अंकुरित मेथी के फायदे और नुकसान – Fenugreek Sprouts Benefits and side effects in Hindi

अंकुरित मेथी के फायदे और नुकसान - Fenugreek Sprouts Benefits and side effects in Hindi
Written by Jaideep

अंकुरित मेथी के फायदे लगभग अंकुरित अनाज के फायदों जितने ही होते हैं। मेथी का उपयोग व्‍यंजनों को स्‍वादिस्‍ट बनाने के साथ-साथ विभिन्‍न प्रकार की स्‍वास्‍थ्‍य समस्‍याओं को दूर करने के लिए उपयोग किया जाता है। आयुर्वेद चिकित्‍सा पद्यति में मेथी का अपना विशेष महत्‍व है। आमतोर मेथी को एक मसाले के रूप में उपयोग किया जाता है, लेकिन यह औषधीय गुणों से भरपूर जड़ी बूटी के रूप में भी जानी जाती है। मेथी के बीज (Fenugreek seeds), मेथी के पत्‍ते और अंकुरित मैथी ये सभी हमारे स्‍वास्‍थ्‍य के लिए बहुत ही फायदेमंद होते हैं। विशेष रूप से अंकुरित मेथी का उपयोग मधुमेह, मोटापा, हृदय स्‍वास्‍थ्‍य रजोनिवृत्ति के लक्षण को कम करने आदि के लिए उपयोग किया जाता है। आइए जाने अंकुरित मेथी खाने के फायदे और नुकसान क्‍या हैं।

1. अंकुरित मेथी के पोषक तत्‍व – Fenugreek Sprout Nutrition In Hindi
2. अंकुरित मेथी के फायदे – Ankurit Methi Ke Fayde in Hindi

3. अंकुरित मेथी के नुकसान – Ankurit Methi Ke Nuksan, Fenugreek Sprouts Side Effects in Hindi

अंकुरित मेथी के पोषक तत्‍व – Fenugreek Sprout Nutrition In Hindi

किसी भी रूप में मेथी का उपयोग आपके लिए पोषक तत्‍वों के खजाने से कम नहीं है। अंकुरित मेथी में विटामिन सी, प्रोटीन, फाइबर, नियासिन, पोटेशियम, आयरन और एल्कलॉइड (alkaloids) की अच्‍छी मात्रा मौजूद रहती है। अंकुरित मेथी दाना में डायोसजेनिन नामक यौगिक की उपस्थित भी अच्‍छी होती है जिसमें एस्‍ट्रोजेन जैसे गुण और स्‍टेरॉयड सैपोनिन (steroidal saponins) मौजूद रहते हैं।

(और पढ़े – मेथी के फायदे और नुकसान…)

अंकुरित मेथी के फायदे – Ankurit Methi Ke Fayde in Hindi

आप अपने शारीरिक स्‍वास्‍थ्‍य, सौदंर्य और बालों (Beauty and Hair) के विकास के लिए अंकुरित मेथी का उपयोग कर सकते हैं। मेथी दाना में जितने पोषक तत्‍व मौजूद होते हैं उससे कहीं अधिक पोषक तत्‍व (Nutrients) अंकुरित मेथी में होते हैं। इसलिए मेथी को अंकुरित करके सेवन करना ज्‍यादा फायदेमंद होता है। अंकुरित मैथी के गुण पारंपरिक चिकित्‍सा को और अधिक प्रभावी बनाते हैं। मेथी के अंकुरित दाने आपकी त्‍वचा समस्‍याओं (Skin problems) से छुटकारा दिलाने का सबसे आसान तरीका हो सकता है। आइए जाने अंकुरित मेथी के स्‍वास्‍थ्‍य लाभ और सौदंर्य उपचार की जानकारी।

मधुमेह के लिए अंकुरित मेथी के फायदे – Madhumeh Ke Liye Ankurit Methi Ke Fayde in Hindi

मधुमेह के लिए अंकुरित मेथी के फायदे - Madhumeh Ke Liye Ankurit Methi Ke Fayde in Hindi

