ब्राउन राइस के फायदे और नुकसान – Brown Rice Ke Fayde Aur Nuksan in Hindi

ब्राउन राइस के फायदे और नुकसान - Brown Rice Ke Fayde Aur Nuksan in Hindi
Written by Jaideep

Brown Rice in Hindi भूरे चावल या ब्राउन राइस के फायदे स्‍वास्‍थ्‍य के लिए अच्‍छे होते हैं यह सभी को पता है। लेकिन ब्राइन राइस के फायदे और नुकसान क्‍या हैं और कैसे हैं यह बहुत से लोगों को पता नहीं है। आज इस लेख में आप ब्राउन राइस खाने के फायदे जानेगें जो आपके अच्‍छे स्‍वास्‍थ में अहम योगदान दे सकते हैं। ब्राउन राइस के स्‍वास्‍थ्‍य लाभ हृदय को स्‍वस्‍थ रखने, पाचन तंत्र को मजबूत करने, मस्तिष्‍क और तंत्रिका तंत्र के बेहतर कामकाज आदि में मदद करते हैं। इसके अलावा ब्राउन राइस का उपयोग कर आप मोटापा, मधुमेह, कैंसर, उच्‍च रक्‍तचाप और अन्‍य ऐसी समस्‍याओं से छुटकारा पा सकते हैं जो आपके लिए गंभीर स्‍वास्‍थ्‍य समस्‍या हो सकती है। आइए जाने ब्राउन राइस से संबंधित कुछ तथ्‍यों और ब्राउन राइस के फायदे क्‍या हैं।

1. ब्राउन राइस क्या है – Brown Rice Kya Hai in Hindi
2. ब्राउन राइस के बारे में – Brown Rice ke bare me in Hindi
3. ब्राउन राइस के पोषक तत्‍व – Brown Rice Kya Ke Poshak Tatva in Hindi
4. ब्राउन राइस की तासीर – Brown Rice Ki Taseer in Hindi
5. ब्राउन राइस के फायदे हिंदी में – Brown Rice Health Benefits in Hindi

6. ब्राउन राइस के नुकसान – Brown Rice ke Nuksan in Hindi

ब्राउन राइस क्या है – Brown Rice Kya Hai in Hindi

चावल या राइस की वह गुणवत्‍ता जिसमें पोषक तत्‍वों की अधिक मात्रा होती है उसे ब्राउन राइस कहते हैं। ब्राउन राइस एक अनरिफाइंड और अनपॉलिटेड साबुत चावल है जिसमें केवल धान के छिलके को निकाला जाता है। जिसके कारण इस चावल का रंग हल्‍का भूरा होता है। चावल का भूरा रंग इसमें पोषक तत्‍वों की उच्‍च मात्रा को दर्शाता है। जबकि हमारे द्वारा खाये जाने सफेद चावल मे ब्राउन राइस की तुलना में बहुत ही कम पोषक तत्‍व होते हैं। इसलिए ही आजकल ब्राउन राइस की लोकप्रियता दिनो दिन बढ़ रही है। आइए जाने ब्राउन राइस के बारे में कुछ अन्‍य जानकारीयां।

(और पढ़े – चावल खाने के फायदे और नुकसान…)

ब्राउन राइस के बारे में – Brown Rice ke bare me in Hindi

अधिकांश लोग इस बात से सहमत हैं कि ब्राउन राइस का नियमित सेवन किया जाना चाहिए। इसका कारण यह है कि चावल में पोषक तत्‍वों की मात्रा और गुणवत्‍ता दोनों ही बहुत अधिक होती है। धान से चावल बनाने या मिलंग की प्रक्रिया के दौरान धान का छिलका निकाला जाता है। लेकिन चावल को सुंदर दिखाने के लिए चावल के ऊपर चढ़े भूरे रंग के आवरण को हटा दिया जाता है जबकि इसमें चावल के अधिकांश पोषक तत्‍व होते हैं। इसलिए उन सभी पोषक तत्‍वों की प्राप्ति के लिए ब्राउन राइस का सेवन लाभकारी होता है। बाजार में भी आजकल ब्राउन राइस की मांग तेजी से बढ़ी है। आइए जाने ब्राउन राइस में मौजूद पोषक तत्‍व क्‍या हैं।

