यौन शक्ति बढ़ाने के लिए प्राक्रतिक जड़ी बूटी – Herbs which increase Sexual Strength naturally in hindi




यौन शक्ति बढ़ाने के लिए प्राक्रतिक जड़ी बूटी - Herbs which increase Sexual Strength naturally in hindi
Written by Daivansh

यह एक ज्ञात तथ्य है कि पुरुष बहुत आसानी से उत्साहित होते हैं, और वे लगभग हर समय सेक्स के लिए तैयार होते हैं। फिर भी, कई पुरुष कई तरह के यौन स्थितियों का अनुभव करते हैं जो उनके यौन कामेच्छा को रोक सकती हैं, या अक्सर उनको असंतोषजनक परिणाम प्राप्त हो सकते हैं समय से पहले स्खलन, कम सेक्स ड्राइव, वीर्य संक्रमण, स्तंभन दोष, और बांझपन जैसे कुछ कारण पुरुषों द्वारा अनुभव किये जाने वाले सबसे आम सेक्स मुद्दों में से कुछ हैं। एसे में यौन शक्ति बढ़ाने के लिए प्राक्रतिक जड़ी बूटी का उपयोग करना सही माना जाता है

पुरुष का यौन स्वास्थ्य यौन संचारित बीमारियों को नियंत्रित करने और यौन शक्ति बढ़ाने के लिए प्राक्रतिक जड़ी बूटी के इस्तेमाल के मामले बहुत अधिक है। यौन शक्ति शारीरिक, भावनात्मक और पुरुषों के शारीरिक संबंधों की स्थितियों से भी जुड़ा हुआ है। साधारण शब्दों में, यह पुरुषों के स्तंभन की क्षमता है, जो संभोग के लिए अत्यंत महत्वपूर्ण है। इसलिए स्तम्भन शक्ति बढ़ाने के उपाय आज हम आपको बताएगें

सेक्स करने की क्षमता एक पुरुष और एक महिला के बीच शारीरिक संबंध जैसे मुद्दों से जुड़ी होती है एक शोध के अनुसार, जब पुरुष 35 साल की उम्र पर कदम रखते हैं, तो उनमें से लगभग पचास प्रतिशत पुरुष यौन स्वास्थ्य में स्तंभन की क्षमता में कमी जैसे स्तंभन दोष पाया गया हैं।

स्तम्भन क्या है – what is Erection in hindi

स्तम्भन से अभिप्राय शिश्न (लिंग) के आकार में बढ़ने और कड़ा होने से है, जो यौनिच्छा करने पर शिश्न के उत्तेजित होने के कारण होता है, यद्यपि यह गैर यौन स्थितियों में भी हो सकता है। प्राथमिक शारीरिक तन्त्र जिसके चलते स्तम्भन होता है, में शिश्न की धमनियाँ स्वतः फैल जाती हैं, जिसके कारण अधिक रक्त शिश्न के तीन स्पंजी ऊतक कक्षों में भर जाता है जो इसे लम्बाई और कठोरता प्रदान करता है।

यह रक्त से भरे ऊतक रक्त को वापस ले जाने वाली शिराओं पर दबाव डाल कर सिकोड़ देते हैं, जिसके कारण अधिक रक्त प्रवेश करता है और कम रक्त वापस लौटता है। थोड़ी देर बाद एक साम्यावस्था अस्तित्व में आ जाती है जिसमें फैली हुई धमनियों और सिकुडी़ हुई शिराओं में रक्त की समान मात्रा बहने लगती है और इस साम्यावस्था के कारण शिश्न को एक निश्चित स्तम्भन आकार स्वत: ही मिल जाता है।स्तम्भन यद्यपि संभोग के लिये आवश्यक है पर विभिन्न अन्य यौन गतिविधियों के लिए यह आवश्यक नहीं है।कई लोगो में स्तंभन दोष पाया जाता है जिससे उन्हें स्तम्भन के उपाय के बारे में जजना बहुत जरुरी है

(और पढ़े – इरेक्टाइल डिसफंक्शन नपुंसकता (स्तंभन दोष) कारण और उपचार)

स्तंभन दोष रोग के कारण – causes of the erectile dysfunction in hindi

स्तंभन दोष के कारण सम्भोग के समय लिंग का सही से कड़ा ना हो पाना है जो की सम्भोग के लिए सबसे जरुरी होता है इसके कई कारण हो सकते है जिसमे मनोवैज्ञानिक, साथ ही साथ शारीरिक कारक भी हैं, जो कि मधुमेह मेलेटस, मादक द्रव्यों के सेवन, उच्च रक्तचाप, बुढ़ापे, हृदय रोग, सिगरेट धूम्रपान, टेस्टोस्टेरोन की कमी, अवसाद, पुरुषों के यौन स्वास्थ्य को प्रभावित करते हैं। और कुछ लोगो में ली गई दवाएं भी यौन शक्ति कम होने का कारण होती है

