डायबिटीज (शुगर, मधुमेह) के मरीज इन फलों को बेफ़िक्र खा सकते हैं - Which Fruits Can A Diabetic Patient Eat Freely in Hindi
हेल्थ टिप्स

डायबिटीज (शुगर, मधुमेह) के मरीज इन फलों को बेफ़िक्र खा सकते हैं – Which Fruits Can A Diabetic Patient Eat Freely in Hindi

डायबिटीज (शुगर, मधुमेह) के मरीज इन फलों को बेफ़िक्र खा सकते हैं - Which Fruits Can A Diabetic Patient Eat Freely in Hindi

मधुमेह का मतलब है शुगर की बीमारी, मधुमेह के मरीजों को अक्सर उन फलों से दूर रहना पड़ता है जिनमें अधिक चीनी होती है। मधुमेह वाले लोग मानते हैं कि जिन फलों में शुगर होती है वे रक्त शर्करा के स्तर को बढ़ाते हैं, लेकिन कई फल ऐसे होते हैं जिनमें रक्त शर्करा को नियंत्रित करने वाले विटामिन, खनिज और फाइबर जैसे पोषक तत्व होते हैं। साथ ही इन फलों में पॉलीफेनोल नामक तत्व भी होता है, जो ब्लड शुगर लेवल को नियंत्रण में रखता है। इसलिए आपको यह जानना जरूरी है कि मधुमेह के मरीज कौन सा फल खा सकते हैं?

डायबिटीज रोगी को यह जरूर पता होना चाहिए कि उसे कौन से फल खाने चाहिए और कौन से फलों से दूरी बनानी चाहिए। अक्सर लोग डॉक्टर से पूछते हैं कि डायबिटीज में कौन कौन से फल खाने चाहिए? लेकिन उन्हें इसका सही जबाव नहीं मिलता है यदि आप भी जानना चाहतें हैं कि शुगर में कौन से फल खाने चाहिए? तो आपको बता दें मधुमेह के रोगियों को रेशेदार फल जैसे तरबूज, खरबूज, पपीता, सेब, अमरुद, जामुन और स्ट्रॉबेरी आदि खाने चाहिए। इन फलों से ब्लड शुगर का स्तर कंट्रोल रहता है, इसलिए इन्हें खाने से कोई नुकसान नहीं होता है।

मधुमेह रोगियों को फलों का जूस नहीं पीना चाहिए क्योंकि इसमें चीनी मिलाई जाती है और गूदे को हटा दिया जाता है, जिसके कारण शरीर को फाइबर नहीं मिल पाता है। आज हम आपको उन फलों के बारे में बताएंगे, जिन्हें खाने से मधुमेह के रोगियों को फायदा होगा।

आइये जानतें हैं डायबिटीज में कौन कौन से फल खाने चाहिए?

सेब

सेब

शुगर या मधुमेह के रोगियों के लिए सेब एक अच्छा फल है। सेब में एंटीऑक्सिडेंट होते हैं जो कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कम करते हैं और प्रतिरक्षा (रोग प्रतिरोधक क्षमता) को बढ़ाते हैं। सेब टाइप 2 डायबिटीज से बचाता है। सेब में जीआई (ग्लेसेमिक इंडेक्स) की मात्रा कम होती हैं और सेब विटामिन ए, कैल्शियम और आयरन से भरपूर होते हैं।

(और पढ़े – मधुमेह रोगियों के खाने के लिए फल की सूची…)

जामुन

जामुन

सदियों से जामुन का उपयोग सबसे प्रभावी मधुमेह दवा के रूप में किया जाता है। यदि आप मधुमेह के रोगियों के लिए फलों की सूची बना रहे हैं, तो जामुन सबसे ऊपर होना चाहिए। प्राचीन काल से, मधुमेह के लक्षणों को कम करने के लिए आयुर्वेद चिकित्सा में जामुन का उपयोग किया जाता रहाहै। यह रक्त शर्करा के स्तर को नियंत्रित करने का सबसे अच्छा और प्रभावी तरीका है।

