क्या आप जानते हैं, शिशुओं को चांदी के बर्तन में खाना खिलाने के फायदे - Healthunbox
बच्चो की देखभाल

क्या आप जानते हैं, शिशुओं को चांदी के बर्तन में खाना खिलाने के फायदे

क्या आप जानते हैं, शिशुओं को चांदी के बर्तन में खाना खिलाने के फायदे

Silverware for Babies in Hindi: क्या अपने कभी सोचा है कि सभी बड़े हमें यह सलाह क्यों देता है कि अपने बच्चे को चांदी के वर्तन में खाना खिलाना चाहिए। चांदी का उपयोग न केवल आभूषण बनाने के लिए किया जाता है बल्कि इसका उपयोग अपने बच्चे को स्वस्थ रखने के लिए भी किया जाता हैं। प्राचीन समय में लोग खाना चांदी के बर्तन में खाया करते थे, ऐसा माना जाता है कि चांदी के बर्तन में खाना शारीरिक और मानसिक दोनों के लिए बहुत हेल्दी होता हैं। चांदी के वर्तन में एंटी बैक्टीरियल गुण पाए जाते है जो हमारे बच्चे को बैक्टीरिया के संक्रमण से बचाने में हमारी मदद करते है। अपने बच्चे को चांदी के बर्तन में खाना खिलाना उसको पेट से जुड़ी सभी बीमरियों से दूर रखता हैं। आइये इसके बारे में अधिक बिस्तार से जानते हैं।

शिशुओं को चांदी के बर्तन खाना खिलाने के फायदे

शिशुओं को चांदी के बर्तन खाना खिलाने के फायदे

बच्चों को सिल्वर बाउल में खाना खिलाने से निम्न लाभ होते हैं।

(और पढ़े – आपके बढ़ते बच्चे के लिए जरूरी हैं ये पोषक तत्व…)

बच्चों में प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाती है चांदी

यह माना जाता है कि चांदी के बैक्टीरिया से लड़ने वाले गुण शिशुओं में प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने में मदद करते हैं और इसलिए नए बच्चों को चांदी के चम्मच से दूध पिलाने की सलाह दी जाती है। चांदी धातु का अन्य गुण यह भी है कि जब हम इसमें गर्म भोजन परोसते हैं तो यह धातु एंटी-बैक्टीरियल गुणों के कारण बच्चे के भोजन से बैक्टीरियल संक्रमण को दूर  करता है, इसलिए बच्चों और बच्चों को चांदी के बर्तनों के साथ खिलाना पसंद किया जाता है।

(यह भी पढ़ें – शरीर के लिए आवश्यक पोषक तत्व)

शरीर में ठंडक देने के लिए चांदी के बर्तन

शरीर में ठंडक देने के लिए चांदी के बर्तन

बच्चे के शरीर में ठंडक देने के लिए चांदी के बर्तन खाना खिलाना बहुत ही फायदेमंद होता हैं। चांदी धातु का स्‍वभाव ठंडा होता है जो शिशुओं के शरीर को ठंडक देता है। जिस प्रकार बड़ों को चांदी के आभूषण पहनने से शरीर को ठंडक मिलती है और गुस्सा कम आता हैं, उसी प्रकार से चांदी के बर्तन में खाना खाने और पानी पीने से भी शरीर को ठंडक मिलती हैं। गर्मी के मौसम में बच्चों के खाने और पीने के लिए सिल्वर बाउल का उपयोग करें। इसके अलावा शिशु को गर्मी के मौसम में चांदी की गिलास में दूध पिलाएं।

सिल्वर बाउल  बैक्टीरिया मुक्त होता है

चांदी धातु हमेशा 100 प्रतिशत बैक्टीरिया मुक्त एवं संक्रमण रहित होती हैं। इसलिए हमारे बड़े हमें बच्चों को सिल्वर बाउल में भोजन और पानी देने की सलाह देते हैं। चांदी में एंटी माइक्रोबैक्टीरियल (Microbacterials) गुण पाए जाते हैं, इसलिए इसका उपयोग हमें बीमारियों से बचाता है। चांदी शुद्धता का प्रतीक माना जाता है आप चांदी के वर्तन का उपयोग गर्म पानी से धोकर दोबारा कर सकते हैं।

शिशुओं को सर्दी-जुकाम से बचाता है

अपने छोटे बच्चों को चांदी के बर्तन में खाना खिला कर उनको मौसम परिवर्तन से होने वाले सर्दी-जुकाम से बचाया जा सकता हैं। चांदी के गिलास में शिशुओं को पानी पीने से सर्दी-जुकाम की समस्या से छुटकारा पाने में मदद मिलती है। अगर आपका बच्चा सर्दी जुकाम की समस्या से परेशान रहता है तो एक बार इस उपाय को जरूर अपना कर देखें। इसके अलावा चांदी का इस्तेमाल पित्त बढ़ने की समस्या को दूर करने के लिए भी किया जाता है।

(यह भी पढ़ें – बच्चों को सर्दी या फ्लू होने पर क्या करें जाने कुछ आसन टिप्स)

सिल्वर बाउल में टॉक्सिन नहीं होता है

चाँदी के बर्तन प्लास्टिक और अन्य धातु के जैसे किसी भी प्रकार के कैंसर का कारण नहीं बनते है। प्लास्टिक या अन्य मैटल का उपयोग करने से  रिप्रोडक्टिव सिस्टम या न्यूरोलॉजिकल डैमेज जैसी समस्या का सामना करना पड़ सकते है। लेकिन चांदी के बर्तन में इस प्रकार की बीमारों कि संभावना नहीं होती है। ऐसे ही बेहतरीन गुण की वजह से बच्चों के लिए चाँदी के बर्तन का उपयोग करना सुरक्षित माना जाता है।

