केले के फूल के फायदे और नुकसान – Banana Flower Benefits and Side effects in Hindi

केले के फूल के फायदे और नुकसान - Banana Flower Benefits and Side effects in Hindi
Written by Ramkumar

Banana Flower Benefits In Hindi भारत में केला के पेड़ को पूज्‍यनीय माना जाता है। केले के फूल के फायदे सहित केले के पेड़ के लगभग सभी भागों का औषधीय उपयोग किया जाता है। केला के साथ ही केले के फूल का उपयोग भी खाने के रूप में किया जाता है। स्‍वास्‍थ्‍य लाभ प्राप्‍त करने के लिए बहुत से लोग केले के फूल का इस्‍तेमाल सब्‍जी के रूप में करते हैं। केले के फूल खाने के फायदे विभिन्‍न स्‍वास्‍थ्‍य समस्‍याओं को रोकने और उनका प्राकृतिक उपचार करने में सहायक होते हैं। औषधीय गुण से भरपूर केले के फूल में उच्च पोषक तत्‍व होते हैं जिनके लाभ इन्‍फेक्‍शन को रोकने, मधुमेह को नियंत्रित करने, पेट को स्‍वस्‍थ रखने, और वजन कम करने के लिए होते हैं। इस लेख में आप केले के फूल खाने के लाभ और नुकसान संबंधी जानकारी प्राप्‍त करेगें।

1. केले के फूल के पोषक तत्‍व – Nutritional Value Of Banana Flower in Hindi
2. केले के फूल के फायदे – Kele Ke Phool Ke Fayde in Hindi
3. केले के फूल की सलाद बनाने की विधि – Banana flower Salad recipe in Hindi
4. केले के फूल खाने के नुकसान – Kele Ke phool Khane ke Nuksan in Hindi

केले के फूल के पोषक तत्‍व – Nutritional Value Of Banana Flower in Hindi

केले के फूल के पोषक तत्‍व - Nutritional Value Of Banana Flower in Hindi

अध्‍ययनों के अनुसार 100 ग्राम केले के फूल में मौजूद पोषक तत्‍व और खनिज पदार्थ इस प्रकार हैं।

(और पढ़े – विटामिन और उनकी कमी से होने वाले रोग…)

केले के फूल के फायदे – Kele Ke Phool Ke Fayde in Hindi

केले के फूल के फायदे – Kele Ke Phool Ke Fayde in Hindi

केले के फूल दिखने आकर्षक होने के साथ ही स्‍वास्‍थ्‍य के लिए लाभकारी होते हैं। केले के फूल को केला के पेड़ का दिल कहा जाता है। आप इसका उपयोग अपनी खाद्य सब्‍जी के रूप में कर सकते हैं। जो आपको विभिन्‍न स्‍वास्‍थ्‍य समस्‍याओं से बचा सकती है। आइए जाने केले के फूल से प्राप्‍त होने वाले स्‍वास्‍थ्‍य लाभ कौन से हैं।

(और पढ़े – केला खाने के फायदे और नुकसान…)

केले के फूल के लाभ संक्रमण का इलाज करे – Benefits of Banana flower treat infection in Hindi

केले के फूल के लाभ संक्रमण का इलाज करे - Benefits of Banana flower treat infection in Hindi

केले का फूल खाने का फायदा आपको संक्रमण से भी बचा सकता है। अध्‍ययनों से यह पता चलता है कि औषधीय गुणों से भरपूर केले के फूल संक्रमण संबंधी लक्षणों को कम करने में सहायक हो सकते हैं। क्‍योंकि इन फूलों में इथेनॉल (ethanol) होता है जो रोगजनक बैक्‍टीरिया के विकास को रोकने में मदद करते हैं। यह आपके किसी चोट या घाव का इलाज करने में भी सहायक हो सकता है। केले के फूल के अर्क में मौजूद गुण मलेरिया संबंधी परजीवी या बैक्‍टीरिया को नष्‍ट करने में भी सहायक होते हैं। जिससे आपको मलेरिया की रोकथाम करने में मदद मिल सकती है। यदि आप संक्रमण संबंधी इन लक्षणों से बचना चाहते हैं तो केले के फूल को आहार में शामिल करना एक अच्‍छा घरेलू उपचार हो सकता है।

