वजन और मोटापा कम करने के 50 आयुर्वेदिक उपाय और टिप्स – Ayurvedic Tips For Weight Loss In Hindi

वजन और मोटापा कम करने के 50 आयुर्वेदिक उपाय और टिप्स - Ayurvedic Tips For Weight Loss In Hindi
Written by Shivam

अधिकांश लोगों के लिए मोटापा एक गंभीर समस्‍या बन चुका है। लेकिन ऐसे लोग वजन कम करने के लिए आयुर्वेदिक टिप्‍स को अपना सकते हैं। मोटापा न केवल उनके शरीर को विकृत करता है बल्कि यह उनके संपूर्ण स्‍वास्‍थ्‍य पर भी नकारात्मक प्रभाव डालता है। हालांकि वजन कम करने के लिए विभिन्‍न व्‍यायाम और दवओं का उपयोग किया जा सकता है। लेकिन सभी लोगों के पास व्‍यायाम के लिए पर्याप्‍त समय और महंगी दवाएं लेना संभव नहीं है। ऐसे लोगों के लिए वजन कम करने के आयुर्वेदिक टिप्‍स बहुत उपयोगी होते हैं। आज इस आर्टिकल में आप स्‍वाभाविक रूप से वजन कम करने के आयुर्वेदिक टिप्‍स जानेगें। जिनका कोई गंभीर दुष्‍प्रभाव भी नहीं होता है।

1. क्‍या आयुर्वेद वजन घटाने में मदद करता है – Kya Ayurveda Vajan Ghatane Me Madad Karta Hai In Hindi
2. आयुर्वेद से वजन घटाने के लिए टिप्‍स – Ayurveda Se Vajan Ghatane Ke Liye Tips In Hindi

3. आयुर्वेदिक टिप्‍स और दवाएं जो वजन कम करें – Ayurvedic Tips and Medicines For Weight Loss in Hindi

क्‍या आयुर्वेद वजन घटाने में मदद करता है – Kya Ayurveda Vajan Ghatane Me Madad Karta Hai In Hindi

क्‍या आयुर्वेद वजन घटाने में मदद करता है – Kya Ayurveda Vajan Ghatane Me Madad Karta Hai In Hindi

नि:संदेह आयुर्वेदिक उपचार और टिप्‍स वजन को प्रभावी रूप से कम करने में मदद करते हैं। इसके अलावा आयुर्वेद समस्‍या के मूल कारणों की पहचान कर उनका जड़ से इलाज करने में भी सहायक होता है। आयुर्वेद में हर समस्‍या के लिए अंतर्निहित सिद्धांत है। आयुर्वेद में दवाओं का सुझाव एक व्‍यक्ति के शरीर के प्रकार, समस्‍या और इनके लक्षणों के आधार पर दिया जाता है। वजन घटाने के लिए बहुत सी आयुर्वेदिक दवाएं हैं जिन्‍हें आप उपयोग कर सकते हैं। हालांकि यह समझना बहुत जरूरी है कि आयुर्वेदिक दवाओं से आपको त्‍वरित लाभ नहीं मिल सकता है। बल्कि यह आपकी समस्‍या को धीरे-धीरे किंतु स्‍थाई रूप से दूर करता है। सबसे अच्‍छी बात यह होती है कि आयुर्वेदिक उपचार करने में रासायनिक दवाओं की तरह गंभीर दुष्‍प्रभाव नहीं होते हैं।

(और पढ़े – आयुर्वेदिक तरीके से मोटापा कम करने के उपाय…)

आयुर्वेद से वजन घटाने के लिए टिप्‍स – Ayurveda Se Vajan Ghatane Ke Liye Tips In Hindi

  1. वजन कम करने के लिए जल्‍दी सोएं और जल्‍दी उठें – Early To Bed And Early To Rise for Weight loss in Hindi
  2. वजन कम करने के लिए दिन में तीन बार भोजन करें –Three meals for Weight loss in Hindi
  3. आयुर्वेदिक टिप्‍स फॉर वेट लॉस लेमन वाटर – Ayurvedic Tips for weight loss Lemon water in Hindi
  4. वजन कम करने के लिए नियमित व्यायाम – Regular Exercise for Weight loss in Hindi
  5. वजन कम करने आयुर्वेदिक टिप्‍स उपवास रहें – Vajan Kam Karne Ke Ayurvedic Tips Upwas Rahe In Hindi
  6. वजन कम करने आयुर्वेदिक टिप्‍स प्रकृति के अनुसार चलें – Vajan Kam Karne Ke Ayurvedic Tips Nature ke anusar chale in Hindi
  7. वजन कम करने के टिप्‍स खूब पानी पीए – Drink more Water for Weight loss in Hindi

