मेथी की भाजी खाने के फायदे, उपयोग और नुकसान  – Fenugreek Leaves (Methi Bhaji) Benefits, Uses and Side Effects in Hindi

मेथी की भाजी खाने के फायदे, उपयोग और नुकसान  – Methi Ki Bhaji Khane Ke Fayde Aur Nuksan in Hindi
Written by Jaideep

मेथी की भाजी खाना शायद ही किसी को पसंद न हो, क्योंकि मेथी के पत्‍तों की सब्‍जी खाने के फायदे बहुत अधिक होते हैं। सर्दियों का मौसम शुरु होते ही बाजारों में हरी पत्‍तेदार सब्जियों की आवक बढ़ जाती है जिनमें मेथी भी शामिल है। मेथी की भाजी के औषधीय गुण कई रोगों का उपचार करने में सहायक होते हैं। कसूरी मेथी का उपयोग विशेष रूप से कई प्रकार के व्‍यंजनों के स्‍वाद को बढ़ाने के लिए किया जाता है। इस लेख में आप मेथी के पत्‍तों का इस्‍तेमाल क्‍यों और कैसे किया जाता है की जानकारी प्राप्‍त करेगें। मेथी की भाजी खाने के फायदे डायबिटीज, मासिक धर्म (Menstrual cycle), मोटापा, पेट की सूजन आदि को दूर करने के लिए होते है। इस लेख में आप जानेंगे मेथी के फायदे और नुकसान (Methi Ki Bhaji Fayde Aur Nuksan in Hindi) के बारे में।

1. मेथी की भाजी क्‍या है – What is Fenugreek Leaves in Hindi
2. हरी मेथी के पोषक तत्‍व –  Nutrients of Fenugreek Leaves in Hindi
3. मेथी की भाजी खाने के फायदे – Methi Ki Bhaji Khane Ke Fayde in Hindi
4. मेथी भाजी के फायदे त्‍वचा के लिए – Methi Bhaji ke Fayde Twacha ke liye in Hindi
5. मेथी की भाजी के फायदे बालों के लिए – Methi ki Bhaji ke Fayde Hair ke liye in Hindi
6. मेथी की भाजी खाने के नुकसान – Methi ki Bhaji khane ke Nuksan in Hindi

मेथी की भाजी क्‍या है – What is Fenugreek Leaves in Hindi

मेथी की भाजी क्‍या है – What is Fenugreek Leaves in Hindi

मेथी एक औषधीय जड़ी जड़ी बूटी है जिसका नाम लैटिन भाषा से लिया गया है। मेथी के पत्‍तों का उपयोग हरी भाजी, सूखे पत्ते और इसके बीजों के रूप में किया जाता है। इन सभी उत्‍पादों का इस्‍तेमाल भोजन को स्‍वादिष्‍ट बनाने के लिए मसाले के रूप में उपयोग किया जाता है। भारत के अलग अलग हिस्‍सों में इसे कई नामों से जाना जाता है। आइए जाने मेथी की भाजी में कौन-कौन से पोषक तत्‍व पाये जाते हैं।

(और पढ़ें – मेथी के फायदे और नुकसान)

हरी मेथी के पोषक तत्‍व –  Nutrients of Fenugreek Leaves in Hindi

मेथी के पत्‍तों में फाइबर की उच्‍च मात्रा होती है, इसके अलावा मेथी की हरी भाजी विटामिन और खनिज पदार्थ का अच्‍छा स्रोत मानी जाती है। 100 ग्राम मेथी की भाजी में पाए जाने वाले पोषक तत्‍व इस प्रकार हैं।

कैलोरी50
कार्बोहाइड्रेट58 gm
वसा6 gm
सोडियम67 mg
पोटेशियम770 mg
प्रोटीन23 gm
आयरन186 % of DV
विटामिन बी630 % of DV
मैग्नीशियम47 % of DV

(और पढ़ें – मेथी का पानी पीने के फायदे और नुकसान)

