सेलेरी के फायदे और नुकसान – Celery Benefits And Side Effects In Hindi

सेलेरी के फायदे और नुकसान - Celery Benefits And Side Effects In Hindi
Written by Jaideep

Celery In Hindi सेलेरी एक खाद्य पदार्थ है जिसका औषधीय उपयोग किया जाता है। क्‍या आप सेलेरी के फायदे, औषधीय गुण, उपयोग और नुकसान से परिचित हैं। यदि नहीं तो कोई बात नहीं यह आर्टिकल आपको सेलेरी के फायदे और नुकसान जानने में मदद करेगा। सेलेरी के फायदे कोलेस्‍ट्रॉल के स्‍तर को कम करने, गठिया के दर्द को रोकने, वजन घटाने, रक्‍त चाप नियंत्रित करने, शरीर से विषाक्‍त पदार्थों को बाहर करने आदि में अहम योगदान देते हैं। आज इस आर्टिकल में आप सेलेरी क्‍या है, सेलेरी के पोषक तत्‍व और सेलेरी के फायदे जैसी जानकारीयां प्राप्‍त करेगें। आइए विस्‍तार से जानते हैं सेलेरी के फायदे और नुकसान क्‍या हैं।

1. सेलेरी क्‍या है – Celery Kya Hai in Hindi
2. सेलेरी का वनस्‍पतिक नाम क्‍या है – Celery Ka Botanical name Kya hai in Hindi
3. सेलेरी की तासीर क्‍या है – Celery Ki Taseer Kya Hai in Hindi
4. सेलेरी के पोषक तत्‍व – Celery Ke Poshak Tatva in Hindi
5. सेलेरी के फायदे – Celery Ke Fayde In Hindi

6. सेलेरी के नुकसान – Celery ke Nuksan in Hindi

सेलेरी क्‍या है – Celery Kya Hai in Hindi

सेलेरी क्‍या है – Celery Kya Hai in Hindi

सेलेरी अपियासी (Apiaceae) परिवार का पौधा है जिसका सेवन खाद्य सब्‍जी के रूप में किया जाता है। सेले‍री दुनियाभर में लोकप्रिय है, इसकी उत्‍पत्ति भूमध्‍यसागरीय और उत्‍तरी अफ्रीकी क्षेत्रों होने की संभावना अधिक है। विशेष रूप से सेलेरी का उपयोग आहार के रूप में सूप और सलाद के साथ कम-कैलोरी स्नैक्स के रूप में किया जाता है। हालांकि सेलेरी का उपयोग इसमें मौजूद पोषक तत्‍वों, खनिज पदार्थ और सक्रिय घटकों के कारण किया जाता है। सेलेरी को उपभोग करने से आप विभिन्‍न प्रकार की स्‍वास्‍थ्‍य समस्‍याओं से बच सकते हैं।

(और पढ़े – सलाद खाने के फायदे, नुकसान, समय और तरीका…)

सेलेरी का वनस्‍पतिक नाम क्‍या है – Celery Ka Botanical name Kya hai in Hindi

यह एक खाद्य सब्जी है जिसे बहुत से लागों द्वारा पसंद किया जाता है। सेलेरी का वन‍स्‍पतिक नाम अपियम कब्रें (Apium graveolens) है। यह एक प्रकार का पौधा है जिसकी पत्तियों को उपभोग के लिए उपयोग किया जाता है। यह विशेष रूप से दलदली जमीन पर होता है। सेलेरी के पत्‍ते लंबे और डंठल रेशेदार होते हैं। सेलेरी की पत्तियों का व्‍यवसायिक उत्‍पादन विशेष रूप से आहार के लिए किया जाता है। सेलेरी के बीज का इस्‍तेमाल मसाले के रूप में किया जाता है।

सेलेरी की तासीर क्‍या है – Celery Ki Taseer Kya Hai in Hindi

औषधीय गुणों के कारण ही सेलेरी को आहार के रूप में उपभोग किया जाता है। आप अपने शरीर की रोगप्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने और स्‍वास्‍थ्‍य समस्‍याओं को दूर करने के लिए सेलेरी का इस्‍तेमाल कर सकते हैं। अक्‍सर यह प्रश्‍न सभी के मन में उठता है कि सेलेरी की तासीर क्‍या है। स्‍वास्‍थ्‍य के लिए फायदे सेलेरी की गर्म तासीर के कारण होते हैं।

