हेल्दी रेसपी

सर्दी के इस मौसम में बनाए गर्माहट देने वाले ये 20 व्यंजन – Dishes to keep you warm this winter in Hindi

सर्दी के इस मौसम में बनाए गर्माहट देने वाले ये 20 व्यंजन - Dishes to keep you warm this winter in Hindi

सर्दियों के स्पेशल व्यंजन, क्या आप भी सर्दी के दिनों में कुछ स्वादिष्ट और गर्माहट देने वाले व्यंजनों का आनंद लेना चाहते हैं। अगर ऐसा है, तो हमारे इस आर्टिकल में आज हम आपको सर्दियों में खाई जाने वाली ऐंसी डिशेज से रूबरू कराने जा रहे हैं जो कड़कती ठंड भरे मौसम में आपको गर्माहट तो देंगी ही, साथ ही आपकी सेहत को भी बहुत फायदा पहुंचाएंगी। इन स्वादिष्ट व्यंजनों का सेवन शरीर को अंदर से गर्माहट प्रदान करता है।
सर्दी का मौसम आपकी भूख बढ़ाने के साथ स्वादिष्ट व्यंजनों का लुत्फ उठाने का समय है। इन दिनों आपको कई ऐसे भोजन का स्वाद लेने का मौका मिलेगा, जो खासतौर से सर्दियों के लिए ही मशहूर हैं।

विशेषज्ञों के अनुसार, यह मौसम आपको चुस्त दरूस्त बनाने का मौसम होता है। खाना-पीना अगर मौसम के अनुसार हो, तो सेहत के लिए काफी अच्छा होता है। सर्दी के मौसम अक्सर ठंड से बचने के लिए कुछ ऐसी डिशेज खाने का मन होता है, जो शरीर में गर्मी पैदा कर सकें।

सर्दियों के दिनों में आपके मुंह का स्वाद बदलने और शरीर को गर्माहट देने वाले ऐसी कई डिशेज है, जिनके बारे में आज हम आपको अपने इस आर्टिकल में बताने जा रहे हैं। ये सभी विंटर डिशेज भारत के लगभग सभी होटल और रेस्टोरेंट्स में आपको मिल जाएंगी। लेकिन अगर आप चाहें, तो इन्हें घर पर भी बनाकर खा सकते हैं।

सर्दी के मौसम में गर्माहट देने वाली डिशेज – Dishes to keep you warm this winter in Hindi

कुछ ऐसे व्यंजन हैं, जो खासतौर से सर्दियों में ही उपलब्ध होते हैं और इन्हें खाने का मजा भी ठंड के मौसम में आता है। अच्छी बात ये है, कि सभी विंटर डिशेज खाने में तो टेस्टी होती ही हैं, लेकिन सेहत के लिहाज से भी बहुत अच्छी मानी जाती हैं। यहां हम आपको ऐसी ही 20 विंटर डिशेज की लिस्ट दे रहे हैं। जिनको खाकर आपको सर्दी में भी गर्मी का अहसास होगा।

गाजर का हलवा

गाजर का हलवा

गाजर का हलवा सर्दी के दिनों में हर घर में बनता है। यह भारत में सर्दियों का लोकप्रिय डेजर्ट है। घी से बने हुए इस हॉट-हॉट हलवे को देखकर ही सबका मन रोमांचित हो जाता है। खासतौर से इस पर डाले गए ड्राय फ्रूट्स को देखकर शायद ही किसी का मन इसे खाने का न हो । सर्दी के मौसम में गाजर की अधिक उपलब्धता के कारण गाजर का हलवा सभी जगह बनाया और खाया जाता है और सेहत के लिहाज से भी आपके लिए बहुत अच्छा होता है।