फिर भी, इन दिनों उपलब्ध कुछ प्राक्रतिक जड़ी बूटी से, यौन शक्ति बढ़ाने के लिए और स्तंभन दोष की समस्या को दूर किया जा सकता है और अपने यौन शक्ति में सुधार लाया जा सकता हैं।

आयुर्वेदिक और प्राक्रतिक जड़ी बूटी आपको इन समस्याओं का इलाज करने में सहायता करती हैं, और सेक्स के दौरान बेहतर प्रदर्शन करने में आपकी सहायता करती हैं। कामेच्छा के साथ, आप बेहतर सेक्स जीवन प्राप्त कर सकते हैं।आयुर्वेद में इस्तेमाल की जाने वाली ये दवाएं सभी प्राकृतिक जड़ी-बूटियाँ हैं, इस प्रकार वे आपके लिए सुरक्षित हैं, इसमें कोई दुष्प्रभाव नहीं है। आयुर्वेदिक चिकित्सा सदियों से सभी के लिए सबसे अच्छी साबित हुई है यह समस्या की जड़ पर हमला करता है यह पूरी तरह से आपकी स्थिति से उबरने में आपकी मदद करता है।

यौन शक्ति बढ़ाने के लिए जड़ी-बूटियों increasing your sex power in hindi

1. अश्वगंधा यौन शक्ति बढ़ाने के लिए – Ashwagandha to increase sexual power in hindi 

अश्वगंधा यौन समस्याओं का इलाज करने के लिए एक महान जड़ी बूटी है। यह आपके तनाव के स्तर को भी नियंत्रित करता है और अपने तंत्रिका तंत्र को सुधारता है और अपने तंत्रिका तंत्र के पूरे कामकाज को बेहतर यौन जीवन प्रदान करता है। अश्वगंधा एक कामोत्तेजक है। इसका अर्क पुरुषों द्वारा उपयोग किया जाता है, जो आपके शरीर में नाइट्रिक ऑक्साइड उत्पादन को उत्तेजित करने की क्षमता रखता है। नतीजतन, आपके रक्त वाहिकाओं, जो आपके जननांगों को खून देते हैं, फैली हुई होती हैं, जिससे आप अपनी यौन इच्छा को पूरा करते हैं।

अगर आप हर दिन लगभग दो ग्राम  अश्वगंधा पाउडर खाते हैं, तो आपको अच्छे परिणाम मिलेंगे। हालांकि, स्पष्ट परिणाम आने से पहले थोड़ा समय लग सकता है इस प्रकार, अश्वगंधा के कैप्सूल या टैबलेट लेते समय, सुनिश्चित करें कि आप सेनोलिड्स के कंसंट्रेशन की जांच करते हैं। यदि कंसंट्रेशन अधिक है, तो आपको कम संख्या में कैप्सूल या टैबलेट लेने की आवश्यकता होगी। यदि आप गर्भवती हैं, तो कृपया इस दवा को लेने से बचें। यदि आप उच्च बीपी के रोगी हैं, तो आप जड़ी बूटी या दवा लेना शुरू करेंनें से पहले अपने चिकित्सक से परामर्श करना ना भूले

हालांकि दवा हर्बल है, फिर भी आपको यह सुनिश्चित करने की आवश्यकता है कि यह दवा आपकी स्थिति के लिए वास्तव में सुरक्षित है या नहीं|

(और पढ़े – अश्वगंधा के फायदे और नुकसान)

2. शतावरी बांझपन के इलाज के लिए – Asparagus for the treatment of infertility in hindi

शतावरी हमेशा बांझपन के इलाज के रूप में लोकप्रिय रहा है यह वास्तव में आपके शुक्राणु उत्पादन को स्वाभाविक रूप से बढ़ा सकता है आपमें न केवल शुक्राणुओं की अधिक मात्रा होती है बल्कि आपके वीर्य में बेहतर गुणवत्ता भी होती है। शतावरी एक कामोत्तेजक है। यह ज्यादातर महिलाओं द्वारा यौन शक्ति बढ़ाने के लिए उपयोग की जाने वाली जड़ीबूटी होती है शतावरी में आपकी ऊर्जा के स्तर को बढ़ाने के दौरान उत्तेजक और शांत होने की संपत्तियां हैं शतावरी महिला हार्मोन के स्तर को विनियमित करने के लिए जाना जाता है। इसलिए, आपके प्रजनन प्रणाली के कार्यों पर इसका लाभकारी प्रभाव है। यद्यपि शतावरी को महिलाओं द्वारा उपभोग करने के लिए दिया जाता है, फिर भी पुरुषों में सेक्स ड्राइव को बढ़ाने में भी यह महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है।