आप यदि मधुमेह से पीड़ित हैं तो आपको अंकुरित मेथी का सेवन करना चाहिए। मेथी रक्‍त में उपस्थित उच्‍च रक्‍त शर्करा का प्रतिरोध करने के लिए शरीर में इंसुलिन के उत्‍पादन को बढ़ाने में मदद करती है। मधुमेह प्रकार 2 (Diabetes type-2) वाले रोगीयों पर किये गए शोध से पता चलता है कि यदि नियमित रूप से मेथी के अंकुरित बीजों का सेवन किया जाता है तो यह उनके रक्‍त में अतिरिक्‍त शर्करा (Blood sugar) के स्‍तर को कम कर सकता है। मेथी में एमिनो एसिड भी अच्‍छी मात्रा में होता हैं जो मधुमेह से राहत दिलाने के लिए इंसुलिन (Insulin) के उत्‍पादन में मदद करता है।

(और पढ़े – मधुमेह को कम करने वाले आहार…)

अंकुरित मेथी दाना के फायदे वजन कम करे – Sprouted Methi Seeds For Weight Loss in Hindi

अंकुरित मेथी दाना के फायदे वजन कम करे - Sprouted Methi Seeds For Weight Loss in Hindi

अध्‍ययनों से पता चलता है कि अंकुरित मेथी का सेवन करने से यह वजन को कम (Lose weight) करने में मदद करते हैं। मेथी में गैलेक्‍टोमैनन नाम से जाना जाने वाला पॉलिसाक्‍साइड अच्‍छी मात्रा में मौजूद रहता है जो आपकी भूख को नियंत्रित करने में मदद करता है और संतुष्टि की भावना जगाता है। मेथी में लगभग 75 प्रतिशत घुलनशील फाइबर होता है जो कि आपके पाचन को ठीक कर आपके शरीर में मौजूद अतिरिक्‍त वसा को कम करने में मदद करता है। आप मेथी के अंकुरित बीजों को सुबह के समय खाली पेट सेवन कर सकते हैं। आप सुबह के समय और रात का भोजन (dinner) करने से आधा घंटे पहले अंकुरित मेथी के दानों का सेवन अपने वजन को कम करने के लिए कर सकते हैं।

(और पढ़े – वजन और मोटापा कम करने के लिए क्या खाएं क्या न खाए…)

हृदय स्‍वास्‍थ्‍य के लिए अंकुरित मेथी के लाभ – Benefits of Fenugreek Sprouts For Heart in Hindi

हृदय स्‍वास्‍थ्‍य के लिए अंकुरित मेथी के लाभ - Benefits of Fenugreek Sprouts For Heart in Hindi

आप अपने हृदय को स्‍वस्‍थ्‍य रखने के लिए अंकुरित मेथी के औषधीय गुणों का उपयोग कर सकते हैं। मेथी को कार्डियोवैस्‍कुलर लाभ दिलाने के लिए जाना जाता है। अध्‍ययन बताते है कि नियमित रूप से अंकुरित मैथी का सेवन करने से कोलस्‍ट्रॉल के स्‍तर को कम किया जा सकता है जो कि दिल के दौरे के खतरे को बढ़ाने का प्रमुख कारण होता है। यह शरीर के खून में उपस्थित ट्राइग्लिसराइड्स नामक फैट के स्‍तर को कम करने में मदद करता है जो हृदय संबंधी समस्‍याओं (Cardiac problems) का कारण होते हैं। मेथी, पोटेशियम (Potassium) का एक प्रभावी स्रोत है जो शरीर में उपस्थित सोडियम के स्‍तर को नियंत्रित करता है जिससे हृदय गति और रक्‍तचाप को सं‍तुलित किया जा सकता है।

(और पढ़े – दिल मजबूत करने के उपाय…)

