सर्दियों में खाये जाने वाले 18 फल और उनके लाभ – Winter fruits and their benefits in Hindi

सर्दियों में खाये जाने वाले 18 फल और उनके लाभ - Winter fruits and their benefits in Hindi
Written by Jaideep

Winter Fruits Name In Hindi सभी मौसम के सीजनल फलों का सेवन करना स्‍वास्‍थ्‍य के लिए बेहद फायदेमंद होता है। लेकिन क्‍या आप सर्दियों में खाये जाने वाले फल और उनके लाभ जानते हैं? कई बार हम फलों की तासीर जाने बिना ही उनका उपभोग कर लेते हैं जिससे हम सर्दी और खांसी की तरह ही अन्‍य स्‍वास्‍थ्‍य समस्‍याओं का शिकार हो सकते हैं। जबकि ठंडी के मौसम में हमें गर्म तासीर वाले खाद्य पदार्थों का सेवन करना चाहिए। वैसे तो सर्दियों के मौसम में ही सबसे ज्‍यादा फल और सब्जियां मिलती हैं। ऐसी स्थिति में यह निश्चित करना मुश्किल होता है कि सर्दियों में क्‍या खाना चाहिए और क्‍या नहीं।

इस लेख में हम आपको कुछ ऐसे फलों की जानकारी दे रहे हैं जिन्‍हें ठंडी में खाना आपके लिए फायदेमंद हो सकता है। आइए विस्‍तार से जाने सर्दी में किन-किन फलों को खाना चाहिए जो हमें स्‍वास्‍थ्‍य लाभ दिला सकते हैं।

1. सर्दियों में मौसमी फल क्‍यों खाना चाहिए – Why should you eat seasonal fruits in winter in Hindi
2. सर्दियों में फल कब खाना चाहिए – When to eat fruit in winter in Hindi
3. सर्दियों में खाये जाने वाले फल – Winter Fruits in Hindi
4. सर्दियों में खाये जाने वाले फलों के नुकसान – Side effects of fruits eaten in winter in Hindi

सर्दियों में मौसमी फल क्‍यों खाना चाहिए – Why should you eat seasonal fruits in winter in Hindi

सर्दियों में मौसमी फल क्‍यों खाना चाहिए - Why should you eat seasonal fruits in winter in Hindi

सर्दी के मौसम में हमारे शरीर को विभिन्‍न प्रकार के खनिज पदार्थ और पोषक तत्‍वों की अतिरिक्‍त मात्रा की आवश्‍यकता होती है। हालांकि इस मौसम में अधिक कैलोरी और वसा वाले खाद्य पदार्थों का सेवन करने से बचना चाहिए। सर्दी के सीजन में हमारे शरीर को विटामिन, मिनरल, फोलेट, एंटीऑक्‍सीडेंट और एंटी-बैक्‍टीरियल गुणों से भरपूर खाद्य पदार्थों का पर्याप्‍त सेवन करना चाहिए। इन पोषक तत्‍वों को प्राप्‍त करने के लिए आपको सर्दियों में मिलने वाले लगभग सभी प्रकार के फलों का सेवन करना चाहिए। इन फलों को सेवन करने का फायदा वजन घटाने, मधुमेह को रोकने, कैंसर की रोकथाम करने, त्‍वचा सौंदर्य और बालों के लिए भी होता है। ये सभी फल हमें सर्दी के दौरान होने वाली समस्‍याओं से लड़ने की शक्ति देते हैं और शरीर की ऊर्जा को बढ़ाने में मदद करते हैं।

(और पढ़े – फल खाने के फायदे, गुण और उपयोग…)

सर्दियों में फल कब खाना चाहिए – When to eat fruit in winter in Hindi

सर्दियों में फल कब खाना चाहिए - When to eat fruit in winter in Hindi

सामान्‍य रूप से सर्दियों में खाये जाने वाले फलों के लिए कोई निश्चित समय निर्धारित नहीं किया गया है। इसका मतलब यह है कि आप अपनी सुविधा के अनुसार इन्‍हें कभी भी खा सकते हैं। लेकिन जानकारों का मानना है कि सुबह के नाश्‍ते के समय और दोपहर के भोजन के कुछ समय पहले इनका सेवन करना अच्‍छा होता है। खाली पेट फलों का सेवन अधिक लाभकारी माना जाता है। इसलिए भोजन करने के बाद फलों का सेवन करने से बचना चाहिए।