मेथी की भाजी खाने के फायदे – Methi Ki Bhaji Khane Ke Fayde in Hindi

मेथी की भाजी खाने के फायदे – Methi Ki Bhaji Khane Ke Fayde in Hindi

हरी मेथी सर्दियों के दौरान प्रमुख खाद्य सब्‍जी के रूप में उपयोग की जाती है। यदि मेथी के पत्‍तों का सेवन करने की बात आती है तो मेथी के पत्तों के फायदे केवल स्‍वास्‍थ्‍य के लिए नहीं होते हैं। बल्कि मेथी के पत्‍ते खाने के फायदे त्‍वचा और बालों के लिए भी होते हैं। आइए जाने आप अपने दैनिक आहार में मेथी की भाजी को शामिल कर किस प्रकार के स्‍वास्‍थ्‍य लाभ प्राप्‍त कर सकते हैं।

  1. मेथी के पत्‍ते के फायदे कोलेस्‍ट्रॉल कम करे – Methi Ke Patte Ke Fayde Cholesterol Kam Kare in Hindi
  2. हरी मेथी के फायदे आंत समस्‍याओं के लिए – Methi Leaves For Prevents Bowel Problems in Hindi
  3. मेथी के पत्ते का फायदा मधुमेह के लिए – Methi Ke Patte Ka Fayda Diabetes Ke Liye in Hindi
  4. मेथी भाजी के फायदे हृदय स्‍वास्‍थ्‍य के लिए – Methi Bhaji Ke Fayde Heart Problem Ke Liye in Hindi
  5. हरी मेथी के लाभ माउथ फ्रेशनर के लिए – Fenugreek Leaves For Mouth Freshener in Hindi
  6. मेथी की भाजी के गुण श्वसन समस्‍याओं को रोके – Methi Ki Bhaji Respiratory Problems Ko Roke in Hindi
  7. मेथी की भाजी का फायदा बुखार ठीक करने में – Methi Ki Bhaji Ka Fayda Fever Ke Liye in Hindi
  8. मेथी की भाजी के लाभ एनीमिया के लिए – Fenugreek Leaves Cures Anaemia in Hindi
  9. मेथी भाजी के गुण एसिड रिफ्लक्‍स से बचाये – Fenugreek Leaves For Acid Reflux in Hindi
  10. मेथी के पत्तों के फायदे वजन घटाने में – Methi Ke Patto Ke Fayde Vajan Ghatane Me in Hindi
  11. मेथी की भाजी खाने के फायदे मां का दूध बढ़ाये – Fenugreek Leaves Benefits For Mother Milk in Hindi
  12. मेथी भाजी के गुण स्‍तन के आकार बढ़ाये – Methi Leaves For Increase In Breast Size in Hindi

मेथी के पत्‍ते के फायदे कोलेस्‍ट्रॉल कम करे – Methi Ke Patte Ke Fayde Cholesterol Kam Kare in Hindi

मेथी के पत्‍ते के फायदे कोलेस्‍ट्रॉल कम करे – Methi Ke Patte Ke Fayde Cholesterol Kam Kare in Hindi

नियमित रूप से मेथी के पत्तों का सेवन करना आपको कोलेस्ट्रॉल के स्‍तर को कम करने में मदद कर सकता है। ऐसा इसलिए है क्‍योंकि मेथी की भाजी में रक्‍त के लिपिड स्‍तर को कम करने के गुण होते हैं। यदि आप उच्‍च कोलेस्‍ट्रॉल के कारण होने वाली स्‍वास्‍थ्‍य समस्‍याओं से बचना चाहते हैं तो इस औषधीय सब्जी को अपने दैनिक आहार का हिस्‍सा बना सकते हैं। क्‍योंकि मेथी भाजी के औषधीय गुण शरीर में खराब कोलेस्‍ट्रॉल के स्‍तर को कम करने और अच्‍छे कोलेस्‍ट्रॉल के स्‍तर को बढ़ाने में सहायक होते हैं। इस लाभ को प्राप्‍त करने के लिए आप 100 ग्राम मेथी के पत्तों को रात भर पानी में भीगने दें। इसके बाद अगली सुबह इस पानी का सेवन करें। ऐसा करने से आपको कोलेस्‍ट्रॉल के स्तर को कम करने में मदद मिल सकती है।