आपको गाजर में विटामिन ए, सी, के और फाइबर पर्याप्त मात्रा में मिल जाता है। जिसमें विटामिन ए आपकी आंखों के लिए बहुत फायदेमंद है। चूंकि, हलवे में दूध डाला जाता है, तो इस तरह से शरीर में प्रोटीन और कैल्शियम की कमी पूरी होती है। इसके अलावा घी सर्दियों में शरीर में होने वाले दर्द से राहत दिलाता है। इन सभी गुणों के कारण सालभर सर्दियों में खायी जाने वाली इस गर्मा-गर्म स्वादिष्ट डेजर्ट का इंतजार करते हैं।

(और पढ़े – गाजर खाने के फायदे और स्वास्थ्य लाभ और नुकसान…)

सरसों का साग

एक अन्य विंटर स्पेशल डिश है सरसों का साग। ये सब्जी सर्दियों के अलावा किसी अन्य मौसम में इतनी स्वादिष्ट नहीं लगती। इन दिनों इसे खाने का मजा ही कुछ और होता है। हरी सरसों की पत्तियों से तैयार यह डिश ज्यादातर मक्के की रोटी के साथ परोसी जाती है। यह एक पंजाबी डिश है। इसके ऊपर खूब सारा मक्खन न हो, तो यह डिश अधूरी है। सरसों का साग सर्दी के मौसम में न केवल आपके मुंह का स्वाद बदल देता है, बल्कि इसमें कई पोषक तत्व भी मौजूद होते हैं। इसलिए यह आपकी सेहत के लिए बहुत फायदेमंद है।

(और पढ़े – सरसों के बीज के फायदे और स्वास्थ्य लाभ…)

थुकपा

शोरबा के साथ थुकपा एक इंडो तिब्बतन नूडल सूप है। थुकपा का एक हॉट वेजी बाउल ठंड के दिनों में आपको गर्म और आरामदायक महसूस कराने के लिए एकदम बढ़िया विकल्प है। नेपाली थुकपा बहुत स्पाइसी यानि मसालेदार होता है, क्योंकि इसमें खूब सारा गर्म मसाला डाला जाता है। नूडल सूप का यह कंसेप्ट सर्द मौसम में बहुत स्वादिष्ट विकल्प है।

(और पढ़े – मसालेदार खाना खाने के फायदे और नुकसान…)

गुश्तबा

गुश्तबा का नाम तो आपने कई बार सुना है, लेकिन ये कैसी डिश है, इसके बारे में लोगों को नहीं पता। दरअसल, गुश्तबा कश्मीरी भोजन का राजा माना जाता है। इसे सर्व करने से पहले कई चरणों में तैयार किया जाता है। शाही मसालों और दही में पकाया गया कीमा आमतौर पर कश्मीरी रेस्टोरेंट में मिठाई की जगह परोसा जाता है। यहां होटलों में आने वाले ग्राहकों को खाने के बाद यह स्वीट डिश जरूर सर्व की जाती है, जो सर्दियों के लिए बहुत अच्छी है।

(और पढ़े – पौष्टिक ब्रेकफास्ट नाश्ता रेसिपी इन हिंदी…)

उंधियू

उंधियू

यह गुजरात की पारंपरिक और स्वादिष्ट डिश है। यह एक मौसमी पकवान है, जो अक्सर सर्दी के दिनों में ही उपलब्ध होता है। यह डिश बहुत मसालेदार होती है, जिसे खाने का मजा केवल सर्दियों में ही लिया जा सकता है। इसमें सूखी करी पेस्ट के साथ सीता फल के पत्ते, अदरक, लहसुन, हरी मिर्च, काली मिर्च और चीनी मिलाई जाती है। इस मिश्रण को बहुत धीमी गति से पकाया जाता है। सर्दी के दिनों में यह डिश केवल हेल्दी नहीं, बल्कि सुपर हेल्दी मानी जाती है, क्योंकि, इसमें भरपूर मात्रा में प्रोटीन, फॉलिक एसिड, विटामिन सी, कैल्शियम, मैग्नीशियम और आयरन होता है। ये सभी तत्व ठंड भरे मौसम में आपकी हड्डियों को मजबूत बनाने और त्वचा को स्वस्थ बनाने के लिए बहुत जरूरी हैं।

