गिलोय के जूस के फायदे, उपयोग और नुकसान – Giloy Juice Benefits And Side Effects in Hindi

गिलोय के जूस के फायदे, उपयोग और नुकसान – Giloy Juice Benefits And Side Effects in Hindi
Written by Jaideep

Giloy Juice Benefits In Hindi गिलोय के रस का उपयोग आयुर्वेदिक चिकित्सा में सदियों से किया जाता रहा है। गिलोय एक औषधीय जड़ी बूटी है जो हमारी अधिकांश स्‍वास्‍थ्‍य समस्‍याओं को दूर करने में सहायक होती है। इसलिए जो लोग गिलोय से परिचित हैं वे अक्‍सर गिलोय के फायदे और नुकसान जानने के लिए उत्‍सुक रहते हैं। गिलोय के फायदे प्राप्‍त करने के लिए इसे अन्‍य जड़ी बूटीयों के साथ मिलाकर भी उपयोग किया जाता है। गठिया के दर्द से छुटकारा पाने के लिए गिलोय के साथ कॉस्‍ट तेल को मिलाकर उपयोग किया जाता है। इसके अलावा गिलोय का उपयोग संधिशोथ, जिगर की बीमारियों, कब्‍ज, पाचन संबंधी समस्‍याओं और कमजोर प्रतिरक्षा तंत्र के लिए किया जाता है। इस लेख में आप गिलोय जूस के फायदे जानेगें जो मधुमेह और आंखों की समस्‍याओं को दूर करने में सहायक हैं।

1. गिलोय क्‍या है – Giloy Kya Hai in Hindi
2. गिलोय के औषधीय गुण – Giloy Nutritional Value in Hindi
3. गिलोय जूस के फायदे – Giloy Juice Ke Fayde in Hindi
4. गिलोय जूस बनाने की विधि – Giloy Juice Recipe in Hindi
5. गिलोय जूस के नुकसान – Giloy Juice Ke Nuksan in Hindi

गिलोय क्‍या है – Giloy Kya Hai in Hindi

गिलोय क्‍या है - Giloy Kya Hai in Hindi

जैसा की आप नाम से ही समझ रहे हैं कि गिलोय शब्‍द किसी औषधी से संबंधित है। यह एक जड़ी बूटी है जिसका आयुर्वेद में अपना अलग मुकाम है। गिलोय को जड़ी बूटीयों की रानी माना जाता है। आयुर्वेद में इसे विभिन्‍न प्रकार की बीमारियों के इलाज के लिए उपयोग किया जाता है। अपने औषधीय गुणों के कारण गिलोय को संस्‍कृत में ‘’अमृता’’ कहा जाता है। यह एक उष्‍णकटिबंधीय झाडी के रूप में होती है। आइए जाने गिलोय के औषधीय गुण क्‍या हैं।

(और पढ़े – गिलोय के फायदे, स्वास्थ्य लाभ और औषधीय गुण…)

गिलोय के औषधीय गुण – Giloy Nutritional Value in Hindi

विभिन्‍न बीमारियों को ठीक करने वाले गिलोय में पोषक तत्‍वों की भरपूर मात्रा होती है। गिलोय में एल्कलॉइड (alkaloids) की उच्‍च मात्रा होती है। इसके अलावा गिलोय में पाए जाने वाले अन्‍य पोषक तत्‍वों में फ्लेवोनोइड्स, कार्बोहाइड्रेट आदि हैं। इन पोषक तत्‍वों की उपलब्‍धता के कारण गिलोय का प्रयोग कई हर्बल और आयुर्वेदिक दवाओं को बनाने के लिए किया जाता है। आइए जाने ग्‍लोय जूस के फायदे क्‍या हैं।

गिलोय जूस के फायदे – Giloy Juice Ke Fayde in Hindi

आयुर्वेदिक गिलोय का जूस पीनें के फायदे अनेक हैं। गिलोय का अंग्रेजी नाम टिनोसपोरा (Tinospora) है जिसे गुडूची के नाम से भी जाना जाता है। गिलोय की पत्तियो में कैल्शियम, फास्‍फोरस, प्रोटीन और तने में स्टार्च पाया जाता है। इनके आलावा इसमें एंटीबायोटिक और एंटीवायरल तत्‍व भी पाएं जाते है। जो आपकी प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूत बनाने का काम करते हैं तो आइये जानतें हैं गिलोय जूस पीने के फायदे हमें किन-किन स्वास्थ्य समस्याओं से बचा सकते हैं।

