सेक्स एजुकेशन

सेक्स के दौरान कंडोम फट जाये तो करें ये उपाएं – What to Do if Condom Breaks During Sex In Hindi

सेक्स के दौरान कंडोम फट जाये तो करें ये उपाएं - What to Do if Condom Breaks During Sex In Hindi

Condom breaks during sex in Hindi कंडोम फट जाए तो क्या करना चाहिए? क्या होगा जब सेक्स एक दौरान कंडोम फट जाएं? यह घटना किसी के साथ भी हो सकती है कि जब आप अपने साथी के सेक्स एन्जॉय कर रहें हो और आपका कंडोम ब्रेक हो जाएं। ये माइने नहीं रखता कि आप सेक्स एन्जॉय करने में कितने माहिर हैं। क्योंकि सेक्स करते वक्त अगर कंडोम फट जाता है तो सारा एन्जॉयमेंट धरा का धरा रह जाता है। सेक्स के दौरान कंडोम का फट जाना या ब्रेक हो जाना आम बात है। लिकिन यह अनुभव आपके लिए बहुत ही डरावना हो सकता है। यदि आपके साथ कभी ऐसा हो जाता है तो घबराएं नहीं। अभी भी आपके पास कुछ विकल्प हैं जो आपको इस समस्या से बचा सकता है। जानें सेक्स के समय अगर आपका कंडोम फट जाए तो क्या करना चाहिए।

आज के इस लेख में हम आपको कुछ ऐसे तरीकों के बारे में बताने जा रहें जो कंडोम फटने पर आपके लिए लाभदायक होगें।

कई बार सेक्‍स के दौरान कंडोम फट जाता है। अक्सर लोगों के साथ ऐसा तब होता है जब कंडोम को या तो सही तरह से पहना नही गया हो या फिर वह एक्‍यापर हो चुका हो। इन दोनों स्थितियों में सेक्स करते समय कंडोम फट सकता है कई बार सेक्स करने के लिए चिकनाई के रूप में तेल का उपयोग करने पर अधिक घर्षण और दो कंडोम का एक साथ उपयोग करने पर भी ऐसा होता है इससे आपको यौन संचारित रोग होने का खतरा काफी बढ़ जाता है। साथ ही आपकी महिला साथी के गर्भवती होने की आशंका भी बढ़ जाती है। ऐसे वक्‍त में आपको घबराने और पैनिक होने की जरूरत नहीं है। आप दोनों संयम से काम लें और इस बात को जाने कि आखिर आपको इस वक्‍त क्‍या करना चाहिए।

  1. कंडोम के फटने पर आपके पास क्या विकल्प हैं – What options do you have when the condom breaks in Hindi
  2. स्थिति का आकलन करें – Assess the situation in Hindi
  3. कंडोम फटने पर विचार करने के लिए बातें – Things to consider when condom breaks in Hindi
  4. यदि आप गर्भावस्था के बारे में चिंतित हैं – If you’re concerned about pregnancy in Hindi
  5. आपातकालीन गर्भनिरोधक – Emergency contraception in Hindi
  6. संभोग के दौरान कंडोम फटने पर गर्भावस्था परीक्षण कब करे – When to take a pregnancy test in Hindi
  7. यदि आप एसटीआई इन्फेक्शन के बारे में चिंतित हैं – If you’re concerned about STI transmission in Hindi
  8. एसटीआई निवारक दवा लें – Preventive medication for STI transmission in Hindi
  9. सेक्स के दौरान कंडोम फटने पर एसटीआई टेस्ट कब कराना चाहिए – When to get an STI test in Hindi
  10. एसटीआई लक्षण – STI symptoms in Hindi
  11. सेक्स के दौरान कंडोम को फटने से कैसे रोकें – How to prevent condom breakage During Sex in Hindi
  12. कंडोम का आकार – Condom size in Hindi
  13. सेक्स के दौरान कंडोम का सही उपयोग – Condom Use in Hindi
  14. कंडोम को सही जगह रखें – Condom Storage in Hindi
  15. सेक्स करते समय कंडोम के फटने पर डॉक्टर को कब दिखाना है – When to see a doctor in Hindi

कंडोम के फटने पर आपके पास क्या विकल्प हैं – What options do you have when the condom breaks in Hindi

कंडोम के फटने पर आपके पास क्या विकल्प हैं - What options do you have when the condom breaks in Hindi