ब्राउन राइस के पोषक तत्‍व – Brown Rice Kya Ke Poshak Tatva in Hindi

सफेद चावलों की अपेक्षा ब्राउन राइस में पोषक तत्‍वों की उच्‍च मात्रा होती है। यदि पके हुए ब्राउन राइस की 1 कप मात्रा या लगभग 8 औंस की बात की जाए तो इसमें लगभग 216 कैलोरी, 44.8 ग्राम कार्बोहाइड्रेट, 5 ग्राम प्रोटीन, 1.8 ग्राम वसा, 3.5 ग्राम फाइबर होता है। इसके अलावा ब्राउन राइस में कई प्रकार के खनिज पदार्थ भी होते हैं। जिनमें मैगनीज, सेलेनियम, मैग्‍नीशियम, फॉस्‍फोरस, विटामिन बी6, नियासिन, थियामिन, कॉपर, पैटोथेनिक एसिड, फोलेट, कैल्श्यिम और पोटेशियम आदि भी अच्‍छी मात्रा में होते हैं। इतने सारे पोषक तत्‍वों के कारण ही ब्राउन राइस हमारी स्‍वास्‍थ्‍य समस्‍याओं को दूर करने में सहायक होता है।

ब्राउन राइस की तासीर – Brown Rice Ki Taseer in Hindi

स्‍वस्‍थ आहार में चावल का अपना एक विशेष स्‍थान है। यदि आप अपने नियमित आहार में चावल का उपभोग करते हैं तो इसमें ब्राउन राइस को भी शामिल किया जा सकता है। जिन लोगों को पाचन संबंधी समस्‍या होती है उनके लिए चावल बहुत ही अच्‍छा होता है। ब्राउन राइस की तासीर ठंडी होती है। इसलिए अधिक मात्रा में चावल का सेवन करने से बचना चाहिए। लेकिन यह आपके आहार का प्रमुख हिस्‍सा भी होना चाहिए। आइए जाने ब्राउन राइस को अपने नियमित आहार में शामिल करने के लाभ क्या हैं।

ब्राउन राइस के फायदे हिंदी में – Brown Rice Health Benefits in Hindi

  1. ब्राउन राइस के फायदे डायबिटीज के लिए – Brown Rice Ke Fayde Diabetes Ke liye in Hindi
  2. ब्राउन राइस के लाभ वजन घटाने के लिए – Brown Rice Ke labh Vajan Ghatane Ke Liye in Hindi
  3. ब्राउन राइस खाने के फायदे हृदय स्वास्थ्य के लिए – Brown Rice khane ke fayde hriday swasth ke liye in Hindi
  4. ब्राउन राइस का उपयोग कोलेस्‍ट्रॉल कम करे – Brown Rice Ka Upyog Cholesterol Kam Kare in Hindi
  5. भूरे चावल का इस्‍तेमाल अच्‍छे पाचन के लिए – Brown Rice Ka Istemal Ache Pachan Ke Liye in Hindi
  6. ब्राउन राइस है प्रतिरक्षा बढ़ाने में सहायक – Brown Rice Hai Pratiraksha Badhane Me Sahayak in Hindi
  7. भूरे रंग के चावल करते हैं अल्‍जाइमर का इलाज – Brown Rice for Prevents Alzheimer’s in Hindi
  8. ब्राउन राइस रखता है कैंसर से दूर – Brown Rice rakhta hai cancer se dur in Hindi
  9. भूरे चावल है तनाव को दूर करने का उपाय – Brown Rice hai tanav ko dur karne ka upay in Hindi
  10. ब्राउन राइस के लाभ अनिद्रा के लिए – Brown Rice ke labh Insomnia ke liye in Hindi
  11. ब्राउन राइस करता है हड्डियों को मजबूत – Brown Rice karta hai haddiyo ko majboot in Hindi
  12. ब्राउन राइस के फायदे महिलाओं के लिए – Brown Rice Ke Fayde Mahilao Ke Liye In Hindi

नियमित रूप से ब्राउन राइस का सेवन आपके लिए फायदेमंद हो सकता है। क्‍योंकि इसमें मौजूद पोषक तत्‍व हमारी सामान्‍य और गंभीर स्‍वास्‍थ्‍य समसयाओं को दूर करने और नियंत्रित करने में सहायक होते हैं। आइए जाने भूरे चावल या ब्राउन राइस का सेवन करने से हमें कौन से स्‍वास्‍थ्‍य लाभ प्राप्‍त हो सकते हैं।