गिलोय जूस के लाभ मधुमेह के लिए – Giloy Juice Benefits For Diabetes in Hindi

गिलोय जूस के लाभ मधुमेह के लिए - Giloy Juice Benefits For Diabetes in Hindi

आज के इस दौर में मधुमेह एक गंभीर समस्‍या बनती जा रही है। लेकिन यदि प्राकृतिक उपचार विधियों का उपयोग किया जाए तो मधुमेह को नियंत्रित किया जा सकता है। इसके लिए आप गिलोय का उपयोग कर सकते हैं। एक अध्‍ययन के मुताबिक गिलोय होइपोग्‍लइकेमिक गुण होते हैं जो मधुमेह और विशेष रूप से मधुमेह प्रकार 2 का इलाज करने में मदद करता है। गिलोय जूस का नियमित सेवन रक्‍त शर्करा और लिपिड के स्‍तर को कम करने में सहायक होता है। इस तरह से उच्‍च रक्‍तचाप रोगी के लिए गिलोय जूस के फायदे अधिक होते हैं।

(और पढ़े – मधुमेह को कम करने वाले आहार…)

गिलोय रस के लाभ प्रतिरक्षा बढ़ाने के लिए – Benefits of Giloy Juice for Boosts Immunity in Hindi

गिलोय रस के लाभ प्रतिरक्षा बढ़ाने के लिए - Benefits of Giloy Juice for Boosts Immunity in Hindi

इम्‍यूनिटी पावर को बढ़ाने के लिए गिलोय रस का उपयोग बहुत ही फायदेमंद होता है। गिलोय जूस का सेवन करने से शरीर को फिर से जीवंत कर सकता है। ऐसा इसलिए है क्‍योंकि गिलोय में एंटी-ऑक्‍सीडेंट गुण होते हैं जो शरीर की प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूत करने में मदद करते हैं। ये एंटी-ऑक्‍सीडेंट हमारे शरीर को हानिकारक जीवाणुओं के प्रभाव से बचाते हैं और उन्‍हें शरीर से दूर भी करते हैं। यदि गिलोय रस का सेवन किया जाता है तो यह यकृत और गुर्दे दोनो के स्‍वास्‍थ्‍य में सुधार करता है और विषाक्‍त पदार्थों को बाहर करने में मदद करता है। यह मूत्र संक्रमण को रोकने में भी सहायक होता है। इस तरह से आप अपनी प्रतिरक्षा शक्ति को बढ़ाने के लिए गिलोय जूस का उपभोग कर सकते हैं।

(और पढ़े – रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के उपाय…)

गिलोय रस के फायदे पाचन में – Giloy juice Benefits For Digestion in Hindi

गिलोय रस के फायदे पाचन में - Giloy juice Benefits For Digestion in Hindi

खराब जीवनशैली और गलत खानपान के कारण आधी से ज्‍यादा आवादी अपच और पेट की अन्‍य समस्‍याओं से प्रभावित है। लेकिन इस प्रकार की समस्‍या का हल गिलोय जूस से किया जा सकता है। गिलोय रस पाचन तंत्र को स्‍वस्‍थ्‍य रखने में मदद करता है। आंवला के पाउडर के साथ आधा ग्राम गिलोय पाउडर को मिलाकर जूस तैयार करें और इसका नियमित रूप से दिन में 2 बार सेवन करें। यह विशेष रूप से पाचन संबंधी समस्‍याओं को ठीक कर सकता है। इसके अलावा आप मक्‍खन के साथ ही गिलोय जूस को मिलाकर सेवन कर सकते हैं। यह कब्‍ज और बवासीर जैसी गंभीर समस्‍याओं के लिए भी फायदेमंद माना जाता है। यदि आपको ऐसी किसी भी प्रकार की समस्‍या है तो गिलोय जूस के लाभ प्राप्‍त किये जा सकते हैं।

(और पढ़े – पाचन शक्ति बढ़ाने के घरेलू उपाय…)

गिलोय जूस तनाव को कम करे – Giloy juice Benefits For Reduce Stress in Hindi

गिलोय जूस तनाव को कम करे - Giloy juice Benefits For Reduce Stress in Hindi

आप अपने मानसिक स्‍वास्‍थ्‍य को बढ़ावा देने के लिए गिलोय जूस का उपभोग कर सकते हैं। इस औषधीय जड़ी बूटी में मानसिक तनाव और चिंता को दूर करने की क्षमता होती है। गिलोय को अक्‍सर एक स्‍वास्‍थ्‍य टॉनिक बनाने के लिए अन्‍य जड़ी बूटीयों के साथ मिलाकर उपयोग किया जाता है। इसका सेवन न केवल मस्तिष्‍क में मौजूद विषाक्‍तता को दूर कर सकता है बल्कि यह आपकी याद रखने की क्षमता को भी बढ़ाता है। यदि आप तनाव या चिंता आदि से ग्रसित हैं तो गिलोय जूस को अपने आहार में शामिल कर सकते हैं। यह मानसिक स्‍वास्‍थ्‍य को बढ़ाने और आपके चिंता, तनाव आदि को कम करने में सहायक होता है।