यदि आपके साथ यह घटना होती है तो पहले आप तनाव को कम करे और एक गहरी साँस लें। याद रखें की आप ऐसे पहले व्यक्ति नहीं है जिसके साथ यह घटना हुई है, यह एक सामान्य घटना है जो किसी के साथ भी हो सकती है। यौन गतिविधि के दौरान एक फटे या टूटे हुए कंडोम का अनुभव होने के बाद आपको तुरंत ही कुछ कार्य करने होंगे जो आपको इस समस्या से बचा सकते हैं। यदि संभोग के दौरान कंडोम फट गया है, तो सबसे पहले सेक्स करना रोक दें। सेक्स के दौरान कंडोम फटने से होने वाले खतरे इस बात पर निर्भर करते है कि कंडोम कब फटा और संभोग का प्रकार क्या था।

यौन संचारित संक्रमण (STI) और गर्भावस्था के लिए आपके जोखिम को कम करने के लिए आप कुछ कदम उठा सकते हैं, हालांकि इसके लिए समय कम होता है और आपको इसके लिए उपाय जल्दी ही करने होते है। आइये इन क़दमों को विस्तार से जानते हैं।

(और पढ़े – कंडोम (निरोध) के नाम, प्रकार और उपयोग…)

स्थिति का आकलन करें – Assess the situation in Hindi

स्थिति का आकलन करें - Assess the situation in Hindi

यदि आपको पता चलता है कि आप जिस कंडोम का उपयोग कर रहे हैं वह टूट गया है तो आप तुरंत ही सेक्स करना बंद कर दें और अपने लिंग को योनि से बाहर निकाल लें। फिर आप सुनिश्चित करे की आपको आगे क्या करना है। यह आपके अगले चरणों को निर्धारित करने में आपकी सहायता कर सकता हैं। याद करें कि आपका कंडोम स्खलन के बाद फटा है या स्खलन के पहले ही फट गया था। यदि कंडोम सेक्स के दौरान स्खलन से पहले ही फट गया था तो आप उस कंडोम को हटा कर एक नया कंडोम को लगा कर सेक्स को पुनः प्रारंभ कर सकते हैं। अगर आपका कंडोम सेक्स के समय स्खलन के समय ही फट जाता है तो फिर आपको आगे इसके लिए कदम उठाने होगें।

(और पढ़े – जाने कंडोम के इस्तेमाल के बारे में सब कुछ…)

कंडोम फटने पर विचार करने के लिए बातें – Things to consider when condom breaks in Hindi

कंडोम फटने पर विचार करने के लिए बातें - Things to consider when condom breaks in Hindi

अगर सेक्स करते समय कंडोम फट जाता है तो लोगों के मन में कई प्रकार के सवाल आते है जैसे – क्या मैं गर्भवती हो सकती हूं? हां, यदि अंडे शुक्राणु से मिल जाते है तो आप गर्भवती हो सकती है। इसके लिए आपको अनचाही गर्भावस्था को रोकने के लिए आपातकालीन गर्भनिरोधक गोली लेने की आवश्यकता हो सकती है।

सेक्स के दौरान कंडोम फट जाने पर क्या मैं यौन संचारित संक्रमण (STI) से ग्रस्त हो सकती हूँ? हां, शायद आप एसटीआई संचारित संक्रमण का शिकार हो सकती है यदि आपके साथी को भी यह समस्या है। यदि आप या आपका साथी आपकी एसटीआई की स्थिति से अपरिचित हैं, तो परीक्षण कराने पर विचार करें और फिर इसके लिए दवा लें।

(और पढ़े – कंडोम से जुड़े मिथक और तथ्य…

यदि आप गर्भावस्था के बारे में चिंतित हैं – If you’re concerned about pregnancy in Hindi

यदि आप गर्भावस्था के बारे में चिंतित हैं - If you’re concerned about pregnancy in Hindi

अगर सेक्स के दौरान कंडोम फट जाता है और आप चिंतित है कि कहीं आप प्रेग्नेंट तो नहीं हो जायेगीं, तो आप इसके लिए यह तरीका अपनाएं।

