कैसे पता चलेगा कि मैं प्रेग्नेंट हूं? ये 7 लक्षण बताते हैं कि आप प्रेग्नेंट हैं - How to know if I am pregnant in Hindi
गर्भावस्था

कैसे पता चलेगा कि मैं प्रेग्नेंट हूं? ये 7 लक्षण बताते हैं कि आप प्रेग्नेंट हैं

कैसे पता चलेगा कि मैं प्रेग्नेंट हूं? ये 7 लक्षण बताते हैं कि आप प्रेग्नेंट हैं - How to know if I am pregnant in Hindi

प्रेग्नेंसी के दौरान शरीर में कई तरह के बदलाव होते हैं, जिनके आधार पर आप समझ सकती हैं कि आप प्रेग्नेंट हैं या नहीं। पीरियड्स का मिस होना इसमें सबसे अहम चीज है। लेकिन कई बार शरीर में हार्मोनल बदलाव के कारण पीरियड्स मिस हो जाते हैं या पीरियड आने में देरी हो जाती है। तो फिर कैसे पता चलेगा कि आप प्रेग्नेंट हैं या नहीं? यहां हम कुछ ऐसे लक्षण बता रहे हैं, जिनकी मदद से आप समझ जायेगीं कि आप प्रेग्नेंट हैं या नहीं।

शरीर के अंगों में बदलाव होना

गर्भावस्था के दौरान शरीर में एस्ट्रोजन और प्रोजेस्टेरोन का बनना बढ़ जाता है। इसलिए, शरीर के कई हिस्सों के आकार में परिवर्तन होते हैं। जैसा कि सबसे पहले स्तनों और कूल्हों में बदलाव देखा जाता है।

उल्टी से पता चलेगा आप प्रेग्नेंट हैं या नहीं

गर्भावस्था के पहले तीन महीनों में बहुत अधिक उल्टी होती है। खासकर सुबह के समय। ऐसा इसलिए है क्योंकि गर्भावस्था के दौरान शरीर में हार्मोन बढ़ जाते हैं। इसके प्रभाव से बार-बार उल्टी, कब्ज और एसिडिटी होती है। एस्ट्रोजन के कारण गर्भवती महिला को एक विशिष्ट गंध के कारण उल्टी भी हो सकती है।

थकान भी होता है प्रेगनेंसी का लक्षण

गर्भावस्था की शुरुआत में शरीर में कई तरह के हार्मोनल और शारीरिक बदलाव होते हैं। भ्रूण का विकास भी होता है, इसलिए दिल की धड़कन तेज हो जाती है और रक्त प्रवाह भी बढ़ जाता है। इसलिए गर्भावस्था के दौरान महिलाओं को थकान महसूस होती है। इस दौरान प्रोजेस्टेरोन का उत्पादन बढ़ जाता है। इससे भी थकान होती है।

पीरियड्स का ना आना

यह प्रेग्नेंसी का पहला लक्षण होता है। प्रेग्नेंसी टेस्ट के जरिए आप जान सकती हैं कि आप प्रेग्नेंट हैं या नहीं। ये आजकल बाजार में आसानी से प्रेग्नेंसी टेस्ट किट उपलब्ध हैं।

पेट दर्द और कब्ज होना

गर्भावस्था की शुरुआत में पेट में दर्द होता है। यह दर्द बिल्कुल पीरियड्स के दौरान होने वाले दर्द जैसा होता है। इसके साथ ही हार्मोनल बदलाव के कारण कब्ज और एसिडिटी रहने लगती है।

शौच जाने से पता चलेगा कि आप प्रेग्नेंट हैं या नहीं

जैसे-जैसे भ्रूण का आकार बढ़ता है, मूत्राशय पर दबाव बढ़ता जाता है। इससे गर्भवती महिला को बार-बार मल त्याग होता है।

मूड चेंज होना भी है प्रेगनेंसी का लक्षण

गर्भावस्था के दौरान शरीर कई तरह के बदलावों से गुजर रहा होता है। इसका भावनात्मक प्रभाव भी पड़ता है। इसलिए गर्भवती महिलाएं कभी ज्यादा खुश हो जाती हैं तो कभी बिना बात किए दुखी हो जाती हैं।

निष्कर्ष

अगर आपको ऊपर बताये गए कोई भी लक्षण महसूस होते हैं तो आपको सबसे पहले प्रेग्नेंसी टेस्ट करना चाहिए जिससे आप कंफ़र्म हो जाएँगी की आप प्रेग्नेंट हैं या नहीं।

आपको यह भी जानना चाहिए 

Leave a Comment

Subscribe for daily wellness inspiration