(और पढ़े – मानसिक तनाव दूर करने के घरेलू उपाय…)

कैंसर रोग की कारगर औषधि है गिलोय – Giloy Juice For Cancer Prevention in Hindi

कैंसर रोग की कारगर औषधि है गिलोय - Giloy Juice For Cancer Prevention in Hindi

सबसे गंभीर स्‍वास्‍थ्‍य समस्‍या के रूप में कैंसर को जाना जाता है। कैंसर एक लाइलाज बीमारी है लेकिन प्राकृतिक उत्‍पादों का उपयोग कर इसके लक्षणों को कम किया जा सकता है। गिलोय जूस का सेवन कैंसर रोगीयों के लिए फायदेमंद होता है। यह शरीर में स्‍टेम कोशिकाओं के प्रसार को बढ़ाता है और सफेद रक्‍त कोशिकाओं के उत्‍पादन को उत्‍तेजित करता है। गिलोय के पोषक तत्‍व शरीर में ऐसे एंटीबॉडी बनाते हैं जो कैंसर कोशिकाओं को बढ़ने से रोकती हैं। अध्‍ययनों ने भी इस बात की पुष्टि की है। इस तरह से कैंसर की रोकथाम के लिए गिलोय का सेवन फायदेमंद हो सकता है।

(और पढ़े – क्या खाने से कैंसर का खतरा कम किया जा सकता है…)

गिलोय रस के गुण हृदय स्वस्थ रखे – Giloy Juice For Heart Health in Hindi

गिलोय रस के गुण हृदय स्वस्थ रखे - Giloy Juice For Heart Health in Hindi

जिन लोगों को हृदय स्‍वास्‍थ्‍य से संबंधित समस्‍याएं होती हैं उनके लिए गिलोय जूस बहुत ही लाभकारी माना जाता है। कालीमिर्च के साथ गिलोय रस का सेवन करने पर यह आपके दिल को स्‍वस्‍थ्‍य रख सकता है। नियमित उपभोग करने पर यह धमनियों के साथ-साथ हृदय की समस्‍याओं को दूर करने और कार्डियोप्रोटेक्‍टीव एजेंट के रूप में कार्य करने में मदद करता है। यदि आप भी अपने हृदय को स्‍वस्‍थ्‍य रखना चाहते हैं तो गिलोय रस का नियमित उपभोग कर सकते हैं।

(और पढ़े – दिल को स्‍वस्‍थ रखने के लिए सर्वश्रेष्‍ठ आहार…)

गिलोय जूस बेनिफिट्स फॉर स्किन – Giloy Juice For Skin Health in Hindi

गिलोय जूस बेनिफिट्स फॉर स्किन - Giloy Juice For Skin Health in Hindi

स्‍वास्‍थ्‍य के लिए फायदेमंद होने के साथ ही गिलोय त्‍वचा के लिए भी लाभकारी होता है। यदि सुबह के समय खाली पेट घी के साथ गिलोय पाउडर का सेवन किया जाता है तो यह सभी प्रकार की त्‍वचा समस्‍याओं को दूर करने में मदद करता है। इसके अलावा गिलोय जूस का सेवन भी त्‍वचा की समस्‍याओं जैसे त्‍वचा की पुरानी खुजली, सनबर्न, कॉस्‍मेटिक एलर्जी, दाद, सोरायसिस आदि को प्रभावी रूप से रोक सकती है। इस तरह से गिलोय जूस त्‍वचा के लिए फायदेमंद जड़ी बूटी साबित होता है।

(और पढ़े – खुजली दूर करने के लिए 10 घरेलू उपाय…)

डेंगू के लिए रामबाण है गिलोय का रस – Giloy Juice For Dengue in Hindi

डेंगू के लिए रामबाण है गिलोय का रस - Giloy Juice For Dengue in Hindi

पुरानी से पुरानी और गंभीर बुखार को दूर करने में गिलोय जूस आपकी सहायता कर सकता है। चूंकि गिलोय प्रकृति में एंटी-पायरेरिक है इसलिए यह हमारी कई गंभीर स्‍वास्‍थ्‍य समस्‍याओं को दूर करने में मदद कर सकता है। नियमित उपभोग करने पर गिलोय जूस आपके रक्‍त प्‍लेटलेट की संख्‍या को बढ़ाने में मदद करता है जिससे डेंगू बुखार के लक्षणों को कम करने में मदद मिलती है। इसके अलावा गिलोय और शहद का सेवन म‍लेरिया का उपचार भी कर सकता है। यदि आपके आस-पास डेंगू बुखार का संक्रमण हो तो इस दौरान गिलोय जूस का सेवन आपके लिए लाभकारी हो सकता है।

