जानिए 1 साल के बच्चे को क्या खिलाएं – Indian Baby Food Chart After 1 Year In Hindi

जानिए 1 साल के बच्चे को क्या खिलाएं - Indian Baby Food Chart After 1 Year In Hindi
Written by Deepti

1 year baby diet chart in hindi क्या आपका बच्चा 12 महीने का होने वाला है। अगर हां, तो अब आपको अपने एक साल के बच्चे के खाने को लेकर चिंता जरूर हो रही होगी। ऐसा हर मां के साथ होता है जब उनका बच्चा एक साल का हो जाता है। क्योंकि यहां से बच्चे को ठोस आहार देने की शुरूआत होती है। इस दौरान बच्चों में नए और ठोस खाद्य पदार्थों को चबाने की क्षमता विकसित हो जाती है। तब एक मां का सबसे बड़ा सवाल होता है कि अब बच्चे को क्या खिला सकते हैं। ऐसा उसे क्या खिलाएं, जिससे उसका विकास अच्छा हो, स्वास्थ्य बने और साथ में हाइट और वजन भी बढ़े। तो आपके इन सभी सवालों के जवाब आपको इस आर्टिकल में मिल जाएंगे और आप जान पाएंगी की एक साल या 12 महीने के होने पर बच्चे को क्या खिलाएं।

विशेषज्ञ कहते हैं कि ये एक मां के लिए बहुत खुशी की बात है कि उनका बच्चा एक साल का हो गया है, लेकिन कई माताओं को बच्चे के खाने को लेकर चिंता रहती है। लेकिन आपको अपने एक साल के बच्चे के लिए भोजन तैयार करने के बारे में जोर देने की जरूरत नहीं है। आपको उनके लिए कुछ स्पेशल तैयार नहीं करना है, बल्कि आपके परिवार के लोग जो कुछ भी रोज खाते हैं, बच्चे को भी वही खिलाया जा सकता है। लेकिन थोड़ा मैश करके। कोशिश करें कि बच्चे के खाने में नमक की मात्रा कम हो, क्योंकि बच्चे के लिए ज्यादा नमक नुकसानदायक हो सकता है। इस दौरान बच्चे को प्यूरी देना एकदम बंद कर दें और ठोस भोजन की तरफ उनकी रूचि बढ़ाएं।

आज के इस आर्टिकल में हम आपको बताएंगे कि 12 महीने के बच्चे को आप क्या खिला सकते हैं। साथ ही आपकी रोज-रोज की परेशानी को कम करने के लिए इस आर्टिकल में हमने एक बेबी फूड चार्ट के बारे में बताया है। यकीनन इस चार्ट की मदद से बच्चे को रोज कुछ नया ठोस आहार खिलाना आपके लिए बेहद आसान हो जाएगा।

1. 12 महीने के बच्चों के माता-पिता को ध्यान में रखने रखने वाली बातें – Points for 12 months old babies to keep in mind in hindi
2. 12 महीने के बच्चे को क्या खिलाना चाहिए – Foods for your Twelve Month Old Baby in hindi

3. 1 साल के बच्चे के लिए फूड रेसिपी – 1 year baby food recipe in hindi
4. एक साल के बच्चे के लिए परफेक्ट फूड चार्ट – 1 Year Old Baby Food Chart/Feeding Schedule in Hindi
5. बच्चे में खाने की आदत कैसे डालें – Tips to put a habit of eating in a child in Hindi
6. एक साल के बच्चे के लिए फीडिंग टिप्स – Feeding tips for 1 year old child in hindi

12 महीने के बच्चों के माता-पिता को ध्यान में रखने रखने वाली बातें – Points for 12 months old babies to keep in mind in hindi

12 महीने के बच्चों के माता-पिता को ध्यान में रखने रखने वाली बातें - Points for 12 months old babies to keep in mind in hindi