(और पढ़े – शतावरी के चमत्कारी फायदे जो है अमृत समान)

यौन शक्ति बढ़ाने के लिए शतावरी

शतावरी का कई सालों तक यौन क्षमता और जीवन शक्ति बढ़ाने के लिए उपयोग किया गया है। यदि कोई व्यक्ति इसे नियमित आधार पर लेता है, तो वह लंबे समय तक स्तंभन के साथ ही सेक्स के उत्तेजना के साथ बेहतर परिणाम प्राप्त कर सकता है। अब तक, कई पुरुषों ने पहले से ही विविध यौन समस्याओं और डिसफंक्शन के सिकार होने की रिपोर्ट दी है, शोधकर्ता भी इन दोषों को स्थायी रूप से दूर करने का प्रयास कर रहे हैं। उन्होंने पाया है कि शतावरी उन स्तंभन दोष के सिकार लोगो को बहुत ही कम समय में सकारात्मक रूप से पोजिटिव रिजल्ट देता हैं।

(और पढ़े – सेक्स करने से रहते है जवान! जाने कैसे)

नपुंसकता पुरुषों के लिए सबसे बड़ा मुद्दा है, लेकिन इस चुनौती को दूर करने के लिए शतावरी को नियमित रूप से ले कर ठीक किया जा सकता है। यह आपको सार्थक आहार और अच्छे सेक्स जीवन को बनाए रखने में मदद कर सकता है, इसलिए इसमें कोई संदेह नहीं है कि आपको अपने रोज़ाना आहार में शतावरी को शामिल करने की आवश्यकता है। यह आयुर्वेदिक दवा एक के उपचार की शक्ति के साथ-साथ मन और स्वास्थ्य की सकारात्मकता को बढ़ा सकती है, जिसे आमतौर पर सत्व (Sattva) कहा जाता है। जब यह जड़ी बूटी स्वभाव और भौतिक क्षेत्र में परिवर्तन लाती है, तो एक व्यक्ति अपने साथी के साथ खुश और प्यार भरे लम्हों का आनंद ले पाएगा।

(और पढ़े – वीर्य को जल्दी निकलने से रोकने के घरेलू उपाय)

3. कौंच का इस्तेमाल दूर करे शीघ्रपतन – Kaunch for remove premature ejaculation in hindi 

कोंच एक उत्कृष्ट जड़ी बूटी है जिसका इस्तेमाल पहले ही से शीघ्रपतन (premature ejaculation) के इलाज में किया जाता है। कोंच का उपभोग, या कोंच युक्त हर्बल दवाइयां आपके वीर्य की चिपचिपाहट में सुधार के लिए बेहद मदद कर सकती हैं। इससे आपके शुक्राणु मजबूत होते हैं और लंबे समय तक जीवित रह सकते हैं। कोंच को उन पुरुषों को आदर्श रूप से दीया जाता है जिनके वीर्य में पानी और पतलापान अधिक होता है या उन पुरुष को दिया जाता है जो समय से पहले स्खलन का सामना करते हैं, जिससे वो अपने सहयोगियों को संतुष्ट नहीं कर पाते हैं।

कोंच को पहले से ही एक कामोद्दीपक और यौन शक्ति बढ़ाने के लिए जाना गया है और यह टेस्टोस्टेरोन की एक उच्च मात्रा को रिलीज करता है, जो यौन स्वास्थ्य सही रखने के लिए आवश्यक है। यह मांसपेशियों में जमा प्रोटीन के अतिरिक्त भाग को पुनर्स्थापित करके मांसपेशियों को मजबूत करता है। यह पुरुषों में कामेच्छा को बढ़ाकर यौन उत्थान को बेहतर बनाने में मदद करता है, शीघ्रपतन और स्तंभन में कमी होने में सुधार करता है, और नपुंसकता की संभावना कम करता है। यह जड़ी बूटी पुरुष अंग की मांसपेशियों को टोनिंग और सहनशक्ति में वृद्धि करके यौन स्वास्थ्य में सुधार कर सकती है। इससे मानसिक तनाव कम हो जाता है जिससे यह यौन स्वास्थ्य और जीवन साथी के साथ जीवन में भी महत्वपूर्ण हो।

(और पढ़े – कौंच के बीज के फायदे और नुकसान)

4. तालमखाना है यौन शक्ति बढ़ाने के लिए – makana is the home remedy for sexual enhancement in hindi

