गले की खराश को ठीक करने के घरेलू उपाय – Home remedies for sore throat in Hindi

गले की खराश को ठीक करने के घरेलू उपाय - Home remedies for sore throat in Hindi
Written by Pratistha

सर्दी जुखाम होने के बाद गले की खराश (throat infection in Hindi) बहुत ही असुविधाजनक और दर्द देने वाली होती है गले में इंफेक्शन के मुख्य लक्षण गले में दर्द और जलन के साथ-साथ गले में खराश का बनना होता है आज हम आपको गले की खराश को ठीक करने के घरेलू उपाय बताने वाले है|

गले में खराश और इन्फेक्शन होने पर जब हम किसी चीज को निगलने की कोशिश करते हैं तो गले में दर्द और जलन अधिक होती है|

जब हमारे शरीर में वायरस या बैक्टीरिया द्वारा किसी प्रकार का संक्रमण हो जाता है तो हमारे शरीर की प्रतिरक्षा प्रणाली उसे ठीक करने के लिए प्रतिक्रिया करती है जिसके कारण हमें गले में खराश होती है|

गले में खराश के लक्षण – Sore throat symptoms in hindi

  • गर्दन में सूजन का होना        
  • गले में दर्द होना
  • किसी चीज को निगलने की कोशिश करने पर गले में दर्द और जलन
  • गले में खराश होने पर गले की झिल्ली में सूजन हो सकती है
  • निगलने में कठिनाई
  • भूख ना लगना

आज हम आपको कुछ ऐसे घरेलू उपाय बताने वाले हैं जो आपके गले की खराश को जल्दी ही ठीक कर देंगे आइए जानते हैं Home remedies for sore throat in Hindi गले की खराश को ठीक करने के घरेलू उपाय के बारें में

गले की खराश को ठीक करने के घरेलू उपाय – Home remedies for sore throat in Hindi

गले की खराश को ठीक करने का घरेलू उपाय है नमक के पानी से गरारे करना – Salt water for sore throat in Hindi

गरम नमक के पानी से गरारे करना गले की खराश को ठीक करने के लिए सबसे अधिक उपयोगी घरेलू उपाय में से एक माना जाता है नमक के पानी से गरारे करने पर गले के दर्द को और गले की सूजन को कम किया जा सकता है यह गले के बैक्टीरिया को मारने में मदद करता है|

गरारे करने के लिए आप एक गिलास गर्म पानी में एक चम्मच नमक को मिलाकर इस से 5 मिनट के लिए गरारे करें और फिर उसी पानी से कुल्ला कर लें इस तरीके को हर 3 घंटे में एक बार दोहराएं, इस तरह आप गले की खराश को जल्दी ही ठीक कर लेंगे|

गले की खराश को ठीक करने का घरेलू उपाय है शहद – Honey for sore throat in Hindi

शहद का उपयोग गले की खराश को ठीक करने के लिए पुराने समय से चला आ रहा हैं शहद को आप सीधे ही उंगली में लेकर चाट सकते हैं या फिर विभिन्न प्रकार की चाय में शक्कर के स्थान पर शहद का उपयोग कर इसका फायदा लिया जा सकता है कई अध्ययनों में पाया गया है कि शहद सामान्य खांसी को दूर करने और गले के दर्द को कम करने में प्रभावी होता है शहद के गुण घाव भरने वाले होते हैं इसलिए यह गले में हुई सूजन और दर्द को ठीक करने मैं आपकी मदद कर सकता है| [और पढ़े – शहद के फायदे उपयोग स्वास्थ्य लाभ और नुकसान]

गले की खराश को ठीक करने का घरेलू उपाय है मुलेठी – Liquorice root for sore throat in Hindi

 मुलेठी का उपयोग लंबे समय से गले की खराश और दर्द को ठीक करने के लिए किया जाता रहा है अध्ययन से पता चला है कि मुलेठी की जड़ को पानी के साथ मिलाकर घोल तैयार किया जाता है और इस से गरारे करने पर गले में बहुत जल्दी आराम मिल जाता है| [और पढ़े – मुलेठी के फायदे और नुकसान]

गर्भवती महिलाओं और दूध पिलाने वाली महिलाओं (pregnant and breastfeeding) को इस उपाय से बचना चाहिए

गले की खराश को दूर करने का घरेलू उपाय है मेथी – Fenugreek for sore throat in Hindi

मेथी का उपयोग विभिन्न स्वास्थ्य लाभों के लिए हर घर में किया जाता है आप गले के संक्रमण को ठीक करने के लिए मेथी के बीज को खा सकते हैं और मेथी की चाय का उपयोग कर सकते हैं

शोध से पता चला है कि मैथी में दर्द से छुटकारा दिलाने की शक्ति होती है और यह बैक्टीरिया को मारती है इसके एंटी फंगल गुण गले की सूजन और जलन को कम करते है

किंतु गर्भवती महिलाओं को इसका सेवन करने से बचना चाहिए|

गले की खराश को ठीक करने का घरेलू उपाय है लहसुन – Garlic for sore throat infection in Hindi

लहसुन में प्राकृतिक जीवाणुरोधी गुण होते हैं लहसुन में पाया जाने वाला है allicin जो कि organosulfre योगिक है संक्रमण से लड़ने की क्षमता रखता है