12 महीने की उम्र तक बच्चों को 20-32 औंस ब्रेस्ट मिल्क की आवश्यकता हो सकती है, इसलिए दूध के सेवन को सीमित करें, ताकि बच्चे के पेट में ठोस आहार खाने के लिए जगह बन सके। 12 महीनों के बाद, आप चाहें तो धीरे-धीरे बच्चे की बोतल छुड़ाने की कोशिश करें, यदि आपके बच्चे को बोतल की आदत है तो। यदि आप अभी भी अपने 12 महीने के बच्चे को प्यूरीज दे रहे हैं तो ध्यान दें कि अब आपका बच्चा ठोस खाद्य पदार्थों को चबाने और खाने में पूरी तरह से सक्षम हैं। इसलिए उसे प्यूरी यानि तरल पदार्थ देना बंद कर दें। आपने अब तक अपने बच्चे को फिंगर फूड दिया है या नहीं। अगर नहीं, तो अब ऐसा करने का एक अच्छा समय है।

(और पढ़े – बच्चे को ठोस आहार कब देना शुरू करें, क्या दें और किन बातों का रखें ध्यान…)

12 महीने के बच्चे को क्या खिलाना चाहिए – Foods for your Twelve Month Old Baby in hindi

  1. एक साल के बच्चे का भोजन अनाज – ek saal ke bache ke liye khana aanaj
  2. 12 महीने के बच्चे का भोजन खीरा – ek saal ke bache ke liye healthy khana kheera
  3. एक साल के बालक का भोजन दाल – ek saal ke bache ke liye khana daal
  4. 1 साल के बच्चे का भोजन मीठे आलू – 1 saal ke baby ka khana aalu
  5. 12 महीने के बच्चे को खिलाना चाहिए सब्जी का सूप -1 se 2 saal ke baccho ka khana soup
  6. 1 साल के बच्चे को खिलाएं मसूर की दाल – ek saal ke bache ke liye khana dal
  7. एक साल के बालक का भोजन केला – 1 year baby food kela in hindi
  8. 12 महीने के बच्चे को खिलाना चाहिए सोया – one year baby food soya in hindi
  9. एक साल के बालक का भोजन परांठे – 1 year baby food parata in hindi language
  10. 12 महीने के बच्चे को खिलाना चाहिए चिकन – ek saal ke bache ke liye khana chicken
  11. 1 साल के बच्चे का भोजन मछली – 1 saal ke baby ka khana machhli

एक साल के बच्चे का भोजन अनाज – ek saal ke bache ke liye khana aanaj

अनाज बच्चों का ऑल टाइम फेवरेट होता है। 12 महीने के बच्चे इसे बड़े चाव से खाते भी हैं और उनका पेट भी भर जाता है। एक साल के बच्चे को अनाज के रूप में आप बच्चे को फ्लेक्ड कॉर्न दे सकते हैं। दूध में मिलाकर ये बहुत नरम हो जाते हैं और सबसे अच्छी बात ये है कि कॉर्न आसानी से पच जाते हैं, इसलिए जितना संभव हो सके 12 महीने के बच्चे को पूरा अनाज देने की कोशिश करें।

(और पढ़े – मकई या मक्का (कॉर्न) के फायदे और नुकसान…)

12 महीने के बच्चे का भोजन खीरा – ek saal ke bache ke liye healthy khana kheera

12 महीने के बच्चे का भोजन खीरा - ek saal ke bache ke liye healthy khana kheera

खीरा बच्चों के लिए एक अच्छा और ठोस नाश्ता है। बच्चे को खीरा खिलाने का सबसे अच्छा तरीका है कि इसे फ्रेंच फ्राइस के शेप में काटें। खासतौर से गर्मियों में बच्चों को खीरा खिलाने से डिहाइड्रेशन की समस्या दूर होती है।

(और पढ़े – खीरा के फायदे गुण लाभ और नुकसान…)

एक साल के बालक का भोजन दाल – ek saal ke bache ke liye khana daal

अगर आपका बच्चा 1 साल का हो गया है तो अब आप उसे दाल देना शुरू कर सकते हैं। दाल प्रोटीन से भरी होती है जो मांसपेशियों के विकास में मदद करती है। दाल को चावल या चपाती के साथ बच्चों को खिलाया जाता है, इसमें तेज स्वाद नहीं होता है। चपातियों के साथ भोजन करते समय, चपाती को छोटे आकार के टुकड़ों में में तोड़कर बच्चों को खिलाएं।

(और पढ़े – मूंग दाल खाने के फायदे और स्वास्थ्य लाभ…)

