शिमला मिर्च के फायदे और नुकसान – Bell Pepper (Capsicum) Benefits and side effects in Hindi

शिमला मिर्च के फायदे और नुकसान - Bell Pepper (Capsicum) Benefits and side effects in Hindi
Written by Ramkumar

Shimla Mirch Ke Fayde in Hindi शिमला मिर्च एक खाद्य सब्‍जी है जिसे बेल पेपर (Bell peppers) या मीठी मिर्च के नाम से भी जाना जाता है। क्‍या आप शिमला मिर्च खाने के फायदे जानते हैं? शिमला मिर्च (sweet pepper) कम तीखी किस्‍म की मिर्च होती हैं। शिमला मिर्च के लाभ पाचन समस्‍याओं, पीठ दर्द, त्‍वचा स्‍वास्‍थ्‍य, पेट के अल्‍सर, रजोनिवृत्ति की समस्‍याओं, हृदय रोग और डायबिटीज जैसी गंभीर समस्‍याओं के लिए होते हैं। यदि आप इन समस्‍याओं से बचना चाहते हैं तो शिमला मिर्च का इस्‍तेमाल कर सकते हैं। सामान्‍य रूप से शिमला मिर्च का उपयोग सब्‍जी के रूप में किया जाता है। लेकिन आप अन्‍य खाद्य पदार्थों को स्‍वादिष्‍ट बनाने के लिए भी शिमला मिर्च का प्रयोग कर सकते हैं। आज इस लेख में हम शिमला मिर्च के औषधीय गुण और फायदे नुकसान (Shimla Mirch Ke Fayde Aur Nuksan In Hindi) संबंधी जानकारी बता रहे हैं।

1. शिमला मिर्च क्‍या है – Shimla Mirch Kya hai in Hindi
2. शिमला मिर्च के पोषक तत्‍व – Bell Pepper Nutritional Value in Hindi
3. शिमला मिर्च की तासीर क्‍या है – Shimla Mirch ki Taseer Kya Hoti Hai in Hindi
4. शिमला मिर्च के फायदे स्‍वास्‍थ्‍य के लिए – Bell Pepper Health Benefits in Hindi
5. शिमला मिर्च खाने के नुकसान – Shimla Mirch Khane ke Nuksan in Hindi

शिमला मिर्च क्‍या है – Shimla Mirch Kya hai in Hindi

शिमला मिर्च क्‍या है – Shimla Mirch Kya hai in Hindi

पारंपरिक रूप से शिमला मिर्च (Capsicum) का उपयोग एक मसाले के रूप में किया जाता है। शिमला मिर्च से संबंधित सभी प्रकारों में तीखा स्‍वाद होता है। शिमला मिर्च एक सदाबहार पौधा है जो उष्‍णकटिबंधीय जलवायु में बढ़ता है। यह पौधा पीले, हरे, नारंगी और लाल रंग की मिर्च पैदा करते हैं। शिमला मिर्च एक मसाला होने के साथ ही उपभोग करने पर विभिन्‍न स्‍वास्‍थ्‍य लाभ दिला सकती है। विशेष रूप से यह गठिया और कैंसर का इलाज करती है। आइए विस्‍तार से जाने शिमला मिर्च के गुण और स्‍वास्‍थ्‍य लाभ क्‍या हैं।

(और पढ़े – स्वस्थ आहार के प्रकार और फायदे…)

शिमला मिर्च के पोषक तत्‍व – Bell Pepper Nutritional Value in Hindi

शिमला मिर्च का उपयोग भोजन को स्‍वादिष्‍ट बनाने के लिए किया जाता है। लेकिन शिमला मिर्च में औषधीय गुण भी होते हैं। जिसके कारण यह हमारे स्‍वास्‍थ्‍य के लिए भी अच्‍छी होती है। शिमला मिर्च एक फाइटोकेमिकल (phytochemical) युक्‍त मसाला है जो शरीर में गर्मी पैदा करने में मदद करता है। हालांकि वैरायटी के अनुसार शिमला मिर्च में कैप्‍सैसिन (Capsaicin) की अलग-अलग मात्रा हो सकती है। कैप्‍सैसिन की मात्रा के अनुसार ही शिमला मिर्च गर्म या कम तीखे स्‍वाद की होती है। इसके अलावा शिमिला मिर्च में विटामिन ए और सी भी उच्‍च मात्रा में होते हैं। शिमला मिर्च में टैनिन, फ्लेवोनोइड और अल्‍कालॉइड जैसे बायोएक्टिव घटक भी होते हैं। इन सभी पोषक तत्‍वों के कारण ही शिमला मिर्च के फायदे स्‍वास्‍थ्‍य संबंधी समस्‍याओं को दूर करने में मदद करते हैं।