(और पढ़ें – हाई कोलेस्ट्रॉल कम करने के घरेलू उपाय)

हरी मेथी के फायदे आंत समस्‍याओं के लिए – Methi Leaves For Prevents Bowel Problems in Hindi

हरी मेथी के फायदे आंत समस्‍याओं के लिए – Methi Leaves For Prevents Bowel Problems in Hindi

मेथी के पत्ते अपच से लड़ने और लिवर संबंधी समस्‍याओं को दूर करने में प्रभावी होते हैं। नियमित रूप से मेथी के पत्तों का सेवन करना गैस्ट्रिक समस्‍याओं और अन्‍य आंतों संबंधी परेशानियों को रोकने में प्रभावी होता है। मेथी की भाजी का उपयोग आमतौर पर पाचन संबंधी समस्‍याओं जैसे गैस्‍ट्राइटिस, कब्‍ज और पेट खराब होने आदि में किया जाता है।

पेट संबंधी संबंधी समस्‍याओं को दूर करने के लिए 1 चम्‍मच सूखे मेथी के पत्तों को 1 कप पानी में उबालें और ठंडा होने के बाद इसका सेवन करें।

(और पढ़ें – आंतों की कमजोरी का घरेलू इलाज)

मेथी के पत्ते का फायदा मधुमेह के लिए – Methi Ke Patte Ka Fayda Diabetes Ke Liye in Hindi

मेथी के पत्ते का फायदा मधुमेह के लिए – Methi Ke Patte Ka Fayda Diabetes Ke Liye in Hindi

सदियों से मेथी के पत्ते का उपयोग कोलेस्‍ट्रॉल, ट्राइग्लिसराइड्स और खराब कोलेस्‍ट्रॉल के स्‍तर को कम करने के लिए किया जा रहा है। लेकिन नियमित रूप से मेथी के पत्तों का सेवन करने के फायदे मधुमेह के लक्षणों को भी नियंत्रित करने में होते हैं। इसके औषधीय गुण ग्‍लूकोज चयापचय को नियंत्रित करने और मधुमेह प्रकार 2 की रोकथाम में प्रभावी होते हैं। कई अध्‍ययनों से यह पता चलता है कि मेथी की भाजी खाने से रक्‍त शर्करा के स्‍तर को नियंत्रित करने में मदद मिलती है।

(और पढ़ें – मधुमेह को कम करने वाले आहार)

मेथी भाजी के फायदे हृदय स्‍वास्‍थ्‍य के लिए – Methi Bhaji Ke Fayde Heart Problem Ke Liye in Hindi

मेथी भाजी के फायदे हृदय स्‍वास्‍थ्‍य के लिए – Methi Bhaji Ke Fayde Heart Problem Ke Liye in Hindi

मेथी की भाजी की सबसे प्रमुख विशेषता यह है कि यह प्लेटलेट के निर्माण को नियंत्रित करती है। जिससे हृदय में रक्‍त के थक्‍का जमने की संभावना कम हो सकती है। कई आयुर्वेदिक जड़ी बूटियों की तरह ही मेथी के पत्ते में भी एंटीऑक्‍सीडेंट होते हैं। ये एंटीऑक्‍सीडेंट हृदय को नुकसान पहुंचाने वाले फ्री रेडिकल्‍स के प्रभाव को कम करने में मदद करते हैं। जिससे हृदय संबंधी गंभीर स्‍वास्‍थ्‍य समस्‍याओं से बचा जा सकता है।

(और पढ़ें – हार्ट अटैक से बचने के उपाय)

हरी मेथी के लाभ माउथ फ्रेशनर के लिए – Fenugreek Leaves For Mouth Freshener in Hindi

हरी मेथी के लाभ माउथ फ्रेशनर के लिए - Fenugreek Leaves For Mouth Freshener in Hindi