सेलेरी के पोषक तत्‍व – Celery Ke Poshak Tatva in Hindi

सेलेरी के पोषक तत्‍व – Celery Ke Poshak Tatva in Hindi

पोषक तत्‍वों और खनिज पदार्थों की पर्याप्‍त मात्रा होने के कारण ही सेलेरी को आहार के रूप में उपयोग किया जाता है। अध्‍ययनों से पता चलता है कि सेलेरी में कैल्शियम, सोडियम, कॉपर, मैग्नीशियम, आयरन, जस्‍ता और पोटेशियम जैसे खनिज पदार्थ अच्‍छी मात्रा में होते हैं। इसके अलावा सेलेरी में विटामिन A, K, C E, D और विटामिन B जिसमें थियामिन, राइबोफलेविन, फोलिक एसिड, विटामिन बी 6 और विटामिन बी12 भी शामिल हैं। इसके अलावा सेलेरी में फैटी एसिड और फाइबर भी होते हैं जो हमारे अच्‍छे स्‍वास्‍थ्‍य के लिए आवश्‍यक होते हैं।

(और पढ़े – स्वस्थ आहार के प्रकार और फायदे…)

सेलेरी के फायदे – Celery Ke Fayde In Hindi

सेलेरी का उपभोग स्‍वास्‍थ्‍य के लिए कई प्रकार से फायदेमंद होता है। सेलेरी में अविश्वसनीय रूप से कैलोरी बहुत ही कम होती है। जिसके कारण बहुत से लोग इस कैलोरी रहित आहार भी कहते हैं। इसमें विटामिन और खनिज पदार्थ प्रमुख रूप से होते हैं जो सूजन, और हृदय संबंधी समस्‍याओं को प्रभावी रूप से कम कर सकते हैं। सेलेरी पर बहुत से अध्‍ययन किये गए हैं जिनके परिणाम आश्‍चर्यजनक हैं। सेलेरी को नियमित आहार में शामिल करना स्‍मृति हानि, ब्रेस्‍ट कैंसर और ट्यूमर, अग्नाशय कैंसर आदि की संभावना को कम कर सकता है। इसके अलावा सेलेरी का सेवन पाचन संबंधी समस्‍याओं को दूर करने में सहायक होता है। आइए विस्‍तार से जाने स्‍वास्‍थ्‍य के लिए सेलेरी के फायदे क्‍या हैं।

सेलेरी के लाभ मधुमेह के लिए – Celery Ke Labh Madhumeh Ke Liye in Hindi

सेलेरी के लाभ मधुमेह के लिए – Celery Ke Labh Madhumeh Ke Liye in Hindi

मधुमेह रोगियों के लिए सेलेरी का सेवन करना बहुत ही फायदेमंद होता है। क्‍योंकि सेलेरी में मौजूद पोषक तत्‍व मधुमेह के लक्षणों को कम करने में प्रभावी होते हैं। ऐसा अनुमान लगाया जाता है कि आने वाले समय में मधुमेह रोगियों की संख्‍या में और अधिक तेजी से वृद्धि हो सकती है। लेकिन यदि मधुमेह रोगी या सामान्‍य व्‍यक्ति नियमित रूप से सेलेरी का सेवन करते हैं तो मधुमेह की संभावना और लक्षणों को कम किया जा सकता है। ऐसा इसलिए है क्‍योंकि सेलेरी में एंटीडायबिटिक गुण होते हैं जो विटामिन K की मौजूदगी के कारण है। यह विटामिन सूजन को कम करता है जिससे इंसुलिन संवेदनशीलता बढ़ती है और ग्‍लूकोज चयापचय में सुधार होता है। एक अध्‍ययन के अनुसार नियमित रूप से विटामिन K का सेवन करने से मधुमेह प्रकार 2 होने की संभावना खत्‍म हो जाती है।

(और पढ़े – मधुमेह को कम करने वाले आहार…)

सेलेरी खाने के फायदे सेक्‍स ड्राइव बढ़ाये – Celery Khane Ke Fayde Sex Life Badhaye in Hindi

सेलेरी खाने के फायदे सेक्‍स ड्राइव बढ़ाये – Celery Khane Ke Fayde Sex Life Badhaye in Hindi

