जीएम डाइट है वजन कम करने का सबसे तेज तरीका – GM Diet is The Fastest Way To Lose Weight in Hindi

जीएम डाइट है वजन कम करने का सबसे तेज तरीका - GM Diet is the fastest way to lose weight in hindi
Written by Sneha

GM diet plan in hindi जरूरी नहीं है की जीएम डाइट सभी व्यक्तियों के लिए लाभदायक नहीं है, प्रत्येक व्यक्ति का शरीर अलग होता है। इसलिए जीएम डाइट का प्रत्येक व्यक्ति के शरीर पर अलग अलग असर हो सकता है। इसलिए उपयोग करने से पहले डाक्टर की सलाह लेना ठीक होता है। GM डाइट के शुरू करने के कुछ दिनों बाद ही कुछ लोगों के कमजोरी से बाल गिरने लगते है तथा त्वचा बेजान होने जैसी बहुत सी समस्याओं का सामना करना पड़ता है, अगर ऐसा कुछ साइड इफेक्ट्स लगे तो तुरन्त जीएम डाइट को बन्द कर दे। आईए यहां जाने जीएम डाइट (Gm Diet in hindi) के बारे में।

जीएम डाइट का मतलब होता है जनरल मोटर्स डाइट – GM Diet Means the General Motors Diet in Hindi

जी एम डाइट हमारे लिए लाभदायक तो है ही हानिकारक भी हो सकती है तो जीएम डाइट की शुरूआत करने से पहले कुछ बातों का रखें ध्यान रहे

जीएम डाइट क्या है – What is Gm Diet in Hindi

जी एम डाइट का मतलब होता है जनरल मोटर्स डाइट GM डाइट खास वजन घटाने के लिए होता है। अगर किसी व्यक्ति को लगता है उसका वजन बढ रहा है जबकी वह सुन्दर स्वस्थ रहना चाहता है। बहुत से तरीके अपनाने के बाद भी शरीर में कोई बदलाव नजर नहीं आ रहा है। ऐसी स्थिति में अपना खाना पीना बदलकर जी एम डाइट को अपनाएं। जीएम डाइट एक महीने में सात, दिनों तक अपना सकता है फिर सिर्फ सात दिनों के इस डाइट प्रोग्राम का पालन कर दो तीन महीने में फर्क देख सकते हैं। GM डाइट में क्या खाना, कैसे खाना है इसका GM डाइट चार्ट तैयार कर सकते हैं। व्यक्ति जीएम डाइट चार्ट को अपनाने से पहले में और बाद में शरीर के फर्क खुद महसूस कर सकता है। जी एम डाइट का चार्ट सात, नौ, ग्यारह दिन का होता है।

(और पढ़े – डाइट प्लान – दो हफ्तों में कम करें 5 किलो वजन)

सात दिन का जीएम डाइट प्लान – Seven day GM diet Plan in Hindi

अपने शरीर को स्‍वस्‍थ और सुंदर बनाए रखने के लिए आप सात दिन का जीएम डाइट प्‍लान को अपना सकते हैं। आइए जाने इन सात दिनों का डाइट प्‍लान कैसा होना चाहिए।

जीएम डाइट प्लान का पहला दिन –  First Day of Gm Diet Plan in Hindi

जी एम डाइट के प्रथम दिन अंगूर सेब,आम, अनार आदि फलों को सेवन कर सकते है। ध्यान रहे केला नहीं खाये क्योंकि केला शरीर में फुलावट लाता है। जीएम डाइट के प्रथम दिन फल खाने है। अपने फलों में खरबूजा, स्ट्राबेरी, तरबूज जैसे फलों को भी शामिल किया जा सकता है। इसके अलावा संतरा नींबू पानी, व नारियल पानी को भी जी एम डाइट के प्रथम दिन अपनी डाइट सिर्फ फलों को शामिल करें। फलों में नमक काली मिर्च या कोई चाट मसाला नहीं मिलावे।

(और पढ़े – अनार के फायदे और नुकसान)

जीएम डाइट प्लान का दूसरा दिनSecond Day of Gm Diet Plan in Hindi

जी एम डाइट के दूसरे दिन खाने में सिर्फ कच्ची सब्जियों को शामिल करना है इन्हें सब्जियों को सलाद बनाकर या उबाल के भी खा सकते हैं। जी एम डाइट में उबला हुआ आलू का सेवन कर करते है, ककडी या खीरा, या उबला चुकंदर, दो टमाटर, पालक व टमाटर का जूस व उबली हुई लौकी का जूस नमक काली मिर्च मिलाकर सेवन करने से फायदा होता है। सब्जियों से शरीर को ज्यादा पोषण व फाइबर मिलता है। इसके साथ पूरे दिनभर में ढेर सारा पानी भी पीना है।

(और पढ़े – पानी पीकर वजन कम करने के उपाय)