आप एक प्राकृतिक माउथ फ्रेशनर के रूप में मेथी की भाजी का इस्‍तेमाल कर सकते हैं। इसके लिए आप मेथी के पत्तों को सुखा लें और इसे अच्‍छी तरह से पाउडर बना लें। अब इस पाउडर में नींबू का रस मिलाएं और इस मिश्रण को गर्म करें। इस हल्‍के गुनगुने मिश्रण को आप माउथ फ्रेशनर के रूप में उपयोग कर सकते हैं। चूंकि यह मिश्रण प्राकृतिक और औषधीय गुणों से भरपूर होता है इसलिए इसका उपयोग करने के कोई गंभीर दुष्‍प्रभाव होने की संभावना बहुत ही कम होती है।

(और पढ़ें – नेचुरल माउथ फ्रेशनर का सेवन करके सांसों में ताजगी लाऐं)

मेथी की भाजी के गुण श्वसन समस्‍याओं को रोके – Methi Ki Bhaji Respiratory Problems Ko Roke in Hindi

मेथी की भाजी के गुण श्वसन समस्‍याओं को रोके – Methi Ki Bhaji Respiratory Problems Ko Roke in Hindi

श्वसन पथ में किसी भी तरह की एलर्जी या जमाव को मेथी के पत्तों का उपयोग करके आसानी से दूर किया जा सकता है। इसके लिए आप धूप में मेथी के पत्तों को सुखा लें और पाउडर बना लें। आप अपने दैनिक जीवन में इस पाउडर का उपयोग चाय बनाने के लिए कर सकते हैं। मेथी के पत्तों की चाय पीने के फायदे आपको श्वसन समस्‍याओं से बचा सकता है। यह मुख्‍य रूप से प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूत करने और सर्दी जुकाम के लक्षणों को कम करने में सहायक होता है।

(और पढ़ें – सर्दी जुकाम और खांसी के घरेलू उपाय)

मेथी की भाजी का फायदा बुखार ठीक करने में – Methi Ki Bhaji Ka Fayda Fever Ke Liye in Hindi

मेथी की भाजी का फायदा बुखार ठीक करने में – Methi Ki Bhaji Ka Fayda Fever Ke Liye in Hindi

यदि आप बुखार का घरेलू इलाज करना चाहते हैं तो मेथी की भाजी आपकी मदद कर सकती है। नींबू, शहद और मेथी के पत्तों का उपयोग शरीर के उच्‍च तापमान को कम करने में सहायक होता है। बुखार का उपचार करने के लिए आप ग्रीन टी में मेथी के बीज या सूखे हुए मेथी के पत्ते, नींबू का रस और शहद का भी उपयोग कर सकते हैं। यह औषधीय चाय न केवल उच्‍च तापमान को कम करने बल्कि कब्‍ज और सूजन जैसी पाचन समस्‍याओं को भी रोकने में सहायक होता है।

(और पढ़ें – बुखार कम करने के घरेलू उपाय)

मेथी की भाजी के लाभ एनीमिया के लिए – Fenugreek Leaves Cures Anaemia in Hindi

मेथी की भाजी के लाभ एनीमिया के लिए - Fenugreek Leaves Cures Anaemia in Hindi

जिन लोगों को खून की कमी या एनीमिया जैसी समस्‍याएं होती हैं उनके लिए मेथी की भाजी एक बेहतर विकल्‍प है। मेथी के पत्तों में आयरन की उच्च मात्रा होती है। शरीर में आयरन की कमी होने के कारण ही खून की कमी या एनीमिया जैसी समस्‍याएं हो सकती हैं। लेकिन आप अपने नियमित आहार में मेथी की भाजी का उपयोग करके इस प्रकार की समस्‍या से बच सकते हैं। क्‍योंकि मे‍थी की भाजी का सेवन करने से लाल रक्‍त कोशिकाओं और हीमोग्‍लोबिन के उत्‍पादन को बढ़ाने में मदद मिल सकती है।

(और पढ़ें – क्या है एनीमिया? कारण, लक्षण और आहार)

मेथी भाजी के गुण एसिड रिफ्लक्‍स से बचाये – Fenugreek Leaves For Acid Reflux in Hindi

मेथी भाजी के गुण एसिड रिफ्लक्‍स से बचाये - Fenugreek Leaves For Acid Reflux in Hindi

