treatment For Muscle Strain In Hindi

मांसपेशियों को चोट लगने या खिंचाव उत्पन्न होने के तुरंत बाद प्रभावित स्थान पर बर्फ से सिकाई करनी चाहिए। इससे सूजन में कमी आती है। बर्फ को सीधे त्वचा पर लागू नहीं करना चाहिए। एक तौलिया में बर्फ लपेटकर या बर्फ पैकेट का प्रयोग करें। बर्फ से मांसपेशियों की लगभग 20 मिनट तक सिकाई करनी चाहिए। पहले दिन हर घंटे इस प्रक्रिया को दोहरा सकते हैं, और अगले कई दिनों के लिए, हर चार घंटे के अंतर से बर्फ सिकाई लागू कर सकते हैं।

गर्म स्नान से मांसपेशियों में तनाव के उपचार – Hot Bath for Muscle Pain Relief In Hindi

गर्म स्नान से मांसपेशियों में तनाव के उपचार - Hot Bath for Muscle Pain Relief In Hindi

गर्म स्नान (Hot Bath) एक प्राकृतिक रूप से मांसपेशियों को आराम दिलाने के लिए एक प्रभावी उपचार है। यह मांसपेशियों में तनाव (Muscles Strains) की स्थिति में अत्यधिक प्रभावी रूप से दर्द से राहत दिला सकता है। जबकि मस्तिष्क मांसपेशियों के लिए बर्फ की सिफारिश की जाती है, परन्तु बर्फ या ठंड शरीर की उपचार प्रक्रिया को धीमा कर देती है।

नोट: गर्भवती महिलाओं को गर्भपात या जन्म सम्बन्धी दोषों को रोकने के लिए गर्म स्नान (Hot Bath) करने से बचना चाहिए।

(और पढ़े – गर्म पानी से नहाना सही या ठंडे पानी से, जानिए विज्ञान क्या कहता है…)

मांसपेशियों में दर्द का घरेलू इलाज करें ध्यान से – Reduces Muscle Strain By Meditation In Hindi

मांसपेशियों में दर्द का घरेलू इलाज करें ध्यान से - Reduces Muscle Strain By Meditation In Hindi

यह सत्य है कि, दर्द के बारे में अत्यधिक चिंता करने से यह और अधिक दर्दनाक हो जाता है। ध्यान (Meditation) मांसपेशी तनाव के सबसे अच्छे घरेलू उपचारों में से एक है। उचित मालिश के बाद मांसपेशियों में खिंचाव से पीड़ित व्यक्ति को ध्यान करना चाहिए। यह दिमाग के साथ-साथ मांसपेशियों को आराम देने का प्रभावी माध्यम है।

(और पढ़े – चिंता दूर करने के उपाय, तरीके और घरेलू नुस्खे…)

मसल्स पेन का घरेलू इलाज लहसुन तेल – Muscles Strain Treatment With Garlic Oil In Hindi

मसल्स पेन का घरेलू इलाज लहसुन तेल - Muscles Strain Treatment With Garlic Oil In Hindi

जैतून का तेल (olive oil) और कुचले लहसुन को साथ में उबलकर, लहसुन का तेल (garlic oil) तैयार किया जा सकता है। मांसपेशियों में खिंचाव (Muscles Strains) से प्रभावित क्षेत्र पर प्रतिदिन कम से कम 2 बार इस तेल से मालिश की जा सकती है। लहसुन का तेल रक्त प्रवाह में सुधार करने के साथ-साथ, सूजन को ठीक करने में भी मदद करता है।

(और पढ़े – जानिए लहसुन के चमत्कारी स्वास्थ्यवर्धक गुणों के बारे में…)

मांसपेशियों में खिंचाव से राहत के लिए कैल्शियम और पोटेशियम का सेवन – Calcium And Potassium For Muscle Strain Treatment In Hindi

मांसपेशियों में खिंचाव से राहत के लिए कैल्शियम और पोटेशियम का सेवन - Calcium And Potassium For Muscle Strain Treatment In Hindi

कैल्शियम और पोटेशियम मानव शरीर के लिए आवश्यक पोषक तत्वों के रूप में जाने जाते है, जो मांसपेशियों में खिंचाव या तनाव (Muscles Strains) के दौरान उपचार प्रक्रिया में मदद करते हैं। अतः तनाव की स्थिति में इन तत्वों से परिपूर्ण आहार को अपने प्रतिदिन के भोजन में शामिल करना चाहिए। ये पोषक तत्व हड्डियों, मांसपेशियों और जोड़ों को मजबूत करने में मदद करते हैं। अतः कैल्शियम और पोटेशियम के अच्छे स्त्रोत के रूप में दही, दूध, मछली, अंडे, पालक, आलू, बादाम आदि का सेवन कर सकते हैं।