अमरूद

अमरूद

मधुमेह के लक्षणों को कम करने के लिए, आपको मौसमी फलों का अधिक सेवन करना चाहिए। अमरूद भी उन मौसमी फलों में से एक है जिन्हें मधुमेह के रोगियों के खाने के लिए सूची में शामिल किया जा सकता है। क्योंकि अमरूद कम ग्लाइसेमिक इंडेक्स होता है जो वाले मधुमेह के रोगियों के लिए एक अच्छा फल है। अमरूद में उच्च फाइबर सामग्री होती है जो मधुमेह रोगियों में कब्ज को कम करने में मदद करती है। इसके अलावा, अमरूद में मौजूद पोषक तत्व और खनिज भी टाइप 2 मधुमेह के विकास को कम करने में प्रभावी हैं।

संतरा

संतरा

संतरे में पाए जाने वाले फ्लेवोनोल्स और फिनोलिया एसिड डायबिटीज से बचाने में कारगर हैं। ये खट्टे फल ग्लूकोज के स्तर को अचानक बढ़ने के साथ-साथ आंतों और यकृत के माध्यम से ग्लूकोज के संचलन या परिवहन को धीमा करते हैं। इसलिए, मधुमेह रोगियों के खाने के लिए फलों की सूची में संतरे को प्रमुखता से शामिल किया जाना चाहिए। यह आपके शरीर में मौजूद विषाक्त पदार्थों को निकालने में भी महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। इस तरह, मधुमेह रोगी बेहतर स्वास्थ्य के लिए स्थानीय और ताजे संतरे का उपयोग कर सकते हैं, जो हल्के खट्टे होने चाहिए।

पपीता

पपीता

क्या आप प्राकिर्तिक तरीके से मधुमेह के लक्षणों को कम करना चाहते हैं। यदि ऐसा है, तो मधुमेह रोगियों के लिए फलों की सूची में पपीते को खाने के लिए रखें। क्योंकि पपीते में प्राकृतिक एंटीऑक्सीडेंट होते हैं। जिसके कारण इसे मधुमेह रोगियों के लिए बहुत फायदेमंद माना जाता है। इसके अलावा, मधुमेह के रोगियों को कई तरह की स्वास्थ्य समस्याएं होने का भी खतरा होता है। अनियंत्रित रक्त शर्करा के स्तर के कारण हार्ट प्रॉब्लम या तंत्रिका क्षति शामिल है। लेकिन ऐसी समस्याओं को रोकने के लिए, एक मधुमेह रोगी को अपने आहार में पपीता शामिल करना चाहिए।

(और पढ़े – पपीता खाना क्यों है सेहत के लिए लाभकारी…)

टमाटर

टमाटर

आप इसे सब्जी के रूप में भी खा सकते हैं, लेकिन तकनीकी रूप से टमाटर भी एक फल है, जिसे मधुमेह के रोगियों के लिए काफी फायदेमंद माना जाता है। इसमें न केवल विटामिन सी और ए, बल्कि पोटेशियम और हृदय के लिए स्वस्थ एंटीऑक्सिडेंट भी हैं। टमाटर में कार्ब्स भी कम हैं। इसक अलावा एक कप टमाटर में केवल 32 कैलोरी होती है।

अनार

अनार

लोग अक्सर सवाल पूछते हैं, शुगर में अनार खा सकते है क्या? जो लोग डायबिटिक हैं उन्हें उन फलों का चयन करना चाहिए जो उन्हें मधुमेह के लक्षणों को कम करने में मदद करें। मधुमेह रोगियों के लिए अनार एक अच्छा विकल्प है। क्योंकि अनार में उच्च मात्रा में एंटीऑक्सीडेंट होते हैं। जिसके कारण यह आपको फ्री रेडिकल्स के प्रभाव से बचाता है। इसके अलावा, अनार में शक्तिशाली फाइटोकेमिकल यौगिक भी होते हैं जो मधुमेह के लक्षणों को कम करने में सहायक होते हैं। इस तरह, अनार मधुमेह के रोगियों के खाने के लिए फलों की सूची में शामिल किया जा सकता है।