आपके लिए यह समझना आवश्‍यक है कि टिप्‍स और उपचार में थोड़ा सा अंतर है। टिप्‍स से तात्पर्य अपनी जीवनशैली में परिवर्तन करने से है। जबकि उपचार में हम विभिन्‍न खाद्य पदार्थों, जड़ी बूटीयों का मौखिक और बाहृ रूप में उपयोग करते हैं। उसी तरह से वजन कम करने के लिए भी कुछ आयुर्वेदिक टिप्‍स होते हैं। जिनको अपने दैनिक जीवन में शामिल कर आप वजन को नियंत्रित कर सकते हैं। इसलिए दवाओं और औषधी का उपयोग करने से पहले आपको इन टिप्‍स को आजमाना चाहिए।

वजन कम करने के लिए जल्‍दी सोएं और जल्‍दी उठें – Early To Bed And Early To Rise for Weight loss in Hindi

वजन कम करने के लिए जल्‍दी सोएं और जल्‍दी उठें - Early To Bed And Early To Rise for Weight loss in Hindi

वजन कम करने के लिए सबसे अच्‍छा तरीका है समय पर सोना और समय पर जल्‍दी उठना है। वैसे भी अच्‍छी जीवन शैली में जल्‍दी सोना और जल्‍दी उठना शामिल है। किसी भी स्‍वस्‍थ व्‍यक्ति के लिए सोने का सबसे अच्‍छा समय रात के 10 से 11 बजे का है। जबकि सुबह उठने का समय 5 से 6 बजे का है। हमारा शरीर प्रकृति के अनुरूप एक संगठित तरीके से कार्य करता है और प्राकृतिक चक्र का पालन करता है जो हमारे शरीर के लिए सबसे अच्‍छा होता है। हमारा शरीर दिन के दौरान सक्रिय रहता है और रात में आराम करता है।

जब आप इस दिनर्चया का पालन करते हैं तो मोटापे सहित कई स्‍वास्‍थ्‍य समस्‍याएं स्‍वाभाविक रूप से दूर हो सकती हैं।

(और पढ़े – सुबह जल्दी उठने के आसान तरीके…)

वजन कम करने के लिए दिन में तीन बार भोजन करें –Three meals for Weight loss in Hindi

वजन कम करने के लिए दिन में तीन बार भोजन करें –Three meals for Weight loss in Hindi

एक स्‍वस्‍थ शरीर के लिए दिन में तीन बार भोजन करना अच्‍छा होता है। लेकिन यह स्थिति उस समय सही है जब आपके शरीर में रक्‍त शर्करा का स्‍तर सामान्‍य हो। आयुर्वेद में ऐसे बहुत से आहार करने की सलाह दी जाती है जो कि सामान्‍य पेशेवर चिकित्‍सक देते हैं। आयुर्वेद के अनुसार एक स्‍वस्‍थ नाश्‍ता, शानदार पोषक तत्व युक्त दोपहर का भोजन और रात्रि में एक हल्‍का भोजन करने की सलाह दी जाती है। हमारा जिगर दोपहर के समय सबसे अच्‍छा होता है इसलिए आपको दोपहर के समय भारी भोजन करना सही है। इसके अलावा स्‍वस्‍थ और प्राकृतिक डिटॉक्सिफिकेशन के लिए हमारे लीवर को रात में पर्याप्‍त आराम करना चाहिए। यही कारण है कि रात्रि का हमारा भोजन हल्‍का होना चाहिए।

(और पढ़े – वजन घटाने के लिए इंडियन डाइट चार्ट…)

आयुर्वेदिक टिप्‍स फॉर वेट लॉस लेमन वाटर – Ayurvedic Tips for weight loss Lemon water in Hindi

आयुर्वेदिक टिप्‍स फॉर वेट लॉस लेमन वाटर – Ayurvedic Tips for weight loss Lemon water in Hindi