(और पढ़े – कौन से खाद्य पदार्थ विटामिन-ए के अच्छे स्त्रोत होते हैं…)

शिमला मिर्च की तासीर क्‍या है – Shimla Mirch ki Taseer Kya Hoti Hai in Hindi

औषधीय गुणों से भरपूर शिमला मिर्च की तासीर गर्म होती है। शिमला मिर्च की गर्म तासीर इसमें मौजूद सक्रिय घटक कैप्‍सैसिन की मौजूदगी के कारण होती है। गर्म तासीर होने के कारण शिमला मिर्च सर्दी खांसी जैसी समस्‍याओं को दूर करने और प्रतिरक्षा शक्ति को बेहतर बनाने में मदद करती है।

(और पढ़े – सर्दी जुकाम और खांसी के घरेलू उपाय…)

शिमला मिर्च के फायदे स्‍वास्‍थ्‍य के लिए – Bell Pepper Health Benefits in Hindi

शिमला मिर्च के फायदे स्‍वास्‍थ्‍य के लिए – Bell Pepper Health Benefits in Hindi

व्‍यंजनों को स्‍वादिष्‍ट और आकर्षक रंग प्रदान करने वाली शिमला मिर्च स्‍वास्‍थ्‍य के लिए भी प्रभावी होती है। इसमें मौजूद विटामिन A, C, K, कैरोटेनॉइड और फाइबर अच्‍छे स्‍वास्‍थ्‍य के लिए फायदेमंद होते हैं। शिमला मिर्च में विटामिन बी6 और फोलेट भी होते हैं जो होमोसिस्‍टीन (homocysteine) के स्‍तर को कम करने में मदद करते हैं। होमोसिस्‍टीन एक हार्मोन है जो हृदय स्‍वास्‍थ्‍य को नुकसान पहुंचा सकता है। यहां शिमला मिर्च के कुछ स्‍वास्‍थ्‍य लाभ बताए जा रहे हैं। जिन्‍हें जानकर आप भी शिमला मिर्च से फायदा ले सकते हैं।

(और पढ़े – संतुलित आहार के लिए जरूरी तत्व , जिसे अपनाकर आप रोंगों से बच पाएंगे…)

शिमला मिर्च के फायदे कैंसर के लिए – Shimla Mirch Prevent Cancer in Hindi

शिमला मिर्च के फायदे कैंसर के लिए – Shimla Mirch Prevent Cancer in Hindi

शिमला मिर्च में टैनिन की उपस्थिति होती है। टैनिन वह घटक है जो गंभीर ट्यूमर के कारण होने वाले कैंसर को रोकने में मदद कर सकता है। नियमित रूप से शिमला मिर्च का सेवन विशेष रूप से गैस्ट्रिक कैंसर (gastric cancers) के लिए प्रभावी होता है। कुछ अध्‍ययनों से पता चलता है कि शिमला मिर्च का सेवन करना प्रोस्‍टेट कैंसर (prostate cancer) और हार्मोन से संबंधित अन्‍य कैंसर की रोकथाम में भी प्रभावी हो सकता है। हालांकि इसके लिए अभी और भी शोधों की आवश्‍यकता है। लेकिन यदि आप भविष्‍य में कैंसर की संभावना को कम करना चाहते हैं तो शिमला मिर्च को अपने दैनिक आहार में जगह दे सकते हैं।

(और पढ़े – क्या खाने से कैंसर का खतरा कम किया जा सकता है…)

