हींग के फायदे उपयोग स्वास्थ्य लाभ और नुकसान – Hing (Asafoetida ) Benefits and Side Effects in Hindi

हींग के फायदे उपयोग स्वास्थ्य लाभ और नुकसान – Hing (Asafoetida ) Benefits and Side Effects in Hindi
Written by Diksha

Hing (Asafoetida) Benefits in hindi हींग उन मसालों में है जिन्हे हर घर में सुगंध और स्वाद बढ़ाने के लिए भोजन में उपयोग किया जाता है। हींग का उपयोग सिर्फ भोजन का स्वाद बढ़ाने में ही नहीं किया जाता बल्कि हींग में अनेक बीमारियों को दूर करने की क्षमता पाई जाती है। सदियों से हींग का उपयोग पेट से जुड़ी कई समस्याओं जैसे कि पेट दर्द, अपच, उल्टी जैसे रोगों को ठीक करने में किया जा रहा है। इसके साथ-साथ हींग का उपयोग जलन को ठीक करने में भी किया जाता है। आज हम आपको बताएंगे हींग के फायदे (Hing benefits in hindi) और हींग के नुकसान (Hing ke nuksan) के बारे में, तो आइए जानते हैं हींग से स्वास्थ्य को होने वाले फायदे क्या है।

1. हींग खाने के फायदे – Asafoetida Benefits in hindi
2. हींग खाने के नुकसान और सावधानियां – Asafoetida side effects in hindi

हींग के फायदे – Asafoetida Benefits in Hindi

हींग के फायदे – Asafoetida Benefits in Hindi

औषधीय गुणों से भरपूर होने के कारण आयुर्वेद में हींग को जड़ी बूटी के रूप में प्रयोग किया जाता है। आइए विस्‍तार से जाने हींग के स्‍वास्‍थ्‍य लाभ क्‍या होते हैं।

हींग के फायदे पेट दर्द से राहत पाने – Hing benefits for stomach pain in Hindi

हींग के फायदे पेट दर्द से राहत पाने – Hing benefits for stomach pain in Hindi

पेट में दर्द होने पर आप हींग को पानी में घोलकर पेट की नाभि के आस पास लगा सकते हैं। इससे आप के दर्द में राहत प्राप्त होगी।

इसके अलावा हींग और गुड़ को मिलाकर गर्म पानी के साथ लेने पर गैस की समस्या दूर होती है।

पेट में दर्द से आराम पाने के लिए हींग काला नमक और अजवाइन को मिलाकर पानी के साथ पीने पर आराम प्राप्त होता है।

हींग में एंटी इंफ्लेमेटरी एंटीऑक्सीडेंट गुण होते हैं जो अपच, गैस, पेट के कीड़े जैसी कई समस्याओं को दूर करने में मदद करते हैं|

फूड प्वाइजनिंग के उपचार में भी हींग का उपयोग किया जा सकता है।

यह भोजन पचाने में मदद करता है।

[और पढ़े – खाने के बाद पेट में दर्द होने के कारण और वचाव के तरीके]

हींग के फायदे श्वसन संबंधी समस्याओं में – Asafoetida  benefits for Respiratory problem in Hindi

हींग के फायदे श्वसन संबंधी समस्याओं में – Asafoetida  benefits for Respiratory problem in Hindi

हींग में एंटी वायरस एंटी इंफ्लेमेटरी गुण होने के कारण इसका उपयोग श्वसन संबंधी विकारों को दूर करने में किया जाता है।

सर्दी जुखाम जैसी समस्याओं से लेकर हींग का उपयोग अस्थमा, ब्रोंकाइटिस और खांसी को दूर करने में किया जाता है।

अगर आपको बलगम या फिर छाती में दर्द की शिकायत है तो आप हींग के द्वारा इसका उपचार कर सकते हैं।

[और पढ़े – खांसी का घरेलू उपचार, ड्राई कफ हो या वेट कफ]