जिन लोगों को यौन कमजोरी होती है उनके लिए सेलेरी खाना बहुत ही लाभदायक होता है। यह स्‍वादिष्‍ट सब्‍जी सेक्‍स जीवन को बढ़ाने में सहायक होती है। क्‍योंकि सेलेरी के पत्‍तों में एंड्रोस्‍टोन और एंड्रोस्‍टेनोल (androstenone and androstenol) होते हैं जो मुख्‍य रूप से गंध अणु होते हैं। ये अणु आपके गले के पीछे जाते हैं जिससे आपकी उत्‍तेजना बढ़ जाती है। इसके अलावा सेलेरी का अर्क पुरुषों में यौन प्रदर्शन को बढ़ाने में सहायक होता है। नियमित रूप से सेवन करने पर यह शुक्रणुओं की संख्‍या और उनकी गुणवत्‍ता को बढ़ाने में मदद करता है। यह पुरुषों में टेस्‍टोस्‍टेरोन (testosterone) के स्‍तर को भी बढ़ा सकता है।

(और पढ़े – नेचुरल तरीके से सेक्स पावर बढ़ाने के तरीके…)

सेलेरी का उपयोग स्‍वस्‍थ पाचन के लिए – Celery Ka Upyog Swasth Pachan ke liye in Hindi

सेलेरी का उपयोग स्‍वस्‍थ पाचन के लिए – Celery Ka Upyog Swasth Pachan ke liye in Hindi

पाचन संबंधी समस्‍याओं के लिए सेलेरी बहुत ही लाभकारी होती है। क्‍योंकि सेलेरी में प्राकृतिक फाइबर होते हैं जिसके कारण आहार के रूप से सेवन करने पर यह पाचन तंत्र को स्‍वस्‍थ रखने में सहायक होता है। सेलेरी में मौजूद अघुलनशील फाइबर बड़ी आंत में बैक्‍टीरिया द्वारा किण्वित होता है। यह किण्विन प्रक्रिया शॉर्ट-चेन फैटी एसिड का उत्‍पादन करती है। जिनमें से एक ब्‍यूटारेयट (butyrate) है जो गैस्‍ट्रोइंटेस्‍टाइनल स्‍वास्‍थ्‍य को बढ़ावा देता है। इसके अलावा ये अघुलनशील फाइबर मल को आसानी से पारित करने में भी मदद करते हैं। इस तरह से सेलेरी का उपयोग स्‍वस्‍थ पाचन के लिए किया जा सकता है।

(और पढ़े – पाचन शक्ति बढ़ाने के घरेलू उपाय…)

सेलेरी बेनिफिट्स फॉर वेट लॉस – Celery Benefits For Weight Loss in Hindi

सेलेरी बेनिफिट्स फॉर वेट लॉस – Celery Benefits For Weight Loss in Hindi

यदि आप अपना वजन कम करना चाहते हैं तो सेलेरी को अपने आहार में शामिल करें। क्‍योंकि सेलेरी के फायदे वजन कम करने में सहायक होते हैं। सेलेरी उन कुछ आदर्श खाद्य पदार्थों में से एक है जिनका सेवन आप स्‍वस्‍थ वजन प्राप्‍त करने या अपने अधिक वजन को कम करने के लिए कर सकते हैं। ऐसा इसलिए है क्‍योंकि इसमें कैलोरी बहुत ही कम मात्रा में होती है साथ ही यह फाइबर में भी उच्‍च होता है। फाइबर की मौजूदगी आपको भोजन करने के बाद लंबे समय तक पूर्णता का अनुभव कराते हैं। जिससे आपको बार-बार भोजन करने या भूख लगने की समस्‍या को रोका जा सकता है। बार बार भोजन करना भी आपके मोटापे के प्रमुख कारणों में से एक है। इस तरह से वजन कम करने की इच्‍छा रखने वाले लोगों के लिए सेलेरी एक अच्‍छा खाद्य पदार्थ है।

(और पढ़े – वजन घटाने वाले उच्च फाइबर खाद्य पदार्थ…)

सेलेरी का इस्‍तेमाल उच्‍च रक्‍तचाप के लिए – Celery Reduces Blood Pressure in Hindi

सेलेरी का इस्‍तेमाल उच्‍च रक्‍तचाप के लिए - Celery Reduces Blood Pressure in Hindi