(और पढ़े – मानसून में फंगल इंफेक्शन के घरेलू उपाय…)

केले के फूल खाने के फायदे डायबिटीज में – Banana Flower Benefits for Diabetes in Hindi

केले के फूल खाने के फायदे डायबिटीज में – Banana Flower Benefits for Diabetes in Hindi

डायबिटीज से परेशान लोगों को केले के फूल का पर्याप्‍त मात्रा में सेवन करना चाहिए। मधुमेह रोगी केले के फूल को कच्‍चे या उबाल कर सेवन कर सकते हैं। जिससे उनके शरीर में रक्‍त शर्करा के स्‍तर को नियंत्रित करने में मदद मिल सकती है। इसके अलावा केले के फूल का उपभोग करने पर शरीर में हीमोग्‍लोबिन के स्‍तर में वृद्धि भी होती है। क्‍योंकि केले के फूलों में फाइबर और आयरन की उच्‍च मात्रा होती है। जिसके कारण यह लाल रक्‍त कोशिकाओं के उत्‍पादन को बढ़ाने में मदद करता है। यदि आप भी मधुमेह रोगी हैं और इसका उपचार चल रहा है। तब उपचार प्रक्रिया को गति देने के लिए आयुर्वेदिक उपचार के रूप में केले के फूल का उपयोग किया जा सकता है।

(और पढ़े – मधुमेह को कम करने वाले आहार…)

केले के फूल का उपयोग मां का दूध बढ़ाये – Kele Ka phool For Improves Lactation in Hindi

केले के फूल का उपयोग मां का दूध बढ़ाये – Kele Ka phool For Improves Lactation in Hindi

जन्‍म देने के बाद अधिकांश महिलाओं में दूध उत्पादन कम हो जाता है। जिससे बच्‍चे को पर्याप्‍त पोषण नहीं मिल पाता है और वह कुपोषण का शिकार हो सकता है। इसलिए जिन महिलाओं में दूध उत्‍पादन की क्षमता कम होती है उन्हें अपने आहार में केले के फूल शामिल करना चाहिए। यह स्‍तनपान कराने वाली महिलाओं में दूध उत्‍पादन की क्षमता को बढ़ा सकता है। इसके अलावा केले के फूल का सेवन करने के फायदे अत्‍याधिक रक्‍तस्राव को ठीक करने में भी होते हैं। जिससे गर्भाशय को स्‍वस्‍थ रखने में मदद मिलती है। गर्भावस्‍था के दौरान केले के फूल का सेवन करना महिलाओं को कब्‍ज से भी बचाने में सहायक होता है। इसलिए गर्भवती और स्‍तनपान कराने वाली महिलाएं अपने आहार में नये और कोमल केले के फूल को शामिल कर सकती हैं।

(और पढ़े – ब्रेस्ट मिल्क (मां का दूध) बढ़ाने के लिए क्या खाएं…)

केले के फूल का इस्‍तेमाल फ्री रेडिकल्‍स से बचाये – Banana Flower For Reduce Free Radical Activity in Hindi

केले के फूल का इस्‍तेमाल फ्री रेडिकल्‍स से बचाये – Banana Flower For Reduce Free Radical Activity in Hindi

मानव शरीर में अधिकांश स्‍वास्‍थ्‍य समस्‍याओं का प्रमुख कारण फ्री रेडिकल्‍स या मुक्‍त कण होते हैं। जो हमारे शरीर की कोशिकाओं को क्षति पहुंचाते हैं। लेकिन इस समस्‍या से बचने का एक आसान सा घरेलू उपाय केले के फूल का सेवन करना हो सकता है। क्‍योंकि केले के फूल में विभिन्‍न प्रकार के एंटीऑक्‍सीडेंट होते हैं। जो कैंसर और समय से पहले बुढ़ापे के संकेतों को दूर करने में मदद करते हैं। आप भी इन फ्री रेडिकल्‍स से होने वाली समस्‍याओं का उपचार केले के फूल से कर सकते हैं। आप अपने नियमित आहार में केले के फूल की सब्‍जी या अन्‍य व्‍यंजनों को शामिल कर सकते हैं।