शिमला मिर्च खाने के फायदे आंखों के लिए – Shimla Mirch Good For Eyes in Hindi

शिमला मिर्च खाने के फायदे आंखों के लिए – Shimla Mirch Good For Eyes in Hindi

विटामिन ए की उच्‍च मात्रा होने के कारण शिमला मिर्च खाने के लाभ आंखों के लिए हो सकते हैं। शिमला मिर्च का उपयोग आहार के रूप में करना द्रष्टि और विशेष रूप से रात में देखने की क्षमता को बढ़ाने में मदद कर सकता है। इन मीठी मिर्च में ल्‍यूटिन नामक कैरोटीनॉयड की अच्‍छी मात्रा होती है। जो आंखों के धब्‍बेदार अध: पतन (macular degeneration) की संभावना को कम करने में सहायक होते हैं। यह समस्‍या उम्र बढ़ने के दौरान देखने की क्षमता को कम कर सकती है। इसके अलावा बीटा-कैरोटीन और विटामिन सी की मौजूदगी मोतियाबिंद (cataracts) को होने से भी रोक सकती है। यदि आप भी अपनी आंखों को स्‍वस्‍थ रखना चाहते हैं तो शिमला मिर्च का इस्‍तेमाल कर सकते हैं।

(और पढ़े – आँखों को स्वस्थ रखने के लिए 10 सबसे अच्छे खाद्य पदार्थ…)

शिमला मिर्च के लाभ हृदय के लिए – Shimla Mirch Ke Labh Hirday ke liye in Hindi

शिमला मिर्च के लाभ हृदय के लिए – Shimla Mirch Ke Labh Hirday ke liye in Hindi

गर्म तासीर होने के कारण शिमला मिर्च में वार्मिंग गुण होते हैं। जिसके कारण यह हाइपोटेंशन (hypotension) और असामान्‍य हृदय गति को कम करने में सहायक होती है। आहार के रूप में इस औषधीय मसाले का सेवन करने पर इसका शरीर पर वासोडिलेटिव प्रभाव होता है। जो शरीर में रक्‍तचाप और रक्‍त परिसंचरण दोनों को संतुलित कर सकता है। उचित रक्‍त प्रवाह होने के कारण आप हृदय संबंधी समस्‍याओं से बच सकते हैं। हेल्‍दी हार्ट के लिए मसाले के रूप में शिमला मिर्च का प्रयोग करना आपके लिए फायदेमंद हो सकता है।

(और पढ़े – दिल को स्‍वस्‍थ रखने के लिए सर्वश्रेष्‍ठ आहार…)

शिमला मिर्च खाने के लाभ वजन कम करे – Shimal Mirch Benefits for Weight Loss in Hindi

शिमला मिर्च खाने के लाभ वजन कम करे – Shimal Mirch Benefits for Weight Loss in Hindi

क्‍या आप अपने वजन को नियंत्रित करने का प्रयास कर रहे हैं। मोटापा घटाने वाले अन्‍य प्रयासों के साथ शिमला मिर्च का सेवन आपको फायदा दिला सकता है। शिमला मिर्च भूख में सुधार करने और ट्राइग्लिसराइड (triglyceride) के स्‍तर को नियंत्रित करने में प्रभावी योगदान देता है। इसके अलावा नियमित उपभोग करने के दौरान यह शरीर में खराब कोलेस्‍ट्रॉल को भी कम कर सकता है जो मोटापे के प्रमुख कारणों में से एक है। शिमला मिर्च में मौजूद पोषक तत्‍व और खनिज पदार्थ चयापचय को बढ़ाने और प्रतिरक्षा तंत्र को मजबूत बनाते हैं। जिससे मोटापे के लक्षणों को कम करने में आपको मदद मिल सकती है।

(और पढ़े – वजन और मोटापा कम करने के लिए क्या खाएं क्या न खाए…)

शिमला मिर्च का इस्‍तेमाल पीली बुखार के लिए – Shimla Mirch Cures Yellow Fever in Hindi

शिमला मिर्च का इस्‍तेमाल पीली बुखार के लिए – Shimla Mirch Cures Yellow Fever in Hindi

शिमला मिर्च में एनाल्‍जेसिक (analgesic) गुण होते हैं। जिसके कारण यह गले की समस्‍याओं को कम करने और प्रतिरोधक क्षमता को बेहतर बनाने में सहायक मानी जाती है। पीली बुखार होने का प्रमुख कारण प्रतिरक्षा शक्ति का कमजोर होना है। लेकिन इन लक्षणों को कम करने के लिए आप शिमला मिर्च के सूप का सेवन कर सकते हें। शिमिला मिर्च की गर्म तासीर प्रतिरक्षा शक्ति बढ़ाने और यलो फीवर का इलाज करने में आपकी मदद कर सकती है।