हींग के फायदे मासिक धर्म के दर्द मैं राहत के लिए – Hing benefits for periods pain in Hindi

हींग के फायदे मासिक धर्म के दर्द मैं राहत के लिए - Hing benefits for periods pain in Hindi

मासिक धर्म के दौरान महिलाओं को पेट में अत्यधिक दर्द और मरोड़ का सामना करना पड़ता है। ऐसे में आप चाहे तो अपने इस दर्द को हींग के द्वारा ठीक कर सकते हैं। इसके लिए आपको एक गिलास पानी के साथ एक चुटकी हींग को मिलाकर पीना है। इस प्रकार हींग का सेवन मासिक धर्म में दर्द से राहत प्रदान करता है।

इसके अलावा हींग का सेवन महिलाओं मैं मासिक धर्म के दौरान हो रहे अनियमित रक्त प्रवाह से मुक्ति दिलाने में भी मदद करता है। क्योंकि हींग में प्रोजेस्टेरोन हार्मोन के स्त्रावण को बढ़ाने की क्षमता होती है जिससे मासिक धर्म में हो रहे दर्द और अनियमित रक्तस्त्राव से राहत प्राप्त होती है।

आप हींग के साथ मेथी पाउडर और नमक को छाछ के साथ मिलाकर सेवन कर सकती हैं और मासिक धर्म के दर्द से छुटकारा पा सकते है।

(और पढ़ें – पीरियड्स (मासिक धर्म) में कमर दर्द के कारण, लक्षण और घरेलू उपाय)

हींग के फायदे पुरुषों की यौन समस्याओं में – Hing benefits for sexual problems in Hindi

हींग के फायदे पुरुषों की यौन समस्याओं में - Hing benefits for sexual problems in Hindi

जैसा कि आप जानते हैं हींग में पाए जाने वाले औषधीय गुण पुरुषों के लिए वरदान स्वरुप माने जाते हैं। हींग का इस्तेमाल पुरुषों कि यौन समस्याओं जैसे कि नपुंसकता, शीघ्रपतन, शुक्राणुओं की कमी के उपचार करने में किया जाता है। इसके लिए आपको अपने खाने में हींग की थोड़ी मात्रा का इस्तेमाल करना है जिससे आप यौन समस्याओं से बच सकते हैं।

हींग का उपयोग योन शक्ति बढ़ाने के लिए निम्न प्रकार से करें

एक चुटकी हींग की मात्रा लेकर उसे शुद्ध घी में सेक लें इसके बाद उसे शहद में मिलाकर रोजाना 1 महीने तक इसका सेवन करें इससे आपको अवश्य ही लाभ प्राप्त होगा।

इसके अलावा आप एक गिलास गर्म पानी में एक चुटकी हींग को मिलाकर पी सकते हैं। जिससे आपको अपने शरीर में रक्‍त परिसंचरण बढ़ाने में मदद प्राप्त होगी। जिससे आप स्तंभन दोष जैसी समस्या से बच पाएंगे और अपने यौन उत्तेजना को बढ़ा पाएंगे।

(और पढ़ें – नपुंसकता (नामर्दी, स्तंभन दोष) के घरेलू उपाय)

हींग के गुण करें ब्लड शुगर लेवल को कंट्रोल – Asafoetida power for diabetes in Hindi

हींग के गुण करें ब्लड शुगर लेवल को कंट्रोल – Asafoetida power for diabetes in Hindi

शुगर से पीड़ित व्यक्ति मैं इंसुलिन का स्त्रावण सही से नहीं हो पाता जिससे भोजन की शर्करा को पचाने में कठिनाई महसूस होती है। हींग में प्राकृतिक रूप से इंसुलिन के स्त्रावण को बढ़ाने की क्षमता पाई जाती है जिससे ब्लड शुगर लेवल को कंट्रोल किया जा सकता है। अपने खाने में हींग को शामिल करना कुछ हद तक ब्लड शुगर लेवल को कंट्रोल कर सकता है।