प्राकृतिक रूप से शरीर को डिटॉक्सिफाइंग करने के लिए आप नींबू पानी का उपयोग कर सकते हैं। आयुर्वेदिक टिप्‍स के अनुसार नीबू पानी का सेवन करना शरीर के लिए बेहद फायदेमंद होता है। यह आपके वजन को संतुलित या कम करने में सहायक हो सकता है। नियमित रूप से सुबह 1 गिलास गर्म पानी के साथ नींबू के रस का सेवन न केवल पाचन तंत्र को स्‍वस्‍थ रखता है बल्कि वजन भी कम करता है। नींबू में ऐसे गुण होते हैं जो गर्म पानी के साथ मिलकर चयापचय को बढ़ाते हैं और वसा को आसानी से दूर कर सकते हैं।

इस तरह से आप भी अपने वजन को नियंत्रित करने के लिए आयुर्वेदिक टिप्‍स से लाभ ले सकते हैं।

(और पढ़े – नींबू पानी के फायदे और नुकसान…)

वजन कम करने के लिए नियमित व्यायाम – Regular Exercise for Weight loss in Hindi

वजन कम करने के लिए नियमित व्यायाम – Regular Exercise for Weight loss in Hindi

फिट और तंदरुस्त बने रहने के लिए आपको रोजाना व्‍यायाम करना चाहिए। वजन कम करने के आयुर्वेदिक तरीके के अनुसार व्‍यायाम करने से पसीना निकलता है। आयुर्वेदिक चिकित्‍सकों का मानना है कि नियमित रूप से किसी योग या व्‍यायाम को 40 से 45 मिनिट तक करने की आवश्‍यकता होती है। ऐसा करना आपके शरीर में अतिरिक्‍त वसा को कम करने में सहायक होता है जिससे आप आसानी से अपना वजन कम कर सकते हैं। लेकिन व्‍यायाम और योग के साथ ही आपको आयुर्वेदिक और संतुलित आहार करना चाहिए।

यह न केवल आपके शरीर को स्‍वस्‍थ रखता है बल्कि आपके मानसिक स्‍वास्‍थ्‍य को भी बढ़ाता है।

(और पढ़े – वजन घटाने के लिए सबसे असरदार 6 योगासन…)

वजन कम करने आयुर्वेदिक टिप्‍स उपवास रहें – Vajan Kam Karne Ke Ayurvedic Tips Upwas Rahe In Hindi

वजन कम करने आयुर्वेदिक टिप्‍स उपवास रहें – Vajan Kam Karne Ke Ayurvedic Tips Upwas Rahe In Hindi

आयुर्वेद के अनुसार पाचन तंत्र को सही तरीके से काम करने के लिए एक दिन का आराम देना आवश्‍यक है। हालांकि पाचन तंत्र कभी भी पूरी तरह से रूका हुआ या आराम की मुद्रा में नहीं होता है। लेकिन फिर भी ऐसा माना जाता है हर व्‍यक्ति को सप्‍ताह में कम से कम 1 दिन का उपवास रखना चाहिए। सप्‍ताह में 1 दिन का उपवास आपकी आंतों के लिए बहुत ही फायदेमंद होता है। उपवास के दौरान आप अपने शरीर को तरल पेय, चाय, हल्‍के सूप आदि का सेवन कर सकते हैं जो आपको ऊर्जा दिलाने में सहायक हैं।

(और पढ़े – उपवास (व्रत) के फायदे और नुकसान…)

वजन कम करने आयुर्वेदिक टिप्‍स प्रकृति के अनुसार चलें – Vajan Kam Karne Ke Ayurvedic Tips Nature ke anusar chale in Hindi

वजन कम करने आयुर्वेदिक टिप्‍स प्रकृति के अनुसार चलें – Vajan Kam Karne Ke Ayurvedic Tips Nature ke anusar chale in Hindi

प्रकृति हमें वे सभी साधन उपलब्‍ध कराती है जो हमारे स्‍वास्‍थ्‍य के लिए अच्‍छे होते हैं। इसके लिए आपको मौसमी फलों और सब्जियों का भरपूर सेवन करना चाहिए। हमारे शरीर को भी विभिन्‍न मौसमी फलों और सब्जियों में मौजूद पोषक तत्‍वों की अतिआवश्‍यकता होती है। सभी प्रकार के अनाजों के साथ ही फलों और सब्जियों युक्त संतुलित आहार आपके शरीर के वजन को नियंत्रित करने में सहायक होता है। आप भी अपने वजन को कम करने के लिए आयुर्वेदिक टिप्‍स के रूप में संतुलित आहार का सेवन कर सकते हैं।