1 साल के बच्चे का भोजन मीठे आलू – 1 saal ke baby ka khana aalu

1 साल के बच्चे का भोजन मीठे आलू - 1 saal ke baby ka khana aalu

शकरकंद 1 साल के शिशुओं के लिए अधिक लोकप्रिय पहले खाद्य पदार्थों में से एक है। ये रंगीन जड़ वाली सब्जियां बीटा-कैरोटीन, विटामिन सी और खनिजों से भरी होती हैं, जिनमें लोहा और तांबा शामिल हैं।

(और पढ़े – शकरकंद के फायदे और नुकसान…)

12 महीने के बच्चे को खिलाना चाहिए सब्जी का सूप -1 se 2 saal ke baccho ka khana soup

1 साल के बच्चे को आप सब्जी का सूप भी दे सकते हैं। ये हमेशा उन्हें हेल्दी बनाए रखेगा। उदाहरण के लिए, गाजर का सूप आंखों के लिए अच्छा होगा और आलू में फाइबर होता है। इसलिए आप उनकी डेली डाइट में गाजर और आलू का बना सूप दे सकते हैं।

(और पढ़े – गाजर के जूस के फायदे और नुकसान…)

1 साल के बच्चे को खिलाएं मसूर की दाल – ek saal ke bache ke liye khana dal

1 साल के बच्चे को खिलाएं मसूर की दाल - ek saal ke bache ke liye khana dal

बीन्स और अन्य फलियां बहुत सारे लीन प्रोटीन और फाइबर से भरपूर है और बच्चे की सेहत के लिए बहुत फायदेमंद भी होती हैं। 1 साल के बच्चे के लिए ये सबसे सस्ते स्वस्थ खाद्य पदार्थों में से एक हैं जिन्हें आप खरीद सकते हैं।

(और पढ़े – मसूर की दाल के फायदे और नुकसान…)

एक साल के बालक का भोजन केला – 1 year baby food kela in hindi

एक साल के बालक का भोजन केला - 1 year baby food kela in hindi

केला बच्चों के लिए बहुत अच्छा होता है। इसमें भरपूर मात्रा में मौजूद पोटेशियम बच्चे के विकास के लिए बहुत जरूरी है। इसमें विटामिन बी-6, सी, कैल्शियम और आयरन से भी बच्चे का विकास जल्दी होता है।

(और पढ़े – रोज सुबह केला और गर्म पानी के सेवन के फायदे जानकर दंग रह जाएगे आप…)

12 महीने के बच्चे को खिलाना चाहिए सोया – one year baby food soya in hindi

12 महीने के बच्चे को खिलाना चाहिए सोया - one year baby food soya in hindi

प्योर वेजिटेरियन लोगों के लिए सोया ग्रेन्युल प्रोटीन से भरपूर आहार है। इसके पकाने के बाद यह काफी नरम हो जाता है और 12 महीने के बच्चों के लिए आदर्श भोजन बन जाता है।

(और पढ़े – सोयाबीन के फायदे उपयोग और नुकसान…)

एक साल के बालक का भोजन परांठे – 1 year baby food parata in hindi language

परांठे परिवार के लिए एक नियमित भोजन है जिसे आसानी से बच्चे भी खा सकते हैं! सब्जियों या पनीर की स्टफिंग इसे संतुलित भोजन बनाती है।

(और पढ़े – पनीर खाने के फायदे पोषक तत्व और नुकसान…)

12 महीने के बच्चे को खिलाना चाहिए चिकन – ek saal ke bache ke liye khana chicken

12 महीने के बच्चे को खिलाना चाहिए चिकन - ek saal ke bache ke liye khana chicken

कार्बनिक चिकन खरीदने के लिए सावधान रहें। चिकन को इतना पकाएं कि ये नरम हो जाए और आपका बच्चा इसे आसानी से खा सके। इसके अलावा, इसमें ज्यादा मसाला डालने से बचें और पके हुए मांस को छोटे टुकड़ों में फाड़ दें, अपने बच्चे को खिलाने से पहले हड्डियों को हटा दें।

(और पढ़े – चिकन के फायदे और नुकसान…)

1 साल के बच्चे का भोजन मछली – 1 saal ke baby ka khana machhli

1 साल के बच्चे का भोजन मछली - 1 saal ke baby ka khana machhli

अगर आप नॉन-वेजीटेरियन हैं तो अपने एक साल के बच्चे को मछली भी खिला सकते हैं। मछली तैयार करते समय, हमेशा याद रखें कि इसे तलने से यह अपना पोषण मूल्य खो देता है, याद रखें कि बच्चों को मछली की हड्डियां न खिलाएं। यहां तक कि समुद्री मछली में पाई जाने वाली महीन हड्डियां भी किसी बच्चे के गले में फंस सकती हैं!

