शतावरी के फायदे जो है अमृत समान - Benefits of Asparagus in hindi
जड़ीबूटी

शतावरी के चमत्कारी फायदे जो है अमृत समान – Miracle Benefits of Asparagus in Hindi

शतावरी

Asparagus in Hindi: शतावरी एक औषधीय पौधा है जो लिलिएसी नाम के परिवार का सदस्य है। इस पौधे को औषधीय नाम इसलिए दिया गया है क्‍योंकि यह जड़ से लेकर अपने शीर्ष तक बहुत ही पोषक गुणों से भरा हुआ है। यह हरे रंग का खाद्य पदार्थ है जिसे सुपर फूड (Super food) की श्रेणी में रखा जाता है। इस लेख में आप जानेंगे शतावरी के फायदे और नुकसान (shatavari ke fayde aur nuksan) के बारे में।

शतावरी में विटामिन और खनिज पदार्थो की उपलब्‍धता बहुत अधिक होती है। इसमें विटामिन A, C, E, K और विटामिन B6 के अलवा फोलेट, आयरन, जिंक, कैल्शियम, प्रोटीन और फाइबरों की उपयुक्‍त मात्रा होती है। शतावरी पोषक तत्‍वों से भरपूर होने के कारण हमारे शरीर में हानिकारक कोशिकाओं के दुष्‍प्रभावों को कम करने में हमारी मदद करती है।

यदि हम इसका नियमित सेवन करे तो यह कैंसर, मधुमेह, दिल से संबंधित रोग, मोटापा, रक्‍तचाप आदि परेशानियों को दूर करने में हमारी मदद कर सकती है।

शतावरी खाने के बहुत से फायदे है जो कि सभी लोग नहीं जानते। हमारा प्रयास है कि हम आपको इससे होने वाले उन फायदों से अवगत कराएं, जिससे आप अपने स्‍वास्‍थ को और अधिक निखार सकें।

विषय सूची

शतावरी क्या हैं – What is Asparagus in Hindi

एस्पेरेगस (Asparagus) का हिंदी नाम शतावरी है। यह एक प्रकार की जड़ी बूटी है। इसका उपयोग सब्जी और मशालों के रूप में किया जाता है। शतावरी का वैज्ञानिक नाम एस्पेरेगस रेसिमोसस (Asparagus racemosus) है। यह हमारे स्वस्थ के लिए कई प्रकार से लाभदायक होता है, आइये ऐस्पैरागस के पौष्टिक तत्व, उपयोग और फायदों के बारे में विस्तार से जानते है।

शतावरी के पौष्टिक तत्व – Asparagus Nutritional Value in Hindi

शतावरी में कैलोरी कम मात्रा में होती है, लेकिन इसमें बहुत सारे पोषक तत्व पाए जाते है। पके हुआ शतावरी के सिर्फ आधा कप या 90 ग्राम में निम्न न्यूट्रिशन वैल्यू होती है।

RDI का मतलब Reference Daily Intake होता है। यह वह मात्रा होती है जिसकी आपको एक दिन में जरूरत होती है।

शतावरी में लौह, जस्ता और राइबोफ्लेविन सहित अन्य सूक्ष्म पोषक तत्व भी कम मात्रा में होते हैं। यह विटामिन K का एक उत्कृष्ट स्रोत है जो रक्त के थक्के और हड्डी के स्वास्थ्य के लिए आवश्यक है।

इसके अलावा, शतावरी में फोलेट अधिक मात्रा में होता है, यह पोषक तत्व गर्भावस्था और शरीर में कई महत्वपूर्ण प्रक्रियाओं के लिए महत्वपूर्ण है, जिसमें सेल विकास और डीएनए गठन शामिल हैं।