(और पढ़े – पीतज्वर या पीला बुखार क्या है, लक्षण, कारण, जांच, इलाज, बचाव और आहार…)

शिमला मिर्ची के फायदे मधुमेह के लिए – Shimla Mirch for Diabetes in Hindi

शिमला मिर्ची के फायदे मधुमेह के लिए – Shimla Mirch for Diabetes in Hindi

अध्‍ययनों से पता चलता है कि शिमला मिर्च शरीर में रक्‍त शर्करा के स्‍तर को कम करने में सहायक हो सकती है। क्‍योंकि नियमित सेवन करने पर इसके औषधीय गुण शरीर में इंसुलिन उत्पादन को बढ़ा सकते हैं। जिससे टाइप 2 डायबिटीज को रोकने में मदद मिल सकती है। मधुमेह रोगी को विशेष रूप से हरी शिमला मिर्च का सेवन कर सकते हैं क्‍योंकि इसमें हाइपोग्‍लासेमिक (hypoglycemic) गुण उच्‍च मात्रा में होते हैं।

(और पढ़े – मधुमेह को कम करने वाले आहार…)

शिमला मिर्च के गुण पेट की समस्‍या दूर करे – Capsicum relieve stomach problem in Hindi

शिमला मिर्च के गुण पेट की समस्‍या दूर करे - Capsicum relieve stomach problem in Hindi

पेट या जठरांत्र (gastrointestinal) संबंधी समस्‍याओं को दूर करने में शिमला मिर्च लाभकारी होती है। शिमला मिर्च में मौजूद टैनिन (tannins) पेट की सूजन और अन्‍य गैस्‍ट्रोइंटेस्‍टानल समस्‍याओं जैसे पेचिश, दस्‍त आदि समस्‍याओं को दूर करने में सहायक है। यह गैस्ट्रिक बलगम (gastric mucus) के उत्‍पादन में भी सहायक होता है। जिससे पेप्टिक अल्‍सर (peptic ulcers) की संभावना कम हो जाती है। इस तरह से यदि आप अपने पेट को स्‍वस्‍थ रखना चाहते हैं तो शिमला मिर्च के औषधीय गुणों का उपयोग कर सकते हैं।

(और पढ़े – पाचन शक्ति बढ़ाने के घरेलू उपाय…)

शिमला मिर्च का फायदा रजोनिवृत्ति में – Benefits of Bell Pepper in menopause in Hindi

शिमला मिर्च का फायदा रजोनिवृत्ति में - Benefits of Bell Pepper in menopause in Hindi

रजोनिवृत्ति के लक्षणों को कम करने में शिमला मिर्च प्रभावी हो सकती है। क्‍योंकि शिमला मिर्च में फ्लेवोनोइड की अच्‍छी मात्रा होती है। ये फ्लेवोनोइड महिलाओं में रोजोनिवृत्ति से संबंधित लक्षणों को कम करने में अहम योगदान दे सकते हैं। जो महिलाएं रजोनिवृत्ति से गुजर रही हैं उनके लिए शिमला मिर्च एक अच्‍छा घरेलू उपाय हो सकता है। जो रजोनिवृत्ति के लक्षणों को कम करने में मदद कर सकता है।

(और पढ़े – मेनोपॉज में क्या खाना चाहिए और क्या नहीं…)

शिमला मिर्च बेनिफिट्स फॉर स्किन – Shimla Mirch Benefits for Skin in Hindi

शिमला मिर्च बेनिफिट्स फॉर स्किन – Shimla Mirch Benefits for Skin in Hindi

ग्‍लोइंग स्किन पाने का प्राकृतिक तरीका शिमला मिर्च का उपयोग करना हो सकता है। शिमला मिर्च में एंटी-एजिंग गुण होते हैं। इसके अलावा इसमें मौजूद विटामिन ए और विटामिन सी भी त्वचा संबंधी समस्‍याओं को दूर करने में सहायक होते हैं। शिमला मिर्च में मौजूद एंटीऑक्‍सीडेंट त्‍वचा कोशिकाओं को नुकसान पहुंचाने वाले फ्री रेडिकल्‍स की रोकथाम करने में प्रभावी होते हैं। आप अपनी त्‍वचा के स्‍वास्‍थ्‍य को बेहतर बनाने और ग्लोइंग स्किन पाने के लिए शिमला मिर्च को आहार के रूप में शामिल कर लाभ प्राप्‍त कर सकते हैं।