(और पढ़े – डेंगू में क्‍या खाना चाहिए और क्‍या नहीं…)

गिलोय जूस का प्रयोग अस्थमा के लिए – Use Of Giloy Juice For Asthma in Hindi

गिलोय जूस का प्रयोग अस्थमा के लिए - Use Of Giloy Juice For Asthma in Hindi

सांस से संबंधित समस्‍याएं मनुष्‍यों के लिए बहुत ही गंभीर हो सकती हैं। अस्‍थमा भी इसी तरह की बीमारी है जिसका इलाज गिलोय जूस की सहायता से किया जा सकता है। अध्‍ययनों से पता चलता है कि अस्‍थमा रोगी को सांस लेने में तकलीफ को कम करने के लिए गिलोय जूस का सेवन किया जा सकता है। यह गले की घरघराहट को भी ठीक कर सकता है।

(और पढ़े – अस्थमा (दमा) के कारण, लक्षण, उपचार एवं बचाव…)

गिलोय रस का इस्‍तेमाल आंखों को स्वस्थ रखे – Giloy Juice Benefits For Eye Health in Hindi

गिलोय रस का इस्‍तेमाल आंखों को स्वस्थ रखे - Giloy Juice Benefits For Eye Health in Hindi

हमारे शरीर के सबसे महत्‍वपूर्ण आंगों में आंख भी शामिल है जिसके बिना दुनिया अधूरी होती है। गिलोय जूस का उपयोग आंखों की समस्‍याओं को दूर करने में किया जाता है। इसका उपयोग आंखों के देखने की क्षमता को बढ़ाता है। गिलोय जूस सेवन करने के फायदे तो होते ही हैं लेकिन इसे आंख में भी लगाया जाता है। जिससे आंखों के संक्रमण और अन्‍य आंख संबंधी बीमारियों से छुटकारा मिलता है। इसके लिए आप थोड़ी सा गिलोय लें और इसे पानी में उबाल लें। इस पानी को ठंडा होने दें और अपनी आंखों में लगाएं। यह आपकी आंखों को स्‍वस्‍थ्‍य रखने का सबसे प्रभावी तरीका हो सकता है।

(और पढ़े – आंखों की रोशनी बढ़ाने के लिए घरेलू उपाय…)

गिलोय जूस बनाने की विधि – Giloy Juice Recipe in Hindi

गिलोय जूस बनाने की विधि - Giloy Juice Recipe in Hindi

आप अपने उचित स्‍वास्‍थ्‍य के लिए गिलोय जूस का सेवन कर सकते हैं। इस जूस को बनाने के लएि आपको केवल गिलोय की बेल (लगभग 8-10 फीट लंबी) की आवश्‍यकता होती है। आप इस बेल को लें और इसे अच्‍छी तरह से साफ कर लें। आप इस बेल की छाल को भी निकाल दें। अब इस बेल को छोटे-छोटे टुकडे कर लें और इन्‍हें अच्‍छी तरह से पीस लें। जब यह अच्‍छा पेस्‍ट बन जाए तो इसे पानी में मिलाकर उबाल लें। इस उबले हुए पानी को पहले ठंडा होने दें और फिर इसके बाद इसे छान कर किसी बर्तन में इक्‍हट्ठा कर लें। आपका औषधीय गिलोय जूस तैयार है।

गिलोय जूस के नुकसान – Giloy Juice Ke Nuksan in Hindi

गिलोय जूस के नुकसान – Giloy Juice Ke Nuksan in Hindi

लाभकारी होने के साथ ही गिलोय कुछ लोगों के लिए नुकसानदायक हो सकता है। यदि आवश्‍यकता से अधिक मात्रा में गिलोय या इसके जूस का सेवन किया जाता है तो इसके दुष्‍प्रभाव कब्‍ज, पेट की जलन, पेट दर्द आदि के रूप में हो सकते हैं। यदि आप मधुमेह रोगी हैं और दवाओं का सेवन कर रहे हैं तो बहुत ही कम मात्रा में गिलोय का सेवन करना चाहिए। या फिर इसका सेवन करने से पहले अपने डॉक्‍टर से सलाह लेना चाहिए।

(और पढ़े – पेट दर्द के घरेलू उपाय और नुस्खे…)

इसी तरह की अन्य जानकरी हिन्दी में पढ़ने के लिए हमारे एंड्रॉएड ऐप को डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं। और आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।

आपको ये भी जानना चाहिये –

Leave a Comment

1 Comment

Subscribe for daily wellness inspiration