शतावरी के प्रकार – Types of Asparagus in Hindi

शतावरी के उपयोग और इसके लाभों को जानने से पहले, आइये जानते है कि ऐस्पैरागस कितने प्रकार के होते है और इसका कौन सा प्रकार हमारे लिए अधिक फायदेमंद होता है। शतावरी के मुख्य तीन प्रकार निम्न है-

हरी शतावरी – Green asparagus

इस प्रकार की शतावरी हमारे यहाँ सबसे अधिक देखने में मिलती है। यह सूरज की रोशनी में बड़ी होती है इसलिए इसका रंग हरा होता है।

सफेद शतावरी – White asparagus

मिट्टी के अंदर होने के कारण इस प्रकार की शतावरी का रंग सफेद होता है।

बैंगनी शतावरी – Purple asparagus

बैंगनी रंग की शतावरी हमारे लिए सबसे अधिक फायदेमंद होती है। इसमें अधिक मात्रा में एंटीऑक्सीडेंट्स पाए जाते हैं।

(यह भी पढ़ें – शतावरी के फायदे और नुकसान)

शतावरी के फायदे – Shatavari ke fayde in Hindi

शतावरी के फायदे – Shatavari ke fayde in Hindi

यह अपने हरे रंग, लजीज स्‍वाद और पौष्टिक गुणों के कारण हमारे लिए बहुत ही उपयोगी होती है। इसे हम आयुर्वेदिक औषधी भी कह सकते है। इसमें बहुत से एंटीऑक्सिडेंट और प्रतिरोधी गुण (Resistant properties) उपलब्‍ध रहते है जो हमारे स्‍वास्‍थ के लिए फायदेमंद होते है। आइए जानते है शतावारी के फायदे और स्‍वास्‍थ लाभों के बारे में।

शतावरी के फायदे कैंसर से बचने के लिए – Asparagus Benefits For Cancer in Hindi

शतावरी के फायदे कैंसर से बचने के लिए – Asparagus Benefits For Cancer in Hindi

शतावरी बहुत से पोषक तत्वों से भरपूर होती है। उन्हीं पोषक तत्वों में से एक ग्‍लूटाथियोन (glutathione) है जो शतावरी में अच्छी मात्रा में होता है। यह डिटोक्सिफाइंग (detoxifying) यौगिक होता है जो कैंसर के बैक्‍टीरिया को मार सकता है। ग्‍लूटाथियोन हमारी प्रतिरक्षा शक्ति (Immunity power) को बढ़ाने का काम करता है।

शतावरी में आहार फोलेट अच्‍छी मात्रा में मौजूद रहते है। यदि आहार फोलेट का उपयुक्‍त मात्रा में सेवन किया जाए तो यह कोलोन (colon), पेट, अग्‍नाशयी (pancreatic) और ग्रीवा (cervical) के कैंसर को रोकने में मदद करता है। वे महिलाएं जो फोलेट का पर्याप्‍त सेवन नहीं करती उनमें स्‍तन कैंसर (Breast cancer) होने की संभावना ज्‍यादा रहती है।

आप अपने दैनिक आहार में शतावरी को शामिल कर फोलेट और अन्‍य कैंसर रोधी तत्‍वों के प्रभाव को बढ़ा कर कैंसर के प्रभाव को कम कर सकते है। इस तरह शतावरी का उपयोग कैंसर के लिए फायदेमंद होता है। (और पढ़े – फेफड़ों का कैंसर कारण, लक्षण, इलाज और रोकथाम)

शतावरी के फायदे शुगर कम करने के लिए – Asparagus Benefits For Blood sugar in Hindi

शतावरी के फायदे शुगर कम करने के लिए – Asparagus Benefits For Blood sugar in Hindi