एसिडिटी, पेट की खराबी और अन्‍य समस्‍याओं से छुटकारा पाने का सबसे अच्‍छा उपाय मेथी की भाजी हो सकती है। नियमित रूप से मेथी की भाजी का सेवन करना एसिड रिफ्लक्‍स को रोक सकता है। इस प्रकार की समस्‍या का उपचार करने के लिए सबसे पहले मेथी के पत्तों को पानी में अच्‍छी तरह से धो लें। इसके बाद आप इसे अपनी सुविधा के अनुसार विभिन्‍न व्‍यंजनों के रूप में उपयोग कर सकते हैं।

(और पढ़ें – एसिड रिफ्लक्स के कारण, लक्षण, जांच, इलाज, और परहेज)

मेथी के पत्तों के फायदे वजन घटाने में – Methi Ke Patto Ke Fayde Vajan Ghatane Me in Hindi

मेथी के पत्तों के फायदे वजन घटाने में – Methi Ke Patto Ke Fayde Vajan Ghatane Me in Hindi

मोटापे को कम करने के लिए बहुत ही लोकप्रिय औषधी के रूप में मेथी के पत्तों का उपयोग किया जा सकता है। यदि आप भी अपने अधिक वजन से परेशान हैं तो मेथी की भाजी का सेवन आपकी इस समस्‍या को कम करने का सबसे अच्‍छा घरेलू उपाय है। आप मोटापे को नियंत्रित करने के लिए मेथी की पत्तियों को कच्‍ची ही चबा सकते हैं। अतिरिक्‍त लाभ प्राप्‍त करने के लिए मेथी के पत्तों का सेवन खाली पेट किया जाना चाहिए। मेथी के पत्तों में घुलनशील फाइबर की उच्‍च मात्रा होती है जो आपकी भूख को नियंत्रित करने में सहायक होता है। जिससे आपको अधिक समय तक भूख का एहसास नहीं होता है। भूख न लगने के कारण आप अपने भोजन में कमी का अनुभव करेगें जिससे आपको अपना वजन कम करने में मदद मिल सकती है।

(और पढ़ें – वजन घटाने और कम करने वाले आहार)

मेथी की भाजी खाने के फायदे मां का दूध बढ़ाये – Fenugreek Leaves Benefits For Mother Milk in Hindi

मेथी की भाजी खाने के फायदे मां का दूध बढ़ाये - Fenugreek Leaves Benefits For Mother Milk in Hindi

बच्‍चे के जन्‍म के बाद जिन महिलाओं में पर्याप्‍त दूध का उत्‍पादन नहीं होता है उनके लिए मेथी की भाजी एक अच्‍छा घरेलू उपाय मानी जाती है। मां का दूध शिशु के लिए सबसे पहला और सबसे अच्‍छा आहार होता है। लेकिन यदि महिलाओ में दूध का पर्याप्‍त उत्‍पादन नहीं होता है बच्‍चे को पर्याप्‍त आहार नहीं मिल पाता है जिससे वे कुपोषण का शिकार हो सकते हैं। ऐसी स्थिति में महिलाओं को पर्याप्‍त मात्रा में मेथी की भाजी का सेवन करना चाहिए। क्‍योंकि मेथी की भाजी में ऐसे पोषक तत्‍व और खनिज पदार्थ पर्याप्‍त मात्रा में होते हैं जो महिलाओं में दूध उत्‍पादन की क्षमता को बढ़ाने में सहायक होते हैं।

(और पढ़ें – ब्रेस्ट मिल्क (मां का दूध) बढ़ाने के लिए क्या खाएं)

मेथी भाजी के गुण स्‍तन के आकार बढ़ाये – Methi Leaves For Increase In Breast Size in Hindi

मेथी भाजी के गुण स्‍तन के आकार बढ़ाये - Methi Leaves For Increase In Breast Size in Hindi

जो महिलाएं अपने स्‍तन के आकार से संतुष्‍ट नहीं हैं उनके लिए मेथी एक अच्‍छा घरेलू नुस्‍खा हो सकता है। क्‍योंकि मेथी की भाजी का सेवन करना प्राकृतिक रूप से स्‍तन के आकार को बढ़ाने में मदद कर सकता है। क्‍योंकि मेथी के पत्तों में मौजूद पोषक तत्‍व उन हार्मोन को संतुलित करते हैं स्‍तन में वृद्धि के लिए आवश्‍यक होते हैं। मेथी की भाजी का सेवन करके आप सामान्‍य रूप से अपने स्‍तनों में वृद्धि को बढ़ावा दे सकते हैं। यह महिलाओं के सीने का विकसित करने का सबसे अच्छा और सुरक्षित तरीका हो सकता है।