(और पढ़े – सर्दियों में खाये जाने वाले 18 फल और उनके लाभ…)

शकरकंद की रबड़ी

रबड़ी तो हमेशा पसंद की जाने वाली भारत की लोकप्रिय मिठाई है। लेकिन शकरकंद की रबड़ी सर्दियों की खासियत है। इसमें दूध, शकरकंद, केसर और इलायची अच्छी मात्रा में मिलाई जाती है, जिसकी खुशबू बहुत अच्छी आती है। जो लोग सर्दियों में अपने स्वास्थ्य के प्रति सचेत रहते हैं, उनके लिए शकरकंद की रबड़ी आदर्श विकल्प है। यह ठंड के मौसम में आपकी प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूती प्रदान करती है।

(और पढ़े – शकरकंद के फायदे और नुकसान…)

गुड़ संदेश, रसगुल्ला व रसमलाई

खजूर गुड़ की मिठाई बंगाल में काफी लोकप्रिय है। यहां के लोगों को नोले गुड़ संदेश, रसगुल्ला और रसमलाई खूब पसंद है। मुंह में मिठास घोलने वाली ये मिठाई सर्दी के लिए एकदम परफेक्ट है। यह एक बंगाली मिठाई है, जो विशेष रूप में सर्दियों के दौरान बाजारों में मिलती है।

(और पढ़े – गुड़ खाने के फायदे और नुकसान…)

गोंद के लड्डू

गोंद के लड्डू

सर्दी के दिनों में गोंद के लड्डू बहुत फायदेमंद होने के साथ स्वादिष्ट होते हैं। यह शरीर में गर्मी बनाए रखते हैं। इसके अलावा दिमागी तरावट और जोड़ों के दर्द को भी दूर करने में बहुत फायदेमंद है। वैसे यह एक ऐसी मिठाई है, जिसे आप सालभर भी खा सकते हैं, लेकिन ज्यादा लाभ ठंड के दिनों में मिलता है। कई पोषक तत्व होने के कारण सर्दियों में गोंद के लड्डू बहुत शक्ति प्रदान करते हैं। इसकी सबसे अच्छी बात ये है, कि इसे काफी लंबे समय तक स्टोर करके रखे जा सकता है।

(और पढ़े – गोंद के लड्डू खाने के फायदे और बनाने की विधि…)

बीटरूट थोरन

चुकंदर थोरन एक दक्षिण भारतीय सर्दियों की डिश है। यह बहुत सारे पोषण और स्वाद से भरपूर है। थोरन को मिर्च और हल्दी के साथ पकाया जाता है और पकवान को पूरा करने के लिए चुकंदर को मसालों के साथ तला-भुना जाता है। इसे सर्दियों का व्यंजन कहा जाता है, क्योंकि यह मीठा और मसालेदार होता है, जो ठंड से बचने के लिए अच्छा विकल्प है।

(और पढ़े – चुकंदर खाने के फायदे और स्वास्थ्य लाभ…)

निहारी

निहारी एक नॉन-वेज डिश है, जो खासतौर से सर्दियों के लिए जानी जाती है। यह एक ऐसा व्यंजन है, जिसे मटन या चिकन के साथ पकाया जाता है। एक तरह से यह सूप की सब्जी है, जिसे गर्मा-गर्म पूरियों के साथ खाया जाता है। इसे रातभर जब तक पकाया जाता है, जब तक की मांस पूरी तरह पककर नरम और कोमल न हो जाए। यह तेजी से मुंह में पिघल जाता है। इस तरह के भोजन का स्वाद लेने का मौका आपको केवल सर्दियों में ही मिलेगा।

(और पढ़े – चिकन सूप के फायदे और नुकसान…)

रोगन जोश

रोगन जोश मटन का ही एक जायका है। यह एक परशियन रेसिपी है, जिसे कश्मीर का स्पेशल टेस्ट माना जाता है। यह हॉट डिश ठंड के दिनों में आपको गर्माहट देती है और आपको सुपर कोजी फील कराती है। होटलों में इसे रोटी या जीरा चावल के साथ सर्व किया जाता है।