ब्राउन राइस के फायदे डायबिटीज के लिए – Brown Rice Ke Fayde Diabetes Ke liye in Hindi

ब्राउन राइस के फायदे डायबिटीज के लिए - Brown Rice Ke Fayde Diabetes Ke liye in Hindi

ब्राउन राइस के फायदे डायबिटिक और हाइपरग्‍लाइसेमिक व्‍यक्तियों के लिए होते हैं। ऐसा इसलिए है क्‍योंकि ब्राउन राइस में ग्‍लाइसेमिक इंडेक्‍स कम होता है जो इंसिुलिन की वृद्धि को कम करने में सहायक होता है। साथ ही यह शरीर में रक्‍त शर्करा के स्‍तर को स्थिर रखता है। एक अध्‍ययन से पता चलता है कि ब्राउन राइस फाइटिक एसिड, फाइबर और आवश्‍यक पॉलीफेनोल्‍स से भरपूर होता है। जो रक्‍त शर्करा के स्‍तर को नियंत्रित करने में सहायक होता है। यदि आप भी मधुमेह रोगी हैं तो ब्राउन राइस को अपने आहार में शामिल कर लाभ ले सकते हैं।

(और पढ़े – टाइप 2 मधुमेह क्या है, कारण, लक्षण, उपचार, रोकथाम और आहार…)

ब्राउन राइस के लाभ वजन घटाने के लिए – Brown Rice Ke labh Vajan Ghatane Ke Liye in Hindi

ब्राउन राइस के लाभ वजन घटाने के लिए - Brown Rice Ke labh Vajan Ghatane Ke Liye in Hindi

जो लोग मोटापा कम करने वाले आहार ढूंढ रहे हैं उनके लिए ब्राउन राइस फायदेमंद हो सकता है। ब्राउन राइस के लाभ वजन घटाने में इसलिए हैं क्‍योंकि इसमें मैगनीज की अच्‍छी मात्रा होती है जो शरीर में मौजूद वसा को संश्‍लेषित करने मे मदद करता है। मोटापे को लेकर किये गए एक अध्‍ययन से पता चलता है कि ब्राउन राइस और अन्‍य साबूत अनाजों का नियमित सेवन बॉडी मास इंडेक्‍स (BMI) और वसा को कम करने में सहायक होते हैं। इसके अलावा ब्राउन राइस का सेवन ग्‍लूटाथियोन पेरोक्‍सीडेस नामक एंटीऑक्‍सीडेंट के उत्‍पादन और गतिविधि को बढ़ाता है। यह मोटे व्‍यक्तियों में खराब कोलेस्‍ट्रॉल को कम करने में सहायक होता है। इस तरह से आप भी अपने वजन को नियंत्रित करने के लिए ब्राउन राइस का उपयोग कर सकते हैं।

(और पढ़े – वजन और मोटापा कम करने के लिए क्या खाएं क्या न खाए…)

ब्राउन राइस खाने के फायदे हृदय स्वास्थ्य के लिए – Brown Rice khane ke fayde hriday swasth ke liye in Hindi

ब्राउन राइस खाने के फायदे हृदय स्वास्थ्य के लिए - Brown Rice khane ke fayde hriday swasth ke liye in Hindi

अध्‍ययनों से स्‍पष्‍ट हुआ है कि ब्राउन राइस का उपभोग हृदय रोगीयों के लिए अच्‍छा होता है। ब्राउन राइस में सेलेनियम की अच्‍छी मात्रा होती है जो स्‍वस्‍थ दिल के लिए फायदेमंद होता है। ब्राउन राइस के पोषक तत्‍व धमनियों के अवरोध को दूर कर रक्‍त परिसंचरण को बढ़ावा देने में मदद करते हैं। इसके अलावा यह उच्‍च रक्‍तचाप को भी नियंत्रित करने में सहायक होता है। जिससे हृदय संबंधी रोगों की संभावना से बचा जा सकता है। इस तरह से आप अपने शरीर में उचित रक्‍तचाप रखने और हृदय को स्‍वस्‍थ रखने के लिए ब्राउन राइस का सेवन कर सकते हैं।