(और पढ़े – मछली खाने के फायदे और नुकसान…)

1 साल के बच्चे के लिए फूड रेसिपी – 1 year baby food recipe in hindi

1 साल के बच्चे के लिए फूड रेसिपी - 1 year baby food recipe in hindi

यहां पर 12 महीने या 1 साल के बच्चे के लिए आहार तैयार करने की जानकारी दी जा रही है पढ़ें एक साल के बच्चे के लिए फूड रेसिपी के बारे में

एक साल के बच्चे के लिए फ्राइड एप्पल रिंग्स रेसिपी

सामग्री

कैसे करें तैयार

  • अपने 12 महीने के बच्चे के लिए फ्राइड एप्पल रिंग्स बनाने के लिए सबसे पहले आटा, चीनी, नमक, दालचीनी मिलाएं और और एक तरफ रख दें।
  • अब एक अलग कटोरे में अंडा और छाछ मिलाएं।
  • सेब को 1/4 इंच मोटे स्लाइस में काटें ताकि कोर निकल जाए।
  • अब दोनों कटारों की सामग्रियों को मिला लें और और उनमें सेब के छल्ले डुबोएं और उन्हें डीप फ्राई करें।
  • आप तले हुए टुकड़ों को बड़े बच्चों के लिए पाउडर चीनी की भी कोटिंग कर सकते हैं।

(और पढ़े – कितने साल के बाद के बच्‍चों को अंडे खिलाने चाहिए…)

1 साल के बच्चे के लिए बेसन परांठा रेसिपी

बेसन में हाई प्रोटीन होता है और पराठे में कार्बोहाइड्रेट जो दिनभर बच्चों में एनर्जी बनाए रखता है। 1 साल के बच्चे के लिए बेसन का पराठा बनाने के लिए नीचे दी गई रेसिपी को पढ़ सकते हैं।

सामग्री

  • साबुत गेहूं का आटा
  • 2 बड़े चम्मच बेसन
  • 1/2 कटा हुआ प्याज
  • नमक स्वाद अनुसार
  • 1 टीस्पून धनिया पाउडर
  • 1 बड़ा चम्मच कटा हरा धनिया
  • 1 टी स्पून गरम मसाला
  • 1 चम्मच गाजर के बीज
  • 3-4 चम्मच तेल

तैयार कैसे करें

  • 12 महीने या 1 साल के बच्चे के लिए बेसन का पराठा बनाना काफी आसान है। इसके लिए सबसे पहले एक बाउल में बेसन, प्याज, धनिया पाउडर, कटा हरा धनिया और गरम मसाला मिलाएं।
  • इस मिश्रण में थोड़ा सा तेल मिलाकर आटा गूंथ लें। (पानी न डालें!)
  • चपाती बनाने के लिए गेहूं के आटे का उपयोग करें और भरने के रूप में बेसन के आटे का उपयोग करें।
  • तवा पर घी लगाकर पकाएं।
  • मक्खन या दही के साथ बच्चे को खिलाएं।

(और पढ़े – दही खाने से सेहत को होते हैं ये बड़े फायदे…)

एक साल के बच्चे के लिए रागी लड्डू रेसिपी

रागी आयरन से भरपूर होता है और यह हीमोग्लोबिन के स्तर में सुधार करके एनीमिया को रोकने में मदद कर सकता है। इसलिए 12 महीने या 1 साल के बच्चों के लिए रागी के लड्डू बनाकर खिलाना बहुत अच्छा होता है।

सामग्री

  • 1 किलो – रागी पाउडर
  • 1/2 किलो – पाउडर चीनी
  • 1/2 किलो – शुद्ध घी
  • कुछ बादाम + काजू बारीक कटा हुआ