अंकुरित मेथी के गुण पाचन के लिए – Ankurit Methi Ke Gun Pachan Ke Liye in Hindi

अंकुरित मेथी के गुण पाचन के लिए - Ankurit Methi Ke Gun Pachan Ke Liye in Hindi

आयुर्वेद के अनुसार ही नहीं बल्कि वैज्ञानिक रूप से भी यह सिद्ध हो चुका है कि मेथी पाचन (Digestion) को ठीक करने के लिए एक औषधी के रूप में काम करती है। अंकुरित मेथी में एंटीआक्‍सीडेंट अच्‍छी मात्रा में मौजूद रहते हैं जो आपके पेट के गैस्‍ट्रोइंटेस्‍टाइनल सिस्‍टम को और अधिक कुशलतापूर्वक और स्‍वस्‍थ्‍य रूप से काम करने में मदद करते हैं। मेथी और अंकुरित मैथी दाना में सैपोनिन उच्‍च मात्रा में होते हैं जो पेट और आंतों में एक सुरक्षा आवरण तैयार करते हैं जिसे पेट और आंतों की रक्षा हानिकारक बैक्‍टीरिया से की जाती है। भारतीय पारंपरिक औषधीय उपचार के अनुसार अंकुरित मेथी का उपयोग पाचन में सहायता करने और गैस, पेट फूलना, दस्‍त आदि के इलाज के लिए उपयोग किया जाता है।

(और पढ़े – मानव पाचन तंत्र कैसा होता है, और कैसे इसे मजबूत बनायें…)

रजोनिवृत्ति के लिए अंकुरित मेथी का उपयोग – Rajonivrutti Ke Liye Ankurit Methi Ka Upyog in Hindi

रजोनिवृत्ति के लिए अंकुरित मेथी का उपयोग - Rajonivrutti Ke Liye Ankurit Methi Ka Upyog in Hindi

महिलाओं के लिए अंकुरित मेथी का उपयोग बहुत ही फायदेमंद होता है। इस अंकुरित औषधी का उपयोग करने से महिलाओं को मासिक धर्म चक्र (menstrual cycle) के नियंत्रित करने में मदद मिलती है। यह मासिक धर्म के समय होने वाली असुविधाएं, अचानक गर्मी का एहसास (hot flashe), और मनोदशा में उतार-चढ़ाव को भी नियंत्रित कर सकती है। जो कि पीएमएस और रजोनिवृत्ति के सामान्‍य लक्षण होते हैं। इस तरह से जो महिलाएं रजोनि‍वृत्ति (Menopause) से गुजर रही हैं उनके लिए अंकुरित मैथी बहुत ही फायदेमंद होती है।

(और पढ़े – रजोनिवृत्ति के कारण, लक्षण और दूर करने के उपाय…)

अंकुरित मेथी का इस्‍तेमाल बुखार को ठीक करे – Ankurit Methi Ka Istemal Bukhar Ko Thik Kare in Hindi

अंकुरित मेथी का इस्‍तेमाल बुखार को ठीक करे - Ankurit Methi Ka Istemal Bukhar Ko Thik Kare in Hindi

चूंकि अंकुरित मेथी दाना जड़ी-बूटी गुणों से भरपूर होती है इसलिए इसे शहद और नींबू (Honey and lemon) के साथ मिलाकर सेवन करने से बुखार को कम करने में मदद मिलती है। आप बुखार को कम करने के लिए मेथी युक्‍त चाय का भी सेवन कर सकते हैं। मेथी का नियमित सेवन आपकी प्रतिरक्षा को बढ़ाने में सहायक होती है जिसके कारण आपके शरीर में होने वाले बैक्‍टीरियल संक्रमण (Bacterial infection) को रोका जा सकता है।

(और पढ़े – ऐसे दूर रहें वायरल फीवर से…)

मां का दूध बढ़ाने में अंकुरित मेथी के फायदे – Benefits Of Fenugreek Sprouts For Breast Milk In Hindi

मां का दूध बढ़ाने में अंकुरित मेथी के फायदे - Benefits Of Fenugreek Sprouts For Breast Milk In Hindi