ठंडी के मौसम में फल खाने का सबसे अच्‍छा समय भोजन करने के लगभग 15 से 20 मिनिट पहले या भोजन करने के लगभग 1 से 2 घंटे बाद होता है। ऐसा करने पर इन्‍हें पचाने में आसानी होती है साथ ही इनके पूरे पोषक तत्‍वों और खनिज पदार्थों का उपयोग किया जा सकता है। सर्दियों के मौसम में खाये जाने वाले फलों को रात के समय खाने से बचना चाहिए।

(और पढ़े – जानें फल खाने का सही समय क्या है…)

सर्दियों में खाये जाने वाले फल – Winter Fruits in Hindi

सर्दियों में खाये जाने वाले फल – Winter Fruits in Hindi

फल तो हमें हर मौसम में प्राप्‍त होते हैं जो हमारे शरीर के लिए बहुत ही फायदेमंद होते हैं। लेकिन सर्दियों में कुछ विशेष फलों का सेवन करना हमारे स्‍वास्‍थ्‍य के बहुत ही लाभकारी हो सकता है। आइए जाने सर्दियों में कौन-कौन से फलों का सेवन करना चाहिए।

(और पढ़े – फलों और सब्जियों के रंगों से जानें उनके गुणों और पोषक तत्‍व के बारे में…)

खजूर (Dates)

खजूर (Dates)

खजूर एक छोटा और अनोखा फल है जिसके बहुत से फायदे होते हैं। इस अद्भुद फल में कई प्रकार के विटामिन और खनिज पदार्थों की उच्‍च मात्रा होती है। जिसके कारण सर्दियों में मौसम में विशेष रूप से खजूर का सेवन किया जाता है। खजूर में आयरन और कैल्सियम की उच्‍च मात्रा एनीमिया के उपचार में मदद कर सकती है। साथ ही उन लोगों के लिए भी खजूर फायदेमंद होता है जिनकी हड्डियों भंगुर या हड्डी का घनत्‍व कम होता है।

ठंडी में खजूर खाने का सबसे बड़ा फायदा इसमें मौजूद फाइबर के कारण होता है। जो कि आपकी पाचन संबंधी समस्‍याओं को दूर करने में प्रभावी होता है। यदि आप सर्दी के मौसम में कब्‍ज से परेशान हैं तो खजूर आपके लिए सबसे अच्‍छे घरेलू उपाय साबित हो सकते हैं।

(और पढ़े – खजूर खाना सेहत के लिए होता है फायदेमंद…)

चकोतरा (Grapefruit)

चकोतरा (Grapefruit)

विंटर सीजन में खाए जाने वालों में चकोतरा भी शामिल है। चकोतरा सर्दियों के मौसम में मिलने वाला एक पौष्टिक फल है जो गर्म जलवायु में पैदा होता है। सर्दी के मौसम में चकोतरा के जूस का सबसे ज्‍यादा सेवन किया जाता है। सर्दी के मौसम में हमारे शरीर को वैक्‍टीरियल प्रभाव से लड़ने के लिए मजबूत प्रतिरक्षा प्रणाली की आवश्‍यकता होती है। जिसके लिए आप चकोतरा का सेवन कर सकते हैं। क्‍योंकि चकोतरा में विटामिन सी की उच्‍च मात्रा होती है। जो शीत ऋतु में आपकी रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने में मदद कर सकता है। आप भी सर्दी के मौसम में सर्दी और खांसी से बचने के लिए चकोतरा के जूस का सेवन कर सकते हैं।

(और पढ़े – चकोतरा के फायदे, गुण और नुकसान…)

कीवी फल (Kiwi Fruit)

कीवी फल (Kiwi Fruit)

सर्दी के मौसम में आपको विशेष रूप से गर्म तासीर वाले खाद्य पदार्थ या प्रतिरक्षा प्रणाली को बढ़ाने में मदद करने वाले फलों की विशेष आवश्‍यकता होती है। कीवी फल भी उन्‍हीं फलों में से एक है जिन्‍हें सर्दियों में खाया जा सकता है। कीवी फल में विटामिन सी, एंटीऑक्‍सीडेंट और अन्‍य बहुत से पोषक तत्‍व भरपूर मात्रा में होते हैं। जिसके कारण सर्दीयों में कीवी फल को खाने के फायदे आपको कई स्‍वास्‍थ्‍य लाभ दिला सकते हैं।

(और पढ़े – किवी के फायदे और नुकसान…)

पपीता (Papaya)

