गर्भावस्था की पहली तिमाही में भ्रूण का विकास, शारीरिक बदलाव और देखभाल – First Trimester of Pregnancy in Hindi

गर्भावस्था की पहली तिमाही में भ्रूण का विकास, शारीरिक बदलाव और देखभाल - First Trimester of Pregnancy in Hindi
Written by Pratistha

Pregnancy Ki Pehli Timahi यदि आप गर्भावस्था की पहली तिमाही के लिए गाइड चाहते हैं तो आज के इस लेख में हम आपको गर्भावस्था की पहली तिमाही के बारे में सम्पूर्ण जानकारी देगें। जिसमे गर्भावस्था की पहली तिमाही में भ्रूण का विकास, शारीरिक बदलाव और देखभाल की जानकरी शामिल है जो आपको और आपके बच्चे को स्वस्थ रखने में आपकी मदद करेगी। आप पहले ट्राइमेस्टर में गर्भवती नहीं दिख सकती हैं लेकिन आप इसे महसूस कर सकती हैं। ऐसा इसलिए होता है क्योंकि गर्भावस्था के हार्मोनों की वृद्धि आपके शरीर को अगले नौ महीनों के लिए शिशु दाई की भूमिका निभाने के लिए प्रेरित करते है। इसके कारण आप थकान से लेकर पेट फूलने तक और कुछ दर्द को महसूस कर सकती हैं। आइये रेग्नेंसी की पहली तिमाही के बारे में विस्तार से जानते हैं।

  1. प्रेग्नेंसी की पहली तिमाही कितनी लंबी होती है – How long First Trimester of Pregnancy in Hindi
  2. गर्भावस्था की पहली तिमाही के दौरान भ्रूण की वृद्धि – Baby’s growth during First Trimester of Pregnancy in Hindi
  3. गर्भावस्था की पहली तिमाही में होने वाले शरीर में परिवर्तन – Garbhavastha ki pehli timahi me hone vale sharirik parivartan
  4. गर्भावस्था की पहली तिमाही में वजन बढ़ना – Weight gain for First Trimester of Pregnancy in Hindi
  5. गर्भावस्था की पहली तिमाही के दौरान शरीर के बाहरी लक्षण – Garbhavastha ki pehli timahi me sarir ke bahri lakshan
  6. प्रेग्नेंसी की पहली तिमाही में देखभाल के टिप्स – 3 mahine ki pregnancy me dekhbhal ke tips in hindi

प्रेग्नेंसी की पहली तिमाही कितनी लंबी होती है – How long First Trimester of Pregnancy in Hindi

प्रेग्नेंसी की पहली तिमाही कितनी लंबी होती है - How long First Trimester of Pregnancy in Hindi

फर्स्ट ट्राइमेस्टर या पहली तिमाही 1 सप्ताह से प्रारंभ होकर 13 वें सप्ताह तक चलती है। यदि आप निश्चित नहीं है कि आप किस सप्ताह में हैं तो इसके लिए आप वर्तमान की तिथि को छोड़ कर अपनी अंतिम मासिक धर्म की गणना करें। ध्यान रखें कि आपकी तिथि बदल सकती है विशेषकर यदि आपके मासिक धर्म की अवधि अनियमित है।

(और पढ़े – जानें गर्भावस्था में कितने सप्ताह, महीने और ट्राइमेस्टर होते हैं…)

गर्भावस्था की पहली तिमाही के दौरान भ्रूण की वृद्धि – Baby’s growth during First Trimester of Pregnancy in Hindi

गर्भावस्था की पहली तिमाही के दौरान भ्रूण की वृद्धि - Baby’s growth during First Trimester of Pregnancy in Hindi

पहली तिमाही या फर्स्ट ट्राइमेस्टर के दौरान आपका बच्चा एक युग्मक से भ्रूण में परिवर्तन होता है, जो आपके गर्भाशय की दीवार में खुद को दाखिल करता है। यह बढ़ते अंगों और शरीर की प्रणालियों एक आड़ू आकार (peach-sized) के बंडल के सामान होती हैं। इस समय के दौरान शरीर के अंग आकार ले लेते हैं और बच्चा हिलना शुरू कर देता है। इस रोमांचक समय में कुछ बड़ी विशेषताएँ निम्न हैं –