लेकिन आपको ध्यान रखना है चटक लाल बीज वाले अनार की जगह हलके लाग रंग या सफ़ेद रंग के बीज वाले अनार का सेवन करें।

(और पढ़े – 7 दिन अनार खाने के फायदे…)

नाशपाती

नाशपाती

मधुमेह के रोगी के उपचार के लिए, कम ग्लूकोज स्तर के साथ विटामिन और फाइबर की उच्च मात्रा वाले फलों का सेवन करना चाहिए। ऐसे फलों को मधुमेह रोगियों के खाने के लिए फलों की सूची में शामिल किया जाना चाहिए जिसमे कम ग्लूकोज स्तर के साथ विटामिन और फाइबर की उच्च मात्रा हो। नाशपाती भी मधुमेह के रोगी के लिए फलों का एक बेहतर विकल्प है क्योंकि इनमें विटामिन और फाइबर दोनों की उच्च मात्रा होती है।

तरबूज

तरबूज

तरबूज में पोटेशियम की उच्च मात्रा होती है जिसके कारण यह किडनी के कार्य को बेहतर बनाता है। मधुमेह के रोगी को खाने के लिए तरबूज को भी फलों की सूची में शामिल किया जाना चाहिए। क्योंकि इसके सेवन से यह रक्त में यूरिक एसिड के स्तर को कम करता है। जो आपके गुर्दे को नुकसान को रोकने में मदद कर सकता है, खासकर जब आप मधुमेह के रोगी हों। इसके अलावा, मधुमेह तंत्रिका क्षति का कारण बन सकता है। लेकिन तरबूज में पाया जाने वाला लाइकोपीन इन प्रभावों को कम करने में मददगार होता है। ऐसे में, तरबूज का सेवन मधुमेह के रोगी के लिए फायदेमंद होता है।

(और पढ़े – क्या शुगर (डायबिटीज) के मरीजों को तरबूज खाना चाहिए?)

बेरीज

बेरीज

जब आप कुछ मीठा खाना पसंद करते हैं तो जामुन, ब्लूबेरी, रसबेरी और क्रैनबेरी (करोंदा) जैसे फल आपके लिए एकदम सही हैं। ब्लूबेरी में दिल के लिए स्वस्थ फ्लेवोनोइड, फाइबर और एंथोकायनिन जैसे तत्व होते हैं, जो टाइप 2 मधुमेह से बचाते हैं। वहीं, रसबेरीज में विटामिन सी, फाइबर, एंथोसायनिन और एलाजिक एसिड होते हैं, जो इंसुलिन और रक्त शर्करा के स्तर को कम करते हैं।

अब तो आप जान गए होगें कि शुगर में कौन से फल खाने चाहिए? हमेशा एक बात का ध्यान रखें की अधिक मीठे फलों का सेवन न करें और मौसमी फलों को खाने की किशिश करें जो लोकल हों और ताजे हों, अगर आप इस तरह फलों का सेवन करगें तो आप अपनी शुगर को भी कंट्रोल में रख सकते हैं और फलों को भी खा सकते हैं। डायबिटीज में कौन कौन से फल खाने चाहिए? का यह लेख आपको कैसा लगा, हमें कमेंट्स कर बताएं और यदि आप भी कुछ फलों को जानतें हैं जो मधुमेह के मरीज खा सकते हैं तो उन्हें भी हमें बताएं।

इसी तरह की अन्य जानकारी हिन्दी में पढ़ने के लिए हमारे एंड्रॉएड ऐप को डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक करें। और आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं।

आपको ये भी जानना चाहिये –

Reference

Glycemic index and glycemic load for 100+ foods by Harvard Health Publishing available at
https://www.health.harvard.edu/diseases-and-conditions/glycemic-index-and-glycemic-load-for-100-foods

Leave a Comment

Subscribe for daily wellness inspiration