वॉल प्रेस एक्सरसाइज करने का तरीका और फायदे - Wall Press Exercise Steps And Benefits In Hindi - Healthunbox
फिटनेस के तरीके

वॉल प्रेस एक्सरसाइज करने का तरीका और फायदे – Wall Press Exercise Steps And Benefits In Hindi

वॉल प्रेस एक्सरसाइज करने का तरीका और फायदे - Wall Press Exercise Steps And Benefits In Hindi

Wall Press Exercise In Hindi: वॉल प्रेस एक्सरसाइज पुशअप्स की तरह ही सबसे प्रभावी व्यायाम में से एक है जिसे आप अपनी दिनचर्या में शामिल कर सकते हैं। वॉल प्रेस एक्सरसाइज आपके हाथों, सीना, पीठ और कंधों को टारगेट करता है और पूरे शरीर को मजबूत करता है। वॉल प्रेस व्यायाम महिलाओं के लिए ब्रेस्ट साइज़ को बढ़ाना में मदद करता है और पुरुषों के लिए सीना बनाने में मदद करता है। यदि आप वॉल प्रेस व्यायाम के बारे में जानना चाहते है तो आज हम आपको वॉल प्रेस एक्सरसाइज करने का तरीका और फायदे को विस्तार से बताएंगे।

विषय सूची

वॉल प्रेस एक्सरसाइज क्या है – What is Wall Press Exercise In Hindi

वॉल प्रेस एक्सरसाइज, पुशअप्स एक्सरसाइज का ही एक परिवर्तित रूप है जो कि पुशअप्स से आसान होता है। कुछ लोग इसे स्टेंडर्ड वॉल पुशअप के नाम से भी जानते है। इसे व्यायाम को करने से लिए आपको एक दीवार के सहारे की आवश्यकता होती है। पुशअप्स को करने के लिए आपको फर्श पर लेटना होता है जबकि वॉल प्रेस में आपको फर्श पर खड़े होकर दीवार को धक्का देना होता है। आइये इस व्यायाम को करने के तरीके और उससे होने वाले लाभों को विस्तार से जानते है।

(और पढ़े – सिक्स पैक एब्स बनाने के लिए क्या करें और क्या ना करें…)

वॉल प्रेस एक्सरसाइज करने के लिए क्या आवश्यक है – What Do You Need To Do Wall Press Exercise in Hindi

वॉल प्रेस एक्सरसाइज को करने के लिए आपको निम्न चीजों की आवश्यकता होती है।

  • आरामदायक कपड़े
  • ट्रेनिंग शूज
  • एक दीवार

वॉल प्रेस एक्सरसाइज करने का तरीका – Steps to do Wall Press Exercise in Hindi

वॉल प्रेस एक्सरसाइज को करने के लिए आप निम्न स्टेप्स को करें –

  • वॉल प्रेस एक्सरसाइज करने के लिए आप सबसे पहले एक दीवार के सामने दो फुट की दूरी पर खड़े हो जाएं।
  • इसके बाद अपने दोनों हाथों को दीवार पर सीधे रखें।
  • अपने दोनों हाथों को वॉल पर कंधों की चौड़ाई बराबर दूरी पर रखें और उंगलियों की दिशा ऊपर की ओर होनी चाहिए।
  • इसके बाद आप दीवार के सहारे पुश अप करें।
  • अपने दोनों हाथों को कोहनी से मोड़ें और सिर को दीवार के पास लायें।
  • अब दोनों हाथों को कोहनी से सीधा करे और सिर को दीवार से दूर ले जाएं।
  • अब आप अपनी प्रारंभिक स्थिति में आ जायेंगे। इस क्रिया को बार बार दोहराएँ।
  • वॉल प्रेस एक्सरसाइज के आपको 20 रेप्स के 2-5 सेट्स करना चाहिए।

(और पढ़े – वर्कआउट क्या होता है कितनी देर तक करें फायदे और नुकसान…)