(और पढ़े – बादाम को भिगोकर खाने के फायदे और नुकसान…)

सेंधा नमक मांसपेशियों में दर्द का घरेलू इलाज है – Epsom Salt For Muscles Strains Home Remedies In Hindi

सेंधा नमक मांसपेशियों में दर्द का घरेलू इलाज है - Epsom Salt For Muscles Strains Home Remedies In Hindi

सेंधा नमक (Epsom Salt), मांसपेशी दर्द से राहत पाने के लिए एक अचूक घरेलू उपचार है। नहाने के गर्म पानी में सेंधा नमक का एक कप मिलाकर स्नान करने से मांसपेशियों में दर्द से राहत मिलती है। ध्यान रहे कि अधिक गर्म पानी से स्नान नहीं करना है। दिल की समस्याओं, उच्च रक्तचाप या मधुमेह जैसी स्वास्थ्य समस्याओं वाले लोगों के लिए सेंधा नमक (Epsom Salt) से स्नान करने की सिफारिश नहीं की जाती है।

(और पढ़े – सेंधा नमक के फायदे गुण लाभ और नुकसान…)

मांसपेशियों में खिंचाव का घरेलू उपाय है मालिश – Massage for Muscles Strains Home Remedies In Hindi

मांसपेशियों में खिंचाव का घरेलू उपाय है मालिश – Massage for Muscles Strains Home Remedies In Hindi

मालिश (Massage), मांसपेशियों में खिंचाव (Muscles Strains) की उत्तम उपचार प्रक्रिया में से एक है, जो प्रभावित क्षेत्र में रक्त परिसंचरण (blood circulation) को बढ़ावा देने में मदद करती है, और उपचार प्रक्रिया को गति प्रदान करती है। मालिश तेल के साथ प्रतिदिन प्रभावित अंग की हल्के तरीके से मालिश करने चाहिए।

(और पढ़े – बॉडी मसाज के लिए बेस्ट तेल और इनके फायदे…)

लौंग तेल मांसपेशियों में तनाव के लिए सहायक – Clove Oil For Muscle Strain In Hindi

मांसपेशियों में खिंचाव के कुशल घरेलू उपचार के रूप में लौंग के तेल (Clove Oil) को अपनाया जा सकता है। इसे मालिश तेल के साथ मिश्रित किया जा सकता है, और मांसपेशियों पर लगाया जा सकता है। एक हफ्ते तक दिन में 1-2 बार इस्तेमाल करने से लाभदायक परिणाम प्राप्त होते हैं। यह निश्चित रूप से लाभकारी घरेलू उपचार है।

(और पढ़े – लौंग के फायदे, औषधीय गुण और नुकसान…)

मांसपेशियों में ऐंठन को कम करे सेब का सिरका – Apple Cider Vinegar Reduce Muscle Strain In Hindi

मांसपेशियों में ऐंठन को कम करे सेब का सिरका - Apple Cider Vinegar Reduce Muscle Strain In Hindi

ऐप्पल साइडर विनेगर (Apple Cider Vinegar) अनेक प्रकार की समस्याओं के लिए एक प्रभावकारी घरेलू उपचार है। जिसके कारण मांसपेशियों में दर्द और पैर की ऐंठन के इलाज के लिए ऐप्पल साइडर विनेगर उपयोग किया जा सकता है। ठंडे पानी के गिलास में दो चम्मच सेब का सिरका (Apple Cider Vinegar) मिलकर सेवन किया जाना चाहिए।

(और पढ़े – सेब के सिरके के फायदे, लाभ, गुण और नुकसान…)

योग मांसपेशियों में खिंचाव के उपाय में करें – Yoga for Muscle Strain Treatment In Hindi

योग मांसपेशियों में खिंचाव के उपाय में करें - Yoga for Muscle Strain Treatment In Hindi

मांसपेशियों में खिंचाव (Muscles Strains) की समस्या से छुटकारा पाने के लिए सबसे अच्छा उपाय योग हैं। प्रति दिन सुबह-सुबह योग और प्राणायाम करने का प्रयास करके खिंचाव और तनाव से राहत प्राप्त की जा सकती है। इसके कारण शरीर में रक्त परिसंचरण (blood circulation) को बढ़ावा मिलता है और दर्द से राहत मिलती है।

(और पढ़े – नाड़ी शोधन प्राणायाम करने के फायदे और विधि…)

Leave a Comment

Subscribe for daily wellness inspiration