पीरियड मिस होने के बाद प्रेगनेंसी टेस्ट नेगेटिव आने के कारण
गर्भावस्था

पीरियड मिस होने के बाद प्रेगनेंसी टेस्ट नेगेटिव आने के कारण – Causes of Negative Pregnancy Test with No Period in hindi

पीरियड मिस होने के बाद प्रेगनेंसी टेस्ट नेगेटिव आने के कारण - Causes of Negative Pregnancy Test with No Period in hindi

Negative Pregnancy Test in Hindi प्रेगनेंसी टेस्ट किट को आने में एक लंबा रास्ता तय करना पड़ा है क्योंकि पहले के इतिहास में ऐसा नहीं होता था कि महिलाओं को यह जानने में सुविधा हो सके कि वह डॉक्टर के पास जाए बिना यह जान पाए कि वह गर्भवती है या नहीं यह तब तक संभव नहीं हो पाया था जब तक प्रेगनेंसी टेस्ट किट की खोज नहीं हुई थी सन 1976 में पहली बार घर पर किए जाने वाले प्रेगनेंसी टेस्ट किट का आविष्कार किया गया जिससे महिलाएं घर बैठे ही अपनी प्रेग्नेंसी को कंफर्म कर यह मालूम कर सकती थी कि वह प्रेग्नेंट है या नहीं आज हम आपको प्रेगनेंसी टेस्ट नेगेटिव आने के कारण के बारे में जानकारी देने वाले है।

लेकिन तकनीक के इस तरह बढ़ जाने के बावजूद भी महिलाओं को अपने गर्भवती होने पर पूर्ण रुप से भरोसा नहीं हो पाता क्योंकि एक महिला के मासिक धर्म चक्र के बारे में अभी भी बहुत सारे रहस्य बाकी हैं।

किसी महिला का पीरियड देर से आना या ना आना उसके बाद भी प्रेगनेंसी टेस्ट नेगेटिव आने के कारण के पीछे कई रीजन हो सकते हैं और ऐसी परिस्थिति में महिला यह समझ नहीं पाती कि वह वास्तव में गर्भवती हुई है या फिर उसके साथ कुछ और गलत हो रहा है यहां पर ऐसे कुछ कारण बताए जा रहे हैं जिससे आपका पीरियड लेट हो सकता है और आपका प्रेगनेंसी टेस्ट नेगेटिव आ सकता है।

और पढ़े – प्रेगनेंसी टेस्ट किट का उपयोग कैसे करें

पीरियड मिस होने के बाद प्रेगनेंसी टेस्ट नेगेटिव आने के कारण – Causes of  Negative Pregnancy Test with No Period in hindi

1. प्रेगनेंसी टेस्ट नेगेटिव आने के कारण होता है हार्मोन का कम होना

यदि आप गर्भवती होने की कोशिश कर रहे हैं तो आपके लिए एक खुशी की बात यह है कि कभी कभी गर्भावस्था हार्मोन का स्तर जोकि एचसीजी के नाम से जाना जाता है गर्भवती होने के बाद भी उतना नहीं हो पाता कि आपको एक प्रेगनेंसी टेस्ट में पॉजिटिव रिजल्ट दे सके।

(और पढ़े – )

2.प्रेगनेंसी टेस्ट नेगेटिव आने के कारण हो सकता है एक्टोपिक प्रेगनेंसी

यह एक दुर्लभ प्रेगनेंसी की अवस्था है जो बहुत कम पाई जाती है लेकिन यदि एक्टोपिक प्रेग्नेंसी आप में विकसित होती है तो प्रेगनेंसी टेस्ट नेगेटिव आने के चांस ज्यादा होते हैं लगभग 3 परसेंट केसों में ही प्रेगनेंसी टेस्ट पॉजिटिव आते हैं यदि आपको प्रेगनेंसी टेस्ट किट नेगेटिव आने के बाद निम्न लक्षण होते हैं तो आपको तुरंत अपने डॉक्टर से मिलना चाहिए।

  • पेट के नीचे वाले हिस्से में या एक तरफ थोड़ा थोड़ा दर्द होना
  • चक्कर आना या चक्कर आने जैसा महसूस होना
  • ब्लीडिंग या स्पोटिंग होना
  • मतली और उल्टी

(और पढ़े – एचसीजी हार्मोन क्या होता है गर्भावस्था में एचसीजी की भूमिका)