चांदी के बर्तन फिल्टर का काम करते है

सिल्वर बाउल में प्राकृतिक रूप से नॉन टॉक्सिक गुण होते है जिसके कारण चांदी के बर्तनों में खाने-पीने का सामान जैसे पानी, दूध या कोई और तरल पदार्थ रखने से उनमें ताजापन बना रहता है। प्राचीन काल में पानी साफ करने के लिए आज के जैसे वॉटर फिल्टर नहीं हुआ करते थे। तब लोग पानी को साफ और फिल्टर करने के लिए चांदी के बर्तनों में रखा करते थे। उस समय चांदी के जार में वाइन को भी खराब होने से बचाने के लिए रखा जाता था।

आंखों के लिए है फायदेमंद सिल्वर बाउल

चांदी के बर्तनों में खाना खा कर आंखों की रोशनी तेज कर सकते हैं। शिशुओं को चांदी के बर्तन में खाना खिलाने या दूध पिलाने से उनकी आंखों की रोशनी तेज होती हैं। इसके अलावा सिल्वर बाउल में खाना आंखो में होने वाले किसी प्रकार के संक्रमण से भी राहत मिलती हैं। जब हमारी आंखों में गर्मी के वजह से दाना निकल आता है तो घर के बड़े उस पर चांदी का आभूषण रगड़ने की सलाह देते हैं।

(यह भी पढ़ें – आंखों की रोशनी बढ़ाने के लिए घरेलू उपाय)

दिमाग तेज करने में मददगार चांदी के बर्तन

दिमाग तेज करने में मददगार चांदी के बर्तन

यदि आप अपने बच्चे का दिमाग तेज करना चाहते है तो इसके लिए उसे अभी से चांदी के बर्तन में खाना खिलाना प्रारंभ कर दें। चांदी का अर्क एक सक्रिय संघटक है जो कई आयुर्वेदिक दवाओं में उपयोग किया गया है। यह शिशु के दिमाग को शांत रखकर उसकी याददाश्त को बढ़ाने में मदद करता हैं। सिल्वर बाउल में बच्चों को खाना खिलाना न केवल ब्रेन पावर बढ़ाने में मददगार बल्कि सम्पूर्ण हेल्थ के लिए भी फायदेमंद होता हैं।

(और पढ़े – बच्चे को स्मार्ट और इंटेलीजेंट कैसे बनाएं…)

शरीर का तापमान नियंत्रित करे चांदी के बर्तन

अपने शिशु के शरीर का तापमान नियंत्रित करने के लिए उसको चांदी के बर्तन में खाना खिलाना लाभदायक हो सकता हैं। यह सिल्वर का एक महत्वपूर्ण गुण है इसी कारण से आज भी हम चांदी की पायल और चांदी के अन्य गहने पहनना पसंद करते हैं।

(यह भी पढ़ें – शरीर का सामान्य तापमान कितना होता है, सामान्य रेंज और महत्व)

चांदी के बर्तन में थैलेटों नहीं होता

प्लास्टिक बनाने के लिए सामान्य रूप से थैलेट घटक का इस्तेमाल किया जाता है, जो प्रजनन क्षमता और इम्युनिटी दोनों को ही प्रभावित करता है। इससे आप खुद अंदाजा लगा सकते है कि जब थैलेट बड़ों को इस प्रकार हानी पहुँचा सकता है तो बच्चे के लिए कितना नुकसानदायक होगा। इसलिए आप आप शिशुओं को खाना खिलाने के लिए चाँदी के बर्तन का उपयोग करें।

बच्चों के लिए चांदी के बर्तन का उपयोग

बच्चों के लिए चांदी के बर्तन का उपयोग

अन्य बर्तन की तरह ही चांदी के बर्तन का उपयोग बच्चे को खाना खिलाने के लिए किया जाता है आइये इसे विस्तार से जानते हैं।

  • चांदी की छोटी गिलास का उपयोग बच्चों को तरल पदार्थ पिलाने जैसे पानी, जूस और पेय आदि के लिए किया जा सकता है।
  • सिल्वर की छोटी कटोरे और चम्मच का उपयोग चावल और खाद्य पदार्थ जैसे उपमा, पास्ता आदि के लिए किया जा सकता है।
  • चांदी की प्लेट्स उपयोग गर्म रोटियों को रखने के लिए किया जा सकता है।
  • पालदास का उपयोग गाजर, केला, सेब और हरी मटर जैसे स्वादिष्ट फल और सब्जी को परोसने के लिए कर सकते है।

चांदी के बर्तन को कैसे साफ करें?

सिल्वर बाउल और अन्य सभी चांदी के बर्तन को साफ करने के लिए सिर्फ कुछ साबुन और हल्के गर्म पानी करें। आप चाहतें तो गर्म पानी और कुछ डिशवॉशिंग साबुन का उपयोग भी कर सकते हैं। अगर चांदी में कोई गहरा दाग है जो साफ करने से नहीं निकल रहा है, तो इसके लिए आप बाद में उबलते पानी में कुछ बेकिंग सोडा को मिलाकरी चांदी के बर्तन के कालेपन को दूर कर सकते हैं।

इसी तरह की अन्य जानकारी हिन्दी में पढ़ने के लिए हमारे एंड्रॉएड ऐप को डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक करें। और आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं।

Leave a Comment

Subscribe for daily wellness inspiration