(और पढ़ें – डायबिटीज कंट्रोल करने वाले आहार)

हींग के फायदे त्वचा संबंधी समस्याओं में – Hing benefits for skin problem in Hindi

हींग के फायदे त्वचा संबंधी समस्याओं में - Hing benefits for skin problem in Hindi

जैसा कि हमने आपको बताया हींग में पाई जाने वाली एंटी इंफ्लेमेटरी प्रॉपर्टी इसे स्किन केयर प्रोडक्ट के रूप में दर्शाती है। हींग का उपयोग त्वचा संबंधी समस्याओं को दूर करने के लिए किया जा सकता है। यह त्वचा में होने वाली जलन को कम करने के लिए जानी जाती है। हींग मैं अपने ठंडे प्रभाव के कारण त्वचा पर इसका असर बहुत ही राहत प्रदान करता है और जल्द ही जलन से राहत दिलाता है|

(और पढ़ें – सेंसिटिव स्किन (संवेदनशील त्वचा) की देखभाल )

हींग के फायदे कीड़े के डंक के उपचार में – Hing benefits for insect bites in Hindi

हींग में ततैया, मधुमक्खी जैसे कीट के डंक के दर्द को दूर करने के गुण पाए जाते हैं। यह इन कीटों के जहरीले प्रभाव को कम करती है साथ ही साथ सूजन से भी राहत प्रदान करती है।

ततैया के डंक के दर्द से राहत पाने के लिए हींग को प्रभावित क्षेत्र में लगाएं।

हींग के गुण बचाए कैंसर से – Hing for Cancer in Hindi

हींग के गुण बचाए कैंसर से - Hing for Cancer in Hindi

सबसे गंभीर बीमारियों में से एक कैंसर है। हींग में शक्तिशाली एंटीऑक्सीडेंट होते हैं जो कि शरीर में होने वाले कोशिकाओं की वृद्धि को नियंत्रित करते हैं जो कि शरीर में फ्री रेडिकल की क्षति होने से बचाती है। अध्ययनों से पता चला है कि इन में एंटी कोसिनोजेनिक प्रॉपर्टी पाई जाती है जो शरीर में कैंसर कोशिकाओं के विकास को रोकने में मदद करती है।

(और पढ़ें – क्या खाने से कैंसर का खतरा कम किया जा सकता है)

हींग के फायदे दांत के दर्द दूर करने में – Hing benefits for tooth pain in Hindi

हींग के फायदे दांत के दर्द दूर करने में - Hing benefits for tooth pain in Hindi

दांतो से संबंधित समस्याओं से छुटकारा पाने के लिए हींग का उपयोग सदियों से किया जा रहा है। हींग में पाई जाने वाली एंटी इंफ्लेमेटरी और एंटीऑक्सीडेंट प्रॉपर्टी के कारण हींग का उपयोग दांत के दर्द को दूर करने में किया जा सकता है।

दांत के दर्द से छुटकारा पाने के लिए आप हींग के छोटे से टुकड़े को अपने दांतो के बीच में दबा कर रख सकते हैं।

अगर आपके मसूड़ों में खून निकलने की समस्या है तो आप हींग के पानी के साथ कुल्ला कर सकते हैं। इस प्रकार हींग का उपयोग दांत के दर्द और दांतो के संक्रमण को दूर करने में किया जा सकता है।

(और पढ़ें – दांत दर्द ठीक करने के 10 घरेलू उपाय)

हींग के औषधीय गुण दिलाएं सिर दर्द से राहत – Hing powder for headache in Hindi

हींग के औषधीय गुण दिलाएं सिर दर्द से राहत - Hing powder for headache in Hindi

आज की भागदौड़ भरी जिंदगी में सिरदर्द और माइग्रेन जैसी समस्याओं का सामना हर किसी को कभी ना कभी करना पड़ता है इन समस्याओं से बचने के लिए आप हींग का उपयोग औषधि के रूप में कर सकते हैं क्योंकि हींग में रक्त प्रवाह को बढ़ाने और सूजन को कम करने के गुण पाए जाते हैं जो कि आपके सिर दर्द को दूर कर सकते हैं इसका उपयोग करने के लिए।