पपीता (Papaya)

अक्‍सर बीमार होने पर डॉक्‍टर हमें पपीता का सेवन करने की सलाह देते हैं। क्‍योंकि पपीता में ऐसे पोषक तत्‍व और खनिज पदार्थ होते हैं जो हमारी रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने में मदद करते हैं। हालांकि पपीता साल के 12 महिने बाजार में उपलब्‍ध होता है। लेकिन सर्दी के मौसम में पपीता खाना अधिक फायदेमंद होता है। क्‍योंकि पपीता में न केवल विटामिन सी बल्कि विटामिन बी की भी अच्‍छी मात्रा होती है। इसके अलावा इसमें बहुत से एंटीऑक्‍सीडेंट और खजिन पदार्थ भी होते हैं। जिनमें हृदय और पाचन संबंधी समस्‍याओं को रोकने की क्षमता होती है। इसलिए आप पपीता को न केवल सर्दी में बल्कि पूरे साल तक उपभोग कर सकते हैं।

(और पढ़े – पपीता खाने के फायदे और नुकसान…)

संतरा (Orange)

संतरा (Orange)

ठंडी के मौसम में खाये जाने वाले फलों में संतरा सबसे प्रमुख है। क्‍योंकि इन दिनों पूरे बाजार में केवल संतरा का सुनेहरा रंग अलग ही दिखाई देता है। ठंड में फ्लू और सर्दी से बचने के लिए आप संतरा का सेवन कर सकते हैं। सभी लोग जानते हैं कि संतरा विटामिन सी के सबसे अच्‍छे स्रोत में से एक है। लेकिन क्‍या आप जानते हैं कि ऑरेंज में फाइटोकेमिकल्‍स (phytochemicals) भी होते हैं जिनमें कैंसर रोधी (Anti-Cancer) गुण होते हैं। इसके अलावा संतरा में मौजूद अन्‍य पोषक तत्‍व किड़नी संबंधी बीमारियों से लड़ने में भी सहायक होते हैं। अच्‍छी बात यह है कि संतरा आज कल केवल सर्दियों में ही नहीं बल्कि इसके अलावा साल के कुछ महिनों में प्राप्त किये जा सकते हैं। आप अपने शरीर को विभिन्‍न प्रकार की बीमारियों से बचाने और इम्‍यूनिटी बढ़ाने के लिए संतरे का नियमित सेवन कर सकते हैं।

(और पढ़े – संतरा खाने के फायदे और नुकसान…)

पैशन फल (Passion Fruit)

पैशन फल (Passion Fruit)

पैशन फ्रूट ठंड के मौसम में बाजार में फल खूब देखने मिलता है जिसे हम कृष्‍णा फल के नाम से भी जानते हैं। सर्दी के मौसम में आप अपने शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने के लिए कृष्णा फल का सेवन कर सकते हैं। कृष्‍णा फल में विटामिन सी, कैरोटीन और क्रिप्‍टोक्‍सैंथिन (cryptoxanthin) होता है। ये सभी प्रतिरक्षा प्रणाली को बढ़ावा देने में मदद करते हैं। इसमें मौजूद विटामिन सी सफेद रक्‍त कोशिकाओं के उत्पादन को बढ़ाता है। इसका मतलब यह है कि सर्दियों के मौसम में इस फल का सेवन करना फायदेमंद होता है। इसका नियमित सेवन करने से आपकी प्रतिरक्षा शक्ति में वृद्धि हो सकती है। इसलिए यदि आप सामान्‍य बीमारियों और संक्रमण से बचना चाहते हैं तो कृष्‍णा फल को अपने आहार में शामिल कर सकते हैं।

(और पढ़े – कृष्‍णा फल (पैशन फ्रूट) के फायदे और नुकसान…)

नाशपाती (Pear)

नाशपाती (Pear)

सर्दियों के सीजन में इम्‍यूनिटी पावर को बेहतर बनाना सरल होता है, क्योंकि इस समय हमारा डायजेशन सिस्‍टम ज्यादा अच्‍छे से काम करता है। सर्दी के मौसम में आप अपने आहार में नाशपाती को भी शामिल कर सकते हैं। ठंड के सीजन में यदि आप अपनी और अपने बच्‍चों की सुरक्षा सर्दी और वायरल फ्लू से करना चाहते हैं तो नाशपाती एक अच्‍छा विकल्‍प है। क्‍योंकि इसमें कई प्रकार के विटामिन, खनिज पदार्थ और अन्‍य पोषक तत्‍व होते हैं। जो हमारी प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूत करने में सहायक होते हैं।