(और पढ़े – चेहरे की झुर्रियों के कारण और झुर्रियां कम करने के घरेलू उपाय…)

बनाना फ्लावर बेनिफिट्स फॉर वेट लॉस – Banana Flower Benefits for Weight Loss in Hindi

बनाना फ्लावर बेनिफिट्स फॉर वेट लॉस – Banana Flower Benefits for Weight Loss in Hindi

फाइबर और अन्‍य पोषक तत्‍वों से भरपूर केले के फूल वजन घटाने के लिए एक अच्‍छा विकल्‍प हो सकते हैं। नियमित रूप से केले के फूलों का सेवन करने से पेट को साफ रखने में मदद मिलती है। इसमें मौजूद फाइबर पाचन तंत्र को स्‍वस्‍थ रखने के साथ ही आपकी भूख को भी नियंत्रित कर सकता है। जिससे आपको बार-बार भोजन करने की आवश्‍यकता नहीं पड़ती है। जिससे आप अपने वजन को नियंत्रित कर सकते हैं। वजन कम करने के लिए आप केले के फूलों को सब्‍जी या सलाद और सूप आदि के रूप में भी सेवन कर सकते हैं। जो आपके वजन घटाने वाले अन्‍य उपायों में सहायक हो सकता है।

(और पढ़े – वजन घटाने और मोटापा कम करने वाले फल…)

केले के फूल के गुण मासिक धर्म के‍ लिए – Banana Flower For Menstrual Problems in Hindi

केले के फूल के गुण मासिक धर्म के‍ लिए – Banana Flower For Menstrual Problems in Hindi

मासिक धर्म के दौरान महिलाओं को विभिन्‍न प्रकार की समस्‍याओं का सामना करना पड़ता है। ऐसी स्थिति में केले के फूल के औषधीय गुण महिलाओं की इन समस्‍या को दूर कर सकते हैं। नियमित रूप से सेवन करने पर यह प्रोजेस्‍टेरोन के स्‍तर में सुधार कर सकता है जिससे अवधि के दौरान भारी रक्‍तस्राव को कम करने में मदद मिल सकती है। मासिक धर्म की अन्‍य समस्‍याओं को दूर करने के प्राकृतिक उपाय में भी केले के फूल प्रभावी होते हैं। इसके लिए महिलाएं ¼ कप केले के फूलों को थोड़े से पानी और नमक के साथ अच्‍छी तरह से पकाना चाहिए। इसके बाद इसे ठंड़ा करें और इसमें ¼ कप नारियल, थोड़ी सी मिर्च और ½ चम्‍मच जीरा मिलाकर खाना चाहिए। इस व्‍यंजन को यदि चावल के साथ खाया जाता है तो यह रक्‍तस्राव को और भी प्रभावी तरीके से रोक सकता है।

(और पढ़े – पीरियड्स में पेट दर्द का घरेलू उपाय…)

केले के फूल के औषधीय गुण तनाव कम करे – Kele ke phool Tanav kam kare in Hindi

केले के फूल के औषधीय गुण तनाव कम करे – Kele ke phool Tanav kam kare in Hindi

मानसिक स्‍वास्‍थ्‍य को बेहतर बनाने के लिए केले के फूल एक औषधीय विकल्‍प हो सकते हैं। क्‍योंकि बनाना फ्लावर में मैग्‍नीशियम की उच्‍च मात्रा होती है। जिसके कारण यह मूड में सुधार कर सकता है। साथ ही आपको तनाव और चिंता से मुक्ति दिला सकता है। नियमित आहार में केले के फूल को शामिल करने से यह बिना किसी दुष्‍प्रभाव के अवसाद दूर करने वाले (Anti-depressants) उत्‍पाद के रूप में कार्य करता है।

(और पढ़े – मानसिक तनाव दूर करने के घरेलू उपाय…

केले के फूल खाने के फायदे एंटी-एजिंग के लिए – Banana Flower For Anti-ageing power in Hindi

केले के फूल खाने के फायदे एंटी-एजिंग के लिए – Banana Flower For Anti-ageing power in Hindi

