बाल झड़ने से रोकने का आयुर्वेदिक उपाय – Control Hair Fall Through Ayurveda in Hindi

बाल झड़ने से रोकने का आयुर्वेदिक उपाय - Control Hair Fall Through Ayurveda in hindi
Written by Diksha

बालों का झड़ना सीधे तौर पर आपकी पर्सनाल्टी के साथ साथ आत्मसम्मान और आत्मविश्वास पर प्रभाव डालते हैं। यह भी सच है कि बाल का गिरना एक बहुत ही सामान्य समस्या है और उचित उपचार के माध्यम से पूरी तरह से नियंत्रित और रोका जा सकता है। बालों के झड़ने से बचाने के लिए आयुर्वेदिक उपचार लंबे समय तक प्रभावि होता है और इससे सबसे अच्छे परिणाम सामने आते हैं क्योंकि बाल झड़ने से रोकने का आयुर्वेदिक उपाय में बालों को अंदर से सुधारा जाता है।

बालों के झड़ने और आयुर्वेद का संबंध – Ayurveda And Hair Loss in Hindi

आयुर्वेद के अनुसार, बाल का गिरना शरीर के प्रकार के साथ जुड़ा हुआ है जो अलग-अलग व्यक्ति में भिन्न-भिन्न होता है और मन तथा शरीरिक संरचना की स्थिती पर निर्भर करता है। आयुर्वेद द्वारा बताए गए नियम के अनुसार, हड्डियों के गठन को बालों का एक उप-उत्पाद माना जाता है। ऊतक जो हड्डियों के विकास के लिए जिम्मेदार हैं बाल विकास के लिए भी जिम्मेदार मने जाते हैं। बाल झड़ने से रोकने के आयुर्वेदिक उपचार में आहार, योग, ध्यान और औषधीय हर्बल तेल की मालिश का आम तौर पर बालों के झड़ने से रोकने के लिए इस्तेमाल किया जाता हैं।यहां कुछ तरीके हैं जिनके माध्यम से आयुर्वेद उपचार से बाल गिरने की समस्या को रोका जा सकता है:

(और पढ़़ें – आयुर्वेदिक तरीकों से रुकेगा हेयर लॉस और होगा हेयर रिग्रोथ)

बाल झड़ने से रोकने का आयुर्वेदिक उपाय – Control Hair Fall Through Ayurveda in Hindi

हेयर फॉल को रोकने के लिए हम कई प्रकार के रासायनिक उत्‍पादों का उपयोग करते हैं। लेकिन आप बालों को झड़ने से बचाने के लिए आयुर्वेदकि उपाय भी अपना सकते हैं। आइए जाने बाल झड़ने से रोकने के आयुर्वेदिक तरीके क्‍या हैं।

बाल झड़ने से रोकने का आयुर्वेदिक उपाय सही आहार – Dietary Modifications For Control Hair Fall Through Ayurveda in Hindi

जीवनशैली की आदतों की पहचान करना महत्वपूर्ण है जो बालों के झड़ने की समस्याएं पैदा करती है। शराब, मांस, कॉफी, चाय और धूम्रपान करना इनमें से कुछ मुख्य हैं बहुत चिकना, मसालेदार, तेलिय, खट्टा, तला हुआ और अम्लीय खाद्य पदार्थों के सेवन के कारण बालों के झड़ने की भी तेज होती है।

(और पढ़े – जल्दी बाल बढ़ाने के लिए सबसे असरदार तेल)

आयुर्वेद में बाल झड़ने से रोकने के लिए निम्न सुझाव दिए हैं – Here Are Some Ways Suggested By Ayurveda To Beat Hair Fall in Hindi

आनर का सेवन से रोके बालो का गिरना: अनार के जूस बालो को ग्रोथ को बढ़ाने में मदद करता है इसके आलावा आप गाजर और पालक का सेवन भी बाल विकास को बढ़ा सकते है

(और पढ़े – अनार के फायदे)

गाय का घी बाल गिरने से रोकने का आयुर्वेदिक उपाय: गाय की घी सिर और वालों से संबंधित समस्याओं को दूर करने के लिए एक विश्वसनीय उपाय है।

तिल के बीज से करने बालो का गिरना कम: तिल के बीज बाल विकास को बढ़ावा देते हैं क्योंकि वे मैग्नीशियम और कैल्शियम में समृद्ध हैं।

(और पढ़ें – बालों में तिल का तेल लगाने के फायदे)

बाल झड़ने से रोकने का आयुर्वेदिक उपाय है हरी सब्जियां: ग्रीन सब्जियां और फल फाइबर में समृद्ध होती हैं इसलिए हरी सब्जियों का सेवन बालों के झड़ने को रोकने में मदद करते हैं।

बाल झड़ने से रोकने का आयुर्वेदिक उपाय है विटामिन और मिनिरल – Vitamins And Minerals For Control Hair Fall Through Ayurveda in Hindi