(और पढ़े – जीएम डाइट है वजन कम करने का सबसे तेज तरीका…)

वजन कम करने के टिप्‍स खूब पानी पीए – Drink more Water for Weight loss in Hindi

वजन कम करने के टिप्‍स खूब पानी पीए – Drink more Water for Weight loss in Hindi

अगर आप आयुर्वेदिक तरीके से वजन कम करना चाहतें हैं तो खूब पानी पीयें। पानी हमारे शरीर के लिए बहुत ही आवश्‍यक घटक है। लेकिन पानी पीने के गलत तरीके आपको नुकसान पहुंचा सकते हैं। भोजन करने के तुरंत बाद में या तुरंत पहले पानी पीना उचित नहीं है। जबकि पानी पीना समग्र स्‍वास्‍थ्‍य और वजन कम करने के लिए अच्‍छा होता है। भोजन के साथ पानी का सेवन करना पाचन में सहायक होता है। यही कारण है कि बहुत से लोग मोटे होते हैं क्‍योंकि उनका भोजन पर्याप्‍त मात्रा में टूटता नहीं है। जिससे शरीर में विषाक्‍तता उत्‍पन्‍न हो सकती है साथ ही यह हार्मोनल परिवर्तन का कारण बनता है। इसलिए आपको पर्याप्‍त मात्रा में पानी पीना चाहिए। लेकिन पानी भोजन के पहले या तुरंत बाद में पीने से बचें।

(और पढ़े – पानी पीकर वजन कम करने के उपाय…)

आयुर्वेदिक टिप्‍स और दवाएं जो वजन कम करें – Ayurvedic Tips and Medicines For Weight Loss in Hindi

  1. मोटापा कम करने के आयुर्वेदिक उपाय नींबू और शहद – Motapa Kam Karen Ke Ayurvedic Upay Nimbu Aur Shahad In Hindi
  2. वजन कम करने आयुर्वेदिक उपाय अदरक – Vajan Kam Karne Ke Ayurvedic Upay Adrak In Hindi
  3. वजन कम करने का आयुर्वेदिक उपाय काली मिर्च – Vajan Kam Karen Ka Ayurvedic Upay Kali Mirch In Hindi
  4. वजन घटाने के आयुर्वेदिक उपाय गोभी – Vajan Ghatane Ayurvedic Upay Cabbage In Hindi
  5. वजन घटाने के लिए मसालों का सेवन करें – Spicy food for weight loss in Hindi
  6. वजन घटाने के आयुर्वेदिक टिप्‍स मेथी – Vajan Ghatane ke Ayurvedic Tips Methi in Hindi
  7. टवजन कम करने की आयुर्वेदिक दवा गुग्‍गुल – Vajan kam karne ki ayurvedic dawa Guggul in Hindi
  8. वजन कम करें विजयसार से – Vajan kam kare Vijaysar se in Hindi
  9. वजन कम करने का आयुर्वेदिक नुस्‍खा त्रिफला – Vajan kam karne ka Aryuvedic nuskha Triphala in Hindi
  10. चर्बी कम करने के आयुर्वेदिक उपाय दालचीनी – Charbi Kam karne ke ayurvedic upay dalchini in Hindi

आयुर्वेद में वजन कम करने के लिए बहुत से विकल्‍प होते हैं। आयुर्वेद में हर प्रकार की स्‍वास्‍थ्‍य समस्‍या को दूर करने के लिए उपाय मौजूद हैं। वजन कम करने के लिए भी आप आयुर्वेदिक टिप्‍स और औषधीयों का उपयोग कर सकते हैं। चूंकि ये आयुर्वेदिक उपाय बहुत ही सरल हैं और आसानी से उपलब्‍ध हो सकते हैं। इसलिए इनका उपयोग करना बहुत ही आसान है।