अध्ययनों से पता चला है कि नियमित रूप से लहसुन को अपने खाने में यूज करने से वायरस से होने वाली आम सर्दी को रोकने में मदद मिलती है क्योंकि  लहसुन मैं रोगाणुरोधी गुण पाए जाते हैं लहसुन का उपयोग खाने में ताजा लहसुन की पोथी को छीलकर कच्चा ही किया जा सकता है इसके अलावा आप लहसुन की पोथी को तेल में सेक कर भी खा सकते हैं और अपने गले की खराश (sore throat) को ठीक कर सकते हैं|

जानिए लहसुन के चमत्कारी स्वास्थ्यवर्धक गुणों के बारे में

गले की खराश को ठीक करने का घरेलू उपाय है बेकिंग सोडा – Baking soda for throat infection in Hindi

जैसा की हमने आपको ऊपर बताया कि आप गले की खराश को ठीक करने के लिए नमक के पानी से गरारे कर सकते हैं उसी नुक्से को और अधिक प्रभावी बनाने के लिए आप नमक के पानी के साथ बेकिंग सोडा को मिला सकते हैं जिससे आप को गले के दर्द और खराश से राहत मिल जाएगी|

इस उपाय को करने से गले के अंदर खराश उत्पन्न करने वाले जीवाणुओं को मारने में सहायता प्राप्त होती है और यह फंगल इंफेक्शन को भी कम करता है|

एक कप गर्म पानी मैं एक चौथाई बेकिंग सोडा और एक बटे आठ हिस्सा नमक को मिलाएं और प्रत्येक 3 घंटे के अंतराल में कुल्ला करने के लिए इसका उपयोग करें|

गले की खराश को ठीक करने का घरेलू उपाय है नारियल तेल – Coconut oil for throat infection in Hindi

नारियल तेल में कई स्वास्थ्य लाभ पाए जाते हैं नारियल का तेल का उपयोग हर घर में किया जाता है इसका उपयोग भोजन के रूप में भी किया जाता है कई अध्ययन से पता चला है कि नारियल के तेल में संक्रमण से लड़ने की क्षमता होती है और सूजन को कम करने और दर्द को दूर करने के लिए नारियल का तेल का उपयोग किया जाता है|

गले के संक्रमण को ठीक करने के लिए नारियल का तेल बहुत ही उपयोगी है क्योंकि यह गले की श्लेष्मा झिल्ली को चिकनाई प्रदान करने का कार्य करता है जिससे आप को गले की खराश को दूर करने में सहायता प्राप्त होती है

गले की खराश दूर करने के लिए एक चम्मच नारियल के तेल (Coconut oil) को गर्म कर एक चम्मच सूप में मिक्स कर लें और उसकी एक चम्मच खुराक को अपने मुंह में ले और अपने मुंह में तब तक रखें जब तक वह पूरी तरह से पिघल जाए और फिर इसे निगल लें|

प्रतिदिन लगभग 2 चम्मच (30 मिलीलीटर) तक नारियल के तेल का सेवन किया जा सकता है नारियल के तेल का सेवन खाने के रूप में उच्च मात्रा में नहीं करना चाहिए|

गले पर नारियल के तेल का बहुत ही अच्छा असर देखने को मिलता है जिससे आपको गले के संक्रमण से लड़ने में मदद मिलती है आप सीधे ही दो चम्मच लगभग 30 मिलीलीटर प्रति दिन के लिए सादा नारियल का तेल या फिर किसी तरल पेय के साथ इसका उपयोग कर सकते है|

गले की खराश को ठीक करने का घरेलू उपाय है हल्दी वाला दूध – Turmeric for sore throat in Hindi

एक अन्य उपाय जो आपके गले की खराश को बड़े आसानी से दूर कर सकता है वह है हल्दी वाला दूध, क्योंकि हल्दी वाले दूध का उपयोग सदियों से किया जा रहा है हल्दी में एंटी फंगल (Anti fungal) एंटीबैक्टीरियल (Anti Bacterial) प्रॉपर्टी होती हैं जो कि गले की खराश और दर्द को दूर कर सकती है हल्दी में सूजन करने कम करने वाले गुण होते हैं जो आपके गले की सूजन और दर्द में जल्द ही राहत प्रदान करने का कार्य करती है क्योंकि हल्दी को आयुर्वेद में नेचुरल एंटी बायोटिक्स के रूप में उपयोग किया जाता है|

[और पढ़े – हल्दी और दूध के फायदे और नुकसान]

गले के संक्रमण से बचने के उपाय – Prevention tips for throat infection in Hindi

  • गले के संक्रमण से बचने के लिए ऐसे लोगों से दूर रहें जो इस तरह की संक्रामक बीमारी से ग्रस्त हैं
  • यदि आप को गले का संक्रमण हुआ है तो आपको अपने हाथों को और अपने आप को साफ रखना चाहिए
  • अपने इस्तेमाल की सारी वस्तुओं जैसे कि नहाने का टावल, कपड़े, चादर को अलग रखें और उन्हें केवल आप ही उपयोग करें
  • धुएं बाले स्थान से बचें साथ ही साथ मसालेदार और अम्लीय खाना खाने से बचें

इस प्रकार आप इन सावधानियों को अपनाकर गले के संक्रमण से बच सकते हैं|

अगर आपको यह लेख उपयोगी लगता है और आप समझते है की यह लेख पढ़कर किसी के स्वास्थ्य को फायदा मिल सकता हैं तो कृपया इस लेख को निचे दिए गए बटन दबाकर अपने  Facebook , Whatsapp या Tweeter account पर share जरुर करे !

Leave a Comment

Subscribe for daily wellness inspiration