गरम मसाला के फायदे बनाने की विधि और नुकसान – Garam Masala Ke Fayde Vidhi Aur Nuksan in Hindi

गरम मसाला के फायदे बनाने की विधि और नुकसान – Garam Masala ke fayde vidhi aur nuksan in hindi
Written by Deepanshu

Garam Masala in hindi गरम मसाला कई मसालों का मिश्रण से बनता है। जिसमें लौंग,इलाइची, दालचीनी, कालीमिर्च , जायफल आदि होता है। गरम मसाला खाने को स्वादिष्ट बनाने के साथ ही सेहत के लिए भी काफी फायदेमंद साबित होता है। सीमित मात्रा में इसके उपयोग से कई बीमारियों को दूर किया जा सकता है। क्योंकि इस मसाले में दस या उससे भी अधिक सूखे मसालों कों मिलाकर बनाया जाता हैं। आईए जानते है कि कैसे गरम मसाला का इस्तेमाल करके आप खाने को स्वादिष्ट बनाने के साथ साथ सेहत को बेहतर बना सकते है। और गरम मसाला के फायदे, गरम मसाला बनाने की विधि और गरम मसाला के नुकसान के बारें में।

गरम मसाला के फायदे – Garam Masala Benefits in Hindi

अलग अलग चीजो को मिलाकर गरम मसाला तैयार किया जाता है जिससे इसमें पाए जाने वाले तत्व के फायदे भी अलग अलग होते है वैसे गरम मसाले का निशचित मात्रा में सेवन करने से सम्पूर्ण स्वास्थ्य लाभ (Garam masala for overall health benefits in hindi) होता है यहाँ हम आपको गरम मसाले में पाए जाने वाले तत्वों के फायदे बताने जा रहे है।

गरम मसाला के फायदे आंखों के लिए – Garam Masala For Eye in Hindi

गरम मसालों में काली मिर्च स्वाद बढ़ाने के साथ -साथ सेहत के लिए भी काफी उपयोगी है। काली मिर्च हर भारतीय किचनों में मिल जाएगा। इसके इस्तेमाल से मोटापा कम करने में मदद मिलता है, आंखों की रोशनी बढ़ाने, पेट के रोगों को दूर करने में सहायक है। यह भूख बढ़ाती है। कालीमिर्च चूर्ण व शहद चाटने से सर्दी खांसी में लाभ होता है। काली मिर्च शहद में मिलाकर खाने से कमजोर याददाश्त में फायदा होता है।

(और पढ़े – हरी मिर्च खाने के फायदे, गुण लाभ और नुकसान)

गरम मसाला के फायदे दस्त में – Garam Masala For Diarrhea in Hindi

जायफल में औषधीय गुण के कारण इसे सालभर उपयोग किया जाता है। गरम मसाले में जायफल भोजन में स्वाद व खुशबू के लिए डाला जाता है। जायफल बहुत ही थोड़ी मात्रा में गर्म मसाले में प्रयोग किया जाने वाला मसाला है। बच्चों को दस्त, जुकाम व खांसी होने पर जायफल को गर्म पानी में घिसकर चटाया जाता है। इसके फूल जावित्री कहलाते हैं। सांस रोगों में पान में दो-तीन पंखुड़ी जावित्री डालकर लेने से फायदा होता है। भूख नहीं लगती हो, तो चुटकी भर जायफल की कतरन चूसकर देखें, कुछ ही देर में आराम मिलेगा।

(और पढ़े – खांसी का घरेलू उपचार, ड्राई कफ हो या वेट कफ)

गरम मसाला के फायदे वायु, पित्त, कफ में – Garam Masala Health Benefits in Hindi

कायफल वायु, पित्त, कफ तीनों दोषों से उत्पन्न श्वास, ज्वर, जुकाम, मूत्र रोगों, अतिसार, बवासीर, बड़ी आंत की सूजन और एनिमिया में उपयोगी होता है। गाय के घी में कायफल का हलवा पुराने सिरदर्द में प्रयोग करते हैं। कायफल तिल के तेल में पकाकर बनाया तेल जोड़ों और मांसपेशियों के दर्द में लाभदायक है। ये हृदय रोग में गुणकारी और अतिसार दूर करने वाला होता है। गरम मसाला के फायदे लेने के लिए कायफल उसमे मिलाया जाता है।

(और पढ़ें – मसाला चाय के फायदे, नुकसान और बनाने का विधि)