यह कोई आश्‍यर्चय की बात नहीं है कि सेलेरी के फायदे आपके उच्‍च रक्‍तचाप को कम करने में सहायक होते हैं। उच्‍च रक्‍तचाप आपके लिए बहुत सी गंभीर समस्‍याओं का कारण बन सकता है। लेकिन आपको चिंता करने की आवश्‍यकता नहीं है क्‍योंकि सेलेरी का इस्‍तेमाल उच्‍च रक्‍तचाप को नियंत्रित करने में प्रभावी होता हैं। सेलेरी में फ़ेथलाइड (phthalides) नामक एक फाइटोकेमिकल पाया जाता है जो धमनी की दीवारों को आराम देता है और रक्‍त प्रवाह को बढ़ाता है। जिससे आपके उच्‍च रक्‍तचाप को कम करने में मदद मिलती है। एक अध्‍ययन के अनुसार सेलेरी में एंटीहाइपरटेंसिव गुणों का भी पता चला है। सेलेरी में नाइट्रेट भी अच्‍छी मात्रा में होता है इस वजह से सेलेरी के अर्क का सेवन करने से यह रक्‍तचाप के स्‍तर को कम करता है। यदि आप भी उच्‍च रक्‍तचाप रोगी हैं तो सेलेरी को अपने आहार में शामिल कर सकते हैं।

(और पढ़े – उच्च रक्तचाप के लिए घरेलू उपचार…)

सेलेरी के गुण कॉलेस्‍ट्रॉल कम करे – Celery Ke gun Cholesterol Kam kare in Hindi

सेलेरी के गुण कॉलेस्‍ट्रॉल कम करे – Celery Ke gun Cholesterol Kam kare in Hindi

यदि आप कॉलेस्‍ट्रॉल कम करने वाले आहार खोज रहे हैं तो सेलेरी आपकी मदद कर सकता है। क्‍योंकि सेलेरी के गुण कॉलेस्‍ट्रॉल कम करने में सहायक होते हैं। सेलेरी में फाइबर की अच्‍छी मात्रा होती है साथ ही इसमें कैलोरी बहुत ही कम होती है। अध्‍ययनों से पता चलता है कि सेलेरी में मौजूद फाइटोकेमिकल फ़ेथलाइड (phthalides) कॉलेस्‍ट्रॉल के स्‍तर को 7 प्रतिशत तक कम कर सकता है। इस तरह से आप अपने स्‍वास्‍थ्‍य को बनाए रखने और कॉलेस्‍ट्रॉल के स्‍तर को कम करने के लिए सेलेरी का नियमित सेवन कर सकते हैं।

(और पढ़े – कोलेस्ट्रॉल कम करने के लिए भारतीय घरेलू उपाय और तरीके…)

सैलरी के फायदे यूरिनरी ट्रैक्‍ट संक्रमण रोके – Celery Ke Fayde Urinary tract infection Roke in Hindi

सैलरी के फायदे यूरिनरी ट्रैक्‍ट संक्रमण रोके – Celery Ke Fayde Urinary tract infection Roke in Hindi

सेलेरी के पत्‍तों और बीजों में यूरिक एसिड को खत्‍म करने वाले गुण होते हैं। इसलिए ही सेलेरी को मूत्रवर्धक औषधी के रूप में भी उपयोग किया जाता है। इसका मतलब यह है कि यह पेशाब को उत्‍तेजित करता है। इसलिए सेलेरी का सेवन करने पर यह मूत्राशय के विकार, गुर्दे की समस्‍याएं, सिस्टिटिस (cystitis) और अन्‍य समान स्थितियों वाले लोगों के लिए लाभकारी होता है। विशेष रूप से सेलेरी महिलाओं में होने वाले मूत्र संबंधी संक्रमण को रोकने में प्रभावी होता है। सेलेरी आहार में लेने पर यह पुरुषों में भी मूत्र संबंधी समस्‍याओं को कम कर सकता है।

(और पढ़े – यूरिनरी ट्रैक्ट इंफेक्शन (यूटीआई) के लिए घरेलू उपचार…)

सैलरी के पत्‍ते गठिया का इलाज करे – Celery ke patte gathiya ka ilaj kare in Hindi

सैलरी के पत्‍ते गठिया का इलाज करे – Celery ke patte gathiya ka ilaj kare in Hindi

गठिया का दर्द बहुत ही असहनीय और कष्‍टदायक होता है। लेकिन यदि आप भी गठिया के दर्द से छुटकारा चाहते हैं तो सेलेरी आपके लिए एक बेहतर विकल्‍प हो सकता है। ऐसा इसलिए है क्‍योंकि सेलेरी में एंटी-इंफ्लामेटरी गुण होते हैं जो जोड़ों के आस-पास की सूजन और दर्द दोनों को कम करने में सहायक होते हैं। सेलेरी का अर्क जिसमें 85% 3-एन-ब्‍यूटाइलफथलाइड (3-n-butylphthalide) होता है यह गठिया और मांसपेशियों के दर्द से राहत दिलाता है। इसके अलावा डंठल सहित सेलेरी का सेवन करने से यह मूत्र वर्धक का भी काम करता है। सेलेरी का स‍ेवन करने से यूरिक एसिउ क्रिस्‍टल को टहाने में मदद मिलती है जो शरीर के जोड़ों के आस-पास सूजन और दर्द का प्रमुख कारण होता है। इस तरह से आप गठिया के लक्षणों को दूर करने के लिए औषधी के रूप में सेलेरी का सेवन कर सकते हैं।