  • सबसे पहले आप सीधे बाथरूम में जाएं।
  • फिर आप बैठे जैसे कि आप शौचालय पर बैठते हैं और फिर अपनी योनि की मांसपेशियों पर जोर डालते हुये उनको नीचे धकेलें। यह किसी भी सुस्त स्खलन को बाहर निकालने में मदद कर सकता है।
  • आप बाथरूम में जाएं और अपने आप को पेशाब करने के लिए मजबूर करें। यह योनि नहर (vaginal canal) से बाहर वीर्य को पूरी तरह तो नहीं धो सकता है, लेकिन यह योनि से कुछ हद तक वीर्य को बाहर निकालने में मदद कर सकता है।
  • प्रेग्नेंट होने से बचने के लिए कंडोम के फटने के बाद आप तुरंत जाकर नहायें। नहाने के लिए आप एक गुनगुने पानी से अपने जननांगों को धीरे-धीरे साफ करें। यह किसी भी सुस्त स्खलन को दूर करने में मदद करता है।
  • महिलाएं डचिंग (योनि फ्लशिंग, तथाकथित योनि शॉवर) से बचें। डचिंग एक ऐसी प्रक्रिया है, जिसमें योनि पानी या अन्य द्रव आधारित पदार्थों से धोया जाता है। डचिंग में पाए जाने वाले रसायन योनि के आसपास संवेदनशील त्वचा को परेशान कर सकते हैं। यह आपकी योनि को सूजन और संक्रमण के लिए खोल सकता है। यह वीर्य को आपके शरीर में आगे भी धकेल सकता है।
  • (और पढ़े – असुरक्षित यौन संबंध के बाद गर्भधारण से बचने के लिए क्या करना चाहिए…)

आपातकालीन गर्भनिरोधक – Emergency contraception in Hindi

आपातकालीन गर्भनिरोधक - Emergency contraception in Hindi

कंडोम के फटने की बाद आप चाहें को एक आपातकालीन गर्भनिरोधक (EC) का उपयोग भी कर सकते हैं। इसमें हार्मोनल ईसी गोलियां या कॉपर इंट्रायूटरिन डिवाइस (copper intrauterine device) शामिल हैं। हालांकि आपातकालीन गर्भनिरोधक का उपयोग वीर्य के योनि में जाने के 24 घंटों के भीतर उपयोग किया जाता है, फिर भी इसे पांच दिनों तक इस्तेमाल किया जा सकता है। संभोग के पांच दिनों के भीतर EC का उपयोग 95 प्रतिशत प्रभावी होता है। ईसी गोलियां ओवुलेशन को रोकने (stop ovulation), निषेचन की संभावना को कम करने या निषेचित अंडे को रोकने के लिए हार्मोन की एक उच्च खुराक प्रदान करती हैं। आप अपने स्थानीय फार्मेसी में डॉक्टर के पर्चे के बिना भी आपातकालीन गर्भनिरोधक गोलियां खरीद सकती हैं।

(और पढ़े – गर्भनिरोधक के सभी उपाय और तरीके…)

संभोग के दौरान कंडोम फटने पर गर्भावस्था परीक्षण कब करे – When to take a pregnancy test in Hindi

संभोग के दौरान कंडोम फटने पर गर्भावस्था परीक्षण कब करे - When to take a pregnancy test in Hindi

सेक्स के दौरान कंडोम फटने के बाद आप एक विश्वसनीय परिणाम के लिए होम प्रेगनेंसी टेस्ट कर सकती है। प्रेगनेंसी टेस्ट करने के लिए आप अपने मिस्ड पीरियड के पहले दिन तक प्रतीक्षा करें। क्योंकि प्रेगनेंसी टेस्ट किट में मानव कोरियोनिक गोनाडोट्रोपिन (human chorionic gonadotropin) नामक हार्मोन का पता लगाकर गर्भावस्था परीक्षण किया जा सकता है। एचसीजी (HCG) शरीर में तब मौजूद होता है जब एक निषेचित अंडा गर्भाशय से जुड़ा होता है। अंडा जितना लंबा जुड़ा होता है, एचसीजी का स्तर उतना ही अधिक होता है। घर पर गर्भावस्था परीक्षण करने के लिए, आपका एचसीजी का स्तर काफी ऊंचा होना चाहिए।

यदि इस टेस्ट में आपको एक सकारात्मक परीक्षा परिणाम मिलता है, तो कुछ दिनों की प्रतीक्षा करने और फिर से परीक्षण करने पर विचार करें। यदि आप इंतजार नहीं करना चाहती हैं, तो अपने परिणामों की पुष्टि करने के लिए रक्त या मूत्र परीक्षण प्राप्त करने के लिए एक चिकित्सक के पास जाएं।

(और पढ़े – प्रेगनेंसी टेस्ट कब करना चाहिए…)

यदि आप एसटीआई इन्फेक्शन के बारे में चिंतित हैं – If you’re concerned about STI transmission in Hindi

यदि आप एसटीआई इन्फेक्शन के बारे में चिंतित हैं - If you’re concerned about STI transmission in Hindi