आइए जाने किन आयुर्वेदिक औषधीयों का उपयोग कर आप अपने वजन को कम कर सकते हैं।

मोटापा कम करने के आयुर्वेदिक उपाय नींबू और शहद – Motapa Kam Karen Ke Ayurvedic Upay Nimbu Aur Shahad In Hindi

मोटापा कम करने के आयुर्वेदिक उपाय नींबू और शहद – Motapa Kam Karen Ke Ayurvedic Upay Nimbu Aur Shahad In Hindi

यदि आप वजन कम करने के आयुर्वेदिक टिप्‍स अपनाना चाहते हैं तो नींबू और शहद मोटापा कम करने का सबसे अच्‍छा उपाय है। हर सुबह ब्रश करने के तुरंत बाद आप नींबू और शहद को पानी के साथ मिलाकर सेवन करें। यह एक स्‍वादिष्‍ट पेय भी है जो आपकी भूख को नियंत्रित करने में सहायक होता है जो आपके वजन को कम कर सकता है। कुछ लोग सर्दिर्यों के मौसम में नींबू का सेवन करने से कतराते हैं। अगर आपको भी ऐसा ही लगता है तो जान लीजिये की सर्दियों में भी गर्म पानी के साथ नींबू के रस और शहद का सेवन किया जा सकता है।

(और पढ़े – नींबू और शहद के साथ गर्म पानी के फायदे…)

वजन कम करने आयुर्वेदिक उपाय अदरक – Vajan Kam Karne Ke Ayurvedic Upay Adrak In Hindi

वजन कम करने आयुर्वेदिक उपाय अदरक – Vajan Kam Karne Ke Ayurvedic Upay Adrak In Hindi

आयुर्वेदिक टिप्‍स के अनुसार अदरक का उपयोग वजन को कम करने के लिए किया जा सकता है। क्‍योंकि अदरक में ऐसे गुण होते हैं जो शरीर में मौजूद अतिरिक्‍त वसा को कम कर सकते हैं। अध्‍ययनों से पता चलता है कि अदरक में जिंजरॉल नामक एक यौगिक होता है जो आंतरिक अंगों की सूजन को कम करने में सहायक होता है। इसलिए यह मोटापे और इंसुलिन प्रतिरोध के परिणामों को प्रभावित करता है। अदरक में मोटापे को कम करने के गुण भी होते हैं क्‍योंकि इसके प्रमुख 6-जिंजरॉल में लिपिड सिंथेसाइजिंग एंजाइमों की गतिविधियों में बदलाव करके वसा संश्‍लेषण को रोक दिया जाता है। इस तरह से यदि आप आयुर्वेदिक दवाओं से वजन को कम करना चाहते हैं तो अदरक को अपने नियमित आहार में शामिल करें।

(और पढ़े – अदरक के फायदे, औषधीय गुण, उपयोग और नुकसान…)

वजन कम करने का आयुर्वेदिक उपाय काली मिर्च – Vajan Kam Karen Ka Ayurvedic Upay Kali Mirch In Hindi

वजन कम करने का आयुर्वेदिक उपाय काली मिर्च – Vajan Kam Karen Ka Ayurvedic Upay Kali Mirch In Hindi

औषधीय जड़ी बूटीयों का आयुर्वेद में विशेष महत्‍व होता है। इन जड़ी बूटीयों का नियमित रूप से लंबे समय तक उपयोग करने से आपको निश्चित ही लाभ प्राप्‍त होगा। जब आप अपने वजन को नियंत्रित करने के लिए शहद और नींबू के रस का सेवन करते हैं तो इसमें काली मिर्च पाउडर को मिलाकर और अधिक प्रभावी बनाया जा सकता है। हालांकि इस मिश्रण को पीने के लिए यह बाध्‍यता नहीं है कि आप इसे केवल सुबह के समय पियें। आप इस औषधीय मिश्रण को दिन में कभी भी सेवन कर सकते हैं। जिन लोगों को नींबू से सर्दी होने का डर होता है इस डर को दूर करने के लिए काली मिर्च पर्याप्‍त है। इस तरह से वजन कम करने के आयुर्वेदिक टिप्‍स के रूप में आप इस उपाय को अपना सकते हैं।

(और पढ़े – काली मिर्च के फायदे और नुकसान…)

वजन घटाने के आयुर्वेदिक उपाय गोभी – Vajan Ghatane Ayurvedic Upay Cabbage In Hindi