2 इलायची का चूर्ण

तैयार कैसे करें

  • एक साल के बच्चे के लिए रागी के लड्डू बनाने के लिए एक पैन में 250 ग्राम घी गरम करें और उसमें रागी का पाउडर डालें।
  • धीमी आंच पर लगभग 45 मिनट तक भूने जब तक यह गहरे भूरे रंग का न हो जाए।
  • अब घी, कटे सूखे मेवे इलायची पाउडर डालें।
  • धीमी आंच पर 10 मिनट तक भूनें।
  • इसके ठंडा होने के बाद इसमें शक्कर डालें और अच्छी तरह मिलाएँ।
  • अब गेंद के आकार के रागी के लड्डू बनाकर तैयार करें।

(और पढ़े – रागी खाने के फायदे और नुकसान…)

1 साल के बच्चे के लिए रेसिपी सादा खिचड़ी

12 महीने या 1 साल के बच्चे के लिए खिचड़ी बनाना आसान है और इसे कई अलग-अलग आधारों के साथ बनाया जा सकता है, जैसे कि टमाटर की खिचड़ी, गाजर की खिचड़ी, पालक की खिचड़ी, आदि। खिचड़ी को पारंपरिक रूप से शिशुओं द्वारा लिए जाने वाले पहले ठोस खाद्य पदार्थों में से एक माना जाता है। साथ ही खिचड़ी पचने में भी आसान होती है, इसलिए 1 साल के बच्चे के लिए खिचड़ी अच्छा आहार है।

सामग्री

तैयार कैसे करें

  • अगर आप अपने एक साल के बच्चे के लिए सादा खिचड़ी बनाने जा रहे हैं तो इसके लिए पहले चावल को धोएं और दाल को आधे घंटे के लिए पानी में भिगो दें।
  • जब दाल और चावल पानी में भीग जाएं तो इसमें से पानी निथार लें।
  • अब सभी सामग्री को 3 कप पानी के साथ प्रेशर कुकर में पकाएं।
  • जब खिचड़ी पक जाए तो बच्चे को इसमें घी डालकर खिलाएं।

(और पढ़े – खिचड़ी खाने के फायदे, बनाने की विधि और खिचड़ी के प्रकार…)

1 साल के बच्चे के लिए फूड रेसिपी फ्रेंच टोस्ट

फ्रेंच टोस्ट सुबह और दोपहर में बच्चे के लिए सबसे जल्दी तैयार किया जाने वाला आहार है। ये स्वाद में भी अच्छा होता है और एक साल के बच्चे के लिए हेल्दी भी।

सामग्री

  • 2 स्लाइस ब्राउन ब्रेड
  • 1 अंडा
  • 1 छोटा शुद्ध केला
  • ½ कप दूध
  • तेल

तैयार कैसे करें

  • अगर आपका बच्चा खाने से नाक मुंह सिकोड़ता है, तो यकीनन आपके द्वारा बनाया गया फ्रेंच टोस्ट वो जरूर खाएगा। इसे बनाना बेहद आसान है। इसके लिए सबसे पहले आप दूध, शुद्ध केला और अंडा मिलाएं।
  • कोशिश करें कि मिश्रण थोड़ा पतला हो, ताकि ब्रेड पर ये आसानी से लग सके।
  • अब कड़ाही में तेल गरम करें और ब्रेड पीस को मिश्रण में डालकर फ्राई करें और ठंडा होने पर बच्चे को छोटे-छोटे टुकड़े कर खिलाएं।

(और पढ़े – बच्चों को तेज दिमाग के लिए क्या खिलाएं और घरेलू उपाय…)

एक साल के बच्चे के लिए परफेक्ट फूड चार्ट – 1 Year Old Baby Food Chart/Feeding Schedule in Hindi

एक साल के बच्चे के लिए परफेक्ट फूड चार्ट - 1 Year Old Baby Food Chart/Feeding Schedule in Hindi

अगर आप अपने 12 महीने या 1 साल के बच्चे के भोजन की प्लानिंग कर रहे हैं तो आपको सामान्य पदार्थों में ही कई विकल्प मिल जाएंगे। बस उसे इंटरेस्टिंग बनाने का तरीका आपको तलाशना पड़ेगा। यदि आपको भी ऐसा लगता है कि साप्ताहिक खाने का पैटर्न थोड़ा बोरिंग हो गया तो यही अच्छा समय है जब आप अपने बच्चे के खाने में कई रंग और स्वाद जोड़ सकते हैं। नीचे हम आपको एक सैंपल के तौर पर बेबी फूड चार्ट के बारे में बता रहे हैं, जिससे बच्चे को हर दिन कौन सा भोजन कब देना है , आपको पता चल सके।