(और पढ़े – दिल मजबूत करने के उपाय…)

ब्राउन राइस का उपयोग कोलेस्‍ट्रॉल कम करे – Brown Rice Ka Upyog Cholesterol Kam Kare in Hindi

ब्राउन राइस का उपयोग कोलेस्‍ट्रॉल कम करे - Brown Rice Ka Upyog Cholesterol Kam Kare in Hindi

ब्राउन राइस का उपयोग कर आप प्राकृतिक रूप से खराब कोलेस्‍ट्रॉल के स्‍तर को कम कर सकते हैं। एक अध्‍ययन से पता चलता है कि ब्राउन राइस में हापोकोलेस्‍टेरोलेमिक (hypocholesterolemic) गुण होते हैं। जिसके कारण यह कोलेस्‍ट्रॉल अपचय को नियंत्रित करता है। ब्राउन राइस में मौजूद पोषक तत्‍व लिपिड और ग्‍लूकोज चयापचय में मदद करते हैं। जंक फूड का अधिक मात्रा में सेवन कोलेस्‍ट्रॉल के स्‍तर को बढ़ा सकता है। लेकिन अपने नियमित आहार में ब्राउन राइस को शामिल कर आप ऐसी संभावनाओं को कम कर सकते हैं। यदि आप भी उच्‍च कोलेस्‍ट्रॉल की समस्‍या से ग्रसित हैं तो ब्राउन राइस का उपयोग आपके लिए एक अच्‍छा विकल्‍प हो सकता है।

(और पढ़े – कोलेस्ट्रॉल कम करने के लिए भारतीय घरेलू उपाय और तरीके…)

भूरे चावल का इस्‍तेमाल अच्‍छे पाचन के लिए – Brown Rice Ka Istemal Ache Pachan Ke Liye in Hindi

भूरे चावल का इस्‍तेमाल अच्‍छे पाचन के लिए - Brown Rice Ka Istemal Ache Pachan Ke Liye in Hindi

जिन लोगों को पाचन संबंधी समस्‍याएं होती हैं उनके लिए ब्राउन राइस का इस्‍तेमाल अच्‍छा माना जाता है। यह पाचन तंत्र को स्‍वस्‍थ रखने में मदद करता है। ब्राउन राइस में फाइबर की उच्‍च मात्रा होती है जो पाचन क्षमता को बढ़ाने और आंतों को स्‍वस्‍थ रखने में सहायक है। इसके अलावा फाइबर आपकी पाचन प्रक्रिया को धीमा भी करता है जिससे आपको लंबे समय तक पूर्णता का एहसास होता है। जिसके कारण आप बार बार भोजन करने से बच सकते हैं जो आपके वजन को नियंत्रित करने में भी लाभकारी होता है। एक अध्‍ययन से पता चलता है कि ब्राउन राइस में मौजूद भूरे रंग की परत आर्दता के अवशोषण को रोकती है जिससे आपके पाचन तंत्र को लाभ होता है। नियमित रूप से ब्राउन राइस का उपभोग कब्‍ज, अपच और दस्त जैसी समस्‍याओं का भी इलाज कर सकता है।

(और पढ़े – पाचन शक्ति बढ़ाने के घरेलू उपाय…

ब्राउन राइस है प्रतिरक्षा बढ़ाने में सहायक – Brown Rice Hai Pratiraksha Badhane Me Sahayak in Hindi

ब्राउन राइस है प्रतिरक्षा बढ़ाने में सहायक - Brown Rice Hai Pratiraksha Badhane Me Sahayak in Hindi