(और पढ़े – गठिया (आर्थराइटिस) कारण लक्षण और वचाब…)

सेलेरी के लाभ कैंसर का उपचार करे – Celery Benefits for Cancer treatment in Hindi

सेलेरी के लाभ कैंसर का उपचार करे – Celery Benefits for Cancer treatment in Hindi

हम सभी जानते हैं कि कैंसर एक गंभीर स्‍वास्‍थ्‍य समस्‍या है। जिसका शायद अभी तक सफल इलाज ज्ञात नहीं किया जा सका है। लेकिन फिर आप कुछ प्राकृतिक उत्‍पादों का सेवन कर कैंसर के लक्षणों को कुछ हद तक कम कर सकते हैं। सेलेरी के लाभ भी कैंसर का उपचार करने में सहायक होते हैं। ऐसा इसलिए है क्‍योंकि इसमें फे‍थलिड्स जैसे फ्लेवोनोइड्स जैसे ल्‍यूटोलिन और पॉलीसैटेलेन (luteolin, and polyacetylenes) होते हैं। एक अध्‍ययन के अनुसार ल्‍यूटोलिन में कैंसर से लड़ने वाले गुण होते हैं। इसके अलावा सेलेरी शरीर में श्‍वेत रक्‍त कणिकाओं की संख्‍या और गतिविधियों को बढ़ाने में भी सहायक होता है। जिससे कैंसर के लक्षणों को कम करने में मदद मिलती है।

(और पढ़े – महिलाओं में कैंसर के लक्षण…)

सैलेरी का प्रयोग प्रतिरक्षा शक्ति बढ़ाए – Celery Ka Prayog Pratiraksha Shakti Badhaye in Hindi

सैलेरी का प्रयोग प्रतिरक्षा शक्ति बढ़ाए – Celery Ka Prayog Pratiraksha Shakti Badhaye in Hindi

सैलेरी एक ऐसा खाद्य पदार्थ है जो विटामिन सी और एंटीऑक्‍सीडेंट से भरपूर होता है। इस वजह से ही सेलेरी प्रतिरक्षा प्रणाली को उत्‍तेजित करने और रोग प्रतिरक्षा को बढ़ाने में हमारी मदद करता है। आप अपनी इम्‍यूनिटी पावर को बढ़ाने के लिए विटामिन सी से भरपूर सेलेरी को अपने नियमित आहार में शामिल कर सकते हैं। जिससे आप मौसमी बीमारियों जैसे सर्दी, खांसी और बुखार आदि को बार-बार आने से रोक सकते हैं।

(और पढ़े – रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के उपाय…)

सैलेरी अस्‍थमा के लक्षणों को कम करे – Celery Benefits for Asthma in Hindi

सैलेरी अस्‍थमा के लक्षणों को कम करे – Celery Benefits for Asthma in Hindi

जो लोग अस्‍थमा जैसी श्वसन समस्‍याओं से परेशान हैं उन्‍हें सेलेरी का सेवन करना चाहिए। क्‍योंकि सेलेरी में मौजूद विटामिन सी शरीर और श्वसन तंत्र को फ्री रेडिकल्‍स के प्रभाव से बचाते हैं। सेलेरी में मौजूद एंटी-इंफ्लामेटरी गुण अस्‍थमा जैसी गंभीर श्वसन समस्‍यओं को प्रभावी रूप से नियंत्रित करने में सहायक होते हैं। इसलिए अस्‍थमा रोगी को नियमित रूप से सेलेरी को अपने आहार में शामिल करना चाहिए।

(और पढ़े – अस्थमा (दमा) के कारण, लक्षण, उपचार एवं बचाव…)

सेलेरी के लाभ हृदय स्‍वास्‍थ्‍य के लिए – Celery Benefits for Cardiovascular Health in Hindi

सेलेरी के लाभ हृदय स्‍वास्‍थ्‍य के लिए – Celery Benefits for Cardiovascular Health in Hindi