वजन घटाने के आयुर्वेदिक उपाय गोभी - Vajan Ghatane Ayurvedic Upay Cabbage In Hindi

आयुर्वेद के अनुसार गोभी को कच्‍चा या पकाकर सेवन करना दोनों ही फायदेमंद है।

लेकिन ऐसा माना जाता है कि गोभी को कच्‍चा खाना अधिक फायदेमंद होता है।

आप अपने शरीर में मौजूद फैट को कम करने के लिए दिन में कुछ कच्‍चे गोभी खाने का प्रयास करें।

आप इसे भोजन से पहले या नाश्‍ते के रूप में कर सकते हैं।

(और पढ़े – पत्ता गोभी के फायदे और नुकसान…)

वजन घटाने के लिए मसालों का सेवन करें – Spicy food for weight loss in Hindi

वजन घटाने के लिए मसालों का सेवन करें – Spicy food for weight loss in Hindi

यदि आप आयुर्वेदिक तरीके से अपने वजन को कम करना चाहते हैं तो अपने आहार में मसालों का सेवन करें। मसाले की कमी पाचन आग को कम कर सकती है। जिससे पाचन व्‍यवस्‍था खराब होने की संभावना बढ़ जाती है। किसी शरीर में पाचन अग्नि को बनाए रखने के लिए आप तीखे, कड़वे और कसैले मसालों का उपभोग कर सकते हैं। जीरा, लाल मिर्च, सरसों और काली मिर्च जैसे कुछ मसाले हैं जो आपके पाचन तंत्र के लिए बेहद फायदेमंद होते हैं। इस तरह के मसालों का सेवन करने से शरीर में अतिरिक्‍त वसा को इक्‍हट्ठा होने से रोका जा सकता है। इस तरह से आप वजन कम करने के आयुर्वेदिक टिप्‍स में इन औषधीय मसालों को अपने नियमित आहार में शामिल करें।

(और पढ़े – मसालेदार खाना खाने के फायदे और नुकसान…)

वजन घटाने के आयुर्वेदिक टिप्‍स मेथी – Vajan Ghatane ke Ayurvedic Tips Methi in Hindi

वजन घटाने के आयुर्वेदिक टिप्‍स मेथी – Vajan Ghatane ke Ayurvedic Tips Methi in Hindi

विभिन्‍न प्रकार के स्‍वास्‍थ्‍य लाभों के लिए मेथी का सेवन किया जाता है। मेथी भी एक आयुर्वेदिक मसाला है जिसका उपयोग आप वजन कम करने के लिए कर सकते हैं। मेथी में मौजूद औषधीय गुण भी आपके पाचन तंत्र को स्‍वस्‍थ बनाने में सहायक होते हैं। मेथी में गैलेक्‍टोमेनान (Galactomannan) नामक एक घटक होता है जो पानी में घुलनशील है। यह भूख की भावना को कम करता है जिससे आपको बार-बार भोजन करने से मुक्ति मिल सकती है। इसके अलावा मेथी का सेवन करने से चयापचय दर में वृद्धि होती है। इन लाभों को प्राप्‍त करने के लिए आपको बस इतना करना है कि कुछ मेथी के बीजों को लें और इन्‍हें भून लें।

इन भुने हुए बीजों को पीसकर पाउडर तैयार करें। इस पाउडर को नियमित रूप से सुबह खाली पेट पानी के साथ सेवन करें। विकल्‍प के रूप में आप मेथी के पानी का भी सेवन कर सकते हैं।

(और पढ़े – मेथी के फायदे और नुकसान…)

वजन कम करने की आयुर्वेदिक दवा गुग्‍गुल – Vajan kam karne ki ayurvedic dawa Guggul in Hindi

वजन कम करने की आयुर्वेदिक दवा गुग्‍गुल – Vajan kam karne ki ayurvedic dawa Guggul in Hindi

गुग्‍गुल (Commiphora Mukul) एक औषधीय उत्‍पाद है जिसका प्राचीन समय से उपयोग किया जा रहा है। यह एक औषधीय पौघा है जिसमें लस्‍टेरोल होता है जो गुग्‍गुलस्‍टेरोन के नाम से जाना जाता है। यह शरीर के चयापचय को उत्‍तेजित करता है जिससे वजन को कम करने में मदद मिलती है। इसके अलावा यह प्राकृतिक रूप से भी कोलेस्‍ट्रॉल को कम करने में सहायक होता है। आप भी इस आयुर्वेदिक औषधी का उपयोग कर अपने वजन को कम कर सकते हैं।

