दालचीनी और शहद के फायदे – Cinnamon and Honey Benefits in Hindi

दालचीनी और शहद के फायदे - Cinnamon and Honey Benefits in Hindi
Written by Diksha

Dalchini Aur Shahad Ke Fayde In Hindi दालचीनी का उपयोग तो कई बार किया होगा लेकिन क्या आप जानतें हैं दालचीनी और शहद के क्या फायदे हैं? दालचीनी और शहद दोनों का उपयोग आयुर्वेद में औषधी के रूप में किया जाता है। जब दालचीनी के साथ शहद को मिलाया जाता है तो, फिर यह समझो सोने पर सुहागे वाली बात हो गई। साथ में उपयोग करने पर दालचीनी और शहद के फायदे कई प्रकार की गंभीर स्‍वास्‍थ्‍य समस्‍याओं को रोकने में मदद करते हैं। आप सभी जानते हैं कि दालचीनी एक औषधीय जड़ी बूटी है जिसका उपयोग सामान्‍य रूप से मसालों के साथ किया जाता है। लेकिन दालचीनी और शहद के फायदे वजन घटाने में, मधुमेह को नियंत्रित करने में, त्‍वचा समस्‍याओं को दूर करने, गठिया का इलाज करने, श्वसन संबंधी समस्‍याओं को कम करने आदि में होते हैं।

आज इस लेख में आप दालचीनी और शहद के उन लाभों की जानकारी प्राप्‍त करेगें जो सीधे ही आपके बेहतर स्‍वास्‍थ्‍य में मदद कर सकते हैं। आइए जाने दालचीनी और शहद के मिश्रण का उपयोग करने के किन स्‍वास्‍थ्‍य संबंधी समस्‍याओं में फायदा होता है।

  1. दालचीनी और शहद का उपयोग क्‍यों करें – Why Use Cinnamon and Honey in Hindi
  2. दालचीनी और शहद के पोषक तत्‍व – Cinnamon and Honey Nutritional Value in Hindi
  3. दालचीनी और शहद के फायदे – Cinnamon and Honey Benefits in Hindi

दालचीनी और शहद का उपयोग क्‍यों करें – Why Use Cinnamon and Honey in Hindi

दालचीनी और शहद का उपयोग क्‍यों करें – Why Use Cinnamon and Honey in Hindi

दालचीनी और शहद के मिश्रण का उपयोग आयुर्वेद में प्राचीन समय से किया जा रहा है। ऐसा माना जाता है दालचीनी और शहद मानव जीवन के लिए प्रकृति का एक विशेष उपहार है। दालचीनी को पाचन संबंधी समस्याओं के लिए फायदेमंद माना जाता है। जबकि शहद में एंटी-इंफ्लामेटरी गुण और जीवाणुरोधी गुण होते हैं जिसके कारण यह बैक्‍टीरिया और फंगल संक्रमण के प्रभाव को कम करने में सहायक होता है। इसके अलावा शहद में दालचीनी के समान ही बहुत से खनिज पदार्थ और पोषक तत्‍व भरपूर मात्रा में होते हैं जो हमारे बेहतर स्‍वास्‍थ्‍य के लिए लाभकारी होते हैं। जानिये शहद और दालचीनी एक साथ लेने के फायदे।

(और पढ़े – दालचीनी के फायदे, गुण, लाभ और नुकसान…)

दालचीनी और शहद के पोषक तत्‍व – Cinnamon and Honey Nutritional Value in Hindi

दालचीनी और शहद के पोषक तत्‍व – Cinnamon and Honey Nutritional Value in Hindi

शहद और दालचीनी दोनों पौष्टिक खाद्य पदार्थ हैं जिनमें विटामिन और खनिज पर्याप्‍त मात्रा में होते हैं। शहद और दालचीनी के मिश्रण में पाए जाने वाले घटकों में पानी, प्रोटीन, फाइबर, चीनी, विटामिन और खनिज पदार्थ शामिल हैं।

दालचीनी और शहद के मिश्रण में कैल्शियम, आयरन, सोडियम, पोटेशियम, मैग्नीशियम, फास्‍फोरस और जस्‍ता जैसे खनिज पाए जाते हैं। विटामिन की बात की जाए तो इस मिश्रण में विटामिन C, विटामिन B6, फोलेट, नियासिन और राइबोफ्लेविन होते हैं। इसके अलावा दालचीनी में विटामिन A, E, D और विटामिन K भी होते हैं।