रविवार

  • स्टार्टरब्रेस्टमिल्क
  • ब्रेकफास्ट– पूरी भाजी
  • सैकंड ब्रेकफास्टतरबूज स्कूप्स
  • लंच– खिचड़ी
  • शाम को – चीज के पीस
  • डिनर में जौ का दलिया
  • लेट नाइट – ब्रेस्ट मिल्क

सोमवार  

  • स्टार्टर- ब्रेस्ट मिल्क
  • ब्रेकफास्ट- बेसन का चीला
  • सैकंड ब्रेकफास्ट- केले के स्लाइस
  • लंच– दाल और रोटी
  • दोपहर में – ब्रेड रोल्स
  • डिनर में- पनीर पराठा
  • लेट नाइट – ब्रेस्ट मिल्क

मंगलवार

  • स्टार्टर- ब्रेस्ट मिल्क
  • ब्रेकफास्ट- एग सैंडविच
  • सैकंड ब्रेकफास्ट- फ्राइड एप्पल रिंग्स
  • लंच- दही और चावल
  • दोपहर में – रागी लड्डू
  • डिनर में- मसूर की दाल की खिचड़ी, दही के साथ
  • लेट नाइट – ब्रेस्ट मिल्क

बुधवार

  • स्टार्टर- ब्रेस्ट मिल्क
  • ब्रेकफास्ट- गोभी का पराठा
  • सैकंड ब्रेकफास्ट- खीरा
  • लंच- राजमा और चावल
  • दोपहर में – केले का शेक
  • डिनर में- सीरियल के साथ दूध
  • लेट नाइट – ब्रेस्ट मिल्क

गुरूवार

  • स्टार्टर- ब्रेस्ट मिल्क
  • ब्रेकफास्ट- इडली
  • सैकंड ब्रेकफास्ट- रागी डोसा
  • लंच- कड़ी और चावल
  • दोपहर में – चिकन करी राइस
  • डिनर में- स्टीम्ड डोसा
  • लेट नाइट – ब्रेस्ट मिल्क

शुक्रवार

  • स्टार्टर- ब्रेस्ट मिल्क
  • ब्रेकफास्ट- सोया चंक्स करी के साथ रोटी
  • सैकंड ब्रेकफास्ट- अंगूर
  • लंच- मिक्स वेज खिचड़ी
  • दोपहर में – सेब का शेक
  • डिनर में- चिकन सूप
  • लेट नाइट – ब्रेस्ट मिल्क

शनिवार

  • स्टार्टर- ब्रेस्ट मिल्क
  • ब्रेकफास्ट- आलू का पराठा
  • सैकंड ब्रेकफास्ट- सीरियल के साथ दूध
  • लंच- नॉन वेजिटेरियन हैं तो मछली खिला सकते हैं।
  • दोपहर में – फ्रेंच टोस्ट
  • डिनर में- चावल के साथ एग करी
  • लेट नाइट – ब्रेस्ट मिल्क 

(और पढ़े – दलिया खाने के फायदे स्वास्थ्य लाभ और नुकसान…)

बच्चे में खाने की आदत कैसे डालें – Tips to put a habit of eating in a child in Hindi

बच्चे में खाने की आदत कैसे डालें - Tips to put a habit of eating in a child in Hindi

