चकोतरा के फायदे, गुण और नुकसान – Grapefruit (Chakotara) Benefits and Side Effects in Hindi

चकोतरा के फायदे, गुण और नुकसान - Grapefruit (Chakotara) Benefits and Side Effects in Hindi
Written by Deepanshu

Grapefruit Benefits in hindi चकोतरा को हम आसान भाषा में  ग्रेपफ्रूट के नाम से भी जानते है। चकोतरा में सिट्रिक एसिड की मात्रा अधिक होती है। ये नींब और संतरे की प्रजाति का होता है। वही इसकी स्वाद की बाद करें तो ये खट्टा होने के साथ साथ हल्का मीठा भी होता है। आपको बता दें कि चकोतरा का जूस पीने से हमें कई तरह का फायदा होता है। चकोतरा में मौजूद विटामिन सी कई रोगों को दूर करता है। इसके अलावा इसमें पोटेशियम, लाइकोपीन, कैल्शियम, शर्करा, फॉस्फोरस भी मौजूद होता है। आईए जानते है चकोतरा के फायदे और नुकसान क्या है (Chakaotara ke fayde aur nuksan in hindi) और इसका सेवन किस प्रकार हमारी सेहत के लिए रामबाण साबित होता है।

1. चकोतरा खाने के फायदे – Chakaotara ke fayde in hindi
2. चकोतरा खाने के नुकसान – Chakotra ke nuksan in hindi

चकोतरा के फायदे – Chakaotara ke fayde in hindi

चकोतरा के फायदे – Chakaotara ke fayde in hindi

चकोतरा के फायदे पानी की कमी करें दूर – Grapefruit has more water than other fruit in hindi

ग्रेपफ्रूट शरीर में पानी की कमी को दूर करने के लिए बेस्ट ऑप्शन हो सकता है। इस फल में 92 प्रतिशत पानी होता है। शरीर में पानी की प्रयाप्त मात्रा होने पर हम अपने कार्य को आसानी से कर सकते है। आप भी पानी की कमी को दूर करने के लिए इस फल को अपने दिनचर्या का हिस्सा बना सकते है।

(और पढ़े – डिहाइड्रेशन से बचने के घरेलू उपाय)

चकोतरा के फायदे वजन कम करने में – Grapefruit benefits for weight loss in hindi

कई अध्ययनों से पता चला है कि जो लोग  भोजन से पहले ग्रेपफूट जूस का सेवन करते है वह आसानी से अपनी वेट कम कर सकते है। अध्ययन में यह भी बात सामने आया है कि अगर जल्दी वेट लूज करना चाहते है तो जूस को सेवन ज्यादा से ज्यादा करना चाहिए। ये शरीर को ऊजा प्रदान करने के साथ साथ पानी की कमी को भी पूरा करता है। इस जूस में कम कैलोरी होने के कारण वेट लूज करने में आसानी होती है।

(और पढ़े – जिम जाए बिना वजन कम करने के तरीके)

चकोतरा फल के फायदे कोलेस्ट्रॉल को कम करें – Grapefruit benefits for lower bad cholesterol in hindi

जर्नल ऑफ एग्रीकल्चर एंड फूड कैमिस्ट्री द्वारा किए गए एक अध्ययन में सामने आया है कि रोजाना एक चकोतरा खाने से शरीर में मौजूद खराब कोलेस्टॉल को 15.5 प्रतिशत तक कम किया जा सकता है। शरीर में कोलोस्टॉल की मात्रा बढ़ जाने से दिल की बीमारी का खतरा भी बढ़ जाता है। आपको बता दें कि कोलेस्ट्रॉल एक प्रकार का वसा है जो आपकी धमनियों में बढ़ सकता है और दिल का दौरा व स्ट्रोक का जोखिम बढ़ा सकता है। अगर आप कोलेस्ट्रोल को कम करने वाली दवाओं का सेवन कर रहे है तो इसे लेने की जरूरत नहीं है।

(और पढ़े – कार्डियक अरेस्ट और हार्ट अटैक में अंतर)

चकोतरा का सेवन इम्यून सिस्टम को बनाए मजबूत – Chakaotara increase immune system in hindi

ग्रेपफ्रूट को सेवन करने से शरीर में प्रतिरोधक क्षमता का विकास होता है। इसमें पाए जाने वाले विटामिन ए और सी प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने मे मदद करता है। कुछ शोध में सामने आया है कि उम्र बढ़ने के साथ शरीर में विटामिन सी के कमी के कारण इम्यून सिस्टम कमजोर हो सकता है ।

चकोतरा का रस दिल के लिए फायदेमंद – Chakotra fruit benefits  for heart in hindi

ग्रेपफ्रूट आपके दिल के लिए अच्छा हो सकता है। यह ट्राइग्लिसराइड्स के स्तर को कम करता है । ट्राइग्लिसराइड्स एक प्रकार की वसा है जैसी की “खराब” एलडीएल कोलेस्ट्रॉल । जो आपकी धमनियों को अवरोध पैदा कर सकता है। जैसा की हमने पहले ही बताया है कि इसके सेवन से शरीर में कोलेस्ट्रॉल लेवल को कम किया जा सकता है वैसे ही दैनिक जीवन में इसे लेने से 27 प्रतिशत तक ट्राइग्लिसराइड्स को कम किया जा सकता है।

ग्रेपफ्रूट फ़ॉर लोअर ब्लड प्रेशर – Grapefruit benefits for lower blood pressure in hindi