(और पढ़ें – ब्रेस्‍ट सुडौल और आकर्षक बनाने के घरेलू नुस्खे)

मेथी भाजी के फायदे त्‍वचा के लिए – Methi Bhaji ke Fayde Twacha ke liye in Hindi

  1. मेथी के पत्ते के फायदे त्‍वचा के निशान दूर करे – fenugreek leaves Benefits For Reduce Blemishes in Hindi
  2. मेथी के पत्ते त्‍वचा रोग का उपचार करे – Methi Leaves For Prevents Skin Disease in Hindi

मेथी की भाजी खाने के फायदे केवल स्‍वास्‍थ्‍य समस्‍याओं के लिए ही नहीं होते हैं। बल्कि आप मेथी के पत्तों का उपयोग त्‍वचा संबंधी समस्‍याओं को दूर करने के लिए भी कर सकते हैं। मेथी के पत्तों में ऐसे औषधीय गुण होते हैं जो त्‍वचा संबंधी कई समस्‍याओं का प्रभावी उपचार कर सकते हैं। आइए वि‍स्‍तार से जाने मेथी भाजी के लाभ त्‍वचा के लिए क्‍या हैं।

मेथी के पत्ते के फायदे त्‍वचा के निशान दूर करे – fenugreek leaves Benefits For Reduce Blemishes in Hindi

मेथी के पत्ते के फायदे त्‍वचा के निशान दूर करे - fenugreek leaves Benefits For Reduce Blemishes in Hindi

आप त्‍वचा में मौजूद दाग धब्‍बों और अन्‍य निशानों को दूर करने के लिए मेथी के पत्तों का इस्‍तेमाल जड़ी बूटी के रूप में कर सकते हैं। मेथी के पत्तों में मौजूद औषधीय गुण प्राकृतिक तरीके से त्‍वचा के निशानों को दूर करने में प्रभावी होते हैं। आप मेथी के पत्तों को पीस कर इसका रस निकालें या मेथी के बीज के पाउडर का उपयोग करें। यदि आप मेथी के पाउडर का उपयोग करते हैं तो इसमे पानी की कुछ बूंदे मिलाएं और एक पेस्‍ट बनाएं। इस पेस्‍ट को आप अपने चेहरे पर लगाएं। लगभग 15 मिनिट के बाद आप अपने चेहरे को सामान्य पानी से धो लें। नियमित रूप से कुछ दिनों तक इस उपाय को अपनाने से आपको लाभ मिल सकता है।

(और पढ़ें – मुहासे के दाग धब्बे हटाने के घरेलू उपाय )

मेथी के पत्ते त्‍वचा रोग का उपचार करे – Methi Leaves For Prevents Skin Disease in Hindi

मेथी के पत्ते त्‍वचा रोग का उपचार करे - Methi Leaves For Prevents Skin Disease in Hindi

मेथी के पत्तों में विटामिन और एंटी-ऑक्‍सीडेंट की उच्‍च मात्रा होती है। जिसके कारण यह त्‍वचा में होने वाले मुंहासे, फोड़े आदि में मौजूद विषाक्‍तता को आसानी से दूर कर सकती है। मेथी के पत्तों का इस्‍तेमाल एक्जिमा को भी ठीक करने में प्रभावी होता है। इस लाभ को प्राप्‍त करने के लिए आप मेथी बीज के पाउडर या मेथी के पत्तों के पेस्‍ट का उपयोग कर सकते हैं। इस मिश्रण को चेहरे पर लगाने से मुंहासे, फोड़े और अन्‍य त्‍वचा संबंधी समस्‍याओं से छुटकारा मिल सकता है।

(और पढ़ें – एक्जिमा क्या है, कारण, लक्षण, बचाव और घरेलू उपचार)