स्‍तनपान कराने वाली महिलाओं के लिए अंकुरित मेथी बहुत ही उपयोगी होती है। मेथी महिलाओं में दूध उत्‍पादन बढ़ाने में मदद करती है। गर्भावस्‍था के दौरान महिलाओं को मेथी का पर्याप्‍त सेवन करने की सलाह दी जाती है, क्‍योंकि मेथी में आयरन अच्‍छी मात्रा में होता है जो महिलाओं में प्रसव पीड़ा (labour pain) को कम करने और गर्भाशय संकुचन में सुधार करता है। मेथी एक हर्बल गैलेक्‍टैगोगू (galactagogou) की तरह कार्य करता है यह पदार्थ महिलाओं में दूध उत्‍पादन को बढ़ावा देता है। मेथी में एक पदार्थ और होता है जिसे डायोजेनिन (diogenin) कहा जाता है यह लगभग एस्ट्रोजन (Estrogen) के समान व्‍यवहार करता है। इससे तनाव, चक्‍कर आना और रजोनिवृत्ति आदि लक्षणों से भी छुटकारा मिल सकता है। मेथी का उपयोग महिलाओं के स्‍तन में वृद्धि और स्‍तन टाइट करने के लिए भी उपयोग किया जा सकता है।

(और पढ़े – ब्रेस्ट मिल्क (मां का दूध) बढ़ाने के लिए क्या खाएं…

मेथी का पानी पीने के फायदे यौन स्‍वास्‍थ्‍य के लिए – Fenugreek Sprouts Water Benefits for Sexual Health in Hindi

मेथी का पानी पीने के फायदे यौन स्‍वास्‍थ्‍य के लिए - Fenugreek Sprouts Water Benefits for Sexual Health in Hindi

प्राचीन समय से ही मेथी का उपयोग पारंपरिक औषधी के रूप में उपयोग किया जा रहा है। यह एक आयुर्वेदिक औषधी है जो लंबे समय तक कामेच्‍छा और यौन प्रदर्शन को बढ़ावा देने में मदद करती है। मेथी का उपयोग एक कामोद्दीपक औषधी (aphrodisiac) के रूप में किया जाता है। यह पुरुषों में टेस्‍टोस्‍टेरोन के स्‍तर को बढ़ाने में मदद करती है जो कि पुरुषों के यौन स्‍वास्‍थ्‍य के लिए बहुत ही महत्‍वपूर्ण होते हैं। अंकुरित मेथी दाना या मेथी का पानी पीने से हर्निया के दर्द और ईडी (स्तंभन दोष) से छुटाकारा पाया जा सकता है। इस तरह से मेथी का उपयोग पुरुषों के यौन स्‍वास्‍थ्‍य (Sexual health) को बढ़ावा देने में मदद करता है।

(और पढ़े – पुरुषों में यौन इच्‍छा (कामेच्छा) में कमी के कारण और घरेलू उपाय…)

अंकुरित मेथी बीज खाने के लाभ कोलेस्‍ट्रोल कम करे – Benefits of Fenugreek Sprouts for Lowers Cholesterol Levels in Hindi

अंकुरित मेथी बीज खाने के लाभ कोलेस्‍ट्रोल कम करे - Benefits of Fenugreek Sprouts for Lowers Cholesterol Levels in Hindi

रक्‍त में उपस्थित एलडीएल कोलेसट्रॉल को कम करने के लिए मेथी को अंकुरित करे खाना बहुत ही फायदेमंद होता है। मेथी का सेवन कर आप अपने शरीर एचडीएल के स्‍तर को भी बढ़ा सकते हैं। यह आयुर्वेदिक जड़ी-बूटी कोलेस्‍ट्रॉल और ट्राइग्लिसराइड्स को कम करने में मदद करते हैं। अंकुरित मैथी का उपयोग पित्‍त एसिड के निर्माण को बढ़ावा देते है। यकृत पित्‍त एसिड (bile acids) के निर्माण के लिए कॉलेस्‍ट्राल का उपयोग करता है जिससे कुछ हद तक कॉलेस्‍ट्रोल को कम किया जा सकता है।