चकोतरा के सेवन से ब्लड प्रेशर को कम किया जा सकता है। हाई ब्लड प्रेशर के मरीज के लिए ये रामबाण का काम करता है। इसमें मौजूद पोटेशियम ब्लड प्रेशर को कम करने में मदद करता है। इसके साथ ही पोटेशियम सोडियम के नकारात्मक प्रभावों को निष्क्रिय कर देता है। लेकिन एक बार फिर से याद दिला दें कि अगर आप बीपी कम करने वाली दवाई ले रहे है तो इसका उपयोग नहीं करना चाहिए।

चकोतरा फल के फायदे  कैंसर की रोकथाम में – Grapefruit benefits for prevent cancer in hindi

एक अध्ययन में पाया गया है कि जो प्रति दिन साइट्रस फूड का सेवन करते है उनमें कैंसर होने का खतरा काफी कम हो जाता है। इसके सेवन से  प्रोस्टेट और अग्नाशय के कैंसर को काफी हद तक कम किया जा सकता है। वैज्ञानिकों का मानना है कि साइट्रस फ्रूट सूजन को कम करने के साथ ही कैंसर सेल की बढ़ने से रोकता है।

चकोतरा के फायदे घाव को तुरंत भरे – Grapefruit benefits for wound healing in hindi

ग्रेपफ्रूट में 72एमजी विटामिन सी होता है। विटामिन सी की मदद से सर्जरी के बाद घाव को भरने में मदद मिलता है। अगरी आपकी सर्जरी होने वाली है तो डॉक्टर से सलाह लेकर आपके इसका सेवन कर सकते है।

चकोतरा के फायदे आँखों के लिए – Grapefruit benefits for Eyes in hindi

ग्रेपफ्रूट में संतरे की तुलना में अधिक विटामिन ए होता है यह विटामिन आपकी आंखों के लिए अच्छा हैइसके साथ, आप अपने विटामिन सी का 64%, अपने फाइबर का 8%, कैल्शियम (3%) और लोहे (1%) का थोड़ा सा भाग प्राप्त कर लेते हैं,  इसलिए इसे सुपरफ़ूड कहां है दिन में एक चकोतर का सेवन आँखों के लिए लाभदायक होता है।

चकोतरा के फायदे बचाएं किडनी स्टोन से – Grapefruit benefits for Kidney stone in hindi

ग्रेपफ्रूट में साइट्रिक एसिड होता है जिसके कारण इसके सेवन से किडनी स्टोन का खतरा काफी हद तक कम हो जाता है। इसके सेवन करने से मूत्र का पीएच काफी बढ़ जाता है। साथ ही कैल्शियम के कारण बनने वाले स्टोन को कम करता है।

(और पढ़े – पथरी होना क्या है? (किडनी स्टोन) पथरी के लक्षण, कारण और रोकथाम)

चकोतरा के फायदे ब्लड शुगर को कम करने में – Grapefruit may help control blood sugar in hindi

ग्रेपफ्रूट की मदद से रक्त शर्करा को नियंत्रित किया जा सकता हैं ग्रेपफ्रूट में कम ग्लाइसेमिक इंडेक्स (जीआई) होता है, जो लगभग 25 है, जिसका अर्थ है कि यह रक्त शर्करा को जल्दी नहीं बढ़ने देता है जितना की अधिक उच्चतर जीआई खाद्य पदार्थों जैसे सफेद बेगेल (72) या एक केले (48) या तरबूज (72 ) बढ़ाते है। (सर्वोच्च जीआई स्कोर 100 है।)

हालांकि यह परिणाम मधुमेह के नहीं होने वाले लोगों में देखे गए हैं, भोजन में रक्त शर्करा की प्रतिक्रिया व्यापक रूप से भिन्न हो सकती है, इसलिए यदि आपका टाइप 2 मधुमेह का निदान किया गया है, तो चकोतरा खाने से पहले आपके रक्त शर्करा का परीक्षण करें ताकि यह सुनिश्चित हो सके कि वह आपकी स्वस्थ भोजन योजना का हिस्सा हो सकता है या नहीं।

(और पढ़े – मधुमेह को कम करने वाले आहार)

चकोतरा के नुकसान – Chakotra ke nuksan in hindi

चकोतरा के नुकसान – Chakotra ke nuksan in hindi

ग्रेपफ्रूट के फायदे आपने जाने लेकिन यह फल खाने से पहले आपको कुछ सावधानियां रखना भी जरुरी होता है वरना आपको चकोतरा के नुकसान का सामना करना पड़ सकता है आइये जानते है चकोतरा के नुकसान क्या है।

  • चकोतरा का उपयोग एलर्जी की दवाओं के साथ नहीं करना चाहिए, Grapefruits में एक प्राकृतिक रसायन furanocoumarin होता हैं जो एलर्जी की दवाओं के साथ आपके लीवर को प्रभावित कर सकता है।
  • यदि आप एक इरेक्टाइल डिसफंक्शन दवा ले रहे हैं, तो चकोतरा का सेवन नुकसानदेह हो सकता हैं
  • इस तरह की दवाओं में वियाग्रा (सिल्डेनाफिल), कैलिस (तडालफिल), और लेविट्रा (वार्नाफिल) शामिल हैं।
  • ग्रेपफ्रूट को  चिंता, दिल, और एचआईवी दवाओं के साथ उपयोग नहीं करना चाहिए।

चकोतर फल के फायदे बहुत है लेकिन अगर आप चिकित्सीय उपचार शुरू करने वाले है या ले रहे है तो इसका सेवन करने से पहले अपने डॉक्टर से सलाह जरूर लें क्योंकि चकोतर बहुत सी दवाओं के साथ अपनी प्रतिक्रिया दिखता है।

Leave a Comment

Subscribe for daily wellness inspiration