(और पढ़े – चमकती खूबसूरत त्वचा के लिए आहार…)

शिमला मिर्च के फायदे बालों के लिए – Bell Pepper Benefits for Hair in Hindi

शिमला मिर्च के फायदे बालों के लिए – Bell Pepper Benefits for Hair in Hindi

स्‍वस्‍थ, काले, लंबे और घने बाल पाना सभी की इच्‍छा होती है। लेकिन खराब जीवनशैली और उचित पोषक तत्‍वों की कमी के कारण अक्‍सर बालों संबंधी विभिन्‍न समस्‍याओं का सामना करना पड़ता है। लेकिन नियमित रूप से शिमला मिर्च को अपने आहार में शामिल कर आप इन समस्‍याओं को दूर कर सकते हैं। शिमला मिर्च में मौजूद पोषक तत्‍व और खनिज पदार्थ बालों को पतला होने, दो मुंहे बाल (split ends) बालों का झड़ना और रूसी जैसी समस्‍याओं का उपचार कर सकता है। शिमला मिर्च का सेवन करने से स्‍कैल्‍प में रक्‍त परिसंचरण को बढ़ावा मिलता है। जिससे बालों को वृद्धि करने में मदद मिल सकती है।

(और पढ़े – स्वस्थ बालों के लिए क्या खाना चाहिए…)

शिमला मिर्च के औषधीय गुण गठिया के लिए – Shimla Mirch For Arthritis in Hindi

शिमला मिर्च के औषधीय गुण गठिया के लिए – Shimla Mirch For Arthritis in Hindi

ऐसा माना जाता है कि शिमला मिर्च का सेवन आपको गठिया के दर्द से राहत दिला सकता है। क्‍योंकि शिमला मिर्च में एंटी-इंफ्लामेटरी गुण होते हैं। जिसके कारण यह गठिया के दर्द और सूजन दोनों को कम करने में प्रभावी हो सकती है। इसके अलावा शिमला मिर्च में मौजूद फाइटोकेमिकल्‍स भी गठिया के दौरान ऊतकों में होने वाले दर्द को नियंत्रित करने में मदद करते हैं। यदि आप भी गठिया रोगी हैं तो जोड़ों के दर्द से बचने के लिए उपचार के रूप में शिमला मिर्च का सेवन कर सकते हैं।

(और पढ़े – गठिया (आर्थराइटिस) कारण लक्षण और वचाब…)

शिमला मिर्च खाने के नुकसान – Shimla Mirch Khane ke Nuksan in Hindi

शिमला मिर्च खाने के नुकसान – Shimla Mirch Khane ke Nuksan in Hindi

शिमला मिर्च का सेवन करना स्‍वास्‍थ्‍य के लिए फायदेमंद होता है। लेकिन अधिक मात्रा का सेवन करना हानिकारक हो सकता है। हालांकि शिमला मिर्च के उपयोग से कोई गंभीर दुष्‍प्रभाव या नुकसान नहीं होते हैं। फिर भी इसे कम मात्रा में ही सेवन करना चाहिए।

  • यदि आप किसी स्‍वास्‍थ्‍य समस्‍या के लिए शिमला मिर्च का सेवन कर रहे हैं तो अपने चिकित्‍सक की अनुमति के बिना इसका सेवन न करें।
  • छोटे बच्‍चों, गर्भवती और स्‍तनपान कराने वाली महिलाओं को बहुत ही कम मात्रा में शिमला मिर्च का सेवन करना चाहिए।
  • अधिक मात्रा में शिमला मिर्च का सेवन करने पर दस्‍त, पेट की खराबी, एसिडिटी जैसी समस्‍याएं हो सकती हैं।

(और पढ़े – एसिडिटी के कारण, लक्षण और बचाव के घरेलू उपाय…)

इसी तरह की अन्य जानकरी हिन्दी में पढ़ने के लिए हमारे एंड्रॉएड ऐप को डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं। और आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।

आपको ये भी जानना चाहिये –

Leave a Comment

Subscribe for daily wellness inspiration