महिलाओं में कामेच्छा (सेक्स की इच्छा) की कमी के कारण और इलाज – Low Sex Drive in Women Causes, Symptoms and Treatment in Hindi




महिलाओं में कामेच्छा (सेक्स की इच्छा) की कमी के कारण और इलाज - Low Sex Drive in Women Causes, Symptoms and Treatment in Hindi
Written by Daivansh

Low Sex Drive in Women in hindi महिलाओं में सेक्स की इच्छा में कमी के कारण और इलाज: सेक्स को जीवन के पूर्ण आनंद का एक अहम हिस्सा (important part) माना जाता है। लेकिन जब सेक्स की इच्छा में कमी आ जाए तो बेशक आपके पार्टनर को आपसे शिकायत हो सकती है। पिछले कुछ वर्षों से महिलाओं में यौन इच्छा की कमी की समस्याएं बढ़ी हैं (Low Libido In Women)। इस समस्या के पीछे आमतौर पर प्रेगनेंसी, मेनोपॉज, बीमारियां, पार्टनर के साथ रिश्तों में कड़वाहट, तनाव आदि मुख्य कारण माना जाता है। इसके अलावा कुछ दवाएं (medications) भी महिलाओं की सेक्स करने की इच्छा में कमी लाती हैं। ऐसे में महिला न तो खुद संतुष्ट हो पाती है और न ही अपने पार्टनर को खुश कर पाती है और चिड़चिड़ी रहने लगती है।

आज इस आर्टिकल में हम आपको महिलाओं में सेक्स करने की इच्छा में कमी के कारण के साथ ही उसके निदान और इलाज के बारे में भी बताएंगे।

1. महिलाओं में सेक्स की इच्छा (कामेच्छा) में कमी के कारण –  Causes of Low Sex Drive in Women in Hindi

2. महिलाओं में कामेच्छा की कमी के लक्षण – Symptoms of Low Sex Drive in Women in Hindi
3. महिलाओं में सेक्स की इच्छा (कामेच्छा) में कमी का निदान – Diagnosis of Low Sex Drive in Women in hindi
4. औरतों में यौन इच्छा (कामेच्छा) में कमी का इलाज – Treatment of Low Sex Drive in Women in Hindi

महिलाओं में सेक्स की इच्छा (कामेच्छा) में कमी के कारण –  Causes of Low Sex Drive in Women in Hindi

महिलाओं में सेक्स की इच्छा (कामेच्छा) में कमी के कारण -  Causes of Low Sex Drive in Women in Hindi

महिलाओं में यौन इच्छा में कमी (low sex drive)आमतौर पर कई कारणों से होती है। इसके कारण सामान्य और गंभीर दोनों होते हैं। सामान्य कारणों से उत्पन्न यौन समस्याओं को समय रहते डॉक्टर से इलाज कराकर ठीक किया जा सकता है जबकि गंभीर कारणों (serious causes) से उत्पन्न सेक्स करने की इच्छा में कमी एक ऐसी समस्या है जिससे महिलाएं जीवनभर परेशान रहती हैं। आइये जानते हैं कि महिलाओं में यौन इच्छा की कमी किन कारणों से होती है।

(और पढ़े – पुरुषों में यौन इच्‍छा (कामेच्छा) में कमी के कारण और घरेलू उपाय…)

यौन समस्याएं के कारण हो सकती है महिलाओं में कामेच्‍छा की कमी

यदि किसी महिला को सेक्स करते समय दर्द होता है और उसे चरम सुख (orgasm) प्राप्त नहीं होता है तो उसकी यौन इच्छा धीरे-धीरे कम होने लगती है।

(और पढ़े – चरम सुख (ऑर्गेज्म) क्या होता है, पाने के तरीके और फायदे…)

महिलाओं में यौन इच्छा की कमी का कारण हो सकती है बीमारियां

औरतों के शरीर में उत्पन्न कुछ बीमारियां भी सेक्स करने की इच्छा में कमी ला देती हैं। यदि महिला अर्थराइटिस, कैंसर, डायबिटीज, उच्च रक्तचाप, कोरोनरी धमनी रोग और तंत्रिका संबंधी बीमारियां (neurological diseases) जैसी बीमारियों से पीड़ित हो तो वह सेक्स के लिए उत्तेजित नहीं होगी।

(और पढ़े – जेस्टेशनल डायबिटीज (गर्भकालीन मधुमेह) के कारण, लक्षण, निदान और इलाज…)