मेथी में एंटीऑक्‍सीडेंट की अच्‍छी मात्रा होती है जो खून में उपस्थित कोलेस्‍ट्रॉल कणों को ऑक्‍सीजन के साथ प्रतिक्रिया करने से रोकते हैं। यदि कोलेस्‍ट्रॉल का आक्‍सीकरण हो जाता है तो यह आपकी धमनीयों में अवरोध पैदा कर सकता है। इस तरह से आप अपने शरीर में उपस्थित हानिकारक कोलेस्‍ट्रॉल को कम करने के लिए अंकुरित मेथी का उपयोग कर सकते हैं।

(और पढ़े – कोलेस्ट्रॉल कम करने के लिए भारतीय घरेलू उपाय और तरीके…)

अंकुरित मैथी के लाभ त्‍वचा के लिए – Ankurit Methi Ke Labh Twacha Ke Liye in Hindi

अंकुरित मेथी के लाभ त्‍वचा के लिए - Ankurit Methi Ke Labh Twacha Ke Liye in Hindi

एंटीऑक्‍सीडेंट की उपस्थिति के कारण अंकुरित मैथी आपकी त्‍वचा को स्‍वस्‍थ्‍य रखने और त्‍वचा की विभिन्‍न समस्‍याओं को दूर करने में मदद करता है। एंटीऑक्‍सीडेंट फ्री रेडिकल्‍स के प्रभाव को कम करते हैं जो उम्र बढ़ने संबंधी लक्षणों का प्रमुख कारण होते हैं। इसलिए अंकुरित मेथी का सेवन कर त्‍वचा की झुर्रियों (Wrinkles), दाग-धब्‍बे और त्‍वचा की शुष्‍कता आदि को दूर किया जा सकता है। यह आपके चेहरे पर आने वाले मुंहासों और पिंपल्स (Acne and pimples) को भी ठीक कर सकता है। मेथी का सेवन कर कब्‍ज और पेट की अन्‍य समस्‍याओं से बचा जा सकता है जो कि मुँहासे होने का प्रमुख कारण होते हैं। यदि आपका पेट अच्‍छी तरह से साफ रहता है तो हानिकारक बैक्‍टीरिया आपकी त्‍वचा को प्रभावित नहीं कर पाते हैं। इस तरह से उम्र बढ़ने और मुँहासे संबंधी लक्षणों को कम करने के‍ लिए अंकुरित मेथी का लाभकारी सेवन किया जा सकता है।

(और पढ़े – त्‍वचा में निखार के लिए सल्‍फर युक्‍त भोजन…)

बालों के लिए अंकुरित मेथी के गुण – Fenugreek Sprouts Benefits For Hair In Hindi

बालों के लिए अंकुरित मेथी के गुण - Fenugreek Sprouts Benefits For Hair In Hindi

 

आप अपनी बालों की समस्‍या से छुटकारा पाने के लिए अंकुरित मैथी एक प्रभावी उपचार हो सकता है। अंकुरित मेथी में सामान्‍य मेथी की अपेक्षा एंटीऑक्‍सीडेंट अधिक मात्रा में होते हैं जो फ्री रेडिकल्‍स से हमारे शरीर की रक्षा करते हैं जो कि सेलुलर क्षति का कारण बनते हैं, यह बालों के झड़ने का प्रमुख कारण होता है। मेथी के बीजों में प्रोटीन और निकोटिनिक एसिड अच्‍छी मात्रा में होते हैं जो बालों के गिरने और गंजापन जैसी समस्‍याओं को हल करने में मदद करते हैं। इसके लिए आपक अंकुरित मेथी के पत्‍तों का पेस्‍ट बनाएं और अपने बालों में इसका उपयोग करें। यह आपके बालों को डैंड्रफ से छुटकारा दिलाने और बालों को गिरने से रोकने में मदद करता है। आप अपने बालों के संपूर्ण विकास के लिए अंकुरित मेथी दाना का उपयोग कर सकते हैं।

(और पढ़े – बालों को लम्बे और घने बनाने के लिए आवश्यक तेल का इस्तमाल कैसे करें…)