हृदय रोगियों के लिए सेलेरी का सेवन करना लाभप्रद होता है। एक अध्‍ययन के अनुसार सेलेरी की पत्ती के अर्क का नियमित सेवन करने से कॉलेस्‍ट्रॉल, ट्राइग्लिसराइड्स और एलडीएल जैसे हृदय मापदंडों में सुधार करता है। इसके अलावा सेलेरी में पोटेशियम की भी अच्‍छी मात्रा होती है जो हमारी रक्‍त वाहिकाओं को स्‍वस्‍थ रखने में सहायक होता है। इस तरह से आप भी सेलेरी को अपने नियमित आहार में शामिल कर हृदय को स्‍वस्‍थ रख सकते हैं।

(और पढ़े – दिल मजबूत करने के उपाय…)

सेलेरी के फायदे संक्रमण से बचाएं – Celery ke Fayde Infection se bachaye in Hindi

सेलेरी के फायदे संक्रमण से बचाएं – Celery ke Fayde Infection se bachaye in Hindi

2012 में किए गए एक टेस्‍ट ट्यूब अध्‍ययन के अनुसार सेलेरी का उपयोग फंगल संक्रमण के इलाज में प्रभावी पाया गया। अध्‍ययन में विभिन्‍न प्रकार के संक्रामक कवक के विरूध सेलेरी के तेल का परीक्षण किया गया। जिससे प्राप्त परिणाम संक्रमण का इलाज करने में सक्षम पाए गए। इस तरह से सेलेरी का उपयोग कर आप विभिन्‍न प्रकार के संक्रमणों का इलाज कर सकते हैं।

(और पढ़े – फंगल इन्फेक्शन क्या है, कारण, लक्षण, इलाज और घरेलू उपचार…)

सेलेरी फायदेमंद है आंखों के लिए – Celery Faydemand hai Aankho ke liye in Hindi

सेलेरी फायदेमंद है आंखों के लिए – Celery Faydemand hai Aankho ke liye in Hindi

विटामिन ए की उच्‍च मात्रा सेलेरी में मौजूद होती है। विटामिन ए आंखों को स्‍वस्‍थ रखने के लिए बहुत ही आवश्‍यक घटक है। इसलिए आप विटामिन ए की कमी को पूरा करने के लिए सेलेरी को अपने नियमित आहार में शामिल कर सकते हैं।

(और पढ़े – आँखों को स्वस्थ रखने के लिए 10 सबसे अच्छे खाद्य पदार्थ…)

सेलेरी के नुकसान – Celery ke Nuksan in Hindi

सेलेरी के नुकसान – Celery ke Nuksan in Hindi

स्‍वास्‍थ्‍य के लिए सेलेरी के बहुत से फायदे होते हैं। हालांकि हर खाद्य पदार्थ की तरह ही कुछ विशेष परिस्थितियों में सेलेरी का सेवन करने के नुकसान भी हो सकते हैं।

  • अधिक मात्रा में सेलेरी का सेवन करने पर बहुत से लोगों को एलर्जी का सामना करना पड़ सकता है। क्‍योंकि बहुत से लोग सेलेरी और इस परिवार से संबंधित खाद्य पदार्थों के प्रति संवेदनशील होते हैं।
  • यदि आपको मोगोर्ट या बर्च पराग से एलर्जी है तो आपको सेलेरी का सेवन करने से बचना चाहिए। यह इन लक्षणों को और अधिक बढ़ा सकता है।
  • अधिक मात्रा में सेवन करने पर सेलेरी के नुकसान के रूप में त्‍वचा में चकते, लाल निशान और खुजली आदि हो सकती है।
  • कुछ लोगों को सैलेरी का सेवन करने से पेट में जलन, पेट में दर्द, चक्‍कर आना, उल्‍टी और मतली जैसी समस्‍याएं भी हो सकती हैं।
  • गर्भवती और स्‍तनपान कराने वाली महिलाओं को सेलेरी का सेवन करने से बचना चाहिए। क्‍योंकि यह महिलाओं में रक्‍तस्राव और गर्भाशय के संकुचन का कारण बन सकता है। जिससे गर्भपात की संभावना बढ़ जाती है। इसलिए गर्भवती महिलाओं को अधिक मात्रा में सेलेरी का सेवन करने से बचना चाहिए।

(और पढ़े – चक्कर आने के कारण, लक्षण, निदान और इलाज…)

इसी तरह की अन्य जानकरी हिन्दी में पढ़ने के लिए हमारे एंड्रॉएड ऐप को डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं। और आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।

Leave a Comment

Subscribe for daily wellness inspiration