(और पढ़े – नाशपाती के फायदे गुण लाभ और नुकसान…)

अनार (Pomegranate)

अनार (Pomegranate)

सर्दी के मौसम में स्‍वस्‍थ रहने का सबसे अच्‍छा घरेलू उपाय अनार का नियमित सेवन करना हो सकता है। अनार में एलैजिक एसिड, एलैजिटानिंस, प्यूनिसिक एसिड, फ्लेनॉयड, एंथोसायनिन जैसे भिन्न-भिन्न प्रकार के सैकड़ों बायोएक्टिव यौगिक पाये जाते हैं जो स्वास्थ्य के लिए कई मायनों में गुणकारी होते हैं। विभिन्न बीमारियों के इलाज में अनार का उपयोग वर्षों से किया जा रहा है। अनार का उपयोग परजीवी और माइक्रोबियल संक्रमण, डायरिया, अल्सर, रक्तस्राव और श्वसन संबंधी समस्याओं के इलाज में किया जाता है। अनार प्रोबायोटिक बैक्टीरिया को उत्तेजित करता है जिससे यह संक्रमण से लड़ने में सक्षम होता है और बीमारियों से हमें छुटकारा दिलाता है। हालांकि अनार भी ऐसा फल है जो 12 महिने उपलब्‍ध होता है। लेकिन ठंडी में इस फल का नियमित सेवन करने के लाभ बहुत अधिक होते हैं।

(और पढ़े – अनार खाने के फायदे और नुकसान…)

सेब (Apples)

सेब (Apples)

अक्‍सर सर्दियों के मौसम में फलों की बहार आ जाती है। जिसके कारण बाजार में कई रंगों के फल दखाई देने लगते हैं। सेब भी उन्‍हीं फलों में से एक है। अंग्रेजी में कहा भी जाता है कि ‘’ एन एप्पल अ डे कीप्स द डॉक्टर अवे’’ (An apple a day keeps the doctor away) क्‍योंकि सेब है ही ऐसा अद्भुद फल। सेब में ग्लूकोज के स्तर को हमारे शरीर में कम करने और कैंसर से लड़ने की क्षमता देता है। सर्दियों में सेब का सेवन करने से हमारे सारे सिस्टम को डिटोक्सिंग करने में मदद मिलती है। आप भी सर्दियों में खाये जाने वाले फलों की सूची में सेब को शामिल कर सकते हैं।

(और पढ़े – सेब के फायदे और नुकसान…)

स्‍ट्रार फ्रूट (Star Fruit)

स्‍ट्रार फ्रूट (Star Fruit)

हर मौसम में सीजनेवल फलों का नियमित सेवन करना आपके लिए फायदेमंद होता है। लेकिन सर्दियों में कुछ विशेष फलों का सेवन करना चाहिए। जो हमारे शरीर को विभिन्‍न प्रकार की बीमारियों से बचाने में मदद करते हैं। स्‍ट्रार फ्रूट भी इन्‍हीं फलों में से एक है। एक मध्‍यम आकार के स्‍टार फल में विटामिन सी की अच्‍छी मात्रा होती है। यह मात्रा हमारे दैनिक आवश्‍यकता का लगभग 50 प्रतिशत मात्रा होती है। विटामिन सी आपकी प्रतिरक्षा शक्ति को बढ़ाने के लिए जाना जाता है। आप सुबह के भोजन के साथ इस फल की चटनी का उपयोग कर सकते हैं। यह फल आपके शरीर में विटामिन सी की आवश्‍यकता को पूरा कर सकता है। इसके अलावा इसका नि‍यमित सेवन शरीर में सफेद रक्‍त कोशिकाओं के उत्‍पादन को बढ़ावा देने में भी सहायक हो सकता है। सफेद रक्‍त कोशिकाएं आपकी प्रतिरक्षा शक्ति का प्रमुख अंग होती है।

(और पढ़े – कमरख (स्‍टार फल) के फायदे और नुकसान…)

केला (Bananas)

केला (Bananas)