शतावरी का उपयोग हम अपने शरीर में शुगर की उच्‍च मात्रा को कम करने के लिए कर सकते है। शतावरी टाइप-2 डायबिटीज को रोकने में सहायता करता है क्‍योंकि इसमें प्रतिरोधक क्षमता वाले पोषक तत्‍व बड़ी मात्रा में उपलब्‍ध रहते है। शतावरी में क्रोमियम (chromium) खनिज भी होता है जो खून में चीनी की मात्रा को नियंत्रित करने में सहायता करता है। यह मधुमेह विरोधी होने के साथ इंसुलिन स्राव को भी रोकने में मदद करता है।
उच्‍च रक्‍तचाप से ग्रसित लोगों के लिए शतावरी का सेवन बहुत ही लाभकारी होता है। (और पढ़े – शुगर ,मधुमेह लक्षण, कारण, निदान और बचाव के उपाय)

शतावरी के फायदे तनाव को दूर करे – Shatavari ke fayde For Depression in Hindi

शतावरी के फायदे तनाव को दूर करे – Shatavari ke fayde For Depression in Hindi

आज के समय में बहुत लोग तनाव और मानसिक बीमारीयों से ग्रसित है, जो कि अवसाद को परिभाषित करता है। ऐसा मस्तिष्‍क में होमोसाइस्टिन (Homocystein) की वृद्धि के कारण होता है। शतावरी में उपस्थित फोलेट होमोसाइस्टिन की उत्पत्ति को नियंत्रित करता है जो अवसाद (Depression) का शुरुआती कारण होता है। होमोसाइस्टिन खून और अन्य जरूरी तत्वों को मस्तिष्क तक पहुंचने में अवरोध बनता है। इस कारण सेरोटोनिन, डोपामाइन और नोरेपीनेफ्राइन जैसे अच्छे हार्मोन का उत्पादन कम हो जाता है जो मूड़, नींद, भूख और होमोसाइस्टिन आदि को नियंत्रित करते है। शतावरी का सेवन करने से इन सभी समस्याओं की संभावना कम हो जाती है। शतावरी का उपयोग आपके स्वस्थ मस्तिष्क के लिए लाभकारी होता है।

शतावरी के औषधीय गुण दिल के लिए फायदेमंद – Asparagus Good For Heart in Hindi

शतावरी के औषधीय गुण दिल के लिए फायदेमंद – Asparagus Good For Heart in Hindi

आप अपने दिल को स्‍वस्‍थ रखने के लिए शतावरी का सेवन कर सकते है। यह आपके दिल से संबंधित कई विकारों को दूर करने की क्षमता रखता है। शतावरी में विटामिन B अच्‍छी मात्रा में मौजूद रहते है। जो होमोसिस्‍टीन को नियंत्रित करते है। यदि यह निश्चित मात्रा से ज्‍यादा होते है तो रक्‍त वाहिकाओं को नुकसान पहुंचा सकते है। होमोसिस्‍टीन की अधिक मात्रा दिल की समस्‍याओं को जन्‍म दे सकती है और कोरोनरी धमनी (coronary artery) रोग का कारण बन सकती है। शतावरी का सेवन आपको इन सभी खतरों से दूर रखता है।

शतावरी के फायदे पाचन में – Asparagus Helps in Digestion in Hindi

शतावरी के फायदे पाचन में – Asparagus Helps in Digestion in Hindi

शतावरी खाने में पौष्टिक होने के साथ साथ पाचन क्रिया को मजबूत करने में भी हमारी मदद करती है। शतावरी में इन्‍यूलिन (inulin) होता है जो एक कार्बोहाइड्रेट होता है यह हमारे पेट पेट में उपस्थित अच्‍छे बैक्टीरिया लैक्‍टोबैसिलि का पोषण बनता है। शतावरी हमारी आंतों की कार्य क्षमता को बढ़ाने का काम करती है। शतावरी के सेवन से पेट की सूजन और कब्‍ज आदि को रोकने में मदद मिलती है क्‍योंकि इसमें फाइबर अच्‍छी मात्रा में रहते है। (और पढ़े – खाने के बाद पेट में दर्द होने के कारण और वचाव के तरीके)