(और पढ़े – शहद के फायदे उपयोग स्वास्थ्य लाभ और नुकसान…)

दालचीनी और शहद के फायदे – Cinnamon and Honey Benefits in Hindi

अपने औषधीय गुणों और पोषक तत्‍वों की उपलब्‍धता के कारण दालचीनी और शहद दोनों ही अलग-अलग प्रकार की स्‍वास्‍थ्‍य समस्‍याओं को दूर करने में सक्षम हैं। लेकिन जब इन दोनों घटकों को साथ में उपयोग किया जाता है तो ये हमें अतिरिक्‍त स्‍वास्‍थ्‍य लाभ दिलाते हैं। आइए विस्‍तार से जाने दालचीनी और शहद के फायदे क्‍या हैं।

दालचीनी और शहद के फायदे मधुमेह के लिए – Dalchini Aur Shahad Ke Fayde Diabetes Ke Liye in Hindi

दालचीनी और शहद के फायदे मधुमेह के लिए – Dalchini Aur Shahad Ke Fayde Diabetes Ke Liye in Hindi

मधुमेह रोगियों के लिए दालचीनी और शहद का मिश्रण बहुत ही फायदेमंद होता है। दालचीनी में एंटीऑक्‍सीडेंट फ्लेवोनोइड्स होते हैं। जिनका प्रभाव और कार्य इंसुलिन के समान होता है। जिसके कारण यह रक्‍त में शर्करा के स्‍तर को नियंत्रित करने और मौजूद ग्‍लूकोज को ऊर्जा के रूप में परिवर्तित करने में सहायक होता है। जबकि शहद को प्राकृतिक शर्करा का सबसे बेहतर रूप माना जाता है। यह शरीर में रक्‍त शर्करा के उतार-चढ़ाव का कारण नहीं बनता है। जब शहद और दालचीनी दोनों के गुण आपस में मिलते हैं तो शरीर द्वारा ग्‍लूकोज का उपयोग लगातार ऊर्जा उत्‍पादन में किया जाता है। जिससे शरीर को पर्याप्‍त ऊर्जा प्राप्‍त होती है साथ ही रक्‍त शर्करा के स्‍तर को भी नियंत्रित किया जा सकता है। यदि आप भी मधुमेह रोगी हैं तो दालचीनी और शहद के मिश्रण का सेवन कर लाभ प्राप्‍त कर सकते हैं।

(और पढ़े – टाइप 2 मधुमेह क्या है, कारण, लक्षण, उपचार, रोकथाम और आहार…)

दालचीनी और शहद का सेवन प्रजनन क्षमता बढ़ाए – Cinnamon and honey for Infertility in Hindi

दालचीनी और शहद का सेवन प्रजनन क्षमता बढ़ाए – Cinnamon and honey for Infertility in Hindi

वीर्य की गुणवत्‍ता और मात्रा को बढ़ाने के लिए शहद का उपयोग आयुर्वेद में प्राचीन समय से ही किया जा रहा है। आयुर्वेद के अनुसार प्रतिदिन सोने से पहले 2 चम्‍मच शहद का सेवन करने से नपुंसकता के लक्षणों को कम करने में मदद मिल सकती है। जबकि पूर्व के बहुत से देशों में जो महिलाएं गर्भधारण नहीं कर पाती हैं उन्‍हें नियमित रूप से दालचीनी के सेवन की सलाह दी जाती है। ऐसे मामलों में आपको ½ चम्‍मच शहद में 1 चुटकी दालचीनी पाउडर थोड़ी थोड़ी देर में अपने मसूड़ों में घिसना चाहिए। जिससे कि इनके पोषक तत्‍व आपकी लार के साथ मिल जाएं और शरीर में प्रवेश कर जाएं। नियमित रूप से प्रतिदन दालचीनी और शहद का सेवन करने से पॉलीसिस्टिक अंडाशय सिंड्रोम को भी ठीक किया जा सकता है। जिससे किसी महिला की अवधि चक्र को शुरु करने और प्रजनन क्षमता को बढ़ाने मदद मिलती है।

(और पढ़े – वीर्य कैसे बढ़ाएं जानें वीर्य बढ़ाने के घरेलू उपाय और देसी नुस्‍खे…)