तालमखाना वीर्य विसंगतियों के उपचार के लिए इस्तेमाल एक प्रसिद्ध जड़ी बूटी है। यदि आप अपने शुक्राणु की गुणवत्ता से संबंधित समस्याओं का सामना कर रहे हैं, तो तालमखाना आपका उत्तर है। यदि आप  समय से पहले स्खलन की समस्याओं का सामना कर रहे हैं तो तालमखाना आपका उत्तर है। तालमखाना आपके रक्त के संचरण को अपने जननांगों में सुधार करने के लिए जाना जाता है। उचित रक्त परिसंचरण का मतलब बेहतर सेक्स प्रदर्शन है इस प्रकार, आप एक मजबूत यौन शक्ति प्राप्त करेते है तालमखाना यौन शक्ति बढ़ाने के लिए घरलू उपाय के रूप में जाना जाता है।

(और पढ़े – मखाने के फायदे व नुकसान)

जब प्रजनन क्षमता के बारे में बात करना शुरू हो जाता है, तो स्वाभाविक रूप से हम महिलाओं को पहली बार में गलत मानते हैं। लेकिन यह अब एक मिथक है केवल महिलाओं को इस मुद्दे के लिए हमेशा ज़िम्मेदार नहीं माना जा सकता है, कभी-कभी पुरुष इस समस्या के लिए पूरी तरह जिम्मेदार होते हैं। कभी-कभी शुक्राणुओं की संख्या संतोषजनक नहीं होती है जो प्रजनन क्षमता के लिए आवश्यक होती है। शुक्राणुओं की संख्या में वृद्धि करने के लिए, तालमखाना से अच्छा कोई बेहतर विकल्प नहीं है। यह शुक्राणु को मोटा बनाने में मदद करता है जो यौन इच्छाओं की अवधारणा और बढ़ावा देने के लिए अच्छा माना जाता है।

5. शिलाजीत मर्दाना ताकत बढ़ाने के लिए – Shilajit to increase sexual strength in Hindi

शिलाजीत स्तंभन दोष के रोगियों के इलाज के लिए एक बढ़िया जड़ी बूटी है। यह वास्तव में प्राकृतिक एजेंटों में से एक है, जो आपके लिंग के रक्त के संचलन को बेहतर बनाने में मदद करता है। नतीजतन, स्तंभन दोष जैसी समस्याओं वाले पुरुष बेहतर हो जाते हैं या पूरी तरह से ठीक हो जाते हैं शिलाजीत पुरुषों को बिस्तरों में हमेशा की तुलना में लंबे समय तक बने रहने में मदद करने में सहायता करता है, जिससे उन्हें अपने भागीदारों से अधिक आनंद मिलता है। शिलाजीत हिमालय पर्वतों में पाए जाते हैं, जिससे उन्हें सबसे महंगी जड़ी-बूटी-खनिज दवाएं बनायी जाती हैं।

इसमें मूल्यवान चिकित्सीय पौधों के जीवाश्म रूप शामिल हैं। इसमें कई प्रकार के खनिज होते हैं जो कि कार्बनिक यौगिकों होते है जिन्हें फुल्विक एसिड कहते हैं। कहा जाता है कि फुल्विक एसिड स्तंभन में योगदान देता है। जानवरों पर किए गए शोध में टेस्टोस्टेरोन, शुक्राणुजनन, शुक्राणु गतिशीलता, पुरुषों में शुक्राणुओं की संख्या बढ़ने में इसको सफल माना गया है। दूसरी तरफ, यह महिलाओं में ओवोजेनेसिस में वृद्धि करता है । इसके अलावा, यह तनाव को दूर करने के कम भी आता है यह एक कामोद्दीपक के लिए बेहद उपयोगी होता है।

(और पढ़े – शिलाजीत के फायदे गुण और नुकसान)

शिलाजीत चार रूपों में उपलब्ध है – लाल, काले, नीले और पीले उनमें से, काली रूप सबसे प्रभावी रूपों में पाया जाता है।शिलाजीत का उपयोग यौन शक्ति बढ़ाने के लिए किया जाता रहा है शिलाजीत की एक बड़ी मात्रा का एक ही बार उपभोग न करें अपने खुराक को धीरे-धीरे बढ़ाएं,  यह अनुशंसा की जाती है कि आपको शुरुआत में प्रति दिन 300 मिलीग्राम से 500 मिलीग्राम तक का उपभोग करना चाहिए। यदि आपको किसी भी नकारात्मक प्रभाव का अनुभव नहीं होता है, तो आप लगभग सौ मिलीग्राम तक खुराक बढ़ा सकते हैं

Leave a Comment

1 Comment

Subscribe for daily wellness inspiration