बच्चे की हड्डियां – Baby’s bones – शिशु लगभग 6 सप्ताह से 10 सप्ताह के आसपास हाथ, पैर, और हाथों की उंगलियाँ और पैर की उंगलियाँ फड़कना शुरू कर देता है।

बाल और नाखून – Hair and nails – 5 वें और 8 वें सप्ताह के बीच त्वचा का निर्माण शुरू होता है। जिसमें बालों के रोम और नेलबेड 11वें सप्ताह के आसपास बनते हैं।

पाचन तंत्र – Digestive system – लगभग 8 वें सप्ताह तक बच्चे की आंतों का निर्माण शुरू हो जाएगा और अब तक आपके बच्चे के गुर्दे के दो सेटों बन गए होगें।

स्पर्श की अनुभूति – Sense of touchलगभग 8 वें सप्ताह आपके बच्चे के पास उसके चेहरे यानि होंठ और नाक पर स्पर्श रिसेप्टर्स (receptors) होंगे। और 12 वें सप्ताह के तक उसके पास उसके जननांगों, हथेलियों और पैरों के तलवों पर रिसेप्टर्स होंगे।

दृष्टि – Eyesight ऑप्टिक नर्व जो आंखों से मस्तिष्क और पीठ तक की जानकारी देती है और लेंस 4 सप्ताह से बनना शुरू हो जाता है। साथ ही रेटिना की शुरुआत 8 वें सप्ताह के आसपास होने लगती है।

हृदय – Heart – 5 वें सप्ताह तक वह ट्यूब जो आपके बच्चे का दिल बनाता है वह स्वत: ही धड़कना शुरू कर देता है। यह लगभग 9 वें या 10 वें सप्ताह से अधिक मजबूत और नियमित हो जाएगा फिर आप इसे सुन पाएंगे।

मस्तिष्क – Brain – गर्भावस्था के लगभग 8 सप्ताह तक, आपके बच्चे का मस्तिष्क का विकास शुरू हो जायेगा।

स्वाद का अनुभव – Sense of tasteआपके शिशु ने लगभग 8 वें सप्ताह तक अपने मस्तिष्क से जुड़ने वाली स्वाद कलिकाएँ विकसित कर ली होंगी। लेकिन उन्हें आसपास के एमनियोटिक द्रव (जिससे भोजन का स्वाद आता है) का स्वाद लेने से पहले उन्हें स्वाद छिद्रों की आवश्यकता होगी।

इसके अलावा प्रथम-ट्राइमेस्टर में मांसपेशियों का निर्माण, कीटाणुओं से लड़ने के लिए श्वेत रक्त कोशिकाओं का उत्पादन और विकास शामिल है।

(और पढ़े – गर्भावस्था के आठवें सप्ताह के लक्षण…)

गर्भावस्था की पहली तिमाही में होने वाले शरीर में परिवर्तन – Garbhavastha ki pehli timahi me hone vale sharirik parivartan

गर्भावस्था की पहली तिमाही में होने वाले शरीर में परिवर्तन - Garbhavastha ki pehli timahi me hone vale sharirik parivartan

गर्भवस्था की पहली तिमाही में आपके शरीर में बहुत कुछ होता है। गर्भावस्था के सबसे आम शुरुआती लक्षणों में से कुछ लक्षण निम्न हैं जिसका आप अनुभव कर सकते हैं-

  • सुबह की बीमारी – Morning sickness – यह समस्या आमतौर पर गर्भावस्था के लगभग 6 सप्ताह से शुरू होती है। इसमें आपको अदरक की चाय और बार बार भोजन करने से आपको इससे निपटने में मदद मिल सकती है। यदि आपको गंभीर समस्या है और गर्भावस्था से संबंधित मतली के लक्षणों हो रहें तो इसके इलाज के लिए अपने डॉक्टर से बात करने पर विचार कर सकती हैं।
  • संवेदनशील स्तनTender breastsप्रारंभिक गर्भावस्था के दौरान आपके स्तन स्पर्श के प्रति संवेदनशील या कोमल महसूस कर सकते हैं। वे भरे हुये और भारी भी महसूस कर सकते हैं। यह आपकी गर्भावस्था के कारण आपके प्रोजेस्टेरोन के स्तर में वृद्धि के कारण कुछ समय तक रह सकती है।
  • मूड स्विंग्स – Mood swings गर्भवस्था के दौरान आप चिड़चिड़ापन या अवसाद आपको परेशान कर सकता है। इस मूड स्विंग्स को आप महसूस कर भी सकती है और कुछ लोग इस समस्या का सामना नहीं भी करते हैं।