दालचीनी और शहद के लाभ वजन घटाने में – Cinnamon and honey for weight loss in hindi

दालचीनी और शहद के लाभ वजन घटाने में - Dalchini Aur Shahad Benefits for weight loss in Hindi

मोटापा या अधिक वजन कई गंभीर स्‍वास्‍थ्‍य समस्‍याओं का प्रमुख कारण होता है। लेकिन वजन कम करने के लिए दालचीनी और शहद के मिश्रण का उपयोग किया जा सकता है। इसके लिए आप गर्म पानी में दालचीनी पाउडर और शहद के मिश्रण का सेवन कर सकते हैं। यह वजन कम करने का सबसे बेहरीन घरेलू उपचार है। हालांकि वजन घटाने के लिए कोई भी घरेलू उपचार तभी लाभकारी होते हैं जब आप इनके साथ उचित खानपान और नियमित व्‍यायाम को शामिल करते हैं। यदि आप भी मोटापे का शिकार हैं तो नियमित व्‍यायाम के साथ शहद और दालचीनी के मिश्रण का सेवन कर लाभ ले सकते हैं।

(और पढ़े – वजन घटाने और कम करने वाले आहार…)

शहद दालचीनी लाभ कैंसर को रोके – Cinnamon and Honey for Cancer in Hindi

शहद दालचीनी लाभ कैंसर को रोके – Cinnamon and Honey for Cancer in Hindi

शहद और दालचीनी का मिश्रण कैंसर के लक्षणों को कम करने में सहायक होता है। ऐसा इसलिए है क्‍योंकि शहद में एंटीऑक्‍सीडेंट पर्याप्‍त मात्रा में होते हैं जो फ्री रेडिकल्‍स और कैंसर रोगाणुओं के विकास को रोकने और उन्‍हें नष्‍ट करने में सहायक होते हैं। इसके अलावा शहद में पॉलीफेनोल्‍स की उच्‍च मात्रा भी कैंसर से बचाने में मदद करते हैं। अध्‍ययनों से पता चलता है कि गहरे रंग के शहद में सफेद शहद की तुलना में अधिक एंटीऑक्‍सीडेंट होते हैं। इसके अलावा इस मिश्रण में उपयोग की जाने वाली दालचीनी में भी एंटी-ट्यूमर गुण होते हैं जो कैंसर कोशिकाओं को नष्‍ट करने में अहम योगदान निभाते हैं। दालचीनी और शहद का नियमित सेवन करने से कैंसर के लक्षणों को रोका जा सकता है।

(और पढ़े – क्या खाने से कैंसर का खतरा कम किया जा सकता है…)

शहद दालचीनी खाने के फायदे प्रतिरक्षा के लिए – Honey and Cinnamon for Boost immunity in Hindi

शहद दालचीनी खाने के फायदे प्रतिरक्षा के लिए – Honey and Cinnamon for Boost immunity in Hindi

दालचीनी और शहद के मिश्रण का नियमित सेवन करना आपकी रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ा सकता है। ऐसा इसलिए है क्‍योंकि इन दोनो घटकों में पर्याप्‍त मात्रा में एंटीऑक्‍सीडेंट और जीवाणुरोधी गुण होते हैं। जिसके कारण यह हमारी रोगों से लड़ने की क्षमता को बढ़ा सकते हैं। नियमित उपभोग करने पर यह थकान को दूर करने और अन्‍य वायरल संक्रमण के प्रभाव को कम करने में भी मदद करता है। दालचीनी और शहद का उपयोग जुकाम और इन्‍फ्लूएंजा के इलाज के लिए भी किया जाता है।

(और पढ़े – रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के उपाय…)

दालचीनी और शहद के गुण खुजली दूर करे – Dalchini aur shahad ke gun khujli dur kare in Hindi

दालचीनी और शहद के गुण खुजली दूर करे – Dalchini aur shahad ke gun khujli dur kare in Hindi

यदि आपको त्‍वचा में खुजली या किसी कीट के काटने के कारण जलन हो रही है तब भी दालचीनी और शहद के फायदे होते हैं। दालचीनी में एंटी-इंफ्लामेटरी गुण होते हैं जबकि शहद को बहुत से सौंदर्य और कॉस्‍मेटिक उत्‍पादों में उपयोग किया जाता है जो कि एक एंटीसेप्टिक और चिकित्‍सीय घटक है। इन सभी गुणों के कारण दालचीनी और शहद के मिश्रण का उपयोग त्‍वचा की खुजली और सूजन आदि को दूर करने के लिए किया जा सकता है।