वॉल प्रेस एक्सरसाइज के अन्य प्रकार – Other Types of Wall Press Exercise in Hindi

आप वॉल प्रेस एक्सरसाइज के कुछ मॉडिफाइड वेरिएंट भी कर सकते हैं-

(और पढ़े – फिट बॉडी बनाने के लिए एक्सरसाइज…)

क्लोज स्टांस वाल पुश अप – Close stance wall push up

वॉल प्रेस एक्सरसाइज के इस मॉडिफाइड वेरिएंट में आपको अपने दोनों हाथों को एक दूसरे से दूर-दूर न रख कर पास-पास रखना होता है। यह आपकी छाती की तुलना में आपके ट्राइसेप्स पर अधिक जोर देगा। ये स्टैंडर्ड वॉल प्रेस एक्सरसाइज से ज्यादा कठिन होता है।

  • क्लोज स्टांस वाल पुश अप एक्सरसाइज करने के लिए आप सबसे पहले एक दीवार के सामने दो फुट की दूरी पर खड़े हो जाएं।
  • इसके बाद अपने दोनों हाथों को दीवार पर पास-पास सीना के बीच सीधे रखें।
  • अपने दोनों हाथों को कोहनी से मोड़ें और सिर को दीवार के पास लायें।
  • अब दोनों हाथों को कोहनी से सीधा करे और सिर को दीवार से दूर ले जाएं।
  • अब आप अपनी प्रारंभिक स्थिति में आ जायेंगे। इस क्रिया को बार बार दोहराएँ।
  • वॉल प्रेस एक्सरसाइज के आपको 20 रेप्स के 2-5 सेट्स करना चाहिए।

वन आर्म वॉल पुशअप – One-arm wall pushup

यदि आप एक स्टैंडर्ड वॉल प्रेस एक्सरसाइज के कई सेट को आसानी से कर सकते है तब आपको वन आर्म वॉल पुशअप पर विचार करना चाहिए। यह क्लोज स्टांस वाल पुश अप से ज्यादा कठिन होता है। यह व्यायाम एक समय में आपके शरीर के एक तरफ काम करता है। यह ताकत के असंतुलन को भी दूर करने में मदद कर सकता है। ध्यान रखें कि इस एक्सरसाइज का केवल तभी प्रयास किया जाना चाहिए जब आप आसानी से अपने शरीर के वजन को उठा सकें।

  • वॉल प्रेस एक्सरसाइज करने के लिए आप सबसे पहले एक दीवार के सामने दो फुट की दूरी पर खड़े हो जाएं।
  • इसके बाद अपने एक हाथ को दीवार पर सीना के बीच सीधे रखें।
  • फिर दूसरे हाथ को पीठ पर ले जाकर रख लें।
  • अपने दोनों हाथों को कोहनी से मोड़ें और सिर को दीवार के पास लायें।
  • अब दोनों हाथों को कोहनी से सीधा करे और सिर को दीवार से दूर ले जाएं।
  • अब आप अपनी प्रारंभिक स्थिति में आ जायेंगे। इस क्रिया को बार बार दोहराएँ।
  • वॉल प्रेस एक्सरसाइज अपनी क्षमता के अनुसार करना चाहिए।

फीट ऑन द वॉल पुशअप – Feet on the wall pushup

वॉल प्रेस एक्सरसाइज के इस वेरिएंट में ताकत और संतुलन की आवश्यकता होती है। आप इस एक्सरसाइज को तभी करें जब आप वॉल प्रेस को करने में एक्सपर्ट हो।