जैसे-जैसे आप गर्भावस्था की इस तिमाही में आगे बढ़ती है, आपको गर्भावस्था के अन्य कई लक्षणों का अनुभव हो सकती है। जैसे नाराज़गी, कब्ज, धात्विक स्वाद (metallic taste), भोजन की गड़बड़ी और सिरदर्द आदि।

(और पढ़े – प्रोजेस्टेरोन के कार्य एवं गर्भावस्था में इसकी भूमिका…)

गर्भावस्था की पहली तिमाही में वजन बढ़ना – Weight gain for First Trimester of Pregnancy in Hindi

गर्भावस्था की पहली तिमाही में वजन बढ़ना - Weight gain for First Trimester of Pregnancy in Hindi

पहली तिमाही में आपका बच्चा अभी बहुत छोटा है। जिसका अर्थ है कि अपनी पहली तिमाही में तीन से चार पाउंड भोजन प्राप्त करने की आवश्यकता है। यदि आप फिर भी भूख से पीड़ित हैं तो आप कुछ अतिरिक्त भोजन भी खा सकती हैं। आपकी गर्भावस्था के दूसरे और तीसरे तिमाही में वजन बढ़ता है। तो आपको उच्च घनत्व वाले पौष्टिक खाद्य पदार्थों जैसे, एवोकाडो, दही, केले या साबुत अनाज की रोटी आदि हल्के भोजन खाने पर ध्यान दें। गर्भावस्था के दौरान अपने कैलोरी सेवन पर नजर रखने की कोशिश करें। आपको वास्तव में अपनी पहली तिमाही के दौरान किसी भी अतिरिक्त कैलोरी की जरूरत नहीं है।

(और पढ़े – डिलीवरी के बाद इन तरीकों से घटाएं पेट की चर्बी…)

गर्भावस्था की पहली तिमाही के दौरान शरीर के बाहरी लक्षण – Garbhavastha ki pehli timahi me sarir ke bahri lakshan

गर्भावस्था की पहली तिमाही के दौरान शरीर के बाहरी लक्षण - Garbhavastha ki pehli timahi me sarir ke bahri lakshan

पहली तिमाही की गर्भावस्था के दौरान आपके शरीर में होने वाले सभी परिवर्तन आपको परेशान कर सकते है कि क्या इनमे सामान्य है और क्या नहीं है। यहाँ कुछ लक्षण दिए जा रहे हैं जिसके होने पर आप डॉक्टर से संपर्क करें।

यदि आप उपरोक्त लक्षणों में से किसी का भी अनुभव करते हैं तो तुरंत अपने डॉक्टर को दिखायें।

(और पढ़े – पीठ दर्द से छुटकारा पाना है तो अपनाएं ये घरेलू उपाय…)

प्रेग्नेंसी की पहली तिमाही में देखभाल के टिप्स – 3 mahine ki pregnancy me dekhbhal ke tips in hindi

  1. गर्भावस्था की पहली तिमाही में प्रसव के पूर्व विटामिन खाना शुरू करें – Start a prenatal vitamin in Hindi
  2. गर्भावस्था की पहली तिमाही में अपनी दाई या स्त्रीरोग विशेषज्ञ चुनें – Choose your practitioner in Hindi
  3. प्रेग्नेंसी की पहली तिमाही में दाई या स्त्रीरोग विशेषज्ञ से मिलें – Book your first ob-gyn visit in Hindi
  4. गर्भावस्था की पहली तिमाही में सही भोजन खाएं – Eat right food in First Trimester of Pregnancy in Hindi
  5. प्रेग्नेंसी की पहली तिमाही में अगर आपको लगता है तो सेक्स करें – Have sex, if you feel like it in Hindi
  6. प्रेग्नेंसी की पहली तिमाही में फिटनेस के लिए समय निकले – Carve out time for fitness in Hindi