अंकुरित मेथी का उपयोग मूत्र संक्रमण के लिए – Ankurit Methi Ka Upyog Urin Infection Ke Liye in Hindi

अंकुरित मेथी का उपयोग मूत्र संक्रमण के लिए - Ankurit Methi Ka Upyog Urin Infection Ke Liye in Hindi

आप अपनी मूत्र से संबंधित समस्‍याओं के लिए अंकुरित मेथी का उपयोग कर सकते हैं। ऐसा इसलिए है क्‍योंकि मेथी के अंकुरित दानों में सैपोनिन होता है जो मूत्र पथ संक्रमण को कम करने में सहायक होता है। यही कारण है कि मेथी विभिन्‍न स्‍वास्‍थ्‍य लाभ दिलाने के साथ-साथ मूत्र संबंधी विकारों को भी दूर करने में मदद करती है। अपने शरीर को स्‍वस्‍थ्‍य रखने के लिए जितनी बार संभव हो मेथी का सेवन करें। आप मेथी को किसी भी रूप जैसे अंकुरित दाने, भीगीं हुई मेथी, मेथी की भाजी, मेथी पाउडर आदि किसी भी प्रकार से सेवन कर सकते हैं। यह आपके संपूर्ण स्‍वास्‍थ्‍य के लिए दवा का काम करती है।

(और पढ़े – मूत्र पथ संक्रमण (यूटीआई) के कारण, लक्षण और उपचार…)

अंकुरित मेथी के नुकसान – Ankurit Methi Ke Nuksan, Fenugreek Sprouts Side Effects in Hindi

स्‍वास्‍थ्‍य के लिए अंकुरित मेथी बहुत ही फायदेमंद और सुरक्षित मानी जाती है। लेकिन कुछ विशेष परिस्थितियों और विशेष लोगों के लिए इसके कुछ नुकसान भी होते हैं। अधिक मात्रा में इसका उपयोग करने पर इसके नकारात्‍मक प्रभाव हो सकते हैं। आइए जाने मेथी के नुकसान क्‍या हैं।

  • जब आप मेथी का उपयोग अपनी त्‍वचा में करते हैं तो कुछ लोगों में इसके साइड इफेक्‍ट के रूप में त्‍वचा का सूखापन और चकते दिखाई दे सकते हैं।
  • अंकुरित मेथी खाने से ई कोलाई और साल्मोनेला जैसे हानिकारक बैक्टीरिया से संक्रमण का खतरा होता है। अन्य कंडीशन की तुलना में अंकुरित होने के साथ जोखिम अधिक होता है क्योंकि बैक्टीरिया के विकास को बढ़ावा देने के लिए गर्म परिस्थितियों की आवश्यकता होती है। जो की अंकुरित होते समय प्राप्त होती है
  • गर्भावस्‍था के दौरान अंकुरित मेथी का उपयोग करने से पहले अपने डॉक्‍टर से संपर्क करें।
  • यदि आप किसी विशेष प्रकार की दवा का सेवन करते हैं तो दवा लेने के पहले या दवा लेने के कम से कम 2 घंटे बाद ही अंकुरित मेथी का सेवन करना चाहिए।
  • यदि आपको मेथी या इसके उत्‍पादों का उपयोग करने पर किसी प्रकार की एलर्जी होती है तो अंकुरित मैथी का उपयोग करने से बचें।
  • किसी विशेष स्‍वास्‍थ्‍य समस्‍या के निदान के लिए मेथी का उपयोग करने से पहले अपने डॉक्‍टर से सलाह लें उसके बाद ही अंकुरित मेथी का सेवन प्रारंभ करें।
  • यदि आपकी प्रतिरक्षा प्रणाली कमजोर है या आप गर्भवती है तो अंकुरित मेथी का सेवन न करें।
  • अंकुरित मैथी को पका कर खाने पर अंकुरित खाद्य विषाक्तता का खतरा कम होता है।

(और पढ़े – गर्भावस्था के समय क्या न खाएं…)

Leave a Comment

Subscribe for daily wellness inspiration