केले के फूल में मौजूद एंटीऑक्‍सीडेंट उन फ्री रेडिकल्‍स के प्रभाव को कम करने में भी प्रभावी होते हैं जो त्‍वचा कोशिकाओं को नुकसान पहुंचाते हैं। लेकिन केले के फूल में पाये जाने वाले पोषक तत्‍व और खनिज पदार्थ इन फ्री रेडिकल्‍स के कारण हुई क्षति ग्रस्‍त त्‍वचा कोशिकाओं की मरम्मत करने में मदद मिलती है। आप फ्री रेडिकल्‍स संबंधी त्‍वचा की अन्‍य समस्‍याओं का प्रभावी इलाज करने के लिए भी केले के फूल का इस्‍तेमाल कर सकते हैं। केले के फूल के औषधीय गुण कुछ प्रकार के त्‍वचा कैंसर का इलाज करने में भी सहायक होते हैं।

(और पढ़े – बढ़ती उम्र (एजिंग) के लक्षण कम करने के उपाय…)

केले का फूल है गर्भाशय के लिए लाभकारी – Banana Flower For Healthy Uterus in Hindi

केले का फूल है गर्भाशय के लिए लाभकारी – Banana Flower For Healthy Uterus in Hindi

बनाना फ्लावर गर्भाशय की समस्‍याओं को कम करने में मदद कर सकता है। जिन महिलाओं को गर्भाशय संबंधी समस्‍याएं होती हैं वे अपने आहार में केले के फूल को शामिल कर सकती हैं। क्‍योंकि इसके पोषक तत्‍व और खनिज पदार्थ गर्भाशय को स्‍वस्‍थ रखने में सहायक होते हैं। इसके लिए उन्‍हें केले के फूलों को हल्‍दी पाउडर, काली मिर्च (peppercorns) और जीरा के साथ सेवन करना चाहिए। केले के फूलों को जीरा और काली मिर्च के दानों के साथ उबाल कर काढ़ा भी बनाया जा सकता है। आप इस काढ़ें में हल्‍दी पाउडर और नमक मिलाकर सेवन करना अधिक फायदेमंद हो सकता है। इस तरह से गर्भाशय की समस्‍याओं को दूर करने के घरेलू उपाय में केले के फूल को शामिल किया जा सकता है।

(और पढ़े – गर्भाशय की जानकारी, रोग और उपचार…)

केले के फूल सेवन करने के फायदे पाचन तंत्र के लिए – Banana Flower for Gastrointestinal health in Hindi

केले के फूल सेवन करने के फायदे पाचन तंत्र के लिए – Banana Flower for Gastrointestinal health in Hindi

केले के फूल में घुलनशील और अघुलनशील दोनों प्रकार के फाइबर मौजूद होते हैं। घुलनशील फाइबर भोजन को पाचन तंत्र से आसानी से गुजरने देता है। क्‍योंकि यह पानी में घुलकर एक जेल का निर्माण करता है जो मल को आसानी से पारित करने में सहायक होता है। इसमें मौजूद अघुलनशील फाइबर अपाच्‍य उत्‍पादों के लिए थोक बढ़ाने में सहायक होता है क्‍योंक‍ि यह पानी में घुलता नहीं है। यदि आप भी जठरांत्र संबंधी समस्‍या से परेशान हैं तो केले के फूल का उपयोग कर सकते हैं। नियमित आहार में केले के फूल को शामिल कर आप पाचन संबंधी समस्‍याओं से छुटकारा पा सकते हैं।

(और पढ़े – पाचन शक्ति बढ़ाने के घरेलू उपाय…)

केले के फूल का प्रयोग रखे दिल को स्‍वस्‍थ – Banana Flower For Heart disease in Hindi

केले के फूल का प्रयोग रखे दिल को स्‍वस्‍थ – Banana Flower For Heart disease in Hindi