गर्भावस्था की पहली तिमाही में प्रसव के पूर्व विटामिन खाना शुरू करें – Start a prenatal vitamin in Hindi

गर्भावस्था की पहली तिमाही में प्रसव के पूर्व विटामिन खाना शुरू करें - Start a prenatal vitamin in Hindi

यदि आप पहले से विटामिन का सेवन नहीं कर रहें हैं तो तुरंत प्रसवपूर्व विटामिन लेना शुरू करें। पहली तिमाही में ऐसा करने से न्यूरल ट्यूब दोष जैसे कि स्पाइना बिफिडा आदि के खतरे को बहुत कम किया जा सकता है।

(और पढ़े – महिलाओं के स्वास्थ्य लिए जरूरी विटामिन और उनके स्रोत…)

गर्भावस्था की पहली तिमाही में अपनी दाई या स्त्रीरोग विशेषज्ञ चुनें – Choose your practitioner in Hindi

ऐसे कई चिकित्सक हैं जिन्हें आप अपनी गर्भावस्था के लिए पारिवारिक चिकित्सक रूप में चुन सकते हैं। इसलिए अपने विकल्पों पर विचार करने के लिए समय निकालें और अपनी आवश्यकताओं के लिए सही चिकित्सक चुनें।

प्रेग्नेंसी की पहली तिमाही में दाई या स्त्रीरोग विशेषज्ञ से मिलें – Book your first ob-gym visit in Hindi

आपका डॉक्टर आपके स्वस्थ की समीक्षा करेगा और पूरी तरह से शारीरिक परीक्षण करेगा। आपको अपने रक्त प्रकार और आरएच (Rh) स्थिति, एचसीजी (hCG) के स्तर और किसी भी संक्रमण की उपस्थिति का निर्धारण करने के लिए पैप स्मीयर (Pap smear), यूरिनलिसिस (urinalysis) और रक्त कार्य सहित सभी प्रकार की जाँच करेगा।

गर्भावस्था की पहली तिमाही में सही भोजन खाएं – Eat right food in First Trimester of Pregnancy in Hindi

गर्भावस्था की पहली तिमाही में सही भोजन खाएं - Eat right food in First Trimester of Pregnancy in Hindi

अब कैफीन युक्त पदार्थों का सेवन कम करें। साथ ही यह भी जाने के लिए कि कौन से खाद्य पदार्थों से बचना है। और ध्यान रखें कि आपके गर्भावस्था के आहार में कौन सी विशेषता होनी चाहिए ताकि आप इसके अनुसार अपनी रसोई में उन पदार्थों का स्टोर कर सकें।

(और पढ़े – गर्भावस्था में आहार जो देगा माँ और बच्चे को पूरा पोषण…)

प्रेग्नेंसी की पहली तिमाही में अगर आपको लगता है तो सेक्स करें – Have sex, if you feel like it in Hindi

अगर आपको लगता है कि सेक्स करना है तो आप कर सकते हैं। यह मजेदार और सुरक्षित है। साथ ही यह आप दोनों के लिए लाभदायक हैं।

प्रेग्नेंसी की पहली तिमाही में फिटनेस के लिए समय निकले – Carve out time for fitness in Hindi

प्रेग्नेंसी की पहली तिमाही में फिटनेस के लिए समय निकले - Carve out time for fitness in Hindi

आपके और बच्चे के लिए गर्भावस्था के दौरान व्यायाम करने के बहुत सारे लाभ हैं। प्रेग्नेंसी की पहली तिमाही में 30 मिनट की शारीरिक गतिविधि आपके लिए अच्छी प्रेरणा हो सकती हैं। ध्यान रखें कि गर्भावस्था के अनुकूल वर्कआउट का प्रयास करें।

(और पढ़े – नॉर्मल डिलीवरी के लिए एक्सरसाइज और व्यायाम…)

इसी तरह की अन्य जानकरी हिन्दी में पढ़ने के लिए हमारे एंड्रॉएड ऐप को डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं। और आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।

Leave a Comment

Subscribe for daily wellness inspiration