जीएम डाइट प्लान का तीसरा दिन – Third Day of Gm Diet Plan in Hindi

जी एम डाइट के तीसरे तीन खीरे, कच्ची पत्ता गोभी, गाजर, तरबूज, सेब, पपीता, खरबूजा को मिलाकर भरपेट सेवन कर सकते हैं। साथ ही जी एम डाइट में पालक व टमाटर का जूस संतरा का जूस या लौकी के जूस का सेवन भी कर सकते या चीकू भी ले सकते हैं ध्यान रखें की जी एम डाइट का तीसरे दिन आलू का सेवन ना करे।

(और पढ़ें – वजन घटाने के लिए इंडियन डाइट चार्ट )

जी एम डाइट प्लान का चोथा दिनForth Day of Gm Diet Plan in Hindi

जीएम डाइट के चौथे दिन एक गिलास मलाई रहित दूध बिना चीनी वाला लेना चाहिए। 5 केले खा सकते है। केला खाने से शरीर में जो नमक की कमी हुई हैं उसकी पूर्ति हो जाती हैं। इसके साथ GM डाइट में शिमला मिर्च, प्याजलहसुन और टमाटर का बना सूप का भी सेवन जीएम डाइट में कर सकते है। जी एम डाइट में सूप दिन में एक बार ले व दिन भर पानी पिएं।

(और पढ़े – रोज सुबह केला और गर्म पानी के सेवन के फायदे जानकर दंग रह जाएगे आप)

जीएम डाइट प्लान का पाँचवा दिनFifth Day of Gm Diet Plan in Hindi

जी एम डाइट के पांचवे दिन के भोजन की शुरूआत पौष्टिक भोजन से कर सकते है। पनीर या फिर टमाटर की सलाद, ब्राउन चावल को टमाटर की ग्रेवी के साथ सेवन कर सकते है। इसके साथ ही नमक आदि मसाला मिला हुआ टमाटर की सलाद आदि खा सकते हैं। GM डाइट में दोपहर के भोजन के समय टमाटर का सूप भी ले सकते है। जी एम डाइट में टमाटर का सेवन कर से शरीर में पानी की कमी दूर होती है। जी एम डाइट के पांचवे दिन बहुत पानी पिये इससे जीएम डाइट के दौरान शरीर में आयी पानी की कमी दूर होगी।

(और पढ़ें – संतुलित आहार के लिए जरूरी तत्व , जिसे अपनाकर आप रोंगों से बच पाएंगे)

जी एम डाइट प्लान का छठा दिन Sixth Day of Gm Diet Plan in Hindi

जीएम डाइट का छठे दिन भी भोजन दिन के भोजन की शुरूआत पौष्टिक भोजन कर सकते है। पनीर या फिर टमाटर की सलाद, ब्राउन चावल के साथ साथ उबला चुंकदर, खीरा, टमाटर पत्तागोभी की सलाद भी जीएम डाइट में शामिल करें। सलाद में जीरा नमक डालकर सेवन करे। साथ ही पानी का सेवन खुब करे व 1-2 गिलास नीबू पानी पी सकते है। जीएम डाइट के छठें दिन भोजन में सभी कच्ची सब्जियों को शामिल जरूर करें।

(और पढ़ें – जल्दी वजन कम करने वाले आहार, फल और सब्जियां)

GM डाइट प्लान का सातवां दिन – Seventh Day Of Gm Diet Plan in Hindi

जी एम डाइट के सातवें दिन जीएम डाइट लेने वाला व्यक्ति अपने आप को जीएम डाइट के आखिर में शारीरिक व मानसिक रूप से खुद को हल्का, फ्रेश व फिट महसूस करेगा। जीएम डाइट के आखरी दिन जीरा,नमक मिले खीरा टमाटर की सलाद भी खाने में शामिल कर सकते है। जीएम डाइट के आखरी दिन ताजा फलों का जूस, एक कटोरी ब्राउन चावल या एक रोटी सब्जी के साथ खा सकते है व इच्छानुसार पानी पी सकते है।

(और पढ़ें – संतुलित आहार किसे कहते हैं)

जीएम डाइट लाभदायक होने के साथ साथ हानिकारक भी हो सकती है – Gm Diet Can Be Beneficial As Well As Harmful in Hindi

जी एम डाइट लाभदायक होने के साथ साथ हानिकारक भी हो सकती है। प्रत्येक व्यक्ति के शरीर पर इसका अलग अलग असर हो सकता है इसलिए इसके असर को कम करने के लिए खूब पानी पिये व सेब को बिना छिले खावें क्योंकि सेब में विटामिन ए भरपूर मात्रा में होता है। इसलिए GM डाइट का असर कम करने के लिए पानी के साथ सेब को बिना छिले खावें।

Leave a Comment

Subscribe for daily wellness inspiration