3. प्रेगनेंसी टेस्ट नेगेटिव आने के कारण जीवनशैली में बदलाव

कई बाहरी कारक हैं जो आपके मासिक धर्म में परिवर्तन ला सकते हैं उदाहरण के लिए तनाव अत्यधिक चिंता आप के मासिक धर्म  में देरी कर सकता है  कुपोषण भी पीरियड को प्रभावित करने में मुख्य भूमिका अदा करता है यदि आप बहुत अधिक कैफीन का सेवन करते हैं तब भी यह आपके मासिक चक्र को आगे या पीछे कर सकता है।

इसके अलावा जीवनशैली में आए अचानक बदलाव जैसे अधिक एक्सरसाइज करना अधिक काम नौकरी के लिए नाइट शिफ्ट में जाना जैसी कुछ अनियमित जीवनशैली के कारण भी आपका पीरियड लेट हो सकता है।

(और पढ़े – मासिक धर्म (पीरियड्स) के देर से आने के कारण और उपाय)

4. प्रेगनेंसी टेस्ट नेगेटिव आने के कारण हो सकती है मेडिकल कंडीशन

कुछ मेडिकल कंडीशन होती है जिनमें थायराइड की समस्या पॉलीसिस्टिक ओवरी सिंड्रोम (polycystic ovary syndrome) पीसीओएस जैसे कुछ कारक होते हैं जो महिलाओं को अनियमित मासिक धर्म होने का कारण बनते हैं कुछ कारणों में यह काफी लंबा हो सकता है जबकि कुछ की अवधि थोड़े समय की होती है

महिलाओं में रजोनिवृत्ति (Menopause) आम तौर पर 50 वर्ष की आयु से शुरू होती है कुछ महिलाओं में यह समय से पहले 40 वर्ष की आयु में भी शुरू हो सकता है यह सभी के लिए अलग-अलग होता है यदि आपने 90 दिन से अधिक समय निकल जाने के बाद भी प्रेगनेंसी टेस्ट नेगेटिव आ रहा है तो आपको अपने डॉक्टर से मिलकर इस बारे में बात करनी चाहिए

(और पढ़े – पीरियड्स की जानकारी और अनियमित पीरियड्स के लिए योग और घरेलू उपचार)

5. प्रेगनेंसी टेस्ट नेगेटिव आने के कारण हो सकती हैं दवाएं

कुछ दवाएं जैसे बर्थ कंट्रोल पिल्स आपके पीरियड मिस होने का कारण हो सकती हैं जन्म नियंत्रण दवाओं के अलावा और भी एसी दवाएं हैं जो आपके पीरियड को मिस्ड कर सकती हैं जैसे कि ब्लड प्रेशर के लिए या फिर किसी एलर्जी के लिए ली जाने वाली दवाएं आप के मासिक चक्र में देरी कर सकती हैं।

यह ऐसे कारक है जो हर महिला में हर उम्र में देखे जा सकते हैं लेकिन अब हम आपको कुछ ऐसे मुख्य कारक के बारे में बताने जा रहे हैं जो आपके प्रेगनेंसी टेस्ट के नेगेटिव आने का कारण बनते हैं।

(और पढ़े – गर्भनिरोधक दवाओं और उनके शरीर पर पड़ने वाले प्रभाव के बारे में जानें)

प्रेगनेंसी टेस्ट के नेगेटिव आने के मुख्य कारण – Causes a false negative result on a pregnancy test?

अब आप उत्सुकता के साथ मां बनने की प्रतीक्षा कर रहे होते हैं और उस समय प्रेगनेंसी टेस्ट के नेगेटिव आने पर आपको अत्यधिक निराशा हो सकती है सबसे ज्यादा निराशा तब होती है जब आप वास्तव में गर्भवती होती हैं लेकिन प्रेगनेंसी टेस्ट नेगेटिव रिजल्ट देता है एक प्रेगनेंसी टेस्ट किट कई कारणों से गलत परिणाम दे सकते हैं।

और पढ़े – Unwanted 72 गोली लेने के बाद पीरियड लेट होना

इस प्रकार की गलती से बचने के लिए प्रेग्नेंसी टेस्ट नेगेटिव आने के कारण को जानना और उन्हें समझना आवश्यक हो जाता है इसके अलावा आप चाहे तो हॉस्पिटल में एक अल्ट्रासाउंड और ब्लड टेस्ट भी करा सकते हैं जोकि आपकी प्रेगनेंसी को कंफर्म करने का सबसे अच्छा तरीका माना जाता है।