शतावरी के लाभ मूत्र पथ रोग के लिए – Shatavari ke fayde For UTI in Hindi

शतावरी के लाभ मूत्र पथ रोग के लिए – Shatavari ke fayde For UTI in Hindi

यदि आप मूत्र रोग (Urinary disease) और मूत्र अंगों की समस्‍या से परेशान है, तो शतावरी का नियमित सेवन प्रारंभ कर दें क्‍योंकि यह आपकी इन समस्‍याओं को दूर करने में आपकी मदद कर सकते है। शतावरी में एमिनो एसिड अच्‍छी मात्रा में होते है जो इसे प्राकृतिक मूत्रवर्धक बनाते है। यदि इसका पर्याप्‍त सेवन किया जाए तो यह आपके मूत्र पथ में होने वाले संक्रमणों को रोक सकती है। शतावरी में उपस्थित पोषक तत्‍वों के द्वारा इन संक्रमणों को रोका जा सकता है क्‍योंकि मूत्र पथ के स्‍वस्‍थ होने से खराब बैक्‍टीरिया को बाहर निकालने में मदद मिलती है। (और पढ़े – मूत्राशय में संक्रमण के कारण, लक्षण और बचाव)

शतावरी के फायदे गर्भावस्‍था के समय – Asparagus For Healthy Pregnancy in Hindi

शतावरी के फायदे गर्भावस्‍था के समय – Asparagus For Healthy Pregnancy in Hindi

गर्भावस्‍था के समय महिलाओं के स्‍वास्‍थ पर विशेष ध्‍यान दिया जाना चाहिए क्‍योंकि यह स्थिति उनके लिए खतरनाक हो सकती है। गर्भअवस्‍था के समय होने वाले संक्रमण भ्रुण को भी संक्रमित कर सकते है। इसलिए स्‍वस्‍थ बच्‍चे के जन्‍म के लिए मां का स्‍वस्‍थ होना जरूरी है। गर्भवती महिलाओं को स्‍वस्‍थ रखने के लिए उन्‍हे नियमित रूप से शतावरी का सेवन कराना चाहिए। क्‍योंकि इसमें उपस्थित एंटीऑक्सिडेंट महिला को होने वाले संक्रमणों को रोकने में मदद करते है। शतावरी में फोलेट भी होता है जो गर्भ में तंत्रिका- ट्यूब को स्‍वस्‍थ रख उनके दोषों को दूर करता है। फोलेट विटामिन B12 और विटामिन C के साथ मिलकर नए प्रोटीन बनाने में मदद करता है। साथ ही फोलेट हीमोग्‍लाबिन और डीएनए का आंशिक रूप से उत्‍पादन करता है। इसलिए गर्भवती महिला को स्‍वस्‍थ रहने के लिए शतावरी का सेवन लाभकारी होता है। (और पढ़े – जल्दी और आसानी से गर्भवती होने के तरीके )

शतावरी के फायदे वजन कम करने में – Asparagus For Weight loss in Hindi

शतावरी के फायदे वजन कम करने में – Asparagus For Weight loss in Hindi

शतावरी आपका वजन कम करने में आपकी मदद कर सकती है। शतावरी में फैट और कैलोरी बहुत ही कम मात्रा में होते है, साथ ही इसमें बहुत से अघुलनशील और घुलनशील फाइबर (Soluble and Insoluble Fiber) मौजूद रहते है। यदि आप अपना वजन कम करना चाहते है तो लाभकारी शतावरी का उपयोग जरूर करें। इसमें उपस्थित फाइबर निश्चित रूप से आपके वजन को कम करने में आपकी मदद करेंगे। यह कब्ज को दूर करने में भी लाभकारी होते है। परीक्षणों से पता चलता है कि शतावरी कोलेस्‍ट्रोल को भी कम करने में असरदार होती है। (और पढ़े –  पानी पीकर वजन कम करने के उपाय)