आप अपनी रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने के लिए ब्राउन राइस का उपयोग कर सकते हैं। ऐसा इसलिए है क्‍योंकि ब्राउन राइस में शक्तिशाली एंटीऑक्‍सीडेंट की उच्‍च मात्रा होती है। नियमित रूप से ब्राउन राइस का सेवन कोशिकाओं को ऑक्‍सीजन मुक्‍त कण या फ्री रेडिकल्‍स के प्रभाव से बचाते हैं। ब्राउन राइस में एक महत्‍वपूर्ण एंटीऑक्‍सीडेंट एंजाइम होता है जिसे सुपरऑक्‍साइड डिसम्‍यूटेज (superoxide dismutase) कहा जाता है। यह शरीर में ऊर्जा उत्‍पादन के दौरान ऑक्‍सीकरण क्षति से कोशिकाओं की रक्षा करता है। एक अध्‍ययन से पता चलता है कि नियमित रूप से उपभोग करने पर ब्राउन राइस कोरोनरी हृदय जैसी समस्‍याओं से भी बचा सकता है। इस तरह से आप भी अपनी रोग प्रतिरोधक क्षमता में वृद्धि करने के लिए ब्राउन राइस के लाभ ले सकते हैं।

(और पढ़े – रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के उपाय…)

भूरे रंग के चावल करते हैं अल्‍जाइमर का इलाज – Brown Rice for Prevents Alzheimer’s in Hindi

भूरे रंग के चावल करते हैं अल्‍जाइमर का इलाज - Brown Rice for Prevents Alzheimer’s in Hindi

ब्राउन राइस खाने के फायदे अल्‍जाइमर के लक्षणों को दूर करने में सहायक होते हैं। ऐसा इसलिए है क्‍योंकि ब्राउन राइस में गामा-अमीनोब्‍यूट्रिक (gama-aminobutyric) एसिड की अच्‍छी मात्रा होती है। इसके अलावा ब्राउन राइस में स्‍वास्‍थ्‍य वर्धक घटक भी होते हैं जो प्रोली-एंडोपप्टिडेज (prolyl-endopeptidase) नामक हानिकारक एंजाइम को रोकने में मदद करता है जो अल्‍जाइमर रोग का इलाज करने में सहायक होता है। इस तरह से आप मस्तिष्‍क संबंधी विकारों जैसे मनोभ्रंश और भूलने की बीमारियों से छुटकारा पा सकते हैं।

(और पढ़े – अल्जाइमर से बचने के लिए खाएं ये हेल्दी फूड…)

ब्राउन राइस रखता है कैंसर से दूर – Brown Rice rakhta hai cancer se dur in Hindi

ब्राउन राइस रखता है कैंसर से दूर - Brown Rice rakhta hai cancer se dur in Hindi

अध्‍ययनों से पता चलता है कि ब्राउन राइस या भूरे चावल का उपयोग कोलन कैंसर, स्‍तन कैंसर और ल्‍यूकेमिया की रोकथाम में मदद करता है। इस प्रकार का लाभ ब्राउन राइस में मौजूद एंटीऑक्‍सीडेंट के कारण होता है। इसके अलावा ब्राउन राइस में मौजूद फाइबर भी कैंसर की रोकथाम करने में मदद करता है। फाइबर शरीर में कैंसर पैदा करने वाले हानिकारक ऑक्सिन्‍स को रोकने में सहायक होते हैं। साथ ही यह शरीर में मौजूद विषाक्‍तता को दूर करने में भी मदद करते हैं। इस तरह से आप भी भविष्‍य में होने वाले कैंसर की संभावना को कम कर सकते हैं। इसके लिए आप अपने दैनिक आहार में ब्राउन राइस को शामिल कर सकते हैं।

(और पढ़े – खाएं ये चीजें, नहीं होगा ब्रेस्ट कैंसर…)

भूरे चावल है तनाव को दूर करने का उपाय – Brown Rice hai tanav ko dur karne ka upay in Hindi

भूरे चावल है तनाव को दूर करने का उपाय - Brown Rice hai tanav ko dur karne ka upay in Hindi

भूरे रंग के चावल में अवसाद को रोकने की क्षमता होती है। यदि आप भी ऐसी समस्‍या से परेशान हैं तो इनसे छुटकारा पाने के लिए ब्राउन राइस का उपभोग कर लाभ ले सकते हैं। एक अध्‍ययन से पता चलता है कि ब्राउन राइस में ग्‍लूटामाइन, ग्लिसरीन और गाबा जैसे आवश्‍यक अमीनो एसिड होते हैं। ये निरोधात्‍मक न्‍यूरोट्रांसमीटर मस्तिष्‍क में चिंता अवसाद और तनाव आदि को कम कर सकते हैं। इस तरह से आप के मानसिक स्‍वास्‍थ्‍य के लिए ब्राउन राइस फायदेमंद है।