सर्दियों के मौसम में खाये जाने वाले फलों में केला को भी शामिल किया जा सकता है। अधिकांश लोगों का मानना होता है कि ठंडी के मौसम में केला खाने से सर्दी हो सकती है। जबकि इसमें ऐसे पोषक तत्‍व और खनिज पदार्थ होते हैं जो हमारी रोग प्रतिरोधक क्षमता को बए़ाने में मदद कर सकते हैं। आप अपने शरीर स्‍वस्‍थ रखने के लिए सर्दियों के मौसम में केला को नियमित आहार के रूप में जगह दे सकते हैं। यह आपके लिए बेहतरीन आहार साबित हो सकता है।

(और पढ़े – रोज सुबह केला और गर्म पानी के सेवन के फायदे जानकर दंग रह जाएगे आप…)

नींबू (Lemon)

नींबू (Lemon)

नींबू में विटामिन सी की सबसे अधिक मात्रा होती है। विटामिन सी एक प्रकार का एंटीऑक्‍सीडेंट है जो हमारे शरीर को फ्री रेडिकल्‍स से होने वाले नुकसान से बचाने में मदद करता है। सर्दियों के मौसम में आप अपने आहार के साथ ताजा नींबू के रस का उपयोग कर सकते हैं। यह आपकी रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने में अहम भूमिका निभा सकता है।

(और पढ़े – नींबू के फायदे और नुकसान…)

शकरकंद (Sweet potato)

शकरकंद (Sweet potato)

सर्दियों के मौसम में शकरकंद भी पर्याप्‍त मात्रा में मिलता है। हालांकि यह फल न होकर एक कंद है। लेकिन सर्दियों में मौसम में इसका पर्याप्‍त सेवन करना आपको कई स्‍वास्‍थ्‍य लाभ दिला सकता है। शकरकंद में विटामिन ए और विटामिन सी की पर्याप्‍त मात्रा होती है। इसके अलावा शकरकंद की गर्म तासीर हमारे शरीर को सर्दियों के मौसम में गर्म रखने में मदद कर सकती है। यह फाइबर का सबसे अच्‍छा स्रोत होता है जो पाचन संबंधी समस्‍याओं को दूर करने में सहायक होता है। आप भी इस मौसम में अपने शरीर को स्‍वस्‍थ रखने के लिए शकरकंद का नियमित सेवन कर सकते हैं।

(और पढ़े – शकरकंद के फायदे और नुकसान…)

आंवला (Gooseberry)

आंवला (Gooseberry)

ठंडी के मौसम अक्‍सर आंवला न खाने की सलाह दी जाती है। कारण कि इसका सेवन करने से सर्दी हो सकती है। लेकिन लोगों को शायद पता नहीं है कि आंवला में रोग प्रतिरक्षा शक्ति को बढ़ाने की क्षमता होती है। आंवला में विटामिन ए, सी और बहुत से खनिज पदार्थ उच्‍च मात्रा में होते हैं। नियमित आधार पर आंवला का सेवन करने से रक्‍त शर्करा के स्‍तर को भी नियंत्रित करने में मदद मिल सकती है। आप अपने आहार में आंवले को कई प्रकार से शामिल कर सकते हैं। जैसे आंवले का अचार या आंवले का मुरब्‍बा या कच्‍चे ही आंवले के रूप में।

(और पढ़े – आंवला के फायदे, गुण, लाभ और नुकसान…)

अमरूद (Guava)

अमरूद (Guava)

सर्दियों के मौसम में अमरूद भी बहुत देखने मिलते हैं। पके हुए अमरूद देखकर कोई भी इन्‍हें खाने का मन बना सकता है। लेकिन क्‍या आप अमरूद खाने के फायदे जानते हैं। सर्दियों में अमरूद खाना आपकी सेहत के लिए बहुत ही अच्‍छा माना जाता है। क्‍योंकि अमरूद में फोलेट, फाइबर, विटामिन और कई प्रकार के एंटीऑक्‍सीडेंट भरपूर मात्रा में होते हैं। जिसके कारण सर्दियों में होने वाली बहुत सी स्‍वास्‍थ्‍य समस्‍याओं की रोकथाम करने में अमरूद आपकी मदद कर सकती है।

(और पढ़े – अमरूद के फायदे, औषधीय गुण, प्रयोग और नुकसान…)

शरीफा या सीताफल (Custard Apple)

शरीफा या सीताफल (Custard Apple)