(और पढ़े – साइंस पर आधारित वजन कम करने के सरल उपाय…)

वजन कम करें विजयसार से – Vajan kam kare Vijaysar se in Hindi

वजन कम करें विजयसार से – Vajan kam kare Vijaysar se in Hindi

विजयसार (Pterocarpus Marsupium) एक पर्णपाती वृक्ष है। इसकी छाल का उपयोग मधुमेह और मोटापे के लक्षणों को दूर करने के लिए किया जाता है। ऐसा माना जाता है कि विजयसार में वसा को कम करने वाले गुण होते हैं जो पेट की चर्बी को दूर करने में मदद करते हैं। इसके अलावा इस पेड़ की राल और छाल का उपयोग करने से पाचन तंत्र को स्‍वस्‍थ रखा जा सकता है। आप प्रभावी परिणाम प्राप्‍त करने के लिए विजयसार का उपयोग कर एक हर्बल चाय का सेवन कर सकते हैं। विजयसार भी वजन कम करने के आयुर्वेदिक टिप्‍स में अपना विशेष स्‍थान रखता है।

(और पढ़े – विजयसार के फायदे और नुकसान…)

वजन कम करने का आयुर्वेदिक नुस्‍खा त्रिफला – Vajan kam karne ka Aryuvedic nuskha Triphala in Hindi

वजन कम करने का आयुर्वेदिक नुस्‍खा त्रिफला – Vajan kam karne ka Aryuvedic nuskha Triphala in Hindi

त्रिफला शरीर से विषाक्‍त पदार्थों को दूर करने के लिए उपयोग किया जाता है। इसके अलावा त्रिफला के फायदे पाचन तंत्र को स्‍वस्‍थ रखने में सहायक होते हैं। त्रिफला एक आयुर्वेदिक औषधी है जो आंवला सहित दो अन्‍य जड़ी बूटीयों के संयोजन से बनाया जाता है। इस मिश्रण में शरीर की सफाई करने वाले गुण होते हैं। आयुर्वेद विशेषज्ञ के अनुसार नियमित रूप से गर्म पानी के साथ त्रिफला चूर्ण का सेवन कर आप अपने वजन को नियंत्रित कर सकते हैं। त्रिफला चूर्ण को रात के भोजन के लगभग 2 घंटे पहले और नाश्‍ते से लगभग आधा घंटे पहले सेवन करना चाहिए।

(और पढ़े – त्रिफला चूर्ण के फायदे और नुकसान…)

चर्बी कम करने के आयुर्वेदिक उपाय दालचीनी – Charbi Kam karne ke ayurvedic upay dalchini in Hindi

चर्बी कम करने के आयुर्वेदिक उपाय दालचीनी – Charbi Kam karne ke ayurvedic upay dalchini in Hindi

दालचीनी (Cinnamon) भी एक आयुर्वेदिक औषधी है जिसे हम मसाले के रूप में उपयोग करते हैं। औषधीय गुणों से भरपूर होने के कारण दालचीनी का उपयोग विभिन्‍न प्रकार की आयुर्वेदिक औषधियों के निर्माण में किया जाता है। मुख्‍य रूप से यह शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने में मदद करती है। लेकिन दालचीनी शरीर के चयापचय को उत्‍तेजित करने में मदद करता है जो पेट की चर्बी को कम करने में सहायक होता है। एक अध्‍ययन के अनुसार दालचीनी फैटी आंत ऊतक के चयापचय को उत्‍तेजित करता है जिसका अर्थ यह है कि दालचीनी पेट की वसा को कम करने में सहायक हो सकता है। लाभ प्राप्‍त करने के लिए आप सुबह दालचीनी से बनी चाय का सेवन कर सकते हैं।

(और पढ़े – दालचीनी के फायदे, गुण, लाभ और नुकसान…)

इसी तरह की अन्य जानकरी हिन्दी में पढ़ने के लिए हमारे एंड्रॉएड ऐप को डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं। और आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।

Leave a Comment

Subscribe for daily wellness inspiration