(और पढ़े – मानसिक तनाव दूर करने के घरेलू उपाय…)

ब्राउन राइस के लाभ अनिद्रा के लिए – Brown Rice ke labh Insomnia ke liye in Hindi

ब्राउन राइस के लाभ अनिद्रा के लिए - Brown Rice ke labh Insomnia ke liye in Hindi

ब्राउन राइस का नियमित सेवन करने से नींद की समस्‍या को कम किया जा सकता है। यदि आप अनिद्रा को दूर करने के घरेलू उपाय ढूंढ रहे हैं तो ब्राउन राइस एक अच्‍छा विकल्‍प है। इसमें मौजूद उपचार गुण आपकी नींद की गुणवत्‍ता को सुधारने में सहायक होते हैं। ब्राउन राइस में नींद के हार्मोन मेलाटोनिन की अच्‍छी मात्रा होती है। यह नसों को आराम देकर नींद की गुणवत्‍ता को सुधार सकता है। जिन लोगों को नींद न लगने संबंधी समस्‍या है वे ब्राउन राइस का उपभोग कर लाभ प्राप्‍त कर सकते हैं।

(और पढ़े – अनिद्रा के कारण, लक्षण और उपचार…)

ब्राउन राइस करता है हड्डियों को मजबूत – Brown Rice karta hai haddiyo ko majboot in Hindi

ब्राउन राइस करता है हड्डियों को मजबूत - Brown Rice karta hai haddiyo ko majboot in Hindi

ऐसा माना जाता है कि ब्राउन राइस में मौजूद पोषक तत्व और खनिज पदार्थ हड्डियों को मजबूत करने में मदद करते हैं। ब्राउन राइस में मैग्‍नीशियम की अच्‍छी मात्रा होने के साथ ही कैल्शियम भी होता है। ये दोनों ही घटक आपस में मिलकर हड्डियों को शारीरिक संरचना प्रदान करने में अहम योगदान देते हैं। मैग्‍नीशियम से भरपूर ब्राउन राइस हड्डियों के ह्रास को रोकता है। जिससे ऑस्टियोपोरोसिस जैसी समस्‍याएं होने की संभावना कम हो जाती है।

(और पढ़े – ऑस्टियोपोरोसिस के घरेलू उपचार और नुस्खे…)

ब्राउन राइस के फायदे महिलाओं के लिए – Brown Rice Ke Fayde Mahilao Ke Liye In Hindi

ब्राउन राइस के फायदे महिलाओं के लिए - Brown Rice Ke Fayde Mahilao Ke Liye In Hindi

स्‍तनपान कराने वाली महिलाओं के लिए ब्राउन राइस बहुत ही फायदेमंद होता है। अध्‍ययनों से पता चलता है कि स्‍तनपान कराने वाली महिलाओं में थकान, अवसाद और मनोदशा में कमी आदि को दूर करने में सहायक होता है। इसलिए महिलाएं प्रसव के पहले और प्रसव के बाद आने वाले अवसाद या तनाव को दूर करने के लिए ब्राउन राइस का उपयोग कर सकती हैं।

(और पढ़े – बच्चे को दूध पिलाने (स्तनपान कराने) के तरीके और टिप्स…)

ब्राउन राइस के नुकसान – Brown Rice ke Nuksan in Hindi

सामान्‍य रूप से ब्राउन राइस का सेवन सुरक्षित और फायदेमंद माना जाता है। लेकिन फिर भी आवश्‍यकता से अधिक मात्रा में इसका सेवन करने से बचना चाहिए। अधिक मात्रा में उपभोग करने पर कुछ लोगों को एलर्जिक प्रतिक्रियाओं का समामना करना पड़ सकता है। लेकिन यदि आप किसी विशेष स्‍वास्‍थ्‍य समस्‍याओं का इलाज करा रहे हैं तो ब्राउन राइस का उपभोग करने से पहले अपने डॉक्‍टर से सलाह लें। यह आपके लिए फायदेमंद है और ऐसा करने पर आप ब्राउन राइस के नुकसान से भी बच सकते हैं।

(और पढ़े – चावल के पानी के फायदे…)

Leave a Comment

Subscribe for daily wellness inspiration