एक गिलास पानी में हींग को उबालें और दिन में दो से तीन बार इसका सेवन करें इससे आपको अपने सिर में होने वाले दर्द से राहत प्राप्त होगी।

[और पढ़े – सिर दर्द दूर करने के घरेलू उपाय]

हींग के गुण घाव भरने में लाभदायक – Hing benefits for healing wound in Hindi

किन्‍हीं कारणों से बन जाने वाले घाव को भरने के लिए हींग का उपयोग किया जा सकता है। कांटा चुभने पर हींग का घोल लगाने पर दर्द कम होता है और कांटा भी बाहर निकल जाता है।

घाव को जल्दी ठीक करने के लिए हींग का प्रयोग नीम के पत्तों के साथ पेस्ट बनाकर घाव पर करने पर जल्द ही आराम प्राप्त होता है।

हींग के फायदे सर्दी जुखाम को ठीक करने में  – Asafoetida power for cough & cold in Hindi

हींग के फायदे सर्दी जुखाम को ठीक करने में  – Asafoetida power for cough & cold in Hindi

अक्सर सर्दी जुखाम मौसम में परिवर्तन के कारण होता है जिसमें सबसे ज्यादा परेशानी सांस लेने में और बंद नाक की होती है। इन दोनों समस्याओं को हींग के द्वारा दूर किया जा सकता है। एक चुटकी हींग को पानी में घोलकर सूंघने से सर्दी जुखाम में लाभ प्राप्त होता है और इसी पानी का उपयोग आप सीने और गले में लगाने के लिए कर सकते है। जिससे आपको सीने और गले के दर्द से राहत प्राप्त होगी।

इसके अलावा सूखी खांसी होने पर आधा चम्मच अदरक का रस और एक चुटकी हींग मैं एक चम्मच शहद मिलाकर लेने पर जल्द ही राहत प्राप्त होती है।

(और पढ़ें – सर्दी जुकाम और खांसी के घरेलू उपाय)

हींग के नुकसान और सावधानियां – Asafoetida side effects in Hindi

जैसा कि आप सभी ऊपर जान चुके हैं हींग के फायदे (Hing benefits) पेट से लेकर अनेक स्वास्थ्य समस्याओं को दूर करने के काम आते हैं हींग के कोई विशेष दुष्प्रभाव नहीं है किंतु आपको हींग का उपयोग एक निश्चित मात्रा में ही करना चाहिए आइए जानते हैं हींग के नुकसान (Hing ke nuksan)और सावधानियों के बारे में

  • कुछ लोगों को हींग का उपयोग करने पर एलर्जी हो सकती है अतः आप पहले ही इनका उपयोग थोड़ी मात्रा में करें ताकि आपको इस प्रकार की समस्या ना आए
  • उच्च रक्तचाप(High Bp) से ग्रसित व्यक्ति हींग का प्रयोग सावधानी पूर्वक करें इसका अधिक सेवन से आपके रक्तचाप में अत्यधिक गिरावट आ सकती है
  • हींग के अत्यधिक सेवन से गैस और अपच जैसी समस्याएं भी उत्पन्न हो सकती हैं इसके अलावा ज्यादा मात्रा में हींग का सेवन पेट में जलन उत्पन्न कर सकता
  • गर्भवती(Pregnant) और स्तनपान (Breastfeeding) कराने वाली महिलाओं को हींग के सेवन से बचना चाहिए
  • हींग सर दर्द में लाभदायक है लेकिन अधिक मात्रा में इसका उपयोग सिर दर्द का कारण भी बन सकता है

Leave a Comment

Subscribe for daily wellness inspiration