नीचे प्रेग्नेंसी टेस्ट नेगेटिव आने के कुछ मुख्य  कारण दिए गए हैं

  1. प्रेगनेंसी टेस्ट किट यूरिन में मौजूद कोरियोनिक गोनाडोट्रोपिन हार्मोन (HCG) जिसे एचसीजी हार्मोन कहते हैं की मात्रा को माप कर गर्भावस्था की पुष्टि करता है गर्भावस्था का पता लगाने के लिए यह सबसे अच्छी विधि मानी जाती है जो 99% सटीक होती है|
  2. प्रेगनेंसी टेस्ट किट का उपयोग सही समय पर किया जाना बहुत ही जरूरी होता है सही समय पर परीक्षण सही परिणाम के लिए महत्वपूर्ण है सटीक परिणाम पाने के लिए आपको अपने मासिक धर्म बंद होने की तारीख से कम से कम 9 दिन बाद इस टेस्ट को करना चाहिए जिससे आपको सही परिणाम प्राप्त हो सके हालांकि होम प्रेगनेंसी टेस्ट किट गर्भावस्था परीक्षण के लिए अधिक संवेदनशील होते हैं और कई बार पीरियड मिस होने के दूसरे दिन ही पॉजिटिव रिजल्ट दे सकते हैं|
  3. यदि आप अत्यधिक तरल पदार्थ जैसे कि पानी पीने के बाद प्रेगनेंसी टेस्ट किट का यूज़ करती हैं तो आपको प्रेगनेंसी टेस्ट किट से नेगेटिव रिजल्ट मिलने की संभावना अधिक होती है यदि आप अपने घर पर ही प्रेगनेंसी टेस्ट करना चाहती हैं और सबसे अच्छे परिणाम पाना चाहती हैं तो सुबह के पहले यूरिन के साथ अपनी प्रेग्नेंसी टेस्ट को यूज करें।

    प्रेगनेंसी टेस्ट नेगेटिव आने के कारण – Reasons for Pregnancy Test Negative in Hindi

  4. प्रेगनेंसी टेस्ट किट का उपयोग करने से पहले पैकेट में दिए गए सभी निर्देशों को पढ़ें और इसे ठीक से उपयोग करने का तरीका जाने कई बार छोटी सी गलती प्रेगनेंसी टेस्ट किट के नेगेटिव रिजल्ट का कारण हो सकती है इसलिए इस में लिखे गए निर्देशों का ध्यान से पालन करें किट को उपयोग करने पर इसके परिणाम 5 से 10 मिनट तक बदल सकते हैं इसलिए अपनी किट को जल्दी ना छोड़ें और थोड़ा इंतजार कर सही रिजल्ट प्राप्त करें
  5. कुछ मामलों में पाया गया है कि एचसीजी हार्मोन का निम्न स्तर होने के कारण प्रेगनेंसी टेस्ट नेगेटिव आता है इसलिए हो सकता है आप गर्भवती हो लेकिन आपके एचसीजी हार्मोन का स्तर काफी कम हो इसलिए आपको जल्दी से निराश होने की जरूरत नहीं है और  कुछ दिनों बाद फिर से आप अपनी प्रेग्नेंसी की जांच कर सकती हैं
  6. यदि आप होममेड प्रेगनेंसी टेस्ट किट का उपयोग अपने पीरियड बंद होने के दूसरे दिन ही करने लगती हैं तो यह नेगेटिव रिजल्ट दे सकता है कई बार ऐसा होता है की कई महिलाएं अनियमित मासिक धर्म होने के कारण अपने मासिक धर्म बंद होने की सही तारीख का अनुमान नहीं लगा पाती ऐसे केस में आपको कुछ दिन इंतजार करना चाहिए ताकि आप में गर्भावस्था के समय होने वाले लक्षण जैसे स्तनों में कड़ापन आना मितली उल्टी आना अत्यधिक थकान एठन आदि होना चालू हो जाए तब आप यह समझ सकते हैं कि अब आपको अपनी प्रेगनेंसी की जांच प्रेगनेंसी टेस्ट किट से करनी चाहिए जिससे आपको सही परिणाम प्राप्त होगा।

Leave a Comment

6 Comments

Subscribe for daily wellness inspiration