लप्सी

लप्सी

सर्दी के मौसम में दिनभर आपके शरीर में स्फूर्ति और गर्माहट बनाए रखने के लिए लप्सी एक बहुत ही शानदार डिश है। यह गुजरात और राजस्थान के कुछ हिस्सों में खाई जाती है। इसमें घी, सूखे मेवे, टूटे हुए गेहूं, किशमिश की उदार मात्रा डाली जाती है, जिस कारण यह सर्दियों की अच्छी और टेस्टी डिश बन जाती है। इसमें मिलाई गई सामग्री में वह सभी चीजें मौजूद हैं, जो आपको ठंड से बचाकर शरीर में गर्माहट पैदा करती हैं।

तिल पिठा

सर्दियों में अगर कुछ मीठा और हेल्दी खाने की इच्छा हो, तो तिल पिठा बहुत स्वादिष्ट व्यंजन है। आमतौर पर यह एक असमिया डिश है, जो स्वाद में मीठी होती है। यह तिल और गुड़ से बना मानो एक मीठा पेनकेक है। चूंकि, सर्दियों में अच्छा गुड़ आता है, इसलिए इस मौसम में असम में तिल पिठा सबसे अच्छा तैयार होता है। यह नरम और कुरकुरे का बेस्ट कॉम्बिनेशन है।

(और पढ़े – संतुलित आहार के लिए जरूरी तत्व , जिसे अपनाकर आप रोंगों से बच पाएंगे…)

गाजर पोरियल

गाजर पोरियल एक साउथ इंडियन डिश है, जो सबसे ज्यादा सर्दी के दिनों में दक्षिण भारत में मिलती है। चूंकि सर्दी के दिनों में गाजर बहुत ज्यादा और अच्छी मिलती है, इसलिए इन दिनों में यह डिश ज्यादा खाई जाती है। यह डिश स्वाद और पोषक तत्वों से भरपूर है। इसमें गाजर को भाप करके राई, हींग और कड़ी पत्ते के साथ पकाया जाता है। इसे खाने के साथ साइड डिश की तरह सर्व किया जाता है। सर्दियों में आप इस स्वादिष्ट दक्षिण भारतीय डिश का स्वाद आराम से ले सकते हैं।

चिक्की

चिक्की

सर्दी आए और लोग चिक्की न खाएं, ऐसा नहीं हो सकता। लोगों के सर्दी के दिनों में चिक्की बहुत पसंद होती है। इसकी वजह है इसका टेस्टी और हेल्दी होना। यह नट्स और गुड़ से तैयार की जाने वाली एक हेल्दी स्वीट ऑप्शन है। सर्दियों की ठिठुरन को दूर करने के लिए आप दिन में कम से कम एक चिक्की जरूर खाएं। यकीनन, ये आपके शरीर को गर्माहट देगी और ऊर्जा भी।

(और पढ़े – सर्दियों में शरीर गर्म करने के लिये खाएं बादाम और तिल की चिक्‍की…)

राब

बाजरा का राब राजस्थान और गुजरात का एक स्पेशल विंटर ड्रिंक है। सर्दी के महीनों में बाजरे का आटा बहुत उपयोग किया जाता है, क्योंकि इसमें आपको हेल्दी रखने वाले कई गुण होते हैं और यह पूरी तरह से पौष्टिक भी है। यह एक बहुत ही पतला पेय होता है, जिसे अलग-अलग तरह के बाजरे के आटे के साथ बनाया जाता है। आपको बता दें, कि राब जैसी विंटर ड्रिंक सर्दियों में आपकी प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूत बनाने के लिए बहुत अच्छी है।