  • यहां हम आपको बताते हैं बच्चों में खाने की आदत कैसे डाली जाए। कई पैरेंट्स की शिकायत होती है कि उनका बच्चा खाना नहीं खाता, उसे खाना खाना अच्छा नहीं लगता, खाना देखते ही मुंह सिकोड़ लेते हैं। काफी पैरेंट्स फोर्स करते हुए बच्चे को मोबाइल या टीवी दिखाने लगते हैं, ताकि बच्चा बस कैसे भी खाना खा ले और उनकी यही आदत बच्चे को पड़ जाती है, जिसके बाद वह बिना मोबाइल और टीवी देखे खाना नहीं खाता। तो आज हम आपको बताते हैं कि बच्चों में खाने की आदत कैसे डालें।
  • बच्चे में खाने को लेकर इंटरेस्ट जगाने के लिए खाने की एक्टिविटी को बच्चे की रूटीन में एडजस्ट करें। यानि रोजाना बच्चे को खाना एक ही समय पर खिलाने की कोशिश करें। भले ही आप दिन में एक ही मील क्यों न दे, उनके सामने फीडिंग इक्विपमेंट्स जरूर रखें। जैसे चम्मच, कांटा, प्लेट, क्टोरी। ताकि बच्चा देखते ही समझ जाए कि उसके खाने का वक्त हो गया है।
  • बच्चे को सही समय पर खाना खिलाना बहुत जरूरी है। बहुत जरूरी ये देखना कि आपका बच्चा कब संकेत दे रहा है कि वो खाने के लिए तैयार है। यानि कि अगर आपको लगता है कि आपका बच्चा 12 महीने के बजाए 5 महीने में ही खाने के लिए तैयार है, तो अभी से ही ठोस आहार देना शुरू कर दें।
  • समय से पहले अपने बच्चे के लिए खाना इंट्रोड्यूस करने जैसी गलती अक्सर पैरेंट्स करते हैं। इसका मतलब ऐसा खाना जो आप उसे समय से बहुत पहले दे रहे हैं, लेकिन वो उसके लिए तैयार नहीं है, तो आप अपने बच्चे के लिए उस खाने को खाना ही मुश्किल कर रहे हो। इसका नतीजा ये होगा कि बच्चा ठीक से खाएगा नहीं। इसलिए हर खाने को इंट्रोड्यूस करने का सही समय जानें।
  • बच्चे को जब भी ठोस आहार देना शुरू करें, तो शुरूआत मीठी चीज से करें। जैसे केला, सेब आदि। ऐसे में बच्चे के लिए ये खाना आसान हो जाता है और उसे टेस्ट भी आता है।
  • खाने के बीच में बच्चों को मोबाइल और टीवी से दूर रखें। ऐसा करने से ही बच्चों का फोकस खाने पर रहेगा और वह समझ पाएंगे कि खाना भी एक एक्टिविटी है जो उन्हें हर रोज करनी है। इससे बच्चा खाने को एन्जॉय करना सीख जाएगा।

(और पढ़े – 6 महीने के बच्चे को खिलाएं ये आहार…)

एक साल के बच्चे के लिए फीडिंग टिप्स – Feeding tips for 1 year old child in hindi

1 साल के बच्चे को घर का बना खाना ही खिलाएं। बच्चों के लिए खाने में हर दिन कुछ नई रेसिपी ट्राय करने से डरे नहीं। एक रिसर्च के अनुसार अगर बच्चे को हर दिन एक जैसा भोजन दिया जाए तो उनके व्यवहार में शरारतीपन आ जाता है और बड़े होने तक भी वह आसानी से खाना नहीं खाते। ऐसे बच्चों की मांओं को उन्हें खाना खिलाना सबसे बड़ा चैलेंज होता है। अगर आप भी ऐसी समस्या से बचना चाहते हैं तो अपने बच्चे की डाइट में कुछ ना कुछ नया एड करते रहे, ताकि उनके मुंह का स्वाद बदले और खाने की तरफ वे आकर्षित हों।

बच्चे को दिन में ठोस आहार देना सबसे अच्छा समय होता है। यह वह समय होता है जब वे नींद में से उठते हैं, उस वक्त उन्हें तेजी से भूख लगती है। ऐसे में ठोस आहार देने से उनमें दिनभर एनर्जी बनी रहती है।

कई माताओं की शिकायत होती है कि उनका बच्चा खाना नहीं खाता, या हर दिन बस एक ही चीज खाता है तो ऐसी माताओं के लिए हम बता दें कि आप रोजाना उनका खाने में इंटरेस्ट जगाना चाहती हैं तो हर दिन उनके लिए कुछ नया बनाएं। अगर वह एक दिन न खाएं तो 15वें दिन तो जरूर खाएंगे।

(और पढ़े – बच्चे को दूध पिलाने (स्तनपान कराने) के तरीके और टिप्स…)

Leave a Comment

Subscribe for daily wellness inspiration