महिलाओं में कामेच्छा की कमी का कारण हो सकती है दवाएं

महिलाओं में कामेच्छा की कमी का कारण हो सकती है दवाएं

कुछ दवाएं, विशेषरूप से एंटीडिप्रेसेंट्स जिसे सेलेक्टिव सेरोटोनिन रिअपटेक इनहिबिटर भी कहते हैं, सेक्स की इच्छा को कम करने के लिए जिम्मेदार होती हैं। इसके अलावा उच्च ब्लड प्रेशर की दवाएं, गर्भनिरोधक गोलियां हार्मोन के स्तर को प्रभावित कर देती हैं जिससे खून का प्रवाह सही तरीके से नहीं हो पाता है और महिलाओं में उत्तेजना की कमी हो जाती है।

(और पढ़े – गर्भनिरोधक दवाओं और उनके शरीर पर पड़ने वाले प्रभाव के बारे में जानें…)

ओरतों में सेक्स की इच्छा में कमी का कारण है जीवनशैली

सोने-जगने, नाश्ता और भोजन का कोई समय निर्धारित न होने, अधिक एल्कोहल और सिगरेट का सेवन करने, अधिक तनाव लेने, एक्सरसाइज न करे, संतुलित आहार न लेने और अधिक फास्ट फूड खाने की आदत से भी  सेक्स की इच्छा में कमी आती है।

(और पढ़े – संतुलित आहार के लिए जरूरी तत्व , जिसे अपनाकर आप रोंगों से बच पाएंगे…)

सर्जरी के कारण हो सकती है महिलाओं में सेक्स की इच्छा में कमी

स्तन की सर्जरी और जननांगों (genital tract) की सर्जरी कराने के शरीर की प्राकृतिक काया प्रभावित होती है जिसके कारण महिलाओं की सेक्स करने की इच्छा में कमी आ जाती है।

(और पढ़े – क्या स्तनों को दबाने से उनका आकार बढ़ जाता है…)

महिलाओं में सेक्स की इच्छा में कमी का कारण थकान

महिलाओं में सेक्स की इच्छा में कमी का कारण थकान

घर और ऑफिस के काम संभालने, बच्चों का लालन-पालन करने और जिम्मेदारियों के बोझ से दबने के कारण महिलाओं के शरीर में अधिक थकान होती है जिसके कारण उनकी यौन इच्छा में कमी आ जाती है। इसके अलावा बढ़ती उम्र के कारण भी महिलाओं को कम उत्तेजना होती है।

(और पढ़े – डिलीवरी के बाद सेक्सुअल लाइफ पर क्या असर पड़ता है…)

हार्मोन में बदलाव से भी होती है महिलाओं में सेक्स की इच्छा में कमी

मेनोपॉज के दौरान महिलाओं में एस्ट्रोजन का स्तर कम हो जाता है जिसके कारण उनकी योनि के ऊतक सूख जाते हैं और उन्हें सेक्स के दौरान दर्द और बेचैनी होती है और सेक्स की इच्छा भी कम हो जाती है। इसके अलावा प्रेगनेंसी और बच्चे को स्तनपान कराने के कारण भी हार्मोन में परिवर्तन होता है, जिसके कारण यौन इच्छा घटती है।

(और पढ़े – रजोनिवृत्ति के कारण, लक्षण और दूर करने के उपाय…)

औरतों की कामोत्तेजना में कमी का कारण होता है तनाव

यौन इच्छा वास्तव में मन और मस्तिष्क की इच्छा मानी जाती है। ऐसे में जब  महिलाएं मानसिक रूप से स्वस्थ नहीं होती हैं और उन्हें अधिक चिंता, तनाव और डिप्रेशन की समस्या होती है तो सेक्स की  इच्छा में प्राकृतिक रूप से कमी आ जाती है। इसके अलावा काम और आर्थिक स्थिति की चिंता, अपने शरीर को लेकर आत्मविश्वास में कमी, आत्मसम्मान में कमी, घरेलू हिंसा, यौन हिंसा (sexual abuse), यौन संबंध का कोई खराब अनुभव आदि कारणों से महिलाओं में सेक्स करने की इच्छा घटती है।

(और पढ़े – वैजाइना को इन तरीकों से करें टच लड़की को जल्दी उत्तेजित करने के लिए…)