पंजिरी

वैसे, तो पंजिरी का उपयोग अक्सर पूजा-पाठ के बाद प्रसाद के रूप में किया जाता है, लेकिन सर्दियों के लिए यह एक स्वस्थ और पौष्टिक व्यंजन या मिठाई है। क्योंकि इसमें अच्छी मात्रा में घी और ड्राई फ्रूट्स डाले जाते हैं, जो सर्दियों के लिए बहुत अच्छे हैं। आमतौर पर ठंड से बचाव के लिए सर्दी के मौसम में पंजिरी खाई जाती है। यह एक बहुत ही प्राचीन डिश है, जो ज्यादा दूध का उत्पादन करने के लिए माताओं को दी जाती है।

(और पढ़े – स्वस्थ आहार के प्रकार और फायदे…)

पाया शोरबा

पाया शोरबा सर्दी से राहत पाने के लिए अच्छा इंडियन सूप है। यह पूरी तरह से नॉन-वेज है, जो मेम्ने के टुकड़ों से बनाया जाता है। सर्दी के दिनों में यह एक हार्ट-वॉर्मिंग डिश है, जिसे अक्सर लोग ठिठुरने वाली सर्दियों में पीना पसंद करते हैं।

मेथी पकौड़ा

मेथी पकौड़ा

सर्दियों में अगर शाम की चाय के साथ गर्मा-गर्म क्रिस्टी, टेस्टी पकौड़े मिल जाएं, तो क्या बात है। खासतौर से अगर पकौड़े मेथी के हों, तो मजा डबल हो जाता है। मेथी पकौड़ा मेथी के पत्तों का उपयोग करके बनाया गया पकौड़ा है। इसके स्वास्थ्य लाभ भी बहुत हैं। चूंकि, इसमें मेथी के पत्तों का उपयोग होता है, जो शरीर में टेस्टोस्टेरॉन बढ़ाता है, जिससे स्तनपान कराने वाली माताओं के दूध में वृद्धि होती है। इसके अलावा यह एंटीऑक्सीडेंट और कई पोषण तत्वों से भरपूर है, जो कोलेस्ट्रॉल का स्तर बनाए रखने और वजन घटाने में बहुत मददगार साबित होता है। मेथी के पकौड़े का आनंद केवल ठंड के दिनों में ही लिया जा सकता है, क्योंकि इन दिनों में ही मेथी बाजारों में खूब मिलती है।

(और पढ़े – मेथी के लड्डू के फायदे और बनाने की विधि…)

मलाई मक्खन

मिलाई मक्खन को खिमिश या कई जगह दौलत चाट भी कहा जाता है। यह एक ऐसा ड्रिंक है, जिसका आनंद अक्टूबर से मार्च के बीच ही लिया जा सकता है। यह पेय दूध और क्रीम को मथने के बाद तैयार किया जाता है। इसमें अंत में ऊपर से सूखे मेवे, खोया या केसर से सजाया जाता है, जिससे यह दिखने में काफी खूबसूरत और स्वाद में डबल हो जाता है। सर्दियों में सबुह उठकर इस ड्रिंक को पीने से शरीर को कई लाभ मिलते हैं। इसलिए इसे हेल्दी विंटर ड्रिंक कहा जाए, तो गलत नहीं होगा।

इस लेख में हमने सर्दी के दिनों में आपको गर्म रखने वाली डिशेज के बारे में बताया है। साथ ही यह ठंड में आपको चुस्त दुरूस्त भी रखती हैं। इन डिशेज की खासियत है, कि इनका स्वाद आप साल में बस सर्दी के मौसम में ही ले सकते हैं, इसलिए इस मौसम में इन व्यंजनों का स्वाद जरूर लें, ताकि आपको अगले साल तक इनके लिए इंतजार न करना पड़े।

(और पढ़े – दही बड़ा कैसे बनाते हैं विधि और रेसिपी…)

इसी तरह की अन्य जानकरी हिन्दी में पढ़ने के लिए हमारे एंड्रॉएड ऐप को डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं। और आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।

Leave a Comment

Subscribe for daily wellness inspiration