कस्टर्ड एप्पल, जिसे शरीफा या सीताफल के रूप में भी जाना जाता है, एक मीठा फल है, जो दुनिया भर में व्यापक रूप से उगाया जाता है। भारत में इसे आमतौर पर ‘सीताफल’ के रूप में जाना जाता है। यह व्यापक रूप से सर्दियों के मौसम में उपलब्ध होता है और भारत के स्थानीय बाजारों में बेचा जाता है। नियमित रूप से सीताफल का सेवन आपकी त्वचा को प्राकृतिक रूप से सुंदर बनाने में मदद कर सकता है। इस फल में प्रचुर मात्रा में मौजूद विटामिन ए त्वचा को स्वस्थ रखने में मदद करती है।

(और पढ़े – सीताफल खाने के फायदे और नुकसान…)

बेर (Jujube Fruit)

बेर (Jujube Fruit)

ठंड के मौसम में मिलने वाला एक खास और खट्टा-मीठा फल है ‘बेर’। यह फल खाने में जितना स्वादिष्ट होता है, इसके फायदे भी उतने ही अधिक होते है। पकी हुई बेर का नाम सुनते ही आपके मुंह में पानी आना लाजमी है क्‍योंकि यह फल है ही इतना स्‍वादिष्‍ट। बेर खाने के फायदे वजन कम करने, हृदय स्‍वास्‍थ्‍य को बढ़ाने, कैंसर रोकने, रक्‍तचाप नियंत्रित करने, पेट की समस्‍याओं आदि के लिए होते हैं।

(और पढ़े – बेर खाने के फायदे और नुकसान…)

सिंघाड़ा (Water chestnut)

सिंघाड़ा (Water chestnut)

सिंघाड़ा एक जलीय फल है जिसे वॉटर चेस्‍टनट्स (Water Chestnut) भी कहा जाता है। यह सर्दीयों के मौसम में विशेष रूप से भारतीय बाजारों में मिलता है। सिंघाड़ा के फायदे इसमें उपस्थित पोषक तत्‍वों और स्‍वाद के कारण स्‍वास्‍थ्‍य के लिए बहुत अधिक होते हैं। पानी में पैदा होने वाले फल सिंघाड़ा सर्दियों के मौसम में अक्सर बाजार में देखने को मिलता है। सिघाड़े में साइट्रिक एसिड, कर्बोहाइड्रेट, प्रोटीन, फैट, निकोटेनिक एसिड, रीबोफ्लेविन, थायमाइन, विटामिन्स-ए, सी, मैगनीज तथा फास्फोरस आदि होते हैं। सिंघाड़ा सर्दियों में खाये जाना वाला एक अच्छा फल है।

(और पढ़े – सिंघाड़ा के खाने फायदे और नुकसान…)

सर्दियों में खाये जाने वाले फलों के नुकसान – Side effects of fruits eaten in winter in Hindi

सर्दियों में खाये जाने वाले फलों के नुकसान - Side effects of fruits eaten in winter in Hindi

सामान्‍य रूप से हर मौसम में मिलने वाले फलों को खाने के फायदे होते हैं। लेकिन यदि सही तरीके से और अधिक मात्रा में इनका सेवन किया जाता है तो इनके कुछ दुष्‍प्रभाव भी हो सकते हैं।

  • सर्दियों के मौसम में किसी भी फल को अधिक मात्रा में सेवन नहीं करना चाहिए। क्‍योंकि इन फलों में पोषक तत्‍वों की उच्‍च मात्रा होती है। जिसके कारण शरीर में इन घटकों का उच्‍च स्‍तर आपकी अन्‍य दूसरी स्‍वास्‍थ्‍य समस्‍याओं को बढ़ा सकता है।
  • ठंडी में फलों का अधिक मात्रा में सेवन करना आपकी पाचन संबंधी समस्‍याओं को बढ़ा सकता है।
  • कुछ लोगों को इस मौसम में अधिक मात्रा में फलों का सेवन करने से त्‍वचा और श्वसन संबंधी एलर्जी का भी सामना करना पड़ सकता है।
  • यदि आप किसी विशेष प्रकार की दवाओं का सेवन कर रहे हैं तो इन फलों का अधिक मात्रा में सेवन न करें। क्‍योंकि इन फलों में मौजूद घटक आपकी दवाओं के साथ प्रतिक्रिया कर सकते हैं।

(और पढ़े – संतुलित आहार के लिए जरूरी तत्व , जिसे अपनाकर आप रोंगों से बच पाएंगे…)

इसी तरह की अन्य जानकरी हिन्दी में पढ़ने के लिए हमारे एंड्रॉएड ऐप को डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं। और आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।

आपको ये भी जानना चाहिये –

Leave a Comment

Subscribe for daily wellness inspiration