रिश्तों में परेशानी से आती है औरतों की कामेच्छा में कमी

रिश्तों में परेशानी से आती है औरतों की कामेच्छा में कमी

कई महिलाओं की शादीशुदा जिंदगी में कई तरह की परेशानियां होती है। और खुद को शारीरिक और भावनात्मक रूप से कमजोर महसूस करती हैं। उन्हें न तो पति से प्यार मिलता है और न ही घर के अन्य सदस्य से। ऐसे में महिलाएं अपने जीवन को नीरस (fruitless) और ऊबाऊ समझने लगती हैं और नकारात्मक विचारों से घिर जाती हैं। इसका सबसे अधिक असर उनकी सेक्स करने की इच्छा पर पड़ता है। इसके अलावा पार्टनर का किसी दूसरी औरत से संबंध, लड़ाई झगड़े, विश्वास  की कमी और सेक्स को लेकर कोई बातचीत न करने आदि समस्याओं के कारण भी यौन इच्छा प्रभावित होती है।

(और पढ़े – इन आदतों से जानें कि आपका बॉयफ्रेंड किसी दूसरी लड़की को चाहता है…)

महिलाओं में कामेच्छा की कमी के लक्षण – Symptoms of Low Sex Drive in Women in Hindi

महिलाओं में कामेच्छा की कमी के लक्षण - Symptoms of Low Sex Drive in Women in Hindi

महिलाओ में सेक्स करने की इच्छा या यौन इच्छा में कमी आने का सबसे बड़ा लक्षण यह है कि वह अपने पार्टनर के साथ सेक्स का आनंद नहीं उठा पाती है और सेक्स करने के बाद भी उसे संतुष्टि नहीं मिलती है और वह परेशान दिखायी देती है। इसके अलावा अन्य कई लक्षणों में महिलाओं में यौन इच्छा में कमी के लक्षणों को पहचाना जा सकता है।

  • यदि किसी महिला का पार्टनर उससे सेक्स करने की इच्छा (sex desire) जाहिर करता है और महिला उसे बिना किसी विशेष कारण के बार-बार मना कर देती है तो यह उसकी यौन इच्छा में कमी का सबसे अहम लक्षण है।
  • अगर महिला विवाह के शुरूआती वर्षों में ही उतना सेक्स करने की पहल नहीं करती है जितना उसका पार्टनर करता है या उस तरह से सेक्स की इच्छा जाहिर नहीं करती है जितना उसकी उम्र के जोड़े (new married couple) जाहिर करते हैं तो इसका अर्थ यह है कि उसे उत्तेजना कम होती है।
  • यदि कोई महिला कभी रोमांटिक नहीं हो पाती और उसे हस्तमैथुन (musterbation) करने का भी मन नहीं करता, वह अपने प्राइवेट पार्ट्स की सफाई नहीं करती और न ही उसे अंतरंग बातों में कोई दिलचस्पी (interest) हो तो इसका अर्थ यह है कि उसकी सेक्स करने की इच्छा घट रही है।
  • महिला की क्लिटोरिस को छूने पर उसे उत्तेजना नहीं होती, वह सेक्स के अलग-अलग पैटर्न के बारे में नहीं सोचती और न ही अपने पार्टनर को उत्तेजित करने के लिए अपनी तरफ से कोई पहल (initiate) नहीं करती है तो यह इस बात का लक्षण है कि उसकी यौन इच्छा में कमी आ गई है।
  • पार्टनर पर प्यार आने के बजाय उससे डर लगना, उसे छूने, किस करने और प्यार करने का मन न करना, सुस्त पड़े रहना, पार्टनर से अंतरंग बातें न करना, उसे न छेड़ना आदि सभी लक्षण इस बात का संकेत (signs) हैं कि महिला की यौन इच्छा घट रही है।

(और पढ़े – महिलाएं कैसे करती है हस्तमैथुन जाने सोलो प्ले के लिए टिप्स और ट्रिक्स…)

महिलाओं में सेक्स की इच्छा (कामेच्छा) में कमी का निदान – Diagnosis of Low Sex Drive in Women in hindi

महिलाओं में सेक्स की इच्छा (कामेच्छा) में कमी का निदान - Diagnosis of Low Sex Drive in Women in hindi

अन्य समस्याओं की तरह यौन इच्छा में कमी की समस्या के निदान के लिए कोई विशेष परीक्षण (special examination) उपलब्ध नहीं है। लेकिन डॉक्टर कुछ विधियों से इस स्थिति का निदान करते हैं। डॉक्टर आमतौर पर महिला से समस्या से संबंधित लक्षणों के बारे में पूछते हैं और उससे यह भी जानने की कोशिश करते हैं कि सेक्स की इच्छा में कमी आने से उसके जीवन में इसका किस तरह से असर (effect) पड़ रहा है।