(और पढ़े – खुजली दूर करने के लिए 10 घरेलू उपाय…)

दालचीनी और शहद के औषधीय गुण पाचन के लिए – Cinnamon and Honey good for Digestion in Hindi

दालचीनी और शहद के औषधीय गुण पाचन के लिए - Cinnamon and Honey good for Digestion in Hindi

पाचन संबंधी समस्‍याओं को दूर करने के लिए दालचीनी और शहद सबसे अच्‍छा उपाय है। नियमित रूप से शहद और दालचीनी के मिश्रण का सेवन करने पर पाचन तंत्र के स्‍वास्‍थ्‍य और कार्यक्षमता को बढ़ाने में मदद मिलती है। यह पेट की गैस या एसिडिटी को भी कम करने में मदद करता है। जिससे आपको पेट के दर्द, पेट फूलना, अपच और मूत्राशय के संक्रमण आदि का इलाज करने में मदद मिलती है। यदि आप भी इसी तरह की पाचन संबंधी समस्‍याओं से ग्रसित हैं तो दालचीनी और शहद का इस्‍तेमाल करें।

(और पढ़े – पाचन शक्ति बढ़ाने के घरेलू उपाय…)

दालचीनी शहद के फायदे हृदय स्‍वास्‍थ्‍य के लिए – Dalchini aur shahad ke fayde Heart health ke liye in Hindi

दालचीनी शहद के फायदे हृदय स्‍वास्‍थ्‍य के लिए – Dalchini aur shahad ke fayde Heart health ke liye in Hindi

पोटेशियम की उचित मात्रा होने के कारण दालचीनी और शहद के फायदे हृदय को स्‍वस्‍थ रखने में सहायक होते हैं। क्‍योंकि ये घटक शरीर में हानिकारक कॉलेस्‍ट्रॉल के स्‍तर को कम करने में सहायक होते हैं। यह खराब कॉलेस्‍ट्रॉल धमनियों और रक्‍तवाहिकाओं की दीवारों पर एथेरोस्‍क्‍लेरोसिस या प्‍लाक बिल्‍डअप का कारण हो सकता है। जिससे थक्‍का बनने की संभावना बढ़ जाती है जिसके परिणामस्‍वरूप दिल का दौरा स्‍ट्रोक आदि हो सकता है। इन सभी समस्‍याओं से बचने के लिए आप नियमित रूप से दालचीनी और शहद का सेवन कर सकते हैं।

(और पढ़े – दिल को स्‍वस्‍थ रखने के लिए सर्वश्रेष्‍ठ आहार…)

दालचीनी और शहद का लेप गठिया के लिए – Cinnamon and Honey for Treat Arthritis in Hindi

दालचीनी और शहद का लेप गठिया के लिए – Cinnamon and Honey for Treat Arthritis in Hindi

गठिया एक गंभीर और बहुत ही कष्‍टदायक समस्‍या होती है। जिसके कारण रोगी के शरीर में लगभग सभी ज्‍वाइंटों में बेहद दर्द और सूजन रहती है। लेकिन दालचीनी और शहद का सेवन गठिया का उपचार करने में आपकी मदद कर सकता है। इसके अलावा दालचीनी और शहद का लेप लगाना भी गठिया के लक्षणों को कम कर सकता है। आप इस पेस्‍ट का नियमित सेवन कर हड्डियों को स्‍वस्‍थ रख सकते हैं। गठिया के दर्द और सूजन से राहत पाने के लिए आप 1 गिलास गर्म पानी में थोड़ा सा दालचीनी पाउडर और 1 चम्‍मच शहद को घोलें और नियमित रूप से दिन में 2 बार सेवन करें। यह कुछ ही दिनों में आपको गठिया के लक्षणों से छुटकारा दिला सकता है।

(और पढ़े – गठिया (आर्थराइटिस) कारण लक्षण और वचाब…)

दालचीनी और हनी बेनिफिट्स फॉर स्किन – Cinnamon and Honey Benefits for Skin in Hindi