सेक्स करते समय यदि कंडोम फट जाएं तो एसटीआई संक्रमित होने की संभावना अधिक होती है। ऐसा होने पर आप ध्यान रखें कि बाथरूम जाकर अपने जननांगों को धोने और साफ करने के लिए एनीमा (enema) का उपयोग न करें और न ही किसी कठोर साबुन का प्रयोग करें। ये उत्पाद सूजन पैदा कर सकते हैं और संक्रमण के लिए आपके जोखिम को बढ़ा सकते हैं। यह आपके शरीर में उच्च स्खलन वीर्य को भी अन्दर धक्का दे सकते हैं।

(और पढ़े – योनि को कैसे धोएं, योनी को साफ करने का तरीका…)

एसटीआई निवारक दवा लें – Preventive medication for STI transmission in Hindi

एसटीआई निवारक दवा लें - Preventive medication for STI transmission in Hindi

एसटीआई संक्रमण को फैलने से रोकने का सबसे अच्छा तरीका है इसके इलाज के लिए दवाइयों का सेवन करना होता है। एक्सपोजर प्रोफिलैक्सिस (Post-exposure prophylaxis) इस समय उपलब्ध एकमात्र (STI) निवारक दवा है। पीईपी (PEP) आपके लिए एचआईवी (HIV) के जोखिम को कम कर सकता है। यदि आपको लगता है कि आप एचआईवी के संपर्क में आ गए हैं, तो तुरंत एक चिकित्सक या अन्य स्वास्थ्य सेवा प्रदाता को देखें। संदिग्ध जोखिम के 72 घंटों के भीतर आपको पीईपी शुरू करना चाहिए। आप जितनी जल्दी शुरू कर पाएंगे, आपके लिए उतना बेहतर होगा। पीईपी सिर्फ एक बार की गोली नहीं है। आपको कम से कम 28 दिनों के लिए प्रतिदिन एक या दो बार दवा लेने की आवश्यकता होगी।

(और पढ़े – महिलाओं में एचआईवी एड्स के लक्षण…)

सेक्स के दौरान कंडोम फटने पर एसटीआई टेस्ट कब कराना चाहिए – When to get an STI test in Hindi

सेक्स के दौरान कंडोम फटने पर एसटीआई टेस्ट कब कराना चाहिए - When to get an STI test in Hindi

संभोग के दौरान कंडोम फटने पर विश्वसनीय परिणामों के लिए, आप एसटीआई टेस्ट के लिए कम से कम 14 दिन प्रतीक्षा करें। आइये जानते है कि एसटीआई संभावित जोखिम के बाद परीक्षण कब किया जाता है।

यदि आपने ओरल सेक्स किया है तो आप अपनी एसटीआई स्क्रीन (STI screen) के दौरान गले में खराबी का अनुरोध जरूर करें। यदि आप गुदा सेक्स प्राप्त करते हैं, तो भी एक पैप स्मीयर (Pap smear) का अनुरोध करें। यदि आप एक सकारात्मक परिणाम प्राप्त करते हैं, तो आपका डॉक्टर उपचार के लिए आपके विकल्पों पर चर्चा करेगा।

(और पढ़े – पैप स्मीयर टेस्ट क्या होता है, प्रक्रिया, कीमत…)

एसटीआई लक्षण – STI symptoms in Hindi

एसटीआई लक्षण - STI symptoms in Hindi

यौन संचारित संक्रमण (STI) के होने के कई लक्षण होते है जो आपको अपनी त्वचा और आपके स्वास्थ्य पर दिखाई देते है। हालांकि कुछ स्थिति में एसटीआई के लक्षण दिखाई नहीं देते है जबकि वह आपके शरीर में मौजूद होते हैं।

यदि आपको इनमें से कोई भी लक्षण दिखाई देने लगे, तो तुरंत डॉक्टर या अन्य स्वास्थ्य सेवा प्रदाता को दिखाएं।

(और पढ़े – योनी में खुजली, जलन और इन्फेक्शन के कारण और घरेलू इलाज…)

सेक्स के दौरान कंडोम को फटने से कैसे रोकें – How to prevent condom breakage During Sex in Hindi

सेक्स के दौरान कंडोम को फटने से कैसे रोकें - How to prevent condom breakage During Sex in Hindi

एक बार जब आप इस समस्या से छुटकारा पा लेते है तो यह ध्यान में रखना बहुत जरूरी होता है कि भविष्य में यह घटना दोबारा ना हों। इसके के लिए यह देखना महत्वपूर्ण है कि कंडोम की विफलता के कारण क्या हो सकते हैं। यह भविष्य में होने वाली दुर्घटनाओं के लिए आपके जोखिम को कम करेगा।