गरम मसाला के फायदे सर्दी, जुकाम, में  – Garam Masala For Cold And Cough in Hindi

सूखे अदरक को सोंठ कहा जाता है। ये रुचिकारक, गठिया नाशक, त्रिदोष नाशक, पाचक, स्वादिष्ट, गर्म, अतिसार, हृदयरोग और उदररोग नाशक है। अदरक की चाय से सर्दी, जुकाम, खांसी, सिरदर्द, ठीक होता है। सोंठ, जीरा और सेंधा नमक का चूर्ण ताजा दही में, मट्ठे में मिलाकर भोजन के बाद पीने से पुराने अतिसार का मल बंधता है।

(और पढ़ें – सोंठ के फायदे और नुकसान)

कफ और वातनाशक में गरम मसाला के फायदे – Garam Masala For Cough in Hindi

गरम मसाले में मिलाया जाने वाला अकरकरा कड़वा, तीखा, प्रकृति में गर्म तथा कफ और वातनाशक है। इसके खून को साफ करने वाला, सूजन को कम करने वाला, मुंह की बदबू को नष्ट करने वाला, दन्त रोग, दिल की कमजोरी, बच्चों के दांत निकलने के समय के रोग, तुतलाहट, हकलाहट, रक्तसंचार को बढ़ाने में भी गुणकारी हैं। इसका प्रयोग दंतमंजनों और पेस्ट में होता है।

(और पढ़े – मुँह की बदबू दूर करने के घरेलू उपाय)

गरम मसाला के फायदे डायबिटीज को भगाए दूर – Garam Masala For Diabetes in Hindi

गरम मसाले में दालचीनी होती है जो कि ब्लड शुगर को नियंत्रित करके डायबिटीज को खतरे को कम करता है। गर्म मसाले में मौजूद तत्वों के एंटी-ऑक्सीडेंटस, एंटी-इंफ्लेमेंट्री और एंटी-बायोटीक गुण न्यूरोलॉजीकल डिसऑर्डर से बचाता है।

(और पढ़े – शुगर ,मधुमेह लक्षण, कारण, निदान और बचाव के उपाय)

गरम मसाला में पाए जाने वाले तत्वElements Found in Garam Masala in Hindi

घर में ऐसे बनाए गरम मसाला Homemade Garam Masala Recipe in Hindi

आप अपने घर पर ही आसानी गरम मसाला बना सकते हैं। आइए जाने घर पर गरम मसाला तैयार करने का आसान तरीका क्‍या है।

गरम मसाला की सामग्री – Garam Masala Ki Samgri in Hindi

  • साबुत जीरा 1/3 कप,
  • काली मिर्च डेढ़ चम्मच,
  • काली इलायची 1/4 कप,
  • हरी इलायची 1/4 कप,
  • दालचीनी पाउडर ढाई बड़ा चम्मच,
  • तेजपत्ता एक कप यानी 20 ग्राम,
  • लौंग 1/4 कप,
  • जावित्री पाउडर दो छोटा चम्मच,
  • जायफल पाउडर आठ ग्राम।

गरम मसाला बनाने की विधि – Garam Masala Banane Ki Vidhi

  • सारे साबुत मसालों को हल्का भून लें।
  • फिर ठंडा होने के बाद इसे बारीक पीस लें।
  • आप चाहें तो इसमें जावित्री और जायफल साबुत भी ले सकती हैं।
  • अगर आपको ज्यादा जायफल पसंद नहीं है, तो आप इसकी मात्रा कम कर सकती हैं।
  • कहीं-कहीं गरम मसाले में सूखा नारियल, केसर और सफेद तिल भी इस्तेमाल किया जाता है।
  • अगर आपको इसका स्वाद पसंद है, तो आप इसमें मिला सकती हैं।

गरम मसाला के नुकसान – Garam Masala Ke Nuksan in Hindi

कम मात्रा में गरम मसाले का सेवन करना फायदेमंद होता है लेकिन जरूरी नहीं की यह सबके लिए फायदेमंद हो। गरम मसाला में जो तत्व मिले होते है उनमे अधिकतर गर्म प्रवित्ति के होते है इसलिए यदि आप इसका अधिक मात्रा में सेवन करते है तो आपको इसके नुकसान भी हो सकता है। गर्म मसाले के दुष्प्रभाव में सीने में जलन, एसिडिटी, मूत्र में जलन और पेट में जलन जैसी समस्या हो सकती है इससे बचने के लिए कम मात्रा में गरम मसाले का सेवन करने की सलाह दी जाती है मुख्य रूप से गर्मी के दिनों में इसका कम इस्तेमाल करना चाहिए ताकि इसके दुष्प्रभावो से बचा जा सके ।

Leave a Comment

Subscribe for daily wellness inspiration