दालचीनी और हनी बेनिफिट्स फॉर स्किन – Cinnamon and Honey Benefits for Skin in Hindi

शहद को कई प्रकार के सौंदर्य उत्‍पादों में प्रमुख घटक के रूप में उपयोग किया जाता है। शहद और दालचीनी के सौंदर्य लाभ भी होते हैं। आप इन दोनों खाद्य पदार्थों के मिश्रण का एक पेस्‍ट बनाएं और अपने चेहरे पर फेस पैक के स्‍थान पर लगाएं। ऐसा करने से आपके चेहरे में मुंहासे और अन्‍य प्रकार के त्‍वचा संक्रमण होने की संभावना कम हो जाती है। इन दोनों घटकों में एंटीऑक्‍सीडेंट, एंटी-इंफ्लामेटरी और एंटी-सेप्टिक गुण होते हैं। जो त्‍वचा में होने वाले संक्रामक बैक्‍टीरिया को प्रभावी रूप से नष्‍ट कर सकते हैं। नियमित रूप से दालचीनी और शहद के मिश्रण का चेहरे पर उपयोग करने से धब्बों और झुर्रियों आदि की उपस्थिति को भी कम किया जा सकता है। आप भी त्‍वचा संबंधी समस्‍याओं को दूर करने के लिए दालचीनी और शहद से बने फेस पैक के फायदे प्राप्‍त कर सकते हैं।

(और पढ़े – ग्लोइंग स्किन पाने के लिए शहद का इस्तेमाल कैसे करें…)

दालचीनी और शहद का फायदा सर्दी में – Cinnamon and Honey for Cold in Hindi

दालचीनी और शहद का फायदा सर्दी में – Cinnamon and Honey for Cold in Hindi

जो लोग सर्दी के आम या गंभीर लक्षणों से प्रभावित हैं उनके लिए दालचीनी और शहद किसी औषधी से कम नहीं है। सर्दी का उपचार करने के लिए रोगी को नियमित रूप से 3 दिनों तक ¼ चम्‍मच दालचीनी पाउडर और 1 चम्‍मच गुनगुने गर्म शहद के साथ सेवन करना चाहिए। ऐसा करने से रोगी को खांसी और सर्दी से राहत मिलती है। ऐसा इसलिए है क्‍योंकि शहद में एंटी-बैक्‍टीरियल, एंटी-वायरल और एंटी-माइक्रोबियल गुण होते हैं जबकि दालचीनी में एंटी-इंफ्लामेटरी, एंटी-बैक्‍टीरियल और एंटीऑक्‍सीडेंट भरपूर मात्रा में होते हैं। ये सभी गुण मिलकर सर्दी के लक्षणों को कम करने में प्रभावी योगदान देते हैं।

(और पढ़े – सर्दी जुकाम और खांसी के घरेलू उपाय…)

दालचीनी और शहद करे दांत दर्द को दूर – Cinnamon and Honey for Toothache in Hindi

दालचीनी और शहद करे दांत दर्द को दूर - Cinnamon and Honey for Toothache in Hindi

दांतों के दर्द को दूर करने के लिए कई घरेलू उपचारों का उपयोग किया जा सकता है। लेकिन दांत दर्द से राहत पाने के लिए दालचीनी और शहद भी एक अच्‍छा घरेलू उपाय होता है। इसके लिए आपको दालचीनी पाउउर और शहद की आवश्‍यकता होती है।

एक कटोरी में 1 चम्‍मच दालचीनी पाउडर लें और इसमें 5 चम्‍मच शहद मिलाएं। इस मिश्रण को अच्‍छे से मिलाते हुए एक पेस्‍ट तैयार करें। अब इस मिश्रण की थोड़ी सी मात्रा लें और सीधे अपने दांतों में लगाएं जहां आपको दर्द हो रहा है। दर्द से राहत पाने के लिए आप इस मिश्रण को दर्द प्रभावित दांत में दिन में 2-3 बार उपयोग करें। बचे हुए दालचीनी और शहद के मिश्रण को आप हवा बंद बोतल में भी रख सकते हैं।

(और पढ़े – दांतों को मजबूत करने के उपाय…)

इसी तरह की अन्य जानकरी हिन्दी में पढ़ने के लिए हमारे एंड्रॉएड ऐप को डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं। और आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।

Leave a Comment

Subscribe for daily wellness inspiration