मेथी की भाजी के फायदे बालों के लिए – Methi ki Bhaji ke Fayde Hair ke liye in Hindi

  1. मेथी की भाजी से होते हैं बाल लंबे – Methi ki Bhaji For Long Hair in Hindi
  2. मेथी के पत्ते का इस्‍तेमाल बालों की चमक बढ़ाये – Methi ki Bhaji For shiny hair in Hindi

आप अपनी बालों से संबंधित समस्‍याओं का उपचार करने के लिए भी मेथी के पत्तों का उपयोग कर सकते हैं। आइए जाने मेथी की भाजी हमारे बालों के लिए किस प्रकार लाभकारी है।

(और पढ़ें – बालों में मेथी लगाने के फायदे और तरीका)

मेथी की भाजी से होते हैं बाल लंबे – Methi ki Bhaji For Long Hair in Hindi

मेथी की भाजी से होते हैं बाल लंबे - Methi ki Bhaji For Long Hair in Hindi

हर लड़की का सपना होता है कि उनके बाल लंबे हों। लेकिन कई प्रकार के रासायनिक उत्‍पादों का उपयोग करने से उनके बालों को भी हो सकता है। यदि आप भी अपने बालों की लंबाई को बढ़ाना चाहते हैं तो मेथी के पत्तों का उपयोग कर सकते हैं। इसके लिए आप मेथी के पत्तों का पेस्‍ट बनाएं और इसे बालों की जड़ों में लगाएं। लगभग 30 मिनिट के बाद आप अपने बालों को धो लें। सप्‍ताह में 2 बार इस उपाय को अपनाने से आपको कुछ ही दिनों में फर्क स्‍पष्‍ट रूप से दिखने लगेगा।

(और पढ़ें – बालों को बढ़ाने के लिए 20 बेस्ट फूड)

मेथी के पत्ते का इस्‍तेमाल बालों की चमक बढ़ाये – Methi ki Bhaji For shiny hair in Hindi

मेथी के पत्ते का इस्‍तेमाल बालों की चमक बढ़ाये - Methi ki Bhaji For shiny hair in Hindi

यदि आपके बाल लंबे हैं लेकिन चमकदार नहीं हैं तब भी बालों की सुंदरता दिखाई नहीं देती है। ऐसी स्थिति में भी आप अपने बालों की चमक बढ़ाने के लिए मेथी के पत्तों का इस्‍तेमाल कर सकते हैं। आप मेथी के पत्तों को पीसकर इसका अर्क निकालें। इस अर्क को अपने बालों में लगाएं और सूखने दें। इसके बाद सामान्‍य पानी और हल्‍के शैंपू से अपने बालों को धो लें। ऐसा करने पर आपके बालों को प्राकृतिक चमक प्राप्‍त हो सकती है।

मेथी की भाजी खाने के नुकसान – Methi ki Bhaji khane ke Nuksan in Hindi

मेथी की भाजी खाने के नुकसान – Methi ki Bhaji khane ke Nuksan in Hindi

सामान्‍य रूप से मेथी की भाजी खाने के फायदे बहुत अधिक होते हैं। लेकिन कुछ मामलों में मेथी के पत्तों का इस्‍तेमाल करने से कुछ नुकसान भी हो सकते हैं जो इस प्रकार हैं।

  • मेथी के कड़वे स्‍वाद के कारण कच्‍ची मेथी खाने से कई बार उल्‍टी या मतली जैसी समस्‍याएं हो सकती हैं।
  • खाने से पहले मेथी के पत्तों को अच्‍छी तरह से धोना या उबाल लेना चाहिए।
  • कुछ लोगों को मेथी के पत्तों का सेवन करने से एलर्जी हो सकती है जिससे त्‍वचा में खुजली, चकत्ते आदि समस्‍याएं हो सकती हैं।
  • मेथी के पत्तों की चाय का अधिक मात्रा में सेवन करने पर यह समय से पहले प्रसव को उत्‍तेजित कर सकती है। इसलिए गर्भावस्‍था के शुरुआती समय में इसका सेवन करने से महिलाओं को बचना च‍ाहिए।

Leave a Comment

Subscribe for daily wellness inspiration