हृदय स्‍वास्‍थ्‍य को बेहतर बनाए रखने में केले के फूल आपकी मदद कर सकते हैं। केले के फूल में टैनिन, एसिड, फ्लेवोनोइड और अन्‍य एंटीऑक्‍सीडेंट उच्‍च मात्रा में होते हैं। ये सभी घटक उन फ्री रेडिकल्‍स को रोकने में सहायक होते हैं जो आपके हृदय को क्षति पहुंचा सकते हैं। इसके अलावा केले के फूल में पाये जाने वाले एंटीऑक्‍सीडेंट ऑक्‍सीडेटिव क्षति को रोकने में भी सहायक होते हैं जो जिससे कई गंभीर हृदय रोग होने की संभावना होती है। नियमित रूप से केले के फूल का उपयोग करना आपको इन सभी समस्‍याओं से बचा सकता है।

(और पढ़े – दिल को स्‍वस्‍थ रखने के लिए सर्वश्रेष्‍ठ आहार…)

केले के फूल की सलाद बनाने की विधि – Banana flower Salad recipe in Hindi

केले के फूल से आप अपने लिए पौष्टिक सलाद बना सकते हैं। केले के फूल की सलाद बनाने के लिए आपको चाहिए।

  • केला के फूल – 2
  • मक्‍खन – 1 बड़ा चम्मच
  • प्‍याज – 1 चम्‍मच बारीक कटा हुआ
  • शैल और पका हुआ झींगा – 500 ग्राम
  • भुने हुए बादाम या मिश्रित अन्‍य नट्स – 5 बडे चम्मच
  • नींबू का रस – 1 चम्‍मच
  • नमक और मिर्च – स्‍वादानुसार

केले के फूल की सलाद बनाने का तरीका –

केले के फूलों को अच्‍छी तरह से साफ करें और छोटे टुकड़ों में काट लें। इन्‍हें एक कटोरी पानी में भिगोंए और इसमें 1 चम्मच सेब का सिरका भी मिलाएं। इसके बाद मक्‍खन में थोड़ा सा नमक और 1 चुटकी काली मिर्च पाउडर मिलाकर झींगा को अच्‍छी तरह से पकाएं। आपके द्वारा लिये गए नट्स के मिश्रण को अच्‍छी तरह से (मोटा गांठदार) पीसें। याद रखें आपको पेस्‍ट नहीं बनाना है। एक कटोरे में केले के फूल सहित इन सभी घटकों को लें और 2 से 3 मिनिट तक अच्‍छी तरह से मिलाएं। इस मिश्रण को लगभग 30 मिनिट के लिए फ्रिज में रखें और फिर इसे पुदीने की पत्तियों से अच्‍छी तरह सजाएं। आपकी केले के फूल वाली सलाद तैयार हैं।

(और पढ़े – सलाद खाने के फायदे, नुकसान, समय और तरीका…)

केले के फूल खाने के नुकसान – Kele Ke phool Khane ke Nuksan in Hindi

केले के फूल खाने के नुकसान – Kele Ke phool Khane ke Nuksan in Hindi

सामान्‍य रूप से केले के फूल खाना स्‍वास्‍थ्‍य के लिए अच्‍छा होता है। लेकिन कुछ परिस्थितियों में केले के फूल खाने के कुछ सामान्‍य से नुकसान या साइड इफैक्‍ट्स हो सकते हैं। जो इस प्रकार हैं।

  • केले के फूल का उपयोग करने से पहले इन्‍हें अच्‍छी तरह से साफ कर लेना चाहिए। क्‍योंकि केले के फूल से निकलने वाला रस आपकी त्‍वचा में खुजली का कारण बन सकता है।
  • केले के फूल को बहुत अधिक मात्रा में सेवन करने से बचना चाहिए। अन्‍यथा यह पेट की समस्‍याओं को बढ़ा सकता है।
  • किसी स्‍वास्‍थ्‍य संबंधी उपचार के लिए केले के फूलों का इस्‍तेमाल करने से पहले अपने चिकित्‍सक से सलाह लेना आवश्‍यक है।

(और पढ़े – खुजली दूर करने के लिए 10 घरेलू उपाय…)

इसी तरह की अन्य जानकरी हिन्दी में पढ़ने के लिए हमारे एंड्रॉएड ऐप को डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं। और आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।

आपको ये भी जानना चाहिये –

Leave a Comment

Subscribe for daily wellness inspiration