(और पढ़े – कंडोम को निकालने का सही तरीका…)

कंडोम का आकार – Condom size in Hindi

कंडोम का आकार - Condom size in Hindi

यदि कंडोम फट गया या टूट गया तो यह एक संकेत हो सकता है कि कंडोम बहुत छोटा था। इससे बचने के लिए आप अपने लिए एक सही आकार का कंडोम लें। इसके अलावा कंडोम बहुत बड़ा हो सकता है जिससे संभोग के दौरान कंडोम फिसल सकता है। एक कंडोम को आसानी से फिट होना चाहिए, कंडोम ढीला नहीं होना चाहिए।

(और पढ़े – सभी प्रकार के कंडोम का उपयोग कैसे करें…)

सेक्स के दौरान कंडोम का सही उपयोग – Condom Use in Hindi

सेक्स के दौरान कंडोम का सही उपयोग - Condom Use in Hindi

कंडोम का सही उपयोग को करने के लिए आप निम्न बातों को ध्यान में रखें-

  • जब पेनिस इरेक्ट हो जाये तभी कंडोम को पहनना चाहिए।
  • कंडोम पर तेल आधारित स्नेहन का उपयोग न करें। चिकनाई में मौजूद रसायन कंडोम की लेटेक्स सामग्री को कमजोर कर सकते हैं, जिससे कंडोम ब्रेक हो सकता है।
  • कंडोम को पहनते वक्त इस बात का विशेष ध्यान रखें कि उसमे हवा न भर जाये क्योंकि पेनिस और हवा के बीच घर्षण होने पर कंडोम के फटने के चांस बढ़ जाते है।
  • आप कंडोम पर पानी या सिलिकॉन-आधारित चिकनाई का प्रयोग कर सकते हैं।
  • अपने लिंग पर चिकनाई लगाकर कंडोम ना पहने इससे कंडोम फिसल सकता है।
  • पुराने कंडोम का प्रयोग ना करें, यह कंडोम फट सकते है। कंडोम की समाप्ति तिथि (Expiration date) की जाँच करें।
  • एक समय में दो कंडोम कभी न पहनें। यह वास्तव में असुविधा पैदा कर सकता है और दोनों कंडोम को फाड़ सकता है।

(और पढ़े – कहीं आप भी तो नहीं करते सेक्स के दौरान दो कंडोम का उपयोग…)

कंडोम को सही जगह रखें – Condom Storage in Hindi

कंडोम को सही जगह रखें - Condom Storage in Hindi

हमेशा कंडोम को गर्मी और रोशनी से दूर रखें। ये तत्व कंडोम बनाने वाली सामग्री को कमजोर कर सकते हैं और उसके ब्रेक होने के जोखिम को बढ़ा सकते हैं। अपने पर्स में कंडोम को ना रखें, घर्षण के कारण कंडोम कमजोर हो सकता है जिससे उसके फटने की संभावना बढ़ जाती है। कंडोम को ठंडी, सूखी जगह पर स्टोर करें। अपने दांत, चाकू, या कैंची जैसी तेज वस्तुओं के साथ कंडोम के पैकेट को खोलने से बचें।

(और पढ़े – शादी से पहले हर किसी को होनी चाहिए सेक्स की इन बातों की जानकारी…)

सेक्स करते समय कंडोम के फटने पर डॉक्टर को कब दिखाना है – When to see a doctor in Hindi

सेक्स करते समय कंडोम के फटने पर डॉक्टर को कब दिखाना है - When to see a doctor in Hindi

सेक्स करते समय कंडोम के फटने पर यदि आप गर्भावस्था या एसटीआई के लिए अपने जोखिम के बारे में चिंतित हैं, तो तुरंत एक चिकित्सक या अन्य स्वास्थ्य सेवा प्रदाता से संपर्क करें। इसके अलावा 24 घंटे के भीतर आपातकालीन गर्भनिरोधक (EC) गोली लेने पर सबसे प्रभावी होती है।

(और पढ़े – कंडोम के इस्तेमाल से होने वाले नुकसानों से रहें सावधान…)

इसी तरह की अन्य जानकरी हिन्दी में पढ़ने के लिए हमारे एंड्रॉएड ऐप को डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं। और आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।

आपको ये भी जानना चाहिये –

Leave a Comment

Subscribe for daily wellness inspiration