एंटीऑक्सिडेंट से भरपूर शतावरी के लाभ – Asparagus Full of Antioxidant in Hindi

एंटीऑक्सिडेंट से भरपूर शतावरी के लाभ – Asparagus Full of Antioxidant in Hindi

शतावरी में एंटीऑक्सिडेंट भरपूर मात्रा में होते है। इसमें एंथोकाइनिन (anthocyanins) अधिक मात्रा में होते है जो फलों और सब्जियों को लाल,नीले और बैंगनी रंग देने के साथ उन्‍हें एंटीऑक्सिडेंट शक्ति देता है जो हमारे शरीर को संक्रमणों से लड़ने की शक्ति देते है। इसका उपयोग करते समय इसके किसी भी भाग को अलग न करें और इसे ज्यादा न उबाले। ज्यादा उबालने से इसके पोषक तत्व कम हो सकते है।

शतावरी के फायदे बुढ़ापे को रोके – Asparagus For Anti-aging in Hindi

शतावरी के फायदे बुढ़ापे को रोके – Asparagus For Anti-aging in Hindi

इसमें उपस्थित एंटीऑक्सिडेंट ग्‍लूटाथियोन आपके बढ़ते बुढ़ापे को रोकने में मदद कर सकता है। शतावरी में उपस्थित फोलेट और विटामिन B12 बुढ़ापे के लक्षणों को रोकने में प्रभावी होते है।

शतावरी के फायदे त्वचा के लिए – Asparagus Benefits For Skin in Hindi

शतावरी के फायदे त्वचा के लिए – Asparagus Benefits For Skin in Hindi

आप अपनी त्‍वचा को स्‍वस्‍थ सुंदर और चमकदार बना सकते है इसके लिए आपको शतावरी का नियमित सेवन करना होगा। इसमें उपस्थित ग्‍लूटाथियोन (Glutathione) सूर्य के प्रभाव और प्रदूषण से त्‍वचा को बचाता है। इसका उपयोग करने से आपकी त्‍वचा में नमी बनी रहती है साथ ही यह आपके चेहरे में उपस्थित दागों को आंशिक रूप से कम करने में मदद करता है। (और पढ़े – गोरा होने के घरेलू उपाय और नुस्खे)

पथरी के लिए फायदेमंद शतावरी – Asparagus For Kidney Stones in Hindi

पथरी के लिए फायदेमंद शतावरी – Asparagus For Kidney Stones in Hindi

शतावरी प्राकृतिक मूत्रवर्धक (natural diuretic) माना जाता है। यह हमारे शरीर से अनुपयोगी नमक और हानिकारक तरल पदार्थ को मूत्र पथ के द्वारा बाहर निकालने में मदद करती है। जो कि एडीमा और हाई ब्‍लड प्रेशर से पीडित लोगों के लिए लाभकारी होता है। साथ ही यह किड़नी में उपस्थित हानिकारक पदार्थो को दूर करने में भी मदद करता है। इस तरह पथरी के उपचार के लिए शतावरी लाभकारी होती है। (और पढ़े – पथरी होना क्या है? (किडनी स्टोन) पथरी के लक्षण, कारण और रोकथाम)

शतावरी के फायदे पुरुषों के लिए – Asparagus benefits for male in Hindi

शतावरी के फायदे पुरुषों के लिए - Asparagus benefits for male in Hindi

यह पुरुषों की कामेच्‍छा को बढ़ाने में भी मदद करता है साथ ही पुरुषों में शुक्राणुओं की संख्‍या में वृद्धि भी करता है। यदि आप अपनी सेक्स पॉवर को बढ़ाना चाहते है तो ऐस्पैरागस सेवन जरूर करें।