बालों की जड़ों को मजबूत बनाने के लिए, विटामिन सी, विटामिन बी-कॉम्प्लेक्स, सल्फर और जस्ता में समृद्ध पदार्थ का सेवन किया जाना चाहिए, जो साबुत अनाज (whole grains), सोयाबीन, छाछ (buttermilk), ड्राई फ्रूट्स और दूध में पाए जाते हैं।

(और पढ़े – बालों के विकास के लिए जरूरी विटामिन)

बाल झड़ने से रोकने का आयुर्वेदिक उपाय है योग और ध्यान – Yoga And Meditation For Control Hair Fall Through Ayurveda in Hindi

योग और मेडीटेशन से बालों को झड़ने से रोका जा सकता है जैसे उल्टे आसन रक्त प्रवाह को उत्तेजित करने में मदद करते हैं। इसके अतिरिक्त, गहरी साँस लेने (deep breathing exercises ) का अभ्यास करना जिससे  चिंता, तनाव को नियंत्रित करने और मानसिक संतुलन बनाए रखने में सहायता प्राप्त होती है। इन सभी का संबंध बाल झड़ने से होता है

(और पढ़ें – बालों के लिए योग)

बाल झड़ने से रोकने के आयुर्वेदिक घरेलू उपाय – Home Remedies For Hair Loss in Hindi

बालों का झड़ना रोकने के लिए आप कुछ घरेलू उपाय भी अपना सकते हैं। आइए जाने बाल झड़ने से रोकने के आयुर्वेदिक घरेलू उपाय क्‍या हैं।

(और पढ़ें – बाला की तरह हो रहा है हेयर फॉल तो इन तरीकों से रोकें बालों का झड़ना)

बाल झड़ने से रोकने का आयुर्वेदिक घरेलू उपाय है मेथी  – Methi For Hair Loss in Hindi

मेथी का उपयोग बालों का झड़ना रोकने के लिए अचूक घरेलू उपाय माना जाता है अक्सर लोग दुबारा अपने बाल उगने के लिए मेथी का उपयोग करते है बाल झड़ने से रोकने के लिए मैथी को रात में भीगोकर सुबह उसका पेस्ट बना लें और सिर में बालो की जड़ों तक लगाकर आधे घंटे के लिए छोड़ दें फिर पानी से बालों को अच्छे से धो लें इससे कुछ ही दिनों में बालों का झड़ना कम हो जायेगा और बल घने लम्बे और मुलायम हो जायेगें।

(और पढ़े – मेथी के फायदे और नुकसान)

बाल झड़ने से रोकने का आयुर्वेदिक घरेलू उपाय है नीम का पानी – Neem For Hair Loss in Hindi

नीम में एंटी बैक्टीरियल और एंटी फंगल गुण होते है जो बालो को झड़ने से रोकने में मदर करते है अक्सर बालो में रूसी (dandruff) हो जाने के कारण बाल गिरना/Hair loss शुरू हो जाते है इस समस्या से बचने के लिए नीम की पत्तियों का पानी लेकर अपने बालों को अच्छे से धोना चाहिए नीम का पानी बनाने के लिए नीम की पतियाँ लेकर उन्हें पानी के साथ उबालें जब पानी आधा रह जाये तो गैस बंद कर दे और पानी को ठंडा होने दे आपको आयुर्वेदिक नीम का पानी सिर और बाल धोने के लिए तैयार है।

(और पढ़े – नीम के फायदे और नुकसान)

बाल झड़ने से रोकने का आयुर्वेदिक घरेलू उपाय है प्याज का रस – Onion For Hair Loss in Hindi

प्याज का रस बाल झड़ने से रोकने का रामबाण तरीका माना जाता है प्‍याज में सल्फर (sulphur) पाया जाता है सल्फर एक एसा तत्व है जो सिर की नसों में खून के संचार को बढ़ाकर बालो का गिरना रोकता है। इसके लिए प्याज को लेकर उसका रस निकल लें और इस रस में शुद्ध शहद को मिलाकर अपने बालों और सिर पर लगाकर 40 मिनिट बाद बाल धो लें इससे आपके बाल साफ और सुन्दर बनने के साथ ही बालों का गिरना भी कम हो जायेगा प्याज़ का रस बालों में संक्रमण (Infection) को भी दूर करता है, जो बाल झड़ने की मुख्य वजह होती है। 

(और पढ़ें – बालों के लिए प्याज के रस के फायदे और उपयोग)

ऊपर आपने जाना की किस प्रकार आप उचित जीवनशैली को अपनाकर और चिंता और तनाव को कम कर बालों का गिरना रोक सकते है यर सारे उपाय प्राकिर्तिक और आयुर्वेदिक है जो पूरी तरह सुरक्षित भी है इन्हें आपनाकर आप अपने बालों का गिरना रोक सकते है।

Leave a Comment

Subscribe for daily wellness inspiration