  • फीट ऑन द वॉल पुशअप एक्सरसाइज करने के लिए आप सबसे पहले एक दीवार के सामने दो फुट की दूरी पर खड़े हो जाएं।
  • अब अपने पैर की एड़ियों को फर्श से ऊपर करें और पैर की उगलियों पर पर संतुलन बनाएं।
  • इसके बाद अपने दोनों हाथों को दीवार पर कंधों की चौड़ाई पर सीधे रखें।
  • अपने दोनों हाथों को कोहनी से मोड़ें और सिर को दीवार के पास लायें।
  • अब दोनों हाथों को कोहनी से सीधा करे और सिर को दीवार से दूर ले जाएं।
  • वॉल प्रेस एक्सरसाइज के आपको 10-15 रेप्स के 3 सेट्स करना चाहिए।

वॉल प्रेस एक्सरसाइज करने के फायदे – Wall Press Exercises Benefits in Hindi

वॉल प्रेस एक्सरसाइज करना हमारे शरीर के लिए अनेक प्रकार से लाभदायक है। आइये वॉल प्रेस व्यायाम के फायदे को विस्तार से जानते हैं।

(और पढ़े – बॉडी बनाने के तरीके हिन्दी में…)

वॉल प्रेस एक्सरसाइज के फायदे स्थिरता बढ़ाने में – Wall Press Exercise to Increase stability in Hindi

स्थिरता बनाने में वॉल प्रेस एक्सरसाइज बहुत ही फायदेमंद होती है। यह पुश अप एक्सरसाइज की तरह ही फायदेमंद है। जब आप वॉल प्रेस करने का प्रयास करते हैं तो ये नसें आपके शरीर को धकेलने और रोकने का प्रयास करती हैं, जो आपके संतुलन और गति को प्रभावित करता है।

स्ट्रांग कोर के लिए करें वॉल प्रेस एक्सरसाइज – Wall Press Exercise For Strong Core in Hindi

स्ट्रांग कोर के लिए करें वॉल प्रेस एक्सरसाइज - Wall Press Exercise For Strong Core in Hindi

वॉल प्रेस एक्सरसाइज स्ट्रांग कोर के लिए बहुत ही फायदेमंद है। यह वॉशबोर्ड एब्स और एक मजबूत कोर के लिए बहुत प्रभावी है। वॉल प्रेस एक्सरसाइज मुख्य रूप से पेट का सेक्शन और कमर का एरिया आदि की समस्या को ठीक करने आपकी मदद करता हैं।

ब्रेस्ट साइज बढ़ाने के लिए वॉल प्रेस एक्सरसाइज – Breast Badhane ke liye Wall press Exercise

ब्रेस्ट साइज बढ़ाने के लिए वॉल प्रेस एक्सरसाइज – Breast Badhane ke liye Wall press Exercise

ब्रेस्ट का आकार बढ़ाने के लिए लड़कियों को वॉल प्रेस एक्सरसाइज करना चाहिए। यह व्यायाम करने से स्तनों की साइज को आसानी से बढ़ाया जा सकता है।

शारीरिक व्यायाम के लिए करे वॉल प्रेस एक्सरसाइज – Wall Press Exercise for Physical exercise in Hindi

शारीरिक व्यायाम के लिए करे वॉल प्रेस एक्सरसाइज - Wall Press Exercise for Physical exercise in Hindi

वॉल प्रेस एक्सरसाइज आपके सम्पूर्ण शरीर पर काम करता है और आपको फिट रखने में काफी मदद करता हैं। वॉल प्रेस व्यायाम आपको एक ही समय में अपने हाथों, पेट और आपके निचले शरीर पर फोकस करने में मदद करता हैं।

(और पढ़ें – वॉल सिट एक्सरसाइज करने का तरीका और फायदे)

वॉल प्रेस एक्सरसाइज करने का तरीका और फायदे (Wall Press Exercise Steps And Benefits In Hindi) का यह लेख आपको कैसा लगा हमें कमेंट्स कर जरूर बताएं।

इसी तरह की अन्य जानकारी हिन्दी में पढ़ने के लिए हमारे एंड्रॉएड ऐप को डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक करें। आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं।

Leave a Comment

Subscribe for daily wellness inspiration