ऐस्पैरागस के फायदे महिलाओं के लिए – Asparagus benefits for female in Hindi

ऐस्पैरागस के फायदे महिलाओं के लिए - Asparagus benefits for female in Hindi

शतावरी फोलेट का अच्‍छा स्रोत माना जाता है। फोलेट को विटामिन बी6 के रूप में भी जाना जाता है। फोलेट शरीर में लाल रक्‍त कोशिकाओं के उत्‍पादन और शरीर के स्‍वास्‍थ्‍य को बढ़ाने में सहायक होती है। शिशु के स्‍वस्‍थ विकास के लिए महिलाओं को गर्भावस्‍था के दौरान शतावरी का सेवन करना चाहिए।

(और पढ़े – गर्भावस्था के दौरान खाये जाने वाले आहार और उनके फायदे…)

शतावरी का उपयोग – How to Use Asparagus in Hindi

ऐस्पैरागस को आप बड़ी ही आसानी से कई प्रकार से उपयोग कर सकते है। आप चाहते तो इसे सलाद के रूप में खा सकते है या फिर इसकी सब्जी भी बना सकते है। इसके कुछ उपयोग निम्न है-

  • हरी शतावरी (Green asparagus) का उपयोग आप सलाद के रूप में करें।
  • ऐस्पैरागस का उपयोग जूस बना कर करें।
  • चूर्ण बना कर शतावरी का उपयोग किया जा सकता है।
  • शतावरी की सब्जी (asparagus vegetable in hindi) बना कर भी आप इसका सेवन कर सकते है।
  • उबल कर ऐस्पैरागस का प्रयोग किया जा सकता है।
  • रोस्टेड शतावरी का सेवन भी कर सकते है।

शतावरी के नुकसान – Shatavari ke Nuksan in Hindi

शतावरी के नुकसान – shatavari ke Nuksan in Hindi

शतावरी का अधिक सेवन करने पर और सही तरीके से इस्तेमाल नहीं करने पर यहाँ हमारे लिए नुकसानदायक भी होता है। इसके कुछ प्रमुख नुकसान निम्न है-

  • शतावरी में फोलेट पाया जाता है। जब आप इसका अधिक सेवन करते है तो इससे शरीर में फोलेट की मात्रा बढ़ जाती है, जो कैंसर का कारण बन सकती है।
  • शतावरी में पोटेशियम पाया जाता है और शरीर में पोटेशियम की अधिक मात्रा हाइपरकलेमिया का कारण बनती है।
  • ऐस्पैरागस में कार्बोहाइड्रेट पाया जाता है, इसलिए शतावरी अत्यधिक सेवन मोटापे का कारण बनता है।
  • शतावरी में कैल्शियम भी पाया जाता है और रक्त में कैल्शियम की अधिक मात्रा हाइपरक्लेसेमिया का कारण बनती है।
  • शतावरी एक आयुर्वेदिक औषधी है। शतावरी को अधिक मात्रा में खाने से कोई भारी नुकसान तो नहीं होता है।
  • लेकिन कुछ ऐसे नुकसान होते है जैसे कि शतावरी का ज्यादा सेवन करने से आपके मूत्र में अजीब सी गंध (Weird odor in urine) उत्पन्न हो सकती है।
  • शतावरी का सेवन उन लोगों को नहीं करना चाहिए जिन्‍हें प्‍याज, लहसुन आदि से एलर्जी होती है। क्‍योंकि शतावरी का उपयोग उनकी इस एलर्जी को और अधिक बढ़ा सकता है।

इस शतावरी के चमत्कारी फायदे जो है अमृत समान (Miracle Benefits of Asparagus in Hindi) की जानकारी वाले आर्टिकल में हमने शतावरी क्या है? शतावरी के प्रकार, शतावरी का उपयोग और शतावरी के पौष्टिक तत्व को बताया है। आपको यह लेख आपको कैसा लगा हमें कमेंट्स कर जरूर बताएं।

इसी तरह की अन्य जानकारी हिन्दी में पढ़ने के लिए हमारे एंड्रॉएड ऐप को डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक करें। आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं।

Leave a Comment

Subscribe for daily wellness inspiration