इसके अलावा डॉक्टर महिला के मानसिक स्थिति (state of mind) जैसे चिंता, डिप्रेशन, तनाव आदि के बारे में कुछ सवाल पूछते हैं। महिलाओं से यह भी पूछा जाता है कि कहीं उसे कोई मानसिक बीमारी तो नहीं, यदि महिला से किसी तरह की सर्जरी करायी हो तो इसके बारे में उससे सवाल पूछे जाते हैं। इसके साथ ही यदि महिला कोई दवा खा रही हो, लंबे समय से किसी बीमारी से पीड़ित हो, खराब जीवनशैली की आदी हो, घरेलू और यौन हिंसा की शिकार रही हो तो इसके बारे में भी पूछा जाता है। आमतौर पर सेक्स करने की इच्छा में कमी आने के पीछे कई मनोवैज्ञानिक कारण भी होते हैं, यही कारण है कि डॉक्टर महिलाओं से इन सभी सवालों के बारे में पूछते हैं।

यौन इच्छा में कमी के निदान के लिए डॉक्टर पेल्विक परीक्षण भी करते हैं। इसके अलावा ब्लड टेस्ट भी किया जाता है ताकि यह पता चल सके कि महिला में हार्मोन का स्तर कितना प्रभावित हुआ है। इसके अलावा कुछ परिस्थितियों में इस समस्या के निदान के लिए एक्स-रे और रेडियोलॉजी टेस्ट करवाने की भी जरूरत पड़ती है।

(और पढ़े – रिलेशनशिप टिप्स जो हर महिला को जानना जरूरी है…)

औरतों में यौन इच्छा (कामेच्छा) में कमी का इलाज – Treatment of Low Sex Drive in Women in Hindi

औरतों में यौन इच्छा (कामेच्छा) में कमी का इलाज - Treatment of Low Sex Drive in Women in Hindi

महिलाओं में यौन इच्छा में कमी के इलाज के लिए सबसे पहले महिला को हेल्थ केयर विशेषज्ञ के पास भेजा जाता है। यहां महिलाओं को यह जानकारी दी जाती है कि उनका प्राइवेट पार्ट्स (private parts) किस तरीके से काम करता है और उन्हें इसकी देखभाल किस तरह से करना चाहिए और फिर संभव इलाज के बारे में भी बताया जाता है।

इसके बाद यदि महिला की योनि में उम्र के कारण सूखापन आ गया हो तो योनि में चिकनाहट लाने के लिए मॉश्चराइजर और क्रीम लगाने की सलाह दी जाती है।

यदि महिला की मनोवैज्ञानिक कारणों (psychological causes) से सेक्स करने की इच्छा घट गई हो तो  उसे साइकोलॉजिस्ट से इलाज कराने की सलाह दी जाती है, इससे महिला को तनाव और डिप्रेशन से मुक्ति मिल जाती है जिसके कारण उसकी सेक्स की इच्छा में सुधार हो जाता है।

यदि पार्टनर के साथ रिश्ते खराब होने के कारण सेक्स की इच्छा में कमी आयी हो तो महिला को सेक्स थेरेपिस्ट की मदद लेने की सलाह दी जाती है और यहां से उसे यह बताया जाता है कि वह सेक्स के दौरान किस तरह से ऑर्गेज्म (orgasm) प्राप्त करे। यदि महिला को मेनोपॉज के कारण सेक्स करने की इच्छा कम होती है तो उसे एस्ट्रोजन का स्तर बढ़ाने के लिए दवाएं दी जाती हैं।

इसके अलावा सेक्स की इच्छा में कमी को दूर करने के लिए नियमित एक्सरसाइज, पार्टनर के साथ अधिक समय अंतरंग बातें करने, संतुलित भोजन करने, खुश रहने, जीवनशैली को सुधारने, एल्कोहल का कम सेवन करने की सलाह दी जाती है। इससे सेक्स की इच्छा में कमी की समस्या को काफी हद तक सुधारा जा सकता है।

(और पढ़े – सेक्‍स पॉवर बढ़ाने की आयुर्वेदिक दवा…)

Leave a Comment

1 Comment

Subscribe for daily wellness inspiration